wrapper

ब्रेकिंग न्यूज़

 


मतदान की अपीलयुक्त मिट्टी के पात्र वितरित किए कलेक्टर श्री गढ़पाले ने 

खण्डवा | 15-अप्रैल-2019
लोकसभा निर्वाचन के लिए मतदाता जागरूकता अभियान के तहत जिले में विभिन्न कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे है। रविवार को कलेक्टर निवास पर नवरात्रि के समापन अवसर पर आयोजित कन्या पूजन कार्यक्रम में कलेक्टर श्री विशेष गढ़पाले ने कन्याओं को भेंट स्वरूप पक्षियों की पेयजल व्यवस्था के लिए मतदान की अपील युक्त मिट्टी के पात्र वितरित किए गए। उन्होंने कन्याओं से इस अवसर पर कहा कि ये पात्र वे अपने घर के पास किसी स्थान पर टांग दें तथा नियमित रूप से इसमें पानी भरें ताकि गर्मी में पक्षियों के लिए पानी की व्यवस्था होती रहे।   

 

मतदाता जागरूकता कार्यक्रमों में की जा रही है मतदान की अपील 

खण्डवा | 29-मार्च-2019
आगामी लोकसभा निर्वाचन को ध्यान में रखते हुए कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री विशेष गढ़पाले के मार्गदर्शन में जिले में विभिन्न मतदाता जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे है। इसी क्रम में गुरूवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र खालवा एवं हरसूद में आयोजित स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों व स्वास्थ्य कार्यकर्ता तथा आशा सहयोगी की खण्ड स्तरीय समीक्षा बैठकों में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. डी.एस. चौहान ने आगामी लोकसभा निर्वाचन  के लिए मतदान करने की शपथ दिलाई। इसके अलावा नव साक्षरता कक्षाओं में मतदाता जागरूकता अभियान के तहत शपथ कार्यक्रम भी आयोजित किए जा रहे है।
   इसके अलावा मतदाता जागरूकता अभियान के तहत श्री नीलकंठेश्वर महाविद्यालय खंडवा में अध्ययनरत् नवीन मतदाताओं को मतदान हेतु प्रेरित किया गया तथा लोक सभा निर्वाचन में अपने मत का प्रयोग करने हेतु शपथ दिलाई गई। इस दौरान जिला सहायक नोडल अधिकारी श्री आनंद शुक्ला, महाविद्यालय के प्राचार्य श्री  मुकेश जैन, श्री आर. एस. सलूजा,  श्री ब्राह्मणे एवं सभी स्टाफ ने शपथ कार्यक्रम में सहभागिता की। इसके पूर्व खालवा में बुधवार को जिला कार्यक्रम अधिकारी श्रीमती अंशुबाला मसीह ने मतदाताओं को मतदान करने के प्रति शपथ दिलाई।    
उड़नदस्ता दलों व वीडियो निगरानी दल का प्रशिक्षण सम्पन्न 
खण्डवा | 15-मार्च-2019
लोकसभा निर्वाचन में खण्डवा जिले के सभी विधानसभा क्षेत्रों के लिये अलग-अलग उड़नदस्ते गठित किए गए है, जिनमें अधिकारी कर्मचारियों के साथ साथ वीडियोग्राफर भी तैनात किए गए है। गुरूवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में उड़नदस्तों में शामिल अधिकारी कर्मचारियों के साथ साथ वीडियो अवलोकन दलों तथा स्थैतिक निगरानी दलों में तैनात अधिकारी कर्मचारियों का एक दिवसीय प्रशिक्षण आयोजित किया गया। प्रशिक्षण में अपर कलेक्टर श्री बी.एस. इवने ने कहा कि सभी अधिकारी कर्मचारी पूरी निष्पक्षता के साथ निर्वाचन की ड्यूटी सम्पन्न करें। उन्होंने उड़नदस्तों में शामिल अधिकारी कर्मचारियों से कहा कि किसी भी घटना या निर्वाचन अपराध की सूचना मिलते ही तुरंत कार्यवाही करे तथा प्रत्येक घटना की वीडियोग्राफी आवश्यक रूप से करायें। उन्होंने कहा कि नगदी या अवैध शराब जप्ती की खबर मिलते ही उड़नदस्ते तुरंत मौके पर पहुंचकर वीडियोग्राफी कराये तथा प्रकरण बनाए। 
2 फरार आरोपियों पर इनाम घोषित 
खण्डवा | 09-मार्च-2019
 पुलिस अधीक्षक श्री सिद्धार्थ बहुगुणा ने 2 आरोपियों पंकज जैन निवासी इंदौर को प्लाट विक्रय व फर्जी रजिस्ट्री कर धोखाधड़ी के मामले में तथा पारस लोवंशी निवासी रामजीपुरा खण्डवा को लड़की बहला फुसलाकर भगा ले जाने के मामले में 5-5 हजार रू. का इनाम घोषित किया है। उन्होंने बताया कि इन अपराधियों के बारे में सूचना देने वाले व्यक्ति का नाम गोपनीय रखा जायेगा। इच्छुक व्यक्ति इस संबंध में पुलिस कन्ट्रोल रूम के दूरभाष क्रमांक 0733-2222690 अथवा एसडीओपी हरसूद को 07327-272440 व थाना प्रभारी हरसूद को 07327-272251 अथवा कोतवाली खण्डवा के दूरभाष क्रमांक 0733-2224101 पर सूचना दे सकते है। 
हाई स्कूल परीक्षा कार्य में लापरवाही बरतनें पर व्याख्याता श्री शर्मा निलंबित 
खण्डवा | 01-मार्च-2019
 हाई स्कूल परीक्षा में शुक्रवार को आयोजित संस्कृत विषय की परीक्षा के दौरान किल्लौद उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में व्याख्याता श्री प्रवीण शर्मा निर्धारित समय के बाद परीक्षा केन्द्र पर पहुंचे। इस लापरवाही के कारण कलेक्टर श्री विशेष गढ़पाले की अनुशंसा पर संभागायुक्त इंदौर संभाग श्री आकाश त्रिपाठी ने श्री शर्मा को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के आदेश जारी किए है। निलंबन अवधि में उनका मुख्यालय कलेक्ट्रेट खण्डवा रहेगा। 
दो दिवसीय राजस्व शिविर आज से आयोजित होंगे 
खण्डवा | 21-फरवरी-2019
 नागरिकों की राजस्व विभाग संबंधी समस्याओं के निराकरण के उद्देश्य से जिले के सभी टप्पा व तहसीलों की एक-एक ग्राम पंचायतों में 21 व 22 फरवरी को दो दिवसीय राजस्व शिविर आयोजित किए जायेंगे। ये राजस्व शिविर खण्डवा राजस्व अनुविभाग के ग्राम अमोदा व बामंदा , बल्दुबा डोंगरी व छैगांवमाखन क्षेत्र के बामझर में आयोजित होंगे। इसके अलावा पंधाना क्षेत्र के ग्राम घाटीखास, पुनासा क्षेत्र के माकड़कक्ष , मूंदी क्षेत्र के ग्राम गोलाड़िया, मांधाता क्षेत्र के मोरटक्का व बड़नगर तथा हरसूद तहसील के भंवरली, किल्लौद क्षेत्र में झिंगाधड एवं खालवा क्षेत्र में करवानी में भी राजस्व शिविर आयोजित होंगे। ये सभी दो दिवसीय राजस्व शिविर 21 एवं 22 फरवरी को ग्राम पंचायत भवन में आयोजित किए गए है। सभी राजस्व अधिकारियों को इन शिविरों में उपस्थित रहकर ग्रामीणों की राजस्व संबंधी समस्याओं के त्वरित निराकरण के लिए कहा गया है। 
जिला पंचायत सीईओ श्री नागेन्द्र ने नदी पुनर्जीवन कार्यो का जायजा लिया 
खण्डवा | 15-फरवरी-2019
 
 जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री डी.के. नागेन्द्र ने कावेरी नदी पुनर्जीवन के लिए निर्धारित मार्ग पर पड़ने वाले ग्रामों का दौरा कर वहां नदी पुनर्जीवन के लिए किए जा रहे सर्वे कार्य को देखा। उन्होंने इस दौरान ग्राम सालई, अत्तर, गजवाड़ा व केसून का दौरा कर वहां संचालित निर्माण कार्यो का भी निरीक्षण किया। साथ ही श्री नागेन्द्र ने ग्राम जामनियां में कारीगर प्रशिक्षण कार्यक्रम का भी अवलोकन किया तथा ग्राम केसून के विद्यालय में बच्चों से चर्चा कर उनके शिक्षा के स्तर की जानकारी ली। 
संभागायुक्त ने कलेक्टर्स-कांफ्रेंस में कलेक्टर श्री गढ़पाले के प्रयासों की सराहना की 
खण्डवा | 07-फरवरी-2019
 
 सभी कलेक्टर्स लोकसभा निर्वाचन के सदंर्भ में रूल ऑफ लॉ का पालन करें। सभी जिलों में स्वतंत्र एवं निष्पक्ष निर्वाचन हेतु रूल ऑफ लॉ के अनुसार कार्य दिखना भी चाहिए। यह निर्देश संभागायुक्त श्री आकाश त्रिपाठी ने आज कमिश्नर कार्यालय में संपन्न कलेक्टर्स कांफ्रेंस में दिये। बैठक में इंदौर संभाग के खण्डवा कलेक्टर श्री विशेष गढ़पाले व जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री डी.के. नागेन्द्र सहित संभाग के सभी जिलों के कलेक्टर्स, जिला पंचायत के सीईओ व स्वास्थ्य, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, मध्यप्रदेश सड़क विकास निगम, प्रधानमंत्री सड़क योजना और महिला एवं बाल विकास के संभागीय अधिकारी मौजूद थे। बैठक में ‘‘जय किसान ऋण माफी योजना‘‘ में कलेक्टर खंडवा श्री विशेष गढ़पाले द्वारा किये गये कार्यों को सराहा गया, वहीं खरगोन में अभी और काम किये जाने की आवश्यकता जताई। 

 

