झाबुआ समाचार

 

बुजुर्ग, महिला एवं बच्चे सभी ने आनंद उत्सव में की सहभागिता 
झाबुआ | 16-जनवरी-2018
 
 
 
   जिले में 14 जनवरी से आनंद उत्सव का आगाज हो गया है। ग्राम पंचायत स्तर पर आयोजित आनंद उत्सव में गांव के बुजुर्ग, महिला एवं बच्चों ने उत्साह के साथ भाग ले रहे है।
   ग्राम स्तर पर स्थानीय खेल कबड्डी, खो-खो, 100 एवं 200 मीटर की दौड, कुर्सी दौड़, भजन, गायन, इत्यादि प्रतियोगिताऍ आयोजित की गई। गॉव में आनंद उत्सव के समापन के बाद सामूहिक भोज का आयोजन भी किया गया।
रस्साकशी एवं कबड्डी का हुआ आयोजन
   रामा ब्लाक की ग्राम पंचायत रोटला, कालीदेवी, झाबुआ की मेंहदीखेडा, थांदला की पलासडोर ग्राम पंचायत में आयोजित आनंद उत्सव के दौरान महिलाओं एवं बुजुर्गो की रस्साकशी एवं कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। बुजुर्गो, युवाओं एवं महिलाओं ने आयोजित आनंद उत्सव के दौरान प्रतियोगिता में बढ़-चढ़ कर हिस्सा लेकर आनंद की अनुभूति की।
   पेटलावद ब्लाक के ग्राम जामली दुलाखेडी टेमरियॉ में आनंद उत्सव के दौरान बच्चों ने कबड्डी, खो-खो दौड़ जैसे स्थानीय खेल खेले। उत्सव के दौरान 100 एवं 200 मी. की दौड के साथ ही कुर्सी दौड़ का आयोजन किया गया।

                                                           

ड्रीप सिंचाई से तरबूज की खेती कर नानालाल हुए मालामाल "सफलता की कहानी" 
झाबुआ | 12-जनवरी-2018
 
वैज्ञानिक तकनीको और शासकीय अनुदान का उपयोग एक छोटे कृषक को भी बड़ा बना देता है एक छोटा सा कृषक जिसके पास भूमि तो है लेकिन संसाधन सीमित होने से वह कड़ी मेहनत के बाद भी अपनी आय में वृद्धि नहीं कर पाता है किन्तु जब उसी कृषक को वैज्ञानिक तकनिकों और शासकीय अनुदान का लाभ दिया जाता है,तो वह विकास की अग्रिम पंक्ति में आ जाता है। ऐसा ही हुआ जिले के 30-40 हजार वार्षिक कमाने वाले कृषक श्री नानालाल पिता अम्बाराम पाटीदार के साथ नानालाल ने वैज्ञानिक तकनिकी एवं ड्रीप सिंचाई का उपयोग कर कम पानी होने के बाद भी मार्च-अप्रैल में सिर्फ एक-एकड़ जमीन में तरबूज की खेती कर दो लाख रूपये की आमदनी की एवं 25 बीघा जमीन से सालाना वार्षिक 2-3 लाख रूपये अर्जित कर रहे है। नानालाल क्राप रोटेशन भी करते है, ताकि मिट्टी में पोषक तत्वों की कमी नहीं आये।
    झाबुआ जिले के पेटलावद ब्लाक के ग्राम रायपुरिया में रहने वाले कृषक श्री नानालाल पाटीदार ने शासन से ड्रीप सिंचाई सिस्टम एवं फल सब्जी की फसल का तकनीकि मार्ग दर्शन प्राप्त किया। कृषि भूमि से पारंपरिक फसल उत्पादन से प्रतिवर्ष होने वाली आय 30-40 हजार को बढ़ाकर 2-3 लाख रूपये तक प्रतिवर्ष कर लिया। नानालाल ने अपनी कृषि भूमि में उद्यानिकी विभाग के माध्यम से ड्रीप सिस्टम 25 बीघा भूमि पर लगाया एवं शासन से अनुदान एवं हार्टिकल्चर फसल उत्पादन का प्रशिक्षण प्राप्त कर उद्यानिकी फसल भिण्डी, बैंगन, प्याज, टमाटर, मिर्ची, तरबूज इत्यादि फसल लगाई। इससे उनकी आर्थिक स्थिति सुदृढ हुई।
    ड्रीप इरीगेषन सिस्टम लगाने से पहले वह सिर्फ एक ही फसल कर पाते थे। वह अपने खेत में गेहूँ चना बोते थे, लेकिन सिंचाई के लिए पानी की कमी की वजह से उत्पादन अधिक नहीं हो पाता था। आमदनी बढ़ने से नानालाल ने कृषि कार्य हेतु अपना स्वयं का ट्रेक्टर खरीद लिया है, दो मंजीला पक्का घर बनाया लिया और घर में आवागमन के लिए 11 लाख का चार पहिया वाहन भी खरीद लिया है। बच्चे को अच्छी शिक्षा दिलवाई जिसमें वह बैंक में नौकरी पा सका।
फलिये-फलिये, झोपड़े-झोपड़े जाएगी फलिया नू जात्रा 
विधायक एवं कलेक्टर ने हरी झण्डी दिखाकर किया रवाना 
झाबुआ | 08-जनवरी-2018
 
