Friday, August 23News That Matters

छिन्दवाड़ा

Share

जिले के नगरीय निकायों के आम निर्वाचन की मतदाता सूची के पर्यवेक्षण के लिये श्री भट्ट प्रेक्षक नियुक्त

प्रेक्षक के लायजन अधिकारी और सहयोगी कर्मचारी भी नियुक्त 

छिन्दवाड़ा | 16-अगस्त-2019

म.प्र.राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा जिले के नगरीय निकायों के आम निर्वाचन की मतदाता सूची के पर्यवेक्षण के लिये राज्य प्रशासनिक सेवा के सेवानिवृत्त अधिकारी श्री जे.सी.भट्ट को प्रेक्षक नियुक्त किया गया है । प्रेक्षक श्री भट्ट का मोबाईल नंबर 9425188161 है तथा वे छिन्दवाड़ा में 20 से 22 अगस्त तक भ्रमण के दौरान सर्किट हाउस छिन्दवाड़ा में ठहरेंगे एवं मतदाता सूची के कार्यो के व्दितीय चरण का पर्यवेक्षण करेंगे । कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी (स्थानीय निर्वाचन) डॉ.श्रीनिवास शर्मा द्वारा प्रेक्षक की विभिन्न व्यवस्थाओं के लिये लायजन अधिकारी और सहयोगी कर्मचारियों की नियुक्ति की गई है।
उप जिला निर्वाचन अधिकारी (स्थानीय निर्वाचन) ने बताया कि नगर पालिक निगम के उपयंत्री श्री अशोक पांडे को प्रेक्षक का लायजन आफिसर तथा म.प्र.पूर्व क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी के अधीक्षक यंत्री कार्यालय के श्री संतोष सूर्यवंशी और म.प्र.सड़क विकास प्राधिकरण पी.आई.यू.-2 के कम्प्यूटर ऑपरेटर श्री राकेश ठाकुर को सहयोगी कर्मचारी नियुक्त किया गया है । नियुक्त कर्मचारियों को प्रेक्षक की अगवानी, आवास व अन्य व्यवस्था का समन्वय करने, प्रेक्षक को फोटोयुक्त मतदाता सूची संबंधी सभी जानकारी उपलब्ध कराने, प्रेक्षक के भ्रमण के समय हमेशा उनके साथ रहने और प्रेक्षक द्वारा फोटोयुक्त मतदाता सूची तैयार करने के संबंध में सौंपे गये सभी कार्यो का संपादन करने के निर्देश दिये गये हैं ।

आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के अंतर्गत शिविर की तिथि और स्थल परिवर्तित 

छिन्दवाड़ा | 06-अगस्त-2019

राज्य शासन की महत्वाकांक्षी योजना “आपकी सरकार आपके द्वार” कार्यक्रम के अंतर्गत कलेक्टर डॉ.श्रीनिवास शर्मा द्वारा माह अगस्त में आयोजित शिविर की तिथि और स्थल में परिवर्तन किया गया हैं। अब जिले के सौंसर विकासखंड के ग्राम सवरनी में 22 अगस्त को आयोजित शिविर के स्थान पर इस विकासखंड के ग्राम रामाकोना में 25 अगस्त को शिविर का आयोजन किया गया है। कार्यक्रम के प्रथम चरण में संबंधित विकासखंड के एक ग्राम का प्रात: 9 से दोपहर एक बजे तक भ्रमण किया जायेगा और दोपहर 2 बजे से विकासखंड स्तरीय शिविर आयोजित होगा।

 

