होशंगाबाद समाचार

 

सहकारिता मंत्री श्री विश्वास सारंग आज जिले के भ्रमण पर 
होशंगाबाद | 12-जनवरी-2018
 
 
 
   प्रदेश के सहकारिता, भोपाल गैस त्रासदी राहत तथा पुनर्वास एवं पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग मंत्री श्री विश्वास सारंग 13 जनवरी को होशंगाबाद जिले के भ्रमण पर रहेंगे। श्री सारंग 13 जनवरी को प्रात: 10:30 बजे भोपाल से होशंगाबाद के लिए प्रस्थान करेंगे एवं प्रात: 12 बजे उनका आगमन होशंगाबाद में होगा। श्री सारंग प्रात: 12 बजे एसएनजी स्टेडियम में आयोजित सुशासन संकल्प दिवस के कार्यक्रम में सम्मिलित होंगे एवं दोपहर 1 बजे होशंगाबाद से भोपाल के लिए प्रस्थान करेंगे।
 

 

 

पर्यटन चुनौतियां एवं संभावना की कार्यशाला आज 
होशंगाबाद | 08-जनवरी-2018
 
  प्रमुख सचिव पर्यटन विभाग श्री हरि रंजन राव की अध्यक्षता में पर्यटन चुनौतियां एवं संभावनाएं की कार्यशाला 9 जनवरी को सायं 5:30 बजे से कलेक्ट्रेट के रेवा सभाकक्ष में आयोजित की जाएगी। नर्मदापुरम संभाग कमिश्नर श्री उमाकांत उमराव ने संभाग के सभी जिलो के कलेक्टर्स, पुलिस अधीक्षक, मुख्य वन संरक्षक, समस्त जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारियो, जिला नोडल अधिकारी, जिला पर्यटन संवर्धन परिषद एवं सभी संबंधित अधिकारियो को उक्त बैठक में मौजूद रहने के निर्देश दिए है।
 

 

 

 

सोयाबीन के पोर्टल पर इंद्राज की तिथि 6 जनवरी तक 

होशंगाबाद | 04-जनवरी-2018
 
 
    मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना अंतर्गत चयनित फसलों के लिए निर्धारित समय अवधि में पोर्टल में फसल विक्रय इंद्राज करने की तिथि पूर्व से ही निर्धारित कर दी गई है। भावांतर भुगतान योजना में सोयाबीन की विक्रय अवधि 31 दिसंबर तक निर्धारित की गई थी। जिसका पोर्टल पर 6 जनवरी तक इंद्राज किया जाना आवश्यक है। 6 जनवरी के पश्चात् पोर्टल बंद कर दिए जाएंगे। कलेक्टर श्री अविनाश लवानिया ने सभी कृषि उपज मंडी सचिव को निर्देशित किया है कि वे निर्धारित समय सीमा में सोयाबीन विक्रय की जानकारी पोर्टल पर इंद्राज करें। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री भावांतर भुगतान योजना में 6 फसलें चयनित की गई थीं। जिसमें मूंगफली, तिल, रामतिल, उड़द एवं सोयाबीन शामिल थीं। इसी परिपेक्ष में मूंगफली, तिल, रामतिल एवं मूंग की विक्रय अवधि 15 दिसंबर को समाप्त हो चुकी है। उक्त चारों फसलों को पोर्टल पर इंद्राज करने की तिथि 22 दिसंबर निर्धारित की गई थी। एवं उड़द फसल विक्रय की अवधि 22 दिसंबर को समाप्त हो गई है। पोर्टल पर इसकी जानकारी इंद्राज करने की अंतिम तिथि 30 दिसंबर निर्धारित की गई थी। 
    कलेक्टर ने सभी सचिव से कहा है कि वे 6 जनवरी तक सोयाबीन की विक्रय पोर्टल पर शतप्रतिशत इंद्राज करना सुनिश्चित करें। अन्यथा निर्धारित समय सीमा में यदि प्रविष्टी इंद्राज नहीं की जाती है तो सभी सचिव पर जवाबदेही तय करते हुए नियमानुसार सख्त कार्यवाही की जाएगी।  
 

 

स्वेच्छानुदान मद से 5 लोगो को 2.90 लाख रूपए की उपचार सहायता स्वीकृत 
होशंगाबाद | 29-दिसम्बर-2017
 
