डिण्डोरी समाचार

 

 

मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे ने मकर संक्रांति के अवसर पर नर्मदा मैया की पूजा-अर्चना की 
डिंडोरी | 15-जनवरी-2018
 
 
    
   जिले में रविवार को मकर संक्रांति के अवसर पर नर्मदा नदी के तटीय गांव मालपुर और कुटरई में मकर संक्रांति मेला का आयोजन किया गया। यह मेला प्रतिवर्ष मकर संक्रांति के अवसर पर भरता है और इन मेलों में हजारों की संख्या में श्रद्धालु आते हैं। प्रदेश शासन के मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण श्रम, मकर संक्रांति के अवसर पर ग्राम-मालपुर मेला एवं कुटरई मेला में मां नर्मदा मैया की पूजा-अर्चना की और चुनरी भेंट की। मंत्री श्री धुर्वे ने इस अवसर पर कन्या पूजन भी किया और ग्राम पंचायत फुलवाही में आयोजित सांस्कृतिक कार्यक्रमों में शामिल हुए। मंत्री श्री धुर्वे ने मकर संक्रांति मेला में पहुंचे श्रद्धालुओं को प्रसाद का वितरण किया। इस अवसर पर जनपद पंचायत शहपुरा अध्यक्ष श्री थानी सिंह धुर्वे एवं जनपद पंचायत शहपुरा उपाध्यक्ष टेकेश्वर साहू भी उपस्थित थे।   

 

 

मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन योजना के लिए अनुरक्षक नियुक्त 
डिंडोरी | 12-जनवरी-2018
 
  मुख्यमंत्री तीर्थदर्शन योजना के अंतर्गत जिले के 50 तीर्थयात्रियों को द्वारिकाधीश तीर्थ यात्रा में ले जाने और वापस लाने के लिए डिप्टी कलेक्टर डिण्डौरी ने श्री घनश्याम शर्मा अनुरक्षक कार्यालय भू-अभिलेख डिण्डौरी एवं श्री राकेश कुमार झारिया कार्यालय जिला शहरी विकास अभिकरण को अनुरक्षक नियुक्त किया है। जारी आदेश के मुताबिक नियुक्त अनुरक्षक अपने-अपने दायित्वों का निर्वहन करेंगे और यात्रियों को भी आपेक्षित नियमों का पालन करवायेंगे।  
 

 

प्रदेश के स्कूलों में होंगी "मतदाता जागरूकता" पर प्रतियोगिताएं 

स्कूल शिक्षा विभाग ने जारी किये निर्देश 
डिंडोरी | 08-जनवरी-2018
 
 राज्य के स्कूलों में मतदाता जागरूकता विषय को लेकर विभिन्न प्रतियोगिताएँ आयोजित होंगी। इनमें निबंध, वाद-विवाद, चित्रकला और स्लोगन प्रतियोगिताएँ प्रमुख हैं। प्रतियोगिता के आयोजन को लेकर स्कूल शिक्षा विभाग ने जिला शिक्षा अधिकारियों को निर्देश जारी किये हैं। स्कूलों में यह प्रतियोगिताएँ 12 जनवरी को होंगी। निबंध प्रतियोगिता का विषय सुलभ और सरल चुनाव, राष्ट्रीय मतदाता दिवस का महत्व, निर्वाचन में मतदान का महत्व, मतदान की अनिवार्यता, ऑनलाइन वोटिंग, रखे गये हैं। वाद-विवाद प्रतियोगिता का विषय मतदान के लिये जरूरी है वोटर आई.डी., युवा ही लोकतंत्र का आधार हैं, ऑनलाइन वोटिंग एक बेहतर विकल्प, मजबूत लोकतंत्र महिलाओं की भागीदारी के बिना संभव नहीं है और मतदान की अनिवार्यता, होंगे। चित्रकला प्रतियोगिता में जो विषय रखे गये हैं, उनमें आदर्श मतदान केन्द्र, नि:शक्त मतदाताओं की सुविधाएँ और मतदाता सहायता केन्द्र हैं। स्लोगन प्रतियोगिता के लिये मतदाता शिक्षा, नैतिक मतदान, बिना लालच, भय एवं जातिवाद के मतदान, चुनाव में महिलाओं की भागीदारी, लोकतंत्र में युवाओं की भूमिका विषय रखे गये हैं। प्रदेश में मतदाताओं में जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से प्रतिवर्ष 25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस मनाया जाता है। दिवस पर विभिन्न प्रतियोगिताओं में शामिल होने वाले विजयी विद्यार्थियों को पुरस्कृत किया जायेगा। राज्य-स्तरीय प्रतियोगिता सुभाष उत्कृष्ट विद्यालय में होगी।

 

राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम योजना से बच्चों की लौटी मुस्कान "सफलता की कहानी" 
हृदय रोग के उपचार के लिए हुआ सफल ऑपरेशन 
डिंडोरी | 04-जनवरी-2018
 
 
 
 
   शासन द्वारा संचालित राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम योजना के अंतर्गत 0-18 वर्ष तक के बच्चे जो गंभीर रोग से ग्रसित हैं उनका निःशुल्क उपचार किया जाता है। इस योजना से डिण्डौरी जिले के चार बच्चों की मुस्कान वापस लौटी है। मुम्बई में इनका सफल ऑपरेशन सम्पन्न हुआ है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. आर.के. मेहरा ने बताया कि राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम योजना के अंतर्गत कु. अंजली मेहरा पिता मुकेश उम्र 03 वर्ष, ग्राम धुर्रा, धनंजय सिंह राठौर पिता मानसिंह उम्र 02 वर्ष, ग्राम भाजीटोला, तनिष्क कुमार बर्मन पिता दुर्गेश बर्मन, उम्र 02 वर्ष, ग्राम विक्रमपुर एवं कु. जागेश्वरी पिता हेमसिंह उम्र 05 वर्ष, ग्राम आनाखेड़ गंभीर हृदय रोग से ग्रसित थे जिनका राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम योजना के तहत मुम्बई में सफल ऑपरेशन कराया गया। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी ने बताया कि डिण्डौरी जिले में राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम योजना के अंतर्गत जिले में कार्यरत आर.बी.एस.के. मोबाइल दल में कार्यरत स्टॉफ की ड्यूटी लगाई गई है। मोबाइल दल जिले के स्कूलों और आंगनबाड़ी केन्द्रों में भ्रमण करता है ओर 0-18 वर्ष तक के गंभीर रोग से ग्रसित बच्चों को चिन्हित कर उन्हें शासन द्वारा चिन्हित अस्पतालों में उपचार कर लाभान्वित किया जाता है।

 

कलेक्टर ने ’’एकात्म यात्रा’’ की तैयारियों का किया निरीक्षण 
’’एकात्म यात्रा’’ 31 दिसम्बर को डिण्डौरी में जनसंवाद कर करेगी रात्रि विश्राम 
डिंडोरी | 30-दिसम्बर-2017
 
