wrapper

ब्रेकिंग न्यूज़

 

जिले में छ: नाम ‍निर्देशन पत्र भरे गए (विधानसभा निर्वाचन-2018) 
देवास | 03-नवम्बर-2018
0
 
 
 
 
    विधानसभा निर्वाचन-2018 के तहत देवास जिले में आज शनिवार 3 नवंबर को कुल छ: नाम निर्देशन पत्र दाखिल हुए। उपजिला निर्वाचन अधिकारी राजेंद्र रघुवंशी ने बताया कि नाम निर्देशन पत्र के दूसरे दिन शनिवार को विधानसभा क्षेत्र सोनकच्छ से एक नामांकन पत्र श्री सज्जनसिंह वर्मा पिता स्व. बेनीप्रसाद जी वर्मा द्वारा दाखिल हुआ। 
   विधानसभा क्षेत्र देवास से चार नामांकन पत्र श्री दिलीप बांगर पिता लक्ष्मणराव बांगर, श्रीमती गायत्रीराजे पवार पति श्री तुकोजीराव पवार, श्री विक्रम सिंह पवार पिता श्री तुकोजीराव पवार, सुश्री साधना प्रजापति/ गोपाल प्रसाद प्रजापति द्वारा दाखिल किए गए।
   विधानसभा क्षेत्र हाटपीपल्या से एक नामांकन पत्र श्री तेजसिंह पिता करण सिंह द्वारा दाखिल किया गया।
मतदान दलों के प्रशिक्षण का आज तीसरा दिन (विधानसभा निर्वाचन-2018) 
देवास | 27-अक्तूबर-2018
0
 
 
 
 
     विधानसभा निर्वाचन-2018 के दृष्टिगत रखते हुए मतदान दलों के प्रशिक्षण जारी है। प्रशिक्षण आज तीसरा दिन है। प्रशिक्षण में पीठासीन अधिकारी व मतदान अधिकारी क्रमांक-1 भाग ले रहे हैं। पीठासीन अधिकारी व मतदान अधिकारी-1 को 30-30 के समूह में प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण में अधिकारियों को निर्देश दिए गए कि वे मतदान प्रक्रिया को अच्छी तरह समझ लें। ईवीएम व वीपीपेट मशीन को संचालित कर देख लें और यदि कोई कठिनाई तो इसका निवारण अभी कर लें। निर्धारित स्थल पर पीठासीन व मतदान अधिकारी क्रमांक-01 को प्रशिक्षण दिया गया।

पीठासीन व मतदान अधिकारियों के कर्तव्य बताए

     प्रशिक्षण के दौरान मतदान संबंधी प्रक्रिया को बारीकी से समझाया गया। पीठासीन अधिकारी व मतदान अधिकारी क्रमांक-1 कर्तव्यों के बारे में विस्तार से समझाया गया। पीठासीन अधिकारी मतदान को सुचारू रूप से संचालित करने के लिए उत्तरदायी होगा। मतदान केंद्र पर नियंत्रण व अनुशासन बनाकर रखेगा। मतदान केंद्र के 100 मीटर व 200 मीटर दायरे की व्यवस्था सुनिश्चित करेगा। सेक्टर अधिकारी व रिटर्निंग अधिकारी से संपर्क बनाकर रखेगा। मतदान अधिकारी क्रमांक-1 के पास चिंहित प्रति रहेगी। प्रशिक्षण में बताया गया कि वे मतदाता का नाम पुकारेंगे व पहचान सुनिश्चित करेंगे। मतदान अधिकारी क्रमांक-2 के पास प्रारूप 17 (क) में रजिस्टर रहेगा, जिसमें वह मतदाता की विभिन्न इंट्रियां करेगा तथा हस्ताक्षर/अंगूठा का निशान लेगा। मतदाता को पर्ची बनाकर देंगे तथा बाएं हाथी अंगुली में स्याही लगाएंगे। मतदान अधिकारी क्रमांक-3 कंट्रोल यूनिट का प्रभारी होगा, वह मतदाता पर्ची एकत्रित करेगा तथा कंट्रोल यूनिट से बटन दबाकर बैलेट ईश्यु करेगा।
गैर कानूनी कार्यों में संलग्न वाहनों की जप्ती होगी (विधानसभा निर्वाचन-2018) 
देवास | 21-अक्तूबर-2018
0
 
 
 
