Thursday, September 23News That Matters

चंबल

राखी से लेकर मिठाई सबकुछ महंगा:रक्षाबंधन में दो दिन बाकी, इस साल राखी पिछले साल से 25 %महंगी

चंबल | 20-August-2021

रक्षाबंधन में दो दिन बचे हैं। रविवार को राखी है। ऐसे में बाजारों में ग्राहकी शुरू हो गई है, लेकिन रक्षाबंधन का त्योहार पिछले साल की तुलना में महंगा है। राखी से लेकर मिठाई सबकुछ महंगा बिक रहा है। ऐसे में लोगों को इस साल ज्यादा दाम चुकाना पड़ रहे हैं।

राखी, मिठाई के भाव बढ़ने की वजह कच्चा माल महंगा होना है। इससे सभी सामग्रियों की लागत बढ़ गई है। इससे वस्तुएं महंगी हो रही हैं। सभी वस्तुओं के भाव 10 से 25 फीसदी तक महंगे हो गए हैं। यानी इस बार की राखी वर्ष 2020 की तुलना में 25 फीसदी तक महंगी है।

डेंगू – लार्वा और मलेरिया का सर्वे जारी

चंबल | 18-June-2021

शहर के विभिन्न क्षेत्रों, अति संवेदनशील क्षेत्रों, स्लम एरिया और अन्य बस्तियों में डेंगू लार्वा, मलेरिया, रैपिड टेस्ट, ब्लड स्लाइड कलेक्शन और कोरोना से बचाव की जानकारी आदि का कार्य व्यापक स्तर पर किया जा रहा है।   मलेरिया की रोकथाम के लिए विभिन्न क्षेत्रों में दल नियुक्त कर अभियान चलाया जा रहा है।

   शहर के विभिन्न क्षेत्रों में डेंगू के लार्वा के लिए 30 टीमों का दल नियुक्त किया गया है जिनके द्वारा 1035 घरों का सर्वे कर किया गया और 69 घरों में लार्वा पाया गया। अलग अलग जगहों पर 8 हजार से अधिक अधिक बर्तनों में लार्वा सर्वे किया गया, जिसमें केवल 69 बर्तनों में लार्वा पाया गया। डेंगू के लार्वा को टेमोफॉस डाल कर नष्ट किया गया।