  आदिगुरू शंकराचार्य ने भारत की सांस्कृतिक एकता को जोड़ने का महान कार्य किया है। आदिगुरू शंकराचार्य के जीवन में यात्राओं का महत्वपूर्ण स्थान रहा है। आदिगुरू शंकराचार्य की ’’एकात्म यात्रा’’ 31 दिसम्बर को कुण्डम से डिण्डौरी जिले में प्रवेश करेगी। ’’एकात्म यात्रा’’ का शहपुरा और डिण्डौरी में जनसंवाद का कार्यक्रम आयोजित होगा और यह यात्रा डिण्डौरी में रात्रि विश्राम करेगी। इस अवसर पर डिण्डौरी के डेमघाट में नर्मदा जी की आरती भी उतारी जायेगी। आरती में सभी साधु-संत, श्रद्धालु, समाजसेवी, जनप्रतिनिधि और अधिकारी-कर्मचारी मौजूद रहेंगे। कलेक्टर श्री अमित तोमर ने शनिवार को उत्कृष्ट विद्यालय मैदान में आयोजित होने वाले जनसंवाद कार्यक्रम और ’’एकात्म यात्रा’’ के स्वागत के लिए की जा रही तैयारियों का निरीक्षण किया। इस अवसर पर विभागीय अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे। 
        जिले में ’’एकात्म यात्रा’’ के दौरान जनसंवाद के कार्यक्रमों का भी आयोजन किया जायेगा। जनसंवाद में आदिगुरू शंकराचार्य के जीवन वृतांत पर जानकारी दी जायेगी। ’’एकात्म यात्रा’’ 31 दिसम्बर 17 को कुण्डम से जिले में प्रवेश करेगी। इस अवसर पर शहपुरा में जनसंवाद का कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। जनसंवाद कार्यक्रम में ग्राम-कोहानी, गुरैया, टिकरिया, बडखेरा, बिजौरी, भीमपार, बरौंदी, बांकी, करौंदी, रनगांव, करगांव, घुटैना एवं मरवाही के लोगों की सहभागिता रहेगी। इसके बाद ’’एकात्म यात्रा’’ डिण्डौरी पहुंचेगी और उत्कृष्ट विद्यालय खेल परिसर डिण्डौरी में जनसंवाद का कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। जनसंवाद कार्यक्रम में ग्राम-शाहपुर, पलकी, रहंगी, मुडकी, देवरा, लुकामपुर, मडियारास, पडरिया, सिमरिया, सूबखार, चटुआ, घानाघाट, कूंडा एवं रयपुरा के लोग शामिल होंगे और ’’एकात्म यात्रा’’ का रात्रि विश्राम डिण्डौरी में होगा। इसके बाद ’’एकात्म यात्रा’’ दूसरे दिन विकासखण्ड समनापुर पहुंचेगी और कन्या स्कूल खेल परिसर समनापुर में जनसंवाद का कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। जनसंवाद कार्यक्रम में ग्राम-देवलपुर, छिंदगांव, मुकुटपुर, बम्हनी, कोकोमटा, सरई, छांटा, मोहदा, जाताडोंगरी, झांकी, केवलारी, पटपरा, कंचनपुर एवं कुकर्रामठ के लोग शामिल होंगे। इसके बाद ’’एकात्म यात्रा’’ विकासखण्ड अमरपुर में पहुंचेगी और शास. उत्कृष्ट विद्यालय मैदान अमरपुर में जनसंवाद का कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। जनसंवाद कार्यक्रम में ग्राम-डुंगरिया, भाखा, देवरी, बिजौरी, रामगढ, आलोनी, नांदा, मोहनझिर, भपसा, नेवसा, आमगांव, चरगांव एवं भैंसवाही के लोग शामिल होंगे। ’’एकात्म यात्रा’’ अमरपुर में रात्रि विश्राम करेगी और इसके बाद चाबी-मोहगांव होते हुए मण्डला जिले में प्रवेश करेगी। 

 

सी.सी. रोड से गांव मे बदलने लगी आवागमन की सुविधा और लोगों को मिली कीचड़ से मुक्ति "(सफलता की कहानी)" 
सी.सी. रोड का लोकार्पण होने से बिछिया के लोगों में है खुशी का माहौल 
डिंडोरी | 27-दिसम्बर-2017
 
डिण्डौरी जिले के गांवों की सुंदरता और विकास को गली-गली में पंचपरमेश्वर योजना से बनी साफ-सुथरी सी.सी. रोड के माध्यम से पहचाना जा सकता है। जिले के गांवों की गलियों में आवागमन करने के लिए ग्राम पंचायतों द्वारा चमचमाती हुई सी.सी रोड का निर्माण किया गया है। इससे गांवों की गलियों की तस्वीर बदल रही है और गांव में रहने वाले लोगों को कीचड से मुक्ति मिल गई है। सी.सी. रोड बनने से गांवो में भी आवागमन के लिए चमचमाती हुई सड़कों की सुविधाओं का लाभ मिल रहा है। प्रदेश शासन के मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे ने विकास यात्रा के दौरान ग्राम पंचायत बिछिया में पंचपरमेश्वर योजना के अंतर्गत 5 लाख की लागत से बने सी.सी. रोड कुटरई रोड से कलस्टर भवन मार्ग तक का लोकार्पण किया तो इससे गांव में खुशी का माहौल बन गया। सी.सी. रोड बनने से गांव के निवासी श्री संतलाल का कहना है कि पहले कच्ची सड़क होने से गांव वालों को आवागमन करने में कठिनाई होती थी, लेकिन अब सी.सी. रोड बन जाने से आवागमन में किसी भी प्रकार की कठिनाई नहीं होगी। इसी प्रकार से श्री विनोद कुमार का कहना था कि पहले आने-जाने के लिए उबड़-खाबड़ गलियों से जाना पड़ता था, लेकिन अब सी.सी. रोड बन जाने से वह चमचमाती सड़क से जाता है। उन्होंने बताया अब छात्र-छात्राओं को भी स्कूल आने-जाने में आसानी हो रही है और गांव के सभी लोग साफ-सुथरी सी.सी. रोड से अपने खेतों और घरों में आते-जाते है। सी.सी. रोड बनने से गांव के लोगों को कीचड़ से मुक्ति मिल गई है और गांव की पहचान साफ-सुथरे गांव में होने लगी है। श्री बद्रीप्रसाद ने बताया कि पहले गॉव की गर्भवती महिलाओं को कच्ची सड़क से स्वास्थ्य केन्द्र में ले जाया जाता था, इससे बहुत परेशानी होती थी, लेकिन अब सी.सी. रोड बन जाने से किसी भी प्रकार की कठिनाई नहीं होगी।

 

26 दिसम्बर को सुशासन दिवस मनाया जायेगा 

डिंडोरी | 22-दिसम्बर-2017
 
भारत के पूर्व प्रधानमंत्री मान. श्री अटल बिहारी बाजपेयी द्वारा स्थापित सुशासन के उच्चतम मापदण्डों के महत्व को प्रतिपादित करते हुए उनके जन्मदिवस 25 दिसम्बर के एक दिन पश्चात 26 दिसम्बर को सुशासन दिवस के रूप में मनाया जायेगा। इस अवसर पर सभी अधिकारी और कर्मचारियों को सुशासन दिवस पर शपथ भी दिलाई जायेगी कि ’’मैं सत्य निष्ठा से शपथ लेता हूं/लेती हूं कि मैं प्रदेश में सुशासन के उच्चतम मापदण्डों को स्थापित करने के लिए सदैव संकल्पित रहूंगा/रहूंगी और शासन को अधिक पारदर्शी, सहभागी जनकल्याण केन्द्रित तथा जवाबदेह बनाने के लिए हरसंभव प्रयास करता रहूंगा/रहूंगी। प्रदेश के नागरिकों के जीवन स्तर में सुधार लाने के लक्ष्य को पाने के लिए सदैव तत्पर रहूंगा/रहूंगी।’’

 

अनुभूति शिविर का उद्देश्य वन, वन्य प्राणी एवं पर्यावरण की रक्षा करना है 
डिंडोरी | 21-दिसम्बर-2017
 
 
अनुभूति शिविर का उद्देश्य समाज में वन, वन्य प्राणी एवं पर्यावरण की रक्षा करने के लिए लोगों को जागरूक करना है, क्योंकि जागरूक समाज ही वन, वन्य प्राणी एवं पर्यावरण की रक्षा कर सकता है। प्रदेश शासन के मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे खाद्य नागरिक आपूर्ति एव उपभोक्ता संरक्षण श्रम बुधवार को घुघवा फॉसिल्स पार्क में आयोजित अनुभूति शिविर कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमति ज्योतिप्रकाश धुर्वे, कलेक्टर श्री अमित तोमर, पुलिस अधीक्षक डिण्डौरी सहित वन विभाग के अधिकारी-कर्मचारी एवं विद्यार्थीगण उपस्थित थे। 
   मंत्री श्री धुर्वे ने अनुभूति शिविर में सभी बच्चों को जीवाष्म निर्माण के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि घुघवा फॉसिल्स पार्क में प्राचीन काल के जीवाष्म संरक्षित करके रखे गए हैं, जो हमारे अनमोल धरोहर है, हमें इन जीवाष्मों की सुरक्षा और संरक्षण करना चाहिए। उन्होंने वन एवं वन्य प्राणियों की उपयोगिता बताते हुए कहा कि ये हमारे जीवन के अभिन्न अंग हैं, इससे प्रकृति का संतुलन बना रहता है। इसीलिए हमें पर्यावरण की रक्षा के लिए वन एवं वन्य प्राणियों को भी संरक्षित करना चाहिए। आयोजित कार्यक्रम में मंत्री श्री धुर्वे ने बच्चों को घुघवा फॉसिल्स पार्क का भ्रमण भी कराया। इस अवसर पर मंत्री श्री धुर्वे ने बच्चों को प्रमाण-पत्र भी वितरित किए और घुघवा फॉसिल्स पार्क के संरक्षण एवं उत्थान के लिए हरसंभव मदद करने की बात कही।

 

पिंक ड्राईविंग लायसेंस हेतु 21 दिसम्बर को लगेगा शिविर 

डिंडोरी | 20-दिसम्बर-2017
 
 
 
