नरसिंहपुर समाचार

                                                 

सांसद राव उदय प्रताप सिंह ने मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सेवा शिविर का शुभारंभ किया 
नरसिंहपुर | 12-जनवरी-2018
 
 राज्य बीमारी सहायता एवं राष्ट्रीय बाल स्वास्थ्य कार्यक्रम के अंतर्गत लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण विभाग द्वारा शासकीय जिला चिकित्सालय परिसर में मुख्यमंत्री स्वास्थ्य सेवा शिविर का आयोजन किया गया। शिविर का शुभारंभ सांसद राव उदय प्रताप सिंह ने और अध्यक्षता अपैक्स बैंक के पूर्व उपाध्यक्ष कैलाश सोनी ने की।
   इस अवसर पर विधायक जालम सिंह पटैल व संजय शर्मा, जिला पंचायत अध्यक्ष संदीप पटैल, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक के अध्यक्ष वीरेन्द्र फौजदार, नीरज महाराज, बलराम तिवारी, बंटी सलूजा, नवीन अग्रवाल, प्रदेश के विभिन्न अस्पतालों से आये चिकित्सा विशेषज्ञ और मरीज तथा उनके परिजन मौजूद थे।
   शिविर को संबोधित करते हुए सांसद श्री सिंह ने कहा कि राज्य और केन्द्र सरकार आम लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सेवायें उपलब्ध कराने के लिए निरंतर कार्य कर रही है। सरकार का प्रयास रहता है कि लोगों को अच्छे से अच्छी स्वास्थ्य सुविधायें मिले। उन्होंने कहा कि प्रत्येक डॉक्टर मरीज के उपचार के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ देते हैं। चिकित्सक हमारे स्वास्थ्य की चिंता करते हैं। इसलिए समाज में सबसे अधिक सम्मान डॉक्टरों का होता है। उन्होंने कहा कि स्वास्थ्य सेवाओं पर बढ़ती जनसंख्या के दबाव के बावजूद डॉक्टर अच्छी से अच्छी सेवायें देने का प्रयास करते हैं। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री रिलीफ फंड, मुख्यमंत्री सहायता कोष से भी गरीबों के इलाज के लिए भी सहायता उपलब्ध कराई जाती है।
 
   कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए अपैक्स बैंक के पूर्व उपाध्यक्ष कैलाश सोनी ने कहा कि प्रदेश में राज्य सरकार शासकीय अस्पतालों के माध्यम से आम लोगों को नि:शुल्क उपचार और दवाईयां उपलब्ध करा रही है। राज्य सरकार प्रत्येक मरीज के साथ खड़ी है। सरकार का प्रयास है कि हर व्यक्ति को उपचार की सुविधा मिले। कोई भी व्यक्ति पैसे अभाव में इलाज से वंचित न रहे। उन्होंने कहा कि मध्यप्रदेश राज्य बीमारी सहायता निधि योजना के अंतर्गत गंभीर बीमारियों में गरीब व्यक्तियों को उपचार के लिए सहायता उपलब्ध कराई जाती है। सरकारी अस्पतालों में संस्थागत प्रसव की संख्या बढ़ी है।
जिले में पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है यूरिया 
मोटा और पतला दाना दोनों में रहते हैं एक से पोषक तत्व 
नरसिंहपुर | 08-जनवरी-2018
 
