राजगढ़ समाचार

 

लगभग 35000 कृषकों को 32 करोड़ रूपये की भावांतर भुगतान योजनान्तर्गत राशि सीधे खातो में जाना प्रारंभ 
राजगढ़ | 12-जनवरी-2018
 
 जिले में भावांतर भुगतान योजनान्तर्गत जिले के किसानो को उनकी फसलो की भावांतर की राशि के प्रमाण पत्र वितरित किये गए। भावांतर भुगतान अंतर्गत माह नवंबर 2017 के अब तक 34938 कृषकों को 31,99,08,953 रूपये की भावांतर राशि से लाभांवित किया गया। पंजीकृत लाभांवित कृषकों के खाते में उनकी फसलो की भाव की अंतर की राशि का भुगतान प्रारंभ किया जाएगा। आयोजित समारोह में मुख्य अतिथि खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के उपाध्यक्ष श्री रघुनदंन शर्मा तथा जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमति गायत्री जसवंत गुर्जर ने 15 कृषकों को प्रति स्वरूप भावांतर भुगतान योजनान्तर्गत प्रमाण पत्र वितरित किए। इस मौके पर प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का छिंदवाड़ा से सीधा प्रसारण एल.ई.डी. पर दिखाया गया। 
   इस अवसर पर राजगढ़ विधायक श्री अमर सिंह यादव, ब्यावरा विधायक श्री नारायण सिंह पंवार, सारंगपुर विधायक श्री कुवंर कोठार, कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री प्रवीण सिंह, मुख्य चिकित्सा एवं जिला स्वास्थ्य अधिकारी श्रीमति डॉ. अनुसूईया गवली सिन्हा, उपसंचालक कृषि श्री बी.एल. मालवीय सहित बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित रहे। 
   खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के उपाध्यक्ष श्री रघुनदंन शर्मा ने अपने उद्बोधन में शासन की मंशानुसार चल रहे भावातंर भुगतान योजना की प्रशंसा करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार की किसान हित में बहुत महत्वपूर्ण योजना है। उन्होंने इस अवसर पर प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना तथा प्रधानमंत्री आवास योजना की प्रगति की जानकारी कार्यक्रम में आए किसानो को दी। उन्होंने किसानो से कहा कि वे अपनी अधिसूचित फसल का बीमा अवश्य कराने की अपील की। 
   कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा ने कहा कि जिले में अब तक विशेष प्रयासो से 90000 कृषकों के प्रधानमंत्री फसल बीमा योजनान्तर्गत रजिस्ट्रेशन कराया गया है। जिससे उन्हे इसका लाभ मिलेगा। किसान भाई और अधिक संख्या में रजिस्ट्रेशन कराएं तथा कोई भी कृषक प्रधानमंत्री फसल बीमा का लाभ लेने से वंचित नही रहे। इस हेतु किसान अपनी अधिसूचित फसल का बीमा अवश्य कराएं।

 

 

 

मजदूर से मालिक बना सुठालिया का मेहर (सफलता की कहानी) 
मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना ने की जीने की राह आसान 
राजगढ़ | 07-जनवरी-2018
 
 जीवन में नया सीखने और उसे पूरा करने की ललक रखने वाला व्यक्ति कभी पीछे मुड़कर नहीं देखता है। यह कर दिखाया है राजगढ़ जिले के सुठालिया कस्बे के कैलाश नारायण मेहर ने मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना का लाभ लेकर। गरीबी के कारण पारिवारिक समस्याओं ने उसे 8 वीं के बाद पढ़ने नहीं दिया। मजदूरी कर बूढे़ माता-पिता की सेवा के साथ अपने दो बच्चे पालना उसके लिए बहुत बड़ी चुनौती थी। ऐसे में नगर परिषद सुठालिया से उसे मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना की जानकारी मिली तो श्री मेहर ने फैसला किया कि अब वह मजदूरी नही करेगा। और उसने स्वरोजागर के लिये बैंक में ऋण के लिये आवेदन कर दिया। 
    बैंक से स्वीकृत ऋण उसे मिलता उसके पूर्व योजानान्तर्गत नगर परिषद सुठालिया द्वारा स्वयं का रोजगार स्थापित करने और व्यवसाय के लिए आवश्यक प्रबंधन की मूलभूत और महत्वपूर्ण जानकारियों के लिये 6 दिवसीय प्रशिक्षण के लिये स्टार स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान राजगढ़ भेजा गया। यहां उसे क्या करें-क्या न करें के बीच दृढ़ संकल्प होकर लक्ष्य को पाने की प्रेरणा मिली। प्रशिक्षण में उसके मन में आस-पास की मांग और उपलब्धता के मद्येनजर व्यवसाय प्रारंभ करने की सीख ने स्वयं का ई-रिक्शा रखने और व्यवसाय प्रारंभ करने की बात घर कर गई। जिससे उसे एक नई दिशा मिली और कुछ कर गुजरने की इच्छा शक्ति ने उसे जीवन की नई राह दिखाई।
    इसके पीछे मेहर की सोच थी कि उसके कस्बे में ऑटो नहीं है। बस स्टैंड से ज्यादातर लोगो को पैदल ही घर जाना पड़ता है इसका उसे अच्छा लाभ मिल सकता है। ऐसे मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना ने व्यवसाय की राह आसान कर दी। श्री मेहर की सोच, मेहनत और उसका सार्थक प्रयास आज रंग लाया है। परिश्रमी और लगनशील होने के साथ ही उसकी व्यवहार कुशलता से उसके ई-रिक्शा को सुठालिया में अलग पहचान मिली।
    दिन हो या रात लोग उसे मोबाईल करते है और वह सवारी लेने पहुँच जाता है। इसके साथ ही एक बार ई-रिक्शा की बेटरी फुल चार्ज होने पर लगभग 60 कि.मी. का सफर तय करने के कारण वह प्रतिदिन आस-पास के 6-7 ग्रामों तक की सवारियां लाने-ले जाने के साथ-साथ मंगलवार एवं शुक्रवार को आंगनवाड़ी केन्द्रो तक टीकाकरण की वेक्सीन पहुँचाने का भी काम कर लेता है। इससे वह आराम से 250-300 रूपये की दिन भर में शुद्ध बचत कर लेता है। पहले श्री मेहर मजदूरी करने पर 3000-3500 रूपये महीना ही कमा पाता था। आज वह 7000-9000 रूपये महिना कमा रहा है। जिससे उसके परिवार की आर्थिक स्थिति सुधरी है। अब वह अपने बेटे को प्रायवेट स्कूल में पढ़ा रहा है ताकि उसका बेटा बड़ा होकर सम्मान पूर्वक जिये और अपने भविष्य को नई ऊंचाई पर ले जा सके।
    श्री मेहर एवं उनका परिवार बहुत प्रसन्न एवं खुशहाल है। उसके ई-रिक्शा में यात्रा करने वाले ग्रामीण भी उत्सुक रहते है। ऐसे ग्रामीण युवा जो कुछ करने की इच्छा रखते है, को पाने की प्रेरणा का स्त्रोत भी बना हुआ है श्री मेहर। उसके इस जुनून को मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना ने नई दिशा दी और जीने की राह आसान कर मजदूर से मालिक बना दिया है।

