जबलपुर समाचार

                                             

हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्डरी स्कूल के प्राचार्यों की बैठक 11 को 
जबलपुर | 08-जनवरी-2018
 
  जिले में स्थित सभी शासकीय एवं अशासकीय हाई स्कूल और हायर सेकेण्डरी स्कूलों के प्राचार्यों की बैठक 11 जनवरी को पं. लज्जाशंकर झा उत्कृष्ट विद्यालय के आडिटोरियम में अलग-अलग पालियों में होगी। जिला शिक्षा अधिकारी के अनुसार दोपहर 12 बजे से 2 बजे तक आयोजित पहली पाली में सभी अशासकीय स्कूलों के प्राचार्य तथा दूसरी पाली में दोपहर 3 बजे से शाम 5 बजे तक सभी शासकीय हाई स्कूल एवं हायर सेकेण्डरी स्कूलों के प्राचार्यों की बैठक होगी। बैठक में एक्सट्रा मार्कस संस्था द्वारा छात्र-छात्राओं को स्कूली शिक्षा के बाद शिक्षा को उद्योग से जोड़ने, प्रतियोगी परीक्षाओं में सफल होने तथा सफलता के उपरांत उन्हें प्रोत्साहित करने के बारे में प्राचार्यों को जानकारी दी जायेगी।
 
प्रात: 8.30 बजे के बाद खुलेंगे स्कूल, आंगनबाड़ी केन्द्र एवं मदरसे 
शीतलहर के मद्देनजर कलेक्टर ने जारी किया आदेश 
जबलपुर | 04-जनवरी-2018
 
 
 
    कलेक्टर महेशचन्द्र चौधरी ने शीतलहर को ध्यान में रखते हुए प्रात: की पाली में लगने वाले जिले के सभी शासकीय, अर्द्धशासकीय एवं अशासकीय स्कूलों को तथा आंगनबाड़ी केन्द्रों एवं मदरसों को सुबह 8.30 बजे के बाद ही खोलने के निर्देश दिये हैं। श्री चौधरी ने इस बारे में आदेश जारी कर शाला प्राचार्यों एवं संस्था प्रमुखों को इसका कड़ाई से पालन करने की हिदायत दी है। स्कूलों, आंगनबाड़ी केन्द्रों एवं मदरसों के सुबह 8.30 बजे के बाद खोलने का समय निर्धारित करने का यह आदेश 26 जनवरी तक प्रभावी रहेगा। 
 
एग्री क्लीनिक एण्ड एग्री बिजनेस सेन्टर स्टार्ट-अप प्रशिक्षण हेतु पांच जनवरी तक आवेदन आमंत्रित
जबलपुर | 29-दिसम्बर-2017
 
 केन्द्रीय कृषि एवं कृषक कल्याण मंत्रालय भारत सरकार अंतर्गत राष्ट्रीय कृषि विस्तार प्रबंधन संस्थान (मैनेज) द्वारा नाबार्ड की सहभागिता से कृषि विषय में इंटरमीडिएट, कृषि स्नातक अथवा कृषि स्नातकोत्तर युवाओं को एग्री क्लीनिक एण्ड एग्री-बिजनेस सेन्टर की स्थापना हेतु स्टार्ट अप प्रशिक्षण का आयोजन 15 जनवरी से उद्यमिता विकास केन्द्र मध्यप्रदेश (सेडमैप) के जबलपुर, भोपाल, इंदौर एवं ग्वालियर क्षेत्रीय कार्यालयों में किया जायेगा। 
   नोडल अधिकारी सेडमैप-मैनेज एन.टी.आई. भोपाल शरद कुमार मिश्रा के अनुसार प्रदेश के मूल निवासी ऐसे युवाओं को जो स्वयं का एग्री क्लीनिक, एग्री बिजनेस सेन्टर अथवा कृषि संबंधित व्यवसाय प्रारंभ करने की इच्छा रखते हैं, इस प्रशिक्षण में प्राथमिकता प्रदान की जायेगी। उन्होंने बताया कि दो माह के रहवासीय प्रशिक्षण के पश्चात एग्री क्लीनिक, एग्री बिजनेस सेन्टर, डेयरी, बकरी पालन, पोल्ट्री, पॉलीहाउस, कस्टम हायरिंग आदि हेतु बैंकों के माध्यम से 20 लाख रूपये तक ऋण प्रदान किया जायेगा।  इस पर अजा, अजजा, महिला वर्ग को 44 प्रतिशत एवं अन्य सभी को 36 प्रतिशत अनुदान का प्रावधान है। 
    निर्धारित योग्यताधारी आवेदक सेडमैप जिला समन्वयक से संबंधित जिले के जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र में  अथवा नोडल अधिकारी सेडमैप अरेरा हिल्स भोपाल मोबाइल नं. 9893663843 पर संपर्क किया जा सकता है।  प्रशिक्षण हेतु आवेदकों का चयन साक्षात्कार के माध्यम से किया जायेगा। प्रशिक्षण प्राप्त करने के इच्छुक युवा 5 जनवरी तक आवेदन कर सकेंगे।

 

शैक्षणिक संस्थाओं में निर्वाचन साक्षरता क्लब की स्थापना के जारी किए आदेश 
जबलपुर | 27-दिसम्बर-2017
 
 भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार कलेक्टर महेश चन्द्र चौधरी ने शैक्षणिक संस्थाओं में निर्वाचन साक्षरता को मुख्यधारा में शामिल करने के उद्देश्य से जिले के सभी हायर सेकेण्डरी स्कूलों एवं महाविद्यालयों में निर्वाचन साक्षरता क्लब  की स्थापना के आदेश जारी किये हैं। 
    कलेक्टर ने अपने आदेश में शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय एवं महाविद्यालय स्तर पर निर्वाचन साक्षरता क्लब का अध्यक्ष संस्था प्राचार्य को नियुक्त किया है। जबकि विद्यालयों एवं महाविद्यालयों के सामाजिक या राजनीति विज्ञान के प्राध्यापक अथवा व्याख्याता साक्षरता क्लब के सचिव बनाये गये हैं। शैक्षणिक संस्थाओं की प्रत्येक कक्षा अथवा सत्र के तीन-तीन विद्यार्थी निर्वाचन साक्षरता क्लबों के सदस्य होंगे। कलेक्टर के आदेश में कहा गया है कि स्कूलों एवं महाविद्यालय स्तर पर गठित निर्वाचन साक्षरता क्लब भारत निर्वाचन आयोग द्वारा दिए गए निर्देशों के अनुसार कार्य करेंगे। 
रोजगार मेला एवं केरियर गाइडेंस कार्यक्रम सम्पन्न 
जबलपुर | 22-दिसम्बर-2017
 
  नेशनल केरियर सर्विस के अंतर्गत जिला रोजगार कार्यालय के मॉडल केरियर सेंटर  तथा स्वामी विवेकानंद केरियर गाइडेंस प्रकोष्ठ होम साइंस कॉलेज एवं वी.आर.सी. जबलपुर के संयुक्त तत्वावधान में आज रोजगार मेला तथा केरियर गाइडेंस कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम में आवेदकों को विभिन्न कंपनियों द्वारा केरियर गाइडेंस एवं केरियर काउंसिलिंग प्रदान की गयी। कार्यक्रम में 11 कंपनियों ने भाग लिया। 
    रोजगार मेला और केरियर गाइडेंस कार्यक्रम का शुभारंभ मुख्य अतिथि डॉ. अशोक कुमार तिवारी, जनरल मैनेजर सेन्ट्रल टेनिंग इंस्टीट्यूट एम.पी.ई.बी. ने दीप प्रज्जवलित कर किया। इस अवसर पर श्री देवव्रत मिश्रा, महाप्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र,  डॉ. श्रीमती शशिबाला श्रीवास्तव प्राचार्य होम साइंस कॉलेज, श्री एम.एस. मरकाम उप संचालक रोजगार, श्री सतीश कुमार कावड़े जिला रोजगार अधिकारी, श्री अजय जोशी सहायक संचालक बी.आर.सी., कु. ऋतु भटनागर यंग प्रोफेशनल एम.सी.सी. विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद थे। 
    कार्यक्रम में उपस्थित अतिथियों ने आवेदकों को मार्गदर्शन प्रदान कर जॉब फेयर के आयोजन की उपयोगिता एवं आवश्यकता पर प्रकाश डाला एवं एन.सी.एस. पोर्टल की जानकारी प्रदान की। कार्यक्रम का संचालन डॉ. ज्योति जैन एवं श्री दीपेश उपाध्याय द्वारा किया गया। 
    जॉब फेयर में लगभग 900 आवेदकों ने भाग लिया तथा कार्यक्रम में उपस्थित कंपनियों से स्वयं संपर्क किया। इनमें से 545 आवेदकों का विभिन्न पदों के लिये प्रारंभिक चयन किया गया।
जिले की सभी राशन दुकानों की जांच होगी 
हेराफेरी के मामलों में एफआईआर, पीओएस मशीन खराब मिलने पर दुकान निरस्त होगी 
जबलपुर | 21-दिसम्बर-2017
 
कलेक्टर महेशचन्द्र चौधरी ने जिले की राशन दुकानों में बड़ी संख्या में पीओएस मशीनें खराब या बंद होने की सूचना को बेहद गंभीरता से लेते हुए सभी राशन दुकानों की जांच के निर्देश जारी किए हैं। 
   इस सिलसिले में जारी निर्देशों में कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय अधिकारियों (राजस्व) को अपने क्षेत्राधिकार की सौ फीसदी राशन दुकानों का निरीक्षण सुनिश्चित करने की ताकीद की है। उन्होंने कहा है कि राशन दुकान की पीओएस मशीन बंद या खराब पाए जाने की स्थिति में कम्पनी के इंजीनियर से सत्यापन कराया जाए और जानबूझकर मशीन बंद अथवा खराब कर अनियमितता करने के मामलों में सम्बन्धित राशन दुकान को निलम्बित या निरस्त करने की कार्यवाही की जाए। कलेक्टर ने स्पष्ट निर्देश दिए है कि राशन दुकानों में पीओएस मशीनें खराब होने के चलते खाद्यान के मैन्युअल तरीके से वितरण में हेराफेरी सामने आने पर एफआईआर कराई जाए। निलम्बित या निरस्त की जाने वाली दुकानों के खाद्यान के वितरण की व्यवस्था पास की राशन दुकान से कराई जाए। खराब पीओएस मशीनों की जानकारी से खाद्य नियंत्रक के जरिए कम्पनी के इंजीनियर को अवगत कराया जाए। 
   कलेक्टर ने अनुविभागीय अधिकारियों को 31 दिसम्बर तक उपरोक्त कार्यवाही पूरी करने तथा शत-प्रतिशत खाद्यान्न का वितरण सुनिश्चित करने की हिदायत दी है।  
नवरगंवा शिविर में शामिल हुए कलेक्टर 
ग्रामीणों से योजनाओं का लाभ उठाने का आग्रह 
जबलपुर | 20-दिसम्बर-2017
 