जिले में यूरिया पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है। जिला विपणन अधिकारी एसके गवले ने बताया कि जबलपुर एवं पिपरिया रैक से 818 मेट्रिक टन यूरिया प्राप्त हुआ है, जिसमें जबलपुर रेक से 264 मेट्रिक टन और पिपरिया रेक से 554 मेट्रिक टन यूरिया शामिल हैं। उन्होंने बताया कि जबलपुर रेक से जिले के डबल लॉक केन्द्र नरसिंहपुर, गोटेगांव व करकबेल को 264 मेट्रिक टन यूरिया प्राप्त हुआ है। इसी प्रकार पिपरिया रेक से डबल लॉक केन्द्र सालीचौका, गाडरवारा व करेली को 554 मेट्रिक टन यूरिया प्राप्त हुआ है।
   जबलपुर रेक से डबल लॉक केन्द्र नरसिंहपुर को 130 मेट्रिक टन, गोटेगांव को 50 मेट्रिक टन व करकबेल को 84 मेट्रिक टन प्राप्त हुआ है। इसी प्रकार पिपरिया रेक से डबल लॉक केन्द्र सालीचौका को 310 मेट्रिक टन, गाडरवारा को 140 मेट्रिक टन व करेली को 104 मेट्रिक टन यूरिया प्राप्त हुआ है।
   जिला विपणन अधिकारी ने बताया कि एक- दो दिवस में जिले के डबल लॉक केन्द्रों को एनएफएल कम्पनी का यूरिया प्राप्त हो जायेगा। भारत शासन के निर्देशानुसार किसानों को नकद विक्रय पीओएस मशीन द्वारा किया जा रहा है, जिसके लिए किसान भाई डबल लॉक केन्द्रों से स्वयं के आधार काड लेकर सम्पर्क करें।
मोटा और पतला दाना यूरिया दोनों एक समान उपयोगी
   कलेक्टर अभय वर्मा ने किसानों से अनुरोध किया है कि यूरिया पतला दाना और मोटा दाना को लेकर भ्रमित न हो। फसल के लिए दोनों ही दाने समान रूप से उपयोगी हैं। दोनों में पोषक तत्वों की मात्रा समान है। यूरिया मोटा दाना और यूरिया पतला दाना दोनों में ही नाईट्रोजन की मात्रा 18 प्रतिशत होती है। दोनों का मापदंड एक ही है। खेती के लिए दोनों उपयुक्त हैं।
जिला पंचायत की दो बैठक 30 दिसम्बर को 
नरसिंहपुर | 28-दिसम्बर-2017
 
  जिला पंचायत नरसिंहपुर की दो बैठकें 30 दिसम्बर को आयोजित की जायेंगी। शनिवार 30 दिसम्बर को जिला पंचायत की सामान्य प्रशासन समिति की बैठक दोपहर 12 बजे से और साधारण सभा की बैठक दोपहर एक बजे से जिला पंचायत नरसिंहपुर के सरदार वल्लभ भाई पटैल सभाकक्ष में आयोजित की जाएगी। इन बैठकों में निर्धारित कार्यसूची के बिंदुओं की समीक्षा कर निर्णय लिए जाएंगे। यह जानकारी जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी ने दी है।
सांझा चूल्हा कार्यक्रम का खाद्यान्न आवंटित 
नरसिंहपुर | 22-दिसम्बर-2017
 
 
   
   आंगनबाड़ी केन्द्रों में सांझा चूल्हा कार्यक्रम के तहत पूरक पोषण आहार व्यवस्था के लिए बीपीएल कोटा के तहत प्राप्त आवंटन के अनुसार खाद्यान्न पुनरावंटित किया गया है। तत्संबंध में वर्ष 2017-18 के तृतीय त्रैमास के लिए 2820 क्विंटल गेहूं और 550 क्विंटल चांवल प्रदत्त किया गया है। इस मात्रा में से 1835 क्विंटल गेहूं एवं 550 क्विंटल चांवल लीड संस्था से संलग्न आंगनबाड़ी केन्द्र व उचित मूल्य दुकानवार पुनरावंटित किया गया है। इस संबंध में जिला कार्यक्रम अधिकारी एकीकृत बाल विकास सेवा ने आदेश जारी किया है।

       

सभी विकासखंड मुख्यालयों में राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस का आयोजन 24 दिसम्बर को 
नरसिंहपुर | 20-दिसम्बर-2017
 
राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस का आयोजन 24 दिसम्बर को जिले के सभी विकासखंड मुख्यालयों नरसिंहपुर, चांवरपाठा, सांईखेड़ा, करेली, चीचली एवं गोटेगांव के साथ-साथ जिला मुख्यालय के डाईट सभाकक्ष में आयोजित किया जायेगा। इस संबंध में सभी सहायक आपूर्ति अधिकारियों और कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारियों को राष्ट्रीय उपभोक्ता दिवस का आयोजन करने के लिए आवश्यक निर्देश दिये गये हैं, ताकि उपभोक्ताओं में जागरूकता बढ़ाई जा सके।
प्रतिभाशाली स्कूली बच्चों को सांस्कृतिक प्रस्तुति देने का राष्ट्रीय बालरंग सशक्त मंच 
स्कूल शिक्षा मंत्री कुंवर विजय शाह ने राष्ट्रीय बालरंग समारोह का शुभारंभ किया 
अनुपपुर | 20-दिसम्बर-2017
 
 
 स्कूल शिक्षा मंत्री कुँवर विजय शाह ने कहा है कि पिछले कुछ वर्षों में भोपाल में होने वाले राष्ट्रीय बालरंग के सफल आयोजन से यह समारोह देश भर के प्रतिभाशाली स्कूली बच्चों को सांस्कृतिक प्रस्तुति देने का सशक्त मंच बनकर उभर कर सामने आया है। उन्होंने समारोह में शामिल बच्चों से पूरे उत्साह के साथ सांस्कृतिक एवं साहित्यिक प्रस्तुतियाँ देने की बात कही। स्कूल शिक्षा मंत्री गत दिवस भोपाल के श्यामला हिल्स स्थित इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मानव संग्रहालय में तीन दिवसीय राष्ट्रीय बालरंग समारोह को संबोधित कर रहे थे। स्कूल शिक्षा मंत्री ने कहा कि मध्यप्रदेश में स्कूल बैण्ड को प्रोत्साहित करने के लिये पहले चरण में 118 सरकारी हाई स्कूलों को मदद दी जाएगी। राष्ट्रीय बालरंग समारोह में 26 राज्यों के 550 स्कूली बच्चे और प्रदेश के स्कूलों के करीब 10 हजार बच्चों की भागीदारी रहेगी।
    स्कूल शिक्षा मंत्री कुँवर विजय शाह ने उद्घाटन समारोह में कहा कि बालरंग में विभिन्न राज्यों से आये बच्चों से सभी को देश की विविधतापूर्ण संस्कृति को जानने का बेहतर अवसर मिलेगा। उन्होंने जीवन में स्वच्छता के महत्व के बारे में भी बच्चों को बताया। स्कूल शिक्षा मंत्री बाद में स्कूल बैण्ड प्रतियोगिता स्थल पर पहुँचे। उन्होंने कहा कि बैण्ड हमें संगीत के साथ अनुशासन की भी सीख देना है। बालरंग समारोह में पहली बार प्रतियोगिता के रूप में स्कूल बैण्ड को शामिल किया गया है।
    राष्ट्रीय मानव संग्रहालय के निदेशक श्री सलिल चौधरी ने कहा कि मानव संग्रहालय देशभर में मानव जीवन की विरासत को समझने के एक महत्वपूर्ण केन्द्र के रूप में पहचाना जाता है। यहाँ आये बच्चे इस संग्रहालय को देखकर अपने ज्ञान को बढ़ाएंगे। संचालक लोक शिक्षण श्रीमती अंजू पवन भदौरिया ने बालरंग समारोह में होने वाली गतिविधियों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि स्कूल के विद्यार्थियों को विभिन्न प्रदेशों की संस्कृति, धरोहर एवं राष्ट्रीय एकता से परिचित कराना बालरंग का उद्देश्य है। पिछले 11 वर्षों से हो रहे आयोजन से बच्चों को लाभ पहुँचा है। उन्होंने बताया कि 26 जनवरी, 1996 से समारोह की शुरूआत की गई थी। वर्ष 2005 से इसे राष्ट्रीय समारोह का रूप दिया गया।
    राष्ट्रीय बालरंग समारोह में 13 राज्यों, 8 पूर्वोत्तर राज्यों और 5 केन्द्र शासित प्रदेशों के स्कूल के बच्चे शामिल हो रहे हैं। समारोह में कनिष्ठ एवं वरिष्ठ वर्ग में साहित्यिक और सांस्कृतिक प्रतियोगिताएँ होंगी। मदरसों एवं संस्कृत विद्यालयों के साथ दिव्यांग बच्चों के लिये विशेष प्रतियोगिताएँ आयोजित की जा रही हैं। राष्ट्रीय बालरंग समारोह में मुख्य आकर्षण लोक-नृत्य का रहेगा। लोक-नृत्य के माध्यम से स्कूल के बच्चे अपने राज्यों की सांस्कृतिक प्रस्तुतियाँ देंगे। पहले स्थान पर आने वाली प्रतिभागी टीम को 51 हजार, द्वितीय को 31 हजार और तृतीय स्थान पर रहने वाली टीम को 21 हजार इनाम के रूप में दिये जाएंगे।
जनशिक्षा केन्द्र उमरिया में आनंद उत्सव का आयोजन 20 दिसम्बर को 
नरसिंहपुर | 18-दिसम्बर-2017
 