  मध्य प्रदेश शासन सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा प्रदेश के मुख्यमंत्री एवं मंत्रीगणो के स्वेच्छानुदान मद से पाँच अनुदानगृहिताओं को उनके उपचार हेतु कुल 2 लाख 90 हजार रूपए की सहायता उपलब्ध कराई गई है। 
   कलेक्टर होशंगाबाद द्वारा जारी आदेश में उल्लेखित किया गया है कि सचिव मध्य प्रदेश शासन सामान्य प्रशासन विभाग के आदेशो के परिप्रेक्ष्य में लाखन सिंह धाकड़ निवासी भाटूगाँव टिमरनी जिला हरदा को उपचार हेतु 40 हजार रूपए, जितेन्द्र यादव मिशनखेड़ा इटारसी को 50 हजार रूपए, श्रीमती रामप्यारी कीर ग्राम पीलीकरार तहसील बाबई को 25 हजार, गनेशीबाई निवासी भटगांव को 25 हजार, श्री मंशाराम निवासी जासरवानी तहसील बनखेड़ी को 50 हजार एवं श्री साहबसिंह निवासी हाउसिंग बोर्ड कालोनी होशंगाबाद को एक लाख रूपए की उपचार सहायता स्वीकृत कर राशि संबंधितो को प्रदाय कर दी गई है।

 

 

प्रभारी मंत्री श्री सूर्य प्रकाश मीणा आज से दो दिवसीय जिले के भ्रमण पर 
पचमढ़ी में जिला योजना की बैठक लेंगे 
होशंगाबाद | 27-दिसम्बर-2017
 
 
 
  प्रदेश के खाद्य प्रसंस्करण, उद्यानिकी एवं वन राज्य मंत्री तथा होशंगाबाद जिले के प्रभारी मंत्री श्री सूर्य प्रकाश मीणा 28 एवं 29 दिसम्बर तक दो दिवसीय जिले के भ्रमण पर रहेंगे। प्रभारी मंत्री 28 दिसम्बर को प्रात: 10 बजे विदिशा से होशंगाबाद के लिए प्रस्थान करेंगे। दोपहर 2 बजे पचमढ़ी सर्किट हाउस में उनका आगमन होगा तथा सायं 6 बजे वे पचमढ़ी महोत्सव में शामिल होंगे एवं रात्रि विश्राम पचमढ़ी में करेंगे। प्रभारी मंत्री श्री मीणा 29 दिसम्बर को पचमढ़ी के होटल ग्लेन व्यू में जिला योजना समिति की बैठक लेंगे तथा दोपहर 2 बजे पचमढ़ी से ग्राम पोआनाला विदिशा के लिए प्रस्थान करेंगे।

 

 

 

 

किसान मोर्चा की एक दिवसीय कार्यशाला संपन्न
 होशंगाबाद 26.12.2017। भारतीय जनता पार्टी किसान मोर्चा की एक दिवसीय कार्यशाला आज संभागीय भाजपा कार्यालय होशंगाबाद में संपन्न हुई। कार्यशाला के प्रथम सत्र में किसान मोर्चा के प्रदेश मंत्री एवं नर्मदापुरम संभाग प्रभारी श्री मानसिंह राजपूत ने उद्घाटन सत्र में कार्यशाला के उद्देश्य विषय पर कार्यकर्माओं को मार्गदर्शन दिया। कार्यक्रम की अध्यक्षता भाजपा जिलाध्यक्ष श्री हरिशंकर जायसवाल ने की। द्वितीय सत्र में किसान मोर्चा प्रदेश उपाध्यक्ष श्री दर्शन सिंह चौधरी ने मोर्चा के कार्यो की समीक्षा एवं मोर्चा पदाधिकारियों से परिचय प्राप्त किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता भाजपा जिला उपाध्यक्ष श्री संदेश पुरोहित की। कार्यशाला के तृतीय सत्र में किसान मोर्चा के प्रदेश कार्यालय मंत्री श्री पदमसिंह ठाकुर एवं होशंगाबाद जिला प्रभारी श्री अशोक गुर्जर ने कृषि की उन्नत तकनीक एवं नवाचार विषय पर कार्यकर्ताओं को संबोधित किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता पूर्व मंत्री श्री मधुकर हर्णे ने की। चतुर्थ सत्र में किसान मोर्चा के प्रदेश मीडिया प्रभारी श्री संदीप श्रीवास्तव ने मीडिया से संबंधित जाकनकारी से कार्यकर्ताओं को अवगत कराया। कार्यक्रम की अध्यक्षता किसान मोर्चा के प्रदेश कार्यसमिति सदस्य श्री भरतसिंह राजपूत ने की। कार्यशाला के अंतिम समापन सत्र को भाजपा प्रदेश मंत्री एवं किसान मोर्चा के प्रदेश प्रभारी श्री रघुनाथ िंसंह भाटी ने कार्यकर्ताओं को म.प्र. सरकार की जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी। कार्यक्रम की अध्यक्षता नपा अध्यक्ष श्री अखिलेश खण्डेलवाल ने की। कार्यशाला में अतिथियों का स्वागत मोर्चा जिलाध्यक्ष श्री अजीत सिंह मण्डलोई, जिला उपाध्यक्ष श्री सुधीर पटैल, श्री पुनीत शर्मा, श्री मस्तान साध, श्री अनिल दुबे, श्री संजीव वर्मा, श्री मकरन सिंह पटैल, श्री राजीव रावत, श्री सुनील राजपूत, श्री बंटी वर्मा, श्री भरत पटैल, श्री नंदकिशोर यादव, श्री जितेन्द्र राजपूत ने किया। कार्यक्रम का संचालन जिला महामंत्री श्री उमेश पटैल एवं श्री राहुल सिंह सोलंकी ने किया। इस अवसर पर भाजपा जिला महामंत्री श्री रघुवीर राजपूत, श्री सुधीर तिवारी, जिला उपाध्यक्ष श्री मृगेन्द्र सिंह मण्डलोई, श्री प्रसन्न हर्णे, श्री जयकिशोर चौधरी, जिला मंत्री श्री राममोहन राजपूत, श्री राजेश चौधरी, श्री विवेक गौर सहित किसान मोर्चा के जिला पदाधिकारी कार्यसमिति सदस्य एवं मण्डल अध्यक्ष एवं कार्यसमिति विशेष रूप से उपस्थित हुई।