दवाइयों की कालाबाजारी करने वालों पर होगी सख्त कार्रवाई -मुख्यमंत्री श्री चौहान

चंबल | 20-april-2021

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि कोरोना संक्रमण के नियंत्रण के लिए जन-प्रतिनिधियों से निरंतर परामर्श किया जाए। उनसे प्राप्त सूचनाओं पर कमिश्नर्स त्वरित कार्रवाई करें। प्रदेश में सभी व्यवस्थाएँ सुनिश्चित करते हुए पॉजिटिविटी रेट घटाने के पूरे प्रयत्न हों। किस अस्पताल में कितने बेड हैं, इसकी जानकारी प्रचार माध्यमों के साथ ही हिन्दी एप के माध्यम से भी दी जाए। समाजसेवी संगठनों को जोड़कर लोगों की मदद के लिए प्रेरित किया जाए। कोरोना संक्रमित लोग कोविड केयर सेंटर से लाभान्वित हों। होम आइसोलेशन में रहने वाले रोगियों से चिकित्सक सम्पर्क में रहें और जरूरी मार्गदर्शन देते रहें। औषधियों और इंजेक्शन के वितरण की न्यायपूर्ण व्यवस्था हो। इनकी कालाबाजारी करने वालों के विरूद्ध सख्त कार्रवाई हो। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज निवास से वीडियो कॉन्फ्रेंस द्वारा प्रदेश के कमिश्नर्स, प्रभारी अधिकारियों से कोरोना संक्रमण पर चर्चा एवं समीक्षा कर रहे थे।
वीडियो कान्‍फ्रेंसिंग के दौरान एनआईसीर रूम गुना में कलेक्‍टर श्री कुमार पुरूषोत्‍तम, पुलिस अधीक्षक श्री राजीव कुमार मिश्रा, सीईओ जिला पंचायत श्री निलेश परीख तथा मेडिकल स्‍टाफ आदि उपस्थित रहे।
नए ऑक्सीजन प्लांट लगेंगे
समीक्षा में बताया गया कि प्रदेश में ऑक्सीजन की आपूर्ति इस माह के आखरी तक 700 मीट्रिक टन हो जाएगी। आज प्रदेश को 390 मीट्रिक टन ऑक्सीजन प्राप्त हुई है। प्रदेश में ऑक्सीजन की आपूर्ति निरंतर बढ़ रही है। टेंकर्स की संख्या भी अब 46 हो गई है। प्रदेश के 37 जिलों में ऑक्सीजन प्लांट लगेंगे। ये प्लांट आगामी एक से तीन माह में स्थापित करने की तैयारी है। इससे भविष्य की दिक्कतें समाप्त होंगी। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा पीआईयू और कार्य एजेंसी इन संयंत्रों के लिए स्थल चयन करें, तेजी से कार्य सम्पन्न हो।
इंजेक्शन की नहीं होगी कमी, बढ़ रही आपूर्ति
बैठक में बताया गया कि प्रदेश में संभागों को आज 17 हजार इंजेक्शन भेजे जा चुके हैं। संभागों से जिलों तक इनका वितरण सुनिश्चित किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान की आज हैटरो हैल्थकेयर लिमिटेड से भी इंजेक्शन आपूर्ति के संबंध में चर्चा हुई है। कंपनी को एक लाख इंजेक्शन की आपूर्ति के लिए कहा गया है। इसके पूर्व मॉयलॉन लैब ने भी इंजेक्शन की आपूर्ति की है। निरंतर अनुश्रवण से परिणाम मिल रहे हैं और मध्यप्रदेश को होने वाली ऑक्सीजन की आपूर्ति में निरंतर वृद्धि हुई है।
रोगियों के हित में जल्दी मिले रिपोर्ट
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जाँच रिपोर्ट 24 घंटे में उपलब्ध करवाने की व्यवस्था की जाए। टेस्ट रिपोर्ट आने तक जाँच करवाने व्यक्ति को आइसोलेशन में रहना है, यह परामर्श दिया जाए। संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए प्रयासों में कोई कमी नहीं रहना चाहिए। ऐसे निर्धन परिवार, जो होम आइसोलेशन में हैं यदि उनके लक्षण गंभीर होते हैं तो प्राथमिकता से कोविड केयर सेंटर ले जाया जाए। इन केन्द्रों में चाय, नाश्ता, भोजन उपलब्ध करवाया जाए। रोगियों की पूरी देखभाल की जाए। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि रोगियों को एक अस्पताल से दूसरे में न जाना पड़े, इसके लिए बेड की उपलब्धता प्रदर्शित करें। निर्धारित नंबरों पर नागरिकों को जानकारी मिलना चाहिए। गंभीर रोगियों को सभी जिले में प्रशासनिक अधिकारी अथवा अस्पताल द्वारा उपचार देने में पूरा सहयोग प्रदान किया जाए। इंदौर में राधास्वामी सत्संग ब्यास द्वारा की गई पहल अनुकरणीय है। अन्य संभाग में भी यह पहल हो। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि किसी भी स्थिति में संक्रमण की चेन तोड़ना है। ऐसे प्रयास करें कि यह कार्य एक अभियान बन जाए।
प्रांतों से मिल रहा सहयोग
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि उन्होंने मध्यप्रदेश में ऑक्सीजन और औषधियों के आवश्यक प्रबंध के लिए गुजरात, उत्तरप्रदेश और राजस्थान के मुख्यमंत्रियों से चर्चा की है। सभी राज्यों से सहयोग मिल रहा है। मध्यप्रदेश में उड़ीसा और छत्तीसगढ़ से भी ऑक्सीजन आपूर्ति में सहयोग मिला है। संकट के दौर में सभी राज्यों में परस्पर सहयोग और समन्वय की भावना है।
संभागों से चर्चा
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कमिश्नर्स से चर्चा के दौरान निर्देश दिए कि सभी संभागों में रोगियों की संख्या को देखते हुए ऑक्सीजन के न्यायपूर्ण वितरण की व्यवस्था सुनिश्चित हो। कमिश्नर भोपाल ने बताया कि संभाग में टेस्टिंग और ट्रीटमेंट का कार्य सुचारू रूप से चल रहा है। कल भोपाल में 8566 टेस्ट हुए हैं। जबलपुर कमिश्नर को मेडिकल कॉलेज जबलपुर में आरटीपीसीआर टेस्ट के लिए स्थान उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए। टेस्ट क्षमता में वृद्धि के लिए कमिश्नर रीवा को भी निर्देशदिए गए। कमिश्नर सागर को संभाग के सभी जिलों में जाँच और उपचार की सुविधाओं को बढ़ाने के निर्देश दिए गए। वर्तमान में सागर में 500 बेड क्षमता है। अभी 398 बेड का उपयोग हो रहा है। कमिश्नर इंदौर ने बताया कि इंदौर में 7400 बेड उपलब्ध हैं, वर्तमान में 6422 बेड का ही उपयोग हो रहा है।
जन-सहयोग है जरूरी
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आम जनता खुद कर्फ्यू व्यवस्था को लागू करें। जन-सहयोग से हम शीघ्र ही इस संक्रमण पर विजय प्राप्त करेंगे। मुख्यमंत्री ने बताया कि वे सोमवार को मंत्रियों से भी चर्चा कर उनके सुझावों के संबंध में अधिकारियों को निर्देश देंगे।
“ऑक्सीजन एक्सप्रेस” केन्द्र की पहल सराहनीय
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि केन्द्र सरकार ने ऑक्सीजन एक्सप्रेस के माध्यम से राज्यों तक उनकी आवश्यकता के अनुसार ऑक्सीजन की आपूर्ति की पहल की है। निश्चित ही यह सराहनीय है। उल्लेखनीय है कि मुख्यमंत्री श्री चौहान द्वारा गत सप्ताह ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए रेल के माध्यम से टेंकर लोड कर भेजे जाने का सुझाव दिया गया था।
ऑक्सीजन की क्षति न हो
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि ऐसे समय जब ऑक्सीजन की बहुत जरूरत है, भोपाल के पास एक ऑक्सीजन टैंकर पलटा, लेकिन ऑक्सीजन की क्षति नहीं हुई। स्थानीय प्रशासन, परिवहन विभाग ने तत्परता से कार्यवाही की। मुख्यमंत्री ने कहा इसी तरह सभी का सतर्क रहना आवश्यक है। रोगियों के कार्य की वस्तुओं को सहेजने के लिए सजगता प्रशंसनीय है। इसी तरह ऑक्सीजन के अनावश्यक उपयोग पर नियंत्रण भी आवश्यक है।
आगर-मालवा और शाजापुर जिलों के सैम्पल उज्जैन जाएंगे
बैठक में बताया गया कि उज्जैन के आरडी गार्डी अस्पताल में उज्जैन सहित आगर-मालवा और शाजापुर के सैम्पल भी भेजे जाएंगे। उज्जैन में वर्तमान में प्रतिदिन 2 हजार टेस्ट की क्षमता है। टेस्ट रिपोर्ट जल्द प्राप्त हो इस उद्देश्य से झाबुआ और अलीराजपुर में लिए गए सैम्पल अहमदाबाद भेजे जा रहे हैं। इससे एक दिन में ही रिपोर्ट मिलने लगी है।
छह संभाग में एक-एक हजार बिस्तर क्षमता केन्द्रों के लिए भवन चिन्हित होंगे
मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस ने बताया कि छह संभागों भोपाल, इंदौर, ग्वालियर, जबलपुर, सागर और रीवा में कमिश्नर्स को कोविड केयर सेंटर के लिए भवनों को चिन्हित करने को कहा गया है। भविष्य में बढ़ने वाली रोगी संख्या की आशंका को ध्यान में रखते हुए यह तैयारी करने को कहा गया है। इन भवनों में लगभग एक हजार बेड उपलब्ध होंगे। आइसोलेशन रोगियों के लिए जरूरत होने पर ऑक्सीजन बेड के रूप में भी इनका उपयोग किया जा सकता है। नर्सिंग स्टाफ एवं 450 अनुबंधित चिकित्सकों की सेवाएं इन केन्द्रों में ली जाएंगी।
अन्य राज्यों के रोगी लाभान्वित हो रहे