 
 
 
   जनशिक्षा केन्द्र उमरिया चिनकी में जनशिक्षा केन्द्र स्तरीय आनंद उत्सव का आयोजन बुधवार 20 दिसम्बर को किया जा रहा है। आनंद उत्सव के अंतर्गत विभिन्न खेलों का आयोजन किया जायेगा। इनमें कबड्डी, खो-खो, कुर्सी दौड़, सामान्य दौड़, बोरा दौड़, रांगोली, चित्रकला एवं सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन भी होगा। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि विधायक जालम सिंह पटैल और कार्यक्रम की अध्यक्षता करेली जनपद पंचायत की अध्यक्ष रंजना देवी जूदेव करेंगी। विशिष्ट अतिथि के रूप में जनपद उपाध्यक्ष करेली अरंविद पटैल, वंदना सौभाग्य पटैल, सुनील दुबे, जिला शिक्षा अधिकारी जेके मेहर, जिला परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केन्द्र एसके कोष्टी मौजूद रहेंगे।
परिवहन विभाग की पांच सेवाएं पोर्टल ई-डिस्ट्रिक्ट पर ऑनलाइन 
नरसिंहपुर | 14-दिसम्बर-2017
 
 
   लोक सेवा गारंटी अधिनियम के अंतर्गत परिवहन विभाग की अधिसूचित सेवाओं में से पांच सेवाओं को एमपी ई-डिस्ट्रिक्ट पर ऑनलाइन किया जा रहा है। नागरिक अब अपने निकटतम लोक सेवा केन्द्रों में जाकर इन सेवाओं के लिए आवेदन कर सकते हैं। इन सेवाओं में लर्निंग लाइसेंस, लर्निंग लाइसेंस की प्रतिलिपि जारी करना, ड्राइविंग लाइसेंस जारी करना, डुप्लीकेट ड्राइविंग लाइसेंस और ड्राइविंग लाइसेंस के नवीनीकरण की सेवाएं शामिल हैं।

 

बस स्टेंडों पर यात्रियों के लिए मूलभूत सुविधायें अच्छी स्थिति में रहे- कलेक्टर 
कलेक्टर ने की नगरीय निकायों के कार्यों की समीक्षा 
नरसिंहपुर | 14-दिसम्बर-2017
 