 

 

 

स्वीप पार्टनर्स की बैठक सह उन्मुखीकरण 6 को 

राजगढ़ | 04-जनवरी-2018
 
 
 
 
   मतदाता जागरूकता अभियान के तहत ‘‘स्वीप‘‘ पार्टनर्स विभागों एवं संस्थाओं की जिला स्तरीय बैठक का आयोजन 6 जनवरी 2018 को प्रातः 10:30 बजे से जिला पंचायत के सभा कक्ष में किया जाएगा।
   मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत एवं अध्यक्ष स्वीप श्री प्रवीण सिंह द्वारा संबंधित विभागीय अधिकारियों से मतदाता जागरण के संबंध में अपने विभाग की कार्य योजना सहित बैठक में उपस्थित रहने के निर्देश दिए गए हैं।


एकात्म यात्रा ने तलेन के बावड़ी खेड़ा से राजगढ़ जिले में किया प्रवेश 
जगह-जगह हुआ भव्य स्वागत 
राजगढ़ | 27-दिसम्बर-2017
 
 मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान की विशेष पहल पर आदि गुरू शंकराचार्य की ओंकारेश्वर में स्थापित होने वाली अष्टधातु की 108 फिट उंची मूर्ति के लिये धातु संग्रहण और जन जागरण के लिए उज्जैन से प्रारंभ हुई एकात्म यात्रा ने आज राजगढ़ जिले में तलेन के बावड़ीखेडा़ ग्राम से प्रवेश किया। जिले की सीमा में एकात्म यात्रा के प्रवेश करने पर म.प्र. पर्यटक बोर्ड के चेयरमेन श्री तपन भौमिक, खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के उपाध्यक्ष श्री रघुनंदन शर्मा, पूर्व विधायक एवं जिला अध्यक्ष श्री बद्रीलाल यादव, ब्यावरा विधायक श्री नारायण सिंह पंवार, राजगढ़ विधायक श्री अमर सिंह यादव, नरसिंहगढ़ विधायक श्री गीरीष भंडारी, पूर्व विधायक श्री गौतम टेटवाल, पूर्व विधायक एवं संसदीय सचिव श्री हनुमान प्रसाद गर्ग तथा पूर्व विधायक नरसिंहगढ़ श्री मोहन शर्मा ने अगवानी कर भव्य स्वागत किया।
तलेन में गाजे बाजे से की अगवानी
 
