शहडोल समाचार

                                

ग्राम पंचायत चंद्रपुर के सरपंच पद का निर्वाचन कार्यवाही स्थगित रखी जाने के निर्देश 
शहडोल | 12-जनवरी-2018
 
 
   अपर कलेक्टर एवं उपजिला निर्वाचन अधिकारी शहडोल द्वारा रिटर्निंग ऑफीसर जनपद पंचायत बुढ़ार जिला-शहडोल को पत्र जारी करते हुये उच्च न्यायालय जबलपुर के द्वारा पारित निर्णय के अनुक्रम में ग्राम पंचायत चंद्रपुर के सरपंच पद के निर्वाचन की आगामी कार्यवाही आज दिनांक 12 जनवरी 2018 से स्थिगित रखे जाने हेतु निर्देशित किया गया है।
 
गणतंत्र दिवस की संध्या पर सभी शासकीय कार्यालयों में की जाएगी रोशनी 
प्लास्टिक के तिरंगे झण्डे रहेंगे प्रतिबंधित 
शहडोल | 08-जनवरी-2018
 
 कलेक्टर शहडोल श्री नरेश पाल की अध्यक्षता में आज गणतंत्र दिवस की तैयारियों के संबंध में बैठक आयोजित की गई। बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री सुशांत सक्सेना, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री एस.कृष्ण चैतन्य, अपर कलेक्टर श्री सरोधन सिंह, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व सोहागपुर श्री लोकेश जांगीड़ एवं सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारी एवं पुलिस विभाग के अधिकारी उपस्थित थे। बैठक में कलेक्टर ने कहा कि गणतंत्र दिवस पारंपरिक हर्षोल्लास के साथ मनाया जायेगा। उन्होंने कहाकि मुख्य समारोह गांधी स्टेडियम शहडोल में आयोजित होगा, इसके साथ जिले के सभी जनपद पंचायत मुख्यालयों एवं ग्राम पंचायतों में गणतंत्र दिवस समारोह गरिमामय ढंग से मनाया जायेगा। कलेक्टर ने बताया कि जिले के सभी शासकीय कार्यालयों में गणतंत्र दिवस की संध्या पर रोशनी की जायेगी वहीं प्लास्टिक के तिरंगे झण्डे शहडोल जिले में प्रतिबंधित रहेंगे। कलेक्टर ने कहा कि गणतंत्र दिवस की संध्या पर भारत पर्व का आयोजन किया जायेगा, भारत पर्व में रंगारंग सांस्कृतिक कार्यक्रमों की प्रस्तुति की जायेगी। उन्होने कहा कि सांस्कृतिक कार्यक्रमों में देशभक्ति गीतों एवं पारंपरिक सांस्कृतिक गीतों की प्रस्तुति होगी वहीं देशभक्ति पर आधारित लघु नाटकों एवं प्रहसनों की भी प्रस्तुति की जायेगी। कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे गणतंत्र दिवस में निकलने वाली झांकियों के प्रस्तुति के लिये विशेष तैयारियां करें। कलेक्टर ने निर्देश दिये कि जिला पंचायत, महिला एवं बाल विकास विभाग, पशु चिकित्सा विभाग, स्वास्थ्य विभाग, मत्स्य विभाग, जलसंसाधन विभाग, लोक निर्माण विभाग, ग्रामीण यांत्रिकी सेवा विभाग, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग, वन विभाग एवं अन्य विभाग गणतंत्र दिवस पर झांकी प्रस्तुत करेंगे। कलेक्टर ने निर्देश दिये कि जिला पुलिस बल, एसएफ एवं अन्य टुकड़िया मार्च पास्ट प्रस्तुत करेंगी इसकी तैयारियों के लिये आगामी 15 जनवरी से गांधी स्टेडियम शहडोल मे रिहर्सल चालू होगा। कलेक्टर ने निर्देश दिये है कि शैक्षणिक संस्थाओं के प्राचार्य एनसीसी एवं एनएसएस के कैडेटों का दल एवं शौर्या दल मार्च पास्ट के रिहर्सल के लिये छात्र-छात्राओं को समय पर पहुंचाना सुनिश्चित करेंगे। बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिये कि तहसीलदार सोहागपुर गणमान्य नागरिकों को आमंत्रण पत्र मुहैया कराने के प्रभारी अधिकारी होगें। बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिये कि मुख्य नगर पालिका अधिकारी शहडोल मुख्य समारोह स्थल गांधी स्टेडियम की समुचित साफ-सफाई, पेयजल व्यवस्था, बैठक व्यवस्था के प्रभारी होंगे। कलेक्टर ने निर्देश दिये कि समारोह स्थल पर स्कूली छात्र-छात्राओं के लिये अनिवार्यतः चलित शौचालय स्थापित कराया जाये।
 
राष्ट्रीय मतदाता जारूकता अभियान कार्यक्रम सम्पन्न 
शहडोल | 04-जनवरी-2018
 
 
  
   राष्ट्रीय मतदाता जागरूकता अभियान के अंतर्गत बुधवार को पंडित एस.एन.शुक्ला विश्वविद्यालय शहडोल में मतदाता जागरूकता कार्यक्रम आयोजित किया गया। जिनमें वाद-विवाद प्रतियोगिता पक्ष में प्रथम ओंम जी मिश्र, विपक्ष में प्रथम अरुणेंद्र कुमार पाण्डेय, निबंध प्रतियोगिता में प्रथम अशीष कुमार पाठक, स्लोगन प्रतियोगिता में प्रथम देवब्रत उपाध्याय तथा चित्रकला प्रतियोगिता में अवन्तिका सिंह ने प्रथम स्थान प्राप्त किया। इस प्रतियोगिता में शहडोल, जैतपुर, जयसिंहनगर, गोहपारू, बुढ़ार, संस्कृत महाविद्यालय शहडोल के प्रतिभागियों ने भाग लिया। इस प्रतियोगिता में निर्णायक मण्डल में डॉ. अमित निगम, डॉ. आनंद मसी, डॉ. एच. डी. अहिरवार, डॉ. पी.डी. रावत, डॉ. एस.एम. प्रजापति, डॉ. चेतना सिंह,डॉ. आरती झा शामिल रहें। आयोजन समिति में डॉ. उमा सिंह (संयोजक), डॉ. स्मिता वर्मा ने मंच का संचालन किया तथा डॉ. ममता प्रजापति प्रतिभागियों को शुभकामनाएं व प्राध्यापकों का धन्यवाद ज्ञापित किया।
महिला स्वसहायता समूह एवं बैंकर्स संवाद कार्यक्रम में हुआ 6 करोड़ का सीसीएल वितरण 
आजीविका मिशन एवं म.प्र.सेन्ट्रल ग्रामीण बैंक द्वारा वित्तीय साक्षरता सह नगद साख सीमा वितरण कार्यक्रम का संयुक्त आयोजन 
शहडोल | 27-दिसम्बर-2017
 