 
    भारत निर्वाचन आयोग ने निर्देश दिए हैं कि स्वतंत्र एवं शांतिपूर्ण निर्वाचन सुनिश्चित कराने के लिए वाहनों के लिए विशेष अभियान चलाया जाए। आपराधिक गतिविधियों जैसे अवैध शस्त्रों/मदिरा का परिवहन आदि पाया जाए, तो ऐसे वाहनों को परिबद्ध करें और जब तक निर्वाचन प्रक्रिया पूर्ण नहीं हो जाता है, उन्हें मुक्त नहीं करें। यह सुनिश्चित करने के लिए कि बाहर से निर्वाचन क्षेत्र में अवांछित तत्व आदि हथियार आदि नहीं लाया जा रहा है, आवश्यक कार्यवाही करें तथा मतदान की तिथि से तीन दिवस पहले से ही लारियों, हल्के वाहनों तथा अन्य सभी वाहनों की संपूर्ण जांच पड़ताल कर, सख्त चौकसी रखी जाए। वाहनों की ऐसी चेकिंग मतगणना कार्य पूरा होने तथा परिणाम की घोषणा होने तक जारी रखा जाए तथा इस प्रकार के अपराधियों के वाहन जप्त कर, मतदान कार्य पूरा होने तथा परिणामों की घोषणा होने तक की अवधि तक रखे जाएं।
मतदान दलों का प्रथम प्रशिक्षण जारी (विधानसभा निर्वाचन-2018) 
पीठासीन अधिकारी व मतदान अधिकारी क्रमांक-1 को दिया जा रहा है प्रशिक्षण, प्रत्येक दो-दो घंटे में देनी होगी मतदान के प्रतिशत की जानकारी, मॉकपोल में कम से कम 50 वोट डलवाने होंगे 
देवास | 13-अक्तूबर-2018
0
 
 
 
 
 
 
   देवास‍ जिले में विधानसभा आम निर्वाचन 2018 को व्यवस्थित व सुचारू रूप से सम्पन्न कराने के लिए मतदान दलों का प्रथम प्रशिक्षण विकासखंड मुख्यालयों पर दिया जा रहा है। प्रशिक्षण में पीठासीन अधिकारी व मतदान अधिकारी क्रमांक-1 भाग ले रहे हैं। प्रशिक्षण में बताया गया कि ईव्हीएम के कनेक्शन किसी भी परिस्थिति में कंट्रोल यूनिट को आन करके नही किए जाने चाहिए। मतदान के पूर्व माकपोल होगा, जिसमें कम से कम 50 मत डालना अनिवार्य है किंतु ये मत निर्वाचन लडने वाले अभ्यर्थियों को बराबर अनुपात में डाले जाने चाहिए अन्यथा उससे अधिक मत भी माकपोल के दौरान डाले जाने चाहिए। मॉक पॉल के बाद मशीनों की विधिवत सीलिंग कर मतदान प्रारंभ करें। सीलिंग की प्रक्रिया को विस्तार से बताया गया तथा प्रशिक्षण ले रहे अधिकारियों से समस्त प्रकार की सीलिंग तथा मशीनों का प्रयोग करवाया गया।
ईटीपीबीएस के संबंध में वीडियो कॉन्‍फ्रेंस से आज दी जाएगी ट्रेनिंग "विधानसभा निर्वाचन-2018" 
देवास | 09-अक्तूबर-2018
0
 
 
 
 
 
    भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार इलेक्ट्रॉनिक ट्रांसमिटेड पोस्टल बैलेट सिस्टम (ईटीपीबीएस) के संबंध में ट्रेनिंग आज 10 अक्टूबर को वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से ट्रेनिंग दी जाएगी। वीडियो कांफ्रेस अपरान्ह 3 बजे से 4.00 बजे एनआईसी वीडियो कांफ्रेंस सेंटर में दी जाएगी। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी डॉ. श्रीकान्त पाण्डेय ने उप जिला निर्वाचन अधिकारी, रिटर्निंग एवं सहायक रिटर्निंग अधिकारी, नोडल अधिकारी ईटीपीबीएस, प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र के ईटीपीबीएस के तकनीकी प्रतिनिधियों तथा जिले के ईटीपीबीएस के मास्टर ट्रेनरों को उपस्थित रहने के निर्देश दिए हैं।
सरकारी शालाओं के सफाई कर्मियों का 2 अक्टूबर को होगा सम्मान 
बालक और बालिकाओं के लिये अलग-अलग बनाये जा रहे शौचालय 
देवास | 28-सितम्बर-2018
0
 
 
 
 
 