   एकात्म यात्रा का तलेन आगमन पर स्थानीय जनप्रतिनिधियों तथा जनसमुहों ने आए संतो का भव्य स्वागत किया। एकात्म यात्रा में प्रमुख संत स्वामी परमानंद सरस्वती जी के साथ आए साधु-संतो का बावड़ी खेडा से तलेन नगर आगमन पर पहुँचने पर भव्य स्वागत किया गया। यात्रा में आगे महिलाएं कलश लिए चल रही थी। यात्रा के जिले में प्रवेश के दौरान स्थानीय जनप्रतिनिधियों तथा ग्रामीणजनों ने गाजे बाजे, आतिश बाजी एवं फूलों की वर्षा कर एकात्म यात्रा के नगर तलेन में प्रवेश करने पर संत समाज का स्थानीय बस स्टैंड में स्वागत समारोह आयोजित किया गया। यात्रा के प्रवेश के बाद आदि गुरू शंकराचार्य के चित्र पर दीप प्रज्जवलित कर, माल्यार्पण तथा चरण पाद पूजन भी किया गया। यात्रा में आए सभी साधु संतों को स्थानीय जनप्रतिनिधियों एवं जिले के दूर-दराज अंचलों से आए ग्रामीणजनों ने पुष्प माला पहनाकर एवं उनको नमनकर स्वागत किया। 
   इस अवसर पर प्रमुख संत परमानंद सरस्वती जी ने अपने उद्बोधन में आदि गुरू शंकराचार्य के बारे में बताया तथा एकात्म यात्रा के उद्देश्य पर प्रकाश डाला। उन्होंने अपने उद्बोधन में उपस्थित जनसमुदाय को आपस में प्रेम से रहने, लोगो के सुख-दुख में सहभागी बनने की शिक्षा दी। उन्होंने कहा कि देश की संस्कृति के अनुरूप सब एक साथ मिल कर चलें यही एकात्मवाद है। एकात्मवाद से ही देश विश्व गुरू बनेगा। उन्होंने बताया कि देश को एकात्मभाव की आवश्यकता बताई तथा सभी लोगो से भेदभाव, जात-पात, उंच-नीच को दूर कर देश को विश्व गुरू बनाने का संदेश दिया।
   इस अवसर पर म.प्र. पर्यटक बोर्ड के चेयरमेन श्री तपन भौमिक, खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के उपाध्यक्ष श्री रघुनंदन शर्मा, पूर्व विधायक एवं जिला अध्यक्ष श्री बद्रीलाल यादव, ब्यावरा विधायक श्री नारायण सिंह पंवार, राजगढ़ विधायक श्री अमर सिंह यादव, नरसिंहगढ़ विधायक श्री गीरीष भंडारी, पूर्व विधायक श्री गौतम टेटवाल, पूर्व विधायक एवं संसदीय सचिव श्री हनुमान प्रसाद गर्ग तथा पूर्व विधायक नरसिंहगढ़ श्री मोहन शर्मा, कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री प्रवीण सिंह सहित बड़ी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित रहे।



प्रधानमंत्री आवास के हितग्राहियों तक शासन की सभी योजनाएं पहुंचे - कलेक्टर 
समय-सीमा बैठक में दिए निर्देश 
राजगढ़ | 26-दिसम्बर-2017
 
 
   कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा ने निर्देशित किया है कि राजगढ़ अभ्युदय परिकल्पना अंतर्गत जिले के समस्त कार्यलय प्रमुख शासन की योजनाएं प्रधानमंत्री आवास के हितग्राहियों तक पहुंचाएं। प्रधानमंत्री आवास के हितग्राही के बच्चे एवं परिवार स्वस्थ रहें, स्कूल जाने योग्य बच्चे स्कूल जाएं, उनके निवास में विद्युत कनेक्षन रहे, हितग्राही का शिक्षित बच्चा हुनरमंद बने और परिवार शासन की जिस योजना के लिए पात्र है, उस योजना का उसे लाभ मिले तथा वह स्वरोजगार से जुडे ताकि हितग्राही गरीबी रेखा से बाहर निकलकर विकास मुख्य धारा से जुड़े। उन्होंने यह निर्देश आज यहां जिला कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित समय-सीमा बैठक में दिए। इस मौके पर मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री प्रवीण सिंह, अपर कलेक्टर श्री राजेश जैन सहित जिले के समस्त विभागों के कार्यालय प्रमुख मौजूद रहे। 
    उन्होंने मिशन संजीवनी अंतर्गत अब तक गोद लिए बच्चों की संख्या और उनकी देख-रेख की समीक्षा के दौरान निर्देशित किया कि जिले के लगभग 3000 अतिकुपोषित बच्चों के स्वास्थ्य में सुधार और सुपोषण के उद्देश्य से जिले के समस्त अधिकारी और उनका सक्षम अधीनस्थ अमला गोद लें। उन्होंने कहा कि जिले में लगभग 9000 बच्चों के स्वास्थ्य प्रबंधन के लिए गोद लेने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि 3 माह की समुचित देखभाल में जिले से अतिकुपोषित का कलंक समाप्त होगा, सभी अधिकारी इसे गंभीरता से लें। 
    इस अवसर पर उन्होंने प्रभारी मंत्री के लंबित पत्रों, सी.एम. हेल्प लाईन के 100 दिवस एवं 300 दिवस से उपर की लंबित शिकायतों का संतुष्टिकरण के साथ शीघ्र निराकरण करने के निर्देश सभी संबंधितों को दिए। 
    इस अवसर पर उन्होंने प्रदेश सरकार के नवीन कार्यक्रम समाधान एक दिवस के शीघ्र प्रारंभ होने की जानकारी देते हुए अधिकारियों की तैनाती, आवेदन लेने एवं उसी दिन प्रमाण पत्रों के प्रदाय करने की प्रक्रिया बताई तथा प्रबंधक लोक सेवा केन्द्र को आवश्यक प्रशिक्षण सत्र तहसीलवार शीघ्र आयेजित करने के निर्देश भी दिए।
पांच अतिकुपोषित बच्चे कलेक्टर ने लिए गोद (मिशन संजीवनी - पहल जिला प्रशासन की) 
गोद लेने पहुँचे मान्यापुरा, संजीवनी अभिभावक सम्मेलन का शुभारंभ 
राजगढ़ | 21-दिसम्बर-2017
 
