उमरिया समाचार

 

 

आनंद उत्सव के तहत ग्रामीण परंपराओं का उभरता नया दृश्य 
विभिन्न खेलो से अभिभूत हो रहे ग्रामीण 
उमरिया | 16-जनवरी-2018
 
 
 
 
   
    जिले में 79 कलस्टरों में आनंद उत्सव का दौर चल पड़ रहा है। हर कलस्टर में महिलाओ की  मटका दौड़ प्रतियोगिता, रस्सा कसी, परंपरागत लोक नृत्य, पारंपरिक लोक कलाएं, कर्मा, शैला, राई, रीना, लहंगी, बधाई गीत, विवाह गीत, वालीवाल, कबड्डी, गिल्ली डण्डा, लठसद्ध, रंगोली, बोरा दौड़, सहित अन्य प्रतियोगिताएं आयोजित की जा रही है जिसका भरपूर आनंद ग्रामीण जन उठा रहे है। 
    आनंदम के तहत आयोजित इन खेल कूद प्रतियोगिताओ में उमड़ा जन सैलाब किसी बडे उत्सव या मेले से कम नही है। पूरे गांव के महिला, पुरूष एवं बच्चे इस उत्सव में भाग लेने से नही चूक रहे है। बंधवाटोला में महिलाओ ने सर में मटका रखकर दौड़ प्रतियोगिता में भाग लिया। जिसका भरपूर आनंद ग्रामीणों ने उठाया। इसी प्रकार बोरा दौड़, रस्सा कसी, कर्मा एवं शैला नृत्य आदि कार्यक्रमों ने भी ग्रामीणों का दिल लूट लिया। 

 

 

गेहूँ 420 और मसूर 300 रूपये मे होगा फसल बीमा 

बीमा की अंतिम तारीख 15 जनवरी तक 
उमरिया | 12-जनवरी-2018
 
  प्राकृतिक आपदा से होने वाले फसल नुकसान मे प्रधानमंत्री बीमा योजना का लाभ प्राप्त करने हेतु 15 जनवरी तक बीमा कराने की सलाह दी गई है। फसलवार बीमित राशि का निर्धारण के तहत रबी फसलो का बीमा 1.5 फीसदी की दर किया जाएगा। सिंचित गेहूँ के लिए स्वीकृत ऋणमान 28000 रूपये प्रति हेक्टेयर किया गया। जिसका 1.5 फीसदी की दर से 420 रूपये प्रति हेक्टेयर प्रीमियम होगा। इसी तरह असिंचित गेहूँ के लिए प्रीमियम 300 रूपये प्रति हेक्टेयर होगा, इसके अलावा चना सिंचित के लिए 278 रूपये, अलसी 225 रू. और मसूर के लिए 300 रू. प्रति हे. प्रीमियम देकर बीमा का लाभ के लिए बीमा कराये इसके लिए भू अधिकार अभिलेख, बोनी प्रमाण पत्र, बीमा योजना का घोषणा पत्र, मतदाता परिचय पत्र आधार कार्ड बैंक पासबुक की छायाप्रति जमा करनी होगी। 
   योजना के तहत फसल कटाई के बाद होने वाले नुकसान पर भी बीमा का लाभ मिलेगा। फसल कटाई के 14 दिनों तक सूखने के लिए फैलाई गई फसल पर चक्रवात या बेमौसम बरसात के कारण क्षति होने पर व्यक्तिगत खेत के आधार पर 72 घंटे के भीतर कंपनी को सूचित करने पर दावा प्रावधान किया गया है। 
   योजना के तहत सूखा, बाढ, जलभराव कीट व्याधी, भू स्खलन, प्राकृतिक आगजनी, बिजली गिरना, तूफान ओला चक्रवात बवंडरआदि जोखिम शामिल है।इसी तरह स्थानीय आपदा जैसे ओलावृष्टि एवं जल भराव का जोखिम जो अधिसूचित क्षेत्र मे व्यक्तिगत खेत के आधार पर कृषि भूमि को प्रभावित करने वाले कारको से क्षति होने पर तथा बीमा कंपनी को 72 घंटे के भीतर सूचित करने पर दावे का प्रावधान होगा

 

बिजली उपभोक्ताओं की शिकायतों के निराकरण हेतु प्रत्येक माह 12 तारीख को शिविर आयोजित होगा 
उमरिया | 08-जनवरी-2018
 
  कार्यपालन अभियंता ने बताया कि बिजली उपभोक्ताओं की शिकायतों के निराकरण के लिए प्रत्येक माह 12 तारीख को प्रातः 11 बजे से अपरान्ह 3 बजे तक मासिक उपभोक्ता शिविरों का आयोजन प्रत्येक वितरण केंद्र मुख्यालय में आयोजित होगा। अवकाश होने की स्थिति में शिविर अगले कार्य दिवस में आयोजित होगा। शिविर लगन से बिजली उपभोक्ताओ को अपनी शिकायतों का समाधान करवाने के लिए बिना किसी पूछताछ के लिए एक निश्चित तिथि मिल जाएगी। 
   मासिक शिविर में मीटर संबंधी, मीटर रीडिंग, बिलिंग, बिल वितरण, बिजली आपूर्ति, ट्रांसफार्मर, ट्रांसफार्मर से संबंधित शिकायतों का निराकरण किया जायेगा। साथ ही कंपनी क्षेत्र में उपभोक्ताओ के लिए चल रही विभिन्न योजनाओ की जानकारी भी प्रदान की जाएगी। मासिक शिविरो मे सीएम हेल्पलाइन के अंतर्गत प्राप्त शिकायतों व लोक सेवा गारंटी के तहत प्राप्त आवेदनो पर कार्यवाही की जाएगी। मासिक शिविरों में प्राप्त आवदेनो का निराकरण सात दिवस के अंदर किया जाएगा।

 

समाधान एक दिन तत्काल सेवा 14 जनवरी से सभी लोक सेवा केंद्रों में 
उमरिया | 04-जनवरी-2018
 
      
 