 
    महिलाओं के लिए सुरक्षित वाहन चालन की महत्वता को देखते हुए महिला एवं बाल विकास विभाग तथा जिला परिवहन विभाग के द्वारा ’’पिंक ड्राईविंग लायसेंस ड्राईव’’ अभियान चलाया जा रहा है। इस संबंध में जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी से प्राप्त जानकारी के मुताबिक जिला महिला सशक्तिकरण कार्यालय एवं जिला परिवहन विभाग के संयुक्त रूप से 21 दिसम्बर 17 को आरटीओ कार्यालय सूबखार में प्रात: 10:30 बजे से सायंकाल 5:00 बजे तक ’’पिंक ड्राईविंग लायसेंस ड्राईव’’ शिविर का आयोजन किया जायेगा। उक्त शिविर में महिलाएं एवं युवतियों को आवश्यक दस्तावेज जैसे- 2 पासपोर्ट साईज की फोटो, आधार कार्ड की छायाप्रति, मतदाता परिचय पत्र की छायाप्रति, जन्म प्रमाण-पत्र, सहित उपस्थित होना होगा। 

 

मंत्री श्री धुर्वे शिलान्यास, लोकार्पण एवं हितग्राहियों को योजनाओं से लाभांवित करेंगे 

डिंडोरी | 19-दिसम्बर-2017
 
 प्रदेश शासन के मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण श्रम, 20 दिसम्बर 17 को डिण्डौरी में स्थानीय कार्यक्रमों में शामिल होंगे। मंत्री श्री धुर्वे 21 दिसम्बर 17 को प्रात: 10:00 बजे डिण्डौरी से ग्राम-भरद्वारा, ग्राम पंचायत बरखेड़ा के लिए प्रस्थान करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे प्रात: 11:00 बजे ग्राम-बरखेडा में रंगमंच, सी.सी. रोड, का शिलान्यास, प्रधानमंत्री आवास योजना का लोकार्पण, ग्राम विद्युतीकरण, वनोपज संग्रहण, सब्जी की दुकान और के.सी.सी. कार्ड का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे दोपहर 1:00 बजे ग्राम-करौंदी ग्राम पंचायत बरखेडा में उचित मूल्य की दुकान, नवीन तालाब निर्माण का शिलान्यास, प्रधानमंत्री आवास योजना, अन्नपूर्णा योजना, स्पिंकलर सेट एवं धान बीज का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे दोपहर 3:00 बजे ग्राम पंचायत गुतलवाह में रंगमंच, एवं सी.सी. रोड, का शिलान्यास, लोकार्पण तथा मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार मण्डल, प्रधानमंत्री आवास योजना, जननी सुरक्षा योजना, ग्राम विद्युतीकरण, होटल-दुकान और वृद्धापेंशन का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे सायंकाल 5:00 बजे ग्राम-घुटेना, ग्राम पंचायत गुतलवाह में सी.सी. रोड का लोकार्पण और अन्नपूर्णा योजना, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना, वृद्धापेंशन, विधवा पेंशन, प्रधानमंत्री आवास योजना, जननी सुरक्षा योजना, ग्राम विद्युतीकरण एवं बीज वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे सायंकाल 7:00 बजे ग्राम गुतली रैयत, ग्राम पंचायत गुतलवाह में सी.सी. रोड, अन्नपूर्णा योजना, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना, वृद्धापेंशन, विधवा पेंशन, प्रधानमंत्री आवास योजना, जननी सुरक्षा योजना, ग्राम विद्युतीकरण एवं बीज वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे रात्रि विश्राम ग्राम-गुतली रैयत ग्राम पंचायत गुतलवाह में करेंगे। 
मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे के 22 दिसम्बर के कार्यक्रम:-
      प्रदेश शासन के मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण श्रम, 22 दिसम्बर 17 को प्रात: 11:00 बजे ग्राम पंचायत दलकासरई में सी.सी. रोड एवं उचित मूल्य की दुकान का शिलान्यास और ग्राम विद्युतीकरण, प्रधानमंत्री आवास योजना, बकरा प्रदाय, सेंटिंग कार्य का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे दोपहर 1:00 बजे ग्राम-कुडदर रैयत, ग्राम पंचायत दलकासरई में ग्रेवल रोड और सी.सी. रोड का शिलान्यास करेंगे तथा गैस सिलेण्डर, सेंटिंग कार्य, ग्राम विद्युतीकरण, वृद्धापेंशन का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे दोपहर 3:00 बजे ग्राम-घुघवा, ग्राम पंचायत टिकरासरई में शांतिधाम का शिलान्यास एवं लोकार्पण तथा ग्रेवल रोड का शिलान्यास तथा नलकूप, वृद्धापेंशन, मसाला क्षेत्र विस्तार, सब्जी क्षेत्र विस्तार, सेंटिंग कार्य, बलराम ताल योजना, ग्राम विद्युतीकरण, प्रधानमंत्री आवास योजना, जननी सुरक्षा योजना एवं बीज वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे सायंकाल 5:00 बजे ग्राम-बासा, ग्राम पंचायत टिकरासरई में सी.सी. रोड, शांति धाम, ग्रेवल रोड का शिलान्यास एवं लोकार्पण तथा श्रमिक शेड, पीएमजीएसवाय रोड का शिलान्यास तथा नलकूप योजना, नलकूप, वृद्धापेंशन, वनोपज संग्रह, बलराम ताल योजना, ग्राम विद्युतीकरण, प्रधानमंत्री आवास योजना, सहकारी उचित मूल्य की दुकान और मध्यप्रदेश भवन एवं संनिर्माण कर्मकार मण्डल योजना का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे सायंकाल 7:00 बजे ग्राम पंचायत कटंगी में तालाब गहरीकरण, श्रमिक शेड, सी.सी. रोड का षिलान्यास एवं वनोपज संग्रहण, प्रधानमंत्री आवास योजना, मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार मण्डल की योजनाओं का वितरण करेंगे और रात्रि विश्राम ग्राम-कटंगी में करेंगे। 
मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे के 23 दिसम्बर के कार्यक्रम:-
      प्रदेश शासन के मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण श्रम, 23 दिसम्बर 17 को प्रात: 11:00 बजे ग्राम-धनौली, ग्राम पंचायत कटंगी में सी.सी. रोड का शिलान्यास एवं लोकार्पण, तालाब गहरीकरण का शिलान्यास, वनोपज संग्रहण, प्रधानमंत्री आवास योजना एवं जननी सुरक्षा योजना का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे दोपहर 1:00 बजे ग्राम पंचायत बिछिया में रंगमंच, श्रमिक शेड का शिलान्यास, सी.सी. रोड और राजीव गांधी सेवा केन्द्र का लोकार्पण तथा मेढ बंधान, गौ-सांड प्रदाय, वृद्धापेंशन, विधवा पेंशन, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, चाट दुकान/भोजनालय, सिलाई कार्य, होटल दुकान, सेंटिंग कार्य, पान दुकान, टेंट व्यवसाय, प्रधानमंत्री आवास योजना, जननी सुरक्षा योजना एवं मध्यप्रदेश भवन संनिर्माण कर्मकार मण्डल योजना, राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना, मसाला क्षेत्र विस्तार, सब्जी क्षेत्र विस्तार एवं बीज का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे दोपहर 3:00 बजे ग्राम पंचायत छपरा रैयत में सी.सी. रोड, प्रधानमंत्री ग्रामीण सड़क, ग्रेवल रोड, मुक्तिधाम का लोकार्पण और सी.सी. रोड का शिलान्यास तथा कपिल धारा कूप, किचन गार्डन, मसाला क्षेत्र विस्तार, सब्जी क्षेत्र विस्तार, मिठाई दुकान, भोजनालय, सब्जी दुकान, सेंटिंग कार्य, अन्नपूर्णा योजना, उचित मूल्य की दुकान, प्रधानमंत्री आवास योजना तथा मध्यप्रदेश भवन संनिर्माण कर्मकार मण्डल का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे सायंकाल 5:00 बजे ग्राम-गपैया रैयत, ग्राम पंचायत छपरा रैयत में शांतिधाम का लोकार्पण तथा रंगमंच, ग्रेवल रोड, सी.सी रोड का शिलान्यास और कपिलधारा कूप, किचन गार्डन, मनिहारी दुकान, सब्जी दुकान, सिलाई कार्य, अन्नपूर्णा योजना, बलराम ताल योजना, ग्राम विद्युतीकरण, प्रधानमंत्री आवास योजना, वृद्धापेंशन, मध्यप्रदेश भवन एवं संनिर्माण कर्मकार मण्डल तथा बीज का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे सायंकाल 7:00 बजे ग्राम पंचायत बडझर में शांतिधाम, रंगमंच, आंगनबाडी केन्द्र का लोकार्पण और श्रमिक शेड, ग्रेवल रोड का शिलान्यास तथा गौ-सांड प्रदाय, वृद्धापेंशन, अन्नपूर्णा योजना, एन.एम.एस.ए. योजना, सी.बी.सी.डब्ल्यू. एन.एम.एस.ए. योजना, एग्रो फॉरेस्ट्री, फर्मिंग, महुआ पौध रोपण, सेंटिंग कार्य, उचित मूल्य की दुकान, प्रधानमंत्री आवास योजना, जननी सुरक्षा योजना, मध्यप्रदेश भवन संनिर्माण कर्मकार मण्डल का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे इसके बाद रात्रि 8:00 बजे डिण्डौरी के लिए प्रस्थान करेंगे और रात्रि 10:00 बजे डिण्डौरी आगमन कर रात्रि विश्राम करेंगे।