    प्रदेश में 15 सितम्बर से "स्वच्छता ही सेवा" पखवाड़ा मनाया जा रहा है। इस दौरान सरकारी शालाओं की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। महात्मा गांधी की जयंती 2 अक्टूबर को प्रदेश भर की सरकारी शालाओं में कार्यरत सफाई-कर्मियों का पुष्प भेंट कर सम्मान किया जाएगा। इसके साथ ही इसी दिन स्वच्छता पर केन्द्रित अनेक कार्यक्रम भी होंगे। इन कार्यक्रमों में अधिक से अधिक विद्यार्थियों के साथ स्थानीय जन-प्रतिनिधियों को भी शामिल किये जाने के निर्देश राज्य शिक्षा केन्द्र द्वारा जिलों में पदस्थ विभागीय अधिकारियों को दिये गये है।
   सरकारी शालाओं में शौचालयों की नियमित सफाई के लिये विभाग की ओर से राशि भी जारी की गई है। इसके साथ ही शाला परिसर में सफाई व्यवस्था को बनाये रखने के लिये शालाओं के क्लस्टर पर आधारित स्वच्छता एक्शन प्लान बनाये जाने के निर्देश दिये गये है। शालाओं में सफाई के महत्व पर केन्द्रित भाषण, चित्रकला सम्मेलन, बाल संसद की गतिविधियों को करने पर जोर दिया गया है। इसके लिये यूनीसेफ से प्राप्त सहायता और जिले में उपलब्ध मोबिलाईजेशन फण्ड का उपयोग इन गतिविधियों को करने के लिये कहा गया है।
सौभाग्य योजना का 98.77 प्रतिशत कार्य पूर्ण 
प्रदेश के 38 जिलों में शत-प्रतिशत विद्युतीकरण 
देवास | 20 -सितम्बर-2018
0
 
 
 
 
   प्रदेश में सौभाग्य योजना के तहत लक्ष्य का 98.77 प्रतिशत कार्य पूरा हो गया है। प्रदेश के 51 जिलों में से 38 जिलों में शत-प्रतिशत विद्युतीकरण हो गया है। शेष 13 जिलों में भी विद्युतीकरण का कार्य द्रुत गति से चल रहा है। योजना में 19 लाख 81 हजार 973 घरों को विद्युतीकृत करने के लक्ष्य के विरुद्ध 18 लाख 98 हजार 356 घरों का विद्युतीकरण कर दिया गया है।
   शत-प्रतिशत विद्युतीकरण लक्ष्य प्राप्त करने वाले जिलों में इंदौर, मंदसौर, नीमच, आगर-मालवा, देवास, खण्डवा, उज्जैन, रतलाम, शाजापुर, झाबुआ, धार, बुरहानपुर, खरगौन, अलीराजपुर, बड़वानी, हरदा, अशोकनगर, सीहोर, भोपाल, होशंगाबाद, बैतूल, दतिया, ग्वालियर, श्योपुर, राजगढ़, गुना, नरसिंहपुर, कटनी, सिवनी, जबलपुर, उमरिया, सतना, सागर, बालाघाट, रीवा, पन्ना, दमोह और टीकमगढ़ हैं।
इमाम हुसैन की सीख देश और दुनिया के लिये आज भी प्रासंगिक : प्रधानमंत्री श्री मोदी 
सेवा व समभाव का अद्भुत उदाहरण है बोहरा समाज : मुख्यमंत्री श्री चौहान, "स्‍वच्छता ही सेवा" पखवाड़ा 15 सितम्बर से 2 अक्टूबर तक मनाया जायेगा, इंदौर में बोहरा समाज का अशरा मुबारक कार्यक्रम 
देवास | 15-सितम्बर-2018
0
 
 
 
