Thursday, September 23News That Matters

इन्दौर

प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में भारत के प्रथम बलिदानी राजा शंकर शाह एवं रघुनाथ शाह – डॉ. आनंद सिंह राणा “विशेष फीचर श्रृंखला – लेख”
इन्दौर | 17-सितम्बर-2021

            भारत के हृदय स्थल में स्थित त्रिपुरी (जबलपुर) के महान कलचुरी वंश का तेरहवीं शताब्दी के पूर्वार्ध में अवसान हो गया था। फलस्वरूप सीमावर्ती शक्तियाँ इस क्षेत्र को अपने अधीन करने के लिए लालायित हो रही थी। अंतत: इस संक्रांति काल में एक वीर योद्धा जादों राय (यदु राय) ने गढ़ा- कटंगा क्षेत्र जबलपुर में गोंड वंश की नींव रखी। कालांतर में यह साम्राज्य गोंडवाना साम्राज्य के नाम से जाना गया।
गोंडवाना साम्राज्य का स्वर्ण युग रानी दुर्गावती का समय था। एक समय अंतराल के बाद उत्तर भारत में राजनीतिक परिवर्तन हुए। मुगलों ने अकबर के नेतृत्व में मुगल साम्राज्य की उत्तर भारत में पुनर्स्थापना की। गोंडवाना साम्राज्य का वैभव और संपन्नता को देखकर अकबर ने गोंडवाना साम्राज्य को मुगल साम्राज्य में मिलाने के लिए सेनापति आसफ खान को भेजा। सेनापति आसफ खान के साथ रानी दुर्गावती के 6 युद्ध हुए जिनमें 5 युद्धों में रानी दुर्गावती विजयी रही। छठें युद्ध में आसफ खान के पास तोपखाना आ जाने और रानी दुर्गावती के एक सामंत बदन सिंह के विश्वासघात के कारण युद्ध के परिणाम विपरीत होने लगे तब रानी दुर्गावती ने 24 जून 1564 को अपने महावत के हाथों से कटार लेकर अपना प्राणोत्सर्ग किया। इसके बाद दलपति शाह के छोटे भाई राजा चंद्र शाह गोंडवाना साम्राज्य के राजा बने और यह साम्राज्य मुगलों के अधीन आ गया। राजा चंद्र शाह की 11 वीं पीढ़ी में राजा शंकर शाह का जन्म मंडला के किले में हुआ। इनके पिता का नाम सुमेर शाह और दादा का नाम निजाम शाह था।
18वीं शताब्दी के प्रारंभिक दशकों में भारत की राजनीतिक परिस्थितियों में आमूलचूल परिवर्तन आया और मराठों ने पेशवा के नेतृत्व में मुगलों से गोंडवाना साम्राज्य हस्तगत कर लिया। इसके साथ ही सुमेर शाह को मराठों के प्रतिनिधि के रूप में मंडला में राज्य संभालने थे। सन् 1804 में सुमेर शाह की मृत्यु हो गई।
सन् 1818 में गोंडवाना साम्राज्य मराठाओं के हाथ से निकल गया, अंग्रेजों ने मंडला को  अपने अधीन कर लिया और मध्य प्रांत में मिला लिया। इसके बाद राजा शंकर शाह और कुंवर रघुनाथ शाह को जबलपुर में गढ़ा पुरवा के पास के 3 गाँव की जागीर देकर पेंशन दे दी गई। राजा शंकर शाह अंग्रेजों के इस दुर्व्यवहार के विरुद्ध थे और अंग्रेजों से स्वतंत्रता चाहते थे। आगे चलकर महारथी शंकर शाह और कुंवर रघुनाथ शाह ने सन् 1857 के प्रथम स्वतंत्रता संग्राम में तोप के मुंह से उड़कर (Blowing from a gun) संपूर्ण भारत में किसी भी रजवाड़े परिवार की ओर से प्रथम बलिदान दिया। 19वीं शताब्दी मध्यान्ह तक अंग्रेजों के अत्याचार और अनाचार चरम सीमा पार कर गए थे। डलहौजी की हड़प नीति के बाद भारत में प्रथम स्वतंत्रता संग्राम की पृष्ठभूमि तैयार हो रही थी जिसकी जानकारी राजा शंकर शाह और कुंवर रघुनाथ शाह को भी लग गई थी। जबलपुर स्थित गढ़ा पुरवा में मंडला, सिवनी, नरसिंहपुर, सागर, दमोह सहित मध्य प्रांत के के लगभग सभी रजवाड़े परिवार, जमींदार, मालगुजार के साथ 52 गढ़ों से सेनानी भी मिलने आने लगे थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान से संवाद कर दिव्यांगजनों में दिखी बढ़ते आत्मविश्वास की झलक (कहानी सच्ची है)

यह मेरे लिये खुशी का पल- सुश्री रेखा मालवीय
इन्दौर | 27-अगस्त-2021

         मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के करकमलों से आशीष प्राप्त कर दिव्यांग सुश्री रेखा मालवीय के ह्दय में प्रसन्नता का संचार हुआ। यह उनके लिये एक अदभूत पल रहा, जब खजराना गणेश मंदिर प्रांगण में पहुंचे मुख्यमंत्री श्री चौहान ने उन्हें टीकाकृत होने पर अभिवादन करते हुये मार्मिक आशीष प्रदान किया। सुश्री रेखा मालवीय ने कहा कि यह मेरे लिये खुशी का पल है कि मेरे जिले में राज्य के मुखिया ने आकर मुझे आशीर्वाद दिया। मेरे जैसे अन्य दिव्यांगों के लिये विशेष सुविधा प्रदान करते हुये जिला प्रशासन द्वारा टीकाकरण के लिये की गई व्यवस्थित व्यवस्थाओं के लिये मैं मुख्यमंत्री की आभारी हूँ एवं जिला प्रशासन को साधुवाद ज्ञापित करती हूँ।

वहीं मध्यप्रदेश व्हीलचेयर क्रिकेट टीम के सदस्यों ने मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान से संवाद करते हुये हर्ष व्यक्त किया है कि यह हमारे लिये सौभाग्य का दिन है, कि हमें आज उनसे आशीष प्राप्त हुआ। उन्होंने हमारे मनोभाव को समझते हुये टीकाकरण के विषय में चर्चा की एवं टीका लगवाने पर हमें शुभकामनाएं दी। उन्होंने अपनी शुभकामनाओं में निरंतर आगे बढ़ने के लिये प्रेरित किया।

इंदौर आज होगा 100 प्रतिशत वैक्सीनेशन शहर

शहर में बनाये 100 वैक्सीनेशन सेंटर पर 1 लाख लगेगी वैक्सीन, वैक्सीनेशन सेंटर पर आकर ऑन साईड रजिस्ट्रेशन करा कर वैक्सीन लगवाने की सुविधा उपलब्ध रहेगी
इन्दौर | 13-अगस्त-2021

             नगर निगम आयुक्त सुश्री प्रतिभा पाल ने बताया कि इंदौर शहर को कल 100% वैक्सीनेशन शहर करने का रखा गया है। 13 अगस्त 2021 को शहर में स्थापित किये गये 100 सेंटर पर 1 लाख वैक्सीन लगाये जाने का लक्ष्य है। वैक्सीनेशन अभियान के तहत 13 अगस्त तक शहर के शत-प्रतिशत लोग वैक्सीनेट करने का प्रयास किया जा रहा है आम नागरिकों के सहयोग से ही शत प्रतिशत वैक्सीनेट शहर हो पाएगा इसलिए नागरिकों से अपील की गई है कि जिनके द्वारा वैक्सीनेशन नहीं लगाई गई है वह  सेंटर पर जावे और वैक्सीन लगवाएं। नागरिको की सुविधा के लिये ऑन लाईन वैक्सीन हेतु स्लॉट बुकिंग की जा रही है, इसके साथ ही नागरिकगण वैक्सीनेशन सेंटर पर आकर ऑन साईड रजिस्ट्रेशन करा कर वैक्सीन लगवाने की सुविधा उपलब्ध रहेगी।

ऊर्जा मंत्रीजी के निर्देश पर दो दिनों में सवा सौ फीडरों का मैंटेनेंस

शिकायतें घटेगी और उपभोक्ता संतुष्टी बढ़ेगी
इन्दौर | 22-जून-2021

   प्रदेश के ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर के निर्देश पर पश्चिम क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी ने मैंटेनेंस का सघन कार्यक्रम तैयार कर लागू किया है। इसी कार्यक्रम के मद्देनजर पिछले दो दिनों में इंदौर शहर और इंदौर ग्रामीण वृत्त के अधीन सवा सौ फीडरों का मैंटनेंस किया गया है।
मध्यप्रदेश पश्चिम क्षेत्र विद्य़ुत वितरण कंपनी इंदौर के प्रबंध निदेशक श्री अमित तोमर ने बताया कि ऊर्जामंत्री ने मैंटेनेंस का कार्य समय एवं गुणवत्ता से करने के निर्देश दिए है। इसी के मद्देनजर कंपनी क्षेत्र के सबसे बड़े वृत्त इंदौर शहर एवं इंदौर ग्रामीण में वृहद स्तर पर मैंटेनेंस प्रारंभ किया गया है। इंदौर ग्रामीण के 11 केवी के 90 फीडरों पर दो दिनों में प्रभावी मैंटनेंस किया गया है। इस कार्य में लगभग 400 कर्मचारी लगाए गए थे। कुछ स्थानों पर मैंटेनेंस की गुणवत्ता देखने के लिए अधीक्षण यंत्री श्री डीएन शर्मा, कार्यपालन यंत्री श्री अभिषेक रंजन, श्री टीसी चतुर्वेदी स्वयं पहुंचे। इसी तरह दो दिनों में इंदौर शहर के 11 केवी के 35 फीडरों पर मैंटेनेंस का कार्य किया गया है। अधीक्षण यंत्री श्री कामेश श्रीवास्वत ने बताया कि इस कार्य में लगभग 200 कर्मचारी लगाए गए है। इन्हें पोल, इंसुलेटर, जम्पर, पेड़ों का टहनिया हटाने, तार ठीक करने इत्यादि कार्य किए। कंपनी क्षेत्र के अन्य वृत्तों में भी मैंटनेंस का कार्य प्राथमिकता से किया जा रहा है।
इन्दौर | 16-जून-2021

     इंदौर संभाग के झाबुआ जिला कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के निर्देश पर म.प्र. टुरिज्म मोर्टल झाबुआ में ड्राइव इन वैक्सीनेशन का  प्रातः 10 बजे शुभारम्भ होगा। बुधवार दिनांक 16 जून 2021 को प्रातः 10 बजे से सांय 4 बजे तक किया जाएगा। जिसमें टीकाकरण के लिये आप अपने वाहन में बैठकर ही अपना वैक्सीनेशन करवा सकते है। जन सामान्य इसका लाभ उठाए। टीकाकरण से जहां आप सुरक्षित होंगे, आपका परिवार सुरक्षित होगा एवं आपका समाज सुरक्षित होगा।