 
    कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा ने कहा है कि लाखो-करोड़ो रूपये कमाए और बच्चों की सही देखभाल नही की या बच्चे कुपोषित रह गए तो कमाया धन व्यर्थ है। यह बात आज उन्होंने अतिकुपोषित बच्चों के माता-पिता से ग्राम मान्यापुरा के आंगनवाड़ी केन्द्र में सीधा संवाद करते हुए कही। कलेक्टर श्री शर्मा ने ग्राम मान्यापुरा में जिला प्रशासन की अभिनव पहल मिशन संजीवनी अंतर्गत जिले को अतिकुपोषण से मुक्त कराने हेतु अतिकुपोषित बच्चों के सुपोषण तथा सक्षम व्यक्तियों को निगरानी में देने के उद्देश्य से अतिकुपोषित बच्चों के अभिभावको से मिलने संजीवनी अभिभावक सम्मेलन में पहुँचे थे।
    उन्होंने संजीवनी अभिभावक सम्मेलन का जिले में शुभारंभ करते हुए मान्यापुरा के अतिकुपोषित बच्चे शिवराज, संतोष, प्रदीप, भारत और रामकरण को गोद लिया और उनके सुपोषण एवं स्वास्थ्य की निगरानी तथा सामान्य स्वास्थ्य बच्चे की श्रेणी में लाने की जिम्मेदारी ली। उन्होंने अतिकुपोषित बच्चों के माता-पिता को समझाईस दी कि वे बच्चों को समय पर नाश्ता दें और भोजन दें। प्रतिदिन कम से कम 100 मिलीलीटर गाय का दूध दें। सही तरीके से मालिस हो। उन्हें स्वच्छ पीने का पानी मिले। उन्होंने कहा कि गाय के दूध और अतिरिक्त पोषण आहार की व्यवस्था हेतु आवश्यक व्यय का वहन वे स्वयं करेंगे, किंतु मां-बाप भी अपने दायित्वों एवं कर्तव्यों का भलिभांति निर्वहन करें। तेल मालिस करने, निर्धारित मात्रा में दूध की खुराक देने एवं पूरक पोषण आहार मिलने पर अतिकुपोषित बच्चों की हड्डियां मजबूत और मांसपेषियां मजबूत होंगी उनके वजन में इजाफा होगा तथा बच्चों को अतिकुपोषण से मुक्ति मिलेगी। 
    इस अवसर पर उन्होंने आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, ब्लाक समन्वयक तथा परियोजना अधिकारी एकीकृत बाल विकास परियोजना को मिशन संजीवनी अंतर्गत दिए गए निर्देशों का कड़ाई से पालन करने के निर्देश दिए तथा अतिकुपोषित बच्चों का वजन भी अपने सामने कराया ताकि बच्चे के स्वास्थ्य और वजन की सही निगरानी हो।
    मान्यापुरा आंगनवाड़ी केन्द्र में कुल 14 बच्चे अतिकुपोषित की श्रेणी में पाए गए है। इनमें से 5 बच्चे कलेक्टर श्री शर्मा द्वारा गोद लिए गए और एक-एक बच्चा कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास, ब्लाक समन्वय महिला बाल विकास तथा परियोजना अधिकारी एकीकृत बाल विकास को 2 अतिकुपोषित बच्चे सुपोषण एवं निगरानी हेतु गोद लेने के लिए प्रेरित भी किया। 

 

एकात्म यात्रा में सभीजन सहभागी बने 
एकात्म यात्रा के सफल आयोजन हेतु सरपंचों की बैठक आयोजित हुई 
राजगढ़ | 20-दिसम्बर-2017
 
 जिले में तीन दिवसीय 27, 28 एवं 29 दिसंबर, 2017 को आयोजित एकात्म यात्रा के दौरान आदिगुरू शंकराचार्य जी की अष्टधातु की मूर्ती के निर्माण के लिए प्रतिकात्मक छोटे-छोटे धातु के एक-एक कलश संग्रहित किए जाने जनजागरण अभियान तथा एकात्म यात्रा के जिले में प्रवेश एवं भ्रमण के रूट पर आयोजित होने वाले जनसंवाद, यात्रा के स्वागत, रात्री विश्राम आदि गतिविधियों के सफल एवं व्यवस्थित क्रियान्वयन तथा व्यापक रूप से संबंधित क्षेत्रों में वातावरण निर्माण के लिए जिला पंचायत के सभाकक्ष में जिले के समस्त सरपंचों  की बैठक आयोजित की गई। इस अवसर पर म.प्र.खादी ग्रामोद्योग बोर्ड उपाघ्यक्ष एवं एकात्म यात्रा के जिला प्रभारी श्री रघुनंदन शर्मा, कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा, जन अभियान परिषद की संभागीय समन्वयक सुनीता गुप्ता तथा जिला समन्वयक श्री प्रवीण सिंह पंवार सहित जिले की समस्त जनपदों से मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं सरपंच मौजूद रहे। 
    बैठक में म.प्र.खादी ग्रामोद्योग बोर्ड उपाघ्यक्ष एवं एकात्म यात्रा के जिला प्रभारी श्री रघुनंदन शर्मा ने जिले की समस्त पंचायतों के सरपंचों से कहा कि वे विकास के साथ-साथ सामाजिक दायित्वों का भी निर्वहन करें। एकात्म यात्रा में जिले के सभीजन सहभागी बने तथा आदिगुरू शंकराचार्य के जीवन दर्शन से प्रेरणा लें, के उद्येश्य से आवश्यक प्रचार प्रसार और तैयारियां पूरे मनोयोग करें और संकल्प लें। 
    कलेक्टर श्री शर्मा ने कहा कि एकात्म यात्रा में जिले के सभी समाज और वर्ग के लोग जुडें। सामाजिक समरसता के उद्येश्य से आयोजित एकात्म यात्रा सफलता पूर्वक जिले में संपन्न हो, यह सभी संबंधितजन सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि समस्त सरपंच अपनी-अपनी पंचायत का नेतृत्व करें तथा सभी ग्रामीणजनों की सहभागिता कराएं।
    बैठक में उन्होंने जिले में अतिकुपोषित बच्चों के सुपोषण और जिले को कुपोषण से मुक्त कराने प्रारंभ मिशन संजीवनी की जानकारी दी तथा समस्त सरपंचों को उनकी पंचायत क्षेत्र के कम से कम एक अतिकुपोषित बच्चे को गोद लेने प्रेरित किया एवं जिले से अतिकुपोषण के कलंक को मिटाने सहयोग की अपील की। 