   कलेक्टर महेश चन्द्र चौधरी ने आज कुण्डम विकासखण्ड के ग्राम नवरगंवा में केन्द्र सरकार के सूचना प्रसारण मंत्रालय के क्षेत्र प्रचार प्रभाग द्वारा स्पेशल आऊटरीच प्रोग्राम के तहत आयोजित दो दिवसीय शिविर का शुभारंभ किया।  श्री चौधरी ने शिविर में बड़ी संख्या में मौजूद ग्रामीणों को संबोधित करते हुए उनसे केन्द्र एवं राज्य शासन द्वारा संचालित योजनाओं से जुड़ने का आग्रह किया। 
    श्री चौधरी ने अपने संबोधन में दूरस्थ ग्रामीण क्षेत्र में स्वास्थ्य योजनाओं पर केन्द्रित शिविर के आयोजन की तारीफ भी की।  उन्होंने इसे ग्रामीणों को शासकीय योजनाओं से जोड़ने का अच्छा प्रयास बताया। श्री चौधरी ने कहा कि शासकीय योजनाओं का लाभ लेकर ग्रामीण न केवल अपनी आर्थिक स्थिति को बेहतर बना सकते हैं बल्कि अपने बच्चों के भविष्य को भी संवार सकते हैं। 
    शिविर के शुभारंभ के अवसर पर जनपद पंचायत कुण्डम की अध्यक्ष श्रीमती अराधना महोबिया, जिला पंचायत सदस्य नन्हेंलाल धुर्वे भी मौजूद थे। इस अवसर पर क्षेत्र प्रचार अधिकारी श्रीमती वर्षा शुक्ला पाठक ने शिविर के आयोजन के उद्देश्यों की जानकारी दी।  क्षेत्र प्रचार अधिकारी ने बताया कि दो दिवसीय इस शिविर के दौरान ग्रामीणों को विभिन्न स्वास्थ्य योजनाओं की जानकारी दी जायेगी।  उन्होंने बताया कि शिविर में स्वस्थ माता एवं स्वस्थ शिशु प्रतियोगिता होगी तथा ग्रामीणों का स्वास्थ्य परीक्षण किया जायेगा और दवाईयां उपलब्ध कराई जायेंगी। शिविर के दौरान स्कूली बच्चों की रंगोली प्रतियोगिता तथा ग्रामीणों के लिए रस्सा खींच, कुर्सी दौड़ और अन्य प्रतियोगिताएं भी होंगी।
मिलेनियम वोटर्स को मतदाता दिवस पर दिये जायेंगे वोटर आई.डी. कार्ड और बैच 
जबलपुर | 18-दिसम्बर-2017
 
 
 मतदाता सूची के संक्षिप्त पुनरीक्षण के लिए डोर-टू-डोर सर्वे अभियान के तहत मिलेनियम वोटर्स के रूप में चिन्हित किये गये युवाओं को जिला स्तर पर 25 जनवरी को आयोजित किये जाने वाले राष्ट्रीय मतदाता दिवस पर वोटर आई.डी. कार्ड और बैच प्रदान किये जायेंगे। 
   जिला निर्वाचन कार्यालय के मुताबिक जिले के सभी निर्वाचन रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों से उनसे संबंधित विधानसभा क्षेत्रों में डोर-टू-डोर सर्वे अभियान के तहत बी.एल.ओ. द्वारा चिन्हित किये गये मिलेनियम वोटर्स की सूची मांगी गई है। निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों से कहा गया है कि अभियान के तहत बी.एल.ओ. द्वारा सहस्त्राब्दी मतदाताओं (मिलेनियम वोटर्स) घर पर स्वयं जाकर सहस्त्राब्दी मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में जोड़ने हेतु प्राप्त किये गये फार्म-6 की जानकारी 20 दिसंबर तक निर्वाचन कार्यालय को उपलब्ध करा दें। 
   ज्ञात हो कि भारत निर्वाचन आयोग ने मतदाता सूची के संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम के तहत डोर-टू-डोर सर्वे अभियान में अधिकतम संख्या में सहस्त्राब्दी मतदाताओं (ऐसे व्यक्ति जिनका जन्म 21वीं सदी के पहले दिन यानी 1 जनवरी 2000 को हुआ है और जो एक जनवरी 2018 को 18 वर्ष की आयु पूरी कर रहे हैं) की पहचान और पंजीयन कराने के निर्देश दिये थे।
 
वर्ष 2018 के स्थानीय अवकाश घोषित 
जबलपुर | 15-दिसम्बर-2017
 
 कलेक्टर महेशचन्द्र चौधरी ने सामान्य प्रशासन विभाग की अधिसूचना के तहत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए कैलेण्डर वर्ष 2018 में जिले के लिए स्थानीय अवकाश घोषित कर दिए हैं। घोषित स्थानीय अवकाशों में शनिवार 3 मार्च को धुरेडी के दूसरे दिन, गुरूवार 18 अक्टूबर को दुर्गानवमी का तथा गुरूवार 8 नवम्बर का दीपावली के दूसरे दिन का अवकाश शामिल है। तीनों स्थानीय अवकाश सम्पूर्ण जिले के लिए और पूरे दिन के लिए होंगे।
रामेश्वरम् तीर्थ यात्रा की टिकिटों का वितरण 15 को "मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना" 
जबलपुर | 14-दिसम्बर-2017
 