   नागरिको को त्वरित सेवा मिले इसके लिए प्रदेश शासन ने समाधान एक दिन तत्काल सेवा प्रदाय करने की शुरूआत पूरे प्रदेश के साथ साथ उमरिया जिले में भी 14 जनवरी मकर संक्रांति के दिन से प्रारंभ की है।  
   कलेक्टर ने बताया कि यह व्यवस्था जिले मे संचालित लोक सेवा केंद्र उमरिया, पाली, चंदिया, नौरोजाबाद एवं मानपुर के माध्यम से क्रियान्वित होगी। उन्होने बताया कि प्रथम चरण में 14 विभागों की 45 सेवाएं समाधान एक दिन तत्काल सेवा के दायरे मे लाई गई है। चिन्हित सेवाओ के आवेदन लोक सेवा केंद्र में शासकीय अवकाश को छोडकर प्रतिदिन प्रातः 9.30 बजे से लिये जायेगे और 1.30 तक प्राप्त आवेदनो का निराकरण कर उसी दिन लाभान्वित किया जाएगा। शेष बचे आवेदनों को दूसरे दिन निराकृत कर सेवा प्रदाय की जाएगी।
   जिन 45 सेवाओ को समाधान एक दिन मे दिया जाना है उनमें चालू खसरे खतौनी की नकल, नक्से की प्रतिलिपि, स्थाई निवासी, आय प्रमाण पत्र, प्रसूती सहायता योजना का लाभ, विवाह सहायता योजना का लाभ, वृद्धावस्था, निशक्त तथा विधवा पेंशन की स्वीकृति, मुख्यमंत्री कन्या अभिभावक पेंशन आदि शामिल है। 
   कलेक्टर श्री माल सिंह ने समाधान एक दिन में सेवाएं देने के लिए अधिकारियों को तैनात किया है जो पूरे दिन केंद्र में बैठकर समस्त चिन्हित सेवाओं का निराकरण कर हितग्राहियों को लाभान्वित करेंगे। इस संबंध मे समस्त तैयारियां पूरी की जा चुकी है।
पदाभिहित अधिकारी हुए प्रशिक्षित
   समाधान एक दिन तत्काल सेवा प्रदाय करने के लिए जिन पदाभिहित अधिकारियों की ड्यूटी लोक सेवा केंद्रो में लगाई गई है उन्हे जिला पंचायत के ई दक्ष केंद्र में जिला प्रबंधक लोक सेवा श्रीमती शुभांगी मित्तल ने प्रशिक्षण दिया। प्रशिक्षण के दौरान उन्होंने चिन्हित सेवाओं के क्रियान्वयन, आवेदन मे लगने वाले आवश्यक दस्तावेज, विभिन्न परिपत्र, डिजिटल हस्ताक्षर आदि की बारीकियो से अवगत कराया।
जिला प्रबंधक लोक सेवा ने आवेदको से की अपील
   जिला प्रबंधक लोक सेवा श्रीमती शुभांगी मित्तल ने जिले के नागरिको से अपील की है कि शासन द्वारा अधिसूचित समस्त चिन्हित सेवाओं के लिए संबंधित लोक सेवा केद्रों में पूरे आवश्यक दस्तावेजों के साथ आवेदन प्रस्तुत करें ताकि उनका निराकरण समय सीमा के अंदर करते हुए लाभान्वित किया जा सके। उन्होने कहा है कि यदि किसी लोक सेवा केंद्र मे आवेदन लेने के संबंध में कोई कठिनाई हो तो सीधे जिला प्रबंधक लोक सेवा उमरिया से संपर्क करें।

 

सामूहिक सूर्य नमस्कार की पूर्व तैयारी बैठक आज 
उमरिया | 02-जनवरी-2018
 
 
स्वामी विवेकानंद के जन्म दिवस युवा दिवस के अवसर पर  12 जनवरी 2018 को सामूहिक सूर्य नमस्कार का आयोजन किया जाएगा। इस हेतु पूर्व तैयारी बैठक आज 3 जनवरी 2018 को कलेक्टर की अध्यक्षता में दोपहर 3 बजे से आहूत की गई है। बैठक में सर्व संबंधितों से नियत तिथि एवं समय पर उपस्थित होने की अपेक्षा की गई है।
 

 

 

पेड़ सूखे तो सचिव एवं जीआरएस की खैर नहीं - कलेक्टर 
उमरिया | 29-दिसम्बर-2017
 
    कलेक्टर श्री माल सिंह ने मानुपर विकासखण्ड के बडेरी, बरबसपुर, सरसवाही, खैरा, धमोखर,  इंदवार, भरेवा, चिल्हारी एवं डोभा ग्राम पंचायत का औचक निरीक्षण किया। इस दौरान वृक्षारोपण के तहत लगाये गये पौधों का अवलोकन किया जिसमें डोभा पंचायत में बिना ट्री गार्ड के पेड़ सूखे हुए पाये गये। इस पर सचिव बलराम मिश्रा एवं ग्राम रोजगार सहायक को हिदायत दी कि यदि एक सप्ताह के अंदर पेड़ जीवित नहीं हुए तो सेवा से पृथक कर दिया जाएगा। 
   कलेक्टर की हिदायत को सुनते ही सचिव ने एक सप्ताह की मोहलत मांगते हुए अपनी वचनबद्धता जाहिर की है कि लगाये गये समस्त पौधों को जीवित रखूंगा और उसमें ट्री गार्ड बनाकर सुरक्षित करते हुए पेड़ के पास मटका गाड कर पानी भरते हुए सतत नमी बनाये रखना सुनिश्चित करेंगे। इसी शर्त पर कलेक्टर ने एक सप्ताह का समय दिया है अन्यथा की स्थिति में कडी कार्यवाही सुनिश्चित की जायेगी।
   कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि जिले के अधिकांश पंचायतों का निरीक्षण किया गया  जिसमें पौधे जीवित पाये गये है। कई स्थानों में पेड़ो के ग्रोथ तेजी से बढ़ रहे है और पेड़ रक्षकों द्वारा बेहतर सुरक्षा का दायित्व भी निभा रहे है। कलेक्टर ने कहा कि जिन पंचायतों में लगाये गये पेड़ शत प्रतिशत जीवित रहेगे ऐसे सचिव, रोजगार सहायक एवं पेड़ रक्षकों को राष्ट्रीय पर्व के अवसर पर सम्मानित भी किया जाएगा।

 

 

उद्यानिकी के तहत कृषि यंत्रों के क्रय पर अनुदान 
कृषक लाभ लेने हेतु आगे आए 
उमरिया | 27-दिसम्बर-2017
 
  उद्यानिकी विभाग द्वारा उद्यानिकी के विकास के लिये यंत्रीकरण को बढ़ावा देने विभिन्न योजनायें संचालित की जा रही हैं। जिसके तहत कृषकों को कृषि यंत्रों के क्रय के लिये अनुदान का प्रावधान है। कृषकों के ट्रेक्टर रोटावेटर 20 हॉर्स पॉवर से कम पर सामान्य व अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के कृषकों के लिये यंत्र की लागत का 50 प्रतिशत या अधिकतम एक लाख 50 हजार रुपये देने का प्रावधान है।
    इसी प्रकार पॉवर ट्रिलर यंत्र में सामान्य व अनुसूचित जाति व अनुसूचित जनजाति वर्ग के कृषकों के लिये यंत्र की लागत का 50 प्रतिशत या अधिकतम 75 हजार रुपये देने का प्रावधान है। इसका लाभ लेने के लिये कृषक ऑनलाईन पंजीयन कराकर विकासखण्ड प्रभारी के माध्यम से दस्तावेज सत्यापित कराकर योजना का लाभ ले सकते हैं। साथ ही अधिक जानकारी के लिये विकासखण्ड प्रभारी व अधिकारी से संपर्क किया जा सकता है। 