 

 

हर वर्ष गणतंत्र दिवस पर डिजिटल इंडिया चैम्पियन आवार्ड दिया जाएगा - कलेक्टर 
डिजिटल इंडिया की कार्यशाला संपन्न 
होशंगाबाद | 22-दिसम्बर-2017
 
जिला ई-गवर्नेंस सोसायटी के तत्ववधान में डिजिटल इंडिया एवं नगद रहित भुगतान विषय पर कलेक्टर श्री अविनाश लवानिया की अध्यक्षता में एक दिवसीय कार्यशाला आयोजित की गई। कार्यशाला में कलेक्टर श्री अविनाश लवानिया ने कहा कि अब हर वर्ष जिले में गणतंत्र दिवस के अवसर पर डिजिटल इंडिया चैम्पियन का आवार्ड विजेताओ को दिया जाएगा। यह आवार्ड जिला ई गवर्नेंस सोसायटी के द्वारा दिया जाएगा। इसमें विजेता को 10 हजार रूपये का नगद पुरूस्कार प्रदान किया जाएगा। कलेक्टर श्री लवानिया ने कहा कि जिला ई गवर्नेंस को बढावा देने के लिए जिले के विभिन्न विभागो को प्रेरित किया जाएगा। यदि कोई विभाग अपने कार्यालय में डिजिटल एवं केश रहित भुगतान को बढावा देता है तो उस विभाग का पूरा सहयोग किया जाएगा और उसे अपने कार्यालय का डिजिटल लाइजेशन करने के लिये जिला ई गवर्नेंस की ओर से 25 हजार रूपये की राशि सुधार कार्य हेतु दी जाएगी और यदि यह राशि कम पडेगी तो उस पर विचार कर राशि बढाई भी जा सकेगी। सहायता देने का मुख्य उद्देश्य है कि जिले में डिजिटल कार्य प्रणाली को बढावा देना है।
   कार्यशाला के पूर्व कलेक्टर श्री लवानिया ने मां सरस्वती का पूजन कर कार्यशाला का शुभारंभ किया। जिला ई गवर्नेंस प्रबंधक श्री संदीप चौरसिया ने कार्यशाला में शासन की विभिन्न डिजिटल योजनाएं जैसे भीम एप, सरकारी ई मार्केट प्लेस पोर्टल, आरसीएमएस, आधार परियोजना, जिले के पोर्टल, स्वान परियोजना, ई दक्ष केन्द्र, जिले की टेलीफोन डायरेक्टरी, मोबाईल एप आदि योजनाओं की विस्तार से जानकारी दी। उन्होने कार्यशाला में प्रधानमंत्री के डिजिटल इंडिया सपने को साकार करने के लिये प्रदेश शासन द्वारा चलाए जा रहे विभिन्न अप्लीकेसन एवं पोर्टल बारे में विस्तार से जानकारी दी। 
   डिजिटल इंडिया कार्यशाला में डिजिटल इंडिया, ई गवर्नेंस एवं अन्य आईटी परियोजनाओं पर आधारित 3 प्रकार की प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। पहली प्रतियोगिता में कार्यशाला में समस्त लोगो से प्रश्न पूछकर सही जवाब देने वालो का चयन किया गया साथ ही चयनित प्रतिभागियो से 5-5 प्रश्न पूछे गये। सही जवाब देने पर उन्हे कलेक्टर द्वारा ट्राफी देकर सम्मानित किया गया। प्रतियोगिता में कलेक्टर कार्यालय की वर्षा हरदेनिया विजयी रहीं। दूसरी प्रतियोगिता में 2-2 प्रतिभागियो की 3 टीम बनाई गई एवं उन्हे बिना कोई सर्च इंजन का प्रयोग किये दी गई सूची से 1 मिनट में अधितम वेबसाईट ओपन करने की चुनौती दी गई। इस प्रतियोगिता में सीईओ सोहागपुर बंदु सूर्यवंशी एवं महिला एवं बाल विकास विभाग के परियोजना अधिकारी योगेश घाघरे की टीम विजयी रही। तीसरी प्रतियोगिता में प्रत्येक व्यक्ति को भीम एप इंस्टॉल कर जिला ई गवर्नेंस की यूपीआई आईडी से 100, 50 एवं 10 रूपए की रिक्वेस्ट भेजनी थी। पहले तीन रिक्वेस्ट भेजने वालो को पुरूस्कार प्रदान किये गए। इस प्रतियोगिता मे विजता बनी श्रीमती शीतल सोलंकी को कलेक्टर ने ट्राफी एवं मेडल देकर सम्मानित किया। 
   कार्यशाला में जिला ई गवर्नेंस सोसायटी के सभी पदस्थ स्टाफ को कलेक्टर श्री लवानिया ने उत्कृष्ट कार्य करने हेतु पदक से सम्मानित किया।

