कटनी समाचार

 

हेलो राजकुमार, मैं कलेक्टर बोल रहा हूँ, कटनी प्री-एसओएल में लगे 20 आवेदनों की कलेक्टर ने की समीक्षा 
राजकुमार के प्रकरण में उपयंत्री व सहायक यंत्री को एससीएन जारी करने के दिये निर्देश, दो प्रकरण लगने के बावजूद भी अनुपस्थित रहने पर विद्युत विभाग के शहरी डीई को अवैतनिक करने की कार्यवाही के दिये आदेश, सीईओ, संतोषी को लायें, सीएमएचओ उपचार करायें, वित्तीय समस्या हो, तो स्वेच्छानुदान का प्रकरण करें तैयार 
कटनी | 15-जनवरी-2018
 
 
   समाधान ऑनलाईन के पैटर्न में विगत माहों से जिले में भी कटनी समाधान ऑनलाईन का आयोजन किया जा रहा है। सोमवार को भी कटनी प्री-एसओएल आयोजित हुई। जिसमें कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने एनआईसी द्वारा दस जनवरी और 15 जनवरी को रेन्डमाईजेशन के माध्यम से सिलेक्ट किये गये 10-10 चयनित प्रकरणों का डिटेल्ड रिव्यू किया। साथ ही काम में कोताही बरतने वाले अधिकारियों पर कार्यवाही भी। 
   प्री-एसओएल के दौरान शिकायतकर्ता के नंबर पर कॉल कर उसकी शिकायत के विषय में भी श्री गढ़पाले ने जानकारी ली। उन्होने राजकुमार को फोन लगाया। साथ ही अपना परिचय देते हुये उसकी शिकायत पर अब तक हुई प्रगति की जानकारी ली। राजकुमार ने बताया कि साहब, मेरा कपिलधारा कूप बरसात में धस गया है। अब अधिकारी उसे पूरा कराने की बात कहते हैं। इस पर उसका कार्य कराने का आश्वासन टेलीफोन पर श्री गढ़पाले ने दिया। साथ ही तकनीकी अधिकारियों द्वारा लापरवाही सामने आने पर उपयंत्री और सहायक यंत्री को कारण बताओ सूचना पत्र जारी करने के निर्देश भी दिये। श्री गढ़पाले ने सीईओ जनपद को राजकुमार के कपिलधारा कूप में पहुंचकर उसकी स्थिति का जायजा लेने और पूर्ण कराने की बात भी कही।
   इसी तरह प्री-एसओएल के एक प्रकरण में फाईल विलंब से पुटअप करने पर परियोजना अधिकारी मनरेगा को एससीएन जारी करने के भी आदेश श्री गढ़पाले ने दिये। कटनी समाधान ऑनलाईन में दो प्रकरण लगने के बावजूद भी विद्युत विभाग के शहरी डीई के अनुपस्थित रहने पर कलेक्टर जमकर बिफरे। उन्होने शहरी डीई को आज का अवैतनिक करने की कार्यवाही करने के निर्देश दिये। साथ ही विद्युत कंपनी के एमडी को पत्र लिखकर कार्य में कोताही की जानकारी देते हुये आवश्यक दण्डात्मक कार्यवाही करने के लिये पत्र भेजने को कहा। 
   माईनिंग का भी एक प्रकरण कटनी प्री-एसओएल में लगा हुआ था। लेकिन उप संचालक खनिज भी अनुपस्थित रहीं। जिस पर डीडी माईनिंग को भी एससीएन जारी करने के निर्देश श्री गढ़पाले ने दिये। 
   15 जनवरी को रेन्डमाईजेशन में सिलेक्ट हुये ढीमरखेड़ा के एक प्रकरण में ढीमरखेड़ा जनपद के ग्राम ठिर्री के शासकीय विद्यालय में पढ़ रही संतोषी के इलाज के लिये मंगलवार को जिला चिकित्सालय लाने और उसकी आंख का उपचार कराने के निर्देश सीईओ जनपद ढीमरखेड़ा और सीएमएचओ को कलेक्टर श्री गढ़पाले ने दिये। उन्होने सीएमएचओ से कहा कि यदि कटनी में संतोषी का उपचार ना हो पा रहा हो, तो स्वेच्छानुदान का प्रकरण भी तैयार कर प्रस्तुत करें। 
    इस दौरान सीईओ जिला पंचायत फ्रेंक नोबल ए, अपर कलेक्टर डॉ. सुनन्दा पंचभाई सहित अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी भी उपस्थित थे।

 