ग्राम पंचायतों का सुनियोजित विकास सुनिश्चित करें पंचायत प्रतिनिधि 
प्रशिक्षण एवं क्षमतावर्धन कार्यशाला में मंत्री श्री पटेल 
खण्डवा | 31-जनवरी-2019
 त्रि-स्तरीय पंचायत प्रतिनिधियों को प्रशिक्षण एवं क्षमतावर्धन कार्यशाला में सीखने और अपने अधिकारों को जानने का मौका मिला है। पंचायत पदाधिकारी अपने कर्त्तव्यों और अधिकारों को समझें और तदनुसार ग्राम पंचायतों का सुनियोजित विकास करें। पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल ने यह बात धार में त्रि-स्तरीय पंचायत प्रतिनिधियों के प्रशिक्षण एवं क्षमतावर्धन कार्यशाला में कही। श्री पटेल ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री स्व. श्री राजीव गाँधी ने पंचायत राज का सपना साकार किया था। प्रदेश में पूर्व मुख्यमंत्री श्री दिग्विजय सिंह ने पंचायत राज लागू कर पंचायतों को अधिकार सम्पन्न बनाया था।
पंचायत प्रतिनिधियों का मानदेय बढ़ेगा
    श्री पटेल ने कहा कि राज्य सरकार ने वचन-पत्र में पंचायत प्रतिनिधियों का मानदेय बढ़ाने का वादा किया है। इस वादे को पूरा करने की दिशा में शीघ्र कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने कहा कि शासकीय धन का दुरुपयोग किसी भी हालत में बर्दाश्त नहीं किया जायेगा। योजनाओं का लाभ पात्र लोगों तक पहुँचाना सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि जय किसान फसल ऋण माफी योजना में पात्र लोगों को लाभ पहुँचाने में पंचायत पदाधिकारी अपना काम जिम्मेदारी से पूरा करें। श्री पटेल ने बताया कि राज्य सरकार गौ-शालाएँ खोलने जा रही है। इसका लाभ महिला स्व-सहायता समूहों को भी मिलेगा। कार्यशाला में जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती मालती मोहन पटेल, विधायक सर्वश्री हीरालाल अलावा, श्री प्रताप ग्रेवाल और श्री पांचीलाल मेड़ा ने भी विचार व्यक्त किये। कार्यशाला में विभिन्न विषय-विशेषज्ञों ने विचार व्यक्त किये। इस दौरान संचालक, पंचायत श्रीमती उर्मिला शुक्ल सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

जरूरतमंदों की मंशानुसार योजनाओं का क्रियान्वयन जरूरी - मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ
-
खण्डवा | 21-जनवरी-2019

 

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने आज यहाँ कन्वेंशन सेंटर में तीन दिवसीय आईएएस ऑफिसर्स मीट का शुभारंभ किया। उन्होंने अधिकारियों से कहा कि जरूरतमंदों की मंशा के अनुरूप योजनाओं का क्रियान्वयन किया जाना वर्तमान समय की आवश्यकता है। उन्होंने कहा कि सफलता और संतुष्टि में बहुत अंतर होता है। किसी पद को प्राप्त करने की सफलता संतुष्टि का आधार नहीं होती। संतुष्टि सफल परिणामों से मिलती है। सफलता किसी पद पर बने रहने तक रहती है, जबकि संतुष्टि सारा जीवन साथ चलती है।

विविधता का संरक्षण सबसे बड़ी चुनौती

    मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि सम्पूर्ण विश्व भारत को उसकी अनेकता में एकता की ताकत के लिये देखता है, आर्थिक और सैनिक शक्ति के लिये नहीं। उन्होंने कहा कि हमारी सबसे बड़ी खूबी सहनशीलता है, जो चन्द्रगुप्त मौर्य और सम्राट अशोक के समय से विद्यमान है। हमें गर्व होना चाहिये कि हम ऐसे देश के नागरिक हैं, जहाँ अनेक धर्म, जाति, परम्पराएँ, भाषाएँ विद्यमान हैं। दुनिया में कोई ऐसा अन्य राष्ट्र नहीं है। हमारा पहनावा भी भौगोलिक बदलाव के साथ बदल जाता है। हमारी विविधता और अनेकता ही हमारी शक्ति है। मुख्यमंत्री ने कहा कि इसका संरक्षण वर्तमान समय की सबसे बड़ी चुनौती है।

नव-निर्माण के लिये संकल्पित और समर्पित हों अधिकारी

    श्री कमल नाथ ने कहा कि तेजी से बदलते विश्व की चुनौतियों के साथ देश और प्रदेश का नव-निर्माण करना समय की माँग है। इसके अनुरूप ही हम सबको मिलकर, संकल्पित और समर्पित होकर काम करना होगा। उन्होंने कहा कि सेवा के स्वरूप में परिवर्तन के साथ-साथ आम जनता की अपेक्षाओं में भी बदलाव हुआ है। वैश्विक स्तर पर नाटो का स्वरूप बदला है। अब गुटनिरपेक्ष जैसे आंदोलनों की चर्चा नहीं होती। उन्होंने कहा कि देश ने इन परिवर्तनों को बखूबी अपनाया है। हमारे सामने चुनौती यह है कि हम वैश्विक बदलावों को कैसे देखते हैं, कैसे स्वीकार करते हैं। श्री कमल नाथ ने कहा कि आज अधिकारियों के समक्ष सबसे बड़ा दायित्व नवीन परिवर्तनों के साथ देश और प्रदेश को आगे ले जाना है। सोचना होगा कि शासन में बदलाव और सुधार कैसे किया जाये। उन्होंने कहा कि इसी तथ्य पर प्रदेश के भविष्य का स्वरूप तय होगा।
    मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा कि विश्व का परिदृश्य तेजी से बदल रहा है। इसके अनुसार ही हम भी बदल रहे हैं। उन्होंने बताया कि वर्ष 1992 में पहली बार उन्होंने लाल बहादुर प्रशासन अकादमी, मसूरी में उदबोधन दिया था। इसके 6-7 वर्ष बाद जब वे पुन: अकादमी में गये, तो उन्हें वहाँ संकाय, प्रशिक्षणार्थियों और विषय-वस्तु में बहुत परिवर्तन देखने को मिला। उन्होंने कहा कि वर्ष 1992 मे अकादमी में तकनीक और सूचना प्रौद्योगिकी आदि विषयों पर कोई बात नहीं होती थी। श्री कमल नाथ ने कहा कि ऐसा विशिष्ट बदलाव उन्हें पिछले दिनों भारतीय प्रशासनिक सेवा के प्रोबेशनल अधिकारियों से मुलाकात के समय महसूस हुआ। उन्होंने कहा कि इन अधिकारियों में बड़ी संख्या इंजीनियरों और डॉक्टरों की है। आज से 20 वर्ष पूर्व ऐसा नहीं होता था। मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकारियों की आयु वर्ग में भी अंतर आया है।