 
    प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कहा है कि इमाम हुसैन अमन और इंसाफ के लिये शहीद हो गये। उन्होंने अन्याय और अहंकार के विरूद्ध आवाज बुलंद की थी। उनकी सीख आज भी देश-दुनिया के लिये प्रसंगिक है। उनके पैगाम को बोहरा समाज ने जीवन में उतारा है। सबको साथ लेकर चलने की परम्परा को जीकर दिखाया है। दाऊदी बोहरा समाज की सोच देश और समाज को शक्ति प्रदान करती है। श्री मोदी आज सैफी मस्जिद इंदौर में पवित्र अशरा मुबारक कार्यक्रम को सम्बोधित कर रहे थे। इस अवसर पर दाऊदी बोहरा समाज के धर्मगुरू सैयदना मुफद्दल सैफउद्दीन साहब, मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान और विश्वभर से आये बोहरा समाज के धर्मावलंबी मौजूद थे।
    प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि देश में 15 सितम्बर से 2 अक्टूबर तक "स्वच्छता ही सेवा" पखवाड़ा मनाया जा रहा है। दुनिया में एक साथ करोड़ों लोग स्वच्छता के कार्य एक साथ करेंगे। यह कीर्तिमान होगा। उन्होंने अभियान से जुड़ने का आमंत्रण दिया। बताया कि समाज के सभी वर्गों से वीडियो कांफ्रेंस कर अनुरोध करेंगे। श्री मोदी ने स्वच्छताग्राहियों का आव्हान किया कि वे वेस्ट टू एनर्जी पर विशेष बल दें। उन्होंने कहा कि नियम-कानूनों के दायरे में सफलता से व्यापार का संदेश देने में सरकार सफल रही है। सरकार द्वारा व्यापारियों, कारोबारियों को हरसंभव सहयोग और सहायता दी जा रही है। उन्होंने कहा कि सरकार द्वारा शुरू किया गया स्वच्छता अभियान 125 करोड़ लोगों का जन-आंदोलन बन गया है। स्वच्छता के प्रति अभूतपूर्व आग्रह दिख रहा है। इंदौर शहर अभियान का अगुआ बन गया है। भोपाल ने भी इसमें कमाल किया है। उन्होंने इस उपलब्धि के लिए राज्य सरकार, नगर निगम और नागरिकों को बधाई दी।
    प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि पं दीनदयाल उपाध्याय की जयंती पर वर्ष में 5 लाख रूपए तक के नि:शुल्क उपचार का कार्यक्रम "आयुष्मान" देश में लागू हो जायेगा। यह स्वास्थ्य के क्षेत्र में दुनिया का बड़ा कार्यक्रम है। इसमें यूरोप की आबादी के बराबर करीब 50 करोड़ लोगों को स्वास्थ्य सेवा मिलेगी। वर्तमान सरकार के कार्यकाल में घरों में शौचालय का प्रतिशत 40 से बढ़कर 90 हो गया है। एक करोड़ परिवारों को पक्के घर मिल गए हैं। मेडिकल उपचार औषधि की कम कीमतें, बेहतर सुविधाएँ मिलीं हैं। देश में रिकार्ड उत्पादन और निवेश हो रहा है। विगत तिमाही में विश्व की बड़ी अर्थ-व्यवस्थाओं में सबसे तेज विकास दर 8 प्रतिशत की उपलब्धि प्राप्त हुई है।   
फसल नुकसानी के लिये की जायेगी राहत की व्यवस्था : मुख्यमंत्री श्री चौहान 
प्याज एवं लहसुन उत्पादक किसानों को शीघ्र किया जायेगा भावांतर राशि का भुगतान, मुख्यमंत्री ने पेटलावद में किया 2050.70 करोड़ की माइक्रो उद्वहन सिंचाई योजना का शिलान्यास 
देवास | 08-सितम्बर-2018
0
 
 
 
 
 
    मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज झाबुआ जिले के पेटलावद में कहा कि किसानों को फसल नुकसानी के लिये राज्य शासन द्वारा राहत प्रदान करने की व्यवस्था की जायेगी। उन्होंने बताया कि प्याज और लहसुन उत्पादक किसानों को शीघ्र ही भावांतर राशि का भुगतान किया जायेगा। श्री चौहान 2050.70 करोड़ लागत की नर्मदा-झाबुआ-पेटलावद माइक्रो उद्वहन सिंचाई परियोजना का शिलान्यास करने के बाद विशाल जनसभा को संबोधित कर रहे थे। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर पेटलावद नगर परिषद में विकास कार्यों के लिये विशेष निधि से एक करोड़ रुपये देने की घोषणा की।
    मुख्यमंत्री ने विभिन्न जन-कल्याणकारी योजनाओं की जानकारी देते हुए लोगों से आगे आकर योजनाओं का लाभ लेने की अपील की। उन्होंने बताया कि किसानों के हित संरक्षण के लिये राज्य सरकार ने जीरो प्रतिशत ब्याज पर ऋण उपलब्ध करवाने और उर्वरक के अग्रिम भण्डारण की सुविधा प्रदान करने जैसे महत्वपूर्ण निर्णय लिये हैं।
    श्री चौहान ने सिंचाई परियोजना के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि नर्मदा-झाबुआ-पेटलावद उद्वहन माइक्रो सिंचाई परियोजना पूर्ण होने पर झाबुआ और धार जिले के 202 गाँव की 57 हजार 422 हेक्टेयर कृषि भूमि को ग्रेविटी प्रवाह से सिंचाई के लिये पानी मिलेगा। उन्होंने बताया कि धार जिले के ग्राम मलवाड़ी के पास नर्मदा का जल उद्वहन किया जायेगा। यह जल 460 मीटर ऊँचाई तक 18 घन मीटर प्रति सेकेण्ड की क्षमता से धार जिले के ग्राम जाली में निर्मित जंक्शन संरचना में पहुँचेगा, जहाँ से संग्रहीत जल किसानों के खेतों तक पाइप लाइन द्वारा पहुँचाया जायेगा।
    मुख्यमंत्री श्री चौहान का ग्रामीणों ने आदिवासी संस्कृति के अनुरूप तीर-कमान भेंट कर और झूलड़ी पहनाकर आत्मीय स्वागत किया। श्री चौहान ने विभिन्न योजनाओं के हितग्राहियों को हित लाभ भी वितरित किये।
    नर्मदा घाटी विकास प्राधिकरण के उपाध्यक्ष श्री रजनीश वैश्य ने परियोजना की जानकारी दी। विधायक सुश्री निर्मला भूरिया, श्री शांतिलाल बिलवाल, श्री कलसिंह भाबर, श्रीमती रंजना बघेल और श्री वेलसिंह भूरिया, अन्य जन-प्रतिनिधि और बड़ी संख्या में ग्रामीण और किसान मौजूद थे।
 