एक साथ उठे हजारों हाथ-सामूहिक सूर्य नमस्कार समारोह सम्पन्न 
स्वामी विवेकानंद के विचारों को अपनाकर देश की उन्नति में सहभागी बनें-महापौर शशांक श्रीवास्तव 
कटनी | 12-जनवरी-2018
 
 राष्ट्रगौरव स्वामी विवेकानंद के जन्म दिवस पर आयोजित सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम समारोह, पूरे प्रदेश के साथ कटनी में भी उत्साह एवं उमंग के साथ मनाया गया। जिले के मुख्य कार्यक्रम शासकीय उत्कृष्ट उच्चत माध्यमिक विद्यालय माधवनगर में आयोजित हुआ। जिसमें महापौर श्री शशांक श्रीवास्तव, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती ममता पटैल मौजूद रहे। इसके साथ ही जिले के विभिन्न प्राथमिक, माध्यमिक, हाई और हायर सेकेंडरी स्कूलों में भी विद्यार्थियों ने सूर्य नमस्कार किया। जिलास्तरीय कार्यक्रम में 805 विद्यार्थियों द्वारा समूहिक सूर्य नमस्कार किया गया।
   जिलास्तरीय कार्यक्रम में उपस्थित विद्यार्थियों ने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान का संदेश भी सूर्य नमस्कार कार्यक्रम में सुना। अपने संदेश में मुख्यमंत्री श्री चौहान ने स्वस्थ्य तन के लिये योग की उपयोगिता को बताया। उन्होने कहा कि पूरी दुनिया योग और प्राणायाम कर रही है। तो हम क्यों दूर रहें। सम्पूर्ण विश्व में योग दिवस मनाया जा रहा है। यह हमारे भारत की गरिमा है। विद्यार्थियों को संदेश देते हुये मुख्यमंत्री ने देश और समाज के लिये जीने की बात कही। उन्होने कहा कि अपने लिये जीना कोई जीना नहीं है। आप देश और समाज के लिये जियें। यह हम तब कर पायेंगे, जब हम स्वस्थ्य होंगे।
   महापौर शशांक श्रीवास्तव ने अपने उद्बोधन में युवाओं का आव्हान किया कि वे देश के विकास में सम-सामयिक स्वामी विवेकानंद के विचारों और जीवन शैली को अपनायें। उनके विचारों एवं आदर्शों को जीवंत रुप देकर खुद, समाज व राष्ट्र की उन्नति में अपनी सक्रिय सहभागिता निभायें। विवेकानंद जी का दर्शन, उनके विचार व शिक्षा, समग्र जीवन की परिपक्वता को प्रदर्शित करती है। इस ऐतिहासिक परंपरा को और आगे बढ़ाने युवावर्ग एवं युवाशक्ति आगे आये और देश को विकास पथ पर आगे लेजाकर विदेशों में भी भारत का नाम रोशन करें।
 
   महापौर ने युवाओं को दिये अपने संदेश में कहा कि स्वामी विवेकानंद ने अपनी युवावस्था में ही अपने उच्च आदर्शों एवं विश्व बंधुत्व की भावना का प्रादुर्भाव कर पाश्चात्य देशों में भी भारतीय संस्कृतिक का परचम लहराया था। आज देश को आवश्यकता इस बात की है कि, युवावर्ग उनसे प्रेरणा ले, स्वस्थ्य रहे और स्वस्थ्य समाज की स्थापना कर देश के विकास में सहभागी बने। 
    इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती ममता पटेल ने भी सूर्य नमस्कार के महत्व को बताया। उन्होंने कहा कि सूर्य नमस्कार से तनमन स्वस्थ्य रहता है। उन्होने विद्यार्थियों को रोजना सूर्यनमस्कार करने की क्रियाकलाप को अपनी जीवन शैली में ढ़ालने की अपील भी की। उन्होने कहा कि युवाओं को बहुत आंगे जाना है। देश के विकास में अपनी भूमिका निभाना है। योग से मानसिक संतुलन भी बना रहता है।
    कार्यक्रम में जिला योजना समिति सदस्य श्री पीताम्बर टोपनानी ने कहा कि अच्छे स्वास्थ्य से ही अच्छा मन और अच्छे मन से अच्छा समाज और अच्छे समाज से अच्छे राष्ट्र का निर्माण होता है। इसलिये अपने स्वस्थ्य का ध्यान रखते हुये आंगे बढ़ना है। जिसके लिये सूर्य नमस्कार और योग सहायक व महत्वपूर्ण है।
   कार्यक्रम का शुभारंभ प्रातः 9.45 बजे सामूहिक वन्दे मातरम गान के साथ हुआ। महापौर, जिला पंचायत अध्यक्ष, जिला योजना समिति सदस्य व भाजपा जिलाध्यक्ष श्री पीताम्बर टोपनानी सहित मंचासीन अतिथियों द्वारा बीणादायिनी मॉं सरस्वती एवं स्वामी विवेकानंद के छायाचित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्ववलन कर किया गया। इसके उपरांत मध्यप्रदेश गान हुआ। मुख्यमंत्री के संदेश के बाद मंचासीन अतिथियों एवं उत्कृष्ट विद्यालय के छात्र-छात्राओं द्वारा सामूहिक सूर्य नमस्कार एवं प्राणायाम किया गया। मैदान का नजारा एक साथ उठे हजारों हाथ, सूर्य नमस्कार अपनायें, जीवन स्वस्थ्य बनायें, के साथ दिखाई दिया। 
   इस अवसर पर जिला शिक्षा अधिकारी श्री. एस.एन. पाण्डेय, प्रभारी डीपीसी श्री एन.पी. दुबे, प्राचार्य शासकीय तिलक महाविद्यालय डॉ. सुधीर खरे, श्रम पदाधिकारी श्री सतीष साहू जनप्रतिनिधि श्री मिट्ठू लाल जैन मंचासीन थे। कार्यक्रम में आभार प्रदर्शन प्राचार्य उत्कृष्ट उच्चतर माध्यमिक विद्यालय माधवनगर श्रीमती विभा श्रीवास्तव ने किया।