ऑफिसर्स मीट एक अच्छी पहल

    मुख्यमंत्री ने कहा कि ऑफिसर्स मीट एक अच्छी पहल है। इससे वरिष्ठ और कनिष्ठ अधिकारियों को अनौपारिक वातावरण में मिलने का अवसर मिलता है। उन्होंने कहा कि भारतीय प्रशासनिक सेवा सबसे अधिक व्यापक और विविधता से परिपूर्ण है। किसी अन्य सेवा की तुलना में यहाँ कार्यक्षेत्र का विस्तार अधिक है। प्रशासनिक सेवा के अधिकारी को सम्पूर्ण सेवाकाल में अलग-अलग कार्यक्षेत्र में सेवा करने का अनुभव मिलता है, जबकि अन्य सेवाओं में ऐसा नहीं है।

वैश्विक मुद्दों का ज्ञान होना आवश्यक - सीएस श्री मोहंती

    मुख्य सचिव श्री एस.आर. मोहंती ने अधिकारियों से कहा कि दृष्टिकोण में बदलाव लाना होगा। वरिष्ठों के अनुभवों का लाभ कनिष्ठ अधिकारियों को मिलेगा। उन्होंने कहा कि प्रशासनिक निर्णय जिला स्तर पर किये जायें। वरिष्ठ अधिकारी भी जिले के अधीनस्थ अधिकारियों को निर्णय लेने में सहयोग करें। श्री मोहंती ने कहा कि वर्तमान समय में भी उत्तरदायित्व वहीं हैं। केवल रिस्पांस टाइम में कमी आयी है। उन्होंने कहा कि अधिकारियों को वैश्विक मुद्दों का ज्ञान होना आवश्यक है। मुख्य सचिव ने कहा कि एक टीम लीडर के लिये यह आवश्यक है कि वह टीम को पूरा सहयोग और समर्थन प्रदान करे। उन्होंने ऑफिसर्स मीट की सफलता के लिये सभी अधिकारियों को शुभकामनाएँ दीं। आई.ए.एस. एसोसिऐशन की अध्यक्ष श्रीमती गौरी सिंह ने कहा कि मीट के दौरान मिल-जुलकर सांस्कृतिक गतिविधियों, खेलकूद और अन्य कार्यक्रमों में भाग लेकर अधिकारियों का भाईचारा बेहतर होगा। आपसी समझदारी बढ़ेगी। मीट आयोजन समिति के अध्यक्ष श्री पंकज अग्रवाल ने मीट की दौरान होने वाली गतिविधियों का ब्योरा दिया। उन्होंने बताया कि आगामी ढाई दिन में मीट की एसोसियेशन के सदस्यों और उनके परिजनों के बीच सांस्कृतिक कार्यक्रम इनडोर-आउटडोर गेम्स, अंताक्षरी और क्विज आदि कार्यक्रम होंगे। सम-समायिक विषय पर उद्बोधन और एक-दूसरे के विचारों को समझने के लिये पैनल डिस्कशन के आयोजन भी किये जा रहे हैं।

 

 

राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता में टेनिस बॉल क्रिकेट मैचों के परिणाम 

खण्डवा | 07-जनवरी-2019
 राष्ट्रीय शालेय क्रीड़ा प्रतियोगिता के दूसरे दिन रविवार को खण्डवा में आयोजित टेनिसबॉल क्रिकेट के मैच सम्पन्न हुए, जिनके परिणाम इस प्रकार है। जिमखाना मैदान पर आयोजित ‘‘बालक‘‘ वर्ग क्रिकेट मैचों के परिणाम रविवार को जिमखाना मैदान पर आयोजित बालक वर्ग की क्रिकेट प्रतियोगिता में पहले मैच में छत्तीसगढ़ ने उत्तर प्रदेश की टीम को 77 रनों से हराया। छत्तीसगढ़ की टीम ने 10 ओवर में 6 विकेट पर कुल 100 रन बनाए, जबकि उत्तर प्रदेश की टीम ने 7.5 ओवर में 23 रन बनाए। इसके बाद आयोजित मैच में तेलंगाना ने पंजाब की टीम को 45 रनों से हराया। इस मैच में तेलंगाना की टीम ने 10 ओवर में कुल 91 रन बनाए, जबकि पंजाब की टीम ने 46 रन बनाए। इसी तरह गोवा व जम्मू कश्मीर की टीमों के बीच हुए मैच में जम्मू कश्मीर ने गोवा को 4 रनों से हराया। इस मैच में जम्मू कश्मीर की टीम ने कुल 58 रन बनाए, जबकि गोवा ने 54 रन बनाए। मध्यप्रदेश व गुजरात की टीमों के बीच हुए मैच में मध्यप्रदेश ने 10 ओवर में 76 रन बनाए, जबकि गुजरात की टीम ने 9.2 ओवर में 77 बनाकर 3 विकेट से मैच जीत लिया। एक अन्य मैच में गोवा ने सीबीएसई की टीम को 7 विकेट से हराया। इस मैच में सीबीएसई ने 10 ओवर में 47 रन बनाए, जबकि गोवा की टीम ने 8.1 ओवर में ही 48 रन बनाकर मैच जीत लिया। इसी तरह मध्यप्रदेश व जम्मू कश्मीर के बीच हुए मैच में जम्मू कश्मीर की टीम ने 6.1 ओवर में 8 विकेट खोकर कुल 20 रन बनाए, जबकि मध्यप्रदेश की टीम ने 8 विकेट खोकर 21 रन बनाए। इस तरह मध्यप्रदेश की टीम 7 विकेट से विजय रही।
एकल खातों में जमा राशि का सदुपयोग करें ग्राम पंचायत 
खण्डवा | 05-जनवरी-2019
 