मुनि तरुण सागर के "कड़वे प्रवचन" हमेशा याद रहेंगे - मुख्यमंत्री श्री चौहान 
देवास | 01-सितम्बर-2018
0
 
 
 
 
 
   मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रसिद्ध जैन मुनि तरुण सागर के निर्वाण पर कहा कि उनके "कड़वे प्रवचन" हमेशा याद रहेंगे और समाज का मार्गदर्शन करते रहेंगे। मुनि श्री शनिवार देर रात  दिल्ली में ब्रम्हलीन हो गए।
   श्री चौहान ने कहा कि मुनि श्री का मध्यप्रदेश से गहरा संबंध था। वे सामाजिक बुराईयों पर प्रहार कर लोगों को जागरूक करते थे। वे कई अर्थो में एक क्रांतिकारी संत थे जो आत्मशुद्धि पर बल देते थे। श्री चौहान ने कहा कि कड़वे वचनों का आत्मसात करने का संकल्प लेना ही उन्हें सच्ची श्रद्धांजलि है।
मंत्री डॉ. मिश्र ने महाकाल मंदिर में की पूजा-अर्चना 
देवास | 30-अगस्त-2018
0
 
 
 
 
 
 
    जनसम्पर्क, जल संसाधन और संसदीय कार्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्र ने आज सुबह उज्जैन स्थित भगवान महाकाल मंदिर में पूजा-अर्चना की। डॉ. मिश्र ने इस मौके पर प्रदेशवासियों की खुशहाली की कामना की।
ई-उपार्जन पंजीयन में किसानों को कठिनाई नहीं होना चाहिये 
पंजीयन केन्द्र के प्रभारियों को प्रमुख सचिव खाद्य ने दिये निर्देश 
देवास | 29-अगस्त-2018
0
 
 
 
 
 