 

श्रवणगोला तीर्थयात्रा के लिय 5 मार्च तक करें आवेदन 
कटनी | 08-जनवरी-2018
 
  मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन योजनांतर्गत 24 मार्च से 29 मार्च के मध्य श्रवणगोला तीर्थ स्थल के लिये यात्रा प्रस्तावित है। जिसमें जिले से 30 तीर्थ यात्री रवाना होंगे। इसके लिये इच्छुक तीर्थ यात्री अपना आवेदन 05 मार्च तक आवेदन प्रस्तुत कर सकते हैं।
   इस संबंध में कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने जिले के सभी अनुविभागीय अधिकारी एवं तहसीदारों को पात्र हितग्राहियों की सूची जिला कार्यालय को प्रेषित करने के निर्देश दिये हैं। जिसमें उन्होने 05 मार्च तक हितग्राहियों की सूची हार्ड कॉपी सहित सॉफ्ट कॉपी में प्रस्तुत करने के लिये निर्देशित किया

 

सामूहिक सूर्य नमस्कार की पूर्व तैयारी बैठक आज 

उमरिया | 02-जनवरी-2018
 
  स्वामी विवेकानंद के जन्म दिवस युवा दिवस के अवसर पर  12 जनवरी 2018 को सामूहिक सूर्य नमस्कार का आयोजन किया जाएगा। इस हेतु पूर्व तैयारी बैठक आज 3 जनवरी 2018 को कलेक्टर की अध्यक्षता में दोपहर 3 बजे से आहूत की गई है। बैठक में सर्व संबंधितों से नियत तिथि एवं समय पर उपस्थित होने की अपेक्षा की गई है।

 

राजस्व अमले ने इमलिया में कब्जे से मुक्त कराई चार एकड़ शासकीय भूमि 
कटनी | 29-दिसम्बर-2017
 
 इमलिया गांव में राजस्व अमले ने अतिक्रमण हटाने की कार्यवाही को अंजाम दिया। इस दौरान राजस्व व माधवनगर पुलिस के अमले के द्वारा चार एकड़ शासकीय भूमि मुक्त कराई गई। तहसीलदार कटनी संदीप श्रीवास्तव ने बताया कि इमलिया ग्राम में शुक्रवार को 14-15 लोगों के कब्जे से चार एकड़ शासकीय भूमि खाली कराई गई है। अतिक्रमणकारियों द्वारा मकान और खाली भूमि में बाउंड्री बनाई गई थी। जिसे तोड़ा गया। इसमें मुख्यता भोला गर्ग, कमल और कमलेश यादव के अतिक्रमण थे। जिन्हे तोड़ा गया हैं।

 

 