 झाबुआ जिले में हर व्यक्ति तक पहुंचने एवं उसे पात्रतानुसार शासन की योजना से लाभान्वित करने के उद्देश्य से सुशासन पखवाडे के अंतर्गत नागरिकों एवं क्षेत्रीय शिकायतो/समस्याओं के निराकरण के संबंध में ‘‘फलिंया-नू-जात्रा‘ का आयोजन किया जा रहा है। आज 8 जनवरी 2018 को जात्रा को सफल बनाने के लिए कलेक्टर कार्यालय परिसर से विधायक श्री शांतिलाल बिलवाल, कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना और श्री दौलत भावसार ने जात्रा को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे, एसडीएम श्री के.सी. परते, सीईओ जनपद श्री वर्मा सहित शासकीय सेवक उपस्थित थे। हितग्राहियों को लाभान्वित करने के लिये संपूर्ण जिले में जात्राऍ होगी, इस लिये आज सभी संबंधित जनपद मुख्यालय रामा, पेटलावद, मेघनगर, थांदला, राणापुर से भी जात्रा को जनप्रतिनिधियों द्वारा हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया गया।   
14 विभागो की योजनाओं के बारे में होगी बात
   जात्रा के दौरान शासकीय सेवक घर-घर पहुँचकर 14 विभागो की प्राथमिकता वाली हितग्राही मूलक योजनाओं के बारे में लोगो से बात करेंगे एवं पात्रतानुसार छूटे हुए लोगो को योजना से लाभान्वित किया जाएगा। जिसमें म.प्र. राज्य पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण की  सौभाग्य योजना, मुख्यमंत्री स्थायी पंप कनेक्शन योजना, पोस्ट ऑफिस की सुकन्या सौभाग्य योजना, बचत खाता खुलवाना, सी.एफएल.वित्त/विक्रय रू. 70 रूपये, कृषि विभाग  में साईल हैल्थ कार्ड, प्रधानमंत्री फसल बीमा-15 जनवरी तक, शत-प्रतिशत पंजीयन करना, भावांतर योजना। खाद्य विभाग में प्रधानमंत्री उज्जवल योजना, पात्रता पर्ची सूची प्राप्त करना, पशु चिकित्सा/डेयरी आचार्य विद्या सागर में पशुपालन के प्रकरण तैयार करना, स्व.सहायता समूह के प्रकरण तैयार करना, कुक्कुट पालन के प्रकरण तैयार करना, उद्योग विभाग में स्वरोजगार योजनाओं का पंजीयन, उद्यानिकी विभाग प्रधानमंत्री कृषि सिंचाई योजना, सब्जी विस्तार योजना, महिला बाल विकास विभाग की लाडली लक्ष्मी योजना, आंगनवाडी कार्यकर्त्ता की नियमित उपस्थिति, संझा चूल्हा, स्वास्थ्य विभाग में मैदानी चिकित्सा कर्मियों का मुख्यालय पर निवास, प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना, मिशन इन्द्रधनुष, पल्स पोलियों 0-05 वर्ष, यूडीआईडी निःशक्तजन कार्ड वितरण, लोक स्वास्थ्य यांत्रीकी विभाग की, नल-जल योजना का सत्यापन, घर-घर पानी हो, ग्रामीण विकास विभाग में स्वच्छ भारत मिशन के अंतर्गत मॉर्निंग फॉलोअप, मनरेगा योजना में सभी जरूरतमदों को रोजगार उपलब्ध कराना, संभावित पेंशनरों का चिन्हांकन करना, प्रत्येक पंचायत में दिये टेंकर का उपयोग निर्धारित किराये पर देना। प्रत्येक फलिया में तालाब हेतु जगह का चयन, भवन संनिर्माण एवं कर्मकार मंडल की योजना के प्रकरण, आनंदम साथीदार भवन की स्थापना, ग्राम पंचायत एवं कोटवार की शिकायत की पंजी संधारित करना, राजस्व विभाग के नामांतरण बंटवारा, खसरे बी-1/अतिक्रमण/ वसूली का मौके पर समझौता व निराकरण करना, जनजातीय कार्य विभाग प्रत्येक स्कूल में विद्युतीकरण, प्रत्येक स्कूल में पेयजल की व्यवस्था, वन विभाग में वनाधिकर पट्टो का निराकरण, सभी डिप्टी रेजर्स एवं फारेस्ट गार्ड की उपस्थिति।
   सभी विभाग प्रमुख संबंधित योजनाओं की जानकारी प्रतिदिन गुगलशीट में इन्ट्री करायेगे तथा जानकारी का संकलन जिला स्तर पर किया जावेगा। इस संबंध में जिला स्तर पर कंट्रोल रूम की स्थापना की गई है, जिसका नं. 07392-244201 रहेगा। कंट्रोल रूम के नोडल अधिकारी श्री सुधीर सिंह कुशवाह अवेषक जिला पंचायत समस्त जानकारी का संकलन करेंगे।

 

राजस्व पुस्तक परिपत्र खण्ड 6 क्रमांक 4 में नहीं है प्रावधान 
माननीय चूक पर नही मिलेगी आर्थिक सहायता 
झाबुआ | 04-जनवरी-2018
 
 
 
 
   कलेक्ट श्री आशीष सक्सेना ने बताया कि अनुविभागीय अधिकारी, राजस्व थांदला द्वारा कुमारी सरस्वती पिता दिनेश मुनिया उम्र डेढ वर्ष निवासी ग्राम परवलिया तहसील थांदला जिला झाबुआ की मृत्यु घर के ऑगन में पानी की बाल्टी में डूबने से होने पर राजस्व पुस्तक परिपत्र खण्ड 6 क्रमांक 4 के नवीन संशोधित प्रावधान में दिये बिन्दु क्रमांक-3 के तहत आर्थिक सहायता राशि दिए जाने के संबंध में मार्गदर्शन चाहा गया।
   राजस्व पुस्तक परिपत्र आर.बी.सी. 6-4 कंडिका 5-1 के अनुसार पीडित व्यक्ति को प्राकृतिक प्रकोप में राहत राशि दिये जाने का प्रावधान है। प्राकृतिक प्रकोप वह है, जो मानव नियंत्रण से परे है और जिसमें मानवीय चूक की संभावना नगण्य या नहीं हैं। उपरोक्त घटना में बालिका की मृत्यु घर पर पानी की बाल्टी में डूबने से हुई है जो कि पूरी तरह बच्ची के माता-पिता की लापरवाही है। अतः उक्त बालिका की मृत्यु प्राकृतिक प्रकोप से नहीं होने तथा राजस्व पुस्तक के मापदण्डों में नहीं होने के कारण राहत राशि दिया जाना संभव नहीं है।
फलिये-फलिये गॉव-गॉव लग रही चौपाल 
एकात्म यात्रा के लिए किया जा रहा प्रचार-प्रसार 
झाबुआ | 27-दिसम्बर-2017
 