 

प्रगतिरत प्रोजेक्ट का विलम्ब शुल्क सहित पंजीयन कराने की अंतिम तिथि 31 दिसम्बर 
डिंडोरी | 14-दिसम्बर-2017
 
  सभी ऐसे सम्पवर्तक, जिन्होंने अब तक प्रगतिरत (ऑन गोइंग) प्रोजेक्ट्स का पंजीयन रियल एस्टेट रेग्युलेटरी अथॉरिटी (रेरा) के तहत नहीं करवाया है, वे अब 31 दिसम्बर, 2017 तक विलम्ब शुल्क सहित पंजीयन करवा सकते हैं। इस तारीख तक पंजीयन नहीं कराने वाले प्रोजेक्ट के सम्पर्वतकों के विरुद्ध भू-सम्पदा अधिनियम-2016 के अंतर्गत उचित वैधानिक दण्डात्मक कार्यवाही की जाएगी। उल्लेखनीय है कि भू-सम्पदा (विनियम और विकास) अधिनियम-2016 की धारा-3 के अंतर्गत प्लानिंग क्षेत्रों के प्रगतिरत प्रोजेक्ट के पंजीयन के लिए 31 जुलाई, 2017 तथा नॉन प्लानिंग क्षेत्रों की प्रचलित परियोजनाओं के लिए 6 अक्टूबर, 2017 अंतिम तिथियाँ निर्धारित की गई थीं। निर्धारित समय-सीमा के बाद पंजीयन के लिए प्राप्त होने वाले प्रोजेक्ट के आवेदनों को विलम्ब शुल्क सहित स्वीकार करने की व्यवस्था की गई थी, जिसे प्राधिकरण द्वारा 31 दिसम्बर से समाप्त किए जाने का निर्णय लिया है।

 

मंत्री श्री धुर्वे विभिन्न निर्माण कार्यों का भूमिपूजन और हितग्राहियों को लाभांवित करेंगे 

मंत्री श्री धुर्वे 13 दिसम्बर को ग्राम-बिलगांव में करेंगे रात्रि विश्राम 
डिंडोरी | 12-दिसम्बर-2017
 
 
   प्रदेश शासन के मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण श्रम 13 दिसम्बर को प्रात: 9:00 बजे जबलपुर से ग्राम-चटिया माल, ग्राम पंचायत खजरी जिला डिण्डौरी के लिए प्रस्थान करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे प्रात: 11:00 बजे ग्राम-चटिया माल, ग्राम पंचायत खजरी माल, विकासखण्ड अमरपुर में सुदूर सड़क सम्पर्क प्राथमिक शाला से भर्रा टोला तक का भूमिपूजन और पेंशन हितग्राही, मेढ बंधान, कपिल धारा कूप, प्रधानमंत्री आवास योजना का गृह प्रवेश, वन समिति, जननी सुरक्षा योजना, किसान क्रेडिट कार्ड और पंचशाला खसरा एवं नक्शा का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे दोपहर 1:00 बजे ग्राम-चंद्रागढ, ग्राम पंचायत खजरी में सी.सी. रोड का भूमिपूजन, खेल मैदान का लोकार्पण, पेंशन हितग्राही, मेढ बंधान का कार्य, कपिल धारा, प्रधानमंत्री आवास योजना का गृह प्रवेश, राशन पात्रता पर्ची का वितरण, कूप खनन, जननी सुरक्षा योजना, किसान क्रेडिट कार्ड औरं पंचशाला खसरा एवं नक्सा का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे दोपहर 3:00 बजे ग्राम-चटिया रैयत, ग्राम पंचायत खजरी माल में कपिल धारा कूप, मेढ बंधान का कार्य, प्रधानमंत्री आवास योजना का गृह प्रवेश, कूप खनन, किसान क्रेडिट कार्ड वितरण, पंचशाला खसरा एवं नक्सा का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे सायंकाल 5:00 बजे ग्राम पंचायत खजरी माल में श्रमिक शेड का निर्माण, उचित मूल्य की दुकान के गोदाम का लोकार्पण, पेंशन हितग्राही, मेढ बंधान का कार्य, कपिल धारा कूप, पात्रता पर्ची का वितरण, जननी सुरक्षा योजना, कूप खनन, किसान क्रेडिट कार्ड एवं पंचशाला खसरा-नक्सा का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे सायंकाल 7:00 बजे ग्राम बिलगांव, ग्राम पंचायत साम्हर विकासखण्ड अमरपुर में सी.सी. रोड, सुदूर ग्राम सम्पर्क योजना प्रताप के घर से बिलगांव तक का भूमिपूजन एवं पेंशन हितग्राही, मेढ बंधान के कार्य, कपिल धारा कूप, पात्रता पर्ची का वितरण, उज्जवला योजना, प्रधानमंत्री आवास योजना का गृह प्रवेश, जननी सुरक्षा योजना, किसान क्रेडिट कार्ड का वितरण करेंगे और रात्रि विश्राम ग्राम-बिलगांव में करेंगे।
14 दिसम्बर के कार्यक्रम, मंत्री श्री धुर्वे गांव में करेंगे रात्रि विश्राम:-
   प्रदेश शासन के मंत्री श्री ओमप्रकाश धुर्वे खाद्य नागरिक आपूर्ति एवं उपभोक्ता संरक्षण श्रम 14 दिसम्बर को प्रात: 11:00 बजे ग्राम पंचायत झिलमिला में श्रमिक शेड एवं नवीन तालाब निर्माण का भूमिपूजन और पेंशन हितग्राही, मेढ बंधान का कार्य, प्रधानमंत्री आवास योजना का गृहप्रवेश, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के गैस वितरण, जननी सुरक्षा योजना, किसान क्रेडिट कार्ड एवं पंचशाला खसरा एवं नक्शा का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे दोपहर 1 बजे ग्राम-करनपुरा, ग्राम पंचायत झिलमिला में सी.सी. रोड का भमिपूजन और मेढ बंधान के कार्य, जननी सुरक्षा योजना, कूप खनन, किसान क्रेडिट कार्ड एवं पंचशाला खसरा एवं नक्सा का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे दोपहर 3:00 बजे ग्राम-पथरिया, ग्राम पंचायत झिलमिला में सी.सी. रोड, सुदूर ग्राम सम्पर्क योजना मुख्यमार्ग से दादर टोला का भूमिपूजन और पेंशन हितग्राही, मेढ बंधान के कार्य, प्रधानमंत्री आवास योजना का गृह प्रवेश, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना का गैस वितरण, जननी सुरक्षा योजना, किसान क्रेडिट कार्ड एवं पंचशाला खसरा एवं नक्सा का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे सायंकाल 5:00 बजे ग्राम-पडरिया, ग्राम पंचायत चांदपुर में सी.सी. रोड निर्माण कार्य का भूमिपूजन, पेंशन हितग्राही, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, जननी सुरक्षा योजना, किसान क्रेडिट कार्ड एवं पंचशाला खसरा एवं नक्सा का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे सायंकाल 7:00 बजे ग्राम पंचायत साम्हर में सी.सी. रोड रंगमंच निर्माण एवं श्रमिक शेड निर्माण का भूमिपूजन, पेंशन हितग्राही, भवन संनिर्माण, कर्मकार मण्डल की योजना, मेढ बंधान के कार्य, प्रधानमंत्री आवास योजना का गृह प्रवेश, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, जननी सुरक्षा योजना, किसान क्रेडिट कार्ड एवं पंचशाला खसरा एवं नक्सा का वितरण करेंगे। मंत्री श्री धुर्वे रात्रि 8:00 बजे ग्राम-मोहगांव, ग्राम-पंचायत साम्हर में रंगमंच निर्माण, सी.सी. रोड का निर्माण, सुदूर ग्राम सम्पर्क योजना के निर्माण कार्य का भूमिपूजन और प्रधानमंत्री आवास योजना का गृहप्रवेश, प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, जननी सुरक्षा योजना, वन समिति, किसान क्रेडिट कार्ड एवं पंचशाला खसरा एवं नक्सा का वितरण कर रात्रि विश्राम ग्राम-मोहगांव में करेंगे। 
 

 