जून के अन्त तक 223 गांव होंगे ओडीएफ प्लस

इन्दौर | 11-जून-2021

    इंदौर संभाग के खरगोन जिले के 500 से कम जनसंख्या वाले 223 गांव इसी माह ओडीएफ प्लस किये जाने का लक्ष्य निर्धारित किया है। गत मंगलवार को स्वच्छ भारत मिशन की स्टेट प्रोग्राम ऑफिसर निधी निवेदिता ने खरगोन सहित प्रदेश के जिला पंचायत के कार्यों की समीक्षा की थी। वीसी के माध्यम से की गई ठोस एवं तरल अपशिष्ट प्रबंधन के कार्यों में सेग्रीगेशन शेड, डोर टू डोर कचरा प्रबंधन, कचरा वाहन, कंपोष्ट पीट प्लास्टिक प्रबंधन में सीएलएफ का चयन वही एलडब्ल्यूएम अंतर्गत सामूदायिक एवं घरेलू सोक पीट, लीज पीट नाली निर्माण पर दिशा निर्देश दिये गये। समय सीमा में ओडीएफ प्लस किये जाने के लक्ष्य भी बैठक में निर्देश दिये गये। इन कार्यों को उपयंत्री ब्लाक समन्वयक एपीओ मनरेगा एसएलडब्ल्यूएम के कार्यों का चिन्हांकन कर मनरेगा और 15वा वित्त की टाइड राशि से अनुमति वाले कार्य पूर्ण करायेंगे। शेष व्यक्तिगत शौचालयों को एक सप्ताह में पूर्ण कराने के निर्देंश दिये। समीक्षा बैठक में जिला पंचायत सीएओ श्री गौरव बेनल और जिला समन्वयक श्री नरेन्द्र अत्रे व जनपद ब्लाक समन्वयक उपस्थित रहे।

18 वर्ष से अधिक आयु वाले नागरिकों को ऑनसाइट पंजीयन कर टीकाकरण होगा

इन्दौर | 02-जून-2021
          इंदौर संभाग के खंडवा जिले  के जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ. अनिल तंतवार ने बताया कि राज्य शासन से प्राप्त निर्देश अनुसार उच्च जौखिम समूह ( उचित मुल्य दुकान के विक्रेता, सिलेन्डर सप्लाई करने वाले ,पैट्रोल पंप स्टॉफ, घर के काम वाली महिलाये , किराना दुकान व्यापारी, सब्जी गल्ला मण्डी के विक्रेता, हाथ ठेला वाले, दूध वाले, वाहन चालक, साइट मजदूर , मॉल , होटल, रेस्टोरेन्ट में कार्यरत स्टॉफ, शिक्षक, केमिस्ट, बैंकर्स, सुरक्षागार्ड, हैयर सेलून वर्कर इत्यादि ) का कोविड – 19 टीकाकरण प्राथमिकता से किया जायेगा। समस्त संवर्ग के यूनियन अध्यक्ष से अपील है कि वे अपने यूनियन के सभी सदस्यों को निकटतम टीकाकरण केन्द्र पर टीका लगवाने हेतु भेजे व प्रेरित करे। शहरी क्षेत्र के लिये सभी सवंर्ग के लिये प्रथक से ऑनसाइट टीकाकरण केन्द्र पर बनाकर टीके लगाये जायेगे। इसी प्रकार ग्रामीण क्षैत्र के उपरोक्त सदस्य अपने निकटतम ग्रामीण क्षेत्र के टीकाकरण केन्द्र पर जाकर ऑनसाइट रजिस्ट्रेशन करवाकर अपना टीकाकरण करा सकते है।

खण्डवा में कोविड वार्ड के लिए आयुष चिकित्सा अधिकारियों की आवश्यकता

इन्दौर | 16-अप्रैल-2021

        शासकीय चिकित्सा महाविद्यालय से संबंद्ध जिला अस्पताल खण्डवा के कोविड वार्ड में आयुष चिकित्सकों की आवश्यकता है। इसके लिए 16 से 22 अप्रैल तक प्रतिदिन मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में वॉक इन इन्टरव्यू सम्पन्न होंगे। इच्छुक आवेदक मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय में अपने मूल दस्तावेजों व उनकी छायाप्रति के साथ उपस्थित हो सकते है।

सीनियर सिटिजन के लिये शुरू होगी हेल्पलाइन

सभी तैयारियाँ पूर्ण करने के साथ मध्यप्रदेश अग्रणी राज्यों में

सामाजिक न्याय एवं निःशक्तजन कल्याण मंत्री श्री प्रेमसिंह पटेल ने बताया कि पूरे देश में वरिष्ठ नागरिकों के लिये राष्ट्रीय हेल्पलाइन शुरू की जा रही है। केन्द्र शासन ने इसके लिये प्रदेश को 88 लाख 14 हजार रूपये की राशि जारी कर दी है। मध्यप्रदेश में हेल्पलाइन हेल्पेज इंडिया के सहयोग से शुरू की जा रही है।
केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं सशक्तिकरण मंत्रालय के राष्ट्रीय समाज रक्षा संस्थान द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार मध्यप्रदेश में इस संबंध में सभी तैयारियाँ पूरी कर ली गई हैं। हेल्पलाइन कोरोना काल में अनेक स्तरों पर वरिष्ठ नागरिकों द्वारा कठिनाईयों की जानकारी सामने आने पर एनआईएसडी द्वारा नेशनल हेल्पलाइन लागू करने का निर्णय लिया गया है। फिलहाल हेल्पलाइन एल्डर लाइन का नम्बर 14567 निर्धारित किया गया है।
प्रमुख सचिव सामाजिक न्याय श्री प्रतीक हजेला ने बताया कि वरिष्ठ नागरिकों की समस्याओं या प्रश्नों का समाधान स्थानीय स्तर पर स्थापित कॉल सेंटर द्वारा किया जायेगा। राज्य स्तरीय हेल्पलाइन राज्य और जिला स्तरीय प्रशासन, पुलिस, वृद्धाश्रम, स्वैच्छिक संगठन, सीनियर सिटीज़न एसोसिएशन, स्थानीय निकाय, स्वास्थ्य विभाग, महिला बाल विकास विभाग आदि के समन्वय से काम करते हुए कॉल सेंटर पर प्राप्त शिकायतों और समस्याओं को जल्दी निपटाने का प्रयास करेगी। कॉल करने वाले वरिष्ठ नागरिकों की पहचान गुप्त रखी जायेगी और अगले 6 माह तक कॉल से संबंधित रिकॉर्ड रखा जायेगा। राष्ट्रीय सीनियर सिटीज़न हेल्पलाइन का उद्देश्य वयोवृद्ध नागरिकों का जीवन आसान और सुखमय बनाना है। वरिष्ठजन कॉल लाइन के माध्यम से उत्पीड़न, परित्यक्त जीवन, पेंशन प्रकरण, सुरक्षा, चिकित्सा आदि विभिन्न प्रकार की समस्याओं का समाधान एक कॉल से बहुत ही आसान तरीके से सुलझा सकेंगे।


मध्यप्रदेश बिजली के क्षेत्र ‍में स्थापित कर रहा है नित नये आयाम – प्रद्युम्न सिंह तोमर – शिवराज सरकार-भरोसा बरकरार

इन्दौर | 09-अप्रैल-2021

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के दूरदर्शी और संकल्पवान नेतृत्व में मध्यप्रदेश बिजली के क्षेत्र ‍में नित नये आयाम स्थापित कर रहा है। प्रदेश में विद्युत क्षेत्र के विकास और विस्तार के लिए सभी आवश्यक और सुविचारित कदमों का उठाया जाना इन आयामों को छूने के पीछे है। परिणाम भी सामने है और वह यह कि 31 दिसंबर, 2020 की स्थिति में प्रदेश की उपलब्ध विद्युत क्षमता 21 हजार 361 मेगावॉट हो जाना। इसी दिन प्रदेश के इतिहास में सर्वाधिक 15 हजार 425 मेगावॉट शीर्ष मांग की पूर्ति भी सफलतापूर्वक की गई है।
वित्तीय वर्ष 2021-22 में उपलब्ध विद्युत क्षमता में 1 हजार 426 मेगावाट वृद्धि का लक्ष्य है। प्रदेश में पारेषण हानियाँ भी अब मात्र 2.59 प्रतिशत रह गई हैं, जो पूरे देश में न्यूनतम हानियों में से एक है। वित्तीय वर्ष 2020-21 में 6006 करोड़ यूनिट विद्युत प्रदाय किया गया, जो पिछले वर्ष से 9 प्रतिशत अधिक है।
प्रदेश में विद्युत व्यवस्था प्रणाली की मजबूती के लिए वित्तीय वर्ष 2020-21 में कई उल्लेखनीय कार्य किए गए। इनमें उपलब्ध विद्युत क्षमता में 394 मेगावाट की वृद्धि, 14 नये अति उच्च दाब उप केन्द्रों की स्थापना, एक हजार 72 सर्किट किलोमीटर अति उच्च दाब और एक हजार 645 किलोमीटर उच्च दाब लाइनों का निर्माण, 11 नये 33/11 किलोवाट उप केन्द्रों की स्थापना एवं 2005 वितरण ट्रांसफार्मरों की स्थापना के कार्य प्रमुख हैं। इससे इस अवधि में उपभोक्ताओं की संख्या में एक लाख 90 हजार की वृद्धि हुई है।
””आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश”” रोडमैप में भविष्य की विद्युत माँग की सुचारू आपूर्ति के लिए पारेषण प्रणाली के विस्तार कार्यक्रम में 4000 करोड़ रुपये की लागत के ग्रीन एनर्जी कॉरीडोर एवं टैरिफ आधारित प्रतिस्पर्धात्मक निविदाओं के जरिए अति उच्च दाब उप केन्द्रों एवं उससे संबंधित लाइनों का निर्माण शामिल किये गये हैं। ग्रीन एनर्जी कॉरीडोर में 90 प्रतिशत काम पूरा हो गया है। जून 2021 तक अधिकांश काम पूरा कर लिया जाएगा। टैरिफ आधारित 2000 करोड़ रुपये के अनुमानित निवेश के जरिए पहली परियोजना का कार्य प्रगतिरत है, जिसे वर्ष 2023 तक पूरा कर लिया जाएगा।
लॉकडाउन में उपभोक्ताओं को विद्युत देयकों में राहत
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान नेलॉकडाउन अवधि में बिजली उपभोक्ताओं की तकलीफ को महसूस कर उनके हित में अनेक निर्णय लिये। इन निर्णयों से उपभोक्ताओं को 1000 करोड़ से अधिक की राहत मिली।ऐसे सभी घरेलू उपभोक्ता, जो संबल योजना के हितग्राही हैं एवं जिनके माह अप्रैल, 2020 में देयक की राशि 100 रूपये तक थी, से मई, जून एवं जुलाई इन तीन माहों में सिर्फ 50 रूपये प्रतिमाह की राशि का ही भुगतान लिया गया।
प्रदेश के ऐसे सभी घरेलू उपभोक्ता, जिनके माह अप्रैल, 2020 में देयक की राशि 100 रूपये तक थी, उनके मई, जून एवं जुलाई, 2020 में देयक राशि 100 रूपये से 400 रूपये तक आने पर उनसे इन तीन माहों में मात्र 100 रूपये प्रतिमाह की राशि का भुगतान लिया गया। प्रदेश के ऐसे घरेलू उपभोक्ता, जिनकी माह अप्रैल, 2020 में देयक राशि रूपये 100 से अधिक परन्तु रूपये 400 या उससे कम थी, उनके मई, जून एवं जुलाई, 2020 में देयक राशि 400 रूपये से अधिक आने पर उनसे इन तीन माहों में देयक की आधी राशि का ही भुगतान लिया गया। शेष आधी राशि का भुगतान आस्थगित किया गया है।