उर्दू डिप्लोमा कोर्स में प्रवेश की अंतिम तिथि 30 जनवरी 
कटनी | 27-दिसम्बर-2017
 
  मध्यप्रदेश उर्दू अकादमी की निगरानी में कौमी काउन्सिल बराए फरोग-ए-उर्दू जबान के एक वर्षीय उर्दू डिप्लोमा कोर्स में प्रवेश प्रारम्भ हो चुके हैं। उर्दू भाषा सीखने के इच्छुक व्यक्ति इस कोर्स में प्रवेश प्राप्त कर सकते हैं। आयु सीमा एवं शैक्षणिक योग्यता की कोई शर्त नहीं है। हिन्दी या अंग्रेजी का ज्ञान होना आवश्यक है। पंजीयन शुल्क 200 रूपये निर्धारित है। इसके अलावा कोई शुल्क देय नहीं है। प्रवेश पत्र प्राप्त करने की अंतिम तिथि जनवरी, 2018 है।

 

 

 

 

आज बहोरीबंद पहुंचकर एकात्म यात्रा में शामिल होंगे मुख्यमंत्री श्री चौहान

इसके पूर्व सुबह 11.30 बजे पहुंचेंगे बाकलशिवलिंग निर्माण कार्यक्रम में होंगे शामिल

कटनी (26 दिसंबर)- आदिगुरु शंकराचार्य के एकात्म अद्वैत के संदेश को लेकर जन-जन तक पहुंच रही एकात्म यात्रा आज बुधवार को बहोरीबंद पहुंचेगी। जहां वृहद् जनसंवाद कार्यक्रम का आयोजन होगा। मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान भी बहोरीबंद में आयोजित जनसंवाद कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके साथ ही वे बाकल में पूज्यनीय गृहस्थ संत पंडित देवप्रभाकर शास्त्री जी के सानिध्य में आयोजित हो रहे शिवलिंग निर्माण कार्यक्रम में भी शामिल होंगे। 27 दिसंबर को मुख्यमंत्री श्री चौहान दो बार कटनी जिले में पहुंचेंगे।

वे सर्वप्रथम सुबह 10.30 बजे टीकमगढ़ जिले के ओरछा से हेलीकॉप्टर के माध्यम से रवाना होकर 11.30 बजे बाकल में हैलीपैड में उतरेंगे। जहां वे शिवलिंग निर्माण कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके बाद मुख्यमंत्री दोपहर 12.30 बजे हैलीकॉप्टर द्वारा बाकल से रवाना होकर रीवा जिले के नई गढ़ी जायेंगे। जहां स्थानीय कार्यक्रम में शामिल होने के बाद दोबारा दोपहर 3.55 बजे बहोरीबंद पहुंचेंगे। यहां पर वे एकात्म यात्रा के तहत जनसंवाद कार्यक्रम में शामिल होंगे। जिसके बाद मुख्यमंत्री श्री चौहान शाम 5.15 बजे बहोरीबंद हैलीपैड से हैलीकॉप्टर के द्वारा जबलपुर के लिये रवाना होंगे।

बहोरीबंद और बाकल पहुंचे कलेक्टर और एसपी मुख्यमंत्री के कार्यक्रम की तैयारियों का लिया जायजा

कटनी (26 दिसंबर)- बुधवा को बाकल में शिवलिंग निर्माण कार्यक्रम और बहोरीबंद में एकात्म यात्रा में शामिल होने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान कटनी जिले पहुंच रहे हैं। जिसके मद्धेनजर मंगलवार को कलेक्टर विशेष गढ़पाले और पुलिस अधीक्षक अतुल सिंह बहोरीबंद और बाकल पहुंचे। जहां दोनों ही वरिष्ट अधिकारियों ने व्यवस्थाओं का जायजा लिया। बाकल और बहोरीबंद में हैलीपैड की व्यवस्थायें भी अधिकारियों ने देखीं। साथ ही पीडब्ल्यूडी विभाग के अमले को आवश्यक दिशा-निर्देश भी कलेक्टर और एसपी ने दिये। बाकल में भी हैलीपैड का निरीक्षण दोनों ही अधिकारियों द्वारा किया गया। साथ ही बाकल में कार्यक्रम की रुपरेखा को लेकर पूज्यनीय गृहस्थ संत पंडित देवप्रभाकर शास्त्री जी से दोनों ही अधिकारियों ने संवाद भी किया।