नये मतदाताओं के पंजीयन हेतु डोर-टू-डोर सर्वे की अवधि 15 दिसम्बर तक बढ़ी 
डिंडोरी | 08-दिसम्बर-2017
 
 फोटो निर्वाचक नामावली के संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्य के तहत नये मतदाताओं के पंजीकरण के लिए डोर-टू-डोर सर्वे अभियान अब 15 दिसम्बर तक चलाया जायेगा। इस बारे में राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी ने भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशों का हवाला देते हुए सभी जिलों के कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारियों को डोर-टू-डोर सर्वे अभियान की अवधि पन्द्रह दिन बढ़ाने के लिए पत्र जारी किया है। मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा जिला कलेक्टरों से कहा गया है कि डोर-टू-डोर सर्वे की बढ़ी हुई अवधि में दावे-आपत्तियां भी प्राप्त की जायें तथा बीएलओ को एक बार और घर-घर भ्रमण करने के निर्देश दिये जायें ताकि यदि कोई मतदाता प्रथम राउण्ड में छूट गये हों तो उन्हें भी इस अवधि में शामिल किया जा सके।

 

 

उप-संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास डिण्डौरी जांच अधिकारी नियुक्त 

डिंडोरी | 04-दिसम्बर-2017
 
 
 
   कलेक्टर श्री अमित तोमर ने उप-संचालक किसान कल्याण तथा कृषि विकास डिण्डौरी को श्री अश्वनी कुमार झारिया प्राचार्य कृषि विस्तार एवं प्रशिक्षण केन्द्र डिण्डौरी के संबंध में सी.एम. हेल्पलाइन में प्राप्त शिकायतों की जांच के लिए जांच अधिकारी नियुक्त किया है। उक्त जांच पूर्ण होने तक श्री अश्वनी झारिया प्राचार्य कृषि विस्तार एवं प्रशिक्षण केन्द्र डिण्डौरी को जिला पंचायत डिण्डौरी संलग्न किया गया है और सहायक संचालक श्रीमति उर्मिला धुर्वे कृषि कार्यालय, जिला डिण्डौरी को प्राचार्य कृषि विस्तार प्रशिक्षण केन्द्र डिण्डौरी का प्रभार सौंपा गया है।

वन और राजस्व विभाग के अधिकारी वन्यप्राणियों के विचरण क्षेत्र में कड़ी निगरानी रखें 

कलेक्टर ने समय-सीमा की बैठक में दिए निर्देश 
डिंडोरी | 27-नवम्बर-2017
 
  
  
     कलेक्टर श्री अमित तोमर ने कहा कि जिले में वन्य प्राणियों के विचरण की खबरें मिल रही है वन विभाग के अधिकारी और राजस्व विभाग के अधिकारी वन्य प्राणियों के विचरण क्षेत्र में कड़ी निगरानी रखें। उन्होंने कहा कि विभागीय अधिकारी ग्रामीणों को समझाईस दें कि अकेले वन क्षेत्रों में भ्रमण न करें, इससे जनहानि होने की संभावना है। कलेक्टर ने वन्य प्राणियों के विचरण क्षेत्र में लोगों को सावधानी बरतने के लिए मुनादी कराने के निर्देश दिए हैं। जिससे सभी लोगों को वन्यप्राणियों के संबंध में जानकारी हो सके। कलेक्टर सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित समय-सीमा की बैठक में उक्त निर्देश दे रहे थे। इस अवसर पर शिक्षा अधिकारी श्री के.के पटेल, जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री मनोज लारोकर सहित विभागीय अधिकारी कर्मचारी उपस्थित थे। 
    कलेक्टर ने इस दौरान जिले के सभी कार्यालयों में दिव्यांगों के लिए रैम्प बनाने के निर्देश दिए हैं। जिससे दिव्यांगों को शासकीय कार्यालयों में आने-जाने में कठिनाई न हो। उन्होंने सभी विभागीय अधिकारियों को कार्यालयों में रैम्प बनाने के कार्य को सर्वोच्च प्राथमिकता देने को कहा है। कलेक्टर ने कहा कि सभी कार्यालयों को रैम्प के संबंध में जानकारी प्रस्तुत करनी होगी कि उनके कार्यालयों में दिव्यांगों के आने-जाने के लिए रैम्प का निर्माण कर लिया गया है। कलेक्टर ने इसके बाद सी.एम. हेल्पलाईन में लम्बित शिकायतों की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सी.एम. हेल्पलाईन की शिकायतों का निराकरण लेवल-1 एवं लेवल-2 पर हो जाना चाहिए। इन शिकायतों के निराकरण में शिकायतकर्ता का संतुष्ट होना अनिवार्य है। कलेक्टर ने जनपद पंचायत के सभी मुख्यकार्यपालन अधिकारियों को निर्देश दिए कि पंचायतों के निर्माण एवं हितग्राही मूलक कार्यों में तेजी लायें। उन्होंने ग्राम पंचायतों में शासन की योजनाओं की राशि का गबन करने वाले पंचायत सचिवों पर एफ.आई.आर. दर्ज करने के निर्देश भी दिए हैं।
बोंदर मेला की समीक्षा:-
       कलेक्टर ने समय-सीमा की बैठक में बोंदर मेला की समीक्षा की। उन्होंने बोंदर मेला आयोजन के लिए बिजली, पानी एवं सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम करने के निर्देश दिए। कलेक्टर ने विभागीय अधिकारियों को जिम्मेदारी भी सौंपी है कि शासन की योजनाओं से संबंधित विकास प्रदर्षनी लगाई जाए। 
मुर्गीपालन से सोमाबाई बनी आत्मनिर्भर, मुर्गीपालन बना लाभ का धंधा ’’सफलता की कहानी’’ 
डिंडोरी | 24-नवम्बर-2017
 
 
  
   श्रीमति सोमाबाई ग्राम-मोहनझिर जनपद पंचायत अमरपुर जिला-डिण्डौरी ने म.प्र. ग्रामीण आजीविका मिशन द्वारा मुर्गीपालन का व्यवसाय अपनाकर अच्छी खासी आमदानी कमा रही है। उसके लिए मुर्गीपालन का व्यवसाय लाभ का धंधा बन गया है। श्रीमति सोमाबाई ने बताया कि सर्वप्रथम उसने मुर्गी पालन के लिए मुर्गीघर का निर्माण किया। मुर्गीपालन के लिए शासन द्वारा 55 हजार 500 रूपये स्वीकृत किये गए। इसके बाद उन्होंने मुर्गीयों के चूजें खरीद कर लाए। उन्होंने इन चूजों की नियमित रूप से देखभाल एवं दाना-पानी की व्यवस्था सुनिश्चित की। सोमाबाई ने बताया कि मुर्गियों के चूजे 2 महीने में लगभग 1 किलो से अधिक वजन के हो गए और उन्होंने इन मुर्गियों को बाजारों एवं घर से बेचने का काम किया। सोमाबाई ने बताया कि मुर्गी बेचने से उसे 6 से 7 हजार रूपये की आमदनी हुई। उन्होंने बताया कि पहले उसके पास कोई रोजगार का कोई साधन नहीं था, उन्हें रोजगार के लिए गॉव-गॉव भटकना पड़ता था। लेकिन काम नहीं मिलने से परिवार का भरण-पोषण करने में कठिनाई होती थी, और घर में रूपये-पैसो की हमेशा तंगी बनी रहती थी। इन स्थितियों से निपटने के लिए वह स्वयं का व्यवसाय करना चाहती थी, लेकिन पूंजी के आभाव में यह संभव नहीं था। उसने बताया कि तभी उसे जानकारी मिली कि म.प्र ग्रामीण आजीविका मिशन द्वारा मुर्गीपालन का व्यवसाय करने के लिए सहयोग राशि प्रदान की जाती है। सोमाबाई ने मुर्गीपालन के लिए म.प्र ग्रामीण आजीविका मिशन से सम्पर्क किया और मुर्गीपालन का व्यवसाय प्रारम्भ किया। श्रीमति सोमाबाई के लिए मुर्गीपालन लाभ का धंधा बन गया और उसे मुर्गीपालन से अच्छी आमदनी होने लगी। मुर्गीपालन से आज उसका परिवार खुशहाल हो गया है और वह आत्मनिर्भर बन गई है।

27 नवम्बर को होंगे संविधान दिवस के कार्यक्रम 

डिंडोरी | 22-नवम्बर-2017
 
 
 
 
    प्रति वर्ष 26 नवम्बर को संविधान दिवस के रूप में मनाया जाता है। इस वर्ष 26 नवम्बर को रविवार होने के कारण 27 नवम्बर को संविधान दिवस के कार्यक्रम होंगे। इस दिन सभी शासकीय कार्यालय एवं शैक्षणिक संस्थाओं में भारत के संविधान की उद्देशिका पढ़ी जाएगी। शिक्षण संस्थाओं में संविधान की जागरूकता के लिए निबंध/वाद-विवाद प्रतियोगिता एवं भाषण आयोजित किये जाएंगे। 