मास्क नही लगाने पर स्पॉट फाईन कार्यवाही अभियान

निगम द्वारा 1082 के विरूद्ध स्पॉट फाईन की कार्यवाही, कोरोना संक्रमण को दृष्टिगत रखते हुए यह अभियान सतत रहेगा जारी- आयुक्त नगर निगम
इन्दौर | 17-मार्च-2021

नगर निगम आयुक्त सुश्री प्रतिभा पाल द्वारा नगर निगम के समस्त झोनल अधिकारी, सहायक राजस्व अधिकारी तथा सीएसआई को कोरोना संक्रमण के रोकथाम के क्रम में कोरोना प्रोटोकॉल के तहत शहर के व्यस्ततम बाजारों, मार्केटो, भीड-भाड़ वाले क्षेत्रों में देर रात्रि तक मास्क नही लगाने पर नागरिको को समझाईश  देने के साथ ही चालानी कार्यवाही करने के निर्देश दिए गए।  निगम द्वारा समस्त झोन क्षेत्रांतर्गत मास्क नही लगाने वालो के विरूद्ध कार्यवाही करते हुए कल आज 50 रूपये से लेकर 100 रूपये तक के 1082 व्यक्तियों के विरुद्ध कार्रवाई करते हुए राशि रुपए 54300 की राशि वसूल की गई आज देर रात्रि तक चालानी कार्यवाही जारी रहेगी  तथा यह अभियान आगे भी सतत जारी रहेगा।
नगर निगम आयुक्त सुश्री प्रतिभा पाल ने बताया कि निगम द्वारा कोरोना संक्रमण के रोकथाम के लिये नागरिको में जागरूकता हेतु नगर निगम के राजस्व अमले से लगभग 1 लाख से अधिक पेम्पलेट नागरिको में शहरभर में वितरण किये गये है, उक्त पेम्पलेट में कोरोना संक्रमण से बचाव के लिये अनिवार्य रूप से मास्क लगाने, सोशल डिस्टेंस का पालन करने, बार-बार हाथ धोने ने व सेनिटाजर का उपयोग आदि के संबंध में संदेश दिया गया है।

वंदे-मातरम गायन संपन्न

इन्दौर | 02-मार्च-2021

   राष्ट्रगीत “वंदे-मातरम” एवं राष्ट्रगान “जन गण मन” का सामूहिक गायन मंत्रालय स्थित सरदार वल्लभ भाई पटेल पार्क में प्रातः 11 बजे संपन्न हुआ। इस अवसर पर पुलिस बैंड ने मधुर धुनें प्रस्तुत की। वंदेमातरम गायन में पर्यटन, संस्कृति एवं आध्यात्म मंत्री सुश्री उषा ठाकुर, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव श्री के.के. सिंह, श्री विनोद कुमार, श्री जे.एन. कंसोटिया, श्री एस.एन. मिश्रा, प्रमुख सचिव श्रीमती कल्पना श्रीवास्तव, श्री प्रतीक हजेला, श्री सचिन सिन्हा सहित मंत्रालय, सतपुड़ा, विंध्याचल भवन के अधिकारी-कर्मचारी उपस्थित थे।
उल्लेखनीय है कि प्रत्येक माह के प्रथम कार्य दिवस पर राष्ट्र गीत “वन्दे-मातरम” एवं राष्ट्रगान “जन गण मन” का आयोजन मंत्रालय के सरदार वल्लभ भाई पटेल पार्क में किया जाता है।

नगर निगम आयुक्त का निरीक्षण

चोइथराम, गोपुर, चाणक्यपुरी चौराहे पर आयलेण्ड विकसित करने के निर्देश, प्रभारी दरोगा अनुपस्थित होने पर किया निलंबित, सफाई संतोषजनक नही दरोगा का वेतन काटा
इन्दौर | 23-फरवरी-2021

      नगर निगम आयुक्त सुश्री प्रतिभा पाल द्वारा स्वच्छ सर्वेक्षण को दृष्टिगत रखते हुए, आज सुबह 6.30 बजे से झोन 13 के वार्ड क्रमांक 80 व 81 के सफाई व अन्य कार्यो का निरीक्षण किया गया।  निरीक्षण के दौरान आयुक्त सुश्री पाल द्वारा भंवर कुंआ, राजीव गांधी चौराहा, चाणक्यपुरी चौराहा, चौइथराम चौराहा, सब्जी मंडी चौराहा, प्रिकांको कालोनी, गोपुर चौराहा, दत्त मंदिर चौराहा, राजेन्द्र नगर रेती मंडी, मदनमोहन मालवीय चौराहा, वार्ड की विभिन्न कालोनियों जिनमें भवानी पुर, अन्नपुर्णा नगर, वैशाली नगर, राजेन्द्र नगर, अन्नपूर्णा मेनरोड आदि स्थानो में सफाई व्यवस्था व अन्य व्यवस्थाओ का निरीक्षण किया गया।
आयुक्त सुश्री पाल द्वारा किये गये निरीक्षण के दौरान क्षेत्र में जहां पर सी एंड डी वेस्ट पडा हुआ था, उसे उठाने के निर्देश दिये गये तथा चौइथराम चौराहा, चाणक्यपुरी चौराहा व गोपुर चौराहे पर आयलेंण्ड विकसित करने व पौधारोपण करने के निर्देश दिये गये।  भंवरकुआ चौराहे से राजीव गांधी चौराहे तक रोड के फुटपाथ पर पेव्हर ब्लाॅक टूट-फुट व उखड रहे थे उसे बदलने व व्यवस्थित करने के साथ ही विद्युत डीपी के नीचे पेव्हर ब्लाॅक लगाने के भी संबंधित को निर्देश दिये गये। साथ ही गोपुर चौराहे से चाणक्यपुरी चौराहे तक रोड के मध्य तथा रोड के किनारे के ग्रीन बेल्ट की सफाई करने के भी निर्देश दिये गये।
आयुक्त द्वारा वार्ड स्थित सीटी पीटी व युरिनल का भी निरीक्षण किया गया।  निरीक्षण के दौरान रीजनल पार्क रोड स्थित युरिनल की पानी की टंकी में लीकेज होने पर पानी टंकी का लीकेज सुधारने व सभी युरिनल में पर्याप्त रूप से पानी व सफाई की व्यवस्था रखने के निर्देश दिये गये।  जहां-जहां पर सीवरेज लाईन या अन्य पाईप लाईन डालने व लीकेज सुधारने के कारण खुदाई की गई है, वहां पर रेस्टोरेशन का कार्य आगामी 2 दिवस में पूर्ण कराने के निर्देश दिये गये। गोपुर चौराहे से नर्मदा नगर तक निर्माणधीन ग्रीन बेल्ट की वॉल का कार्य शीघ्र पुर्ण करने के निर्देश दिये गये।
निरीक्षण के दौरान वार्ड 81 के प्रभारी सहायक दरोगा धर्मेन्द्र गुगलियां कार्य स्थल पर उपस्थित नही होने पर आयुक्त द्वारा तत्काल प्रभारी सहायक दरोगा को निलंबित करने के निर्देश दिये गये।  इसके साथ ही वार्ड में कई स्थानो पर सफाई व्यवस्था संतोषजनक नही होने व लिटरबीन के आस-पास कचरा मिलने पर प्रभारी दरोगा राजेश खरे का एक माह का वेतन काटने के आदेश दिये गये।
निरीक्षण के दौरान जोनल अधिकारी श्री बृजमोहन भगोरिया उपयंत्री श्री हेमंत मिश्रा श्री चंद्रशेखर यादव सीएसआई श्री अबरार अली एवं अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

दो हजार 232 फ्रंट लाइन वर्कर्स को आज लगाये गये कोविड वैक्सीनेशन के टीके

इन्दौर | 16-फरवरी-2021

   इंदौर जिले में कोविड वैक्सीनेशन का दूसरा चरण जारी है। दूसरे चरण में आज 2 हजार 232 फ्रंट लाइन वर्कर्स को टीके लगाये गये। टीके लगाने का कार्य 55 केन्द्रों पर किया गया। आज टीकाकरण का प्रतिशत 28 रहा। आज 8 हजार 20 फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीके लगाये जाना थे।
जिले में दूसरे चरण के तहत 17 फरवरी तक टीकाकरण किया जायेगा। इस अवधि में राजस्व, नगर निगम, पुलिस, पंचायतीराज आदि विभागों के अधिकारी एवं कर्मचारियों को टीकाकृत किया जाएगा। इंदौर जिले में कोविड से बचाव के लिये आयोजित प्रथम चरण में लगभग 27 हजार 909 हेल्थ केयर वर्कर्स को टीके लगाये गये थे।

इलेक्ट्रॉनिक कॉम्प्लेक्स परदेशीपुरा में आदर्श युरिनल का शुभारंभ

इन्दौर | 10-फरवरी-2021

         इंदौर नगर निगम के  जोन 17 के वार्ड 23 में इलेक्ट्रॉनिक कॉम्पलेक्स के आदर्श युरिनल का शुभारंभ किया गया। जिसमें पूर्व पार्षद श्री राजकुमार सुनहरे के द्वारा आदर्श युरिनल का शुभारंभ किया गया। साथ में आसपास के रहवासी एवं उद्योगपति के जोनल अधिकारी नरेंद्र कुरील सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

संवेदनशील पहल… इंदौर संभाग में फुटपाथ पर रहने वाले लोगों और भिक्षुकों के पुनर्वास के लिये अभियान दीनबंधु शुरू