            बहोरीबंद पहुंचकर एकात्म यात्रा के तहत आयोजित जनसंवाद कार्यक्रम की तैयारियां भी कलेक्टर और एसपी ने देखीं। कलेक्टर श्री गढ़पाले ने सीईओ जनपद और एसडीएम को मिशन मोड में लगकर सारी तैयारियां निर्धारित अवधि के पूर्व करा लेने के निर्देश दिये। उन्होने कहा कि सभी अधिकारी अपनी-अपनी जिम्मेदारियों का निर्वहन करें। उन्हें जो दायित्व सौंपे गये हैंउन्हें प्राथमिकता पर निभायें। स्थानीय निजी कार्यक्रम स्थल में पहुंचकर भी एकात्म यात्रा में बहोरीबंद पहुंच रहे संतों के रुकने की व्यवस्था भी कलेक्टर और एसपी ने देखीं।

एकात्म यात्रा का गांव-गांव में हुआ भव्य स्वागतउमड़ा जनसैलाब

भैंसवाही में राज्यमंत्री श्री पाठक भी हुये एकात्म यात्रा में शामिलकी अगुवाई

कटनी (26 दिसंबर)- आदिगुरु शंकराचार्य के एकात्म वेदान्त के संदेश को जन-जन तक पहुंचाने के लिये प्रारंभ हुई एकात्म यात्रा जिले में दूसरे दिन पुनः कैमोर से प्रारंभ हुई। यात्रा मंगलवार को गौरहाराखी पुरैनीजिजनोड़ीदेवराकलांहरदुआभैंसवाही होते हुये कन्हवारा पहुंची। सभी स्थानों में यात्रा का भव्य अभिनन्दन किया गया। गांव-गांव में कलश और मंगलगान के साथ महिलाओं ने एकात्म की यात्रा का स्वागत किया। वहीं आदिगुरु शंकराचार्य के चरणपादुका का पूजन किया। भैंसवाही में प्रदेश के सूक्ष्मलघु एवं मध्यम उद्यम राज्यमंत्री श्री संजय सत्येन्द्र पाठक भी एकात्म यात्रा में शामिल हुये। उन्होने यात्रा की अगुवाई की।

            इसके पूर्व गतदिवस सोमवार को बरही के जनसंवाद के बाद डोकरियासिजहरासिनगौड़ीहनतलाबंजारीटीकरपरसवाराकारीतलाईदुर्जनपुरचरी होती हुई यात्रा कैमोर पहुंची। रात्रि में अधिक समय होने के बाद भी ग्रामवासियों का उत्साह कम नहीं हुआ। ठण्ड के बावजूद भी गर्मजोशी के साथ सभी स्थानों में एकात्म यात्रा के स्वागत के लिये जनसैलाब उमड़ा।

 

कन्हवारा में वैदिक मंत्रोच्चार के बीच ढ़ोल ताशों और आतिशबाजी के साथ हुआ एकात्म यात्रा का अभिनन्दन

क्षेत्रीय विधायक श्री जायसवाल ने माथे रखी चरणपादुकाजनपद अध्यक्ष ने थामा ध्वज

कटनी (26 दिसंबर)- भैंसवाही के बाद कन्हवारा पहुंची एकात्म यात्रा का गांव में वैदिक मंत्रोच्चार के बीच ढ़ोल-ताशों और आतिशबाजी के साथ स्वागत अभिनन्दन किया गया। यहां पर यात्रा की अगुवाई क्षेत्रीय विधायक संदीप जायसवाल ने की। उन्होने विधि-विधान से पूजाकर आदिगुरु शंकराचार्य की चरणपादुका को माथे पर रखा। वहीं जनपद अध्यक्ष कन्हैया तिवारी ने ध्वज थामा। जिसे लेकर दोनों ही अतिथि जनसंवाद कार्यक्रम स्थल पहुंचे। इस दौरान महापौर एवं यात्रा के जिला समन्वयक शशांक श्रीवास्तवप्रदेश की समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष पद्मा शुक्ला,जिला पंचायत अध्यक्ष ममता पटेलजनपद पंचायत अध्यक्ष कन्हैया तिवारीजिला योजना समिति सदस्य पीताम्बर टोपनानी भी मौजूद थे।

            कन्हवारा में जनसंवाद का आयोजन भी हुआ। जिसमें अमरकंटक से प्रारंभ हुई एकात्म यात्रा के सह संयोजक शिवनारायण पटेल ने आदिगुरु शंकराचार्य के जीवन वृतान्त पर प्रकाश डाला। उन्होने कहा कि एकात्म यात्रा सांकेतिक धातु संग्रहण के माध्यम से जन-जागरुकता का अभियान है। आदिगुरु शंकराचार्य ने कुरुतियों को दूर करने का कार्य किया। वे सच्चे मातृ भक्त थे। उन्होने चार धामबारह ज्योर्तिलिंग चिन्हित किये। दशनामी परंपरा की शुरुआत की। अद्वैतवाद् का दर्शन दिया कि हम सभी में एक ही ईश्वर का अंश है।