फूल की माला पहनाकर नए घर में कराया गया प्रवेश

डंडौरी21/11/2017जिले के मेहंदवानी विकासखंड अंतर्गत ग्राम पंचायत पिपरिया में अंतर्राष्ट्रीय आवास दिवस उत्साह पूर्वक मनाया गया। इस दौरान पिपरिया में कार्यक्रम आयोजित हुआ। ग्राम पंचायत में 86 ग्रामीणों को प्रधानमंत्री आवास स्वीकृत हुए थे, जिसमें अब तक 63 का निर्माण कार्य पूरा हो चुका है। बताया गया कि सर्वाधिक आवास जनपद क्षेत्र में सबसे अधिक पिपरिया में ही निर्मित हुए है। जनपद में ग्राम इस मामले पहले स्थान पर है। दूसरे स्थान पर ग्राम पंचायत जरहा नैझर का है। कार्यक्रम में जनपद अध्यक्ष तिरंजना धुर्वे, उपाध्यक्ष रेखा साहू, जनपद सीईओ जेपी मिश्रा मौजूद रहे। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में आवास के हितग्राहियों के साथ ग्रामीण भी पहुंचे। इस दौरान हितग्राहियों को नए भवन में प्रवेश फूलमाला पहनाकर दिलाया गया। बचे शेष 23 मकान शीघ्र ही बनाए जाएंगे। कार्यक्रम के दौरान बद्री साहू, सहायक यंत्री श्री सोलंकी, उपयंत्री जीपी साहू, पंचायत निरीक्षक, आवास प्रभारी समेत सरपंच अम्मा बाई, रोजगार सहायक महासिंह, पंचायत सचिव व बड़ी संख्या में ग्रामीण मौजूद रहे। कार्यक्रम के बाद अतिथियों द्वारा सहभोज किया गया।

प्रदेश में 20 नवम्बर तक मनेगा मत्स्य विकास गोष्ठी पखवाड़ा 

डिंडोरी | 16-नवम्बर-2017
 
 
 
 
    विश्व मात्स्यिकी दिवस 21 नवम्बर के पूर्व मछुआ कल्याण तथा मत्स्य विभाग द्वारा जिला एवं विकासखण्ड-स्तर पर मत्स्य विकास गोष्ठी पखवाड़ा मनाया जा रहा है। इसमें जिला एवं विकासखण्ड-स्तर पर मत्स्य सहकारी संस्थाओं, मछुआ समूह और मत्स्य-पालकों के लिए अलग-अलग एक-एक दिवसीय संगोष्ठी आयोजित की जा रही है। गत 5 नवम्बर से आरंभ पखवाड़ा 20 नवम्बर तक चलेगा। मत्स्य विभाग के अधिकारी संगोष्ठी में मत्स्य-पालन से संबंधित संस्थाओं, समूहों और पालकों को राज्य एवं केन्द्र शासन की योजनाओं, प्राथमिकता के क्षेत्र, मत्स्य बाजार आदि की जानकारी दे रहे हैं। संगोष्ठी में समूह चर्चा के साथ मत्स्य-पालक अपने अनुभव भी साझा कर रहे हैं। इन अनुभवों से जहाँ नए मत्स्य-पालकों को मत्स्य-पालन के गुर सीखने को मिल रहे हैं, वहीं उनकी समस्याओं का समाधान भी मौके पर ही संभव हो रहा है। संगोष्ठी के दौरान मत्स्य-पालन विभाग द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं के आवेदन-पत्र भी लिए जा रहे हैं।
(2 days ago)

कलेक्टर ने तीन अनुपस्थित शिक्षकों के वार्षिक वेतन वृद्धि रोकने के आदेश जारी किए 

डिंडोरी | 12-अक्तूबर-2017
 
 
 
 
    कलेक्टर श्री अमित तोमर ने तीन शिक्षकों की एक-एक वार्षिक वेतन वृद्धि रोकने के आदेश जारी कर दिए है। उक्त कार्रवाई सहायक आयुक्त जनजाति कार्य विभाग एवं क्षेत्र संयोजक डिण्डौरी के द्वारा 29 सितम्बर को माध्यमिक शाला भोन्दूटोला, प्राचीन डिण्डौरी एवं माध्यमिक शाला प्राचीन डिण्डौरी का औचक निरीक्षण के दौरान शाला पूर्णतः बन्द होने के प्रतिवेदन के आधार पर की गई है। इस दौरान माध्यमिक शाला भोन्दूटोला में पदस्थ प्रधान पाठक श्रीमति सोनिया सिन्द्राम, माध्यमिक शाला प्राचीन डिण्डौरी में पदस्थ प्रधान पाठक श्रीमति अनीता धुर्वे एवं प्रभारी प्रधानपाठक गुल मोहमद अंसारी बिना अवकाश स्वीकृति के अनुपस्थित पाए गए थे, जिससे शाला का शैक्षणिक कार्य प्रभावित हुआ था। इस कारण कलेक्टर ने अनुपस्थित शिक्षकों पर उक्त कार्रवाई की है। 

 

कलेक्टर ने आंगनबाड़ी केन्द्र धावाडोगरी का किया निरीक्षण व्यवस्थाओं का लिया जायजा 
 
डिंडोरी | 05-अक्तूबर-2017
 
 
 कलेक्टर श्री अमित तोमर ने बुधवार को आंगनबाड़ी केन्द्र धावाडोगरी का निरीक्षण किया है। उन्होनें ऑगनबाड़ी केन्द्र में गर्भवती एवं धात्री महिलाओं को नियमित रूप से पोषण आहार वितरित करने और उनका नियमित रूप से उपचार करने के निर्देश दिए। इस अवसर पर  आंगनबाड़ी कार्यकर्ता ने बताया कि स्व-सहायता समूह द्वारा आंगनबाड़ी केन्द्रों में गर्भवती माताओं एवं धात्री महिलाओं को नियमित रूप से पोषण आहार दिया जाता है और उनका नियमित उपचार भी किया जाता है। इसके बाद कलेक्टर ने आंगनबाड़ी केन्द्र में बच्चों को वितरित किया जाने वाला नाश्ता, भोजन, तथा समय-समय पर किए जा रहे जांच परीक्षण के बारे में जानकारी ली। उन्होनें ऑगनबाड़ी केन्द्र में बच्चों का नियमित रूप से उपचार करने और उन्हे नियमित रूप से टीकाकरण कराने के निर्देश दिए। उन्होने कहा कि बच्चों को नियमित रूप से खेल-कूद की गतिविधियॉ भी कराई जाए और बच्चों को साफ स्वच्छ रहना भी सिखाए। कलेक्टर ने बच्चों का नियमित रूप से वजन कराने के निर्देश भी दिए। उन्होने कहा कि ऑगनबाड़ी केन्द्र में जो बच्चे कुपोषित पाए जाते है उन्हे पोषण पुनर्वास केन्द्र में भर्ती कर उनका उपचार कराया जाए। कलेक्टर ने इस दौरान ऑगनबाड़ी केन्द्र धावाडोगरी में किचन गार्डन का भी निरीक्षण किया। इस अवसर पर जिला एवं जनपद स्तरीय अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे। 

आंगनबाड़ी का सहायिका हेतु आवेदन पत्र आमंत्रित 

अंतिम तिथि 12 अक्टूबर 17 तक 
डिंडोरी | 29-सितम्बर-2017
 
 
 
 
   एकीकृत बाल विकास सेवा परियोजना मेहंदवानी डिण्डौरी में आंगनबाड़ी केन्द्र कनेरी माल एवं आंगनबाड़ी केन्द्र चारटोला में आंगनबाड़ी सहायिकाओं के पद रिक्त है। परियोजना अधिकारी एकीकृत बाल विकास परियोजना श्री विपिन डहरिया ने रिक्त आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओ की भर्ती के लिए आवेदन पत्र 3 अक्टूबर 17 से 12 अक्टूबर 17 तक आमंत्रित किए है।
महिलाओं एवं बच्चों को बेहतर स्वास्थ्य के लिए पोषण आहार प्रदान करना जरूरी 
कलेक्ट्रेट ऑडोटोरियम में पोषण आनंद मेला पोषण जागरूकता सेमिनार सम्पन्न 
डिंडोरी | 25-सितम्बर-2017
 
 
 
 
  