पंचायतों के एकल खाते में विभिन्न योजनाओं की लंबित राशियों का जिले में सही उपयोग के उद्देश्य से जानकारी संकलित की जा रही है। अपर मुख्य सचिव पंचायत और ग्रामीण विकास विभाग श्री इकबाल सिंह बैंस ने संबंधित को निर्देशित किया है कि लंबित राशि जिस योजना से संबंधित है उसी पर व्यय करें। श्री बैंस ने बताया है कि पंचायतराज संचालनालय द्वारा वह 61 कार्य निरस्त किये गये हैं, जो कि अन्य मदों से स्वीकृत हो चुके थे। 
पुनासा के ग्राम सरल्या में कृषकों का सम्मान कर मनाया गया किसान दिवस 
खण्डवा | 24-दिसम्बर-2018
0
 
 कृषि विज्ञान केन्द्र खण्डवा द्वारा ग्राम सरल्या विकासखण्ड पुनासा में किसान दिवस का आयोजन किया गया। इस आयोजन के साथ ही आत्मा परियोजना द्वारा कृषक संगोष्ठी की गई। इस कार्यक्रम में ग्राम सरल्या, अंजनया एवं धमनगाव के 125 कृषकों ने उत्साहपूर्वक भाग लिया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में संरपंच श्री मांगीलाल दौलाजी उपस्थित थें जिनके द्वारा फूलमाला एवं शाल से चार वरिष्ठ कृषकों का सम्मान किया गया जो कि सरल्या के श्री कृपाराम चतुर्भुज, श्री बालूप्रसाद मांगीलाल, ग्राम अंजन्या के श्री श्रीराम भावसिंह एवं धमनगांव के श्री रामलाल यादव थे। इस किसान दिवस पर उपस्थित सभी कृषकों को बेस्ट डिकम्पोजर की डिब्बी का नि:शुल्क वितरण किया गया तथा इसके उपयोग की जानकारी दी गई कि इसके प्रयोग से सालभर में बनने वाली खाद केवल सवा महिने में तैयार हो जाती है। 
    किसान दिवस में संगोष्ठी की शुरूआत करते हुए कृषि विज्ञान केन्द्र खण्डवा के वरिष्ठ वैज्ञानिक डॉ. डी. के. वाणी ने कृषकों को आय बढाने हेतु खेती के साथ पशुपालन एवं उद्यानिकी को जोड़ने पर जोर दिया। डॉ. वाणी ने ग्राम सरल्या में पशुपालकों को बेहतर दुग्ध उत्पादन हेतु उत्तम पशु आहार बनाने एवं अजोला के बारे में बताया। गोबर के सबसे अच्छे उपयोग हेतु बायोगैस संयंत्र लगाने की तकनीकों की जानकारी देते हुए बताया कि गोबर का उपयोग बायोगैस संयंत्र में करने से कण्डे की अपेक्षा 15 गुना ज्यादा ईंधन मिलता है तथा खाद भी मिलती है जिसमें डेढ गुना ज्यादा तत्व होते है। डॉ. वाणी ने गेंहू व चने के नये बीज तेजस, उजाला, आर.वी.जी. 201 व उनकी विशेषताओं की जानकारी भी दी।
    वैज्ञानिक श्री आशिष बोबड़े ने जैविक तरीके से बीजों का उपचार, कीट व रोग से लड़ने के लिए गांव में उपलब्ध सामग्रीयों से जैविक कीटनाषक बनाने व उपयोग की जानकारी दी। श्री आशिष बोबड़े ने मधुमक्खी पालन की विस्तार से जानकारी देते हुए बताया कि मधुमक्खी पालने वाले को तो शहद मिलता ही है बल्कि इससे ज्यादा आसपास के कृषकों को फायदा होता है क्योंकि मधुमक्खी द्वारा पराग इकट्ठा करते समय कई फूलों पर बैठने से पर-परागण की क्रिया सम्पन्न होती है। तत्पश्चात विभिन्न गांवों के 4 कृषकों का फूलमाला व शाल से सम्मान किया गया एवं वेस्ट डिकम्पोजर का वितरण हुआ। आत्मा बीटीएम श्री हरिओम पटेल ने इस जैविक ग्राम में बनाये जा रहे 50 केंचुआ खाद संयंत्रो के बारे में जानकारी दी व सभी उपस्थितों का आभार माना।
मतगणना के दौरान राउण्डवार परिणाम दिया जायेगा 
खण्डवा | 11-दिसम्बर-2018
 भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार विधानसभा निर्वाचन 2018 की मतगणना में प्रदेश के सभी 51 मतगणना केन्द्रों पर प्रातः 8 बजे से मतगणना प्रारंभ होगी। मतगणना के दौरान प्रत्येक राउण्ड की समाप्ति पर ईवीएम मशीनों से की गई मतगणना के परिणामों की प्रेक्षक और संबंधित रिटर्निग अधिकारियों द्वारा हस्ताक्षर कर घोषणा की जायेगी। इसके साथ ही घोषणा को मतगणना कक्ष में स्थापित डिस्प्ले बोर्ड पर प्रदर्शित किया जायेगा। राउण्डवार मतगणना परिणाम की पब्लिक एड्रेस सिस्टम के माध्यम से उद्घोषणा की जायेगी। राउण्डवार रिजल्ट शीट भी अभ्यर्थी और उसके अभिकर्ता को दी जायेगी और मीडिया को अवगत कराने के लिये प्रत्येक राउंड के परिणाम की प्रति मतगणना परिसर में बनाये गये मीडिया कक्ष को दी जायेगी। राउण्डवार मतगणना परिणाम की जानकारी  रिटर्निंग अधिकारी द्वारा आयोग के काउंटिंग साफ्टवेयर पर भी अपलोड की जायेगी। आयोग द्वारा निर्देशित किया गया है कि अगले राउण्ड की गिनती तब-तक प्रारंभ नहीं होगी, जब तक पहले राउण्ड की मतगणना की गिनती समाप्त होकर उसके परिणाम डिस्प्ले पर प्रदर्शित न हो जायें। उपरोक्त सभी कार्यवाही रिटर्निंग अधिकारी द्वारा सम्पन्न की जाएगी।
कलेक्ट्रेट व जिला पंचायत परिसर में आंदोलन व ध्वनि विस्तारक यंत्रों पर प्रतिबंध 
धारा 144 के तहत की गई प्रतिबंधात्मक कार्यवाही 
खण्डवा | 30-नवम्बर-2018
0
 