कई जगह बर्फ की चादर बिछी, चंबल में फसलों को नुकसान

चंबल | 13-अप्रैल-2021

शुक्रवार को प्रदेश में दिन की शुरुआत काले-घने बादलों के बीच हुई। करीब 20 किमी की गति से तेज हवाएं चलीं और कुछ इलाकों में हल्की बूंदाबांदी हुई। दोपहर में बादलों के बीच सूर्य देव दर्शन देते रहे। शाम होते-होते अचानक बादलों ने करवट ली और तेज आंधी चलने लगी। शाम के 4 बजते-बजते तेज बारिश के साथ ओले गिरने लगे। कई जगह बारिश हुई, तो कई जगह ओले गिरे। भोपाल में शाम सात बजे के बाद तेज आंधी चलने लगीं और गरज-चमक के साथ बारिश शुरू हो गई।

दिन का पारा 33 डिग्री:उत्तरी-पश्चिमी हवा चलने से रात का पारा लुढ़का, 11 डिग्री पर आया

चंबल | 05-मार्च-2021

उत्तरी-पश्चिमी हवा चलने से रात में फिर से हल्की सर्दी लौट आई है। 4 दिन पहले तक रात का पारा 17.7 डिग्री सेल्सियस तक रिकॉर्ड हुआ था। वहीं बुधवार को न्यूनतम तापमान 11 डिग्री रिकॉर्ड हुआ है। पिछले वर्ष 3 मार्च को न्यूनतम तापमान 17.7 डिग्री दर्ज हुआ था।

यानी बुधवार को पिछले साल की तुलना में रात का पारा 6 डिग्री कम दर्ज हुआ। मौसम विभाग के अनुसार उत्तरी-पश्चिमी हवा चलने के कारण रात के तापमान में गिरावट आई है। बुधवार को तेज धूप निकलने से अधिकतम तापमान फिर से बढ़ना शुरू हो गया है। तीन दिन से दिन के तापमान में गिरावट आ रही थी। मौसम विभाग के अनुसार अभी रात का तापमान 12 डिग्री के आसपास ही रहेगा।

पुलिस को घेरकर लाठियों से हमला, गोली चलाकर जान बचाई; रेत से भरी ट्रैक्टर-ट्राॅली जबरन छीन ले गया रेत माफिया

चंबल  26-फरवरी-2021

चंबल की रेत से भरे वाहन को जब्त करने के लिए गुरुवार की सुबह सपचोली पहुंचे बानमोर थाना पुलिस पर रेत माफिया ने पथराव करते हुए लाठियों से हमला कर दिया। हमले में आरक्षक रविंद्र किरार के हाथों में गंभीर चोट आई है। हमलावर 10 मिनट तक पुलिस को घेरे रहे और जब्त ट्रैक्टर छीन ले गए। टीआई बानमोर केएल शाक्य चार एसआई, दो हवलदार व चार सिपाही लेकर रेत वाहनों को पकड़ने के लिए पहुंचे थे।

पुलिस को देखकर ये भागने लगे। एक ट्रैक्टर-ट्राॅली का पीछा करते हुए पुलिस बानमोर से 5 किमी दूर सपचोली में वकीला गुर्जर के घर तक पहुंच गई। यहां ट्रॉली गड्‌ढे में फंसकर पलट गई। पुलिस ने ट्रैक्टर को अपने कब्जे में लेने का प्रयास किया तो वकीला गुर्जर के परिवार के 8-9 लोगों ने पुलिस से झगड़ा शुरू कर दिया, लेकिन पुलिस ट्रैक्टर को वहां से लेकर बानमोर थाने के लिए रवाना हो गई।

सपचोली से कुछ दूर स्थित सपचोली के पुरा के पास पीछे से आए वकीला गुर्जर, उसके परिजन व रिश्तेदारों ने पुलिस को घेरकर 10 मिनट तक पथराव किया और ट्रैक्टर चला रहे आरक्षक चालक रविंद्र किरार पर लाठियों से हमला कर ट्रैक्टर छुड़ा ले गए। हमले के दौरान जान बचाने के लिए बानमोर पुलिस को बचाव में हवाई फायर करने पड़े, लेकिन हमलावरों ने अपना ट्रैक्टर छीनने के बाद ही पुलिस को आगे बढ़ने दिया। ट्रैक्टर जड़ेरुआ के मोनू गुर्जर का बताया जा रहा है।

माफिया बेखौफ:राजस्थान में घुस रहे एमपी के रेत के ट्रैक्टर, रोकने पर की फायरिंग

चंबल  13-फरवरी-2021

चंबल नदी में बेखौफ चल रहे अवैध रेत माफिया से सिर्फ मुरैना ही नहीं राजस्थान के धौलपुर के पुलिस अधिकारी भी परेशान हैं। धौलपुर एसपी केशर सिंह ने चंबल आईजी मनोज शर्मा को फोन कर कहा है कि आपके क्षेत्र के रेत माफिया हमारे यहां माहौल बिगाड़ रहे हैं। चंबल स्थित राजघाट पर स्थायी बेरिकेड लगाकर इन पर अंकुश कसें। दरअसल, 10 फरवरी को धौलपुर एसपी केशर सिंह को मुरैना से रेत के ट्रैक्टर भरकर धौलपुर आने की सूचना मिली।

धौलपुर पुलिस ने रोकने की कोशिश की तो माफिया ने फायरिंग कर दी। दोनों ओर की फायरिंग के बाद धौलपुर पुलिस ने करीब 10 वाहन तथा कुछ आरोपियों को पकड़ा लेकिन फायरिंग की घटना से धौलपुर पुलिस चिंतित है। केशर सिंह का कहना है कि मुरैना से धौलपुर जाने वाले हाईवे पर सागरपाड़ा चौकी है। इसलिए चेकिंग व पुलिस कार्रवाई से बचने के लिए माफिया अपने ट्रैक्टरों को विपरीत साइड के हाईवे पर दौड़ाकर धौलपुर में घुस रहे हैं, इससे किसी दिन गंभीर हादसा हो जाएगा।