 
    मुख्यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के अन्तर्गत जबलपुर से रामेश्वरम् जाने वाली ट्रेन के टिकिट का वितरण 15 दिसम्बर को दोपहर 2 बजे से किया जाएगा। कलेक्टर कार्यालय की धर्मस्व शाखा से प्राप्त जानकारी के अनुसार शहरी क्षेत्र के तीर्थ यात्री तहसील कार्यालय जबलपुर से एवं ग्रामीण क्षेत्र के तीर्थ यात्री सम्बन्धित जनपद पंचायत कार्यालय से अपने टिकिट प्राप्त कर सकते हैं। रामेश्वरम् तीर्थ यात्रा के लिए ट्रेन 17 दिसम्बर को जबलपुर रेलवे स्टेशन से रवाना होगी।
स्वरोजगार ऋण योजनाओं का वार्षिक लक्ष्य इसी माह पूरा करें 
जिला स्तरीय सलाहकार समिति की बैठक में कलेक्टर के बैंक अधिकारियों को निर्देश 
जबलपुर | 12-दिसम्बर-2017
 
 
   कलेक्टर महेश चन्द्र चौधरी ने बैंक अधिकारियों से कहा है कि वे शासन द्वारा संचालित स्वरोजगार योजनाओं में ऋण वितरण के वार्षिक लक्ष्य को इसी माह में पूरा कर लें। उन्होंने स्वरोजगार ऋण योजनाओं के क्रियान्वयन में बैंकर्स की भूमिका को सबसे अहम बताते हुए कहा कि जबलपुर जिले ने पिछले वर्ष इन योजनाओं में काफी अच्छा परफार्मेंस दिखाया था। हमें अपने इस परफार्मेंस को न केवल दोहराना होगा बल्कि इस वर्ष इसे और बेहतर करना होगा ताकि जबलपुर एक बार फिर प्रदेश के अव्वल जिलों में शामिल हो सके। 
   श्री चौधरी आज कलेक्टर कार्यालय में स्वरोजगार ऋण योजनाओं की प्रगति की समीक्षा के लिए कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में आयोजित जिला स्तरीय सलाहकार समिति की बैठक को संबोधित कर रहे थे। बैठक में जिला पंचायत की सीईओ हर्षिका सिंह, रिजर्व बैंक के सहायक महाप्रबंधक पी. झा, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया के मुख्य महाप्रबंधक सुबोध व्यौहार, संयुक्त संचालक उद्योग आर.सी. करील, जिला उद्योग केन्द्र के महाप्रबंधक देवव्रत मिश्रा, लीड बैंक अधिकारी पी.पी. सिंह तथा सभी राष्ट्रीयकृत बैंकों के जिला समन्वयक मौजूद थे। 
   कलेक्टर ने बैठक में मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना एवं मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना सहित सभी स्वरोजगार योजनाओं में बैंकवार स्वीकृत प्रकरणों और ऋण वितरण की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने पंजाब नेशनल बैंक और यूनियन बैंक द्वारा स्वरोजगार ऋण योजनाओं के तहत किये गये अच्छे कार्य की सराहना की। साथ ही सभी बैंकों के अधिकारियों से कहा कि वे स्वीकृत प्रकरणों में अविलंब ऋण वितरित करें। 
   श्री चौधरी ने बैठक में बैंकर्स को स्वरोजगार ऋण योजनाओं के प्रकरणों में शासन द्वारा दिये जाने वाली मार्जिन मनी और हितग्राहियों को दिये जाने वाले ब्याज अनुदान की राशि का दावा भी अविलंब करने के निर्देश दिये हैं। उन्होंने कहा कि यह बैंकर्स के साथ हितग्राहियों के भी हित में है। कलेक्टर ने मार्जिन मनी और ब्याज अनुदान की राशि का दावा करने की प्रक्रिया के बारे में बैंक अधिकारियों के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम आयोजित करने की जरूरत भी बताई और इसके लिए महाप्रबंधक जिला उद्योग केन्द्र को आवश्यक निर्देश दिये। 
   श्री चौधरी ने स्वरोजगार योजनाओं के बेहतर क्रियान्वयन के लिए बैंक अधिकारियों और संबंधित शासकीय विभागों के अधिकारियों के बीच निरंतर संवाद की जरूरत भी बताई। कलेक्टर ने बैंकर्स को भी आश्वस्त किया कि स्वरोजगार ऋण योजनाओं के क्रियान्वयन में आने वाली हर कठिनाई को दूर करने प्रशासन की ओर से उन्हें पूरा सहयोग मिलेगा। 
सी.एम.हेल्पलाईन के प्रकरणों के निराकरण में तत्परता बरतें:-
   श्री चौधरी ने बैंक अधिकारियों ने सी.एम. हेल्पलाईन के तहत प्राप्त प्रकरणों का तत्काल निराकरण करने के निर्देश भी बैठक में दिये। उन्होंने कहा कि बैंकर्स को हर हाल में यह प्रयास करने होंगे की निचले स्तर पर ही सी.एम. हेल्पलाईन की शिकायतों का निराकरण हो। कलेक्टर ने स्वरोजगार ऋण योजनाओं के प्रकरण लंबे समय तक लंबित रखे जाने को सी.एम. हेल्पलाईन में बैंकों के खिलाफ बढ़ती शिकायतों को मुख्य वजह बताया। उन्होंने कहा कि बैंकर्स को सी.एम. हेल्पलाईन की शिकायतों के निराकरण में तत्परता बरतनी होगी अन्यथा उनके खिलाफ बड़ी कार्यवाही हो सकती है। बैंक अधिकारियों को यह भी ध्यान रखना होगा कि जनशिकायतों का निराकरण राज्य और केन्द्र शासन की प्राथमिकता है और इस तरह की शिकायतें पी.एम. पोर्टल पर भी सीधे अग्रेषित हो सकती हैं। 
मानव अधिकार आयोग स्थापना दिवस पर संगोष्ठी सम्पन्न 
जबलपुर | 10-दिसम्बर-2017
 