 कलेक्टर कार्यालय परिसर खण्डवा तथा जिला पंचायत खण्डवा में जुलूस, आमसभा, नारेबाजी एवं ध्वनि विस्तारक यंत्र के उपयोग से कार्यालयीन एवं न्यायालयीन कार्य प्रभावित होते है, तथा शांति भंग होती है। इस कारण से कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री विशेष गढ़पाले ने दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत कलेक्ट्रेट व जिला पंचायत कार्यालय परिसर में धरना, प्रदर्शन, आन्दोलन तथा ध्वनि विस्तारक यंत्रों पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। जारी आदेश अनुसार बिना अनुमति के इस तरह की कोई कार्यवाही इन परिसरों में करने पर संबंधित के विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही की जायेगी।
    जारी आदेश अनुसार कोई भी राजनैतिक दल, छात्र संगठन अथवा कोई आन्दोलनकारी व्यक्ति इस परिसर में प्रतिबंधित किया गया है। ध्वनि विस्तारक यंत्र का उपयोग भी इन दोनों कार्यालयों के परिसर एवं उससे लगे हुए 100 मीटर की परिधि में प्रतिबंधित रहेगा। कोई भी राजनैतिक दल, यूनियन छात्र संगठन अथवा कोई आन्दोलनकारी व्यक्ति इस परिसर में जुलूस, आमसभा या नारेबाजी, ज्ञापन आदि सौंपे जाने के 3 दिवस पूर्व उपखण्ड मजिस्ट्रेट खण्डवा से विधिवत लिखित में अनुमति लेना होगी। ज्ञापन सौंपे जाने हेतु कलेक्टर के मुख्य द्वार पर 5 व्यक्ति, संगठन कार्यकर्ता होने पर मुख्य द्वार पर से ही अधिकृत अधिकारी को ज्ञापन सौंपा जायेगा। अधिकारी विशेष को ही ज्ञापन दिये जाने की मांग नहीं की जा सकेगी। इस आदेश का उल्लंघन करने वालों के विरूद्ध दण्डनीय कार्यवाही की जायेगी।
स्वीप कार्यक्रम के तहत स्कूलों में रंगोली, मेहंदी व निबंध प्रतियोगिता सम्पन्न 
खण्डवा | 03-नवम्बर-2018
0
 
  विधानसभा निर्वाचन में अधिकाधिक मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सके इसके लिए जिले में विभिन्न मतदाता जागरूकता गतिविधियां आयोजित की जा रही है। इसी क्रम शनिवार को शासकीय उ.मा.वि. कोठा में रंगोली प्रतियोगिता सम्पन्न हुई। स्वीप के नोडल अधिकारी श्री आर.के. सेन ने बताया कि नगर निगम चौराहे पर सेंट जोंस हायर सेकेण्डरी के विद्यार्थियों ने नुक्कड़ नाटक के माध्यम से मतदान की अपील की। इसके अलावा प्राथमिक एवं माध्यमिक विद्यालय केहलारी की छात्राओं के बीच मेहंदी प्रतियोगिता भी शनिवार को आयोजित की गई। भण्डारी पब्लिक स्कूल में रंगोली प्रतियोगिता तथा हॉली स्प्रिट स्कूल में मतदान के महत्व विषय पर भाषण प्रतियोगिता, चित्रकला प्रतियोगिता, वोटिंग क्विज, वाद-विवाद प्रतियोगिता तथा निबंध प्रतियोगिता सम्पन्न हुई।                    
उम्मीदवारों को प्रचार प्रसार हेतु वाहन की अनुमति देंगे अपर कलेक्टर श्री इवने 
खण्डवा | 27-अक्तूबर-2018
0
 