इन्दौर | 02-फरवरी-2021

      इंदौर संभाग में फुटपाथ पर रहने वाले लोगों और भिक्षावृत्ति में संलग्न व्यक्तियों के पुनर्वास, सहायता, स्वास्थ्य रक्षा आदि के लिए संभागायुक्त डॉ. पवन कुमार शर्मा की मार्गदर्शन में संवेदनशील पहल करते हुए अभियान दीनबंधु प्रारंभ किया गया है। इस विशेष अभियान के अंतर्गत संभाग के सभी जिलों में एक साथ पुनर्वास तथा राहत की कार्रवाई प्रारंभ कर दी गई है। संभाग के जिलों में ठंड से बचाव के लिये जरूरतमंदों को कहीं कंबल बांटे जा रहे हैं तो कहीं संवेदनशील पहल करते हुए उनके खाने-पीने तथा आश्रय की व्यस्था की जा रही है। इस अभियान में जनप्रतिनिधियों, विभिन्न सामाजिक संगठनो, एनजीओ के प्रतिनिधियों आदि का सहयोग भी लिया जायेगा।
इंदौर
संभागायुक्त व निगम प्रशासक डॉ. शर्मा ने बताया कि असहाय व भिक्षुक व्यक्तियों के बचाव के लिये निगम के रैन बसेरा में गर्म कपडे, कम्बल, भौजन आदि की व्यवस्था की जा रही है। डॉ. शर्मा ने कहा कि शहर में सडक किनारे रहने, सोने वाले बेसहारा व्यक्ति तथा भिक्षावृत्ति करने वाले व्यक्तियों का अरविंदो हॉस्पिटल के सहयोग से मेडिकल चेकअप कराने का अभियान चलाया जा रहा है। साथ ही मेडिकल चेकअप उपरांत आवश्यकता अनुसार चिकित्सा सहायता उपलब्ध कराई जा रही है।
भारत सरकार के सामाजिक न्याय विभाग द्वारा भिक्षुको की संख्या के आधार पर भिक्षुक पुनर्वास अभियान हेतु चयनित 10 शहरो में इंदौर को भी सम्मिलित किया गया है। इस अभियान का मुख्य उददेश्य भिक्षावृत्ति करने वाले समुदाय को चिन्हांकित कर उनके पुनर्वास की समुचित व्यवस्था करना है। इस योजना के आरंभिक चरण में शहर में भिक्षावृत्ति एवं भिक्षुको के रहने के समस्त स्थलो का वास्तविक चिन्हांकन, सर्वेक्षण डाटा का कलेक्शन एवं क्लासीफिकेशन, सर्वेक्षण से प्राप्त डाटा अनुसार भिक्षुको को उनकी कौशल क्षमता-अक्षमता के आधार पर पुर्नवास कराया जायेगा।
 बड़वानी
संभाग के बड़वानी जिले में कलेक्टर श्री शिवराज वर्मा के मार्गदर्शन में कल एक अभिनव पहल करते हुये विक्षिप्त व्यक्ति को नहलाकर मानवीय स्वरूप दिया गया। बताया गया कि बड़वानी जिले में घूम रहे लावारिस, निःसहाय लोगों को स्नान करवाकर, हजामत बनवा कर, उन्हें खाना -पानी देकर आश्रय में रुकवाने की व्यवस्था प्रारंभ की गई है। बड़वानी में जरूरतमंदों को ओढ़ने हेतु गर्म कंबल भी दिए गए हैं ।
बड़वानी के ठीकरी नगर में एक विक्षिप्त आदमी लावारिस हालत में घूम रहा था। इस व्यक्ति को नहला धुलाकर जहां उसकी कटिंग करवाई गई वहीं उसे खाना-पानी करवाकर रात्रि विश्राम हेतु आश्रय में रुकवाया गया है। इसके इलाज की व्यवस्था भी की जा रही है।
 खरगोन
संभाग के खरगोन जिले में भी पुनर्वास और राहत की कार्रवाई प्रारंभ कर दी गई है। खरगोन में कल शाम को शहर के विभिन्न क्षेत्रों में 40 ब्लेंकेट और 100 भोजन पैकेट वितरित किये गये गए। यह कार्य नवगृह मंदिर , बस स्टेंड, माता मंदिर, गणेश मंदिर सहित अन्य स्थान किये गये।
खण्डवा
इंदौर संभाग के खण्डवा नगर निगम ने 42 ऐसे लोग चिन्हित किये हैं जो फुटपाथ पर सोते है उन्हें पार्वती बाई धर्मशाला और रेन बसेरे में शिफ्ट किया जा रहा है। इस संबंध में कलेक्टर ने अन्य नगरीय निकायों को भी इस तरह की कार्रवाई करने के लिये निर्देशित किया है।
 आलीराजपुर
आलीराजपुर कलेक्टर सुश्री सुरभि गुप्ता ने बताया है जिले में आलीराजपुर, जोबट तथा भाबरा तीन नगरीय निकाय है। तीनों में संभागायुक्त डॉ. शर्मा के निर्देशानुसार दल बनाकर कार्य आरंभ कर दिया गया है।
धार
कलेक्टर धार श्री आलोक सिंह ने बताया है कि धार में 12 भिक्षुकों को आज रेन बसेरा में लाया गया है। उनका स्वास्थ्य परीक्षण किया गया है। सभी के रहने एवं भोजन का स्थायी इंतजाम किये गये है।
झाबुआ
इंदौर संभाग के झाबुआ जिले में भी इस अभियान के लिये तैयारियां की जा रही है। कलेक्टर श्री रोहित सिंह ने बताया कि झाबुआ जिले में फुटपाथ पर रहने वाले तथा भिक्षुकों को चिन्हित कर उनको रेनबसेरे  में ठहराने,  स्वास्थ्य परीक्षण, भोजन आदि के प्रबंध के लिये व्यवस्था की जा रही है।

प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना में 1033 ग्रामों का चयन

अनुसूचित जाति कल्याण विभाग कर रहा है इन गाँवों का सर्वांगीण विकास
इन्दौर | 15-दिसम्बर-2020

      प्रदेश में 50 प्रतिशत से अधिक अनुसूचित जाति जनसंख्या वाले चयनित गाँवों को समग्र रूप से विकसित करने के लिये प्रधानमंत्री आदर्श ग्राम योजना संचालित की जा रही है। इस योजना में प्रदेश के 1033 ग्राम चिन्हित किये गये हैं। पूर्व में यह योजना पंचायत एवं ग्रामीण विकास द्वारा संचालित की जा रही थी। अब यह योजना अनुसूचित जाति कल्याण विभाग द्वारा चलायी जा रही है।
चयनित गाँवों में से 918 गाँवों का विकास योजना प्लान तैयार कर लिया गया है। योजना में विशेष रूप से 10 कार्यक्षेत्र जिनमें पेयजल, स्वच्छता, शिक्षा, स्वास्थ्य, पोषण, सामाजिक सुरक्षा, ग्रामीण सड़कें, आवास, स्वच्छ ईंधन के साधन, आजीविका एवं कौशल विकास प्रमुख हैं। योजना के क्रियान्वयन में केन्द्र सरकार के सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता मंत्रालय द्वारा वित्तीय मदद उपलब्ध कराई जा रही है। योजना में जिन जिलों के गाँवों का चयन किया गया है, उन्हें अभी तक 32 करोड़ रूपये से अधिक की राशि जारी की जा चुकी है। योजना में प्रथम चरण की अवधि 2 वर्ष रखी गयी है।
योजना पर निगरानी के लिये ग्राम, जिला और राज्य स्तर पर समिति गठित की गई है। योजना में 500 से अधिक आबादी वाले अथवा 50 प्रतिशत से अधिक अनुसूचित जाति आबादी वाले गाँवों को समग्र विकास के लिये चिन्हित किया गया है।

इंदौर संकल्प 2021 कॉन्क्लेव व सम्मान समारोह

शहर की स्वच्छता व कोविड 19 संक्रमण काल में सहयोग करने वालों का सम्मान, इंदौर संकल्प 2021 के संकल्प पत्र का विमोचन
इन्दौर | 09-दिसम्बर-2020
              इंदौर शहर स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में स्वच्छता का पंच लगाए, इस उददेश्य से इंदौर संकल्प 2021 कॉन्क्लेव का रविन्द्र नाटय गृह में वरिष्ठ पत्रकार श्री दीपक चौरसिया, श्री सुधीन्द्र मोहन शर्मा, डॉ. श्रीमती जनक पल्टा मगिलिगन, श्री गोविन्द परचानी द्वारा दीप प्रज्वलित कर शुभारम्भ किया गया। इस अवसर पर अतिथियों के साथ ही सांसद श्री शंकर लालवानी, पूर्व मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट, विधायक श्री रमेश मेन्दोला, श्री आकाश विजयवर्गीय, कलेक्टर श्री मनीष सिंह, निगमायुक्त सुश्री प्रतिभा पाल द्वारा संकल्प पत्र का विमोचन, स्वच्छता रेंजर्स अभियान का शुभारम्भ, इंदौर स्वच्छता रैकिंग के चयनितों व स्टार्टअप, व्यवयायी, धार्मिक संस्थाऐं, स्वैच्छिक संगठन के चयनितों को प्रशस्ति पत्र व मोमेन्टो देकर सम्मानित किया गया।
आयुक्त सुश्री पाल ने बताया कि स्वच्छता रेंजर्स अभियान पर केन्द्रित गीत श्री शौनक और सावनी भटट द्वारा प्रस्तुत कर अभियान से जुडने की अपील की गई। विदित हो कि स्वच्छता रेंजर्स अभियान में कक्षा 5 से 10 तक (उम्र 10 से 16 वर्ष तक) के बच्चों को सम्मिलित किये जाने के उददेश्य से निगम द्वारा निःशुल्क रजिस्ट्रेशन किया जा रहा है, जिसमें बच्चे स्वच्छता रेंजर्स बनकर इंदौर के स्वच्छता अभियान को प्रमोट करेंगे।

 इंदौर संकल्प 2021 के संकल्प पत्र का विमोचन

इस अवसर पर अतिथियों द्वारा स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 के तहत इंदौर संकल्प 2021 के संकल्प पत्र का विमोचन किया गया। इस संकल्प पत्र में जीरो वेस्ट वार्ड की परिकल्पना को साकार करना, कार्बन फुट प्रिन्टस को न्यूनतम स्तर पर लेकर आना, जल स्त्रोंतो का सतत संरक्षण, 3 आर रिडयुस, रीयुज, रिसाकिल को बढावा देना, कचरे का 6 लेवल पर पृथक्कीकरण व गीले कचरे से घर-घर खाद का निर्माण करना, सिंगल युज प्लास्टिक, डिस्पोजल वस्तुऐं व पैकिंग मटैरियल का उपयोग ना करके कपडे के थैले व इस हेतु इकोफ्रेण्डली वस्तुओं का उपयोग करना।  जनभागीदारी के माध्यम से इंदौर शहर को स्वच्छ, सुंदर व पर्यावरण की दृष्टि से आदर्श बनाना, क्लीन इंदौर ग्रीन इंदौर की आबोहवा के लिये अधिक से अधिक वृक्षारोपण करना आदि शामिल है।
सांसद श्री शंकर लालवानी ने कहा कि इंदौर ने स्वच्छता में अपना जो स्थान पाया है, इसके लिये कडे नियम व दृढ संकल्प लिया है, जिसका परिणाम है कि इंदौर स्वच्छता में 4 बार देश में स्वचछता में नंबर वन शहर बना है। उन्होंने कहा कि इंदौर के नागरिकों के स्वच्छता के प्रति बहुत ही जागरूक है, उनकी इच्छाशक्ति व निगम प्रशासन के परिश्रम का ही परिणाम है इंदौर स्वच्छ शहर है और पांचवी बार भी स्वच्‍छता में नंबर वन शहर बनेगा।
इसके साथ ही आयुक्त सुश्री पाल ने शहरवासियो से अपील की है कि स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में अपना फीडबेक इंदौर 311 मोबाईल एप, स्वच्छ सर्वेक्षण की वेबसाईड व 1969 पर कॉल कर इंदौर को स्वच्छ सर्वेक्षण 2021 में स्वच्छता का पंच लगाने में सहयोग करें।
इसके साथ ही अतिथियो द्वारा स्टार्ट अप, नगर निगम कर्मचारी, व्यवसायी, धर्मिक संस्थाओं, स्वैच्छिक संगठन, स्वंय सहायता समूह सहित 100 से अधिक संगठन/समुह को प्रशस्ति पत्र व मोमेन्टो देकर सम्मानित किया गया। इस अवसर पर अपर आयुक्त श्री संदीप सोनी, श्री श्रृंगार श्रीवास्तव, श्री रजनीश कसेरा, श्री महेश शर्मा, श्री पंकज क्षीरसागर, स्टार्टअप नगर निगम कर्मचारी, व्यवसाय, कारपोरेट, सोशल, धार्मिक संस्थाएं सहित अन्य संगठनों एवं समूह के प्रतिनिधिगण उपस्थित थे।