            मुख्यमंत्री को धन्यवाद् देते हुये श्री पटेल ने कहा कि यह हमारे लिये सौभाग्य की बात है कि हमारे मुख्यमंत्री ने आदिगुरु शंकराचार्य की प्रतिमा के लिये धातु प्रदान करने का हमें सौभाग्य दिया है। बेटी बचाओ का संदेश भी यह एकात्म यात्रा देती है। इस यात्रा के माध्यम से प्रदेश के 56 हजार गावों की मिट्टी ओंकारेश्वर पहुंचेगीजहां आदिगुरु शंकराचार्य की विशाल प्रतिमा स्थापित की जायेगी।

            इस अवसर पर मुख्य वक्ता पूज्यनीय संतोष शास्त्री ने भी आदिगुरु शंकराचार्य के जीवनवृतान्त पर जानकारी दी। उन्होने कहा कि द्वापरयुग में वेद व्यास थेतो कलियुग में आदिगुरु शंकराचार्य। जिन्होने सम्पूर्ण समाज की एक और अखण्डता को ध्यान में रखते हुये एकात्म अद्वैत का सिद्धांत दिया। उन्होने वर्ण भेद को मिटाने के लिये बहुत से भाष्य भी लिखे।

            इस अवसर पर विधायक संदीप जायसवाल ने एकात्म के संदेश का संकल्प का भी उपस्थित जनमानस को दिलाया। वहीं जनपद अध्यक्ष श्री तिवारी ने जनसंवाद कार्यक्रम में शामिल हुये सभी उपस्थित जनों का आभार प्रदर्शित किया।

 

बरही में एकात्म यात्रा के स्वागत में उमड़ा जन सैलाब

जगह जगह कलष एवं पुष्प वर्षा से किया स्वागत

राज्यमंत्री श्री पाठक भी हुये एकात्म यात्रा में शामिलथामा ध्वज

एकात्म यात्रा का उद्वेश्य अद्वेतवाद् है - ब्रम्हानन्द दास जी महाराज

एकात्म यात्रा सामान्य नहीं विलक्षण यात्रा है - डॉ0 कृष्णकान्त आचार्य

कटनी (26 दिसंबर)- बड़वारा के बाद बरही पहुंची एकात्म यात्रा का उत्साह और उमंग के साथ स्वागत बरही वासियों ने किया। यात्रा के अभिनन्दन के लिये जनसैलाब उमड़ पड़ा। जगह-जगह यात्रा का अभिनन्दन और चरणपादुका का पूजन स्थानीयजनों द्वारा किया गया। बरही में एकात्म यात्रा में प्रदेश के सूक्ष्मलघु एवं मध्यम उद्यम राज्यमंत्री श्री संजय सत्येन्द्र पाठक भी शामिल हुये। उन्होने भी चरण पादुका का पूजन कर ध्वज थामा।

स्थानीय राम मंदिर परिसर में जनसंवाद कार्यक्रम आयोजित हुआ। जिसमें पूज्यनीय संत ब्रम्हानन्द दास जी महाराजमुख्य क्क्ता डॉ0 कुष्णकान्त चतुर्वेदी ने अपने विचार रखे। प्रारंभ में यात्रा की रुपरेखा के विषय में अमरकंटक से प्रारंभ हुई एकात्म यात्रा के सह संयोजक श्री शिव नारायण पटेल ने विस्तार से जानकारी दी।

जन संवाद कार्यक्रम को संबोधित करते हुए ब्रम्हानन्द महाराज जी ने कहा कि एकात्म यात्रा का उद्वेश्य अद्वेतवाद् है। एकात्म और अद्वैत एक दूसरे के पूरक हैं। इसके मूल में एकौ ब्रम्ह द्वितीयो नास्ति की संकल्पना है। इस यात्रा के माध्यम से मैं और तुम के भेद को समाप्त करने का यह राज्य सरकार द्वारा प्रारंभ किया गया आध्यात्मिक प्रयास है। वास्तविक में यही अद्वैतवाद् है। जिसकी संकल्पना आदिगुरु शंकराचार्य जी ने दी है।