   विधानसभा निर्वाचन के दौरान विभिन्न प्रत्याशियों को प्रचार प्रसार के लिए वाहन के उपयोग की अनुमति देने के लिए कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री विशेष गढ़पाले ने अपर कलेक्टर श्री बी.एस. इवने को जिला स्तरीय नोडल अधिकारी नियुक्त किया गया है।
खण्डवा में नागरिकों को वीवीपैट मशीन संचालन की दी जानकारी 
खण्डवा | 21-अक्तूबर-2018
0
 
 
 
 
 
 
      आगामी विधानसभा निर्वाचन 2018 को ध्यान में रखते हुए अधिक से अधिक मतदान करने के लिये जिला निर्वाचन अधिकारी श्री विशेष गढ़पाले के मार्गदर्शन में विभिन्न मतदाता जागरूकता गतिविधियां आयोजित की जा रही है। इसी क्रम में रविवार को खण्डवा हाट बाजार में ग्रामिणों और शहरी मतदाताओं को वीवीपैट व ईवीएम मशीन संचालन की जानकारी देकर आगामी विधानसभा निर्वाचन में मतदान करने की अपील की। 
कलेक्ट्रेट के कर्मचारियों को दिया गया आदर्श आचरण संहिता के संबंध में प्रशिक्षण 
खण्डवा | 13-अक्तूबर-2018
0
 
 
 
 
 
 
    विधानसभा निर्वाचन 2018 के लिये निर्वाचन आयोग द्वारा सम्बन्धित विधानसभा क्षेत्रों में आदर्श आचरण संहिता लागू कर दी गई है। आदर्श आचरण संहिता का पालन शासन के अधिकारी कर्मचारियों को भी करना होता है। इसलिए शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सभी कर्मचारियों को आदर्श आचरण संहिता के संबंध में एक दिवसीय प्रशिक्षण दिया गया। प्रशिक्षण के दौरान कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री विशेष गढ़पाले ने बताया कि सभी अधिकारी कर्मचारियों को निर्वाचन के दौरान पूर्णतः निष्पक्ष रहकर कार्य करना है। उन्होंने कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान सभी अधिकारी कर्मचारी राजनीतिक गतिविधियों से दूर रहे तथा अपना निर्वाचन संबंधी कार्य समय सीमा में पूर्ण करें। उन्होंने कहा कि अधिकारी कर्मचारी सोशल मीडिया पर किसी भी राजनीतिक पोस्ट पर कमेंट न करें और न ही लाइक करें। उन्होंने कहा कि आदर्श आचरण संहिता के दौरान अधिकारी कर्मचारियों की एक छोटी से गलती उनके लिए बड़ी परेशानी का कारण बन सकती है, अतः पूरी सजगता से कार्य करें। 
     कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री गढ़पाले ने बताया कि निर्वाचन आयोग के सी विजिल एप में कोई भी व्यक्ति शिकायत तथा उसका फोटो व वीडियों पोस्ट कर सकता है जिस पर त्वरित कार्यवाही होगी। यदि कोई अधिकारी कर्मचारी आदर्श आचरण संहिता का उल्लंघन करता है तो उसकी शिकायत होने पर संबंधित के विरूद्ध तुरंत कार्यवाही की जायेगी। अतः राजनीतिक गतिविधियों से दूर रहे, ताकि शिकायत की संभावना न रहें। उन्होंने कहा कि निर्वाचन प्रक्रिया के दौरान सभी कर्मचारी न केवल निष्पक्ष रहे, बल्कि उनके व्यवहार में भी यह निष्पक्षता दिखना भी चाहिए। प्रशिक्षण में मास्टर ट्रेनर श्री अविनाश दुबे व श्री सुलजा ने आदर्श आचरण संहिता के संबंध में पावर पाइंट प्रजेन्टेशन के माध्यम से विस्तार से कर्मचारियों को जानकारी दी। इस दौरान अपर कलेक्टर श्री बी.एस. इवने भी मौजूद थे।
 
आचार संहिता लागू रहने तक नहीं होंगी जनसुनवाई 
समाधान ऑनलाइन कार्यक्रम भी नहीं होगा 
खण्डवा | 09-अक्तूबर-2018
0
 
 
 
 
 
    विधानसभा निर्वाचन कार्यक्रम जारी होने के कारण आदर्श आचरण संहिता प्रभावशील हो गई है, इस कारण से अब प्रत्येक मंगलवार प्रातः 11 से 1 बजे के बीच होने वाली जनसुनवाई का कार्यक्रम आगामी आदेश तक स्थगित रहेगा। इसी तरह समाधान ऑनलाइन कार्यक्रम के तहत हर माह पहले मंगलवार को  नागरिकों की समस्याओं का वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से समाधान कराया जाता था। आदर्श आचरण संहिता प्रभावशील होने के कारण यह कार्यक्रम भी स्थगित रहेगा।
पंधाना में मतदाता जागरूकता रैली सम्पन्न 
खण्डवा | 28-सितम्बर-2018
0
 
 
 
 
    आगामी विधानसभा निर्वाचन को ध्यान में रखते हुए कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री विशेष गढ़पाले के मार्गदर्शन में जिले में विभिन्न मतदाता जागरूकता गतिविधियां आयोजित की जा रही है। एसडीएम पंधाना श्री आर.एस. बालोदिया के मार्गदर्शन में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम के तहत हायर सेकेण्डरी स्कूल पंधाना के विद्यार्थियों द्वारा मतदाता जागरूकता रैली आयोजित की गई। इस दौरान विद्यार्थियों को मतदाता जागरूकता संबंधी शपथ दिलाई गई।
पारदर्शी मार्केट प्लेस ‘‘जेम‘‘ की कार्यशाला सम्पन्न 
खण्डवा | 20-सितम्बर-2018
0
 