 मध्यप्रदेश दीनदयाल अन्त्योदय योजना, राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन शहडोल द्वारा आज सामुदायिक प्रशिक्षण केन्द्र कल्याणपुर में वित्तीय साक्षरता सह नगद साख सीमा वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया, जिसमें म.प्र.सेन्ट्रल ग्रामीण बैंक द्वारा 06 करोड़ के नगद साख सीमा का वितरण महिला स्वसहायता समूहों को किया गया। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि कलेक्टर शहडोल श्री नरेश पॉल, विशिष्ट अतिथि श्री एस.कृष्ण चैतन्य, मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत शहडोल, श्री सी.एस.सांखला, महाप्रबंधक म.प्र.सेन्ट्रल ग्रामीण, जिला परियोजना प्रबंधक श्रीमती शैलजा सिंह, अग्रणी जिला प्रबंधक श्री बी.के. चौरसिया, क्षेत्रीय प्रबंधक श्री एस.एस.संधू, सहायक क्षेत्रीय प्रबंधक श्री सोनी, म.प्र.सेन्ट्रल ग्रामीण बैंक की विभिन्न शाखाओं के प्रबंधक श्री नागेन्द्र गुप्ता, श्री रामकुमार गुप्ता, श्री अभिजीत राय, श्री हरिवंश सिंह, श्री मनीष सिंह बघेल एवं श्री आलोक रंजन वर्मा की उल्लेखनीय उपस्थिति रही। कार्यक्रम में वितरित नगद साख सीमा का विवरण निम्नानुसार है-सामुदायिक प्रशिक्षण केन्द्र में आजीविका स्वसहायता समूहों द्वारा निर्मित विभिन्न उत्पादों की प्रदर्शिनी एवं विक्रय केन्द्र भी लगाये गये, जिनका अवलोकन उपस्थित अधिकारियों द्वारा किया गया एवं इन समूह की महिलाओं द्वारा किये गये गये कार्यों की सराहना की गई। इस कार्यक्रम आयोजन को सफल बनाने में जिला मिशन कार्यालय के विष्णुकांत विश्वकर्मा, जिला प्रबंधक सूक्ष्मवित्त, श्रीमती कामना त्रिपाटी, सहा.जिला प्रबंधक प्रशिक्षण, संदीप सिंह, एम एण्ड ई प्रभारी, जयप्रकाश नामदेव, अमित द्विवेदी, दया दाहिया, एवं आजीविका मिशन विकासखण्ड कार्यालय जयसिंहनगर, सोहागपुर एवं बुढ़ार के समस्त समन्वयक/सदस्यों का पूर्ण सहयोग रहा।
राज्य बीमारी सहायता निधि के अंतर्गत ऑनलाइन प्रक्रिया आरंभ करने के दिशा निर्देश 
शहडोल | 25-दिसम्बर-2017
 
 
   मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी शहडोल डॉ.राजेश पाण्डेय ने बताया कि मध्यप्रदेश शासन के लोक स्वास्थ्य एवं परिकल्याण विभाग के द्वारा संचालित राज्य बीमारी सहायता निधि योजना में पात्रता अनुसार चिन्हांकित हितग्राहियों को तत्काल एवं निश्चित समय सीमा में उपचार उपलब्ध हो इस उद्देश्य से ऑनलाइन सॉफ्टवेयर की प्रक्रिया हेतु दिशा निर्देश जारी किये गये हैं। उन्होंने बताया कि जारी दिशा निर्देश के अनुसार राज्य बीमारी सहायता निधि योजना के अंतर्गत पात्रता अनुसार आवेदन की जानकारी समग्र आईडी अथवा आधार कार्ड संख्या में प्रदाय की गई के अनुसार ऑनलाइन साफ्टवेयर में संबंधित चिन्हांकित मान्यता प्राप्त निजी चिकित्सालय अथवा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी कार्यालय से अपलोड की जायेगी तथा आवेदक का पासपोर्ट साईज फोटो एवं समग्र आधार कार्ड भी अपलोड करना होगा। उन्होंने बताया कि आवेदक की बीमारी से संबंधित समस्त आवश्यक जांच एवं रिपोर्ट भी उपचार करने के पूर्व संबंधित मान्यता प्राप्त निजी चिकित्सालय द्वारा अथवा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा अपलोड करनी होगी इसके लिये मरीज से किसी भी प्रकार की राशि नहीं ली जायेगी। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी समस्त अपलोड किये जांच अथवा दस्तावेजों का परीक्षण एवं सत्यापन उपरांत आवेदक के पात्रता के अनुसार अनिवार्यता होगी। उन्होंने बताया कि समस्त शासकीय चिकित्सालय, महाविद्यालय को राज्य बीमारी सहायता योजना के अंतर्गत आवेदक के चिन्हांकित बीमारी के उपचार के लिये तथा समस्त शासकीय चिकित्सालयों, महाविद्यालयों को निजी अस्पताल के समकक्ष रखा गया है। इसमें अनापत्ति प्रमाण पत्र की आवश्यकता नहीं होगी। संबंधित जिले के सिविल सर्जन, सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक के अंतर्गत गठित मेडिकल बोर्ड के द्वारा आवेदक का अपलोड किया गया बीमारी से संबंधित समस्त जांच एवं दस्तावेजों का परीक्षण कर स्वीकृत किया जायेगा। यदि अस्वीकृत किया जाता है तो उसका कारण दर्शाया जायेगा। मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने बताया कि संबंधित जिले के सिविल सर्जन, सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक के अंतर्गत गठित मेडिकल कॉलेज के द्वारा आवेदक का अपलोड किया गया बीमारी से संबंधित समस्त जांच एवं दस्तावेजों का परीक्षण कर स्वीकृत किया जायेगा। यदि अस्वीकृत किया जाता है तो उसका कारण दर्शाया जायेगा। उन्होंने बताया कि संबंधित जिले के सिविल सर्जन, सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक के अंतर्गत गठित मेडिकल बोर्ड की स्वीकृति पश्चात आवेदक द्वारा चाहे गये अस्पताल को संबंधित बीमारी के निर्धारित पैकेज अनुसार स्वीकृत आदेश तीन किश्तों में ऑनलाईन जारी किया जायेगा।
राज्य स्तरीय युवा गणतंत्र दौड़ का आयोजन गांधी स्टेडियम में 12 जनवरी को
 