     ई-उपार्जन सॉफ्टवेयर में किये जा रहे किसानों के पंजीयन पर प्रमुख सचिव खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण श्रीमती नीलम शमी राव ने पंजीयन केन्द्र के प्रभारियों को निर्देश दिये हैं कि प्रक्रिया में किसानों को परेशानी नहीं होना चाहिये। उन्होंने कहा कि टेक्नालॉजी किसानों की सुविधा के लिये है। पंजीयन प्रक्रिया में जहाँ कठिनाई है अथवा प्रक्रिया को ठीक से नहीं समझा जा रहा है, वहाँ के पंजीयन केन्द्र के कर्मचारियों को पुन: मास्टर-ट्रेनर्स के माध्यम से ट्रेनिंग दी जायेगी।
   अपेक्स बैंक के सभागार में आज पंजीयन केन्द्र प्रभारियों और डाटा-एन्ट्री ऑपरेटर्स की आयोजित बैठक में प्रमुख सचिव खाद्य द्वारा उक्त निर्देश दिये गये। बैठक में संचालक खाद्य श्री श्रीमन शुक्ला, सीएलआर श्री एम. शेलवेन्द्रन, एम.डी. मार्कफेड श्रीमती स्वाती मीना नायक, एम.डी. अपेक्स बैंक श्री आर.के. शर्मा और प्रदेश के संभाग और जिलों से आये समिति सेवक मौजूद थे।
   प्रमुख सचिव खाद्य ने खरीफ-2018 के लिये ई-उपार्जन सॉफ्टवेयर में किये जा रहे किसानों के पंजीयन की प्रक्रिया को समय पर पूरा करने के लिये कहा। उन्होंने कहा कि पंजीयन केन्द्र पर किसानों को अनावश्यक इंतजार नहीं करवायें। एक दिन में जितने किसानों का पंजीयन किया जा सकता है, उतनी संख्या में ही किसानों को बुलवायें। किसानों को टोकन देकर उन्हें नियत समय दें। इससे किसान अपना अन्य कार्य कर सकेगा और उसे पंजीयन केन्द्र पर इंतजार नहीं करना पड़ेगा।
   बैठक में कम्प्यूटर सॉफ्टवेयर में पंजीयन के दौरान आ रही समस्याओं के संबंध में पंजीयन केन्द्र प्रभारी समिति सेवकों और डाटा-एन्ट्री ऑपरेटर्स ने जानकारी दी। अवगत करवाया गया कि वनाधिकार के पट्टेधारियों का डाटा अगले 3 दिन में सर्वर पर अपलोड हो जायेगा, जिससे उनके पंजीयन में कठिनाई नहीं आयेगी। पंजीयन एक बैंक खाते पर हो सकेगा और पोर्टल पर कुछ बैंक शाखाएँ प्रदर्शित नहीं हो रही हैं, वह भी प्रदर्शित होने लगेंगी। इसके लिये सिस्टम को अपग्रेड कर दिया जायेगा। एक किसान के सभी खसरों की कुल भूमि का योग सॉफ्टवेयर में प्रदर्शित नहीं हो रहा है, उसे भी सुधार कर प्रदर्शित करवाया जा रहा है। एक किसान के 12 से अधिक खसरे होने पर भी पंजीयन की सुविधा दी जायेगी।
   प्रमुख सचिव श्रीमती राव ने कहा कि ऐसे ही और अन्य बार-बार पूछे जाने वाले प्रश्नों के उत्तर तैयार कर (फ्रिक्वेंटली आस्क्ड क्वश्चन्स) पोर्टल पर अपलोड कर दिये जायेंगे, जिससे कि ऐसे प्रश्नों के उत्तर जानकर पंजीयन केन्द्र पर कर्मचारी कठिनाई का हल खुद निकाल लें। उन्होंने कहा कि जिला और संभाग स्तर पर समस्याओं के निराकरण के लिये टीम बनाई गई हैं, जो पंजीयन में आ रही समस्याओं के निराकरण में सहयोग करेंगी। जहाँ प्रशिक्षण की जरूरत है, वहाँ मास्टर-ट्रेनर्स के माध्यम से पुन: प्रशिक्षण भी दिलवाया जायेगा। प्रदेश में किसानों के पंजीयन का कार्य जारी है, जो 11 सितम्बर तक किया जायेगा। पंजीयन पहला चरण है। दूसरा चरण सत्यापन और तीसरा चरण उपार्जन है।
मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना में 40056 विद्यार्थियों को 65 करोड़ 57 लाख स्वीकृत 
देवास | 25-अगस्त-2018
0
 
  मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना में 25 अगस्त तक विभिन्न पाठ्यक्रमों के 40 हजार 56 विद्यार्थी को 65 करोड़ 57 लाख 19 हजार 416 रूपये स्वीकृत किये जा चुके हैं। यह प्रक्रिया सतत जारी है।
    इन विद्यार्थियों में विशेष रूप से अभी तक मेडिकल कोर्स में 766 विद्यार्थी की 40 करोड़ 76 लाख 45 हजार, आई.आई.टी. और एन.आई.टी. के 477 विद्यार्थी की 3 करोड़ 28 लाख 92 हजार 866, आई.आई.एम. के 5 विद्यार्थी की 20 लाख 698, क्लेट द्वारा चयनित (लॉ) के 39 विद्यार्थी की 58 लाख 6 हजार 700, उच्च शिक्षा के 35 हजार 974 विद्यार्थी की 14 करोड़ 64 लाख एक हजार 23, तकनीकी शिक्षा के 394 विद्यार्थी की एक करोड़ 75 लाख 7 हजार 184 रुपये सहित अन्य पाठ्यक्रमों की फीस शासन द्वारा स्वीकृत की जा चुकी है।
अटल जी देश के राजनैतिक गुरू और पितामह थे : राज्यपाल श्रीमती पटेल 
पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर राज्यपाल द्वारा शोक व्यक्त 
देवास | 17-अगस्त-2018
0
 
  राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने भारत रत्न और पूर्व प्रधानमंत्री श्री अटल बिहारी वाजपेयी के निधन पर शोक व्यक्त किया है और श्रद्धा-सुमन अर्पित किये हैं।
    राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने शोक संदेश में कहा है कि श्री वाजपेयी के निधन से देश को अपूरणीय क्षति हुई है। उन्होंने देश को विश्व स्तर पर सम्मान दिलाने तथा संयुक्त राष्ट्र संघ में दुश्मन देशों के मुकाबले अपने देश का पक्ष मजबूती से रखने के लिए हमेशा याद किया जायेगा। राज्यपाल ने कहा है कि वह देश के राजनैतिक गुरू और पितामह थे। वे कठिन और विपरित परिस्थितियों में कभी भयभीत नहीं होते थे। वह देश के ऐसे प्रथम प्रधानमंत्री थे, जिनके शासन काल में भारत ने सफल परमाणु परीक्षण किया। यह हमारे लिए गर्व का विषय है। उनकी कविताएँ आने वाली पीढ़ी को देश सेवा की प्रेरणा देती रहेंगी।
    राज्यपाल ने कहा कि स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी महान कवि, साहित्यकार और महान वक्ता थे। उनके पास शब्दों का भण्डार था। उनके भाषण में वह कला थी, जिससे आम-जनता और युवा आकर्षित हुए बिना नहीं रहते थे। बड़ी संख्या में हर वर्ग के लोग अपना काम छोड़कर उनका भाषण सुनने के लिये आतुर रहते थे। श्री वाजपेयी का व्यक्तित्व इतना महान था कि विरोधी और विपक्ष के राजनेता भी उनसे प्रभावित हुए बिना नहीं रह पाते थे।
    राज्यपाल ने ईश्वर से दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करने और देश के शोक संतप्त नागरिकों को यह दु:ख सहन करने की शक्ति देने की प्रार्थना की है।
पीडब्ल्यूडी करेगा 4,875 करोड़ के सड़क-पुलों का निर्माण 
मंत्री श्री रामपाल सिंह ने ली निविदा निराकरण समिति की बैठक 
देवास | 09-अगस्त-2018
0
 
  लोक निर्माण विभाग द्वारा प्रदेश में 4,875 करोड़ रुपये लागत की सड़क और पुल-पुलियों का निर्माण कार्य करवाया जायेगा। आज मंत्रालय में लोक निर्माण मंत्री श्री रामपाल सिंह की अध्यक्षता में राज्य-स्तरीय निविदा निराकरण समिति की हुई बैठक में यह जानकारी दी गई। बैठक में प्रमुख सचिव श्री मोहम्मद सुलेमान, सचिव श्री आर.के. मेहरा और प्रमुख अभियंता श्री अखिलेश अग्रवाल उपस्थित थे।
   बैठक में न्यू डेव्हलपमेंट बैंक (एनडीबी) द्वारा वित्त पोषित सड़क एवं पुल परियोजनाओं के लिये प्राप्त निविदाओं का निराकरण किया गया। विभाग द्वारा 3,250 करोड़ रुपये लागत के 85 मुख्य जिला मार्गों को इंटरमीडिएट लेन में उन्नत करने के लिये एनडीबी से ऋण लिया जा रहा है। इसके अलावा, राज्य राज-मार्गों तथा मुख्य जिला मार्गों पर 359 पुलों के निर्माण के लिये 1,625 करोड़ रुपये का ऋण लिया जा रहा है।
   एनडीबी बोर्ड द्वारा ऋण स्वीकृत करने के पहले भारत सरकार के आर्थिक मामलों के विभाग, राज्य शासन और एनडीबी के अधिकारियों को लोन निगोशियेशन की कार्यवाही करनी होती है। लोन निगोशियेशन के पहले भारत सरकार की शर्तों के अनुसार परियोजना के 30 प्रतिशत कार्यों की निविदाएँ स्वीकृत किया जाना पूर्व शर्त है। बैठक में लिये गये निर्णय के अनुसार सड़क एवं पुल दोनों की परियोजनाओं के 30 प्रतिशत कार्यों की निविदाएँ स्वीकृत करने से लोन निगोशियेशन का रास्ता साफ हो गया है।
   केन्द्र सरकार द्वारा सूचित तिथि के अनुसार 17 अगस्त को भारत सरकार, राज्य सरकार और एनडीबी के अधिकारियों के मध्य वित्त मंत्रालय, नई दिल्ली में लोन निगोशियेशन की कार्यवाही सम्पादित की जाएगी। इसके बाद ये दोनों ही परियोजनाएँ शंघाई स्थित एनडीबी में सितम्बर माह में होने वाली बोर्ड की बैठक में स्वीकृत होने की पूरी संभावनाएँ हैं।
जागरूकता वैन मतदाताओं को कर रही जागरूक 
खातेगांव विधानसभा के मतदान केंद्रों पर पहुंच कर मतदाताओं को किया जागरूक 
देवास | 07-अगस्त-2018
5
 