 

 

एकात्म यात्रा की अलख जगाने हेतु कलेक्टर ने ली बैठक 
होशंगाबाद | 21-दिसम्बर-2017
 
  आदिगुरू शंकराचार्य की प्रतिमा हेतु धातु संग्रहण एवं जनजागरण अभियान एकात्म यात्रा की तैयारियो की समीक्षा कलेक्टर श्री अविनाश लवानिया ने की। जिला पंचायत के सभाकक्ष मे आयोजित बैठक में कलेक्टर ने बताया कि आदिगुरू शंकराचार्य एकात्म यात्रा 16 जनवरी को होशंगाबाद जिले में प्रवेश करेगी। इस यात्रा की सभी तैयारियां सुनिश्चित करने के निर्देश देते हुए कलेक्टर ने कहा कि एकात्म यात्रा के प्रचार प्रसार के लिये सभी ग्राम पंचायतों की दीवार पर लेखन किया जाएगा। कलेक्टर ने बताया कि सर्वश्रेष्ट दीवार लेखन करने वाली पंचायत व ब्लाक को 26 जनवरी को पुरूस्कृत किया जाएगा। श्री लवानिया ने बताया कि एकात्म यात्रा 16 जनवरी को पिपरिया, 17 जनवरी को सोहागपुर, 18 जनवरी को होशंगाबाद, 20 जनवरी को सिवनीमालवा में रात्रि विश्राम करेगी। उन्होने यात्रा दल के रात्रि विश्राम एवं भोजन की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश संबंधित जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकरियो को दिये। 
    कलेक्टर ने बताया कि आदिगुरू शंकराचार्य के अद्वैत वेदांत दर्शन से आमजन को जोडने के लिये होशंगाबाद जिले की समस्त ग्राम पंचायत मे 4 जनवरी को आदिगुरू शंकराचार्य द्वारा विरचित स्त्रोतों से संबंधित भजन संध्या का आयोजन किया जाएगा। प्रत्येक ग्राम पंचायत में संवाद स्थल पर तांबे के पात्र में ग्राम की मिट्टी तथा धातु जैसे लोहा, पीतल, तांबा, कांसा धातु का सांकेतिक संकलन किया जाएगा। जिसे उपयात्रा के माध्यम से जिले के मुख्य संवाद स्थल पर एकत्रित किया जाएगा। जिसका उपयोग ओंकारेश्वर आदि शंकराचार्य की मूर्ति के फाउंडेशन निर्माण में किया जाएगा।
 

 