शहडोल | 26-दिसम्बर-2017
 
 
    अदम्य युवा सेवा समिति एवं एन ई आई रेलवे के संयुक्त तत्वाधान पर गणतंत्र दिवस व स्वामी विवेकानंद जयंती के उपलक्ष्य में आगामी 12 जनवरी 2018 को अदम्य राज्यस्तरीय युवा गणतंत्र दौड़ (चतुर्थ वर्ष) का आयोजन स्थानीय महात्मा गांधी स्टेडियम में किया जाना है जिसके लिए सर्वप्रथम 10 दिसंबर से 31 दिसंबर 2017 तक धावकों को पंजीकृत किया जायेगा। तत्पश्चात 07 जनवरी 2018 को चयन दौड़ (1500 मीटर) के माध्यम से धावको को चयनित करके युवा गणतंत्र दौड़ (3000 मीटर) 12 जनवरी 2018 में सम्मिलित किया जायेगा। 15 से 25 आयु वर्ग के धावक इसमें शामिल किये जायेंगे। ईनामी राशि प्रथम,द्वितीय व तृतीय के लिए क्रमशः 5100, 3100 रूपये है। सभी प्रतिभागियों के लिए प्रत्येक दिवस के कार्यक्रम में जलपान की व्यवस्था की जावेगी। पंजीकरण के लिए प्रतिभागियों को इन नंबर 7987036072 पर एवं वाट्सएप्प के माध्यम से भी पंजीकरण स्वीकृत किया जावेगा जिसमे धावकों को अपना नाम, जन्मतिथि, पता व मोबाइल नंबर भेजना होगा। कार्यक्रम में सम्मिलित होने वाले सभी प्रतिभागियों को सहभागिता प्रमाण पत्र भी दिया जावेगा।
शासकीय हाई स्कूल पुलिस लाईन में आयोजित किया गया विधिक साक्षरता शिविर आयोजित 
शहडोल | 22-दिसम्बर-2017
 
मान. राज्य प्राधिकरण जबलपुर के निर्देशानुसार एवं मान. जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण शहडोल श्री आर.के. सिंह के आदेशानुसार आज शासकीय हाई स्कूल पुलिस लाइन शहडोल में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया जिसमें मध्यस्थता एवं जनकल्याणकारी योजनाओं की जानकारी दी गई। शिविर में सर्वप्रथम सुश्री पूर्णिमा सैयाम न्यायिक मजिस्ट्रेट द्वितीय श्रेणी ने शिविर के आयोजन के उद्देश्य को बताते हुए राष्ट्रीय, राज्य एवं जिला स्तर पर गठित विधिक सेवा प्राधिकरणों द्वारा प्रदान की जाने वाली सेवाओं जिनमें निःशुल्क एवं सक्षम विधिक सहायता, लोक अदालत, मध्यस्थता शामिल है की जानकारी दी। सभी लोग अपने अधिकारों और कर्तव्यों से अवगत हों इसलिए ऐसे शिविरों का आयोजन किया जाता है। प्रशिक्षु न्यायाधीश सुश्री आकांक्षा टेकाम ने बच्चों से भारतीय संविधान के अंतर्गत मौलिक अधिकार एवं मौलिक कर्तव्यों की जानकारी साझा की एवं बच्चों से संबंधित विधि की जानकारी दी जिसके अंतर्गत लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण, शिक्षा का अधिकार आदि शामिल है। उन्होंने बाल कल्याण एवं बाल संरक्षण विधि से संबंधित कानूनों की जानकारी बच्चों को दी। श्री आर प्रजापति मुख्य न्यायिक मजिस्टेट शहडोल द्वारा अपने उदबोधन के माध्यम से यातायात नियम के संबंध में तथा बच्चों को शिक्षा से संबंधित जानकारी दी। कार्यक्रम के अंत में विद्यालय के प्रभारी प्राचार्य श्रीमती सावित्री शुक्ला द्वारा धन्यवाद ज्ञापित किया गया। शिविर में विद्यालय की व्याख्याता, शिक्षक एवं लगभग 100 छात्र उपस्थित रहे।
कलेक्टर ने मुख्यमंत्री के आगमन के तैयारियों की समीक्षा की 
शहडोल | 21-दिसम्बर-2017
 