 

 

 

 

सुअर घूमते पाये गये तो मालिकों के विरूद्ध होगी कार्यवाही - कलेक्टर 

उमरिया | 22-दिसम्बर-2017
 
 
 नगर भ्रमण के दौरान कलेक्टर श्री माल सिंह के संज्ञान में यह बात सामने आई थी कि नगर में घूम रहे आवारा सुअरों द्वारा गंदगी फैलाई जा रही है। जिससे पूरा नगर गंदगी से सराबोर रहता है। इस संबंध में कलेक्टर ने सुअर मालिकों को हिदायत दी है  कि वे अपने को शहर में नही छोड़े और स्वयं उनकी सुरक्षा करे। 
    कलेक्टर श्री सिंह ने अनुविभागीय अधिकारी बांधवगढ़ श्री ऋषि पवार को निर्देशित किया है कि सुअर मालिकों को नोटिस जारी करते हुए उन्हें समक्ष में बुलाकर सुअरों को आवारा नही छोड़ने की समझाइश दे। उक्त निर्देश के परिप्रेक्ष्य में एसडीएम ने नगर के समस्त सुअर मालिको को बुलाकर उन्हें समझाइश दी कि वे अपने सुअरों को अपने घरों में ही रखें। सड़क पर खुला नही छोड़े। 
    उन्होने कहा कि यदि सुअर मालिकों के सुअर सड़क पर अवारा घूमते एवं गंदगी फैलाते पाये गये तो संबंधित सुअर मालिक के विरूद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी जिसके लिए वे स्वयं जिम्मेदार हो।
    एसडीएम ने कहा है कि उमरिया नगर को साफ सुथरा रखने की जिम्मेदारी हम सबकी है, इसमें सभी जन सहयोग करें जिससे नगर को साफ सुथरा रखा जा सके ताकि बाहर आने जाने वाले लोगो के लिए नगर आकर्षण का केंद्र बने। 

 

कार्य में रूचि नही लेने एवं धीमी प्रगति पर अधिकारियों को नोटिस - कलेक्टर 
उमरिया | 20-दिसम्बर-2017
 
  कलेक्टर श्री माल सिंह ने समय सीमा की बैठक में विभिन्न विभागों के लंबित प्रकरणों की समीक्षा की जिसमें कार्य की धीमी प्रगति एवं अधिकारियों द्वारा निराकरण की दिशा में रूचि नही लेने को गंभीरता से लेते हुए शो-काज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए है। बैठक में सीईओ जिला पंचायत नवीत धुर्वे सहित समस्त जिलाधिकारी, एसडीएम, नायब तहसीलदार, तहसीदार, सीएमओ, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत उपस्थित रहे।
   कलेक्टर ने कृषि विभाग की समीक्षा में पाया कि उप संचालक द्वारा फसल बीमा कराने में न तो रूचि ली जा रही है न ही प्रगति लाई जा रही है। इसी प्रकार कृषि विभाग द्वारा मानपुर के जगदीश गुप्ता को कृषि यंत्र वितरण के लिए अधिकृत किया गया था लेकिन किसानों को वितरण न कर वह स्वयं बिक्री कर लाभ प्राप्त कर रहा है इसे गंभीरता से लेते हुए उप संचालक कृषि को शो काज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए है। 
   तहसीलदार द्वारा पट्टा वितरण की जानकारी नही देने पर शो काज नोटिस जारी करने, पात्र हितग्राहियों को खाद्यान्न पर्ची न होने के कारण लाभ नही मिलने हेतु तहसीलदारों से कहा गया है कि अभियान चलाकर अपात्रों के नाम काटे एवं पात्रों के नाम जोड़ने की जानकारी प्रतिदिन सायं 5 बजे खाद्य अधिकारी के माध्यम से कलेक्टर को प्रस्तुत करे। सीएम हेल्पलाइन में लेवल 3 एवं 4 का निराकरण 24 घंटे के अंदर कर समाधान कारक प्रतिवेदन फीड करें अन्यथा जिम्मेदार अधिकारियों के विरूद्ध कमिश्नर को प्रस्ताव कार्यवाही हेतु भेजा जाएगा। 
   कलेक्टर ने बताया कि प्रातः 8.30 बजे जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण किया गया जिसमें सभी डाक्टर ओपीडी से नदारत पाए गए जिन्हें अनुपस्थित करते हुए एक दिन का वेतन काटने और सिविल सर्जन सहित सभी को शो-काज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए है। लाडली लक्ष्मी योजना के लंबित प्रकरणों को 26 दिसंबर तक निराकृत करने के निर्देश देते हुए कहा है कि यदि उक्त अवधि तक निराकरण नही किया गया तो महिला बाल विकास अधिकारी एवं इससे जुडे अन्य अधिकारियो के विरूद्ध कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। 
   मुख्यमंत्री स्वरोजगार योजना, उद्यमी योजना एवं आर्थिक कल्याण योजना तथा प्रधानमंत्री रोजगार सृजन योजना में उद्योग विभाग एवं खादी ग्रामोद्योग में प्रगति नही लाने पर महाप्रबंधक उद्योग एवं खादी ग्रामोद्योग के अधिकारी को शो काज नोटिस जारी करने के निर्देश दिए है।  महिला बाल विकास अधिकारी को कुपोषण से मुक्ति हेतु कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दिए गए थे इसके बावजूद कोई कार्य नही किया गया। इस पर नाराजगी जाहिर करते हुए हिदायत दी है  कि इस दिशा में ठोस पहल करें अन्यथा कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। 
   इसी प्रकार पशुओं के टीकाकरण की जानकारी उप संचालक पशु चिकित्सा सेवाएं द्वारा नही दिए जाने, आवासहीन व्यक्तियों का सर्वेक्षण कर आवास हेतु पट्टा देने में गति नही आने पर एसडीएम एवं तहसीलदारों को नोटिस जारी करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए है। श्रम विभाग के अंतर्गत कर्मकार मण्डल में मजदूरों का पंजीयन नही कराने पर श्रम निरीक्षक एवं स्थानीय निकाय को निर्देशित किया गया है कि वे अभियान चलाकर समस्त मजदूरों का पंजीन कराएं ताकि उन्हें विभिन्न हित लाभ प्राप्त हो सके। सामाजिक सुरक्षा पेंशन के तहत समस्त हितग्राहियों का अपडेशन कराएं जिससे सभी को समय पर पेंशन का भुगतान हो सके। 
   कलेक्टर श्री माल सिंह ने बैठक में समस्त जिला अधिकारियों से कहा है कि जिनका नाम मतदाता सूची में नही है वे अपना एवं अपने अधीनस्थ कर्मचारियों का नाम 15 जनवरी तक अनिवार्य रूप से जुडवाये। 
बजट लेप्स हुआ तो अधिकारियो पर होगी कार्यवाही
   कलेक्टर श्री माल सिंह ने समस्त कार्यालय प्रमुखों से कहा है कि विभाग द्वारा उपलब्ध कराए गये शत प्रतिशत बजट का उपयोग समय पर करें। उन्होने कहा है कि यदि किसी भी विभाग का बजट लेप्स हुआ तो संबंधित अधिकारी के विरूद्ध जिम्मेदारी तय करते हुए कड़ी कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। 