 
 
 
  
    अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार आयोग स्थापना दिवस के अवसर पर आज कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण एवं जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी के तत्वाधान में मानव अधिकार एवं महिला सशक्तिरण के संबंध में विचार संगोष्ठी का आयोजन किया गया। संगोष्ठी में उपाध्यक्ष जन अभियान परिषद् प्रदीप पाण्डे, डॉ. सतीश चन्द्र बटालिया, संयोजक मध्य प्रदेश मानव अधिकार आयोग शिकायत प्रकोष्ठ, डॉ सोनल अमीन, सदस्य मध्य प्रदेश मानव अधिकार आयोग शिकायत प्रकोष्ठ, श्रीमति विनीता राय, प्राचार्य गल्र्स हायर सेकेन्डरी स्कूल कटियाघाट जबलपुर, श्री भट्ट सेवानिवृत्त न्यायाधीश, श्री शेख वसीम जिला अभियोजन अधिकारी एवं श्री राजेश सक्सेना, जिला विधिक अधिकारी द्वारा मानव अधिकार एवं महिला सशक्तिकरण के संबंध में अपने विचार प्रस्तुत किये गये। संगोष्ठी में कलेक्टर श्री महेश चंद्र चौधरी, जिला पुलिस अधीक्षक श्री शशिकांत शुक्ला, जिला कार्यक्रम अधिकारी मनीष शर्मा की उल्लेखनीय उपस्थिति रही। कार्यक्रम में महिला सशक्तिकरण स्टॉफ एवं आईसीपीएस स्टॉफ का सराहनीय योगदान रहा। कार्यक्रम के समापन पर जिला महिला सशक्तिरण एवं बाल संरक्षण अधिकारी अखिलेश मिश्रा के द्वारा आभार व्यक्त किया गया।

 

नेशनल लोक अदालत का आयोजन आज 
जबलपुर | 08-दिसम्बर-2017
 
 
म.प्र. राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण के निर्देशानुसार जिला न्यायालय जबलपुर एवं तहसील न्यायालय सिहोरा एवं पाटन के साथ-साथ कुटुम्ब न्यायालय एवं श्रम न्यायालय जबलपुर में शनिवार  9 दिसंबर को नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया जायेगा। नेशनल लोक अदालत में न्यायालय में लंबित प्रकरणों के साथ-साथ प्रीलिटिगेशन प्रकरणों का राजीनामा के आधार पर निराकरण होगा।
    जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव के अनुसार प्रकरणों के निराकरण के लिए जिला न्यायालय जबलपुर में 34 न्यायिक खण्डपीठों का गठन किया गया है। इसके साथ-साथ कुटुम्ब न्यायालय तथा श्रम न्यायालय जबलपुर एवं तहसील न्यायालय सिहोरा तथा पाटन में भी न्यायिक खण्ठपीठों का गठन किया गया है।
    लोक अदालत में सिविल प्रकरण, आपराधिक प्रकरण, धारा 138 एन.आई.एक्ट के प्रकरण, मोटर दुर्घटना दावा से संबंधित प्रकरण, विद्युत अधिनियम, श्रम न्यायालय, कुटुम्ब न्यायालय में लंबित प्रकरण तथा पारिवारिक प्रकरण, भू-अधिग्रहण प्रकरण, सर्विस मैटर, जल कर, बैंक रिकवरी के लंबित एवं प्रीलिटिगेशन प्रकरण तथा राजीनामा योग्य समस्त प्रकरणों का निराकरण किया जायेगा।
    जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव ने बताया कि ऐसे पक्षकार जिनके मामले किसी भी न्यायालय में विचाराधीन है, वे उनका निराकरण नेशनल लोक अदालत के माध्यम से करा सकते है। लोक अदालत में मामलों के निराकरण होने पर ऐसे मामलों में न्याय शुल्क के रूप में अदा की गई राशि पक्षकारों को वापस की जायेगी। उन्होंने पक्षकारों से नेशनल लोक अदालत में अधिक से अधिक संख्या में उपस्थित होकर और अपने प्रकरणों का निराकरण करवाकर लाभ उठाने की अपील की है।

 

नर्मदा सेवा समितियों का विराट सम्मेलन 11 दिसम्बर को 

तैयारियों को लेकर प्रशासन और पुलिस अधिकारियों की बैठक हुई 
जबलपुर | 06-दिसम्बर-2017
 
 
 