ब्लॉक स्तरीय कबड्डी प्रतियोगिता आयोजित 

होशंगाबाद | 20-दिसम्बर-2017
 
  पिपरिया के ग्राम तरोनकलॉ में 2 दिवसीय ब्लॉक स्तरीय कबड्डी प्रतियोगिता का आयोजन नेहरू युवा केन्द्र द्वारा किया गया। प्रतियोगिता में पिपरिया ब्लॉक से 28 टीमों ने भाग लिया। कबड्डी प्रतियोगिता में जमाड़ा ग्राम की टीम ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। द्वितीय स्थान बम्होरीकलॉ की टीम को एवं तृतीय स्थान तरोनकलॉ की टीम को प्राप्त हुआ। विधायक श्री ठाकुर दास नागवंशी ने विजेता टीमों को 5 हजार, 3 हजार एवं 2 हजार रूपए का पुरस्कार दिया। कार्यक्रम में नेहरू युवा केन्द्र के श्री राकेश दुबे, कुम्हाबड नवयुवक मण्डल के अध्यक्ष वीरेन्द्र रघुवंशी, पूजा सराठे, सुनील पाल, शिवम शर्मा तथा बड़ी संख्या में ग्रामीण जन मौजूद थे।  

 

नर्मदा एवं होमसाइंस कॉलेज में दधीचि अभियान की हुई कार्यशाला 
72 महाविद्यालयीन छात्र-छात्राओं ने नेत्र दान के संकल्प का घोषणा पत्र भरा 
होशंगाबाद | 19-दिसम्बर-2017
 
 
   मंगलवार को मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. डी.के. कटेलिहा के मार्गदर्शन में स्वास्थ्य विभाग ने जिले के नर्मदा महाविद्यालय एवं होमसाइंस कॉलेज में दधीचि अभियान के अंतर्गत नेत्रदान की कार्यशाला आयोजित की। होमसाइंस कॉलेज में प्रात: 10:30 बजे से एवं नर्मदा महाविद्यालय में दोपहर 1 बजे से दधीचि अभियान की कार्यशाला हुई। अंगदान के जिला नोडल अधिकारी डॉ. ए.डी मोरे ने उक्त कार्यशाला में अंगदान का महत्व बताया तथा नेत्रदान महादान के विषय में विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने महाविद्यालयीन छात्र-छात्राओं को प्रेरित किया कि वे अपने घर के बुजुर्गों को प्रेरित करें कि वे मरणोपरांत अपने अंगों का दान करें ताकि किसी  जरूरतमंद को उनके अंगों से एक नया जीवन मिल सके। डॉ. मोरे ने दधीचि अभियान की विस्तृत जानकारी भी दी। कार्यशाला में बताया गया कि भारत में 1.25 करोड़ व्यक्ति नेत्रहीन हैं जिसमें लोगों को नेत्रदान करने हेतु जागरूक करने से कम से कम 30 लाख व्यक्तियों को आँखों की ज्योति लौटाई जा सकती है। 30 लाख लोगों को नई दृष्टि मिल सकती है। 
   कार्यशाला में नर्मदा महाविद्यालय व होमसाइंस कॉलेज के 72 छात्र-छात्राओं ने सहमति व्यक्त करते हुए नेत्रदान के संकल्प का घोषणा पत्र भरा। कार्यशाला में नेत्र सहायक श्री जे.पी. सोना, श्री आर.एन. दुलारे, श्री सजल परसाई, रेडक्रॉस के सचिव श्री शेर सिंह बडकुल एवं अन्य अधिकारी एवं कर्मचारीगण तथा महाविद्यालय के प्राचार्य, प्राध्यापकगण तथा छात्र-छात्राएं मौजूद थे।

 

रोजगार मेला में 176 युवाओं का चयन विभिन्न नौकरियों के लिए हुआ 

 
होशंगाबाद | 18-दिसम्बर-2017
 
 
 
 
 