 

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना ने हेमलता की बदली तकदीर "सफलता की कहानी " 

उमरिया | 14-दिसम्बर-2017
 
 
 
 
 
  उमरिया नगर पालिका के वार्ड क्रमांक 7 पुराना पडा़व में गरीबी रेखा में पल रहे नागेष सेन छोटे मोटे कपड़े एवं अन्य समान ठेले में रखकर परिवार का गुजर बसर चला रहा था। कक्षा 12 वीं एवं बीसीए उर्त्तीण पत्नी श्रीमती हेमलता सेन घूंघट एवं घर की डेहरी के अंदर रहकर महज घर के काम तक सीमित रहती रही। 13 एवं 10 वर्ष के दो बच्चे है जो विद्यालय में अध्ययनरत है। ठेले की कमाई से गुजर बसर चलाना मुश्किल हो गया था। 
   हेमलता सेन ने  पति नागेष का हाथ बंटाना चाहती थी इसी उद्देश्य से उन्होंने पिछडा वर्ग एवं अल्पसंख्यक विभाग जाकर धंधे को बढाने की बात सुश्री प्रीति गठरे निरीक्षक से की। उन्होंने उसी दिन आवेदन लेकर मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना के तहत 50 हजार रूपये का प्रकरण स्वीकृत कर कैनरा बैंक भेज दिया। बैंक ने भी उसी तत्परता के साथ हेमलता सेन को 31 मार्च 2016 को 15 हजार की पहली किस्त, सितंबर 2016 में 20 हजार की दूसरी किस्त और दिसंबर 2016 में 15 हजार रूपये की तीसरी किस्त भी दे दी जिससे व्यापार बढता चलता गया।
   हाथ ठेला मे घूम घूमकर व्यापार करने वाले नागेष सेन की पत्नी हेमलता सेन को जिला प्रशासन ने नजूल की खाली भूमि में 10 x10 की जगह नगर पालिका भवन के सामने दी गई  जिसमें छोटी सी दुकान का निर्माण कर 1140 रू. प्रतिमाह बैंक ऋण की अदायगी करते हुए खुशहाल है और दुकान में एक एक लाख से अधिक की सामग्री भी पड़ी हुई है। 
   हेमलता सेन घर, दुकान एवं बैंक का लोन पटाते हुए माह में 8-10 हजार रूपये की बचत भी कर रही है। हेमलता सेन जो घर के बाहर नही निकलती थी वह अपने पति नागेष सेन की पूरी मदद कर रही है। दुकान का कारोबार संभाल चुकी हेमलता ने कहा कि मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना से हमे यदि ऋण नही मिलता तो न जाने कैसे बच्चों का भरण पोषण कर पाती, लेकिन धन्य है यह योजना जिसमें बिना किसी गारंटी के ऋण प्रदाय कर आज मुझे इस काबिल बना दिया है। उसने कहा कि अब दुकान चल पड़ी है सिर्फ बच्चों को उच्च शिक्षा दिलाने की तमन्ना है।

श्रमोदय विद्यालय के शैक्षणिक सत्र 2018- 19के प्रवेश हेतु 31 दिसंबर तक ऑनलाइन आवेदन प्रस्तुत करें 

उमरिया | 13-दिसम्बर-2017
 
   सहायक श्रम पदाधिकारी ने बताया कि पंडित दीन दयाल उपाध्याय श्रमोदय विद्यालय के शैक्षणिक सत्र 2018- 19 में कक्षा 6वीं, 7वीं, 8वीं, 9वीं एवं 11 वीं में प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन 31 दिसंबर 2017 तक  आमंत्रित किए गए है। इस योजना के तहत पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के प्रतिभावान पुत्र एवं पुत्रियों को भोपाल, इंदौर, ग्वालियर एवं जबलपुर में स्थापित श्रमोदय आवासीय विद्यालय में निशुल्क शिक्षा प्रदाय की जाएगी। 
   उन्होंने बताया कि जबलपुर स्थित श्रमोदय विद्यालय में जबलपुर, रीवा एवं शहडोल संभाग के ही विद्यार्थी को प्रवेश दिया जाएगा। आवेदन ऑनलाइन भी उपलब्ध है।

 

मुख्यमंत्री की घोषणा के तहत पार्क निर्माण कार्य हेतु 80 लाख रूपये की प्रशासकीय स्वीकृति जारी 
उमरिया | 11-दिसम्बर-2017
 
 
 
 
   मुख्यमंत्री की घोषणा के तहत थाना यातायात के सामने पार्क निर्माण कार्य हेतु प्रधानमंत्री खनिज क्षेत्र कल्याण योजना के तहत 80 लाख रूपये की प्रशासकीय स्वीकृति जारी की गई है जिसमें प्रथम किस्त के रूप में 48 लाख रूपये जारी किए गए है। 
   मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री नवीत कुमार धुर्वे ने निर्माण एजेंसी से कहा है कि निर्माण कार्य शासकीय भूमि पर कराना सुनिश्चित करे। बिना भूमि के परीक्षण किए कार्य सम्पन्न कराये जाने के पश्चात विवाद की स्थिति निर्मित होने पर कार्य पर व्यय राशि संबंधित कार्य एजेंसी से वसूल की जाएगी।

 

अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार दिवस पर कार्यशाला संपन्न 
समाज के लिए कलंक है दहेज लेना या देना - के पी सिंह 
उमरिया | 10-दिसम्बर-2017
 