  आदि शंकराचार्य की अष्ठधातु की मूर्ति के निर्माण के लिए जिले में धातु संग्रहण के लिए 2 से 4 जनवरी 2018 तक गॉव-गॉव फलिये-फलिये उपयात्राऍ निकाली जायेगी। मुख्य यात्रा तीन रात तक जिले में रूकेगी। जिले की सभी 375 ग्राम पंचायतो एवं नगरीय क्षेत्रो के सभी वार्डो से कलश यात्रा निकाली जायेगी सभी कलश एकत्रित कर अन्य जिले के प्रभारी अधिकारी को सौपे जायेगे। एकात्म यात्रा में जिलेवासी आत्मीयता के साथ जुडे़। इसके लिए गॉव-गॉव दीवार लेखन कर एवं आमजन के साथ चौपाल लगाकर प्रचार-प्रसार किया जा रहा हे। आमजन को यात्रा में शामिल होने के लिए प्रचार सामाग्री का वितरण भी किया जा रहा है। 
   इस महत्वकांक्षी यात्रा को सर्वव्यापी बनाने के लिए समाज के हर वर्ग को इससे जोड़ने के लिए जन अभियान परिषद के स्वयं सेवक घर-घर जाकर सामाग्री वितरित कर रहे है। इस अद्वितीय और अदभूत अभियान का नेतृत्व संत गुरू करेगे। आदि शंकराचार्य ने भारत को सांस्कृतिक रूप से एक किया था। उन्होने अद्वत दर्शन दिया और देश की चारो दिशाओं में चार धामों की स्थापना की। ओंकारेश्वर में उनकी विशाल प्रतिमा स्थापित की जायेगी। एकात्म यात्रा के दौरान प्रत्येक पंचायत और नगरो के प्रत्येक वार्डो से धातु के कलश में मिट्टी एकत्रित की जायेगी जिसका उपयोग प्रतिमा के आधार निर्माण में किया जायेगा। 
जिले में संगोष्ठी एवं तीन जनसंवाद कार्यक्रम होगे
   यात्रा का उद्देश्य समाज को एकात्म करना है। प्रदेश के उज्जैन, ओंकारेश्वर, पंचमठा और अमरकंटक से यह यात्रा निकलेगी। यात्रा के दौरान संगोष्ठी एवं जनसंवाद के कार्यक्रम होगे। झाबुआ  जिले मेंचार संगोष्ठी एवं तीन जनसंवाद होगे। पहला जनसंवाद 2 जनवरी को सायं 5 बजे से आजाद चौक झाबुआ में होगा। दूसरा जनसंवाद 3 जनवरी को बावडी मंदिर थांदला में सायं 5 बजे से एवं तीसरा जनसंवाद कार्यक्रम पूर्वान्ह 11 बजे से उत्कृष्ट विद्यालय मैदान पेटलावद में होगा एवं 2 जनवरी को राणापुर ब्लाक के ग्राम वन में वन आश्रम में प्रातः 11 बजे संगोष्ठी होगी, राणापुर में उत्कृष्ट विद्यालय राणापुर में अपरान्ह 3 बजे से दूसरी संगोष्ठी होगी। आगामी 3 जनवरी को उत्कृष्ट विद्यालय मेघनगर में प्रातः 11 बजे से 4 जनवरी को तारखेडी में सायं 5 बजे तारखेडी आश्रम में संगोष्ठी का आयोजन किया जाएगा।
भावान्तर योजना किसानों का सुरक्षा कवच-किसान मोहनलाल "सफलता की कहानी" 
झाबुआ | 29-दिसम्बर-2017
 
 शासन द्वारा खेती को लाभ का धंधा बनाने तथा किसानो को उनकी उपज का सही मूल्य दिलाने के उद्देश्य से प्रारंभ की गई मुख्यमंत्री भावांतर योजना किसानो के लिए  सुरक्षा कवच बनी है। योजना प्रारंभ होने के पूर्व मौसमी उतार चढाव एवं बाजार में फसल के दाम के उतार चढाव के कारण किसान असुरक्षा महसूस करता था। किसान को कभी फायदा तो कभी नुकसान उठाना पडता था। भावांतर योजना ने किसान को नुकसान होने की आशंका से मुक्त कर दिया है। झाबुआ जिले में भावांतर योजनांतर्गत कुल 1078 किसानो ने अपनी फसल मण्डी में बेची और भावांतर भुगतान योजनांतर्गत 7164656 रूपये का भुगतान किसानो के बैंक खातों में किया गया। जिले के पेटलावद विकासखण्ड के के किसान मोहनलाल देवाजी मेडा को भावांतर योजना में 26310 रूपये का भुगतान मिला।
   भावांतर योजना में मिले लाभ से हर्षित झाबुआ जिले के पेटलावद निवासी  श्री मोहनलाल देवाजी मेडा ने बताया कि हमने कभी सोचा नहीं था कि, शासन की भावांतर भुगतान योजना से हमें इतना फायदा होगा। शासन द्वारा समर्थन मुल्य घोषित कर दिये जाने से फसल का दाम बढे या घटे हमें तो समर्थन मूल्य के आधार पर ही उपज के दाम मिलेगे यह सुनिश्चित हो गया था। मण्डी में व्यापारी द्वारा समर्थन मूल्य से कम में फसल को खरीदा गया जिससे मायूसी हुई। पर शासन द्वारा अंतर की राशि जब बैंक खाते में भुगतान की गई तो खुशी का ठिकाना ना रहा। श्री मोहनलाल ने बताया कि उन्होने 56 क्विंटल सोयाबीन का विक्रय पेटलावद मण्डी में व्यापारी को किया एवं रसीद प्राप्त की। शासन की भावांतर योजना में पंजीयन होने से शासन द्वारा 26310 रूपये मेरे बैंक खाते में जमा कर दिये गये। भावांतर भुगतान योजना शासन की किसान हितैषी योजना है। इससे अब किसान की उपज का मण्डी में जो भी भाव मिले किसान को समर्थन मूल्य के बराबर राशि का भुगतान मिल ही जायेगा। शासन की इस योजना ने किसान को सुरक्षा कवच प्रदान किया है। अब खेती घाटे का धंधा नहीं रही। शासन की यह योजना खेती को लाभ का धंधा बनाने में मिल का पत्थर साबित होगी।


नवापाडा की बेटी बनी सहायक जिला जेल अधीक्षक

पारा--गत दिवस मध्यप्रदेश लोकसेवा आयोग के घोषित हुए परिणाम के बाद रामा ब्लाक के पारा क्षेत्र के ग्राम नवापाडा की एक किसान पुत्री ने भी पीएससी परीक्षा मे चयनित होकर क्षेत्र का नाम रोशन किया हे।
प्राप्त जानकारी के अनुसार समिपस्थ ग्राम नावापाडा के आदिवासी किसान राधुसिह चोहान की पुत्री रंभा चोहान का मध्यप्रदेश लोकसेवा आयोग की परिक्षा पास करने बाद सहायक जिला जेल अधिक्षक के पद पर चयन हुआ हे। जिससे पारा क्षेत्र व नवापाडा ग्राम मे हर्ष हे। निरक्षर मां बाप ने पढाई के महत्व को समझते हुए बेटी को खुब पढाया व निरंतर आगे बडने के लिए पे्रात्साहीत करते रहे। रभां ने भी पिछे मुड कर नही देखा व पहली बार मे ही पीएससी की परिक्षा पास कर सहायक जिला जेल अधीक्षक के पद पर चयनित हुई। रंभा चोहान ने बताया की उसका लक्ष्य आईएएस बनने का हे। वह इस के लिए कठीन परिश्रम भी कर रही हे। इस शुभ प्रसंग पर भाजपा युवा मोर्चा पारा मण्डल ने आज प्रातः रभां चोहान व उनके पिता राधुसिह चोहान व माता श्यामा चोहान का पुष्पमाला पहना कर व शाल श्रीफल भेट कर स्वागत व सम्मान किया। इस अवसर पर भाजपा किसान मोर्चा अध्यक्ष सेकुरावत, युवा मोर्चा जिला उपध्यक्ष शुभम सोनी, मण्डल अध्यक्ष राजेश पारगी, मिडिया प्रभारी राजकुमार सरतलीया,रतन सिह डावर, अंतिम भण्डारी,रोमी राज सेन,पलाश कोठारी, मनोज सोनी,मुकेश सोनी,यश चोधरी,़़़त्रतवीक सरतलीया,दिनेश प्रजापत,जयदिप राठोड, सहीत ग्राम नवापडा के धनसिह डावर,रेमसिह,कमलेश आदि सहीत कई किसान उपस्थित थै।