हम पहले से ही कार्रवाई में जुटे हैं
धौलपुर एसपी का फोन आया था। उनकी बात मुरैना एसपी से करवा दी है। हम पहले ही रेत माफिया पर नियंत्रण की कोशिश कर रहे हैं लेकिन हमारी प्राथमिकता है कि जनहानि न हो। इसलिए पहले डंप रेत नष्ट करवाई जा रही है।’
-मनोज शर्मा, आईजी चंबल

 

हर खेत को पानी मिले और ग्वालियर चंबल संभाग हराभरा हो इसके प्रयत्नशील रहूंगा-मुख्य अभिंयता के पदभारग्रहण करने के अवसर पर बोले -आरपी झा

चंबल  05-फरवरी-2021

हर खेत को पानी मिले खेतों में फसले लहराये और ग्वालिय चंबल संभाग को हरा भरा बनाने के भरसक प्रयत्नशील रहूंगा। हर किसान के चेहरे पर मुस्कान हो यही मेरी पहली प्राथमिकता है और मेरा ड्रªीम प्रोजेक्ट कूनो और सहायक नदियों पर 5 बांध बनाकर पानी को रोका जाये। यह प्रोजेक्ट पोहरी -श्योपुर के मध्य गांव कटीला में मुख्य बांध निर्माण किया जायेगा। जहां से पानी लिफ्ट करके पच्चीपुरा बांध में डाला जायेगा। इससे ग्वालियर-चंबल संभाग में लगभग 1 लाख 50 हजार हैक्टर में सिंचाई की जायेगी जिससे डेढ़ लाख परिवार लाभान्वित होंगे। इस प्रोजेक्ट में आने वाले गांव कराहल, पोहरी, बैराड़, ग्वालियर में सिंचाई के अलावा पेयजल की आवश्यकता के के अनुसार पूर्ति की जा सकेगी। यह उद्गार नवागत जल संसाधन विभाग के यमुना कछार के मुख्य अभियंता का पदभार ग्रहण करने के बाद आरपी झा ने कहीं।

 

चंबल-ग्वालियर संभाग के 5 जिलों में शून्य हैं कोरोना पॉजीटिव

चंबल    04-दिसम्बर-2020

 

मध्यप्रदेश के खाद्य, नागरिक आपूर्ति मंत्री गोविंद सिंह राजपूत ने बताया है कि चंबल एवं ग्वालियर संभाग के 5 जिले दतिया, भिंड, श्योपुर, गुना एवं शिवपुरी में कोरोना पॉजीटिव मरीजों की संख्या शून्य दर्ज की गई है। उन्होंने कहा कि रेड जोन मुरैना में विगत दिनों पाये गये 3 नये कोरोना पॉजीटिव मरीजों का इलाज चल रहा है। ग्वालियर जोन में कोई नया पॉजीटिव प्रकरण दर्ज नहीं हुआ है। उन्होंने बताया कि संभाग में अशोकनगर में एकमात्र कोरोना पॉजीटिव पाया गया था, जिसका इलाज चल रहा है। इलाजरत सभी मरीजों के शीघ्र स्वस्थ होने की संभावना है।

पहाडगढ़ में दीदी कैफे का संचालन कर स्व-सहायता समूह की महिलाओं की बदली तकदीर (कहानी सच्ची है)

चंबल | 28-नवम्बर-2020

    मध्यप्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के मार्गदर्शन में सांई कृपा स्व-सहायता समूह से जुड़ी 11 महिलायें आत्मनिर्भर बन गई है। यह सपना नहीं, हकीकत है। पहाडगढ़ विकासखण्ड के ग्राम धूरकूड़ा की वे गरीब महिलाओं की जो घर-गृहस्थी के छोटे-बड़े खर्च को चलाने के लिये साहुकार से पैसा लेकर गुजारा करती थी। आज उनकी तकदीर और तस्वीर दोंनो बदल गई है।
समूह की अध्यक्ष श्रीमती आराधना सिंह धाकड़ ने बताया कि पारिवारिक स्थिति अच्छी नहीं थी, इस कारण मन में तरह-तरह के ख्याल आते थे कि क्यों न कुछ रोजगार खोलकर पति के साथ सहयोगी बनूं। मुझे आजीविका मिशन के माध्यम से मार्गदर्शन मिला तो मेरे द्वारा 11 सदस्यीय ’’सांई कृपा स्व-सहायता समूह’’ का गठन 4 जनवरी 2020 को किया। धीरे-धीरे कोरोना काल में मास्क बनाकर आय प्राप्त होना शुरू हुई। कोरोना वायरस के दौरान 83 हजार मास्क बनाये। उन्हें बेचकर समूह की महिलाओं को 8 लाख 30 हजार रूपये की आय प्राप्त हुई।
मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री तरूण भटनागर के मार्गदर्शन में तथा मध्यप्रदेश राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन के डीपीएम श्री तोमर के सहयोग से सांई कृपा स्व-सहायता समूह ने पहाडगढ़ विकासखण्ड मुख्यालय पर दीदी कैफे (कैन्टीन) संचालन करने हेतु आदेशित किया। स्व सहायता समूह द्वारा मास्क की बचत राशि से कच्ची सामग्री खरीदकर समूह की अध्यक्ष श्रीमती आराधना सिंह धाकड़ ने दीदी कैफे (कैन्टीन) का संचालन करने कलेक्टर श्री अनुराग वर्मा के द्वारा दीदी कैफे कैन्टीन का शुभारंभ कराया। समूह द्वारा जनपद कार्यालय में अधिकारियों, कर्मचारियों की मांग पर चाय, समोसे, पकौडे आदि किफायती दाम पर उपलब्ध करा रही है। समूह को प्रतिदिन 250-400 रूपये की आय होना शुरू हो गई। समूह की अध्यक्ष श्रीमती आराधना सिंह धाकड़ ने बताया कि गठन से पहले ये गरीब परिवार की महिलाएं अपनी आवश्यकताओं की पूर्ती के लिये गांव के साहूकारो से कर्ज लेकर अपनी जीवन यापन कर रही थी। समूह में श्रीमती अनीता, रामस्वरूपी, सविता शाक्य, मीना, समीना, सुरक्षा, सावित्री, रेनू, सरस्वती, लीलावती धाकड़ आदि सभी महिलाओं की तकदीर बदल गई और अपने-अपने पतियों के साथ घर-गृहस्थी के खर्च में सहयोगी बन गई है।