 
 जब अपनी बेटी को बिना दहेज के विदा करने की सोच के साथ उसका विवाह करते है ठीक उसी प्रकार हमारी सोच होनी चाहिए की बहू लाते वक्त हम दहेज का जिक्र भी न करें और बहू, बेटी में किसी भी प्रकार का भेदभाव न रखें। उक्त उदगार जिला न्यायालय में आयोजित एक दिवसीय अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार दिवस की कार्यशाला के मुख्य अतिथि जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री के पी सिंह ने व्यक्त किए। 
    उन्होंने कहा कि समाज में क्या हो रहा है। समाज किसके लिए क्या कर रहा है इस बात की जानकारी हर व्यक्ति को है, आवश्यकता है सही कानूनी प्रावधानों के तहत न्याय पाने या न्याय दिलाने की। हम बेटियों को बेटा का दर्जा देते है लेकिन जब बात आती है दहेज लेने की तो उसमें हम जरा भी हिचहिचाहक नही करते है, जबकि बेटियों को विदा करते वक्त हमारे मन में एक ही प्रश्न आता है हमसे कोई दहेज की मांग न करें। 
    जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने कहा कि यह बदलाव तभी संभव है जब हम इसकी शुरूआत अपने घर से करे जिससे आने वाले समय में धीरे धीरे समाज को दिखाई देने लगा कि बेटा और बेटियों में कोई फर्क नही रह गया है। उन्होंने कहा कि किसी भी व्यक्ति को उसका जीवन स्वतंत्रता जीने का अधिकार प्राप्त है जिसे वह अच्छे मनुष्य की तरह जी सकता है। 
  
    उन्होंने स्कूली बच्चों को अंतर्राष्ट्रीय मानवधिकार दिवस की बधाई देते हुए कहा कि जिस तरह से बच्चों ने कार्यक्रम मे भाग लिया है इससे यह समाज में परिकल्पित है कि अधिकारों के प्रति बच्चें जागरूक है। उपस्थित जनों को यह संदेश देते हुए उन्होंने अपील की कि घरों पर बेटी एवं बहू के साथ समानता का व्यवहार करें। अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार दिवस पर एक सुर्खी देते हुए जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री सिंह ने कहा कि उठा लो अपनी हस्ती को कुछ इस कदर बेटी- कि साहिल के तमासायी तुम्हें नखुदां समझे। 
    इस अवसर पर प्रथम अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश सुरेंद्र कुमार, तृतीय व्यवहार न्यायाधीश वर्ग - 1 लोकेंद्र सिंह, अपर कलेक्टर जी एस धुर्वे, डिप्टी कलेक्टर श्रीमती साधना सिंह, महिला सशक्तिकरण अधिकारी सुश्री दिव्या गुप्ता, कार्यक्रम अधिकारी महिला बाल विकास मनमोहन सिंह,  उप संचालक कृषि जिला मलेरिया अधिकारी डी पी पटेल, आदिवासी आयुक्त आदिम जाति आनंद राय सिन्हा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री अमित वर्मा, आबकारी अधिकारी एस के उरांव, जिला उद्योग  अधिकारी, उमा महोबिया, नरेंद्र गिरी, हरीदीन गुप्ता, एपीसी सुशील मिश्रा, सीके दुबे, भारतीय अधिकार एसोसिएशन से राहुल अग्निहोत्री, रिषी रिछारिया, कीर्ति सोनी, पारस नाथ शर्मा, अभिषेक अग्रवाल, सुनील नामदेव, कपिल शर्मा, आशीष सोनी, दुर्गेष सोंधिया सहित बडी संख्या में स्कूली छात्र छात्राएं व गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे। 
    कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कलेक्टर श्री माल सिंह ने कहा कि विश्व के इतिहास में यह परिलक्षित है कि महिलाओं ने समाज के प्रति ऐसी कहानियां गढी है कि वे आज देश में अपनी अमिट छाप छोड़े हुए है चाहे वह सुरक्षा का क्षेत्र हो या पर्यावरण, संस्कृति, खेल सहित स्वास्थ्य एवं शिक्षा में अपना लोहा मनवा लिया है वे किसी कि अब मोहताज नही है। बेटियां इतनी आगे है कि बेटों से कंधे से कंधा मिलाकर आगें बढ़ रही है। 
    कलेक्टर ने हिंदू परंपरागत त्यौहारो पर जोर देते हुए कहा कि बेटियां नही होगी तो यह समाज पीछे हो जाएगा, हिंदू का हर त्यौहार बेटियों के बिना अधूरा सा है। समाज के पुराने रूढिगत, पंरपरा को मानने वाले लोगो से उन्होंने अपेक्षा की है कि बेटियां समाज का अभिन्न अंग है जिन्हें बेटों के बराबर का दर्जा देंने हम किसी भी कोर से पीछे नही हटेंगे। 
    उन्होंने कहा कि बेटियां को अच्छी शिक्षा प्रदान करें जिससे वे अपने कुल के साथ समाज और देश का गौरव बन सके। 
    कार्यक्रम में पुलिस अधीक्षक डॉ. असित यादव, आयोग मित्र शिरिष चंद्र भट्ट एवं प्रतिभा सिंह परिहार प्रचार्य उत्कृष्ट विद्यालय ने भी अंतर्राष्ट्रीय मानव दिवस पर अपने सारगर्भित विचार व्यक्त किए। इनके अलावा स्कूल छात्र जिया सोनी, वैशाली सिंह, नीलांजना तिवारी, मणिकांत मिश्रा ने अंतर्राष्ट्रीय मानव दिवस पर संबोधित करते हुए उन्होंने मानव के समाज में प्राप्त अधिकारों जैसे समान वेतन का अधिकार, जीने का अधिकार सहित कानूनी सलाह के बारे में जानकारी दी। कार्यक्रम के अंत में परीक्षा में अच्छे परिणाम लाने वाले प्रतिभागी बच्चों को पुरस्कार दिया गया जिसमें शिवांश निगम, केशव मिश्रा, श्रुति सिंघई सहित अन्य बच्चें शामिल है। 
बराबरी का साथ निभाएं- महिलाए अब आगें आएं
    अंतर्राष्ट्रीय मानव अधिकार दिवस के अवसर पर जिला न्यायालय परिसर से भारतीय मानव अधिकार एसोसिएशन, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण एवं महिला सशक्ति करण विभाग के तत्वाधान में एक विशाल रैली निकाली गई जिसमें आरसी स्कूल, सेन्ट्रल एकेडमी स्कूल, सशक्त वाहिनी एवं शौर्या दल शामिल रहा। उक्त रैली न्यायालय परिसर से प्रारंभ होकर गांधी चौक, जयस्तंभ चौक, अस्पताल तिराहा, रणविजय चौक से होकर पुनः न्यायालय में सभा के रूप में विसर्जित हुई। 
    रैली में स्कूली छात्र छात्राओं ने तख्ती के माध्यम से नगरवासियों को बेटी बचाओ बेटी पढाओ, बराबरी का साथ निभाएं- महिलाएं अब आगें आये, सुरक्षा का एक ही द्वार- आपका अपना अधिकार, नारी का जो करें अपमान - जानें उसे जानवर समान, जब बंद हो सारे द्वार- साथ है मानवअधिकार, नारी का करो सम्मान- तभी बनेगा देश महान, मजबूत महिलाएं- मजबूत बुनियाद का संदेश दिया। 