 
 कलेक्टर अभय वर्मा ने सभी मुख्य नगर पालिका अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि शहरों के बस स्टेंड अच्छी स्थिति में रहें। बस स्टेंडों पर उचित साफ- सफाई और यात्रियों के लिए मूलभूत सुविधायें उपलब्ध हों। उन्होंने कहा कि यात्रा करने वाले महिला-पुरूषों के लिए शौचालय, पेयजल, छाया, प्रकाश, बैठक व्यवस्था के उचित इंतजाम रहें। कलेक्टर ने कहा कि शौचालय साफ-सुथरे रहें। इसके लिए यदि आवश्यक हो, तो न्यूनतम शुल्क भी रख सकते हैं, ताकि व्यवस्थायें सुचारू रूप से चलती रहें। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिये कि मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना और स्वरोजगार योजनाओं में शतप्रतिशत लक्ष्य दिसम्बर माह में समय सीमा में पूर्ण करें। यदि लक्ष्य पूरे करने में लापरवाही हुई, तो संबंधित के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्रवाई होगी।
   बैठक में अपर कलेक्टर जे समीर लकरा, नगरीय निकायों नरसिंहपुर, करेली, गाडरवारा, गोटेगांव, तेंदूखेड़ा, सांईखेड़ा, चीचली व सालीचौका के मुख्य नगर पालिका अधिकारी, जिला शहरी विकास अभिकरण के अधिकारी, सहायक यंत्री, उप यंत्री और अन्य अधिकारी मौजूद थे।
   कलेक्टर ने नगर पालिका अधिकारियों से प्रधानमंत्री आवास योजना के कार्य में तेजी लाने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा कि भूमिहीन व्यक्तियों को आवासीय पट्टे के संबंध में सर्वे करवायें। कलेक्टर ने नगरीय निकायों में चल रहे अधोसंरचना विकास के कार्यों को रूचि लेकर शीघ्रता से पूर्ण कराने के निर्देश दिये। उन्होंने मॉडल रोड के कार्य की समीक्षा की। उन्होंने मॉडल रोड के साथ नाली, फुटपाथ, डिवाईडर के कार्य समय सीमा में पूर्ण कराने के लिए कहा। कलेक्टर ने पेयजल व्यवस्था की नगरीय निकायवार समीक्षा करते हुए मुख्य नगर पालिका अधिकारियों से मुख्यमंत्री जलावर्धन योजना के कार्यों की प्रगति की जानकारी ली। उन्होंने नगरीय निकायों में हेंडपंप की स्थिति के संबंध में भी पूछा। कलेक्टर ने कहा कि जिन नगरीय निकायों में हेंडपंप खनन के जो नये कार्य स्वीकृत हुए हैं, उन्हें आवश्यकतानुसार सार्वजनिक स्थानों पर लगवायें।
   जिले के नगरीय क्षेत्रों में स्ट्रीट लाईट की समीक्षा करते हुए कलेक्टर ने कहा कि स्ट्रीट लाईट में यदि किसी खम्बें पर रोशनी में गड़बड़ी है, तो उसे दुरूस्त कराया जाये। नगरीय क्षेत्रों में रात्रि के समय स्ट्रीट लाईट बंद नहीं रहनी चाहिये। यदि स्ट्रीट लाईट के बंद होने की सूचना मिलती है, तो इसमें तत्काल सुधार हो।
   कलेक्टर ने सभी नगर पालिका अधिकारियों को निर्देश दिये कि आवारा पशुओं पर प्रभावी नियंत्रण करने के लिए सभी जरूरी कदम उठाये जायें। कलेक्टर ने सांसद एवं विधायक निधि और जनभागिदारी मद के लंबित कार्य समय सीमा में पूर्ण कराने पर जोर देते हुए कहा कि जो कार्य पूर्ण हो चुके हैं, उनके उपयोगिता/ पूर्णता प्रमाण पत्र भिजवाये जावें। उन्होंने अन्य निर्माण कार्यों में भी प्रगति लाने के निर्देश दिये।
   बैठक में सीएम हेल्पलाइन के तहत प्राप्त शिकायतों की निकायवार समीक्षा की गई। कलेक्टर ने बैठक में निर्देश दिये कि हेल्पलाइन के तहत प्राप्त होने वाली शिकायतों के संबंध में संबंधित शिकायतकर्ता से अधिकारी बात करें और उनकी समस्याओं को सुनें तथा समस्या का समाधानकारक निराकरण शीघ्रता से करें। अधिकारी देखें कि शिकायतकर्ता की शिकायत का संतुष्टि के साथ निराकरण हों।
प्रधानमंत्री आवास योजना में अच्छा कार्य करने वाली ग्राम पंचायतों को मिला सम्मान 
शतप्रतिशत लक्ष्य पूर्ण करने पर कलेक्टर ने दिये प्रशस्ति पत्र 
नरसिंहपुर | 12-दिसम्बर-2017
 
 
  