 

नरसिंहगढ़ में एकात्म यात्रा के आयोजन के लिए बैठक संपन्न 

राजगढ़ | 18-दिसम्बर-2017
 
 
 
 
 
   जिले में आदि गुरू शंकराचार्य की मूर्ति के लिए धातु संग्रहण एवं जनजागरण अभियान एकात्म यात्रा 27 दिसंबर 2017 को अमलावर तलेन से प्रवेश करेगी। जो 28 दिसंबर को अपने रूटचार्ट अनुसार सारंगपुर और 29 को जीरापुर, खिलचीपुर तथा राजगढ़ होते हुए ब्यावरा पहुंचेगी। यहां से 30 दिसंबर 2017 को गुना के बीनागंज के लिए रवाना होगी। 
    इस आशय की जानकारी में जिला समन्वयक जनअभियान परिषद श्री प्रवीण सिंह पंवार ने बताया कि नरसिंहगढ़ विकास खंड में एकात्म यात्रा के सफल आयोजन के लिए कुरावर, तलेन, बोडा और नरसिंहगढ़ क्षेत्र के प्रभारियों के साथ बैठक आयोजित की गई। बैठक में राजगढ़ जिले में एकात्म यात्रा प्रभारी एवं म.प्र. राजू खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के उपाध्यक्ष श्री रघुनंदन शर्मा, पूर्व विधायक श्री बद्रीलाल यादव मौजूद रहे।
 

मिशन संजीवनी का शुभारंभ आज 
राजगढ़ | 13-दिसम्बर-2017
 
 
   जिले में 0 से 5 वर्ष के आयु वर्ग के बच्चों में कुपोषण का प्रतिशत अधिक पाया गया हैं। जिले में चिन्हित बच्चों में लगभग 3000 बच्चें अतिकम वजन की श्रेणी में चिन्हित हुए है एवं लगभग 25000 बच्चें कम वजन की श्रेणी में चिन्हित हुए है। इस आशय की जानकारी जिला कार्यक्रम अधिकारी एकीकृत बाल विकास सेवा चन्द्र सेना भिड़े ने बताया कि जिले में बच्चों को कुपोषण से मुक्त कराए जाने हेतु जिला कलेक्टर के मार्गदर्शन एवं जिला प्रशासन के समन्वित प्रयासों से ‘‘मिशन-संजीवनी‘‘ अभियान का शुभारंभ 14 दिसंबर 2017 को अपरान्ह 12 बजे कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में किया जाएगा।

 

 

जनसुनवाई में आए 280 आवेदक 

राजगढ़ | 12-दिसम्बर-2017
 
 
   जिला स्तरीय जनसुनवाई के दौरान जिले के दूर-दराज अंचलों से आए 280 आवेदकों द्वारा अपनी-अपनी समस्याओं से संबंधित आवेदन कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा के समक्ष प्रस्तुत किए गए। उन्होंने आवेदकों से चर्चा की तथा समस्याएं जानी और उनका निराकरण मौके पर ही किया। जनसुनवाई के अवसर पर अपर कलेक्टर श्री राजेश जैन, अनुविभागीय अधिकारी राज्स्व राजगढ़ श्रीमति ममता खेड़े सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी मौजूद रहे।
   आवेदकों में आर्थिक सहायता, उपचार हेतु सहायता, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, राष्ट्रीय परिवार सहायता, राशन नहीं मिलने, प्रधानमंत्री आवास दिलाए जाने, गरीबी रेखा का कार्ड बनवाने, सीमांकन, पानी की समस्या हेतु हेण्डपंप लगवाने, मुआवजा नही मिलने आदि से संबधित आवेदन शामिल रहे।

 

स्वीप गतिविधियों के संबंध में बैठक 13 को 
राजगढ़ | 08-दिसम्बर-2017
 
 
   जिले के समस्त कालेजों, आई.टी.आई. एवं पॉलीटेक्निक कालेज स्तर के सभी नोडल अधिकारियों तथा कार्य कर रहे केम्पस एम्बेसडर एवं विधानसभा स्तरीय स्वीप नोडल अधिकारियों की आवश्यक बैठक कर प्रशिक्षण दिया जाना है। 
   मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत एवं अध्यक्ष स्वीप श्री प्रवीण सिंह द्वारा प्राचार्य एवं नोडल अधिकारी कालेज स्तर शा. स्नातकोत्तर महाविद्यालय को निर्देशित किया है कि वे इस उद्देश्य से 13 दिसंबर 2017 को 11 बजे से प्रशिक्षण कार्यक्रम की संपूर्ण व्यवस्था करें। कार्यक्रम में उप जिला निर्वाचन अधिकारी एवं अध्यक्ष स्वीप उपस्थित रहेंगे। प्रशिक्षण शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय राजगढ़ में दिया जाएगा।