वहीं यात्रा के मुख्य वक्ता डॉ0 कुष्णकान्त चतुर्वेदी ने एकात्म यात्रा को सामान्य नहीं विलक्षण यात्रा बताया। उन्होने आदिगुरु शंकराचार्य के जीवन पर प्रकाश डाला। साथ ही विभिन्न वृतान्त भी बताये। उन्होने कहा कि आदिगुरु शंकराचार्य ने कम उम्र में चार वेदसारे शास्त्र पढ़े। जिस उम्र में बच्चे खेलना नहीं भूलते हैंउस उम्र में उन्होने राष्ट्र के मानक स्थापित किये। चारो धाम बनाये। संसार के सारे दार्शनिक संतों में जगतगुरु शंकराचार्य सबसे लोकप्रिय संत हैं।

जनसंवाद कार्यक्रम में शामिल हुये पूज्यनीय संत समाज का अभार प्रदर्शन राज्यमंत्री श्री संजय सत्येन्द्र पाठक ने किया। उन्होने कहा कि संतों की शरण में हम सबको बैठने का अवसर मिला,यह हम सबका सौभाग्य है। एक भारत-श्रेष्ठ भारत की तर्ज पर सम्पूर्ण कुरुतियां दूर होंसमाज और जाति भेद मिटेहम सभी एक सूत्र में बंधेंयही उद्वेश्य एकात्म यात्रा का है। जिसमें हम सबको अपनी सहभागिता करनी चाहिये। राज्य सरकार ने एैसे आदिगुरु शंकराचार्य जिन्होने एकात्म अद्वैत का सिद्धान्त दिया। चारों मठों की स्थापना की। उनके गुरु उन्हें मध्यप्रदेश में मिले। उस स्थान पर आदिगुरु शंकराचार्य जी की विशाल प्रतिमा स्थापित होइसमें जनसहभागिता होइसलिय धातु संग्रहण के माध्यम से जनजागरुकता का यह अभियान चलाया है। राज्यमंत्री श्री पाठक ने उपस्थित जनमानस को इस अभियपन में जुड़ते हुये अपनी सक्रिय सहभागिता के लिये प्रेरित भी किया।

इस अवसर पर प्रदेश की समाज कल्याण बोर्ड की अध्यक्ष श्रीमती पद्मा शुक्लाजिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती ममता पटेलबरही नगर परिषद् अध्यक्ष श्रीमती सरस्वती तिवारी सहित अन्य गणमान्य जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

 

कलेक्टर ने मुख्यमंत्री के आगमन के तैयारियों की समीक्षा की

कटनी (26 दिसंबर)- कलेक्टर विशेष गढ़पाले ने गतदिवस सोमवार को जनपद पंचायत बड़वारा के सभाकक्ष में 27 दिसंबर को मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के कटनी के बहोरीबंद आगमन को दृष्टिगत रखते हुये जिले के प्रमुख अधिकारियों की बैठक ली। समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने अधिकारियों को जनसंवाद कार्यक्रम स्थल में समुचित पेयजल व्यवस्थावाहन पार्किंग की व्यवस्थासाफ-सफाई की व्यवस्थावैरीकेंटिंग की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिये। उन्होने कार्यक्रम स्थल में फायर बिग्रेड आदि की भी व्यवस्थाएं सुनिश्चित कराने के लिये भी निर्देशित किया।

            बैठक में कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि सभा स्थल पर भीड़ को नियंत्रित करने के लिये समुचित व्यवस्थाएं करायें साथ ही मंच पर धर्मगुरूओं की बैठक व्यवस्था के साथ-साथ जनप्रतिनिधियों की बैठक व्यवस्था की माकूल व्यवस्थाएं सुनिश्चित करायें। इसके साथ ही श्री गढ़पाले ने सीएमएचओ को एम्बुलेन्स एवं डॉक्टर्स की टीम तैनात करने के निर्देश दिये। वहीं विद्युत विभाग के अमले को विद्युत व्यवस्था दुरुस्त रखने के लिये निर्देशित किया। इसी के साथ कलेक्टर ने हेलीपैड पर की जाने वाली आवश्यक तैयारियों का जिम्मा भी संबंधित अधिकारियों को सौंपा।