  जिला रोजगार कार्यालय के तत्वधान में आयोजित मेगा जिला रोजगार मेला में जिले के 176 बेरोजगार युवाओं का चयन विभिन्न कम्पनियों में नौकरी के लिए किया गया है। इनमें 156 युवक एवं 20 युवतियां हैं। शासकीय एसएनजी स्कूल ग्राउण्ड में आज आयोजित मेगा रोजगार मेले में विभिन्न कौशल प्रशिक्षण के लिए 315 बेरोजगार युवक युवतियों का चयन भी किया गया। इसमें 256 युवक एवं 59 युवतियां शामिल हैं। जिला रोजगार अधिकारी होशंगाबाद श्री के.एस. मालवीय ने बताया कि जिन युवाओं का चयन विभिन्न कम्पनी द्वारा किया गया है। उनमें शिवशक्ति भोपाल ने 18 युवकों का चयन नौकरी देने के लिए किया। नवभारत फर्टिलाइजर ने 10 का चयन किया, श्रीराम फाइनेंस ने 29 युवाओं का चयन किया जिनमें 17 युवक एवं 12 युवतियां हैं। रूरल सोर्सेस बुधनी ने 10 युवकों को नौकरी प्रदान किया। नव किसान बायोटेक ने 19 युवकों का चयन किया, जेके बायोटेक कम्पनी ने 21 युवकों का चयन किया, रिलाइन्स इंसोरेंस ने 21 युवाओं को नौकरी के अवसर प्रदान किए। जिनमें 20 युवक एवं एक युवती शामिल हैं। 
   इसी क्रम में विभिन्न शासकीय संस्थाओं ने ट्रेनिंग के लिए 315 लोगों का चयन किया। चयन के पश्चात् इन युवाओं को स्वरोजगार के अवसर प्रदान किये जाएंगे। आईएलएनएफएस कम्पनी ने 79 युवक एवं 10 युवतियों का चयन विभिन्न ट्रेनिंग के लिए किया, सामाजिक न्याय ने 6 युवकों का, जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र ने 7 युवक एवं 3 युवती का, प्रधानमंत्री कौशल ने 30 युवक एवं 2 युवती का, मुख्यमंत्री कौशल अभियान के लिए 28 युवक एवं 9 युवती का, आरसेटी सेन्ट्रल बैंक ने 83 युवक एवं 34 युवती का, नगरपालिका इटारसी ने 3 युवकों का तथा पीएनबी लाइफ ने 20 युवक एवं एक युवती का चयन ट्रेनिंग के लिए किया है। ट्रेनिंग के पश्चात विभिन्न स्वरोजगार योजनाओं में इन्हें लाभ देकर इनका स्वयं का स्वरोजगार स्थापित करने में सहयोग किया जाएगा।  

 

महिला स्वसहायता समूहों की पहल "सफलता की कहानी" 
नाबार्ड की मदद से बनाई फार्मर प्रोड्यूसर कंपनी 
होशंगाबाद | 16-दिसम्बर-2017
 
  महिला सशक्तिकरण का एक बेहतर माध्यम स्वसहायता समूह के माध्यम से महिलाएं बेहतर तरीके से अपना कार्य कर अजीविका के लिये अतिरिक्त आमदानी कमा सकती है। जहां भी महिलाओं ने सशक्तिकरण की मिशाल पेश की है वहां स्वसहायता समूह से ही अपनी शुरूआत की है। होशंगाबाद जिले की महिलाओं ने भी सशक्तिकरण का एक नया उदाहरण प्रस्तुत करते हुए नाबार्ड की मदद से फार्मर प्रोडयूसर कंपनी बनाई है। होशंगाबाद जिले की 66 महिला स्वसहायता समूहो ने मिलकर एक फार्मर प्रोडयूसर कंपनी पंजीकृत कर स्वसहायता समूह को संघ का रूप प्रदान किया है।
   नाबार्ड के मार्गदर्शन एवं वित्तीय सहयोग के चलते रेवांचल कंपनी का गठन महिला स्वसहायता समूहो ने किया है। इसका पंजीयन भी कराया है। कंपनी में 500 महिला सदस्य है तथा वे एक लाख रूपये की अंशपूंजी जमा कर किसानो की आजीविका संवर्धन के लिये कार्य कर रही है। रेवांचल कंपनी जिले के किसानो को फसलों के उत्तम एवं क्वालिटी वाले बीज बाजार मूल्य से कम भाव पर उपलब्ध करा रही है। कंपनी ऐसी महिला सदस्य जिनके पास खेती की जमीन नहीं है उन्हे मशरूम उत्पादन का प्रशिक्षण दिलाती है। स्वसहायता समूह की महिला सदस्यों ने मशरूम की खेती प्रारंभ कर दी है। रेवांचल कंपनी अपने दूध उत्पादन से जुडी महिला सदस्यो के लिये मिल्क कलेक्शन सेंटर की स्थापना के लिये प्रयास कर रही है। बताया गया कि महिलाओ द्वारा गठित रेवांचल कंपनी मिल्क कलेक्शन सेंटर की स्थापना जल्द ही करने वाली है। रेवांचल कंपनी न केवल आजीविका संवर्धन के लिये काम करती है अपितु कंपनी के सदस्य डिजीटल इंडिया केम्पेन, जल संरक्षण अभियान जैसे राष्ट्रीय महत्व के कार्यक्रम में अपनी सक्रिय भागीदारी निभाते है। अभी हाल ही में कंपनी के 384 सदस्यो को डिजीटल वित्तीय साक्षरता कार्यक्रम के अंतर्गत प्रशिक्षण प्रदान किया गया है। इसी तरह नाबार्ड द्वारा संचालित जल अभियान में कंपनी की 8 महिलाओ ने कृषि जलदूत बनकर 72 गांव में लोगो को जल संवर्धन तथा जल संरक्षण के लिये प्रेरित किया।
   नाबार्ड के जिला विकास प्रबंधक श्री नरेश तिजारे बताते है कि महिलाओ द्वारा स्वसहायता समूह बनाना तथा चलाना कोई नई बात नहीं है और अधिकतर लोग यही सोचते है कि ग्रामीण महिलाएं सिर्फ ऐसे ही छोटे संगठन चला सकती है परन्तु रेवांचल कंपनी की महिलाओ ने इस धारणा को गलत साबित कर दिया है। इस कंपनी के समस्त कार्यो का संचालन चाहे वो कंपनी के बिजनेस की देखभाल और विस्तार हो या वैधानिक आवश्यकताओ को समय पर पूर्ण करना इन महिलाओ ने इसे बखूबी संभाल रखा है। आज रेवांचल कंपनी रजिस्ट्रेशन के बाद लाइसेंस भी प्राप्त कर चुकी है। यह निश्चित ही महिला सशक्तिकरण का ज्वलन उदाहरण है जहां महिलाएं कंपनी बनाकर अपने सदस्यो का आजीवन संवर्धन कर रही है।
   रेवांचल कंपनी का आगामी लक्ष्य 3 वर्षो में अपने सभी सदस्यो को रोजगार से जोडते हुए खाद्य प्रसंस्करण इकाई की स्थापना करना भी है। कंपनी ने होशंगाबाद जिले में लाभकारी संस्था के रूप में अपनी पहचान स्थापित कर ली है।
अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य का जिले में भ्रमण आज 
होशंगाबाद | 14-दिसम्बर-2017
 