अभा कांग्रेस कमेटी के महासचिव एवं प्रदेष कांग्रेस कमेटी प्रभारी दीपक बावरिया ने किया जिला भ्रमण
जिपं अध्यक्ष के निवास पर बैठक लेकर कार्यकर्ताओं में फूंकी जान
2018 के विधानसभा चुनाव को लेकर भी हुई चर्चा
झाबुआ। अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के राष्ट्रीय महासचिव एवं मप्र कांग्रेस कमेटी के प्रभारी दीपक बावरिया सोमवार को जिले के एक दिवसीय दौर पर आए। इस दौरान उन्होंने विषेष रूप से जिला पंचायत अध्यक्ष सुश्री कलावती भूरिया के निवास पर बैठक लेकर उपस्थित अनेकों कार्यकर्ताओं को चुनाव में जीत का मंत्र देकर उनमें जान फूंकने का कार्य किया। इसके साथ ही इस दौरान आगामी 2018 में आने वाले विधानसभा चुनाव पर भी चर्चा हुई।
राष्ट्रीय महासचिव एवं प्रदेष प्रभारी श्री बावरिया जैसे ही जिला पंचायत अध्यक्ष के निवास पर पहुंचे तो उनका नन्हीं बालिका द्वारा तिलक लगाकर आरती की गई। पश्चात् नगरपालिका परिषद् की ओर से अध्यक्ष श्रीमती मन्नूबेन डोडियार, उपाध्यक्ष रोषनी गेब्रियल डोडियार के साथ पार्षदों में साबिर फिटवेल, रसीद कुरैषी, कु. आयुषी भाबर, मालू डोडियार, अविनाष डोडियार आदि ने श्री बारिया का पुष्पमाला पहनाकर भव्य स्वागत किया। पश्चात् आयोजित बैठक में मुख्य अतिथि के रूप मंे वे उपस्थित थे। इसके अलावा अन्य अतिथियों में जिला पंचायत अध्यक्ष सुश्री कलावती भूरिया, जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता, जिला उपाध्यक्ष डाॅ. विक्रांत भूरिया तथा पूर्व विधायक वालसिंह मेड़ा एवं वीरसिंह भूरिया मौजूद थे।
कार्यकर्ताओं की मेहनत के बिना चुनाव में जीत संभव नहीं
मुख्य अतिथि श्री बावरिया ने कहा कि यदि पार्टी को कोई सा भी चुनाव जीतना है, तो उसमें कार्यकर्ताओ की भूमिका काफी महत्वपूर्ण रहती है। कार्यकर्ताओं की मेहनत, लग्न और निष्ठा के बिना पार्टी चल नहीं सकती है। जिस तरह एक पेड़ की नींव उसकी जड़ होती है, यदि जड़ को काट दिया जाए, तो पेड़ भी स्वतः ही गिर जाएगा, उसी तरह कार्यकर्ता भी पार्टी की जड़ के समान है। इस अवसर पर श्री बारिया ने पार्टी कार्यकर्ताओ को मजबूत बनाने के भी गुर सिखाएं एवं उन्हें हर परिस्थिति में एकजुट रहने का आव्हान किया।
2018 में आने वाले चुनाव पर हुई चर्चा
इस अवसर पर वर्ष 2018 में आने वाले विधानसभा चुनावों पर भी चर्चा हुई एवं मुख्य अतिथि द्वारा उपस्थित समस्तजनों से अभी से ही चुनाव की तैयारियों में जुट जाने को कहा। साथ ही कहा कि पार्टी में किसी को भी टिकीट मिलती है तो उसका कार्यकर्ता विरोध ना करते हुए पार्टी प्रत्याषी के पक्ष में प्रचार-प्रसार हेतु तन-मन से जुट जाएं। यह बैठक करीब एक घंटे तक चली। इस अवसर पर जिला पंचायत उपाध्यक्ष चन्द्रवीरसिंह राठौर लाला, नाथुभाई मिस्त्री, शहर कांग्रेस अध्यक्ष बंटू अग्निहोत्री, मिस्त्री, पूर्व नगर पचंायत अध्यक्ष कैलाष डामोर, जनपद पंचायत अध्यक्ष पति शंकरसिंह भूरिया, रिंकू रूनवाल, विषाल राठौर, एनएसयूआई जिलाध्यक्ष विनय भाबोर, सुरेष समीर, ऋषि डोडियार, सौरभ कोठारी सहित अनेक कार्यकर्ता उपस्थित थे। बाद श्री बावरिया द्वारा झाबुआ से रतलाम के लिए प्रस्थान किया गया।


दिलीप सिंह वर्मा पिस आफ इंडिया मध्य प्रदेश के अध्यक्ष नियुक्त
झाबुआ । समाज सेवी एवं पत्रकार दिलीप सिंह वर्मा को पिस आफ इंडिया की मध्य प्रदेश ईकाई का प्रदेशाध्यक्ष नियुक्त किया गया है।
पिस आफ इंडिया के आल इंडिया प्रेसिंडेट विशाल भारद्वाज ने दिलीप सिंह वर्मा की नियुक्त करते हुए उन्हे मध्य प्रदेश में पिस आफ इंडिया की ईकाई का गठन करने एवं प्रदेश में इसके विस्तार के लिये भी कहां है।
दिलीप सिंह वर्मा को मध्य प्रदेश पिस आफ इंडिया का प्रदेशाध्यक्ष बनाये जाने पर गुजरात के पिस आफ इंडिया के अध्यक्ष विनोद सोलंकी,भारतीय पत्रकार संघ के अध्यक्ष प्रमोद एस.धाडेकर,भारतीय पत्रकार संघ के प्रदेश संयोजक सलिम सेरानी,इंदौर संभाग के युवा अध्यक्ष निलेश भानपुरिया,प्रदेश उपाध्यक्ष मनोज उपाध्याय,मानवअधिकार के प्रदेशअध्यक्ष ललीत पारिक,झाबुआ जिला प्रेस क्लब अध्यक्ष मनोज मेहता,निमाड संघ के अध्यक्ष संजय रोकडे,सहित पत्रकारों एवं इष्ट मित्रों ने वर्मा की नियुक्त पर हर्ष व्यक्त करते हुए दिलीप वर्मा को बधाईयां दी है।
दिलीप सिंह वर्मा ने बताया की वे शिघ्र ही प्रदेश में पिस आफ इंडिया की प्रदेश कार्यकारिणी का गठन करेगें । आपने प्रदेश में पिस आफ इंडिया की युवा प्रकोष्ठ पद पर तत्काल रूप से आकाशदीपसिंह राठौर की नियुक्त की है । और शिघ्र ही महिला प्रकोष्ठ और किसान प्रकोष्ठ के प्रदेशाध्यक्ष पदों पर भी नियुक्ती की जावेगी।
दिलीप सिंह वर्मा ने बताया की पिस आफ इंडिया देश में शांति,अमन और भाईचारे के साथ ही समाज सेवा के क्षेत्र में कार्य करने वाली अग्रणी संस्थाओं में से एक है और दिशा में मध्य प्रदेश में भी इसके सेवा कार्यो का विस्तार किया जावेगा।