  
 
     गवर्नमेंट ई मार्केट प्लेस ‘‘जेम‘‘ की कार्यशाला का आयोजन बुधवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में किया गया। कार्यशाला में भोपाल से आये जेम रीजनल मैनेजर श्री संजय डेहरिया द्वारा जेम के माध्यम से शासकीय क्रय करने की जानकारी संबंधी प्रजेन्टेशन दिया गया। श्री डेहरिया ने बताया कि ये एक ऑनलाइन गवर्नमेंट मार्केट प्लेस है जहां शासकीय विभागीय खरीदी की जाती है। डायरेक्ट परचेस, तुलनात्मक खरीदी के साथ बिड और रिवर्स ऑक्शन के टूल की भी जानकरी विभागीय अधिकारियों को दी गई। साथ ही जेम में यूजर रजिस्ट्रेशन की प्रकिया समझाई गई और अधिकारियों द्वारा पूछे गए जेम से संबंधित प्रश्नों का जवाब भी श्री डेहरिया द्वारा दिया गया। कार्यशाला में विभिन्न विभागों के जिले के अधिकारी मौजूद थे।
पत्रकार स्वास्थ्य समूह बीमा योजना में फार्म भरने की अंतिम तारीख 10 अक्टूबर 
खण्डवा | 18-सितम्बर-2018
0
 
 
 
 
    पत्रकार स्वास्थ्य एवं दुर्घटना समूह बीमा योजना में शामिल होने के लिये फार्म भरने की अंतिम तारीख 10 अक्टूबर, 2018 निर्धारित की गई है। पूर्व से बीमित पत्रकार 25 सितम्बर, 2018 तक आवेदन जमा करेंगे, तब उनकी नई पॉलिसी 1 अक्टूबर, 2018 से प्रभावी हो सकेगी। अन्यथा आवेदन की अंतिम तिथि 10 अक्टूबर, 2018 के बाद पॉलिसी प्रभावी होगी। व्यक्तिगत स्वास्थ्य बीमा 2 लाख अथवा 4 लाख रुपये का करवाया जा सकता है। दो लाख के स्वास्थ्य बीमा में दुर्घटना बीमा 5 लाख और 4 लाख के स्वास्थ्य बीमा में दुर्घटना बीमा 10 लाख है। बीमा योजना में 21 से 70 वर्ष उम्र तक के संचार प्रतिनिधि शामिल हो सकते हैं। पूर्व से बीमित पत्रकार 80 वर्ष तक की उम्र तक शामिल हो सकेंगे। नई दिल्ली में कार्यरत मध्यप्रदेश के मूल निवासी पत्रकारों को भी योजना में पात्रता होगी।
   पत्रकारों का यह बीमा एक साल के लिये किया जायेगा। साठ वर्ष तक के पत्रकार की बीमा किस्त का 75 प्रतिशत और 61 से 70 वर्ष के पत्रकारों के बीमा किस्त का 85 प्रतिशत जनसम्पर्क संचालनालय द्वारा दिया जायेगा। पति, पत्नी, बच्चों एवं माता-पिता को भी योजना में शामिल किया जा सकेगा। बीमा पालिसी में पहले से विद्यमान सभी बीमारी शामिल होंगी।
गैर-अधिमान्य पत्रकार भी होंगे शामिल
   शासन द्वारा गैर-अधिमान्य पत्रकारों को भी योजना में शामिल करने का निर्णय लिया गया है। इन पत्रकारों का 50 प्रतिशत प्रीमियम पत्रकार द्वारा और 50 प्रतिशत जनसम्पर्क विभाग द्वारा दिया जायेगा। इस श्रेणी में दैनिक समाचार-पत्र के 4, साप्ताहिक अथवा पाक्षिक या मासिक पत्र-पत्रिका अथवा इलेक्ट्रॉनिक एवं वेब मीडिया के दो-दो प्रतिनिधियों को पात्रता होगी। आरएनआई में रजिस्टर्ड नियमित पत्र-पत्रिकाओं के प्रतिनिधि योजना में पात्र होंगे। पॉलिसी में बीमा कम्पनी के चिन्हित अस्पतालों में इलाज की केशलेस व्यवस्था होगी। पुरानी बीमा पॉलिसी 30 सितम्बर को समाप्त हो जायेगी। बीमा पॉलिसी के फार्म, प्रीमियम तालिका तथा अन्य जानकारी जनसम्पर्क विभाग की वेबसाइट www.mpinfo.org  से डाउनलोड कर सकते हैं। श्रेणीवार निर्धारित प्रीमियम की राशि यूनाइटेड इण्डिया इंश्योरेंस कम्पनी के खाते में एनईएफटी कर उसका यूटीआर नम्बर आवेदन में जरूर लिखें। फार्म सिर्फ जनसम्पर्क संचालनालय की अधिमान्यता शाखा में भेजना है। अधिमान्य और गैर-अधिमान्य पत्रकारों के लिये अलग-अलग फार्म हैं।
0
 
 
 
 
   
  
 
 
 
 
 
 
 

 
 
 
 
 

   

गणेश शंकर समाचार सेवा

आजादी की पत्रकारिता को ध्यान में रख कर ही  हमने बर्ष 1981 दिसम्बर 11  से दैनिक राष्ट्र भ्रमण समाचार पत्र से अपनी पत्रकारिता की शुरुआत की है.


Template Settings

Color

For each color, the params below will give default values
Blue Green Red Radian
Select menu
Google Font
Body Font-size
Body Font-family
http://www.zoofirma.ru/