कलेक्टर श्री नरेश पाल ने आज कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में 22 दिसम्बर 2017 को प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के शहडोल आगमन को दृष्टिगत रखते हुये जिले के प्रमुख अधिकारियों की बैठक ली तथा बैठक में तैयारियों की समीक्षा की। समीक्षा के दौरान कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि मुख्यमंत्री के सभा स्थल में समुचित पेयजल व्यवस्था, वाहन पार्किंग की व्यवस्था, साफ-सफाई की व्यवस्था, वैरीकेंटिंग की व्यवस्था सुनिश्चित करायें। कलेक्टर ने मुख्य नगर पालिका अधिकारी को निर्देश दिये हैं कि सभा स्थल में फायर बिग्रेड आदि की भी व्यवस्थाएं सुनिश्चित करायें। बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिये कि सभा स्थल पर विभिन्न विभाग कल्याणकारी योजनाओं से संबंधित स्टॉल लगायेंगें, स्टॉल में शासन द्वारा संचालित योजनाओं से संबंधित सामग्री नागरिकों को मुहैया करायेंगें। बैठक में कलेक्टर ने अधिकारियों को निर्देश दिये कि सभा स्थल पर भीड़ को नियंत्रित करने के लिये समुचित व्यवस्थाएं करायें साथ ही मंच पर धर्मगुरूओं की बैठक व्यवस्था के साथ-साथ जनप्रतिनिधियों की बैठक व्यवस्था की माकूल व्यवस्थाएं सुनिश्चित करायें। बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री सुशांत सक्सेना, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री एस.कृष्ण चैतन्य, अध्यक्ष नगर पालिका श्रीमती उर्मिला कटारे, श्री संतोष लोहानी, श्री अजय सिंह बघेल, अपर कलेक्टर श्री सरोधन सिंह, एसडीएम सोहागपुर श्री लोकेश जांगीड़, संयुक्त कलेक्टर श्री रमेश सिंह, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री शिवकुमार वर्मा, मुख्य नगर पालिका अधिकारी श्री विद्याशंकर चतुर्वेदी, डीपीसी डॉ. मदन त्रिपाठी एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।  
मत्स्य पालकों की आय में 10 गुना वृद्धि 
शहडोल | 20-दिसम्बर-2017
 
 
 आदिवासी परिवार अपने पौष्टिक आहार एवं उत्सव के लिए छोटे-छोटे तालाबों में मत्स्य पालन करते रहे हैं। पुष्पराजगढ़ (जिला अनूपपुर) जनपद पंचायत के ग्राम पोड़की में जल संसाधन विभाग द्वारा पूर्व के वर्षों में सिंचाई हेतु जोहिला जलाशय का निर्माण कराया गया था। प्रारंभ में इस जलाशय का सिंचाई कार्य में उपयोग किया जाता था। जब मत्स्य पालन विभाग के अधिकारियों ने गाँव के किसानों को खेती के साथ मत्स्य पालन कर अधिक लाभ कमाने की जानकारी दी तो वे तैयार हो गये। पांच वर्ष पूर्व 25 आदिवासी किसानों ने मत्स्य पालन करने की इच्छा जाहिर की। मत्स्य पालन विभाग ने किसानों का चयन कर उनकी सहकारी समिति गठित कर दी। समिति के सदस्य किसानों को प्रशिक्षण दिलाकर जोहिला जलाशय 10 वर्ष की लीज पर दिलाया गया। विभाग ने इन्हें लगातार प्रशिक्षण एवं मत्स्य बीज आदि सहायता उपलब्ध कराई। जब किसान प्रशिक्षित हो गये तो मत्स्य पालन विभाग द्वारा समिति के सदस्यों को स्वयं नर्सरी संचालन का प्रशिक्षण भी दिया गया। इन आदिवासी किसानों को अचानकमार वायोस्फियर रिजर्व अमरकंटक मद से 0.1 हेक्टेयर की दो नर्सरी, नर्सरी नेट, फसला जाल, महाजाल एवं वोट, सायकिल, इन्सुलेटेड बाक्स आदि अनुदान पर उपलब्ध करवाये गये। समिति के सदस्यों ने प्रथम वर्ष इसी साल 30 लाख स्पान, बीज संवर्धन कर 6 लाख फिंगर लिंग जलाशय में संचयन कर लिये हैं। इससे जलाशय का मत्स्योत्पादन 100 क्विंटल के लगभग होने की संभावना है। इसका बाजार मूल्य 10 लाख रुपये होगा। पूर्व में समिति की वार्षिक आय मात्र एक लाख रुपये हुआ करती थी। अब किसान उत्साहित हैं। केज कल्चर से मत्स्य पालन करने की योजना भी बना रहे हैं।
स्वरोजगार योजनाओं का लक्ष्य 31 दिसम्बर तक पूर्ण करायें-कलेक्टर 
शहडोल | 18-दिसम्बर-2017
 
 
 
 
  