भाजपा किसान मोर्चा की एक दिवसीय कार्यशाला थांदला में
झाबुआ। भारतीय जनता किसान मोर्चा झाबुआ में म0प्र0 शासन के यशस्वी मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चैहान एवं प्रदेश अध्यक्ष माननीय नंदकुमारसिंह चैहान के निर्देशों पर किसान मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष श्री रणवीरसिंहजी रावत के मार्गदर्शन में किसान मोर्चा झाबुआ की एक दिवसीय कार्यशाला दिनांक 27.12.2017 को कृषि मंडी प्रागंण थांदला में आयोजित की जावेगी इसमें मुख्य अतिथि के रुप में प्रदेश किसान मोर्चा के प्रदेश महामंत्री श्री कैलाशजी पाटीदार एवं विशेष आतिथ्य में भाजपा जिलाध्यक्ष दौलतभावसार ,सीसीबी चेयरमेन गोरसिंह वसुनिया विधायक पेटलावद सुश्री निर्मला भुरिया, विधायक थांदला कलसिंह भाभोर, विधायक झाबुआ श्री शांतीलाल बिलवाल मार्गदर्शन के रुप में उपस्थित रहेगे।
उक्त कार्यशाला को सफल बनाने के लिये भाजपा किसान मोर्चे के अध्यक्ष श्री छगनलालजी जायसवाल किसान मोर्चे के जिला महामंत्री श्री कलमसिंह भाबोर एवं नाथुसिंह पाटीदार सहित जिला पदाधिकारीयो ने किसान मोर्चे के जिलापदाधिकारी जिला कार्यकारिणी सदस्य एवं मंडल पदाधिकारी एंव मंडल कार्यकारिणी सदस्यो के साथ जिले की तीनो कृषि मंडी के अध्यक्ष उपाध्यक्ष एवं सदस्यो से आव्हान किया है कि वे अधिक से अधिक संख्या में किसानो को कार्यशाला में लेकर पहुचे ओर कार्यशाला को सफल बनाने में सहयोग करे उक्त जानकारी किसान मोर्चे के मिडिया प्रभारी आशिष शर्मा ने दी।


जिला के हर व्यक्ति उपभोक्ता है ओर उपभोक्ताओ के अधिकारो के लिये उसे जागरुक होना पडेगा - दौलत भावसार जिलाध्यक्ष भाजपा
झाबुआ। अंर्तराष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस के अवसर पर जिला खाद्य विभाग एवं जिला चिकित्सा विभाग द्वारा संयुक्त रुप से स्थानीय बंसत कालोनी झाबुआ मार्केटिग परिसर मे जिला स्तरीय उपभोक्ता दिवस का आयोजन किया गया इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रुप में क्षेत्रीय विधायक शांतीलाल बिलवाल, तथा कार्यक्रम की अध्यक्षता भाजपा जिलाध्यक्ष दौलत भावसार ने की। विशेष अतिथि के रुप में श्री जयंत वैरागी श्री नरुददीन बोहरा, श्री सिसोदिया मुकुल सक्सेना जिला खाद्य अधिकारी श्री ठुठवे श्री चैहान एवं एस डी ओ पी परिहार ने भी उपस्थिति दर्ज कराते हुए उपस्थित जनो का मार्गदर्शन किया।कार्यक्रम की अध्यक्षता कर रहे भाजपा जिलाध्यक्ष श्री दौलतभावसार ने संबोधित करते हुए कहा कि अखिल भारतीय उपभोक्ता दिवस पर इस आयोजन की सार्थकता जब सिद्व होगी जब हर वर्ग ओर हर क्षैत्र का नागरिक इस सम्मेलन मे सम्मिलित हो क्योकि जिले का प्रत्येक नागरिक वस्तु विनियम से जुडा है। जो भी नागरिक किसी भी व्यापारी से वस्तु क्रय कर उसे दाम देता है तो वह उपभोक्ता की श्रेणी में आ जाता है ओर शासन द्वारा उपभोक्ताओ का शोषण न हो इसलिये कडे कानुन बनाये गये है। उन कानुनो का उन्हे ज्ञान नही होने से वे शोषण के पात्र बन जाते है परंतु अब उपभोक्ताओ में इस प्रकार के आयोजन से निरंतर जागरुकता आ रही है। यदि कोई व्यक्ति उपभोक्ताओ का शोषण करता है तो उपभोक्ताओ को कानुन की गोली दागकर उसे सजा दिलाने का जतन करना चाहिए।इस अवसर पर क्षैत्रीय विधायक श्री बिलवाल ने भी संबोधित करते हुए कहा कि आज हर क्षैत्र में उपभेाक्ता जागरुक होता जा रहा है उपभोक्ता के प्रति जिले में प्रदेश में एवं देश में कार्यरत कई कंपनीया उपभोक्ताओ को उन्हे प्रदत्त सुविधाएॅ पहुचाने के लिये सक्रिय भुमिका अदा कर रही है। उपभोक्ता सरकार द्वारा उपभोक्ता ॅफोरम का भी गठन किया जाकर उपभोक्ताओ को कानुनी मदद प्रदान की जारही है। उपभोक्ताओ को भी अपने अधिकारो के प्रति सजग रहकर अपना शोषण नही होने देना चाहिए। इस अवसर पर कार्यक्रम के मुख्य अतिथि एवं भाजपा जिलाध्यक्ष द्वारा ग्रामीण क्षैत्रो की हितग्राहि महिलाओ को उज्जवला योजना के तहत चार सिलेंडरो का भी वितरण किया गया। इस अवसर पर 29 दिसंबर को रिटायर हो रहे एस डी ओ पी श्री परिहार का उपस्थित अतिथियो एवं स्पोर्टस क्लब के सदस्यो द्वारा उन्हे शाल श्रीफल व हार पहनाकर कर उनका अग्रिम बिदाई समारोह कर प्रतीक चिन्ह देकर सम्मान किया गया। कार्यक्रम का संचालन खाद्य इंस्पेक्टर श्री गामड द्वारा किया गया। ओर आभार प्रदर्शन जिला चिकीत्सा अधिकारी श्री चैहान द्वारा किया गया ।

एकात्म यात्रा के लिए विधायक एवं समाज जनो ने बनाई कार्य योजना 
झाबुआ | 22-दिसम्बर-2017
 