 
 
   म.प्र.राज्य अल्पसंख्यक आयोग के सदस्य एवं राज्य मंत्री दर्जा प्राप्त डॉ. तुकडया दास वैद्य 15 दिसंबर को होशंगाबाद जिले के भ्रमण पर रहेगे। श्री वैद्य प्रात: 10 बजे भोपाल से होशंगाबाद होते हुए छिंदवाडा एवं बरघाट सिवनी के लिये प्रस्थान करेगे।
अंगदान के प्रति जागरूकता के लिये व्यापक प्रचार प्रसार करने के निर्देश 
होशंगाबाद | 13-दिसम्बर-2017
 
 
    नर्मदापुरम संभाग कमिश्नर श्री उमाकांत उमराव के निर्देशों के अनुपालन में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. डी.के.कटेलिहा ने बताया कि अंगदान जैसे महान कार्य का जनसामान्य के बीच व्यापक प्रचार प्रसार किया जाएगा। डॉ. कटेलिहा ने बताया कि इसके लिये जिले के सभी महाविद्यालयों, स्कूलों, प्राचार्य एवं शिक्षको से संपर्क कर छात्र-छात्राओ के बीच व्यापक प्रचार प्रसार किया जायेगा। छात्रों को समझाईश दी जायेगी कि वे अपने बुर्जुगों के मृत्यु के पश्चात उनके अंगो का दान कर किसी जरूरत मंद व्यक्ति के जीवन में बदलाव ला सकें। डॉ. कटेलिहा ने अंगदान के जिला नोडल अधिकारी डॉ. ए.डी.मोरे एवं उनके सहायक दल को निर्देशित किया है कि वे अंगदान का व्यापक प्रचार प्रसार एवं जागरूकता कार्यक्रम संचालित करने के लिये कार्यशाला का आयोजन करें। उन्होने कहा कि सभी संस्था प्रभारी अपनी संस्थाओ में अंगदान का व्यापक जागरूकता कार्यक्रम संचालित करें। उन्होने सभी सेक्टर मेडिकल आफिसर, सुपर वाइजर, एएनएम, एमपीडब्लू, आशा कार्यकर्ता, आंगनबाडी कार्यकर्ता एवं ब्लाक मेडिकल आफिसर की संयुक्त कार्यशाला आयोजित करने के निर्देश दिये है। डॉ. कटेलिहा ने बताया कि अंगदान का प्रचार प्रसार करने के अलावा अंगदान करने वाले व्यक्ति एवं रिसीवर का व्यापक सर्वे भी किया जा रहा है। उन्होने अंगदान से संबंधित सभी जानकारी एवं फोटोग्राफ वाट्स ऐप पर भेजने के निर्देश दिये।
 