   नर्मदा सेवा यात्रा का एक वर्ष पूर्ण होने के मौके पर आगामी 11 दिसम्बर को नर्मदा सेवा समितियों का विराट सम्मेलन आयोजित होगा जिसमें बड़ी संख्या में नर्मदा सेवकों की सहभागिता होगी। मुख्य कार्यक्रम भेड़ाघाट में प्रस्तावित है जिसमें मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के सम्मिलित होने की भी संभावना है। 
   आयोजन की तैयारियों को लेकर आज यहां कलेक्ट्रेट मीटिंग हॉल में कलेक्टर महेशचन्द्र चौधरी की अध्यक्षता में अधिकारियों की बैठक सम्पन्न हुई। बैठक में पुलिस अधीक्षक शशिकांत शुक्ला, वन संरक्षक विन्सेंट रहीम, सीईओ जिला पंचायत हर्षिका सिंह, निगमायुक्त वेदप्रकाश, अपर कलेक्टर छोटे सिंह व संजना जैन तथा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संजय साहू भी मौजूद थे। 
   बैठक में कलेक्टर श्री चौधरी ने कहा कि इस कार्यक्रम में नर्मदा तट के सभी 16 जिलों से लोग आएंगे अतएव व्यापक तैयारियां करनी होंगी। इस सिलसिले में श्री चौधरी ने विभिन्न विभागों के अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिए। परिवहन व्यवस्थाओं के लिए आरटीओ और सम्बन्धित राजस्व अधिकारी उत्तरदायी रहेंगे। उन्होंने कहा कि सम्मेलन स्थल पर विभिन्न जिलों से आने वाले नर्मदा सेवकों के लिए पृथक्-पृथक् बैठक व्यवस्था की जाए। कलेक्टर ने कहा कि आयोजन को भव्यता प्रदान करने की दृष्टि से सभी जरूरी कदम उठाए जाएं। उन्होंने सीईओ जिला पंचायत को सम्बन्धित अधिकारियों के बीच कार्य-विभाजन करने के भी निर्देश दिए। श्री चौधरी ने नर्मदा के घाटों की स्वच्छता और सुव्यवस्था सुनिश्चित करने के लिए कदम उठाने के बारे में भी हिदायत दी। 
रेत उत्खनन और घाटों पर शराब पीने पर सख्ती से अंकुश लगाया जाए
   कलेक्टर श्री चौधरी ने सम्बन्धित अधिकारियों को ताकीद की कि नर्मदा से जेसीबी या अन्य तरीकों से रेत के उत्खनन और घाटों पर अवैध रूप से शराब की बिक्री व शराब पीने की रोकथाम के लिए सख्त कार्यवाही की जाए। इस सिलसिले में कड़ा रूख अख्तियार करते हुए कलेक्टर ने आगाह किया कि इस तरह के मामले सामने आने पर सम्बन्धित अधिकारियों के निलम्बन की कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। रेत उत्खनन की रोकथाम के लिए श्री चौधरी ने मोटरबोट से लैस होमगार्ड की टीम गठित किए जाने के निर्देश दिए जो सजगतापूर्वक तटों की निगरानी करेगी। उन्होंने अपर कलेक्टर छोटे सिंह को निर्देश दिए कि नर्मदा जी के सभी घाटों पर शाम से सर्चिंग के लिए खनिज व आबकारी विभागों के अधिकारियों तथा कमाण्डेंट होमगार्ड की टीम गठित की जाए। 
   बैठक में मुख्यमंत्री के प्रस्तावित कार्यक्रमों की रूपरेखा के सम्बन्ध में भी चर्चा की गई। सीवरेज ट्रीटमेंट प्लाण्ट के भूमिपूजन सहित अन्य प्रस्तावित भूमिपूजन कार्यक्रमों की तैयारियों को लेकर विचार-विमर्श हुआ। साथ ही मुख्यमंत्री के रूट प्लान पर भी चर्चा की गई। 
बैठक में एसडीएम नम:शिवाय अरजरिया, पी.के.सेनगुप्ता और अरविन्द सिंह तथा सीएमओ भेड़ाघाट अशोक रावत व जन अभियान परिषद् के भीम सिंह सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे। 
   बैठक के उपरान्त कलेक्टर श्री चौधरी तथा पुलिस अधीक्षक श्री शुक्ला ने अधिकारियों के साथ मुख्यमंत्री के प्रस्तावित कार्यक्रम स्थलों का भ्रमण भी किया तथा सम्बन्धित अधिकारियों को शीघ्रतिशीघ्र जरूरी व्यवस्थाएं करने के निर्देश दिए। 
   अधिकारीद्वय ने भेड़ाघाट में भी इस सिलसिले में जनप्रतिनिधियों और अधिकारियों की बैठक ली तथा आयोजन के सम्बन्ध में उनके साथ विचार-विमर्श किया। इस दौरान भेड़ाघाट नगर परिषद् अध्यक्ष शैला जैन, शहपुरा मण्डी अध्यक्ष नीरज सिंह, पूर्व नगर परिषद् अध्यक्ष अनिल तिवारी, सुनील जैन व महेश तिवारी सहित अन्य जनप्रतिनिधि मौजूद थे। सीएमओ भेड़ाघाट अशोक रावत सहित अन्य अधिकारी भी बैठक में उपस्थित थे।  
कलेक्टर व एसपी ने ग्रामीण अंचलों का दौरा किया 
धान उपार्जन केन्द्रों का निरीक्षण किया, कलेक्टर ने एसडीएम कार्यालय, एसपी ने थानों का निरीक्षण किया 
जबलपुर | 29-नवम्बर-2017
 
 
 