 आदि शंकराचार्य की अष्ठधातु की मूर्ति के निर्माण के लिए जिले में धातु संग्रहण के लिए 2 से 4 जनवरी 2018 तक गॉव-गॉव फलिये-फलिये उपयात्राएं निकाली जायेगी। मुख्य यात्रा तीन रात तक जिले में रूकेगी। जिले की सभी 375 ग्राम पंचायतो एवं नगरीय क्षेत्रो के सभी वार्डो से कलश यात्रा निकाली जायेगी सभी कलश एकत्रित कर अन्य जिले के प्रभारी अधिकारी को सौपे जायेंगे। एकात्म यात्रा में जिलेवासी आत्मीयता के साथ जुडे़। इसके लिए गॉव-गॉव दीवार लेखन कर एवं आमजन के साथ चौपाल लगाकर प्रचार-प्रसार किया जा रहा हे। आमजन को यात्रा में शामिल होने के लिए प्रचार सामाग्री का वितरण भी किया जा रहा है। आज विधायक झाबुआ श्री शांतिलाल बिलवाल एवं अन्य सामाजिक संगठनो के प्रतिनिधियो ने चर्चा कर कार्ययोजना बनाई। बैठक में नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती मनुबेन डोडियार जिला समन्वयक जन अभियान परिषद श्री ठाकुर सहित ब्लाक स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।
   इस महत्वाकांक्षी यात्रा को सर्वव्यापी बनाने के लिए समाज के हर वर्ग को इससे जोडे़ने के लिए जन अभियान परिषद के स्वयं सेवक घर-घर जाकर सामाग्री वितरित कर रहे है। इस अद्वितीय और अदभूत अभियान का नेतृत्व संत गुरू करेंगे। आदि शंकराचार्य ने भारत को सांस्कृतिक रूप से एक किया था। उन्होंने अद्वत दर्शन दिया और देश की चारो दिशाओं में चार धामों की स्थापना की। ओंकारेश्वर में उनकी विशाल प्रतिमा स्थापित की जायेगी। एकात्म यात्रा के दौरान प्रत्येक पंचायत और नगरो के प्रत्येक वार्डो से धातु के कलश में मिट्टी एकत्रित की जायेगी जिसका उपयोग प्रतिमा के आधार निर्माण में किया जायेगा। 
पिपलखुटा में लोक कल्याण शिविर संपन्न 
झाबुआ | 20-दिसम्बर-2017
 
  ग्राम पिपलखुटा जनपद पंचायत मेघनगर में आज लोक कल्याण शिविर आयोजित कर ग्रामीणो को शासन की योजनाओं की जानकारी दी गई। शिविर में विधायक श्री कलसिंह भाभर, सीईओ जिला पंचायत श्रीमती जमुना भिडे, एसडीएम श्री अली सीईओ जनपद श्री रावत सहित जनप्रतिनिधि शासकीय सेवक एवं ग्रामीण जन उपस्थित थे। शिविर में शासकीय योजनाओं की जानकारी दी गई एवं प्राप्त आवेदनो का निराकरण किया गया। 
अविवादित बंटवारे का ठहराव प्रस्ताव ग्राम पंचायत में करे
    चर्चा के दौरान विधायक श्री कलसिंह भाभर ने ग्रामीणो से कहा कि ग्रामीणजन अपने अविवादित बंटवारे के प्रकरण में ग्राम पंचायत का ठहराव प्रस्ताव कर पंचायत की सील से बंटवारा प्रकरण पटवारी को भेजे। ग्राम पंचायत के प्रस्ताव में किये गये। बंटवारे अनुसार ही जमीन का नक्शा, बी-1 राजस्व रिकॉर्ड में दर्ज किया जाएगा। 
    शिविर में ग्रामीणो को बताया गया कि लड़का लड़की दोनो को पढ़ाये ताकि जिले के बच्चे डॉक्टर इंजीनियर एवं प्रशासनिक ऑफीसर बन सके। जिन बच्चों की पढ़ाई में रूचि है, उनकी शिक्षा व्यवस्था के लिए भी सरकार द्वारा सब तरह से सहयोग किया जा रहा है। एवं ऐसे बच्चे जो पढ़ाई में कमजोर है एवं आगे पढ़ना नही चाहते ऐसे बच्चे भी निराश न हो शासन द्वारा उनको स्वरोजगार के लिए मुख्य मंत्री कौशल विकास योजना एवं मुख्यमंत्री कौशल्या योजना में रोजगार के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है। प्रशिक्षण के बाद स्वयं का कारोबार करने के लिए बैंक से ऋण की व्यवस्था भी सरकार द्वारा करवाई जाएगी। 
    18 वर्ष उम्र होने पर ही करे विवाह एवं सहायता योजना में 25 हजार पाये
    ग्रामीणो से चर्चा के दौरान बताया गया कि गॉव के मजदूर शासन की भवन सह अन्य निर्माण कर्मकार मण्डल योजना में पंजीयन करवाये एवं योजना का लाभ ले। कर्मकार मण्डल योजना में लड़की का विवाह करने के लिए 25 हजार रूपये प्रति कन्या अनुदान दिया जाता है। योजना का लाभ लेने के लिए 18 वर्ष से अधिक उम्र में लड़की का विवाह करे। शिविर में ग्रामीणो से जिले में 2 से 4 जनवरी तक आयोजित होने वाली एकात्म यात्रा में सम्मिलित होने के लिए आह्वान किया।
मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना से अब आदर्श कह सकेगा मन की बात "सफलता की कहानी" 
झाबुआ | 18-दिसम्बर-2017
 
 
 
   शासन की जनकल्याणकारी योजना से गरीब जरूरतमंद लोगो के वे सपने भी साकार हो रहे है, जिनके आर्थिक तंगी के कारण साकार होने की वे कभी उम्मीद भी नहीं करते। ऐसा ही हुआ पेटलावद ब्लाक के ग्राम करवड निवासी 6 वर्षीय आदर्श के पिता विजय के साथ। शासन की मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना ने उनकी नाउम्मीद को उम्मीद में बदल दिया। झाबुआ जिले के पेटलावद ब्लाक के ग्राम करडावद के विजय मिस्त्री ने चर्चा के दौरान बताया कि वे एक सामान्य परिवार से है। परिवार का जीवनयापन खेती बाडी करके करते है। घर में 6 वर्ष पहले बेटा, पैदा हुआ, तो खूब जश्न मनाया गया। रिश्तेदार एवं परिवार जनों ने खुशिया मनाई, लेकिन खुशियां उस समय मायूसी में बदल गई जब पता चला कि बेटा आदर्श जन्म से गूंगा एवं बहरा है। जिसके कारण वह बोल व सुन नहीं पाएगा। बच्चे के भविष्य को लेकर रिश्तेदार एवं परिवार जन हमेशा चिंतित रहते थे और परिवार की खुशियां मायूसी में बदल गई।हमारे पास इतना पैसा नहीं था कि हम बच्चे का ऑपरेशन करवा पाते। फिर शासन की मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना से उम्मीद की किरण जागी। एक बार गांव में स्वास्थ्य विभाग की आरबीएसके टीम आयी और आंगनवाडी में हम गये तो वहां बच्चे का परीक्षण किया गया और बताया गया कि इसका ईलाज हो सकता है और वह भी निःशुल्क आरबीएसके में मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना के अंतर्गत बच्चे का ऑपरेशन हो जायेगा और आपका बेटा आदर्श भी दूसरे सामान्य बच्चो की तरह बोल व सुन सकेगा। आरबीएसके की टीम के डॉ. के द्वारा समझाने पर ऑपरेशन करवाया और जैसे ही पहली बार 6 वर्षीय आदर्श की आवाज कानो में पडी और उसने मेरी बात को सुना तो आखो में खुशी के आंसू छलक आये। आज आदर्श सुन एवं बोल सकता है। यह संभव हुआ है मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना से यह योजना हमारे जैसे माध्यमवर्गीय परिवार के लिए वरदान है। मुख्यमंत्री बाल श्रवण योजना नहीं होती तो शायद आदर्श की आवाज सुनने का सपना कभी साकार नहीं होता।
 