   कलेक्टर श्री नरेश पाल ने मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना एवं प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम का शत - प्रतिशत लक्ष्य 31 दिसम्बर तक पूर्ण करने के निर्देश उक्त योजनाओं के क्रियान्वयन से जुड़े विभागों के अधिकारियों को दिये हैं। कलेक्टर ने निर्देशित करते हुये कहा है कि निरंतर निर्देशों के बावजूद नगर पालिकाओं द्वारा स्वरोजगार योजनाओं का लक्ष्य पूर्ण नहीं किया गया है वहीं उद्योग विभाग एवं ग्रामोद्योग तथा खादी ग्राम उद्योग द्वारा भी स्वरोजगार योजनाओं का लक्ष्य पूर्ण नहीं किया गया है। कलेक्टर ने उक्त विभागों के अधिकारियों को चेतावनी दी है कि वे स्वरोजगार योजनाओं का लक्ष्य 31 दिसम्बर तक हर हाल में पूर्ण करायें। कलेक्टर ने आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा स्वरोजगार योजनाओं का लक्ष्य पूर्ण नहीं करने तथा सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग द्वारा मनमानेतौर पर वगैर छुट्टी स्वीकृत कराये अवकाश पर चले जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की है तथा सहायक आयुक्त आदिवासी विकास शहडोल के विरूद्ध कार्यवाही करने के लिये पत्र प्रमुख सचिव आदिम जाति कल्याण विभाग को लिखने के निर्देश दिये हैं। कलेक्टर ने निर्देशित करते हुये कहा है कि स्वरोजगार योजनाओं का लक्ष्य हर हाल में पूर्ण होना चाहिए, उन्होने कहा है कि अधिकारी हितग्राहियों और बैंकर्सों से जीवंत सम्पर्क स्थापित करें तथा अग्रणी बैंक प्रबंधक को वस्तुस्थिति की जानकारी से अवगत कराते हुये हितग्राहियों को ऋण मुहैया करायें। कलेक्टर ने उक्त निर्देश आज स्वरोजगार योजनाओं की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को दिये। कलेक्टर ने अन्य पिछड़ा वर्ग विभाग शहडोल द्वारा स्वरोजगार योजनाओं के लक्ष्य के विरूद्ध उल्लेखनीय प्रगति करने पर सहायक संचालक अन्य पिछड़ा वर्ग की सराहना की तथा अन्य अधिकारियों को भी निर्देशित किया कि वे सहायक संचालक अन्य पिछडा वर्ग की कार्यशैली कर अनुशरण कर हितग्राही मूलक योजनाओं के लक्ष्य की पूर्ति करें। बैठक में कलेक्टर ने उज्जवला योजना के प्रगति की समीक्षा के दौरान कहा कि उज्जवला योजना में 8 हजार 800 गैस कनेक्शनों का नया लक्ष्य प्राप्त हुआ है, इस लक्ष्य की पूर्ति हेतु जिला आपूर्ति अधिकारी, गैस एजेंसियों के सदस्यों की बैठके ले तथा लक्ष्य की पूर्ति समय सीमा में करना सुनिश्चित करें। बैठक में जिला आपूर्ति अधिकारी द्वारा बताया गया कि जिले में आधार लिकिंग का कार्य लगभग 95 प्रतिशत पूर्ण हो चुका है। बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिये कि जिले में धान उपार्जन की व्यवस्थाओं में किसी भी प्रकार की गड़बड़ियां नहीं होना चाहिए। उन्होने कहा कि उपार्जन केन्द्रो से धान के परिवहन की स्थिति में सुधार लायें, कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे धान उपार्जन केन्द्रों का निरीक्षण करें तथा परिवहन की स्थिति के संबंध में वस्तुस्थिति से अवगत करायें। बैठक में कलेक्टर ने सभी विभागीय अधिकारियो को निर्देश दिये कि वे शासकीय कार्यालयों में महिलाओं के किसी भी प्रकार के उत्पीड़न को रोकने के लिये आंतरित परिवाद समिति का तत्काल गठन करें। उन्होंने कहा कि शासन के निर्देश हैं कि जिस कार्यालय में 10 से अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं, ऐसे कार्यालयों में आंतरिक परिवार समिति का गठन अनिवार्य है। कलेक्टर ने निर्देश दिये हैं कि सभी कार्यालयों में आंतरिक परिवार समिति का गठन एक सप्ताह की समयावधि में करना सुनिश्चित करें। बैठक में कलेक्टर ने ब्यौहारी की पेयजल योजना के निर्माण की प्रगति की भी समीक्षा की तथा विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे ब्यौहारी की पेयजल व्यवस्था के लिये पेयजल योजना को समुचित कनेक्शन दें। बैठक में कलेक्टर द्वारा एकात्म यात्रा की तैयारियों की भी समीक्षा की गई। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री एस.कृष्ण चैतन्य, अपर कलेक्टर श्री सरोधन सिंह, संयुक्त कलेक्टर श्री रमेश सिंह, डिप्टी कलेक्टर श्री डी.आर.कुर्रे, जिला आपूर्ति नियंत्रक श्री जे.एल.चौहान एंव अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
स्वरोजगार योजनाओं का लक्ष्य 31 दिसम्बर तक पूर्ण करायें-कलेक्टर 
शहडोल | 18-दिसम्बर-2017
 
 
   कलेक्टर श्री नरेश पाल ने मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना, मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना एवं प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम का शत - प्रतिशत लक्ष्य 31 दिसम्बर तक पूर्ण करने के निर्देश उक्त योजनाओं के क्रियान्वयन से जुड़े विभागों के अधिकारियों को दिये हैं। कलेक्टर ने निर्देशित करते हुये कहा है कि निरंतर निर्देशों के बावजूद नगर पालिकाओं द्वारा स्वरोजगार योजनाओं का लक्ष्य पूर्ण नहीं किया गया है वहीं उद्योग विभाग एवं ग्रामोद्योग तथा खादी ग्राम उद्योग द्वारा भी स्वरोजगार योजनाओं का लक्ष्य पूर्ण नहीं किया गया है। कलेक्टर ने उक्त विभागों के अधिकारियों को चेतावनी दी है कि वे स्वरोजगार योजनाओं का लक्ष्य 31 दिसम्बर तक हर हाल में पूर्ण करायें। कलेक्टर ने आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा स्वरोजगार योजनाओं का लक्ष्य पूर्ण नहीं करने तथा सहायक आयुक्त आदिवासी विभाग द्वारा मनमानेतौर पर वगैर छुट्टी स्वीकृत कराये अवकाश पर चले जाने पर कड़ी नाराजगी व्यक्त की है तथा सहायक आयुक्त आदिवासी विकास शहडोल के विरूद्ध कार्यवाही करने के लिये पत्र प्रमुख सचिव आदिम जाति कल्याण विभाग को लिखने के निर्देश दिये हैं। कलेक्टर ने निर्देशित करते हुये कहा है कि स्वरोजगार योजनाओं का लक्ष्य हर हाल में पूर्ण होना चाहिए, उन्होने कहा है कि अधिकारी हितग्राहियों और बैंकर्सों से जीवंत सम्पर्क स्थापित करें तथा अग्रणी बैंक प्रबंधक को वस्तुस्थिति की जानकारी से अवगत कराते हुये हितग्राहियों को ऋण मुहैया करायें। कलेक्टर ने उक्त निर्देश आज स्वरोजगार योजनाओं की समीक्षा बैठक में अधिकारियों को दिये। कलेक्टर ने अन्य पिछड़ा वर्ग विभाग शहडोल द्वारा स्वरोजगार योजनाओं के लक्ष्य के विरूद्ध उल्लेखनीय प्रगति करने पर सहायक संचालक अन्य पिछड़ा वर्ग की सराहना की तथा अन्य अधिकारियों को भी निर्देशित किया कि वे सहायक संचालक अन्य पिछडा वर्ग की कार्यशैली कर अनुशरण कर हितग्राही मूलक योजनाओं के लक्ष्य की पूर्ति करें। बैठक में कलेक्टर ने उज्जवला योजना के प्रगति की समीक्षा के दौरान कहा कि उज्जवला योजना में 8 हजार 800 गैस कनेक्शनों का नया लक्ष्य प्राप्त हुआ है, इस लक्ष्य की पूर्ति हेतु जिला आपूर्ति अधिकारी, गैस एजेंसियों के सदस्यों की बैठके ले तथा लक्ष्य की पूर्ति समय सीमा में करना सुनिश्चित करें। बैठक में जिला आपूर्ति अधिकारी द्वारा बताया गया कि जिले में आधार लिकिंग का कार्य लगभग 95 प्रतिशत पूर्ण हो चुका है। बैठक में कलेक्टर ने निर्देश दिये कि जिले में धान उपार्जन की व्यवस्थाओं में किसी भी प्रकार की गड़बड़ियां नहीं होना चाहिए। उन्होने कहा कि उपार्जन केन्द्रो ंसे धान के परिवहन की स्थिति में सुधार लायें, कलेक्टर ने सभी अनुविभागीय राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिये हैं कि वे धान उपार्जन केन्द्रों का निरीक्षण करें तथा परिवहन की स्थिति के संबंध में वस्तुस्थिति से अवगत करायें। बैठक में कलेक्टर ने सभी विभागीय अधिकारियो को निर्देश दिये कि वे शासकीय कार्यालयों में महिलाओं के किसी भी प्रकार के उत्पीड़न को रोकने के लिये आंतरित परिवाद समिति का तत्काल गठन करें। उन्होने कहा कि शासन के निर्देश हैं कि जिस कार्यालय में 10 से अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं, ऐसे कार्यालयों में आंतरिक परिवार समिति का गठन अनिवार्य है। कलेक्टर ने निर्देश दिये हैं कि सभी कार्यालयों में आंतरिक परिवार समिति का गठन एक सप्ताह की समयावधि में करना सुनिश्चित करें। बैठक में कलेक्टर ने ब्यौहारी की पेयजल योजना के निर्माण की प्रगति की भी समीक्षा की तथा विद्युत विभाग के अधिकारियों को निर्देश दिये कि वे ब्यौहारी की पेयजल व्यवस्था के लिये पेयजल योजना को समुचित कनेक्शन दें। बैठक में कलेक्टर द्वारा एकात्म यात्रा की तैयारियों की भी समीक्षा की गई। बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री एस.कृष्ण चैतन्य, अपर कलेक्टर श्री सरोधन सिंह, संयुक्त कलेक्टर श्री रमेश सिंह, डिप्टी कलेक्टर श्री डी.आर.कुर्रे, जिला आपूर्ति नियंत्रक श्री जे.एल.चौहान एंव अन्य अधिकारी उपस्थित थे।
वन विभाग द्वारा अनुभूति कार्यक्रम के अंतर्गत ईको कैम्प का किया जायेगा आयोजन 
शहडोल वनवृत्त में 5165 बच्चों का किया गया चयन 
शहडोल | 14-दिसम्बर-2017
 