  जिले में मतदाताओं को जागरूक करने के लिए भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जागरूकता वैन भेजी गई है। यह जागरुकता वैन खातेगांव विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न मतदान केंद्रों का भ्रमण कर ईवीएम और वीवीपैट के संबंध में मतदाताओं को जागरूक कर रही है। जागरूकता वैन ने 07 अगस्त को खातेगांव विधानसभा क्षेत्र के विभिन्न मतदान केंद्रों का भ्रमण किया। जिसमें अजनास, कवलासा, उमरिया सहित विभिन्न मतदान केंद्रों का भ्रमण किया। जागरूकता वैन में एलईडी टीवी भी लगाई गई है। एलईडी टीवी के माध्यम से भी मतदाताओं को जागरुक किया जा रहा है। मतदाता भी रूचि लेकर ईवीएम एवं वीवीपेट के संबंध में जानकारी ले रहे हैं। 
 
 
   जागरूकता वैन के माध्यम से ट्रेनर और काउंसलर द्वारा सभी को बताया जा रहा है कि इस बार ईवीएम के साथ वीवीपेट मशीन भी लगाई गई है। जब ईवीएम का बटन दबाते हैं तो उसके बाद 7 सेकेंड के लिए वीवीपेट में पर्ची आ जाती है और वहां पर आपने जिस अभ्यर्थी को मतदान किया है। पर्ची में उस अभ्यर्थी का सरल क्रमांक, नाम व चुनाव चिंह प्रदर्शित होता है। इससे मतदाता आश्वस्त हो सकता है कि उसने जिस अभ्यर्थी का बटन दबाया है वोट भी उसी को गया है।
आज इन केंद्रों का भ्रमण करेगी वैन
    उपजिला निर्वाचन अधिकारी राजेंद्र रघुवंशी ने बताया कि जागरूकता वैन बुधवार 08 अगस्त को खातेगांव विधानसभा क्षेत्र के उमरिया से प्रारंभ होकर मेलपीपल्या, खातेगांव, नेमावर तथा पीपल्यानानकार सहित अन्य मतदान केंद्रों का भ्रमण करेगी।
संस्थागत प्राथमिकता के लिये 2 से 10 अगस्त तक होगी काउंसलिंग 
देवास | 02-अगस्त-2018
0
 
प्रदेश में बी.ई/बी. आर्किटेक्चर/बी.डी. फार्मेसी पाठ्यक्रमों में संस्थागत प्राथमिकता सीटों के लिए (institutional preference seats) काउंसलिंग 2 से 10 अगस्त, 2018 तक होगी। काउंसलिंग उन संस्थाओं में आयोजित होगी, जिन्होंने इन सीटों के लिये सहमति पत्र के साथ निर्धारित तिथि तक आवेदन किया है।
   संस्थागत प्राथमिकता सीटों के अन्तर्गत एआईसीटीई द्वारा स्वीकृत प्रवेश क्षमता के 10 प्रतिशत स्थानों तक ही प्रवेश की कार्यवाही की जायेगी। इन सीटों पर प्रवेश पश्चात संस्था द्वारा घोषित वार्षिक शिक्षण शुल्क ही लिया जायेगा। संस्थागत प्राथमिकता सीटों के के लिये उपलब्ध संस्थानों की सूची और उनके द्वारा इन सीटों पर प्रवेशित अभ्यर्थियों से लिये जाने वाला शिक्षण शुल्क तथा विस्तृत प्रक्रिया वेबसाइट www.dte.mponline.gov.in एवं www.dtempcounselling.org पर उपलब्ध है।

 

गणेश शंकर समाचार सेवा

आजादी की पत्रकारिता को ध्यान में रख कर ही  हमने बर्ष 1981 दिसम्बर 11  से दैनिक राष्ट्र भ्रमण समाचार पत्र से अपनी पत्रकारिता की शुरुआत की है.


Template Settings

Color

For each color, the params below will give default values
Blue Green Red Radian
Select menu
Google Font
Body Font-size
Body Font-family
http://www.zoofirma.ru/