     जिले की महिलाओं एवं बच्चों के बेहतर स्वास्थ्य के लिए पोषण-आहार प्रदान करना जरूरी है। संतुलित भोजन से महिलाओं और बच्चों के शरीर में प्रतिरोधक क्षमता बढेगी और उन्हे कई बीमारियों और कुपोषण से छुटकारा मिलेगा। हम सभी पोषण आनंद मेला के माध्यम से पोषण आहार के प्रति जागरूक और कुपोषण मिटाने का संकल्प भी ले रहे है। कलेक्टर श्री अमित तोमर सोमवार को कलेक्ट्रेट आडोटोरियम में आयोजित पोषण आनंद मेला पोषण जागरूकता सेमिनार को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने पोषण आनंद मेला कार्यक्रम का शुभारम्भ मॉ सरस्वती जी की छायाचित्र पर दीप प्रज्जवलन कर किया। इस दौरान आंगनबाडी कार्यकर्ताओं के द्वारा स्वागत गीत भी गाया गया। कलेक्टर ने पोषण आनंद मेला में उपस्थित महिलाओं को पोषण आहार के संबंध में जानकारी दी। उन्होने कहा कि मॉ स्वस्थ होगी तो बच्चा भी स्वस्थ होगा। इसीलिए सभी महिलाओं को संतुलित भोजन लेना अनिवार्य है। जिससे हमारे शरीर को उर्जा प्रदान करने वाले सभी आवश्यक तत्व प्राप्त हो सके। आयोजित कार्यक्रम में नगर पंचायत अध्यक्ष श्री पंकज सिंह तेकाम, जिला पंचायत उपाध्यक्ष श्री गंगा सिंह पट्टा, नगर पंचायत उपाध्यक्ष श्री महेश पारासर सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे। 
पोषण के लिए विभिन्न कार्यक्रम है प्रारम्भ:-
    कलेक्टर ने कहा कि महिला एवं बाल विकास विभाग के द्वारा जिले की महिलाओं और बच्चों को पोषण आहार के प्रति जागरूक करने और कुपोषण को जड से मिटाने के लिए विभिन्न कार्यक्रम चलाए जा रहे है। इन कार्यक्रमों के माध्यम से बच्चों के माता-पिता को पोषण आहार के बारे में जानकारी दी जा रही है। उन्होने कहा कि जिलें में गर्भवती माताओं एवं बच्चों के स्वास्थ्य पर कडी निगरानी रखी जा रही है। कुपोषित बच्चों का उपचार करने के लिए उन्हे पोषण पुनर्वास केन्द्र में भर्ती कराकर उनका समुचित उपचार किया जा रहा है। कलेक्टर ने कहा कि ऑगनबाडी केन्द्रों में किचन गार्डन तैयार किया गया है। जिससे महिलाओं को पोषण आहार के लिए सब्जियों की उपयोगिता के संबंध में जानकारी प्रदान की जा सके और सभी महिलाएं अपने दैनिक भोजन में इसे पोषण आहार के रूप में शामिल कर सके। उन्होने कहा कि पोषण आनंद मेला का उद्देश्य महिलाओं और बच्चों में पोषण आहार के प्रति जागरूक करने का संदेश घर-घर तक पहुंचाना है।
पोषण आहार की उपयोगिता और कुपोषण की रोकथाम:-
    जिला कार्यक्रम अधिकारी श्री मनोज लारोकर ने पोषण आनंद मेला में पोषण आहार की उपयोगिता और कुपोषण की रोकथाम की दिशा में किये जा रहे कार्यक्रमों की जानकारी दी। उन्होने पोषण आहार, तिरंगा थाली, और ऑगनबाडी केन्द्रों में वितरित होने वाले नाश्ता एवं भोजन के बारे में बताया कि इसमें महिलाओं एवं बच्चों के स्वास्थ्य के लिए आवश्यक सभी पोषक तत्व होते है। संतुलित आहार के लिए नियमित रूप से कोदो-कुटकी, सोयाबीन, दलहनों, पत्तेदार सब्जियों, मौसमी फलों का उपयोग करना जरूरी है। जिला कार्यक्रम अधिकारी ने महिलाओं एवं बच्चों के लिए पोषण आहार और स्तनपान की उपयोगिता के बारे में भी बताया। 
प्रदर्शनी का आयोजन:-
    आयोजित पोषण आनंद मेला में प्रदेश शासन की विभिन्न योजनाओं एवं उपलब्धियों पर आधारित विकास प्रदर्शनी का आयोजन भी किया गया था। इस दौरान विभागों के द्वारा विभिन्न स्टाल लगाए गए थे। आयोजित प्रदर्शनी में पोषण आहार और कुपोषण की रोकथाम से संबंधित विभिन्न जानकारियॉ प्रदर्षित की गई थी। इस अवसर पर प्रदेश शासन की योजनाओं एवं उपब्धियों पर आधारित पम्पलेट और पुस्तकें भी वितरित किया गया।
रबी फसलों के लिए उच्च किस्म का बीज, खाद, उर्वरक एवं औषधियां उपलब्ध कराई जाए 
कलेक्टर ने कृषि विभाग की योजनाओं एवं प्रगति की समीक्षा की 
डिंडोरी | 19-सितम्बर-2017
 
 
     
     जिले में रबी फसलों का उत्पादन बढाने के लिए किसानों को उच्च किस्म का बीज, खाद, उर्वरक, औषधियां और किसान मित्र एवं किसान दीदी के माध्यम से कृषि तकनीकी एवं शासन की योजनाओं के बारे में जानकारी दी जाए। जिले में किसानों की फसलों का उत्पादन बढ़ाने तथा किसानों की आय को पांच वर्षो में दुगुना करने के लिए विस्तृत कार्ययोजना बनाई जाए। कलेक्टर श्री अमित तोमर मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में कृषि विभाग, मत्स्य विभाग, उद्यानिकी विभाग, पशु चिकित्सा विभाग की योजनाओं एवं कार्यो की प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। इस अवसर पर उपसंचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉ. एस.के. बाजपेयी सहित कृषि विभाग, मत्स्य विभाग एवं उद्यानिकी विभाग के अधिकारी-कर्मचारी मौजूद थे। कलेक्टर ने बैठक में रबी फसलों की तैयारियों के संबंध में समीक्षा की। उन्होने कहा कि किसानों को कम पानी में तैयार होने वाली रबी फसलों के बीज की बुवाई करने की सलाह दी जाए। जिससे किसान रबी फसल का बेहतर उत्पादन कर सके। 
स्वाईल हेल्थ कार्ड जारी किया जाए
    कलेक्टर ने किसानों को स्वाईल हेल्थ कार्ड जारी करने के निर्देश दिए। उन्होने कहा कि जिले में 13 हजार 301 किसानों की भूमि का मिट्टी परीक्षण करने का लक्ष्य दिया गया था। दिए गए लक्ष्य को समय-सीमा में पूरा किया जाए। स्वाईल हेल्थ कार्ड में जांच-परीक्षण के संबंध में किसानों को विस्तार से जानकारी दी जाए। कलेक्टर ने कहा कि कृषि विभाग किसानों को मौसम एवं भूमि के आधार पर फसलों की बुवाई करने के लिए प्रेरित करें। जिससे किसान अपने भूमि की उर्वरकता के आधार पर फसलों का चयन कर उत्पादन बढ़ा सकें। कलेक्टर ने प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना से किसानों को लाभान्वित करने के निर्देश दिए। उन्होने कहा कि किसानों के फसलों का बीमा कराने के लिए कैम्प लगाए जायें। जिले के सभी किसानों की फसलों का प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में बीमा कराया जाए। जिससे किसानों को फसल हानि होने पर मुआवजा दिया जा सके। 
कृषि यंत्रों के पंजीयन में तेजी लाई जाए
    कलेक्टर ने इसके बाद वित्तीय वर्ष 2017-18 के प्रगति की समीक्षा की। उन्होने किसानों को अन्नपूर्णा योजना, सूरज धारा योजना, स्पिं्रकलर सेट, डीजल पंप एवं विद्युत पंप सेट, पाईप लाईन सेट, रोटावेटर, टेªक्टर, शीड ड्रील, पावर टिलर के संबंध में समीक्षा की। कलेक्टर ने कहा कि किसानों को कृषि यंत्रों की उपलब्धता के लिए ऑनलाइन पंजीयन करने के लिए प्रेरित करें। जिससे किसानों को कृषि यंत्र उपलब्ध हो सके। उन्होने किसानों के ऑनलाइन पंजीयन के संबंध में प्रगति रिपोर्ट नियमित रूप से प्रस्तुत करने को कहा। कलेक्टर ने जिले में मत्स्य पालन को बढ़ावा देने के निर्देश दिए जिससे मछुआरों को लाभ मिल सके। उन्होने जिले के सभी जलाशयों एवं तालाबों के पट्टो का वितरण करने और समितियों में मछली पालन से जुडे लोगो सम्मिलित करने को कहा। कलेक्टर ने इस अवसर पर जिले के मछुआरों के लिए प्रदेश शासन द्वारा संचालित योजनाओं का लाभ देने के निर्देश दिए। 
पशुपालन एवं दुग्ध पालन को बढ़ावा दिया जाए
    कलेक्टर ने जिले में पशुपालन और दुग्ध उत्पादन को बढ़ावा देने को कहा, जिससे जिले के पशुपालक दुग्ध उत्पादन से अपनी आय बढ़ा सके। उन्होने बैठक में पशुपालन विभाग द्वारा संचालित योजनाएं पशु प्रजनन कार्यक्रम, बकरा प्रदाय योजना, नंदी शाला योजना, कुकुक्ट विकास योजना, गौ-संवर्धन योजना सहित अन्य योजनाओं की समीक्षा की। कलेक्टर ने इस अवसर पर पशुपालन विभाग द्वारा विभिन्न गतिविधियां जैसे- पशु उपचार, बधियाकरण टीकाकरण, कृत्रिम गर्भाधान एवं औषधियों के वितरण के संबंध में समीक्षा की। उन्होने इस दौरान एमपी एग्रो द्वारा बनाए जा रहे बायोगैस संयंत्र के संबंध में भी जानकारी ली और दिए गए निर्धारित लक्ष्य को समय-सीमा में पूरा करने को कहा। कलेक्टर ने इस दौरान प्राकृतिक संसाधनों के उपज जैसे-चकोडा, चिरौंजी, गुल्ली, हर्रा, बहरा, आंवला इत्यादि के संबंध में जानकारी प्रस्तुत करने के निर्देश दिए। 
प्रधानमंत्री उज्जवला योजना की समीक्षा
    कलेक्टर अमित तोमर ने कलेक्ट्रट सभाकक्ष में आयोजित बैठक में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना की समीक्षा की। उन्होने सभी अधिकारी एवं एजेंसी धारको को कहा कि सभी पात्र परिवारों को निःशुल्क गैस चूल्हा देने की कार्रवाई में तेजी लाई जाए। सभी एजेंसी धारक दिए गए लक्ष्य के अनुरूप हितग्राहियों को निःशुल्क गैस चूल्हों का वितरण करना सुनिश्चित करें।
गौवंश की संख्या के आधार पर बढ़ाई जायेगी गौशालाओं में सुविधाएँ 
जिला गौपालन एवं पशुधन संवर्धन समिति की बैठक आयोजित 
डिंडोरी | 12-सितम्बर-2017
 