 

नरेगा के तहत स्वीकृत कार्यो को पंचायत भवन में चस्पा करायें- कलेक्टर 
उमरिया | 08-दिसम्बर-2017
 
 कलेक्टर श्री माल सिंह ने सीईओ जनपद पंचायत को निर्देशित किया है कि सभी ग्राम पंचायतों में मनरेगा के अंतर्गत स्वीकृत कार्यो की सूची अनिवार्य रूप से लगाएं। ग्राम पंचायत भवन में लगाई जाने वाली सूची में स्वीकृत कार्य का नाम, लागत, संभावित मजदूरों की संख्या आदि का उल्लेख करें जिससे काम चाहने वाले मजदूर अवलोकन कर काम प्राप्त कर सके।
   कलेक्टर ने कहा है कि अवर्षा के कारण मजदूर काम की तलाश में कही पलायन नही करें इसे दृष्टिगत रखते हुए प्रत्येक ग्राम पंचायतों में मनरेगा के अंतर्गत कार्य स्वीकृत कर स्थानीय स्तर पर हर हाथ को काम उपलब्ध कराने का दायित्व सीईओ जनपद पंचायत को होगा। कलेक्टर ने कहा कि निरीक्षण के दौरान पंचायतों में स्वीकृत कार्य चस्पा नही पाये गये तो संबंधित सरपंच सचिव एवं सीईओ जनपद पंचायत के विरूद्ध कार्यवाही की जाएगी।  

 

 

फसलों के लिये नवीन औसत मॉडल दरें घोषित "भावांतर भुगतान योजना" 

पंजीकृत किसानों को नवीन दरों से मिलेगी राशि 
उमरिया | 07-दिसम्बर-2017
 
 
    भावांतर भुगतान योजना अन्तर्गत राज्य शासन ने किसान हितैषी निर्णय लिए हैं। गत एक नवम्बर से 30 नवम्बर के दौरान पंजीकृत किसानों द्वारा कृषि उपज मंडियों में बेची गई अधिसूचित फसलों के लिए नवीन औसत मॉडल दरें शासन ने घोषित की हैं। कलेक्टर श्री माल सिंह ने पंजीकृत किसानों से खरीदी गई अधिसूचित फसलों का नवीन दरों के अनुसार भावांतर राशि का भुगतान करने के निर्देश दिये हैं। मालूम हो सोयाबीन, उड़द, मक्का, एवं मूंगफली की नवीन औसत मॉडल दरें घोषित की गई है। रामतिल एवं तिल की औसत मॉडल दरें पूर्वानुसार यथावत रखी गई हैं।
   प्राप्त जानकारी के मुताबिक इस अवधि के लिए योजना की नियत प्रक्रिया एवं प्रावधानों के अनुसार गठित की गई उप समिति की अनुशंसा के क्रम में एक से 30 नवम्बर 2017 के लिये सोयाबीन की औसत मॉडल दर 2640 रुपये प्रति क्विंटल, उड़द की 3070 रुपये प्रति क्विंटल, मक्का की 1110 रुपये प्रति क्विंटल, मूंग की 4120 रुपये प्रति क्विंटल और मूंगफली की 3570 रुपये प्रति क्विंटल रहेगी। रामतिल एवं तिल की औसत मॉडल दरें न्यूनतम समर्थन मूल्य से उक्त अवधि में अधिक रहने के कारण इन दोनों कृषि उपज पर भावांतर उक्त अवधि में देय नहीं होगा।
   किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग द्वारा जारी आदेशानुसार भावांतर भुगतान योजना में ऐसे समस्त पंजीकृत किसान जिनके द्वारा अधिसूचित फसलों (सोयाबीन, उड़द, मक्का, मूंग एवं मूंगफली) का विक्रय अधिसूचित मंडियों में एक से 30 नवम्बर 2017 की अवधि में किया गया है, उन्हें योजना के प्रावधानों एवं पात्रता के अनुसार भावांतर राशि का भुगतान सुनिश्चित करने को कहा गया है। 
जिला स्तरीय समिति परीक्षण के बाद कृषकों को एसएमएस भेजेगी
   नवीन औसत मॉडल दरों के अनुसार कृषकों को भावांतर राशि कलेक्टर की अध्यक्षता में गठित जिला स्तरीय समिति द्वारा परीक्षण के बाद पात्रतानुसार पंजीकृत किसानों के खातों में जमा करवाई जायेगी। अधिसूचित मंडी प्रांगण में कृषि उपज का विक्रय करने वाले पंजीकृत किसानों को प्रावधानों के अनुसार गणना कर उन्हें दी जाने वाली भावांतर राशि की जानकारी उनके मोबाइल पर एसएमएस द्वारा भेजी जाएगी।

विश्व विकलांग दिवस के अवसर पर विविध कार्यक्रम आयोजित होंगे 

उमरिया | 01-दिसम्बर-2017
 
 
   विश्व विकलांग दिवस 3 दिसंबर को मनाया जाएगा। प्रभारी उप संचालक सामाजिक न्याय श्री मनमोहन सिंह ने बताया कि विश्व विकलांग दिवस के अवसर पर नि:शक्त व्यक्तियों के सामर्थ्य प्रदर्शन हेतु खेल कूद प्रतियोगिता, सांस्कृतिक कार्यक्रम एवं स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन स्थानीय निकाय एवं जन समुदाय की सक्रिय सहभागिता द्वारा आयोजित किया जाएगा। 
   श्री मनमोहन सिंह ने बताया कि जिला स्तरीय विश्व विकलांग दिवस स्थानीय कालरी स्कूल में 3 दिसंबर 2017 को प्रातः 9 बजे से आयोजित किया जाएगा जिसमें खेल प्रतियोगिता-एथलेटिक्स, बास्केटबाल, बैड मिनटन, क्रिकेट, सायकिलिंग, हाकी, फुटवाल, टेबल टेनिस, शतरंज, वॉलीवाल, सांस्कृतिक कार्यक्रमों में एकल नृत्य, सामूहिक गान, संगीत, नाट्य, फैंसी ड्रेस, सामर्थ्य प्रदर्शन के तहत नि:शक्त जनों द्वारा उत्पादित वस्तुओ हस्त, हस्त शिल्प आदि की प्रदर्शनी लगाई जाएगी जिसमें फोटोग्राफी, पेंटिंग, ड्रेसमेकिंग, ज्वैलरी मेकिंग, बांस की कलाकृति, कड़ाई, चित्रकला, हस्तकला का प्रदर्शन किया जाएगा। 
   विश्व विकलांग दिवस के अवसर पर स्वास्थ्य शिविरों का आयोजन किया जाएगा जिसमें निशक्तता प्रमाण पत्र प्रदाय किया जाएगा।