शुद्ध पेयजल की सुलभता के लिये इंदौर संभाग में 591 करोड़ रूपये हुये मंजूर

नल कनेक्शन से जल प्रदाय के लिए 580 जल प्रदाय योजना बनेगी
इन्दौर | 01-दिसंबर-2020
   लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा इंदौर सहित संभाग के धार, झाबुआ, अलीराजपुर, खरगोन, बड़वानी, खण्डवा तथा बुरहानपुर जिले में 580 ग्रामीण नल-जल प्रदाय योजनाओ के लिये 590 करोड़ 84 लाख 97 हजार रूपये की स्वीकृति दी गई है। विभाग के मैदानी अमले द्वारा जल-जीवन मिशन के मापदण्डों के अनुसार प्रकिया प्रारम्भ भी की जा रही है।
प्रदेश की ग्रामीण आबादी शुद्ध पेयजल के लिए परेशान न हो इसके लिए सरकारी प्रयास तेजी से जारी हैं। जहाँ जलस्त्रोत हैं, वहाँ उनका समुचित उपयोग कर आसपास के ग्रामीण रहवासियों को पेयजल प्रदाय किया जायेगा। ग्रामीण क्षेत्रों में जहाँ जलस्त्रोत नहीं हैं वहाँ यह निर्मित किए जायेंगे। कोई भी ग्रामीण रहवासी पेयजल के लिए परेशान नहीं हो यह व्यवस्था चरणबद्ध तरीके से अगले तीन साल (2023 तक) में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।
राष्ट्रीय जल-जीवन मिशन के अन्तर्गत समग्र ग्रामीण आबादी को घरेलू नल कनेक्शन से पेयजल की आपूर्ति किए जाने के लिए लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग द्वारा जल संरचनाओं की स्थापना एवं विस्तार के कार्य किए जा रहे हैं। इनमें इंदौर जिले की 156, धार जिले की 180, झाबुआ जिले की 34, बड़वानी जिले की 80, अलीराजपुर जिले की 15, खरगोन जिले की 24, खण्डवा जिले की 82 तथा बुरहानपुर जिले की 09 जलसंरचनायें शामिल हैं। इन जिलों के लिए नवीन योजनाओं के साथ ही विभिन्न ग्रामों में पूर्व से निर्मित पेयजल अधोसंरचनाओं को नये सिरे से तैयार कर रेट्रोफिटिंग के अन्तर्गत कार्य किया जा रहा है।

एयरपोर्ट अथॉरिटी द्वारा कोरोना संबंधित बचाव कार्य हेतु 20 लाख रूपये भेट

इन्दौर | 24-नवम्बर-2020

   एयरपोर्ट अथॉरिटी, इंदौर द्वारा कोरोना संबंधित बचाव कार्य हेतु सीएसआर फंड से 20 लाख रूपये का चैक आयुक्त इंदौर सम्भाग डॉ. पवन कुमार शर्मा को दिया गया। आज एयरपोर्ट डायरेक्टर श्रीमती अर्यमा सान्याल ने कमिश्नर कार्यालय पहुंचकर संभागायुक्त डॉक्टर पवन शर्मा को यह चेक सौंपा।

ए.डी.एम. न्यायालय द्वारा कमल वीरमानी के ख़िलाफ़ गिरफ़्तारी वारंट जारी

इन्दौर | 18-नवम्बर-2020

        अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी श्री अजय देव शर्मा के न्यायालय द्वारा आज कमल वीरमानी के ख़िलाफ़ गिरफ़्तारी वारंट जारी किया गया है। कमल वीरवानी को जमानती वारंट जारी किया गया था किंतु वह पेशी में उपस्थित नहीं हुए इसलिए उनके विरुद्ध गिरफ्तारी वारंट जारी किया गया। अतिरिक्त जिला दंडाधिकारी द्वारा विस्तृत जाँच के लिए इनके कथन लिए जाने की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है।

उल्लेखनीय है कि इंदौर ज़िले में कलेक्टर कार्यालय एवं अन्य कार्यालयों में दलालों एवं बिचौलियों की भूमिका समाप्त करने के लिए कलेक्टर श्री मनीष सिंह के आदेश पर ए.डी.एम. तथा एस.डी.एम. एवं नगर निगम के अधिकारियों के संयुक्त दल द्वारा बंसी ट्रेड सेंटर हुकम चंद घंटाघर इंदौर के सेकंड फ़्लोर में स्थित एम.पी. ऑनलाइन के कार्यालय में आकस्मिक जाँच की गई थी। पूछताछ करने और इस कार्यालय के निरीक्षण करने पर टीम को ज्ञात हुआ कि इस ऑफ़िस में एम.पी. ऑनलाइन से संबंधित कार्यों की आड़ में बड़े पैमाने पर दलाली का कारोबार पनप रहा है। कलेक्टर कार्यालय, नगर निगम, टाउन एंड कंट्री प्लानिंग इंदौर विकास प्राधिकरण के कार्यालयों से संबंधित कुछ दस्तावेज़ यहाँ पाए गए थे।

ए.डी.एम. श्री अजय देव शर्मा ने बताया कि जाँच दल के अधिकारियों द्वारा इस संबंध में छानबीन करने पर शुभम जैन एवं अन्य 7 व्यक्तियों की भूमिका पाई गई थी। पक्षकारों एवं आवेदकों को गुमराह कर उनके कार्यों को कराने का ज़िम्मा इनके द्वारा लिये जाने की बात सामने आयी थी। वर्तमान परिस्थिति में इनके एवं पक्षकारों के मध्य वाद- विवाद की संभावना एवं इससे शांति भंग की परिस्थिति में इनके विरुद्ध दण्ड प्रक्रिया संहिता की धाराओं के अंतर्गत कार्यवाही प्रारंभ की गई। इनकी उपस्थिति हेतु ए.डी.एम. न्यायालय द्वारा (ज़मानती) वारंट जारी किया गया। कलेक्टर श्री मनीष सिंह द्वारा ज़िले के सभी अपर कलेक्टरों को निर्देश दिए गए हैं कि वे अपने अधीनस्थ राजस्व अधिकारियों एवं कर्मचारियों के कार्यों के निरंतर समीक्षा करें और आवेदकों के कार्य सरलता से होना सुनिश्चित करें।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने अभिनेता श्री जगदीप के निधन पर शोक व्यक्त किया

इन्दौर | 10-जुलाई-2020

        मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रख्यात अभिनेता श्री जगदीप के निधन पर दुख व्यक्त किया है। श्री चौहान ने कहा कि श्री जगदीप ने अपनी अदाकारी से भारतीय सिनेमा में नये रंग भरे। उन्होंने एक भूमिका भोपाल को केन्द्र में रखकर अलग अंदाज में निभाई जो काफी लोकप्रिय भी हुई। श्री जगदीप ने दर्शकों को हास्य के आयामों से परिचित करवाया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने श्री जगदीप को भावभीनी श्रद्धांजलि दी है।

राऊ क्षेत्र में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने पर जिला प्रशासन ने की कार्यवाही

इन्दौर | 18-जून-2020
      कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री मनीष सिंह के निर्देश पर इंदौर जिले में कोरोना संक्रमण के मद्देनजर सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना से बचाव के अन्य एहतियाती उपायों, प्रतिबंधात्मक आदेशों का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराया जा रहा है। उल्लंघन करने वाले व्यक्तियों, प्रतिष्ठानों आदि के विरूद्ध लगातार कार्यवाही की जा रही है। इसी सिलसिले में बुधवार को जिले के राऊ क्षेत्र में जिला प्रशासन द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करने तथा मॉस्क नहीं लगाने वालों के विरूद्ध बड़ी कार्यवाही की गई। एसडीएम एवं सी.एस.पी द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन न करने पर तीन होटलों को सील किया गया। साथ ही अन्य होटलों पर जुर्माना अधिरोपित किया गया।
एसडीएम श्री मुनीश सिंह सिकरवार ने बताया कि राऊ क्षेत्र में निरीक्षण के दौरान विभिन्न प्रतिष्ठानों में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन नहीं करते हुए पाये जाने पर स्पॉट फाइन किया गया। जिनमें बाबा कुल्फी हाउस, विकास नमकीन एबी रोड, राऊ कचौरी, विकास फास्ट फूड, बाबा रामदेव गोल चौराहा, जय महाकाल एबी रोड एवं सोफ्ट एण्ड सोफ्ट एबी रोड पर एक-एक हजार रूपये का स्पॉट फाइन वसूला गया। इसी तरह मास्क नहीं लगाने वाले व्यक्तियों पर भी कार्यवाही की गई। जिनमें आकाश सोनी, विवेक चोरे, मयूर, केशर सिंह आदि पर 100-100 रूपये का स्पॉट फाइन वसूला गया।

प्रदेश के सिनेमा घर आगामी आदेश तक बंद रहेंगे

इन्दौर | 02-जून-2020

    राज्य शासन ने प्रदेश में संचालित सभी सिनेमा घरों को आगामी आदेश तक बंद रखने का निर्णय लिया है।

वाणिज्यिक कर विभाग ने इस संबंध में आदेश जारी किया है। इसमे कहा गया है भारत सरकार के गृह मंत्रालय के आदेश 30 मई 2020 के अनुक्रम में सिनेमा घर बंद रखने का निर्णय लिया गया है। उल्लेखनीय है कि कोरोना के संक्रमण के दृष्टिगत सभी सिनेमा घरों को इसके पहले 31 मई तक बंद रखने के आदेश जारी किए गए थे।

मंत्री श्री सिलावट ने किया निरीक्षण

इन्दौर | 18-फरवरी-2020

लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट ने आज इंदौर संभाग के धार जिले के ग्राम गुजरी के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण किया। उन्होंने आम जनता को बेहतर स्वास्थ्य सुविधा प्रदान करने के आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।

इंदौर जिले में पटवारियों के लिये बनेगी आचार संहिता राजस्व वसूली तथा प्रकरणों के निराकरण के लिये लगेंगे शिविर

कलेक्‍टर श्री जाटव ने राजस्व प्रकरणों के निराकरण की समीक्षा की
इन्दौर | 11-फरवरी-2020