   प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अंतर्गत शतप्रतिशत लक्ष्य पूर्ण करने वाली जिले की 4 ग्राम पंचायतों दहलवाड़ा, बढ़ैयाखेड़ा, सिमरिया व उमरिया को कलेक्टर अभय वर्मा द्वारा मंगलवार को कलेक्ट्रेट में सम्मानित किया गया। यहां कलेक्टर अभय वर्मा ने इन ग्राम पंचायतों के सरपंच, ग्राम पंचायत सचिव एवं ग्राम रोजगार सहायक (जीआरएस) को प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।
   कलेक्टर अभय वर्मा ने जनपद पंचायत सांईखेड़ा की ग्राम पंचायत दहलवाड़ा के सरपंच रविशंकर कौरव, सचिव जितेन्द्र कौरव एवं जीआरएस सतीश अहिरवार, जनपद पंचायत गोटेगांव के अंतर्गत ग्राम पंचायत बढ़ैयाखेड़ा के सरपंच रामकिशन पटैल व सचिव प्रहलाद अहिरवार, ग्राम पंचायत सिमरिया की सरपंच ममता पटैल, सचिव रामगोपाल दीक्षित व जीआरएस राजेश झारिया और ग्राम पंचायत उमरिया की सरपंच संगीता पाठक, सचिव रीझन सेन व जीआरएस राजेश सेन के लिए प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया।
   उल्लेखनीय है कि ग्राम पंचायत दहलवाड़ा को 22 आवास का, ग्राम पंचायत बढ़ैयाखेड़ा को 23 आवास का, ग्राम पंचायत सिमरिया को 10 आवास का और ग्राम पंचायत उमरिया को 10 आवास का लक्ष्य दिया गया था। इन पंचायतों द्वारा समय सीमा में आवास निर्माण के शतप्रतिशत लक्ष्य की पूर्ति की गई।
   इस मौके पर जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आरपी अहिरवार, डिप्टी कलेक्टर वंदना जाट व सोनम जैन, राजेश तिवारी और अन्य अधिकारी मौजूद थे।
महिलाओं की सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किये जावें- कलेक्टर 
 
नरसिंहपुर | 11-दिसम्बर-2017
 
 
 
 
  