 
    मुख्य वन संरक्षक शहडोल वनवृत्त श्री प्रशांत जाधव ने बताया कि वनविभाग द्वारा प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी अनुभूति कार्यक्रम 2017-18 के अंतर्गत स्कूली विद्यार्थियों में वन्यप्राणी एवं पर्यावरण संरक्षण के प्रति संवेदनशीलता विकसित करने हेतु प्रति वर्ष ईको कैम्प का आयोजन वनमण्डलों के माध्यम से विभिन्न परिक्षेत्रों में किया जाता रहा है। शहडोल, उमरिया एवं अनूपपुर जिले के ज्यादा से ज्यादा स्कूली विद्यार्थियों को कार्यक्रम का लाभ प्रदान करने हेतु यह कार्यक्रम परिक्षेत्र स्तरों पर आयोजित किया जा रहा है। वन वृत्त के चारों क्षेत्रीय वनमण्डलों में परिक्षेत्रवार कैम्प हेतु स्थल चयनित किये गये हैं। प्रत्येक परिक्षेत्र के दो चयनित स्थलों में 225 विद्यार्थियों द्वारा भाग लिया जायेगा। गत वर्ष कार्यक्रम के उत्साहवर्द्धक परिणामों को देखते हुये वर्ष 2017-18 हेतु 5165 बच्चों का चयन वनवृत्त शहडोल में किया गया है। प्रत्येक कैम्प में प्रकृति ज्ञान आधारित परीक्षा के माध्यम से तीन उत्कृष्ट विद्यार्थियों का चयन किया जाकर उन्हें सम्मानित किया जायेगा। कैम्प में भाग लेने वाले सभी विद्यार्थियों को प्रमाण-पत्र के साथ-साथ स्थानीय चिकित्सा विभाग से सम्पर्क कर प्राथमिक चिकित्सा सुविधा की व्यवस्था भी की जायेगी। विद्यार्थियों को पर्यावरण को पर्यावरण संरक्षण उद्देश्य की जानकारी एवं अनुभवनों के माध्यम से परिस्थितिकीय तंत्र के घटकों की व्याख्या, पर्यावरण संरक्षण, जैव विविधता, पक्षीदर्शन, वन औषधी एवं वन प्रबंधन की सामान्य जानकारी दी जायेगी। इस अनुभूति कार्यक्रम हेतु प्रत्येक वनमण्डल को कैम्प मद से राशि उपलब्ध करा दी गई है, साथ ही मास्टर ट्रेनर भी नियुक्त कर दिये गये हैं तथा विद्यार्थियों को लाने ले जाने की वाहन की व्यवस्था भी की गई है। इन कैम्पों में जन प्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक, विधायक, जनपद अध्यक्ष एवं अन्य विभाग के अधिकारियों को सम्मिलित किये जाने बावत् वनमण्डलाधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं। उन विद्यार्थियों को ही सम्मिलित किया जायेगा जो पूर्व वर्ष में सम्मिलित नहीं हो पाये हैं। कार्यक्रम स्थलों पर विद्यार्थियों के लिये ठहरने, खानपान एवं प्रकृति भ्रमण तथा अन्य विविध गतिविधियों की व्यवस्था संबंधित वनमण्डलाधिकारियों के अमले द्वारा दी जायेगी। अनुभूमि कार्यक्रम वर्ष 2017-18 में 15 दिसम्बर 2017 से 15 जनवरी 2018 तक वन मण्डल के विभिन्न परिक्षेत्रों में 02-02 कैम्प वनमण्डल उत्तर शहडोल में 10 कैम्प, दक्षिण शहडोल में 12 कैम्प, उमरिया में 09 कैम्प एवं अनूपपुर में 14 कैप इस प्रकार क्षेत्रीय वनमण्डलों में कुल 45 कैम्प आयोजित किये जा रहे हैं। 
वन विभाग द्वारा अनुभूति कार्यक्रम के अंतर्गत ईको कैम्प का किया जायेगा आयोजन 
शहडोल वनवृत्त में 5165 बच्चों का किया गया चयन 
शहडोल | 14-दिसम्बर-2017
 