    इंदौर जिले में पटवारियों के लिये आचार संहिता बनाई जायेगी। आचार संहिता के माध्यम से पटवारियों की उपस्थिति मुख्यालय में सुनिश्चित किया जायेगा तथा उनके कार्य को प्रभावी बनाया जायेगा। जिले में बकाया राजस्व वसूली तथा बटवारा और अन्य राजस्व प्रकरणों निराकरण के लिये शिविर लगाये जायेंगे।
यह जानकारी आज यहां कलेक्टर श्री लोकेश कुमार जाटव द्वारा ली गई राजस्व अधिकारियों की समीक्षा बैठक में दी गई। बैठक में अपर कलेक्टर श्री दिनेश कुमार जैन, श्री कैलाश वानखेड़े, श्री पवन जैन, श्री बी बी एस तोमर सहित अन्य राजस्व अधिकारी मौजूद थे। बैठक में कलेक्टर श्री जाटव ने अधिकारीवार राजस्व प्रकरणों के निराकरण की प्रगति की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिये कि जिले में अभियान चलाकर राजस्व प्रकरणों के निराकरण में तेजी लाई जाय। सभी राजस्व अधिकारी अपने-अपने न्यायालय में ज्यादा समय दें। सितम्बर2019 तक जो प्रकरण दर्ज हुए हैं उन्हें मार्च 2020 तक अनिवार्य रूप से निराकृत किये जाय। नामांतरण तथा बटवारा प्रकरणों के त्वरित निराकरण के लिए शिविर लगाये। बटवारा प्रकरणों के निराकरण पर भी विशेष ध्यान देवे। जिले में बकाया राजस्व वसूली के लिए भी शिविर आयोजित किए जाय। उन्होंने बताया कि जिले में पटवारियों के लिये आचार संहिता बनाई जा रही है। इसके तहत पटवारियों की मुख्यालय में उपस्थिति सुनिश्चित की जायेगी। पटवारियों से कहा गया है कि वे निर्धारित दिन अपने-अपने मुख्यालयों में उपस्थित रहकर नागरिकों की समस्याओं का निराकरण करे। उपस्थिति सुनिश्चित करने के लिये सार्थक एप से उपस्थिति ली जायेगी। तहसीलदार इनके कार्यों की मानीटर्रिंग करेंगे। ग्रामीण क्षेत्र में पटवारी निर्धारित दिनों में आवंटित पंचायत मुख्यालय और इंदौर में कलेक्ट्रोरेट में उपस्थित रहेंगे।
बैठक में कलेक्टर श्री जाटव ने गृह निर्माण सहकारी समितियों के संबंध में प्राप्त शिकायतों के निराकरण की समीक्षा की। उन्होंने निर्देश दिये कि कम से कम समय में अधिक से अधिक सदस्यों को उनका वास्तविक हक दिलाने का प्रयास करें। लंबित शिकायतों का त्वरित एवं परिणाममूलक निराकरण करवाये। अद्यतन वरियता सूची का पारदर्शिता के साथ प्रकाशन करवाये।

आयोजन की अनुमति के बगैर प्रचार-प्रसार पर प्रतिबंध

बगैर अनुमति के जुलूस, मौन जुलूस, रैली, सभा, आमसभा, धरना प्रदर्शन पर भी लगाया गया प्रतिबंध, कलेक्टर द्वारा धारा-144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश जारी
इन्दौर | 28-जनवरी-2020

            इंदौर जिले में कोई भी व्यक्ति/संस्था/संगठन/समूह जब तक किसी आयोजन की विधिवत् सक्षम अधिकारी से अनुमति प्राप्त नहीं कर लेते है, तब तक उस आयोजन के किसी भी प्रकार जैसे इलेक्ट्रानिक, प्रिंट, सोशल मीडिया, पोस्टर बैनर के माध्यम या अन्य कोई भी माध्यम से प्रचार-प्रसार को प्रतिबंधित किया गया है । इस संबंध में कलेक्टर एवं जिला दंडाधिकारी श्री लोकेश कुमार जाटव द्वारा धारा 144 के तहत प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किया गया है।
जारी आदेश के अनुसार जिले में यातायात को बाधित होने से रोकने एवं कानून व्यवस्था एवं शांति बनाये रखने की दृष्टि से लोकहित में दण्ड प्रक्रिया संहिता की धारा-144 के अन्तर्गत इंदौर जिला सीमान्तर्गत किसी भी स्थल पर बिना अनुमति के किसी भी प्रकार के जुलूस, मौन, जुलूस, रैली, सभा, आमसभा, धरना प्रदर्शन को पूर्णत: प्रतिबंधित किया गया है।
साथ ही जिले में सभी प्रकार के अस्त्र/शस्त्र नियमों के विपरीत धारण करना तथा उनका प्रदर्शन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा। न्यायाधिपति, न्यायाधीश, प्रशासनिक अधिकारी, शासकीय अभिभाषक, सुरक्षा एवं अन्य किसी शासकीय कर्तव्य पालन के समय ड्यूटी पर लगाए गये सुरक्षा बलों एवं अर्द्ध सैनिक बलों, विशिष्ट व्यक्तियों/अधिकारियों की सुरक्षा हेतु लगाये गये पुलिस कर्मी, बैंक गार्ड उक्त प्रतिबंध से मुक्त रहेंगे।
इसी तरह किसी भी प्रकार के कट-आउट, बैनर, पोस्टर, फ्लैक्स, होर्डिग्स, झंडे आदि जिन पर किसी भी धर्म/व्यक्ति, सम्प्रदाय, जाति या समुदाय के विरुद्ध नारे या अन्य भड़काऊ भाषा का इस्तेमाल किया गया हो, का प्रकाशन एवं उसका किसी भी स्थल (निजी एवं सार्वजनिक स्थलों) पर प्रदर्शन पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा । किसी भी भवन/सम्पत्ति(सार्वजनिक अथवा निजी) पर आपत्तिजनक भाषा अथवा भड़काऊ नारे लिखा जाना भी प्रतिबंधित होगा। मप्र कोलाहल नियंत्रण अधिनियम 1985 के प्रावधानों के अन्तर्गत डी.जे. लाउडस्पीकर जैसे ध्वनि विस्तारण यंत्र का उपयोग बिना सक्षम अधिकारी की अनुमति के प्रतिबंधित रहेगा ।
यह आदेश 26 मार्च 2020 तक लागू रहेगा। आदेश के उल्लंघन की दशा में भारतीय दण्ड संहिता की धारा-188 एवं अन्य दण्डात्मक प्रावधानों के अन्तर्गत संबंधित के विरूद्ध कार्यवाही की जायेगी।

ण्डाधिकारी जाँच के संबंध में साक्ष्य आमंत्रित

इन्दौर | 21-जनवरी-2020

    थाना सदरबाजार क्षेत्र में गत 17 जनवरी 2020 को नागरिता संशोधन कानून के विरोध में धरना स्थल पर बड़वाली चौकी पर धरना आंदोलनकर्ताओं पर हुये बल प्रयोग की घटना की दण्डाधिकारी जांच अपर जिला दण्डाधिकारी श्री कैलाश वानखेड़े द्वारा की जा रही है। दण्डाधिकारी जाँच के संबंध में साक्ष्य आमंत्रित किये गये हैं।
            अपर जिला दण्डाधिकारी श्री कैलाश वानखेड़े ने बताया कि किसी व्यक्ति या संस्था अथवा अन्य के द्वारा उक्त घटना के संबंध में कथन, साक्ष्य, अन्य दस्तावेज, जानकारी या अन्य प्रकार का साक्ष्य आदि लिखित या मौखिक रूप से अपर जिला दण्डाधिकारी  के समक्ष कलेक्टर कार्यालय के कक्ष क्रमांक 109 में 3 फरवरी 2020 तक कार्यालयीन दिवसों में कार्यालयीन समय में पेश किये जा सकते हैं।
उल्लेखनीय है कि कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी श्री लोकेश कुमार जाटव द्वारा उक्त घटना की जाँच के लिये अपर जिला दण्डाधिकारी श्री कैलाश वानखेड़े को दायित्व सौंपा गया है।

ब्लैक एण्ड व्हाइट मतदाता परिचय पत्र को कलर परिचय पत्र में बदला जायेगा

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री कांताराव ने वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से की समीक्षा

jan 14 2020

मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी मध्यप्रदेश श्री वी. एल. कांताराव द्वारा निर्वाचक नामावली के विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण 2020 के कार्यो की समीक्षा वीडियो कान्फ्रेंस के माध्यम से की गई। उन्होंने निर्देशित किया कि 18-19 वर्ष के आयु वाले जिले में अभी लगभग 75 हजार 899 नव मतदाताओं के नाम जोड़ने हेतु विशेष प्रयास किये जाये। उन्होंने कहा कि बी.एल.ओ., सुपरवाईजर के माध्यम से फार्म प्राप्त कर उनका शीघ्र डिजिटाईजेशन किया जाये। ईआरओ इस कार्य की बीएलओ-सुपरवाईजरवार समीक्षा करें।

साथ ही निर्देश दिए गए कि 16 डिजिट के मतदाता परिचय पत्र को 10 डिजिट के परिचय पत्रों में बदलने के लिए अभी भी 38 हजार 560 मतदाता बाकि हैं, यह कार्य शीघ्र पूर्ण किया जाये। ब्लैक एंड व्हा‍ईट फोटो के स्थान पर कलर फोटो लगाने के लिये 85 हजार 622 मतदाता अभी भी लंबित हैं। सभी ईआरओ मतदान केन्द्रवार समीक्षा करें। जिन बीएलओ के फार्म नहीं आये, उनसे बुलवाकर शीघ्र डिजिटाईजेशन की कार्यवाही करें। जिन बी.एल.ओ. व सुपरवाईजर द्वारा मतदाता सत्यापन कार्य व विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण 2020 में अच्छा कार्य किया है, उन्हें राष्‍ट्रीय मतदाता दिवस पर सम्मानित किया जाये। साथ ही उन्होंने कहा कि जिन बी.एल.ओ तथा सुपरवाईजर द्वारा विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण में कार्य नहीं किया जा रहा है उनका मानदेय भुगतान न किया जाये या निर्धारित समयसीमा में कार्य पूर्ण करने पर ही मानदेय का भुगतान किया जाये।

उन्होंने कहा कि निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी एवं सहायक निर्वाचक रजिस्ट्रीकरण अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि नवीन 18-19 वर्ष के मतदाता तथा 16 डिजिट के मतदाता परिचय पत्र को 10 डिजिट के परिचय पत्रों में बदलने तथा ब्लैक इन व्हाईट फोटो के स्थान पर कलर फोटो परिवर्तित करने का कार्य समयसीमा में पूर्ण हो जाये। नवीन मतदाता के नाम जो 01 जनवरी 2020 को 18 वर्ष की आयु पूरी कर चुके है, उनके नाम 15 जनवरी 2020 तक जोड़े जाये।

मंत्री श्री सिलावट की उपस्थिति में आयुष्मान स्वास्थ्य शिविर का आयोजन 8 जनवरी को सांवेर में

इन्दौर | 07-जनवरी-2020

आयुष्मान भारत निरामयम् योजना के अंतर्गत चिन्हांकित हितग्राहियों को संबंधित चिकित्सालयों के माध्यम से जनसामान्य में स्वास्थ्य के प्रति जागरूकता पैदा करने एवं योजना अंतर्गत मिलने वाली सुविधाओं से अवगत कराने के उद्देश्य से विकासखंड सांवेर जिला इंदौर में 8 जनवरी को स्वास्थ्य मंत्री श्री तुलसीराम सिलावट की उपस्थिति में आयुष्मान स्वास्थ्य शिविर का आयोजन किया जा रहा है। इस शिविर का आयोजन सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सांवेर में प्रात: 9 बजे से दोपहर एक बजे तक किया जायेगा।
खण्ड चिकित्सा अधिकारी सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र सांवेर ने बताया कि शिविर में पात्र हितग्राहियों को 25 विषय विशेषज्ञताओं में आने वाले 1399 प्रोसीजर्स में समस्याओं से संबंधित मार्गदर्शन देने एवं उनका निदान करने एवं जिले की विशेषज्ञ टीम के परीक्षण उपरांत रेफरल की स्थिति में सम्बद्ध निजी एवं शासकीय चिकित्सालय में उचित माध्यम से रेफर किया जायेगा। योजना के अंतर्गत पात्र हितग्राहियों की पहचान कर एवं चिन्हित कर नि:शुल्क गोल्डन कार्ड प्रदान किये जायेंगे और स्वास्थ्य परीक्षण एवं उपचार किया जायेगा।
उल्लेखनीय है कि इस योजना के अंतर्गत प्रधानमंत्री राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तहत सामाजिक, आर्थिक एवं जातिगत जनगणना 2011 में चिन्हांकित लाभार्थी परिवार, खाद्य सुरक्षा अधिनियम के अंतर्गत आने वाले खाद्य पर्ची धारक तथा संबल योजना के अंतर्गत आने वाले असंगठित क्षेत्र के मजदूर चिन्हांकित किये जाते है।