   कलेक्टर महेशचन्द्र चौधरी और पुलिस अधीक्षक शशिकांत शुक्ला ने आज जिले के ग्रामीण अंचलों का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने धान उपार्जन केन्द्रों की व्यवस्थाओं का जायजा लिया। साथ ही कलेक्टर ने सिहोरा एसडीएम कार्यालय तथा एसपी ने पनागर और सिहोरा थानों का निरीक्षण किया। 
   कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक ने अपने संयुक्त दौरे में सिहोरा विकासखण्ड के प्राथमिक कृषि साख सहकारी समिति घाट सिमरिया का निरीक्षण किया। यहां बेहतरीन क्वालिटी के धान से भरे बोरों के अम्बार लगे थे। धान में नमी भी नहीं पाई गई। स्थानीय अधिकारियों ने भी बताया कि धान न केवल बहुत अच्छी गुणवत्ता का है वरन् औसत उत्पादन भी काफी अच्छा रहा है। कलेक्टर श्री चौधरी ने मण्डी में चल रहे भाव के बारे में भी पड़ताल की। उन्होंने जिला विपणन अधिकारी रोहित सिंह बघेल को निर्देश दिए कि माल रखने के लिए जगह की कमी को देखते हुए वे अविलम्ब माल को शहपुरा भिजवाना शुरू करें। श्री चौधरी ने किसानों से भी देर तक चर्चा की। उन्होंने एसडीएम उमा माहेश्वरी को निर्देशित किया कि मण्डी में अच्छे भाव हासिल होने के मद्देनजर ये भाव प्रतिदिन सभी उपार्जन केन्द्रों पर प्रदर्शित किए जाएं ताकि किसानों को बेहतर मूल्य हासिल हो सकें। कलेक्टर ने निर्देश दिए कि बड़े पैमाने पर खरीदी की संभावना के मद्देनजर एसडीएम स्वयं समूची प्रक्रिया पर नजर रखें। उन्होंने तहसीलदार नीता कोरी को भी जरूरी निर्देश दिए। 
   कलेक्टर और पुलिस अधीक्षक ने पनागर क्षेत्र के छत्तरपुर केन्द्र का भी मुआयना किया। यहां धान में नमी की मात्रा तुलनात्मक रूप से अधिक पाए जाने के चलते कलेक्टर ने डीएमओ को निर्देश दिए कि नमी दूर करने के लिए जरूरी कदम उठाएं। अधिकारीद्वय ने केन्द्र में धान की आवक कम होने को लेकर कैफियत तलब की। स्थानीय अधिकारियों ने अवगत कराया कि आने वाले दो-तीन दिनों में माल की आवक तेजी से बढ़ेगी। कलेक्टर श्री चौधरी ने किसानों से भी बातचीत की। उन्होंने डीएमओ को निर्देशित किया कि आने वाले धान को पहले गोदाम में रखा जाए और गोदाम भर जाने के बाद शेड में रखे जाने के लिए उपयुक्त बंदोबस्त किए जाएं। जबलपुर मण्डी के निरीक्षण के दौरान कलेक्टर ने मण्डी अधिकारियों से जबलपुर और अन्य जिलों से आई उड़द के अनुपात की जानकारी ली। उन्होंने किसानों से भी बात की और उन्हें बताया कि भावान्तर की राशि उनके खातों में जमा होगी। मण्डी निरीक्षक सुनील पाण्डे ने उड़द की दरों की बाबत् कलेक्टर को जानकारी दी। 
वेतन निर्धारण का अनुमोदन नहीं कराने पर डी.डी.ओ. का वेतन रूकेगा 
जबलपुर | 25-नवम्बर-2017
 
 
  
   कलेक्टर महेश चन्द्र चौधरी ने सातवें वेतन आयोग के अनुसार तय समय-सीमा के भीतर कर्मचारियों के वेतन निर्धारण का अनुमोदन नहीं कराने वाले आहरण-संवितरण अधिकारियों को नवंबर माह का उनका वेतन रोकने की चेतावनी दी है। 
   श्री चौधरी ने इस बारे में आदेश जारी कर जिले में स्थित सभी शासकीय कार्यालयों के आहरण-संवितरण अधिकारियों से कहा कि वे एक-दो दिन के भीतर अपने कार्यालय के सभी कर्मचारियों का वेतन निर्धारण का अनुमोदन संयुक्त संचालक कोष एवं लेखा से कराना सुनिश्चित करें। उन्होंने आईएफएमआईएस के अंतर्गत ऑफिस हेरारकी का कार्य भी शीघ्र पूर्ण करने के निर्देश आहरण संवितरण अधिकारियों को दिये हैं।  कलेक्टर ने ऑफिस हेरारकी से संबंधित कार्य पूर्ण कर कोषालय में विवरण सहित पूर्णता का प्रमाण पत्र माह नवंबर के वेतन देयकों के साथ प्रेषित करने की हिदायत भी आहरण-संवितरण अधिकारियों को दी।
(0 days ago)
स्वास्थ्य कार्यक्रमों के प्रभावी क्रियान्वयन पर बल दिया 
कलेक्टर ने स्वास्थ्य समिति की बैठक ली 
जबलपुर | 20-नवम्बर-2017
 