किसान फसल में उर्वरक का छिड़काव करें 
झाबुआ | 14-दिसम्बर-2017
 
 
 
 
   कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ द्वारा किसानो को सलाह दी गई है कि आगामी 5 दिवसों में आसमान में छिटपुट से साफ बादल रहने, तापमान सामान्य रहने व वर्षा नहीं होने की संभावना है। इसे देखते हुए किसान भाई में फसल में उर्वरक का छिड़काव करें एवं आवश्यकतानुसार सिंचाई करें। कपास की फसल में रसचूसक कीट के नियंत्रण के लिये इमिडाक्लोप्रिड या थायोमिथाक्सिन दवा 0.35-0.45 ग्राम/ली की दर से छिड़काव करें।
गौ संवर्धन योजना से बालसिंह की आय हुई 6 लाख सालाना (सफलता की कहानी) 
झाबुआ | 13-दिसम्बर-2017
 
 
   गरीब किसानो के जीवन में खुशहाली लाने के लिए फसल उत्पादन के साथ-साथ पशुपालन के लिए शासन द्वारा संचालित योजनाओ से किसानो की आय में वृद्धि हो रही है एवं उनके जीवन स्तर में भी सुधार हो रहा है।
   झाबुआ जिले के रामा ब्लाक के ग्राम बलोला बडी के किसान बालसिंह सुमेरसिंह मसानिया के जीवन में आचार्य विद्यासागर गौ-संवर्धन डेयरी योजना वरदान बनकर आई और उन्हें सामान्य किसान से धनवान लखपति किसान बना दिया। पशु पालन विभाग द्वारा संचालित आचार्य विद्यासागर गौ-संवर्धन डेयरी योजना के बारे में जानकारी देते हुए बालसिंह ने बताया कि वे एक सामान्य किसान की तरह भूमि पर सिर्फ फसल उत्पादन करते थे, फसल उत्पादन से होने वाली आमदनी से जैसे-तैसे जीवनयापन हो रहा था, फिर उन्हे पशु चिकित्सा विभाग द्वारा संचालित योजना के बारे में पता चला और संगोष्ठी में वैज्ञानिक की परिचर्चा में भाग लेने पर पता चला कि कैसे फसल उत्पादन के साथ पशुपालन व्यावसाय आसानी से किया जा सकता है। बालसिंह ने बताया कि फिर उन्होने पशु चिकित्सा विभाग में संपर्क कर पशु चिकित्सक से इस योजना का आवेदन प्राप्त कर जानकारी भर कर बैंक ऑफ बडौदा शाखा पारा विकास खण्ड रामा में प्रस्तुत किया। पशुपालन के लिए आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन डेयरी योजना में 6.40 लाख रूपये ऋण स्वीकृत हुआ व 2.00 लाख रूपये पशु पालन विभाग द्वारा अनुदान दिया गया। जिससे गुजरात के कच्छ व भुज क्षैत्र से 10 दुधारू मुर्रा भैंसें उन्होने क्रय की एवं खेत में भैसो को खिलाने के लिए हरा चारा का उत्पादन शुरू किया साथ ही फसल से निकलने वाले भूसे  एवं अन्य फसल अपशिष्टो का भी भैसो के आहार के रूप में उपयोग किया।  
   वर्तमान में भैंसों द्वारा लगभग 80 लीटर दुग्ध प्रतिदिन दिया जा रहा है जिसे सहकारी दुग्ध संघ में दुग्ध विक्रय कर प्रतिदिन राशि रूपये 4000/-  प्राप्त  होते है। प्रतिमाह 60.000 रूपये का लाभ प्राप्त हो रहा है, जिसमें 15000/- रूपये प्रतिमाह बैंक ऋण की किश्त जमा हो जाती है।
   योजना से बालसिंह सुमेरसिंह मसानिया की आय 10 हजार प्रतिमाह से बढकर 60 हजार प्रतिमाह हो गई और इस वर्ष औसत 6 लाख शुद्ध लाभ हुआ। बालसिंह ने बताया कि योजना किसानो के लिए बहुत अच्छी है एवं इससे उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है वर्तमान में मेरे पास 10 पशु है भविष्य में दुधारू पशुओं की संख्या बढ़ाकर बड़े स्तर पर डेयरी फार्म एवं दुग्ध उत्पादन का  काम करूगॉ एवं इस योजना का लाभ अन्य पशु पालकों को लेने के लिये भी प्रेरित करूगा। बालसिंह आस पास के किसानो को भी पशु पालन की जानकारी दे रहे है। ताकि वे भी पशु पालन कर उन्नत किसान बन पाये।
जिला विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति की बैठक 13 दिसम्बर को 
झाबुआ | 12-दिसम्बर-2017
 
 
    श्री कांतिलाल भूरिया सांसद लोकसभा क्षेत्र रतलाम की अध्यक्षता में जिला विकास समन्वय एवं मूल्यांकन समिति की बैठक 13 दिसम्बर को प्रातः 11.00 बजे कलेक्टर कार्यालय सभाकक्ष झाबुआ में आयोजित की जाएगी।
    बैठक में अपने विभाग से संबंधित जानकारी लेकर उपस्थित होने एवं विभाग से संबंधित जानकारी पावर पाईट में तैयार कर फोल्डर साथ लाने के लिए कलेक्टर श्री आशीष सक्सेना ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये है। 
महिला आयोग के माध्यम से जिले में चल रही कई गतिविधियां 
महिलाओ को अधिकारों के प्रति सजग रहने की आवश्यकता 
झाबुआ | 11-दिसम्बर-2017
 