 

जिले की चिट्ठी का प्रसारण आज 

राजगढ़ | 06-दिसम्बर-2017
 
 
   आकाशवाणी भोपाल से राजगढ़ जिले की चिट्ठी का प्रसारण 7 दिसंबर, 2017को प्रात 9.05 बजे से किया जाएगा। इसका आलेख आकाशवाणी एवं दूरदर्शन के संवाददाता श्री कमल खस द्वारा लिखा गया है।

भुगतान में त्रुटि पाए जाने पर अभ्यावेदन प्रस्तुत करे किसान भाई "भावांतर भुगतान योजना" 

राजगढ़ | 29-नवम्बर-2017
 
   जिले में मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजनान्तर्गत चयनित फसलों के पंजीकृत किसानों द्वारा 16 अक्टूबर 2017 से 30 अक्टूबर 2017 की अवधि में मंडी प्रांगण में विक्रय उपज की भावांतर की राशि का भुगतान किया जा चुका है। यदि कृषक भाई उनके द्वारा किये गये भुगतान में कोई त्रुटि पाते है अथवा इस विषय में कोई शिकायत है, तो भुगतान से 15 दिवस में अभ्यावेदन संबंधित स्वप्रमाणित दस्तावेजों बैंक पासबुक की छायाप्रति, भुगतान पत्रक, तौल पर्ची, अनुबंध पत्र आदि के साथ कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा के समक्ष प्रस्तुत कर सकते है। साथ ही शिकायतों के संबंध में जिला स्तरीय भावांतर भुगतान योजना के कंट्रोल रूम (कमरा नंबर 109 कलेक्ट्रेट कार्यालय) के प्रभारी श्री भारत सिंह दूरभाष नंबर 9907030075 पर भी दर्ज करवाकर दस्तावेज प्रस्तुत किये जा सकते है। ऐसे प्राप्त होने वाले समस्त प्रकरणों का निराकरण जिला स्तरीय क्रियान्वयन समिति द्वारा किया जाएगा।

सामान्य उद्यमिता विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम 29 से 

राजगढ़ | 27-नवम्बर-2017
 
    स्टार स्वरोजागर प्रशिक्षण संस्थान आरसेटी 29 नवंबर 2017 से 8दिवसीय सामान्य उद्यमिता विकास प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित कर रहा है। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में जिन ग्रामीण एवं गरीबी रेखा से नीचे जीवनयापन करने वाले युवक-युवतियों के ऋण प्रकरण मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, आर्थिक कल्याण योजना एवं प्रधानमंत्री मुद्रा योजना के अंतर्गत विचाराधीन है या स्वीकृत हो गए है, वे इस प्रशिक्षण कार्यक्रम में भाग ले सकते है। यह प्रशिक्षण पूर्णतः निःशुल्क है। 

मुख्यमंत्री स्वरोजगार एवं कौशल मेले में 1220 का रोजगार एवं प्रशिक्षण हेतु प्रारंभिक चयन 

निजी क्षेत्र की 12 कंपनियों ने लिया भाग छात्रों ने अपने बनाए माडलों का किया प्रदर्शन और विभिन्न विभागों ने लगाई प्रदर्शनी, विभिन्न हितग्राहियों को प्रदान किए गए हितलाभ सम्मेलन में बड़ी संख्या में युवा वर्ग हुए शामिल 
राजगढ़ | 24-नवम्बर-2017
 
 
 
 
 
   जिला मुख्यालय में मुख्यमंत्री स्वरोजगार एवं कौशल सम्मेलन का आयोजन किया गया। इस अवसर पर लगाए गए रोजगार मेले में निजी क्षेत्र की शिवशक्ति वायकाम, ओसवाल डेनिम युनिट, हिन्द सिटेंक्स, एल. एण्ड टी. फाईनेंन्स भोपाल, यशील एवं एकेडमी फार स्कील्स इन्दौर, भोपाल जिलेटिन, भारतीय जीवन बीमा निगम, मेसर्स मधुमिलन सिटेंक्स ब्यावरा, रिलाईबल फर्स्ट अहमदाबाद तथा गेल इन्सटिट्यूट ऑफ स्कील्स गुना सहित कुल 12 कंपनियां नियोजन हेतु शामिल हुई। रोजगार के इच्छुक 2000 से अधिक युवक एवं युवतियों ने अपना रजिस्ट्रेशन कराया। इनमें से 1220 युवक एवं युवतियों को नियोजन हेतु आई निजी कंपनियों द्वारा स्वरोजगार एवं प्रशिक्षण हेतु प्रारंभिक चयन किया गया। स्थानीय स्टेडियम परिसर में आयोजित मुख्यमंत्री स्वरोजगार एवं कौशल सम्मेलन के शुभारंभ अवसर पर आयोजित कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में क्षेत्रीय सांसद श्री रोडमल नागर मौजूद रहे और कार्यक्रम की अध्यक्षता म.प्र. खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के उपाध्यक्ष श्री रघुनंदन शर्मा ने की। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमति गायत्री जसवंत गुर्जर, सारंगपुर विधायक श्री कुंवर कोठार, स्थानीय जनप्रतिनिधि, कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा, अपर कलेक्टर श्री राजेश जैन, महाप्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र श्री वी.के.शर्मा, प्रभारी जिला रोजगार अधिकारी श्री बी.एस.मीणा सहित बड़ी संख्या में युवा वर्ग तथा महिला स्व-सहायता समूह की सदस्य मौजूद रही।
   सम्मेलन में संबोधित करते सांसद श्री नागर ने युवाओं से कहा कि वे जो भी कार्य करें। उसमें विषय विशेषज्ञता जरूर हासिल करें। कुशलता के साथ लक्ष्य को परिणाम मूलक बनाएं। वे डिग्री के साथ हुनर भी रखें तथा रोजगार चाहने वाला नही रोजगार देने वाला बने।
   मध्यप्रदेश खादी ग्रामोद्योग बोर्ड के उपाध्यक्ष श्री रघुनंदन शर्मा ने अपने उद्बोधन में कहा कि शासन की मंशानुसार जिले के युवा आत्मनिर्भर एवं स्वावलंबी बने, के उद्देश्य से ऋण प्रदान करने में बैंकर्स सहयोगी बने। उन्होंने युवा वर्ग से आगे बढ़ने और जिला प्रशासन के ‘‘राजगढ़ अभ्युदय अभियान‘‘ को मूर्तरूप देने की बात कही। उन्होंने युवाओं से मुख्यमंत्री स्वरोजगार एवं कौशल सम्मेलन तथा रोजागर मेला का लाभ लेने, स्वयं का रोजगार स्थापित करने और अपने सपनो को साकार करने की अपील करते हुए कहा कि प्रदेश सरकार उनकी पूरी मदद करेगी। 