   कलेक्टर अभय वर्मा ने अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि जिले में महिलाओं की सुरक्षा पर विशेष ध्यान दिया जावे। महिलाओं की सुरक्षा के व्यापक एवं पुख्ता इंतजाम किये जावें। राज्य शासन के गृह विभाग के दिशा- निर्देशों के अनुरूप सभी संबंधित विभाग महिला सुरक्षा से संबंधित सभी आवश्यक कदम उठायें। इस बारे में जागरूकता बढ़ाई जावे। श्री वर्मा सोमवार को महिला सुरक्षा से संबंधित विभागों के अधिकारियों की बैठक ले रहे थे।
   बैठक में पुलिस अधीक्षक डॉ. मोनिका शुक्ला, जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आरपी अहिरवार, एसडीएम महेश कुमार बमनहा, डिप्टी कलेक्टर वंदना जाट व सोनम जैन, जिला महिला सशक्तिकरण अधिकारी अरूण प्रताप सिंह निरंजन, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जीसी चौरसिया, जिला शिक्षा अधिकारी जेके मेहर, जिला परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केन्द्र एसके कोष्टी, जिला संयोजक आदिम जाति कल्याण, सहायक संचालक पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण और संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे।
   बैठक में कलेक्टर ने कहा कि जिले में ऐसे स्थान चिन्हित किये जायें, जो महिलाओं की सुरक्षा की दृष्टि से संवेदनशील हैं। ऐसे स्थानों पर पुलिस प्वाइंट बनाकर सतत पेट्रोलिंग की जाये और डायल- 100 का बेहतर इस्तेमाल किया जावे। ऐसे स्थानों पर सीसीटीव्ही कैमरे भी लगाये जायें। अधिक आवाजाही वाले जिन स्थानों पर पर्याप्त प्रकाश की व्यवस्था नहीं है, ऐसे डार्क एरिया में स्ट्रीट लाइट की व्यवस्था की जावे। नगरीय क्षेत्रों के साथ- साथ बड़ी पंचायतों में भी प्रकाश की व्यवस्था की जावे।
   महिला उत्पीड़न की रोकथाम और इससे संबंधित कानूनी प्रावधानों के बारे में जागरूकता बढ़ाई जावे। स्कूलों एवं कॉलेजों में बच्चियों को आत्मरक्षा का प्रशिक्षण देने के लिए कैम्प लगाये जावें। स्कूल में पढ़ रहे बच्चों को गुड टच एवं बेड टच के बारे में शिक्षित किया जावे। इस बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए आवश्यक कदम उठाये जावें। महिलाओं/बालिकाओं के छात्रावासों, अनुसूचित वर्ग के गल्र्स हॉस्टल, अनाथालयों, बाल सम्प्रेक्षण गृह के अधिकारियों की बैठक लेकर उन्हें महिला सुरक्षा के इंतजाम सुनिश्चित करने के निर्देश दिये जावें। महिलाओं के उत्पीड़न एवं महिलाओं के विरूद्ध होने वाले अपराधों की रोकथाम व उनके प्रति संवेदनशीलता एवं जागरूकता बढ़ाने के उपाय किये जावें। महिला/गर्ल्स हॉस्टल में अधीक्षक, रसोईयों, सहयोगी स्टाफ और स्वीपर के रूप में महिला कर्मचारी की ही तैनाती हो। छात्रावासों में महिलाओं की निजता को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा की दृष्टि से मुख्य प्रवेश एवं निर्गम गेट पर सीसीटीव्ही कैमरे लगाये जावें। पुलिस और महिला एवं बाल विकास विभाग के अधिकारी संयुक्त रूप से ऐसी संस्थाओं का भ्रमण करें, ताकि वहां कोई शोषण की बात सामने आये, तो उस पर समय रहते निवारक कार्रवाई की जा सके।
आम जनता की शिकायतों का तत्परता से निराकरण हो- कलेक्टर 
नरसिंहपुर | 11-दिसम्बर-2017
 