 
   वर्तमान में शासन-प्रशासन, समाज तथा आम जनमानस में महिलाओं के प्रति सम्मान बढ़ा है। वहीं कई अधिनियमों तथा योजनाओं के माध्यम से महिलाओं को आगे बढाने तथा प्रोत्साहित करने के कार्य निरंतर किए जा रहे है। उक्त विचार व्यक्त करते हुए अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रचना भदौरिया ने कहां कि जापान में हिरोशिमा तथा नागासाकी पर परमाणु हमले के बाद अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर मानव के अधिकारो के संबंध में विस्तृत चर्चा हुई। 1948 में संयुक्त राष्ट्र संघ द्वारा मानव अधिकार आयोग का गठन करने का निर्णय लिया। पुलिस विभाग में मानव अधिकारो के संबंध में कई प्रशिक्षण दिए जा रहे है। हमारा प्रमुख लक्ष्य है कि किसी भी स्थिति में किसी भी मानव एवं विशेष कर महिलाओ के अधिकारों का हनन नहीं होना चाहिए। अवसर पर आंगनवाडी कार्यकर्ता, सहित जन अभियान परिषद के प्रशिक्षणार्थी उपस्थित थें। संचालन प्रकाश ने किया। आभार दयाराम मुवेल ने माना।
   महिला सशक्तिकरण विभाग द्वारा विगत 10 दिसम्बर को जन अभियान परिषद के माध्यम से आयोजित कार्यक्रम में महिलाओं के अधिकार, पर चर्चा की गई महिला सखी अर्चना राठौर ने बताया कि वर्तमान में महिला आयोग की प्रदेश अध्यक्ष लता वानखड़े के नेतृत्व में महिला आयोग पूरे प्रदेश में सक्रियता से कार्य कर रहा है। प्रत्येक जिले में आयोग द्वारा महिला सखी की नियुक्ति की गई है, जो महिलाओं के अधिकारों की लड़ाई के साथ विभिन्न गतिविधियों को संचालित करती है, जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी आरएस बघेल तथा महिला एवं बाल कल्याण अधिकारी चौहान ने बताया कि ग्रामीण क्षेत्रो तक महिलाओं के अधिकारो, हित संरक्षण तथा उन्हें सहयोग देने के लिए प्रत्येक पंचायत स्तर पर महिला शक्ति समिति तथा शौर्य दल का गठन किया गया है। इसमें महिला जन प्रतिनिधि सहित ग्राम की अग्रणी महिलाओं तथा सामाजिक सेवाओं से जुड़े पुरूषों को सदस्य बनाया गया है। 
   समाजसेवी यशवंत भण्डारी एवं एमएल फुलपगारे ने कहा कि महिलाएं अपने कर्तव्य के प्रति सजग तथा समर्पित नहीं होगी, तब तक उनके पास अधिकार नहीं आएंगे। अपने अधिकारो को जाने और उनको पाने के लिए संघर्ष जारी रखे। जो व्यक्ति अपने कार्य ईमानदारी से पूरे करता है, उसकी ईश्वर भी मदद करता है। उसके आत्मबल से उसे कोई भी अधिकार मांगने की आवश्यकता नहीं होती है, स्वतः ही उसे प्राप्त हो जाती है।

 

गौ संवर्धन योजना ने वरदीचंद को सामान्य किसान से बनाया धनवान 
झाबुआ | 08-दिसम्बर-2017
 
 
  
   गरीब किसानो के जीवन में खुशहाली लाने के लिए फसल उत्पादन के साथ-साथ पशुपालन के लिए शासन द्वारा संचालित योजनाओं से किसानो की आय में वृद्धि हो रही है एवं उनके जीवन स्तर में भी सुधार हो रहा है।
   झाबुआ जिले के रामा ब्लाक के किसान वरदीचंद पिता रघुनाथ पंचाल के जीवन में आचार्य विद्यासागर गौसंवर्धन डेयरी योजना वरदान बनकर आई और उन्हें सामान्य किसान से धनवान लखपति किसान बना दिया। पशु पालन विभाग द्वारा संचालित आचार्य विद्यासागर गौसंवर्धन डेयरी योजना के बारे में जानकारी देते हुए वरदीचंद ने बताया कि वे एक सामान्य किसान की तरह भूमि पर सिर्फ फसल उत्पादन करते थे, फसल उत्पादन से होने वाली आमदनी से जैसे-तैसे जीवनयापन हो रहा था, फिर उन्हे पशु चिकित्सा विभाग द्वारा संचालित योजना के बारे में पता चला और संगोष्ठी में वैज्ञानिक की परिचर्चा में भाग लेने पर पता चला कि कैसे फसल उत्पादन के साथ पशुपालन व्यावसाय आसानी से किया जा सकता है। वरदीचंद ने बताया कि फिर उन्होने पशु चिकित्सा विभाग में संपर्क कर पशु चिकित्सक से इस योजना का आवेदन प्राप्त कर जानकारी भर कर बैंक ऑफ बडौदा शाखा पारा विकास खण्ड रामा में प्रस्तुत किया। पशुपालन के लिए आचार्य विद्यासागर गौ संवर्धन डेयरी योजना में 6.90 लाख रूपये ऋण स्वीकृत हुआ व 1.50 लाख रूपये पशु पालन विभाग द्वारा अनुदान दिया गया। जिससे गुजरात के कच्छ व भुज क्षैत्र से 10 दुधारू मुर्रा भैंसें उन्होने क्रय की एवं खेत में भैसो को खिलाने के लिए हरा चारा का उत्पादन शुरू किया साथ ही फसल से निकलने वाले भूसे एवं अन्य फसल अपशिष्टो का भी भैसो के आहार के रूप में उपयोग किया।  
   वर्तमान में भैंसों द्वारा लगभग 70 लीटर दुग्ध प्रतिदिन दिया जा रहा है जिसे सहकारी दुग्ध संघ में दुग्ध विक्रय कर प्रतिदिन राशि रूपये 2800/-  प्राप्त किये होते है। प्रतिमाह राशि रूपये 42000/- का लाभ प्राप्त हो रहा है, जिसमें से 15000/- रूपये प्रतिमाह बैंक ऋण की किश्त जमा हो जाती है।
   योजना से वरदीचंद की आय 10 हजार प्रतिमाह से बढकर 42 हजार प्रतिमाह हो गई। वरदीचंद ने बताया कि योजना किसानो के लिए बहुत अच्छी है एवं इससे उनकी आर्थिक स्थिति में सुधार हुआ है वर्तमान में मेरे पास 10 पशु है भविष्य में दुधारू पशुओं की संख्या बढाकर बडे स्तर पर डेयरी फार्म एवं दुग्ध उत्पादन का  काम करूगॉ एवं इस योजना का लाभ अन्य पशु पालकों को लेने के लिये भी प्रेरित करूगा। वरदीचंद आस पास के किसानो को भी पशु पालन की जानकारी दे रहे है। ताकि वे भी पशु पालन कर उन्नत किसान बन पाये।

 

 

 


 

 

 

 

 

 

  • Address: Harihar Bhavan Nowgong Dist. Chatarpur Madhya Pradesh  , Mo : 98931-96874 , Email :  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it. Web : www.ganeshshankarsamacharsewa.in