निमोनिया जानलेवा हो सकता है बच्चों को निमोनिया से बचायें

चंबल | 20-नवम्बर-2020

स्वास्थ्य विभाग द्वारा एडवाइजरी जारी करते हुये बताया गया है कि ठंड ने दस्तक दे दी है। ऐसे में शून्य से 5 वर्ष तक के बच्चों में निमोनिया के संक्रमण से बचाव के लिये सावधानियों को अपनाना बेहद आवश्यक है। निमोनिया जानलेवा हो सकता है। निमोनिया के उपचार में देरी बच्चे के लिये खतरनाक हो सकती है। बच्चों में बुखार, खांसी, श्वास तेज चलना, पसली चलना अथवा पसली धंसना निमोनिया के लक्षण हैं। लक्षण दिखाई देने पर बच्चों को निमोनिया से उपचार के लिये तुरंत चिकित्सक अथवा निकटतम स्वास्थ्य केन्द्र में ले जायें।
स्वास्थ्य विभाग ने बच्चों को ठंड से बचाव के लिये अभिभावकों से आग्रह किया है कि बच्चों को दो-तीन परतों में गर्म कपडे पहनायें। ठंडी हवा से बचाव के लिये शिशु के कान को ढंके। तलुओं को ठंडेपन से बचाव के लिये बच्चों को गर्म मोजे पहनायें। निमोनिया के उपचार के लिये आवश्यक औषधियां अस्पतालों में निःशुल्क उपलब्ध हैं चिकित्सक के परामर्श अनुसार निमोनिया का पूर्ण उपचार लें।

बीहड़ की निशानेबाज बेटियां

चंबल| 17-जुलाई–2020

प्रदीप शर्मा/ : चंबल, बंदूक और डाकू. गुजरे जमाने में बीहड़ों की ये पहचान थी. बदलते वक्त के साथ ये पहचान बदल रही है. कम अस कम भिण्ड में तो ‘चंबल, बदूक और डाकू’ अब ‘चंबल, बंदूक और बेटियां’ हो गया है. वजह ये है कि बीहड़ की बेटियां बंदूक के शौक को करियर का विकल्प बना रही हैं.

भिण्ड के शासकीय उत्कृष्ट उच्च माध्यमिक विद्यालय क्रमांक 1 की छात्राएं अब एयर राइफल शूटिंग प्रतियोगिताओं में जिले को नई पहचान दिलाने में जुटी हैं. हाल ही में जिले की 21 बेटियों ने राइफल और पिस्टल शूटिंग में राज्य स्तर की प्रतियोगिता में अपना लोहा मनवा लिया. इन बेटियों का लक्ष्य देश के लिए गोल्ड जीतना है.हालांकि उनके लिए जो सरकारी योजनाएं चलाई जा रही हैं, उनकी जानकारी तक उन्हें नही मिलती. खेल विभाग का रवैया उदासीन है लेकिन लड़कियों के हौसले बुलंद हैं.

विदाई के बाद लौट रही थी बारात, चंबल नदी के पुल पर दुल्हन ने उल्टी के बहाने रुकवाई कार और फिर…

चंबल| 19-जून-2020

जिले में शादी के बाद 20 वर्षीय एक दुल्हन रविवार सुबह ससुराल जाने के दौरान कथित रूप से एक पुल से चंबल नदी में कूद गई. उसे नदी में ढूढा जा रहा है. सामरसा चौकी प्रभारी ब्रजराज यादव ने बताया कि यह घटना रविवार सुबह छह बजकर 40 मिनट पर राजस्थान-मध्यप्रदेश की सीमा पर पाली पुल पर उस वक्त हुई, जब यह दुल्हन विदाई के बाद राजस्थान के अलापुर गांव से मध्यप्रदेश के श्योपुर जिले के साडा का पाड़ा गांव अपने दूल्हे के साथ ससुराल आ रही थी.

उन्होंने बताया कि इस दुल्हन की शादी शनिवार रात को हुई थी और शादी के बाद रविवार सुबह छह बजे दुल्हन के पिता ने बारात को विदा किया. जैसे ही दूल्हा-दुल्हन की कार पाली पुल के बीचोंबीच आई तो दुल्हन ने उल्टी आने की बात कहकर कार रोकने को कहा. ड्राइवर ने तत्काल कार नहीं रोकी तो दुल्हन ने स्टीयरिंग पकड़कर कार रुकवा दी और वाहन से उतरकर चंबल नदी में छलांग लगा दी. यादव ने बताया, ‘महिला की तलाश जारी है.’

इस घटना से आहत हुए दुल्हन के पिता ने बताया कि पूरी शादी अच्छी तरह से सम्पन्न हुई और हमने बारात विदा की, लेकिन करीब आधे घंटे बाद ही यह दुखद सूचना मिली

बैठक के दौरान मोबाइल बजने पर 500 रूपये का किया फाईन

 |10-फरवरी-2020
    कलेक्टर श्रीमती प्रियंका दास टाइम लिमिट बैठक की समीक्षा कर रहीं थी, इसी दौरान मुख्य नगर पालिका अधिकारी श्री रामप्रकाश जगनेरिया के मोबाइल की घण्टी बजी और वे धीमी आवाज में बात करने लगे, कलेक्टर ने बात को सुन लिया और उन्होंने तत्काल 500 रूपये रेडक्रॉस में जमा करने तथा मोबाइल बैठक के दौरान स्टेनो पर जमा करने के निर्देश दिये।

मध्यप्रदेश को प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में मिले चार राष्ट्रीय पुरस्कार