 
    कलेक्टर महेशचन्द्र चौधरी ने आज यहां आयोजित जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक में स्वास्थ्य विभाग की विभिन्न योजनाओं और कार्यक्रम की प्रगति की समीक्षा की तथा इनके प्रभावी क्रियान्वयन की आवश्यकता पर बल दिया। 
    श्री चौधरी ने विशेष रूप से परिवार कल्याण कार्यक्रम को गति प्रदान करने की दृष्टि से फील्ड में ईमानदार कोशिशों की जरूरत बताई। उन्होंने कहा कि फील्ड स्टाफ द्वारा निरन्तर मॉनीटरिंग की जाए तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं, आशा कार्यकर्ताओं और कम्यूनिटी वर्कर्स का सहयोग हासिल किया जाए। उन्होंने दिसम्बर माह में आयोजित होने वाले दस्तक अभियान राउण्ड टू से सम्बन्धित तैयारियों के बारे में भी स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ चर्चा की। श्री चौधरी ने 21 नवम्बर से आरंभ होने जा रहे एनएसव्ही पखवाड़े के लिए की गई तैयारियों की समीक्षा भी की। 
    बैठक में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मुरली अग्रवाल ने परिवार कल्याण कार्यक्रम के अलावा मातृ एवं शिशु स्वास्थ्य कार्यक्रम, टीकाकरण कार्यक्रम तथा विभिन्न शासकीय चिकित्सा योजनाओं एवं कार्यक्रमों के क्रियान्वन के सम्बन्ध में ब्यौरा दिया। उन्होंने राष्ट्रीय दृष्टिहीनता नियंत्रण कार्यक्रम, मजदूर प्रसूति अवकाश सहायता योजना, भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मण्डल प्रसूति सहायता योजना के क्रियान्वयन के बारे में भी जानकारी दी। 
    बैठक में गत वित्तीय वर्ष एवं चालू वित्तीय वर्ष के दौरान माह अक्टूबर तक एनपीसीडीसीएस तथा राष्ट्रीय वैक्टर जनित रोग नियंत्रण कार्यक्रम के तहत बचाव एवं नियंत्रण के सिलसिले में की गई कार्यवाही का ब्यौरा भी प्रस्तुत किया गया। पुनरीक्षित राष्ट्रीय क्षय नियंत्रण कार्यक्रम, एनआरएचएम तथा राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम के जिले में क्रियान्वयन के सम्बन्ध में विकासखण्डवार ब्यौरा प्रस्तुत किया गया। 
    बैठक में सिविल सर्जन डॉ ए.के.सिन्हा तथा जिला स्वास्थ्य समिति के सदस्यगण भी मौजूद थे।
रक्षा राज्य मंत्री डॉ. सुभाष भामरे का आगमन आज 
जबलपुर | 13-अक्तूबर-2017
 
 
 
    केन्द्रीय रक्षा राज्य मंत्री डॉ. सुभाष भामरे शनिवार 14 अक्टूबर को दोपहर 12 बजे नई दिल्ली से स्पाइस जेट के विमान द्वारा जबलपुर आयेंगे। निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक रक्षा राज्य मंत्री डॉ. भामरे यहां दोपहर 12.20 बजे आर्डिनेंस फैक्ट्री, दोपहर 2 बजे व्हीकल फैक्ट्री तथा दोपहर 2.45 बजे गन कैरिज फैक्ट्री का भ्रमण करेंगे। रक्षा राज्य मंत्री दोपहर 3.45 बजे सांसद श्री राकेश सिंह से भेंट करने साऊथ सिविल लाइंस स्थित उनके निवास जायेंगे तथा शाम 5.55 बजे रेल मार्ग से महाराष्ट्र के चालीसगांव के लिए प्रस्थान करेंगे। 
 
मान्यता प्राप्त राजनैतिक दल फोटो निर्वाचक नामावली कलेक्ट्रेट कार्यालय से प्राप्त कर सकेंगे 
जबलपुर | 10-अक्तूबर-2017
 
   मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी म.प्र. भोपाल द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार फोटो निर्वाचक नामावली का प्रारूप प्रकाशन 4 अक्टूबर को किया गया है। मान्यता प्राप्त राजनैतिक दल के अध्यक्ष और प्रतिनिधि फोटो निर्वाचक नामावली का एक सेट स्वयं या अपने अधिकृत प्रतिनिधि द्वारा कलेक्ट्रेट कार्यालय से प्राप्त कर सकते हैं।
 
आपदा प्रबंधन कंट्रोल रूम में आज तैनात रहेंगे ये कर्मचारी 
जबलपुर | 28-सितम्बर-2017
 
 
 
 
    जिला आपदा प्रबंधन के अंतर्गत मानसून सत्र 2017 में सम्पूर्ण वर्षाकाल के दौरान बाढ़, अतिवृष्टि इत्यादि आपदाओं से निपटने तथा आपदा प्रबंधन से संबंधित सूचनाओं के आदान प्रदान के लिए कार्यालय कलेक्टर मण्डला के अधीक्षक कक्ष में स्थापित आपदा प्रबंधन कंट्रोल रूम स्थापित किया गया है जिसमें शिफ्ट के अनुसार कर्मचारी नियुक्त किये गये हैं। 
    जारी आदेश के अनुसार 29 सितम्बर 2017 को उपयंत्री श्री जी पी विश्वकर्मा एवं भृत्य श्री बाल किशन यादव की रात्रि 12 बजे से सुबह 6 बजे तक, श्री के के कोल अमीन एवं भृत्य श्री सोनसिंह मरावी को प्रातः 6 बजे से दोपहर 12 बजे तक, श्री नीलकंठ कार्तिकेय अमीन भृत्य श्री रामकुमार सिंगराम को दोपहर 12 बजे से शाम 6 बजे तक ड्यूटी पर लगाया गया है। श्री एल एस मरकाम अमीन एवं भृत्य श्री बाल किशन यादव को शाम 6 बजे से रात्रि 12 बजे तक आपदा प्रबंधन कक्ष में उपस्थित रहते हुये निर्देशानुसार कार्य करेंगे। आपदा प्रबंधन कक्ष का दूरभाष क्रमांक-07642-251079 है।
 
 
 
 


 

 

  • Address: Harihar Bhavan Nowgong Dist. Chatarpur Madhya Pradesh  , Mo : 98931-96874 , Email :  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it. Web : www.ganeshshankarsamacharsewa.in