 
   कलेक्टर अभय वर्मा ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि आम जनता की समस्याओं और शिकायतों का निराकरण तत्परता से हो। अधिकारी विभिन्न माध्यमों से प्राप्त होने वाली शिकायतों का निराकरण संवेदनशीलता के साथ करें। कलेक्टर सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सम्पन्न समय सीमा की बैठक में अधिकारियों को संबोधित कर रहे थे।
   कलेक्टर ने कहा कि समय सीमा के लंबित प्रकरणों का निराकरण अधिकतम 7 दिन में सुनिश्चित किया जावे। श्री वर्मा ने कहा कि विगत दिनों में समय सीमा के प्रकरणों के निराकरण में अधिकारियों ने अच्छा कार्य किया है। समय सीमा के शेष प्रकरणों में से कम से कम 50 प्रतिशत प्रकरण अगले सप्ताह तक निपटायें। कलेक्टर ने समय सीमा की बैठक में अनुपस्थित रहे अधिकारियों को कारण बताओ नोटिस जारी करने के निर्देश दिये।
   सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों की कलेक्टर ने विभागवार समीक्षा की। कलेक्टर ने कहा कि शिकायतकर्ताओं से फोन पर बात कर संतुष्टि के साथ प्रकरणों का गुणवत्तापूर्ण निराकरण सुनिश्चित हो। अधिक समय से लंबित प्रकरणों का निराकरण प्राथमिकता से किया जावे। सीएम हेल्पलाइन के प्रकरणों का निराकरण अभियान चलाकर करें। लंबित शेष प्रकरणों में से एक सप्ताह के भीतर 50 प्रतिशत प्रकरणों का निराकरण होना चाहिये।
   कलेक्टर ने जिले में धान उपार्जन एवं परिवहन और भावांतर भुगतान योजना की समीक्षा की। उन्होंने कहा कि संबंधित किसानों को समय पर भुगतान सुनिश्चित हो।
कलेक्टर ने प्रदान किये प्रशस्ति पत्र
   सीएम हेल्पलाइन में अच्छा कार्य करने वाले जिले के दो अधिकारियों उप पंजीयक सहकारी संस्थायें शकुंतला ठाकुर और सहायक यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी रंजन सिंह ठाकुर के लिए मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा प्रशस्ति पत्र प्रेषित किये गये हैं। इन अधिकारियों को कलेक्टर अभय वर्मा ने समय सीमा की बैठक में प्रशस्ति पत्र प्रदान किये।
सीमांकन के लिए चलेगा अभियान
   बैठक में कलेक्टर अभय वर्मा ने कहा कि जिस तरह से जिले में अविवादित नामांतरण एवं बंटवारा के 31 अगस्त 2017 के पूर्व के सभी प्रकरण अभियान चलाकर निराकृत किये गये हैं, उसी तरह अभियान चलाकर सीमांकन के प्रकरणों का प्राथमिकता से निराकरण सुनिश्चित किया जावे। उन्होंने कहा कि अभियान के पश्चात यदि दो माह के पूर्व के सीमांकन से संबंधित किसी प्रकरण के लंबित रहने की शिकायत जनसुनवाई, सीएम हेल्पलाइन अथवा अन्य किसी भी माध्यम से प्राप्त होती है, तो संबंधित आरआई/ एसएलआर के विरूद्ध एक हजार रूपये का अर्थदंड लगाया जायेगा। 
विधिक साक्षरता शिविर 16 दिसम्बर को कोदरासकलां में
   बैठक में बताया गया कि जनपद पंचायत नरसिंहपुर के ग्राम कोदरासकलां में मध्यप्रदेश उच्च न्यायालय जबलपुर के न्यायाधीश एसके पालो के मुख्य आतिथ्य में 16 दिसम्बर को प्रात: 10 बजे से वृहद विधिक साक्षरता एवं जागरूकता शिविर का आयोजन किया जायेगा।
   इस संबंध में कलेक्टर अभय वर्मा ने सभी जिला प्रमुखों को आवश्यक तैयारी समय पर करने के निर्देश दिये। उन्होंने शासन की विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं के अंतर्गत हितग्राहियों को लाभ दिलाने पर जोर दिया। इस दौरान श्री वर्मा ने लोक स्वास्थ्य शिविर और पशु चिकित्सा शिविर का आयोजन करने के लिए भी कहा।
आनंदोत्सव 14 से 21 जनवरी तक
   बैठक में जिला अक्षय ऊर्जा अधिकारी प्रभात कनौजे ने बताया कि राज्य शासन के निर्देशानुसार जिले में 14 से 21 जनवरी 2018 तक की अवधि में आनंदोत्सव के अंतर्गत विभिन्न गतिविधियां संचालित की जायेंगी। इसके लिए तीन से चार गांवों के क्लस्टर स्तर पर लोक महत्व के विषय पर आधारित गतिविधियां होंगी। ग्रामीण क्षेत्रों में दौड़, खो- खो, रस्साकसी एवं स्थानीय परिस्थिति के अनुरूप खेलकूद और अन्य गतिविधियां संचालित की जायेंगी। ग्रामीण क्षेत्रों के लिए संबंधित एसडीएम एवं जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी इसकी मॉनीटरिंग करेंगे। क्लस्टर स्तर पर प्रभारी अधिकारी को दायित्व सौंपा जायेगा। जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी आरपी अहिरवार ने अधिकारियों से कहा कि वे स्वयं और मैदानी अमला आनंदक के रूप में पोर्टल पर अपना रजिस्ट्रेशन करायें।
   बैठक में एसडीएम महेश कुमार बमनहा, डिप्टी कलेक्टर वंदना जाट व सोनम जैन, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. जीसी चौरसिया, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत प्रभात उईके और अन्य अधिकारी मौजूद थे।

 

  • Address: Harihar Bhavan Nowgong Dist. Chatarpur Madhya Pradesh  , Mo : 98931-96874 , Email :  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it. Web : www.ganeshshankarsamacharsewa.in