कलेक्टर श्री जाटव ने सीवरेज वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट कबिटखेड़ी का निरीक्षण किया

इन्दौर | 28-दिसम्बर-2019
    कलेक्टर लोकेश कुमार जाटव ने  आज कबिटखेड़ी  स्थित पहुंचकर सीवरेज वॉटर ट्रीटमेंट प्लांट का निरीक्षण किया। इस अवसर पर नगर निगम आयुक्त श्री आशीष सिंह भी मौजूद थे। श्री जाटव ने निर्देश दिये कि कान्ह नदी का पूरा पानी शुद्धीकरण किया जाये। इसके संबंध में नगर निगम द्वारा किये जा रहे कार्य शीघ्र पूरे किये जाये। यह ध्यान रखा जाये कि कान्ह नदी में कही से भी दूषित पानी नहीं मिले। ड्रेनेज का पानी किसी हाल में नहीं मिले यह सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने वॉटर ट्रीटमेंट के लिये किये जा रहे कार्यों को देखा और आवश्यक निर्देश दिये।

इंदौर में वायु की गुणवत्ता है संतोषजनक

इन्दौर | 17-दिसम्बर-2019

   प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड द्वारा बताया गया कि माह दिसम्बर के 15 दिवसों में डीआईजी कार्यालय पर स्थापित स्टेशन के आंकड़ों के अनुसार इन्दौर शहर की वायु गुणवत्ता का औसत इंडेक्स 159 अर्थात् मध्यम श्रेणी का रहा। इस दौरान पीएम10 का स्तर 150 एवं पीएम 2.5 का स्तर 78 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर रहा। इसके अलावा बोर्ड द्वारा अन्य तीन स्थानों विजय नगर, कोठारी मार्केट एवं सांवेर रोड पर किये जा रहे मॉनिटरिंग के आधार पर वायु गुणवत्ता का औसत इंडेक्स क्रमषः 76, 89 और 91 अर्थात् संतोषजनक श्रेणी का रहा। इस प्रकार दिसम्बर के प्रथम 15 दिवसों में चारों स्थानों के औसत के आधार पर इन्दौर शहर का पीएम10 का स्तर 102 एवं पीएम2.5 का स्तर 51 माइक्रोग्राम प्रति घनमीटर रहा। उल्लेखनीय है कि  कुछ दिनों से शहर में ऐसा भ्रम प्रचारित किया जा रहा है कि इन्दौर शहर में वायु प्रदूषण का स्तर दिल्ली से अधिक हो गया है, जबकि विगत दिनों में ऐसी स्थिति कभी भी निर्मित नहीं हुई है। राष्ट्रीय स्तर के विभिन्न पोर्टल पर डीआईजी कार्यालय, छोटी ग्वालटोली पर शहर के केन्द्र में संचालित एकमात्र सतत् परिवेशीय वायु गुणवत्ता निगरानी केन्द्र के रियल टाईम डाटा प्रदर्षित होते हैं, जबकि दिल्ली के 34 निगरानी केन्द्रों के आधार पर एयर क्वालिटी इंडेक्स प्रदर्षित किया जाता है।  

राजस्‍थान की महिला-बाल विकास मंत्री ने की मध्यप्रदेश की सराहना

इन्दौर | 25-अक्तूबर-2019

राजस्थान की महिला बाल विकास मंत्री श्रीमती ममता भूपेश ने मध्यप्रदेश में महिला-बाल कल्याण के लिये किये गये नवाचारों की सराहना की है। प्रदेश की महिला-बाल विकास मंत्री श्रीमती इमरती देवी ने गत दिवस मंत्रालय में उन्हें मध्यप्रदेश में महिलाओं और बच्चों के कल्याण के लिये किये जा रहे प्रयासों, योजनाओं और कार्यक्रमों की जानकारी दी। इस मौके पर प्रमुख सचिव श्री अनुपम राजन और राजस्थान के सचिव महिला-बाल विकास उपस्थित थे।
श्रीमती ममता भूपेश ने मध्यप्रदेश महिला-बाल विकास विभाग की संरचना एवं कार्यप्रणाली की जानकारी ली। श्रीमती इमरती देवी ने उन्हें प्रदेश के नवाचारों यथा 313 विकासखंडों में संचालित बाल शिक्षा केन्द्रों की गतिविधियों, आंगनवाड़ी केन्द्रों के सुचारु संचालन के लिये बनाए गए सम्पर्क एप के बारे में भी जानकारी दी। उन्होंने बताया कि इस एप के माध्यम से आंगनवाड़ी में कार्यरत सभी अधिकारियों एवं कर्मचारियों की रियल टाईम उपस्थिति की जानकारी प्राप्त होती है। श्रीमती ममता भूपेश ने एप की सराहना की।
इसके पूर्व श्रीमती भूपेश ने मंडीदीप स्थित पोषण आहार संयत्र का अवलोकन किया। वे संयंत्र में हाईजीनिक तरीके से पोषण आहार निर्माण से काफी प्रभावित हुईं।

जिले में पशु क्रूरता अधिनियम का प्रभावी क्रियान्वयन जरूरी

इन्दौर | 22-अक्तूबर-2019

अपर कलेक्टर विकास श्रीमती नेहा मीना की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में पशु क्रूरता अधिनियम का प्रभावी क्रियान्वयन जरूरी है। पशु के प्रति दया, करुणा और सहिष्णुता की जरूरत है।
बैठक में निर्णय लिया गया कि जिले में पशु क्रूरता अधिनियम के क्रियान्वयन के लिये प्रभावी पहल की जाये। और स्वयंसेवी संगठनों के माध्यम से गौ-शाला का संचालन किया जाये। अवारा पशुओं को गौ-शाला में रखा जाये यह काम ग्रामीण और शहरी क्षेत्र में दोनों जगह करने के जरूरत है। राज्य शासन गौ-संरक्षण के लिये कृतसंल्पित है। गर्मी में भारवाहक पशुओं से दोपहर 12 से 4 बजे के बीच बोझा ढोने पर कार्यवाही की जाये। गांव में जगह-जगह गौ-शालाएं खोली जाये। ग्रामीण क्षेत्र में पुराने कॉजी हॉउस को पुनर्जीवित किया जाये। बैठक में बताया गया कि अनाथ पुशओं को सड़क पर छोड़ना भी क्रूरता की श्रेणी में आता है। वन विभाग द्वारा पशु पक्षियों की अवैध बिक्री पर रोक लगाई जाये।
बैठक में उप संचालक पशु चिकित्सा डॉ. अशोक शर्मा, समाजिक कार्यकर्ता श्री योगेश सोनगरिया, श्री राजेश मिश्रा, श्री मधुकांत दुबे, श्री एन.एस. जादौन आदि मौजूद थे।

सीएम हेल्पलाइन के प्रकरण समय-सीमा में निराकृत करें – कलेक्टर श्री जाटव

इन्दौर | 15-अक्तूबर-2019

कलेक्टर श्री लोकेश कुमार जाटव की अध्यक्षता में आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में टीएल बैठक का आयोजन किया गया। इस अवसर पर उन्होंने ने कहा कि अधिकारीगण टीएल, जनसुनवाई और सीएम हेल्पलाइन के प्रकरण समय-सीमा में निराकृत करें। सीएम हेल्पलाइन के अधिकांश प्रकरण एल-1 पर ही निराकृत हो जाना चाहिये। विलंब के लिये अधिकारियों की व्यक्तिगत जिम्मेदारी तय की जायेगी। एल-4 पर सीएम हेल्पलाइन का के प्रकरणों तर्कसंगत निराकरण किया जा सकता है।
शिक्षा विभाग की समीक्षा करते हुये उन्होंने कहा कि सभी पात्र विद्यार्थियों को साइकिल, ड्रेस और किताब दिया जाना सुनिश्चित किया जाये। कोई भी पात्र विद्यार्थी वंचित नहीं रहना चाहिये। शासन के निर्देशानुसार शिक्षा गुणवत्ता में सुधार जरूरी है। शिक्षा विभाग के अधिकारी स्कूलों का सतत निरीक्षण करें। बैठक में स्वास्थ्य, सहकारिता, सामाजिक न्याय, कृषि, प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना, नगर निगम, श्रम, उद्योग, ग्रामीण विकास विभाग आदि विभागों की बिन्दुवार समीक्षा की गई।
उन्होंने नगर निगम के अधिकारियों को निर्देश दिये कि इंदौर नगर की सड़कें, स्ट्रीट लाइट आदि की तत्काल मरम्मत की जाये। अब वर्षा बंद हो गई है। काम करना आसान हो गया है।
बैठक में अपर कलेक्‍टर श्री दिनेश जैन, श्री कैलाश वानखेड़े, श्री अजय देव शर्मा, श्री पवन जैन के अलावा विभागी अधिकारी मौजूद थे।

प्रसाद के माध्यम से बताया पौष्टिक आहार का महत्व

इन्दौर | 01 अक्टूबर -2019

महिला एवं बाल विकास विभाग जिला इन्दौर अंतर्गत परियोजना इन्दौर शहरी क्रमांक दो द्वारा माली मोहल्ला में राष्ट्रीय पोषण माह के समापन पर देवी प्रतिमा पांडाल में पौष्टिक आहार से बने प्रसाद का भोग लगाया एवं वितरण किया गया। नागरिकों को पोषण का महत्व समझाया गया। बच्चों एवं महिलाओं ने उत्साह से भाग लेकर सभी नागरिकों के अच्छे स्वास्थ्य के लिये बचनबद्ध होने के शपथ ली । परियोजना अधिकारी सतीश गंगराडे ने कहा कि आज पोषण माह का समापन दिवस है परंतु नियमित रूप से नागरिकों को अच्छे पोषण, स्वास्थ्य बना रहे इसके लिये निरंतर कार्यक्रम आयोजित किये जायेगे एवं उन्हें उचित सहयोग एवं मार्गदर्शन दिया जायेगा। इस अवसर पर पर्यवेक्षक, श्रीमती सन्ध्या यादव एवं आंगनवाडी कार्यकर्ता, महिलाएं उपस्थित थी ।