 
     जिले में स्थिति गौ शालाओं में गौ वंश की संख्या के आधार पर गौ शालाओं में सुविधाए बढ़ाई जायेगी और गौ शालाओ की बुनियादी सुविधाएं जैसे चारा, पानी, भूमि, शेड इत्यादि के लिए आर्थिक सहायता भी उपलब्ध कराई जायेगी। इससे गौ शालाओ को आर्थिक रूप से सशक्त एवं स्वावलम्बी बनने में मद्द मिलेगी। कलेक्टर श्री अमित तोमर मंगलवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित गौपालन एवं पशुधन संवर्धन समिति की बैठक में समिति के कार्यो एवं प्रगति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्रीमति सुनीता रावत, उपसंचालक पशु चिकित्सा सेवाएं डॉ. एस.के. बाजपेयी, उपसंचालक कृषि श्री सराठे, पशु चिकित्सा विस्तार अधिकारी शहपुरा डॉ. एन.एस.कुलस्ते, नगर परिषद एवं कृषि उपज मंडी डिण्डौरी-शहपुरा के प्र्रतिनिधि, गौपालन एवं पशुधन संवर्धन बोर्ड द्वारा नामांकित सदस्य (उपाध्यक्ष) श्री अरूण अवधिया, सदस्य श्री चेतन चौहान सहित जिले में पंजीकृत गौशालाओं के संचालक उपस्थित थे।
    आयोजित बैठक में गौपालन एवं पशुधन संवर्धन समिति के सदस्यों ने बताया कि उनके द्वारा गौवंश की सेवा पूरे मानवीय भावनाओं से की जाती है और जप्त गौवंश की अभिरक्षा एवं अभियोजन की कार्रवाई के निराकरण के लिए जिला प्रशासन का सहयोग किया जाता है। उन्होने बताया कि इसी प्रकार से अशक्त, वृद्ध एवं कमजोर पशुओ को भी गौशालाओ में रखकर उन्हे चारा, पानी दिया जाता है और उनका समुचित उपचार किया जाता है। कलेक्टर ने कहा कि समिति के द्वारा जिले में गौवंश की रक्षा के लिए गौशाला विहीन विकासखण्डों मे भी गौशाला पंजीयन के लिए प्रयास करे। जिससे गौवंश को संरक्षण दिया जा सके और उनकी सुरक्षा बनी रहे। कलेक्टर ने इसी प्रकार से गौशाला में रखी गई गौवंश के लिए चारा, पानी एवं उनके उपचार का समुचित प्रबंध कराने को कहा। जिले के पडत भूमि में चारागाह विकास कार्यक्रम को संचालित करने को कहा। जिससे गौशालाओं में रखी गई गौवंश को पर्याप्त चारा उपलब्ध कराया जा सके। 
1 लाख 46 हजार की राशि स्वीकृत
    कलेक्टर श्री तोमर ने कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित गौपालन एवं पशुधन संवर्धन समिति की बैठक में जिले में स्थित गौसेवा समितियों को 1 लाख 46 हजार 946 रूपये की राशि स्वीकृत करने के निर्देश दिए है। उक्त राशि में से गौशाला समितियों के गौवंशों के लिए चारा, भूसा का प्रबंध किया जायेगा।
 
कलेक्‍टर की अध्‍यक्षता में संपन्‍न हुई जिला जल उपभोक्ता समिति की बैठक 
डिंडोरी | 09-सितम्बर-2017
 
 
 
 
 
   दिनांक 9.9.2017 को कलेक्‍टर डिण्‍डौरी श्री अमित तोमर की अध्‍यक्षता में जिला जल उपभोक्ता समिति की बैठक कलेक्‍टर कार्यालय के सभाकक्ष में संपन्‍न हुई। आयोजित बैठक में श्री ए.के. डेहरिया कार्यपालन यंत्री जल संसाधन विभाग, श्री अनिल सोनी अनुविभागीय अधिकारी डिण्‍डौरी, श्री पी.डी. सराठे उप संचालक कृषि, श्री डी.पी. कोरी कार्यपालन यंत्री लोक स्‍वास्‍थ्‍य यांत्रिकी सेवा, श्री पी.के. खंग सहायक संचालक मत्‍स्‍य डिण्‍डौरी, जल संसाधन विभाग के समस्‍त सहायक यंत्री व उपयंत्री तथा 29 संस्‍थाओं के संस्‍था अध्‍यक्ष उपस्थित रहे। कलेक्‍टर श्री अमित तोमर द्वारा बैठक में जिले में कम वर्षा की स्थिति से निपटने के उपायों पर चर्चा की गयी एवं इसे दृष्टिगत रखते हुए पेयजल, खरीफ सिंचाई एवं रबी सिंचाई हेतु जल की वरीयता निर्धारण करने हेतु निर्देशित किया गया। सिंचाई के पूर्व नहरों की मरम्‍मत एवं रखरखाव हेतु कार्यपालन यंत्री जलसंसाधन विभाग को निर्द‍ेशित किया गया।  बैठक में जलाशयों में जल भराव की स्थिति की समीक्षा पर कार्यपालन यंत्री श्री डेहरिया द्वारा बताया गया कि बिलगांव जलाशय पूरा भरा हुआ है, इस पर कलेक्‍टर द्वारा खरीफ सिंचाई हेतु व्‍यवस्‍था कर सिंचाई लेने हेतु जल संसाधन विभाग एवं जल संस्‍थाओं के अध्‍यक्षों को निर्देशित किया गया। बैठक में संस्‍था अध्‍यक्ष लाखों एवं अमरपुर की मांग पर कलेक्‍टर श्री अमित तोमर द्वारा ग्राम लाखों व भगनवारा में एक-एक पुलिया निर्माण जनभागीदारी योजना से निर्माण की सहमति प्रदान की गयी है। पेयजल, खरीफ सिंचाई एवं रबी सिंचाई की वरीयता निर्धारित करने के उपरांत जिला जल उपभोक्ता संस्‍था की आगामी बैठक दिनांक 12.10.2017 को नियत की गयी है।
 

 

 


 


 

  • Address: Harihar Bhavan Nowgong Dist. Chatarpur Madhya Pradesh  , Mo : 98931-96874 , Email :  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it. Web : www.ganeshshankarsamacharsewa.in