   मुख्य वन संरक्षक शहडोल वनवृत्त श्री प्रशांत जाधव ने बताया कि वनविभाग द्वारा प्रत्येक वर्ष की भांति इस वर्ष भी अनुभूति कार्यक्रम 2017-18 के अंतर्गत स्कूली विद्यार्थियों में वन्यप्राणी एवं पर्यावरण संरक्षण के प्रति संवेदनशीलता विकसित करने हेतु प्रति वर्ष ईको कैम्प का आयोजन वनमण्डलों के माध्यम से विभिन्न परिक्षेत्रों में किया जाता रहा है। शहडोल, उमरिया एवं अनूपपुर जिले के ज्यादा से ज्यादा स्कूली विद्यार्थियों को कार्यक्रम का लाभ प्रदान करने हेतु यह कार्यक्रम परिक्षेत्र स्तरों पर आयोजित किया जा रहा है। वन वृत्त के चारों क्षेत्रीय वनमण्डलों में परिक्षेत्रवार कैम्प हेतु स्थल चयनित किये गये हैं। प्रत्येक परिक्षेत्र के दो चयनित स्थलों में 225 विद्यार्थियों द्वारा भाग लिया जायेगा। गत वर्ष कार्यक्रम के उत्साहवर्द्धक परिणामों को देखते हुये वर्ष 2017-18 हेतु 5165 बच्चों का चयन वनवृत्त शहडोल में किया गया है। प्रत्येक कैम्प में प्रकृति ज्ञान आधारित परीक्षा के माध्यम से तीन उत्कृष्ट विद्यार्थियों का चयन किया जाकर उन्हें सम्मानित किया जायेगा। कैम्प में भाग लेने वाले सभी विद्यार्थियों को प्रमाण-पत्र के साथ-साथ स्थानीय चिकित्सा विभाग से सम्पर्क कर प्राथमिक चिकित्सा सुविधा की व्यवस्था भी की जायेगी। विद्यार्थियों को पर्यावरण को पर्यावरण संरक्षण उद्देश्य की जानकारी एवं अनुभवनों के माध्यम से परिस्थितिकीय तंत्र के घटकों की व्याख्या, पर्यावरण संरक्षण, जैव विविधता, पक्षीदर्शन, वन औषधी एवं वन प्रबंधन की सामान्य जानकारी दी जायेगी। इस अनुभूति कार्यक्रम हेतु प्रत्येक वनमण्डल को कैम्प मद से राशि उपलब्ध करा दी गई है, साथ ही मास्टर ट्रेनर भी नियुक्त कर दिये गये हैं तथा विद्यार्थियों को लाने ले जाने की वाहन की व्यवस्था भी की गई है। इन कैम्पों में जन प्रतिनिधि, गणमान्य नागरिक, विधायक, जनपद अध्यक्ष एवं अन्य विभाग के अधिकारियों को सम्मिलित किये जाने बावत् वनमण्डलाधिकारियों को निर्देश दिये गये हैं। उन विद्यार्थियों को ही सम्मिलित किया जायेगा जो पूर्व वर्ष में सम्मिलित नहीं हो पाये हैं। कार्यक्रम स्थलों पर विद्यार्थियों के लिये ठहरने, खानपान एवं प्रकृति भ्रमण तथा अन्य विविध गतिविधियों की व्यवस्था संबंधित वनमण्डलाधिकारियों के अमले द्वारा दी जायेगी। अनुभूमि कार्यक्रम वर्ष 2017-18 में 15 दिसम्बर 2017 से 15 जनवरी 2018 तक वन मण्डल के विभिन्न परिक्षेत्रों में 02-02 कैम्प वनमण्डल उत्तर शहडोल में 10 कैम्प, दक्षिण शहडोल में 12 कैम्प, उमरिया में 09 कैम्प एवं अनूपपुर में 14 कैप इस प्रकार क्षेत्रीय वनमण्डलों में कुल 45 कैम्प आयोजित किये जा रहे 
 
 
 
 
 