समाधान ऑनलाइन कार्यक्रम 5 दिसंबर को 

उमरिया | 29-नवम्बर-2017
 
 
   समाधान ऑनलाइन कार्यक्रम 5 दिसंबर को कलेक्ट्रेट के एनआईसी केन्द्र में आयोजित किया जाना है। कलेक्टर श्री माल सिंह ने बताया कि समाधान ऑनलाइन के माध्यम से मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान जिले की गतिविधियों, विभागीय योजनाओं की प्रगति तथा अन्य संबंधित विषयों पर चर्चा एवं समीक्षा करेंगे।

कलेक्टर ने दिलाया संविधान दिवस पर शपथ 

उमरिया | 27-नवम्बर-2017
 
 
      भारत के संविधान दिवस के उपलक्ष्य में आज कलेक्ट्रेट में कलेक्टर श्री माल सिंह ने समस्त अधिकारियों एवं कर्मचारियों को संविधान दिवस की शपथ दिलाई। इस अवसर पर इस बात की शपथ ली गई कि राष्ट्र की एकता एवं अखण्डता को अक्षुण्य बनाये रखेगे तथा भारत को एक सम्पूर्ण प्रभुत्व सम्पन्न समाजवादी पंथनिरपेक्ष लोकतंत्रात्मक गणराज्य बनाने तथा राष्ट्र की एकता तथा अखण्डता सुनिश्चित करने की शपथ दिलाई गई। 

मुख्यमंत्री आज अल्प प्रवास पर उमरिया आयेंगे 

उमरिया | 22-नवम्बर-2017
 
 प्रदेश के मुख़्य मंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान आज 23 नवम्बर 017 को अल्प प्रवास पर उमरिया आयेंगे। श्री चौहान आज 23 नवम्बर 17 को 11.40 बजे ग्वालियर से हवाई जहाज द्वारा प्रस्थान कर 1.20 पर उमरिया हवाई पट्टी आयेंगे जहा से 1.25 बजे हेलीकॉप्टर द्वारा अनूपपुर के लिए प्रस्थान करेंगे। 
   श्री चौहान अनुपपुर में विभिन्न कार्य क्रम में भाग लेने के पश्चात सायं 4.25 पर उमरिया आयेंगे जहा से हवाई जहाज द्वारा भोपाल के लिए रवाना होंगे।

लंबित प्रकरणों के निराकरण में कार्यालय प्रमुख व्यक्तिगत रूचि लें 

टी. एल. बैठक में कलेक्टर ने दिया अधिकारियो को निर्देश 
उमरिया | 20-नवम्बर-2017
 
 
   कलेक्टर श्री माल सिंह ने टी. एल. बैठक में सीएम हेल्पलाइन, जनसुनवाई एवं अन्य विभागीय प्रकरणों के लंबित प्रकरण वार समीक्षा करते हुए अधिकारियों को निर्देशित किया है  कि वे व्यक्तिगत रूचि लेकर निराकरण की दिशा में ठोस पहल करें। निराकरण नही होने की स्थिति में कार्यालय प्रमुख को जिम्मेदार मानते हुए कार्यवाही सुनिश्चित की जाएगी। बैठक में एसडीएम  पाली पार्थ जयसवाल, एसडीएम बांधवगढ़ ऋषि पवार, डिप्टी कलेक्टर श्रीमती साधना सिंह, कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकीय सेवा, एपीसी, सहायक संचालक उद्यानिकी श्री आर बी पटेल, जिला सशक्तिकरण अधिकारी, महिला बाल विकास अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी, डीपीसी, एसडीओ वन एलडीएम, महाप्रबंधक जिला उद्योग एवं व्यापार, तहसीलदार, पीओ डूडा, जनपद सीईओ सहित अन्य विभागों के अधिकारी उपस्थित रहे। 
   कलेक्टर श्री सिंह ने अधिकारियो से कहा है कि जनसुनवाई में आये गंभीर प्रकरणों को टी एल एवं सीएम हेल्पलाइन में लगाया जाता है। ऐसे हितग्राही मूलक प्रकरणों के निराकरण की फाइल स्वयं अधिकारी साथ में लाकर कराए। पशु चिकित्सा कार्यालय के पास हुए अतिक्रमण को तत्काल हटाने के निर्देश अनुविभागीय अधिकारी राजस्व को दिए गए है। 
   कलेक्टर ने इस दौरान सेवा निवृत्त अधिकारियो कर्मचारियो के लंबित पेंशन प्रकरणों, बंद नल जल योजनाओं के सर्वे का कार्य गठित दल द्वारा करने, मतदाता सूची मे नाम जोडने के कार्य मे गति लाने, जिन बैकों में समुचित व्यस्थाएं नही है उन्हें नोटिस देने, भू अर्जन के प्रकरणों, कपिलधारा कूप अधिकाधिक किसानों के खेत में खुदवाने हेतु प्रेरित करने, वनाधिकार, आवासहीन परिवारों का सर्वेक्षण कर उन्हे पट्टा देने की पहल करने, विभागीय जांच एवं अनुकंपा नियुक्ति के प्रकरणों का यथा समय निराकरण करने के निर्देश कलेक्टर ने दिए है। 

 

निर्माणाधीन अटल आश्रय योजना का गृह एवं अधोसरंचना विकास मण्डल के अध्यक्ष ने किया निरीक्षण 
उमरिया | 12-अक्तूबर-2017
 
 
 