 
कटनी | 06-दिसम्बर-2017
 
 
    प्रदेश के सभी सरकारी मिडिल स्कूलों में शिक्षण सत्र 2017-18 में पढ़ रहे कक्षा 7 और 8 के विद्यार्थियों के लिये हिन्दी ओलम्पियाड 12 दिसम्बर को आयोजित किया जाना था। परीक्षा के लिये विद्यार्थियों ने स्वैच्छिक रूप से पंजीयन कराया है। स्कूल शिक्षा विभाग ने अपरिहार्य कारणों से परीक्षा तिथि में परिवर्तन किया है।
    हिन्दी ओलम्पियाड में अब परीक्षा 17 दिसम्बर दिन रविवार को दोपहर 12 से दोपहर 2.15 बजे तक पूर्व निर्धारित परीक्षा केन्द्रों पर होगी।
    संचालक राज्य शिक्षा केन्द्र ने विकासखण्ड स्रोत समन्वयक और परीक्षा केन्द्र प्रभारियों को निर्देश दिये हैं। निर्देशों में कहा गया है कि mphindiolympiad.org अथवा hindiolympiad.org से प्रदाय किये गये रजिस्टर्ड अकाउंट द्वारा यूजरनेम पासवर्ड के माध्यम से विद्यार्थियों के प्रवेश-पत्र व परीक्षा केन्द्रों की जानकारी डाउनलोड कर संबंधित विद्यार्थियों को उपलब्ध करवाई जाये।
    परीक्षा के आयोजन के संबंध में अन्य जानकारी प्रदेश के संबंधित जिला शिक्षा अधिकारी और ब्लॉक शिक्षा अधिकारी कार्यालय से भी प्राप्त की जा सकती है।
 

लोकसेवक एप में नहीं लगाई अटेन्डेन्स, जिला शिक्षा अधिकारी ने थमाया एक संकुल प्राचार्य सहित 33 शिक्षकों को कारण बताओ सूचना पत्र 

कटनी | 01-दिसम्बर-2017
 
 
 
   लोकसेवक एप द्वारा अधिनस्थ अमले की मॉनीटरिंग में लापरवाही करना शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय देवगांव के संकुल प्राचार्य व प्रभारी प्राचार्य अजय गौतम को भारी पड़ी है। जिसके कारण जिला शिक्षा अधिकारी ने संबंधित संकुल प्राचार्य को कारण बताओ सूचना पत्र जारी किया है। जिसमें उन्होने 3 दिवस के भीतर स्वयं का प्रतिवाद उपलब्ध कराने के लिये निर्देशित किया है। इसी तरह जिला शिक्षा अधिकारी ने संकुल प्राचार्य श्री गौतम को लोकसेवक एप में नियमित हाजिरी नहीं लगाने वाले अध्यापकों व शिक्षकों को भी शोकाज जारी करने के स्पष्ट निर्देश दिये हैं। जिनका 3 दिनों में समाधानकारक जवाब ना प्रस्तुत करने पर नियमानुसार अनुशासनात्मक कार्यवाही करने के लिये भी कहा गया है।
   उल्लेखनीय है कि शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय देवगांव संकुल अंतर्गत लोकसेवक एप में लोकसेवक एप की ऑनलाईन रिपोर्ट में यह तथ्य सामने आया कि इन 33 शासकीय सेवकों में से 7 शासकीय सेवको द्वारा कभी लोकसेवक एप में लॉगिन ही नहीं किया गया। वहीं शेष 26 के द्वारा नियमित रुप से मोबाईल एप पर अटेन्डेन्स नहीं लगाई जा रही थी। इस पर जिला शिक्षा अधिकारी ने संबंधित संकुल प्राचार्य सहित इन सभी 33 अध्यापकों व शिक्षकों को कारण बताओ सूचना पत्र जारी के लिये निर्देशित किया है।
   इनमें शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय देवगांव की अध्यापक पुष्पा सोनी, शिव चरण बर्मन, सरिता सिंगौटे, गजाला बेगम, सदन प्रसाद वर्मा, संतोष पाल, अनिल तिवारी, राजेश शर्मा, मोहनी श्रीवास्तव, अरविन्द पाण्डेय, अनीता सूर्यवंशी, नबोर तिर्की, मुन्ना लाल दुबे, विद्यावती सिंह, ज्ञानी राम, सविता राय, नरेश डोंगरे, कमलेश मिश्रा, शिल्पा गुप्ता, मान सिंह धुर्वे, राजमोहन सिंह, रेशमा अंजुम, ऋतु संयाम, मनीष कुमार पटेल, विनय कुमार पटेल, अमुत लाल मनेश्वर, ओम शंकर त्रिपाठी, गोविंद पाटकर, गायत्री श्रीवास्तव, प्रकाश नागपुर, राजू कोरी, फहमीदा बानो और राम विशाल चौहान शामिल हैं।

 

 

 

 
 

 

 
 
 
 
 
  • Address: Harihar Bhavan Nowgong Dist. Chatarpur Madhya Pradesh  , Mo : 98931-96874 , Email :  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it. Web : www.ganeshshankarsamacharsewa.in