न्याय करें और जमीनी स्तर पर न्याय दिखे भी - कलेक्टर 

राजस्व अधिकारियों की बैठक में दिए निर्देश 
राजगढ़ | 22-नवम्बर-2017
 
 
 
 
   
 
   राजस्व अधिकारी अपने क्षेत्र का नियमित भ्रमण एवं निरीक्षण करें। क्रियान्वित योजनाओं की जमीनी हकीकत जानें। राजस्व की दृष्टि से साफ-सुथरा रहे तथा कार्यपालिक दण्डाधिकारी की हैसियत से न्याय करें और जमीनी स्तर पर न्याय दिखे भी। यह बात आज जिला कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित राजस्व अधिकारियों की बैठक में कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा ने कही। इस अवसर पर अपर कलेक्टर श्री राजेश जैन, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व नरसिंहगढ़, राजगढ़, ब्यावरा एवं सारंगपुर, समस्त तहसीलदार सहित जिले की समस्त जनपदों के मुख्य कार्यपालक अधिकारी मौजूद रहे। 
    जिले में पेयजल एवं सिंचाई हेतु पानी की उपलब्धता की समीक्षा के दौरान उन्होंने निर्देशित किया कि पेयजल परीक्षण सबसे जरूरी है। नवीन नलकूप खनन पर लगाए गए प्रतिबंध के मद्येनजर जिले में कोई भी बोरिंग मशीन नही रहें। उन्हे जिले की राजस्व की सीमा से बाहर करें। दोबारा जिले में प्रवेश करने पर जेल भेजने की कार्रवाई सुनिश्चित करें। उन्होंने आदेशों का पालन शक्ति से करने के कडे़ निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि भू-जल स्तर तेजी से नीचे जा रहा है। ग्रीष्म ऋतु में पेयजल संकट की संभावना वाले क्षेत्रों में पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित करने हेतु निजी जल स्त्रोतों का चिन्हाकन करें ताकि आवश्यकता के समय उनका अधिग्रहण किया जा सके।
     इस अवसर पर उन्होंने जिले के शा. स्कूलों के परिसरों में अतिक्रमणों की पहचान करने, अतिक्रमकों को नोटिस जारी करने और नही मानने वाले अतिक्रामकों के अतिक्रमण बलपूर्वक हटाने के निर्देश दिए। सी.एम. हेल्पलाइन एवं जनसुनवाई की समीक्षा के दौरान उन्होंने कहा कि ग्राम पंचायत स्तर तक जनसुनवाई को प्रभावी बनाएं। ग्रामीणों की समस्याएं ग्राम पंचायत स्तर पर ही निराकृत होने पर ग्रामीणों के धन एवं समय की बचत के साथ ही जिला स्तर पर आने वाले आवेदनों एवं सी.एम. हेल्पलाइन में आने वाली शिकायतों में कमी आएगी। इसके साथ ही राजस्व वसूलियों की समीक्षा करते हुए उन्होंने निर्देशित किया कि राजस्व अधिकारी प्रत्येक 15 दिवस में राजस्व वसूली शिविर लगाएं।
    उन्होंने निर्देशित किया कि सामान्य जानकारी के लिए किए जाने वाले घर-घर सर्वे के अभियान में राजस्व अमला और ग्रामीण विकास विभाग का अमला संयुक्त रूप से जुटे तथा इसका पर्यवेक्षण तहसीलदार एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत करें और परस्पर समन्वय से सर्वे कार्य को समय-सीमा में पूरा कराना सुनिश्चित करें। 

चिन्हित सेवाओं को प्रदान करने आवेदन लोक सेवा केन्द्रों के माध्यम से ही लिए जाएं - कलेक्टर 

समय-सीमा बैठक में दिए गए निर्देश 
राजगढ़ | 20-नवम्बर-2017
 
 
 