कलेक्टर द्वारा विद्यार्थियों की उपस्थिति की सूचना अभिभावकों को देने के निर्देश

इन्दौर | 24-सितम्बर-2019

कलेक्टर एवं अध्यक्ष जनभागीदारी समिति शासकीय होलकर साइंस कॉलेज श्री लोकेश कुमार जाटव की अध्यक्षता में कलेक्टर कार्यालय में आज जनभागीदारी समिति की बैठक आयोजित की गई, जिसमें कलेक्टर द्वारा निर्देश दिये गये कि महाविद्यालय द्वारा ऐसी व्यवस्था की जाये कि विद्यार्थियों की उपस्थिति महाविद्यालय में प्रतिदिन इलेक्ट्रोनिक मशीन द्वारा सुनिश्चित की जाये, जिसकी सूचना अनके अभिभावकों को भी प्राप्त हो। महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. सुरेश सिलावट द्वारा बताया गया कि सभी विद्यार्थियों को रेडियों ‍फ्रिक्वेंसी आईडेंटिटी कार्ड बनाये जा रहे हैं और नियत स्थानों पर इलेक्ट्रोनिक मशीनें स्थापित की जा रही हैं, जिसमें विद्यार्थी कक्षाओं में जाने से पूर्व कार्ड स्वाइप करेंगे और इसकी सूचना एस.एम.एस. के माध्यम से उनके अभिभावकों को प्राप्त हो जायेगी।
बैठक में पी.आई.यू (परियोजना क्रियांवयन इकाई) द्वारा नियुक्त कंसल्टेंट के द्वारा कैंटीन, ऑडिटोरियम, कम्प्युटर भवन एवं जी+2 की प्रयोगशालाओं के लेआउट तथा डिजाइन प्लान समिति के समक्ष प्रस्तुत किये गये, जिन्हें समिति द्वारा कुछ आवश्यक सुझावों के साथ अनुमोदित किया गया। अध्यक्ष श्री जाटव द्वारा निर्देश दिया गया कि कम्प्युटर भवन में 100 से अधिक विद्यार्थियों की कक्षाओं के लिये सीढ़ीनुमा डिजाइन तैयार कराई जाये। इसके साथ-साथ कक्ष क्रमांक 21,22, 23, 24 तथा 25 की प्रोफाइल शीट बदलना, बालक छात्रावास के शौचालयों की मरम्मत, मुख्य स्टेज के सामने टीनशेड के निर्माण कार्य तथा बायोटेक्नोलॉजी विभाग के लिये अल्ट्रा वायलेट डेवलपिंग स्पेक्ट्रोफोटोमीटर उपकरण क्रय करने की स्वीकृति भी प्रदान की गई। बैठक में जनभागीदारी के सदस्य भी मौजूद थे और उन्होने अनेक सुझाव भी दिये।

आज विद्यार्थियों के लिए विशेष जनसुनवाई

इन्दौर | 17-सितम्बर-2019

कलेक्टर श्री लोकेश जाटव की पहल पर आज 17 सितम्बर को इंदौर ज़िले के विद्यार्थियों के लिए विशेष जनसुनवाई का आयोजन किया जा रहा है। इस जनसुनवाई में छात्रावास स्कूल कॉलेज में प्रवेश संबंधी समस्याओं के लिए विद्यार्थी या उनके पालक अपना आवेदन दे सकते हैं। साथ ही छात्रवृत्ति जाति प्रमाण पत्र स्थानीय निवासी प्रमाण पत्र EWS प्रमाण पत्र आर.टी.ई. में प्रवेश इत्यादि के संबंध में समस्याओं को सुना जाएगा। कलेक्टर ने सभी संबंधितों से इस अवसर का लाभ उठाने का आह्वान किया है।

शिक्षकों का सम्मान

इन्दौर | 06-सितम्बर-2019

शिक्षक दिवस के अवसर पर आज आगरा के प्राथमिक माध्यमिक और उच्चतर माध्यमिक विद्यालय में शिक्षकों का सम्मान कार्यक्रम हुआ। जिसमें अनुविभागीय अधिकारी हातोद श्री रजनीश श्रीवास्तव द्वारा कार्यक्रम में उपस्थित सभी शिक्षकों का सम्मान किया गया। तथा 3 शिक्षकों सुश्री विमला यादव, प्राथमिक शिक्षक शासकीय प्राथमिक विद्यालय आगरा, सुश्री प्रेमलता पंवार माध्यमिक शिक्षक शासकीय माध्यमिक विद्यालय आगरा तथा सपना पटवर्धन सहायक शिक्षक शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय आगरा को उत्कृष्ट कार्य करने के लिए प्रमाण पत्र भी दिया गया।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण द्वारा जागरूकता शिविर का आयोजन

इन्दौर | 31-अगस्त-2019

मध्यप्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण जबलपुर के निर्देशानुसार राष्ट्रीय विधिक सेवा प्राधिकरण, नई दिल्ली की योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु आज जागरूकता शिविर का आयोजन किया गया। साथ ही आगामी 14 सितम्बर 2019 को आयोजित होने वाली नेशनल लोक अदालत हेतु बीमा कंपनी के अधिकारियों तथा अधिवक्तागणों की बैठक का भी आयोजन जिला न्यायाधीश और अध्यक्ष श्री सुशील कुमार शर्मा के निर्देशन में किया गया।

जागरूकता शिविर में अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री विवेक सक्सेना, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव तथा अपर जिला न्यायाधीश श्री बी.के. पालोदा एवं जिला विधिक अधिकारी श्री सुभाष चौधरी और किशोर न्याय बोर्ड के पदाधिकारी उपस्थित थे।

शिविर में अपर जिला न्यायाधीश श्री विवेक सक्सेना ने बच्चों को उनके विधिक अधिकारों के बारे में बताया तथा अपर जिला न्यायाधीश श्री बी.के. पालोदा द्वारा बच्चों को मैत्रीपूर्ण विधिक सेवायें और उनके संरक्षण के लिये विस्तृत जानकारी दी गई।

जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री सुभाष चौधरी ने बताया कि नेशनल लोक अदालत में अधिक से अधिक क्लेम प्रकरणों के निराकरण किये जाने के उद्देश्य से बीमा कंपनी के अधिकारी एवं उनके अधिवक्तागणों की बैठक का आयोजन आज किया गया था।

 

मतदाता सूची के पुनरीक्षण का कार्य प्रारंभ 

इन्दौर | 23-अगस्त-2019

 इंदौर जिले के देपालपुर तहसील की तीनों नगर परिषद देपालपुर, गौतमपुरा एवं बेटमा में मतदाता सूची का पुनरीक्षण का कार्य प्रारंभ हो चुका है।  इंदौर जिले में नगरीय प्रशासन चुनाव के संबंध में नियुक्त ऑब्जर्वर श्री ओपी सोनी देपालपुर  पहुंचे।
यहां उन्होंने विभिन्न राजनीतिक दलों के पदाधिकारियों से चर्चा की। इस अवसर पर संपूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया की विस्तार से जानकारी दी गई। संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये गये की मतदाता सूची में किसी प्रकार की त्रुटि न हो, किसी भी मतदाता का नाम छूटे नहीं। इस अवसर पर एसडीएम श्री प्रतुल सिंहा, तहसीलदार श्री अवधेश चतुर्वेदी, नायब तहसीलदार श्री जितेंद्र वर्मा, थाना प्रभारी  श्री गोपाल परमार, नगर परिषद देपालपुर के सीएमओ श्री चंद्रशेखर सोनिस, नगर परिषद गौतमपुरा के सीएमओ श्री नागेन्द्र कानूनगों, नगर परिषद बेटमा की सीएमओ सुश्री मीनाक्षी पाटीदार तथा तीनों नगरीय निकायों के अध्यक्ष – उपाध्यक्ष व पार्षदगण मौजूद थे।

इंदौर जिले में धूमधाम से मनाया गया विश्व आदिवासी दिवस 

आदिवासी संस्कृति पर आधारित हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम, मेधावी विद्यार्थियों का किया गया सम्मान, आदिवासियों को दिए गए वन अधिकार पत्र 

इन्दौर | 09-अगस्त-2019

 इंदौर जिले में आज धूमधाम से विश्व आदिवासी दिवस मनाया गया। विश्व आदिवासी दिवस पर अनेक कार्यक्रम आयोजित किए गए। राज्य शासन के निर्देशानुसार जिला प्रशासन तथा आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में मुख्य कार्यक्रम आयोजित किया गया। इस कार्यक्रम में आदिवासी संस्कृति के रंगों को बिखेरते हुए सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजित किए गए। साथ ही प्रतिभावान विद्यार्थियों का सम्मान किया गया। इस अवसर पर आदिवासियों को वन अधिकार अधिनियम के अंतर्गत वन अधिकार पत्र वितरित किए गए।

इस कार्यक्रम का शुभारंभ जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्रीमती नेहा मीणा द्वारा दीप प्रज्वलित कर किया गया। इस अवसर पर आदिम जाति कल्याण विभाग की सहायक आयुक्त श्रीमती मोहिनी श्रीवास्तव, खाद्य नियंत्रक श्री लोण्या मुजाल्दे, कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्री सी.एल. पासी सहित अन्य अधिकारी, विद्यार्थी और ग्रामीणजन मौजूद थे। कार्यक्रम में छिंदवाड़ा में आयोजित हुए मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ जी के कार्यक्रम का सीधा प्रसारण भी दिखाया गया। कार्यक्रम में स्कूली बच्चों ने आदिवासी गीत-नृत्य प्रस्तुत किए। प्रतिभावान विद्यार्थियों का सम्मान अतिथियों ने किया। जिले में वन अधिकार अधिनियम के अंतर्गत पात्र परिवारों को वन अधिकार पत्र वितरित किए गए। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए श्रीमती नेहा मीना ने कहा कि विश्व आदिवासी दिवस की शुरुआत एक अच्छी पहल है। इससे आदिवासी बच्चों में एकता का भाव आयेगा। उन्होंने कहा कि बच्चे पढ़े-लिखे और आगे बढ़ें। राज्य शासन द्वारा उन्हें ढेरों सुविधाएं दी जा रही हैं। उन्होंने बताया कि जिले में विश्व आदिवासी दिवस पर गांव-गांव कार्यक्रम आयोजित किए गए। राज्य शासन के निर्देशानुसार आदिवासी बहुल गांव में शिक्षा स्वास्थ्य और इसके साथ अनेक मूलभूत सुविधाओं के विकास पर विशेष ध्यान दिया जा रहा है। कार्यक्रम के प्रारंभ में सहायक आयुक्त श्रीमती मोहिनी श्रीवास्तव ने स्वागत भाषण दिया। कार्यक्रम का संचालन श्रीमती अलका भार्गव ने किया। कार्यक्रम को श्री मुजाल्दे ने भी संबोधित किया।

कलेक्ट्रेट में आयोजित जनसुनवाई में आये 208 आवेदन 

इन्दौर | 30-जुलाई-2019

कलेक्ट्रेट सभाकक्ष अपर कलेक्टर श्रीमती नेहा मीना, अपर कलेक्टर श्री दिनेश जैन, अपर कलेक्टर श्री कैलाश वानखेड़े द्वारा जनसुनवाई की गई। जनसुनवाई में आज 208 आवेदन आये। यह प्रकरण वृद्धावस्था पेंशन, सामाजिक सुरक्षा पेंशन, प्रधानमंत्री आवास योजना, जमीन पर अवैध कब्जा, शिक्षा का अधिकार, शिक्षा शुल्क से मुक्ति, बिजली बिल, बीपीएल राशन कार्ड में नाम जुड़वाने, स्वास्थ्य विभाग में बीमारी सहायता योजना, प्लाट पर अवैध कब्जा और छात्रवृत्ति की स्वीकृति से संबंधित थे। इन प्रकरणों को संबंधित विभाग में 15 दिन में निराकरण करने हेतु प्रेषित कर दिया गया। जनसुनवाई में विभिन्न विभागों के कार्यालय प्रमुख भी थे।