भिण्ड | 21-दिसम्बर-2019

मध्यप्रदेश को प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में उत्कृष्ट कार्य के लिए भारत सरकार के ग्रामीण विकास मंत्रालय ने चार राष्ट्रीय अवॉर्ड प्रदान किये हैं। केन्द्रीय ग्रामीण विकास मंत्री श्री नरेन्द्र सिंह तोमर से गुरूवार शाम नई दिल्ली में राष्ट्रीय कृषि विज्ञान केन्द्र में आयोजित समारोह में एम.पी.आर.आर.डी.ए. के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री उमाकांत उमराव को ये पुरस्कार प्रदान किये।
    मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री उमराव ने बताया कि प्रदेश को प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना में कराये गये कार्यो की उत्तम गुणवत्ता के लिए देश में प्रथम, सड़क मार्गो के संधारण कार्य के लिये प्रथम अधिकतम लंबाई की सड़कों के निर्माण के लिए तृतीय और इनोवेटिव टेक्नोलॉजी के उपयोग के लिए तृतीय पुरस्कार मिला है।
पुरस्कार समारोह में केन्द्रीय ग्रामीण विकास राज्य मंत्री साध्वी निरंजन ज्योति, सचिव ग्रामीण विकास श्री अमरजीत सिन्हा, अपर सचिव श्रीमती अलका उपाध्याय तथा एम.पी.आर.आर.डी.ए. के प्रमुख अभियंता श्री पी.के. निगम उपस्थित थे।

पंचायतों की प्रारुप मतदाता सूची का प्रकाशन 13 नवम्बर को होगा

श्योपुर | 18-अक्तूबर-2019

राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार पंचायतों की फोटोयुक्त मतदाता सूची का वार्षिक पुनरीक्षण-2019 के फोटो प्रारूप मतदाता सूची का प्रकाशन ग्राम पंचायत एवं निर्धारित स्थानों पर 13 नवम्बर को किया जाएगा।
जिला पंचायत के सीईओ श्री हर्ष सिंह ने बताया कि राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जारी कार्यक्रम के अनुसार पंचायतों की फोटोयुक्त मतदाता सूची के वार्षिक पुरीक्षण के संशोधित कार्यक्रम के अनुसार प्रथम चरण में कन्ट्रोल टेबल का वेरीफिकेशन, अपडेशन, मतदान केन्द्रों का युक्तियुक्तकरण और द्वितीय चरण में प्रारुप मतदाता सूची तैयार करने की कार्यवाही की जाएगी।
इसी प्रकार रजिस्ट्रीकरण अधिकारियों द्वारा फोटोयुक्त प्रारुप मतदाता सूची का सार्वजनिक प्रकाशन 13 नवम्बर को ग्राम पंचायत एवं निर्धारित स्थानों पर कराया जायेगा। इसी के साथ दावा आपत्तियों को लिये जाने का सिलसिला प्रारंभ होगा, जो 21 नवम्बर तक चलेगा। दावा आपत्तियों का निराकरण 27 नवम्बर तक किया जाएगा। इसके अतिरिक्त 13 से 18 नवम्बर के मध्य स्टैण्डिंग कमेटी की बैठकों का आयोजन होगा। फोटोयुक्त अंतिम मतदाता सूची का ग्राम पंचायत तथा अन्य निर्धारित स्थानों पर सार्वजनिक प्रकाशन 16 दिसम्बर 2019 को किया जाएगा।

65 आशा कार्यकर्ताओं का चयन तत्काल प्रभाव से समाप्त

चंबल | 11-अक्तूबर-2019

जिला स्तर से नियम विरूद्ध चिन्हांकित की गई दोषपूर्ण होकर गंभीर अनियमितता पाये जाने पर कलेक्टर एवं जिला स्वास्थ्य समिति की अध्यक्ष श्रीमती प्रियंका दास ने जिले की 65 चिन्हांकन हेतु चयन की गई आशा कार्यकर्ताओं का चयन तत्काल प्रभाव से निरस्त समाप्त कर दिया है।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. विनोद गुप्ता ने बताया कि विकासखण्ड अम्बाह की 14, मुरैना (नूरावाद) में चयन की गई 26, अम्बाह (खड़ियाहार) में चयन की गई 11, जौरा में चयन की गई 10, पहाड़गढ़ में चयन की गई 2, सबलगढ़ और पोरसा में चयन की गई 1-1 आशा कार्यकर्ताओं का चयन समाप्त किया गया है।

उर्वरकों के नमूने अमानक पाये जाने पर विक्रय, भण्डारण एवं स्थानान्तरण तत्काल प्रभाव से रोक

चंबल | 05-अक्तूबर-2019

उर्वरकों गुण नियंत्रण आदेश 1985 की धारा 26 के तहत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुये उर्वरक पंजीयन एवं उप संचालक कृषि श्री पी.सी. पटेल ने आईएफएफडीसी कृषक सेवा केन्द्र कैलारस के उर्वरकों का परीक्षण कराया गया। जिसमें अमानक पाये जाने पर क्रय विक्रय एवं भण्डारण तत्काल प्रभाव से रोक लगा दी है।

कमिश्नर ने दत्तपुरा में चलाया सफाई अभियान

चंबल | 27-सितम्बर-2019

’’मैं हूं कबाड़ी सफाई अभियान गुरूवार को दत्तपुरा मोहल्ला के भरोषी की धर्मशाला और हाकिम पहलवान वाली गली में चलाया गया। चम्बल कमिश्नर श्रीमती रेनू तिवारी सहित शहर के गणमान्य नागरिक, समाजसेवियो ने सफाई अभियान मे सहयोग प्रदान किया। इस अवसर पर चम्बल कमिश्नर ने समाजसेवी डॉ. संजय शर्मा के पिता का श्राद्ध होने के उपलक्ष में सफाई कर्मचारियों को एक-एक टॉविल और साबुन प्रदान किया। इस अवसर पर समाजसेवी आशा सिकरवार, डॉ. संजय शर्मा, श्री विक्रम मुदगल सहित बैंको के अधिकारी, कर्मचारी मौजूद थे।

अतिवृष्टि से खराब हुई सड़कों को सुधारने की कार्यवाही करें : प्रमुख सचिव गृह श्री मिश्रा