 
   गृह एवं अधोसंरचना विकास मण्डल के अध्यक्ष श्री राधेकृष्ण मोरारी ने बांधवगढ़ कालोनी में बन रहे निर्माणाधीन अटल आश्रय योजना के तहत बन रहे मकानों का निरीक्षण किया। 
   उन्होंने लोगो से अटल आश्रय योजना मे सम्मिलित होने एवं उसका लाभ लेने की अपील की। विदित हो कि मण्डल द्वारा 5 एकड़ भूमि विकास  का कार्य कर 151 ई-डब्ल्यू एस 33 एल आई जी भवनो एंव 10 दुकानों का निर्माण कार्य प्रगति पर पाया गया। उन्होने कहा कि जनवरी 2018 तक निर्माण कार्य पूर्ण कर हितग्राहियों को भवन उपलब्ध कराए। इस अवसर अध्यक्ष द्वारा पालीटेक्निक कालेज भवन के पास प्रस्तावित एक और अन्य प्रस्तावित आवासीय योजना का निरीक्षण किया गया। 
   निरीक्षण के दौरान उपायुक्त मप्र गृह एवं निर्माण अधोसंरचना विकासखण्ड मण्डल, कार्यपालन यंत्री, सहायक यंत्री तथा उपयंत्री उपस्थित रहे।
(1 days ago)

 

 

नौकरी की चाहत छोड़ पोस्ट ग्रेजुएट कु. अंजली नौकरी देने लायक बनीं (सफलता की कहानी) 
नगर में शुद्ध पानी पिलाकर बटोर रही दुआएं 
उमरिया | 09-अक्तूबर-2017
 
 
 मन में कुछ कर गुजरने की तमन्ना हो तो मंजिल तक पहुंचना मुश्किल नही होता। मेहनत, लगन एवं निष्ठा से किये गये काम से व्यक्ति निश्चित ही एक दिन सफलता की बुलंदियों को छू लेता है। इसे नगर की एम.काम. विषय से पोस्ट ग्रेजुएट 22 वर्षीय कु. अंजली अग्रवाल पिता अजय अग्रवाल ने मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना से ऋण लेकर आर ओ वाटर एण्ड चिल्ड वाटर का पावर प्लांट नगर के मध्य स्थित सेन्ट्रल बैंक के बगल से गोपाल मंदिर रोड उमरिया में स्थापित कर दिखाया है। प्लांट से प्रतिदिन 700 डिब्बे शुद्ध पानी की सप्लाई कर जहां एक ओर दुआएं बटोर रही है वहीं बैंक की किस्त अदायगी के बाद 15 से 20 हजार महीने आमदनी कमा रही है। 
   कु. अंजली अग्रवाल ने अपनी पढ़ाई पूरी करने के बाद जाब करने के लिए नौकरी की तलाश की, नही मिलने पर उनकी नजर अखबार में छपे विज्ञापन पर पड़ी जिसमें शिक्षित बेरोजगारो के लिए स्वयं का रोजगार स्थापित करने के लिए सुनहरा अवसर छपा था। पढ़ने के बाद अंजली को पता चला कि यह योजना जिला व्यापार एवं उद्योग केंद्र द्वारा बेरोजगारो के लिए स्वयं का रोजगार स्थापित करने के लिए चलाई गई है जिसमें शासन द्वारा अनुदान एवं बैंक द्वारा ऋण की सुविधा भी दी जा रही है, उसके बाद अंजली ने स्वयं का व्यवसाय स्थापित करने के लिए मन में संकल्प लिया और अपने पिता के साथ अगले ही दिन उद्योग कार्यालय पहुचकर योजना के बारे में विस्तार से जानकारी प्राप्त की। 
   अंजली पिता अजय अग्रवाल एवं परिवार के साथ व्यवसाय के संबंध में गहन चर्चा की जिसमें उसे हौसला दिया और हर संभव सहयोग का वायदा भी किया। अंजली के दिमाग में यह बात आई कि उमरिया नगर में पेयजल की कठिनाईयां अधिक है क्यो न शुद्ध पेयजल हेतु प्लांट डालकर काम शुरू किया जाए। उद्योग विभाग में आवेदन करने के पश्चात 12 लाख का प्रकरण स्वीकृत करते हुए सेन्ट्रल बैंक आफ इंडिया में प्रेषित किया गया और बैंक ने भी उनकी जिज्ञासा को भांपते हुए सहजतापूर्वक ऋण स्वीकृत कर दिया गया। 
   प्लांट के माध्यम से 20 लीटर की केन में समस्त शासकीय एवं अर्द्धशासकीय कार्यालय, होटल, घरों में पानी की नियमित आपूर्ति की जा रही है। अंजली के कुशल व्यवहार से व्यवसाय लगातार बढ़ता जा रहा है। प्रत्येक माह औसतन 2 से 2.50 लाख रूपये की बिक्री हो रही है जिसमें पूरा खर्च एवं बैंक किस्त अदायगी के पश्चात 25 से 30 हजार रूपये मासिक रूप से घर बैठे कमा रही है। अब अंजली को न तो नौकरी की चिंता है और न ही अन्य किसी व्यवसाय से जुड़ने की। 
   होनहार कु. अंजली ने अपने पिता से यह कहा है कि मेरे विवाह में किसी भी प्रकार का दहेज नही देंने दूंगी उसका पूरा खर्चा व्यवसाय से प्राप्त धन से करूंगी। बेटी की इस तमन्ना से पूरा परिवार इस बात से गौरान्वित हो रहा है कि शायद बेटा भी ऐसा नही कर सकता। अब तो अंजली महिलाओं के लिए प्रेरणा का स्त्रोत बनकर उभरी है। मुख्यमंत्री की उद्यमी योजना महिलाओ को सशक्त करने में मील का पत्थर साबित हो रही है। 
   अंजली ने इस व्यवसाय से जुड़ने का पूरा श्रेय सहायक प्रबंधक जिला उद्योग केंद्र श्री एच एस द्विवेदी तथा अपने पिता अजय अग्रवाल को दिया है, जिनकी प्रेरणा से आज ये फलीभूत हो रही है।
   कु. अंजली अग्रवाल ने बताया कि आर ओ वाटर की इकाई लगने के बाद पंपलेट एवं लाउण्ड स्पीकर के माध्यम से इकाई का प्रचार प्रसार किया लेकिन पहले लोगों ने रूचि नही दिखाई, बाद में आर ओ वाटर की यह इकाई तेजी से चल निकली। कु. अंजली अग्रवाल ने बताया कि ऋण पर 15 प्रतिशत तथा ब्याज पर 5 प्रतिशत अनुदान मिल रहा है। दुकान में लगभग 25 लाख की मशीनरी एवं अन्य सामग्री मौजूद है।

 

 

 



  • Address: Harihar Bhavan Nowgong Dist. Chatarpur Madhya Pradesh  , Mo : 98931-96874 , Email :  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it. Web : www.ganeshshankarsamacharsewa.in