60 दिवस से अधिक के कोई भी प्रकरण पुलिस विवेचना में लंबित न रहें - कलेक्टर 
जिला स्तरीय सतर्कता एवं मानिटरिंग समिति की बैठक संपन्न 
होशंगाबाद | 12-दिसम्बर-2017
 
 
 
   जिला स्तरीय सतर्कता एवं मानिटरिंग समिति की बैठक में कलेक्टर श्री अविनाश लवानिया ने पुलिस अधिकारियो को निर्देशित किया कि अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति से संबंधित कोई भी प्रकरण 60 दिवस से अधिक समय तक के लिये लंबित न रहे। सभी प्रकरण 60 दिवस से पहले ही निराकृत कर दिये जाए। कलेक्टर ने कहा कि तत्संबंध में सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियो को निर्देशित किया गया है कि वे जाति प्रमाण पत्र के अभाव में कोई प्रकरण लंबित न रखें। अपितु यदि व्यक्ति अनुसूचित जाति एवं जनजाति का है तो तत्काल उसके जाति प्रमाण पत्र बनाना सुनिश्चित करें। बताया गया कि विवेचना में लंबित 60 दिवस से अधिक के प्रकरणों की समीक्षा कर शीघ्र निराकरण हेतु उपपुलिस अधीक्षक को निर्देश दिये गये थे। वर्तमान में 60 दिवस के अधिक के 13 एवं 60 दिवस से कम के 37 प्रकरण विवेचना में लंबित है। कलेक्टर ने पीड़ितों एवं गवाहो को यात्रा भत्ता भरण पोषण की राशि मिलने में हो रही अनावश्यक देरी पर नाराजगी व्यक्त करते हुए कहा कि मांग अनुसार पुलिस अधीक्षक कार्यालय को 50 हजार की राशि उपलब्ध कराई गई है। इस राशि का समुचित उपयोग करने के निर्देश कलेक्टर ने दिये। 
   बताया गया कि अनुसूचित जाति के विभिन्न मामलों से संबंधित 114 प्रकरण तथा अनुसूचित जनजाति से संबंधित विभिन्न मामलों के 38 प्रकरण पुलिस द्वारा न्यायालयों में प्रस्तुत किये गये है। जिनमें अनुसूचित जाति के 14 प्रकरणों में सजा एवं 52 प्रकरणों में संबंधित व्यक्ति बरी हुआ है। अनुसूचित जनजाति के 4 प्रकरणों में सजा एवं 26 में व्यक्ति बरी हुआ है एवं 11 प्रकरणो में आपसी राजी नामा भी हुआ है। न्यायालय द्वारा अनुसूचित जाति के 66 एवं अनुसूचित जनजाति के 30 प्रकरण इस वर्ष निराकृत किये गये है। राहत प्रकरण के तहत अनुसूचित जाति के 110 प्रकरणों में 52 लाख 41 हजार 250 रूपये की राहत राशि दी गई है वहीं अनुसूचित जनजाति के 45 प्रकरणों में 30 लाख 25 हजार की राहत राशि दी गई है। 
    अत्याचार पीड़ित एवं गवाहों को यात्रा भत्ता देने के मामले में अनुसूचित जाति के 8 प्रकरण में 1150 रूपये की अनुसूचित जनजाति के 6 प्रकरण में 1400 रूपये की राशि गवाहो को दी गई है। भरण पोषण व्यय के मामले में अनुसूचित जाति के 8 प्रकरणों एवं अनुसूचित जनजाति के 7 प्रकरणों में 1720 रूपये की राशि दी गई है। अनुसूचित जाति/जनजाति एक्ट में 15 प्रकरण आईपीसी में दर्ज किये गये है। जिनमें 3 प्रकरणों में सजा भी हुई है। उपखंड स्तरीय सतर्कता एवं मानिटरिंग समिति की बैठक सभी विकासखंड मे संपन्न हो चुकी है। 
    बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री पी.सी.शर्मा, सहायक आयुक्त जनजातिय कार्य विभाग श्रीमती चंद्रकांता सिंह सहित संबंधित अधिकारी गण मौजूद थे।

 

 
 
 
 
 
 
  
 
 

 

  • Address: Harihar Bhavan Nowgong Dist. Chatarpur Madhya Pradesh  , Mo : 98931-96874 , Email :  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it. Web : www.ganeshshankarsamacharsewa.in