 
    कलेक्टर श्री एस.कृष्ण चैतन्य ने बताया कि आदिशंकराचार्य की प्रतिमा हेतु धातु संग्रहण एवं जनजागरण अभियान के लिये आयोजित एकात्म यात्रा का आयोजन शहडोल जिले में 21 दिसम्बर 2017 को होगा तथा समापन 22 दिसम्बर को होगा। एकात्म यात्रा का शहडोल जिले में प्रवेश 21 दिसम्बर 2017 को बुढ़ार अथवा धनपुरी से होगा। जिले में यात्रा का अंतिम पड़ाव जयसिंहनगर होगा। कलेक्टर ने बताया कि एकात्म यात्रा में विशिष्ट संत शहडोल जिले के प्रभारी मंत्री, विशिष्ट जनप्रतिनिधिगण राज्य शासन के मंत्री, सांसद, निगम मंडलो के अध्यक्ष, पदाधिकारीगण, विधायक, जिला पंचायत अध्यक्ष, सदस्य जनपद पंचायत के अध्यक्ष, सदस्य एवं यात्रा दल के 100 से अधिक सदस्य सहित जनसमुदाय उपस्थित रहेगा। एकात्मा यात्रा के समुचित संचालन व विभिन्न व्यवस्थाओं हेतु अधिकारियों की ड्यूटी लगाई गई है। जारी आदेश के अनुसार एकात्म यात्रा के जिला स्तरीय नोडल अधिकारी अपर कलेक्टर शहडोल होगें, एकात्म यात्रा के सहायक नोडल अधिकारी जिला स्तरीय कंट्रोल रूम प्रभारी शासन द्वारा शंकराचार्य विरचित साहित्य एवं प्रकाशनों को सर्वसंबंधितों तक पहुंचाने, एकात्म यात्रा के दौरान पादुका पूजन, ग्राम की मिट्टी, धातु पात्र में संकलन की व्यवस्था के प्रभारी अधिकारी जिला समन्वयक मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद जिला-शहडोल होंगें। एकात्म यात्रा के दौरान सुरक्षा एवं यातायात व्यवस्था के प्रभारी एवं नोडल अधिकारी पुलिस अधीक्षक जिला-शहडोल एवं संबंधित समस्त अनुविभागीय अधिकारी जिला-शहडोल होंगें। यात्रा के प्रचार प्रसार हेतु दीवार लेखन का कार्य जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विभाग जिला-शहडोल एवं जिला समन्वयक मध्यप्रदेश जन अभियान परिषद करायेंगें। ग्राम की मिट्टी, धातु पात्र में लोहा, पीतल, तांबा, कांसा, जनसंवाद स्थल पर ले जाने हेतु प्रत्येक ग्राम पंचायत में एक प्रतिनिधि नामांकित किये जाने हेतु बैठक का आयोजन एवं व्यवस्था व प्रतिनिधियों की सूची जिला स्तरीय कंट्रोल रूम तक पहुंचाने की कार्यवाही के नोडल अधिकारी मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत (समस्त) जिला शहडोल होंगें। एकात्म यात्रा दल में शामिल नेतृत्व कर्ता संत समन्वयक व कोर ग्रुप सदस्यों के लिये स्वल्पाहार, दोपहर का भोजन, रात्रि भोजन की व्यवस्था दिनांक 21 दिसम्बर से 22 दिसम्बर 2017 तक करने के प्रभारी अधिकारी जिला खनिज अधिकारी एवं जिला परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केंद्र शहडोल होंगें। विकास खण्ड मुख्यालय बुढ़ार ग्राम पंचायत मुख्यालय पड़मनिया खुर्द, सिंहपुर, जिला मुख्यालय शहडोल, विकास खण्ड मुख्यालय जयसिंहनगर पर जनसंवाद स्थल की सम्पूर्ण व्यवस्था के प्रभारी मुख्य नगर पालिका अधिकारी, नगर पंचायत अधिकारी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत बुढ़ार, शहडोल, जयसिंहनगर, गोहपारू होंगें। पूज्य संत समन्वयक व यात्रा दल के रात्रि विश्राम, आवास, शौचालय एवं स्नानागार की व्यवस्था 21 एवं 22 दिसम्बर 2017 हेतु संतो और समन्वयकों के लिये 6 कक्षा तथा 80 अन्य सदस्यों के लिये कम से कम 30 से 40 कक्ष रात्रि विश्राम स्थल पर कम से कम 30 शौचालय एवं स्नानागार आवश्यक रूप से हों साथ ही 4-5 अलाव की व्यवस्था के प्रभारी सहायक आयुक्त आदिवासी विकास जिला-शहडोल एवं जिला सत्कार अधिकारी जिला-शहडोल होंगें। रात्रि विश्राम स्थल पर आदिगुरू शंकराचार्य जी के जीवन दर्शन पर आधारित रात्रि कालीन सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन के प्रभारी उपसंचालक सामाजिक न्याय एवं सहायक मत्स्य विभाग जिला शहडोल होंगें। 03 दिसम्बर 2017 को प्रत्येक ग्राम पंचायत पर आदिशंकराचार्य विरचित स्त्रोतों एवं अन्य भजनों पर आधारित भजन संध्या का आयोजन स्थानीय कला मंडली के द्वारा कराया जायेगा, इस आयोजन हेतु उन्हें 1-1 वैनर की व्यवस्था कर उपलब्ध करने की कार्यवाही मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत समस्त जिला शहडोल की होगी। संभागीय मुख्यालय शहडोल में आदिशंकराचार्य विरचित स्त्रोतों एवं श्लोकों का सामूहिक गान कार्यक्रम 1 दिसम्बर 2017 से 15 दिसम्बर 2017 के मध्य कराने की जिम्मेदारी प्राचार्य संस्कृत महाविद्यालय शहडोल की होगी। उक्त कार्यक्रम संस्कृत महाविद्यालय शहडोल एवं मानस भवन शहडोल में आयोजित होंगें। यात्रा दल हेतु वाहन व्यवस्था जिला परिवहन अधिकारी शहडोल द्वारा की जायेगी। एकात्म यात्रा मार्ग में दिशासूचक का अंकन एवं यात्रा मार्ग की साफ-सफाई व पानी का छिड़काव, कार्यक्रम स्थल पर पेयजल की व्यवस्था कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण विभाग एवं कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग जिला शहडोल द्वारा की जायेगी। जिले में एकात्म यात्रा आयोजन से जुड़ी गतिविधियों का प्रचार प्रसार के नोडल अधिकारी जनसम्पर्क विभाग शहडोल की होगी। यात्रा मार्ग एवं एवं कार्यक्रम स्थल पर विद्युत आदि की व्यवस्था कार्यपालन यंत्री एमपीईबी जिला शहडोल द्वारा की जायेगी। यात्रा दल के लिये चिकित्सकीय दल की व्यवस्था मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी जिला शहडोल द्वारा की जायेगी। जिला स्तरीय कंट्रोल रूम सूचना केंद्र का कार्यालयीन दूरभाष क्रमांक 07652-245525 एवं कंट्रोल रूम के प्रभारी अधिकारी श्री विवेक पाण्डेय जिला समन्वयक जन अभियान परिषद जिला शहडोल होंगें जिनका मोबाईल नम्बर 7000984459 है।
 

 

 
 
 
 


 

  • Address: Harihar Bhavan Nowgong Dist. Chatarpur Madhya Pradesh  , Mo : 98931-96874 , Email :  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it. Web : www.ganeshshankarsamacharsewa.in