चंबल | 20-सितम्बर-2019

प्रमुख सचिव गृह श्री एस.एन. मिश्रा ने निर्देश दिये हैं कि प्रदेश में अतिवृष्टि के कारण बड़ी-छोटी नदियों के पुल-पुलियों से पानी उतरने पर खराब हुई सड़कों को सुधारने की कार्यवाही सड़क निर्माण एजेन्सी द्वारा शुरू की जाये। सुरक्षा की दृष्टि से पुल-पुलिया को भी बारीकियों से देख लिया जाये कि वो क्षतिग्रस्त नहीं हुई हो। पुल-पुलियों के क्षतिग्रस्त होने या उनमें दरार आने पर आवश्यक सुधार कार्य तत्काल कराये जायें। श्री मिश्रा ने आज मंत्रालय में राज्य सड़क सुरक्षा क्रियान्वयन समिति की बैठक में यह निर्देश दिये।
प्रमुख सचिव श्री मिश्रा ने कहा कि यातायात नियमों के उल्लंघन के मामलों में ड्रायविंग लायसेंस निलम्बन की कार्रवाई के लिये लायसेंस नम्बर के साथ पूरी सूची परिवहन विभाग को उपलब्ध करायें। यह कार्यवाही पूरे प्रदेश में की जाये। बताया गया कि इस वर्ष अभी तक लगभग 5726 ड्रायविंग लायसेंस निलम्बित किये गये हैं। पहले 6 माह में 306 फिटनेस निलम्बन और 408 ओव्हर लोडिंग वाहन के विरुद्ध कार्यवाही की गई है। श्री मिश्रा ने कहा कि एक स्थान पर दो या दो से अधिक दुर्घटना होने पर कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक, जिला परिवहन अधिकारी और लोक निर्माण विभाग के अधिकारी आवश्यक रूप से स्थल निरीक्षण करें। बताया गया कि स्कूली बच्चों की सुरक्षा के लिये स्कूल बस पॉलिसी भी बनाई गई है।
प्रमुख सचिव ने निर्देश दिये कि 20 से 25 प्रतिशत दुर्घटनाओं वाले जिलों में दुर्घटना रोकने के लिये विशेष प्रयास किये जायें। श्री मिश्रा ने लीड एजेन्सी में नोडल अधिकारियों की उपस्थिति सुनिश्चित करने को कहा। बताया गया कि प्रदेश में 44 स्थानों पर ट्रॉमा सेन्टर बनाये गये हैं। जिला चिकित्सालयों को भी ट्रॉमा सेन्टर के रूप में उपयोग किया जा रहा है। प्रमुख सचिव ने एम्बुलेंसो को दो चरणों में एकीकृत/केन्द्रीयकृत करने के निर्देश दिये।
बैठक में विशेष पुलिस महानिदेशक श्री महान भारत सागर और परिवहन आयुक्त श्री शैलेन्द्र श्रीवास्तव उपस्थित थे।

“वाइल्ड विजडम क्विज 2019” के लिये पंजीयन 15 सितम्बर तक

चंबल | 14-सितम्बर-2019

विश्व प्रकृति निधि भारत (डब्लूडब्लूएफ) द्वारा युवाओं में पर्यावरण चेतना जागृत करने के उद्देश्य से एशिया का सबसे बड़ा “वाइल्ड विजडम क्विज 2019” किया जा रहा है। स्कूली विद्यार्थियों के लिये प्रतियोगिता तीन वर्गों में आयोजित की जा रही है। प्रतियोगिता की थीम “अपने ग्रह की खोज” है। क्विज में पंजीयन की अंतिम तिथि 15 सितम्बर है।
विद्यालय http://quiz.wwfindia.org/wwq/senior.aspx लिंक पर जाकर पंजीयन कर सकते हैं। राज्य स्तर की प्रतियोगिता अक्टूबर, में भोपाल में होगी। राज्य स्तर की विजेता टीम राष्ट्रीय स्तर पर नवम्बर में दिल्ली में क्विज में भाग लेंगी। यह क्विज गत 12 वर्षों से निरंतर की जा रही है। क्विज में इस वर्ष सिर्फ भारत ही नहीं बल्कि पूरे एशिया पैसिफिक रीजन, युनाइटेड किंगडम, साउथ अमेरिका, नेपाल और भूटान सहित 7 देशों के लगभग 70 हजार विद्यार्थी और 11 हजार स्कूल के भाग लेने की संभावना है।

अवैध परिवहन रोकने बनाए नाकों से पहले ही वाहनों से माल उतार रहा माफिया, कार्रवाई के डर से रेत खदान से भागे ट्रक

चंबल| 31-अगस्त-2019

चंबल पुल से पहले वाहनों को अंडरलोड कर रहे,ताकि यूपी में कार्रवाई से बच सके।जिले में रेत अाैर गिट्‌टी के अवैध परिवहन को रोकने के लिए जिले में छह नाके शुरू किए गए हैं, लेकिन माफिया ने नाकाें से पहले ही वाहनों काे अंडरलोड करना (माल कम करना) शुरू कर दिया है। खास बात यह है कि अभी तक भिंड इटावा रोड पर चंबल पुल से पहले वाहनों को अंडरलोड कर रहा था ताकि यूपी में आरटीओ की सख्त कार्रवाई से बच सके। अब यह भिंड जिले में होना शुरू हो गया है। वहीं नाकों की वजह से कई लोगों ने अपने वाहन ही खड़े कर दिए हैं। बुधवार को स्थिति यह रही कि लहार क्षेत्र की खदानों से रेत भरने आए एक सैकड़ा से ज्यादा ट्रक कार्रवाई के डर से वापस यूपी की ओर भागे, जिससे सड़क पर इन ट्रकों की लंबी कतार लग गई।
जिले में रेत का अवैध उत्खनन और परिवहन इतने चरम पर पहुंच गया कि सामान्य प्रशासन मंत्री डॉ. गोविंद सिंह को सार्वजनिक रूप से बोलना पड़ा कि प्रदेश सरकार इस पर अंकुश लगाने में असफल हुई है। उन्होंने पुलिस के थानास्तर से लेकर चंबल आईजी तक पर इसमें संलिप्त होने के आरोप भी लगाए। इसके बाद चंबल आईजी डीपी गुप्ता ने जिले में छह मार्गों पर नाके लगाकर अवैध परिवहन रोकने के आदेश दे दिए, लेकिन अब रेत माफिया ने कार्रवाई के डर से नाकों से पहले ही ट्रैक्टर ट्राॅलियों व ट्रकों को अंडरलोड करना शुरू कर दिया है।