  
   लोक सेवा प्रदाय गारंटी अंतर्गत प्रदाय की जाने वाली चिन्हित सेवाओं के आवेदन लोक सेवा केन्द्रों के माध्यम से ही लिए जाएं। कोई भी संबंधित विभाग सीधे आवेदन नही लें अन्यथा इसका अर्थ गलत निकलेगा। यह निर्देश आज जिला कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित समय-सीमा की बैठक में कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा ने दिए। उन्होंने दिए गए निर्देशों का कडाई से पालन करना सुनिश्चित करने के निर्देश समस्त कार्यालय प्रमुखों को दिए। उन्होंने समय-सीमा से बाहर हुई नरी पंचायत की दो सेवाओं के मद्येनजर पंचायत सचिव के विरूध्द अर्थदंड अधिरोपित करने के निर्देश भी दिए। उन्होंने कहा कि सुशासन के उद्येश्य से शासन द्वारा निर्धारित प्रक्रिया एवं व्यवस्था का पालन अक्षरशः किया जाए।
   उन्होंने भावांतर भुगतान योजना की समीक्षा के दौरान निर्देशित किया कि योजनान्तर्गत किसानों के बैंक खातों में सीधे राशि प्रेशित किए जाने हेतु नियुक्त नोडल अधिकारियों एवं उनके अधीनस्थ अमला मंडियों में पहुँचकर बारीकी से जांच एवं परीक्षण कर प्रतिवेदन प्रस्तुत करें ताकि कोई भी संबंधित कृषक अनावश्यक रूप से परेशान नही हों।
   इस अवसर पर उन्होंने कहा कि जिला मुख्यालय स्थित स्टेडियम में 24 नवंबर 2017 को मुख्यमंत्री स्वरोजगार मेला सह-कौशल संवर्धन सम्मेलन का आयोजन किया जाना है। सम्मेलन में जिले की प्रभारी मंत्री भी शामिल होगी। उन्होंने निर्देशित किया कि मुख्यमंत्री स्वरोजगार मेला सह-कौशल संवर्धन सम्मेलन के आयोजन एवं व्यवस्थाओं से संबंधित सौंपे गए दायित्वों का निर्वहन समय-सीमा में करना संबंधित अधिकारी सुनिश्चित करें। बैठक में जिले के प्रभारी मंत्री के लंबित पत्रों, सी.एम. हेल्पलाईन, समाधान आनलाईन, जनसुनवाई तथा जनशिकायत निवारण प्रकोष्ठ के लंबित आवेदनों एवं लंबित शिकायतों की समीक्षा के दौरान उन्होंने पत्रों एवं आवेदनों के निराकरण के प्रति गंभीर रहने की सख्त हिदायत समस्त जिला अधिकारियों को दिए।
 

बाल संरक्षण एवं ऊषा किरण योजना की जिला स्तरीय समन्वय बैठक संपन्न 

राजगढ़ | 17-नवम्बर-2017
 
 
 
 
   जिला महिला सशक्तिकरण की समेकित बाल संरक्षण योजना एवं ऊषा किरण योजना की जिला स्तरीय समन्वय बैठक कलेक्ट्रेट परिसर में पुलिस अधीक्षक सुश्री सिमाला प्रसाद की अध्यक्षता में संपन्न हुई। इस अवसर पर जिला अभियोजन अधिकारी, जिला विधिक सहायता अधिकारी, किशोर न्याय बोर्ड के सदस्य, बाल कल्याण समिति के अध्यक्ष एवं सदस्य, चाईल्ड लाईन के सदस्य, प्रभारी एस.जे.पी.यू., जिले के समस्त थानों में पदस्थ बाल कल्याण अधिकारी, शिशु गृह संचालक श्री भगवत सोनी एवं 60 प्रतिभागी उपस्थित रहे।
   बैठक में जिला स्तर पर चल रहीं योजनान्तर्गत गतिविधियों की जानकारी पी.पी.टी. के माध्यम से जिला बाल संरक्षण अधिकारी द्वारा दी गई। कार्यक्रम में उपस्थित सभी प्रतिभागियों द्वारा योजना के प्रभावी क्रियान्वयन हेतु अपने-अपने सुझाव दिए गए। पुलिस अधीक्षक सुश्री प्रसाद द्वारा स्कूलों में एंटी रैंगिंग समिति की तर्ज पर चाईल्ड हेल्प समितियों को भी गठित करने का सुझाव दिया गया।

जनसुनवाई मे आए 175 आवेदक 

राजगढ़ | 10-अक्तूबर-2017
 
 
   जिला स्तरीय जनसुनवाई के दौरान जिले के दूर-दराज अंचलों से आए 175 आवेदकों द्वारा अपनी-अपनी समस्याओं से संबंधित आवेदन कलेक्टर श्री कर्मवीर शर्मा के समक्ष प्रस्तुत किए गए। उन्होंने आवेदकों से चर्चा की तथा समस्याएं जानी और उनका निराकरण मौके पर ही किया। जनसुनवाई के अवसर पर अपर कलेक्टर श्री राजेश जैन, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व राजगढ श्रीमति ममता खेडे सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी मौजूद रहे।
   आवेदकों में आर्थिक सहायता, उपचार हेतु सहायता, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, राष्ट्रीय परिवार सहायता, अधिक विद्युत देयक आने, राशन नहीं मिलने, प्रधानमंत्री आवास दिलाए जाने आदि से संबंधित आवेदन शामिल रहे।

 

 
 

 

 
 
  • Address: Harihar Bhavan Nowgong Dist. Chatarpur Madhya Pradesh  , Mo : 98931-96874 , Email :  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it. Web : www.ganeshshankarsamacharsewa.in