पुराना पुल छूकर निकली चंबल…जिले के 40 से अधिक गांव डूबे, संपर्क टूटा

चंबल| 27-अगस्त-2019

दो दिन में कोटा बैराज से छोड़ा गया 2 लाख क्यूसेक से अधिक पानी चंबल नदी में पहुंचना शुरू हो चुका है। चंबल का जलस्तर इतना बढ़ गया है कि नदी का पानी पुराने पुल के ऊपरी सतह को छूकर निकलने लगा है। शनिवार को लोग चंबल नदी के नए पुल पर नदी का जलस्तर देखने को पहुंचने लगे। वहीं कोटा बैराज से 14 और 15 अगस्त को छोड़े गए एक लाख क्यूसेक पानी से नदी का जलस्तर खतरे के निशान से 10.51 मीटर ऊपर पहुंचने से राजाखेड़ा, बसईडांग, सरमथुरा के तकरीबन 40 गांवों का मुख्य सड़कों से सम्पर्क टूट गया।

जहां-जहां पानी में गांव घिरे दिखाई दिए। वहां के लोग या तो पैदल गांव से निकलते हुए दिखाई दिए या फिर खुद ट्यूबों व नावों की सहायता से गांव से पलायन करते नजर आए। वहीं बसईडांग क्षेत्र में गांवों के पानी से घिर के बाद बाड़ी एसडीएम सुमन चौधरी के साथ बाड़ी सीओ श्योराजमल मीना और बसईडांग थाना प्रभारी हीरालाल ने करुआपुरा, मुतावली सहित आधा दर्जन से अधिक गांवों का निरीक्षण किया। जिले भर के 40 से अधिक गांवों के पानी से घिर जाने के साथ ही गांवों में हजारों बीघा में खड़ी हुई बाजरे की फसल बर्बाद हो गई। कोटा बैराज से शनिवार सुबह साढ़े 8 बजे छोड़ा गया एक लाख 13 हजार क्यूसेक पानी भी रविवार सुबह तक धौलपुर पहुंच जाएगा। जिससे निचले स्तर के गांव डूबने की कगार पर पहुंच सकते हैं। 15 अगस्त के अंक में भास्कर ने जिला प्रशासन के अलर्ट से पहले कोटा बैराज से छोड़े गए पानी की सूचना दी थी। जिसमे भास्कर ने 36 घंटों में पानी के धौलपुर पहुंचने की बात कही थी। कोटा पीआरओ हरिओम गुर्जर ने बताया कि शनिवार के बाद अभी पानी नहीं छोड़ा गया है।

निगम के सफाई कर्मचारियों की हड़ताल समाप्त करने हेतु चम्बल संभाग की कमिश्नर श्रीमती रेनू तिवारी ने किये प्रयास 

मुरैना | 06-अगस्त-2019

 पिछले 4 दिनों से नगर निगम के सफाई कर्मचारियों द्वारा की जा रही हड़ताल के कारण मुरैना शहर में फैल रही गंदगी को लेकर चम्बल संभाग की कमिश्नर श्रीमती रेनू तिवारी ने सोमवार को नगर निगम आयुक्त श्री मूलचन्द्र वर्मा द्वारा हड़ताल को समाप्त नहीं करवा पाने पर अप्रशंसा व्यक्त की है। उन्होनें तत्काल ए.डी.एम श्री एसके मिश्रा को सफाई कर्मचारियों की हड़ताल वापस कराने के लिये सामंजस्य बनाने, उनके बीच मध्यस्थता करने के लिये भेजा। इस पर ए.डी.एम श्री मिश्रा द्वारा पूरे प्रयास किये गये कि सफाई कर्मचारी हड़ताल समाप्त कर दें। इस पर कई कर्मचारियों ने हड़ताल वापस लेने का आश्वासन दिया है। मंगलवार से सफाई वाहन चालक अपने वाहन चलायेगें और घर-घर जाकर कचरा एकत्रित करेंगे। नगर निगम की परिषद की बैठक में भी सफाई कर्मचारियों की हड़ताल समाप्त करने के प्रयास किये गये है।
चम्बल संभाग की कमिश्नर श्रीमती तिवारी ने सभी सफाई कर्मचारियों से हड़ताल समाप्त कर अपने कार्य पर वापस आने को कहा है। उन्होनें यह भी कहा है कि जो लोग सफाई कर्मचारियों को बेकाह रहे है उनके खिलाफ अनुशासनात्मक कार्यवाही की जायेगी। उन्होनें हड़ताल समाप्त कराने के लिये अन्य वरिष्ठ अधिकारियों से भी चर्चा की है।

चंबल के बीहड़ों में इस एक्टर के साथ घूम रही भूमि पेडनेकर, कुछ ऐसा करने की है तैयारी

चंबल-26-जुलाई-2019

फिल्म की शूटिंग शुरू हो गई है. ‘इश्किया’, ‘डेड़ इश्किया’ और ‘उड़ता पंजाब’ जैसी फिल्में बनाने वाले डायरेक्टर अभिषेक चौबे इसे डायरेक्ट कर रहे हैं, और फिल्म चंबल आधारित है. इसलिए इसकी पूरी शूटिंग चंबल में होगी. जिसके लिए इसकी पूरी टीम चंबल पहुंच चुकी है. सुशांत और भूमि दोनों ने ही अपने सोशल मीडिया एकाउंट्स पर फिल्म की शूटिंग शुरू होने की जानकारी दे दी है, चंबल के बीहड़ों की तस्वीरें भी भेजी हैं, जहां अगले कुछ दिन उन्हें फिल्म की शूटिंग को अंजाम देना है.