छिन्दवाड़ा में शालेय स्वच्छता-समस्या एवं समाधान पर कार्यशाला 30 जुलाई को

विभिन्न विभागों की योजनाओं की भी होगी समीक्षा बैठक 

छिन्दवाड़ा | 26-जुलाई-2019

जबलपुर संभाग के कमिश्नर श्री राजेश बहुगुणा की अध्यक्षता में जबलपुर संभाग के सभी जिलों में आयोजित की जा रही कार्यशाला और बैठक की श्रृंखला में छिन्दवाड़ा जिले में आयोजित कार्यशाला और बैठक की तिथि में पुन: आंशिक संशोधन किया गया हैं। अब आगामी 5 अगस्त के स्थान पर 30 जुलाई को प्रात: 11:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक छिन्दवाड़ा जिला मुख्यालय पर शालेय स्वच्छता-समस्या एवं समाधान पर कार्यशाला का आयोजन किया गया हैं। इसके अलावा वन व्यवस्थापन के प्रकरणों, राजस्व कार्यों और विभिन्न विभागों की जनकल्याणकारी योजनाओं की समीक्षा बैठक भी होगी। कलेक्टर डॉ.श्रीनिवास शर्मा ने मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, पूर्व, पश्चिम व दक्षिण वनमंडलाधिकारी, अपर कलेक्टर, सभी विभाग प्रमुख अधिकारी, सभी राजस्व अनुविभागीय अधिकारी, जिला शिक्षा अधिकारी और जिला परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केंद्र को कार्यशाला और बैठक के एजेंडा के अनुसार सभी व्यवस्थायें सुनिश्चित करने, अपने विभाग से संबंधित बिंदुओं पर संक्षिप्त टीप तैयार कर 26 जुलाई तक अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराने और अपने अधीनस्थ सभी विभागीय अधिकारियों को अपने स्तर से कार्यशाला और बैठक की सूचना देने के निर्देश दिये हैं।
कलेक्टर डॉ.शर्मा ने बताया कि छिन्दवाड़ा जिला मुख्यालय पर 30 जुलाई को प्रात: 10:30 से दोपहर 12:30 बजे तक शालेय स्वच्छता-समस्या एवं समाधान पर कार्यशाला आयोजित होगी। इसी प्रकार दोपहर 2 से 3 बजे तक वन व्यवस्थापन की समीक्षा, दोपहर 3 से 3:45 बजे तक राजस्व कार्यो की समीक्षा और दोपहर 3:45 से शाम 5:30 बजे तक विभागीय योजनाओं की समीक्षा की जायेगी। उन्होंने मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत को निर्देश दिये कि जिले की सभी जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों और स्वच्छ भारत मिशन के सभी विकासखंड समन्वयकों को और जिला परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केंद्र को निर्देश दिये है कि जिले के सभी विकासखंड शिक्षा अधिकारियों, विकासखंड स्त्रोत समन्वयकों और सर्व शिक्षा अभियान के सभी जनशिक्षकों को शालेय स्वच्छता-समस्या एवं समाधान पर कार्यशाला के संबंध में सूचित करें। उन्होंने पूर्व, पश्चिम व दक्षिण वनमंडलाधिकारी को निर्देश दिये है कि वन व्यवस्थापन प्रकरणों की समीक्षा बैठक के संबंध में सभी वन अनुविभागीय अधिकारियों और वन परिक्षेत्र अधिकारियों को अपने स्तर से सूचित करें। उन्होंने अतिरिक्त कलेक्टर को राजस्व कार्यों की समीक्षा बैठक और मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत को विभिन्न विभागों की जनकल्याणकारी योजनाओं की समीक्षा बैठक की व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश भी दिये हैं।

एक कर्मचारी दंडित 

छिन्दवाड़ा | 23-जुलाई-2019

सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग श्री एन.एस.बरकडे द्वारा जिले के तामिया विकासखंड के शासकीय प्राथमिक शाला दौरियाखेड़ा के सहायक शिक्षक श्री डी.के.भारती के विरूद्ध सी.एम.हेल्प लाईन से प्राप्त शिकायत की जांच में आरोप पत्र के स्पष्टीकरण में समाधानकारक उत्तर प्राप्त नहीं होने पर श्री भारती का कृत्य नियमों के विपरित होकर कदाचरण की श्रेणी में आने पर श्री भारती की एक वेतनवृद्धि असंचयी प्रभाव से रोकी जाकर उनकी निलंबन अवधि को मान्य कर निलंबन से बहाल करते हुये शासकीय माध्यमिक शाला कुमड़ी में पदस्थ किया जाकर विभागीय जांच प्रकरण समाप्त कर दिया गया है।

छिन्दवाड़ा में शालेय स्वच्छता-समस्या एवं समाधान पर कार्यशाला तथा विभिन्न विभागों की योजनाओं की समीक्षा बैठक का आयोजन 25 जुलाई को 

छिन्दवाड़ा | 12-जुलाई-2019

जबलपुर संभाग के कमिश्नर श्री राजेश बहुगुणा की अध्यक्षता में जबलपुर संभाग के सभी जिलों में आयोजित की जा रही कार्यशाला और बैठक की श्रृंखला में आगामी 25 जुलाई को प्रात: 11:30 बजे से शाम 5:30 बजे तक छिन्दवाड़ा जिला मुख्यालय पर शालेय स्वच्छता-समस्या एवं समाधान पर कार्यशाला के साथ ही वन व्यवस्थापन के प्रकरणों, राजस्व कार्यों और विभिन्न विभागों की जनकल्याणकारी योजनाओं की समीक्षा बैठक आयोजित की गई हैं। संभागीय कमिश्नर श्री बहुगुणा ने मुख्य वन संरक्षक, कलेक्टर और मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत के साथ ही जबलपुर संभाग के संयुक्त संचालक लोक शिक्षण को निर्देश दिये है कि इस कार्यशाला और बैठक के संबंध में सभी संबंधितों को उपस्थित रहने, अधीनस्थों को सूचित करने और बैठक संबंधी सभी व्यवस्थायें सुनिश्चित करने के लिये निर्देशित करें।
संभागीय कमिश्नर श्री बहुगुणा ने बताया कि छिन्दवाड़ा जिला मुख्यालय पर 25 जुलाई को प्रात: 10:30 से दोपहर 12:30 बजे तक शालेय स्वच्छता-समस्या एवं समाधान पर कार्यशाला आयोजित होगी। इस कार्यशाला में कलेक्टर, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत, जिला शिक्षा अधिकारी, जिला परियोजना समन्वयक जिला शिक्षा केंद्र, जिला समन्वयक स्वच्छ भारत मिशन, सभी राजस्व अनुविभागीय अधिकारी, सभी जनपद पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी, सभी विकासखंड शिक्षा अधिकारी, सभी विकासखंड स्त्रोत समन्वयक, सभी जनशिक्षक और सभी विकासखंड समन्वयक स्वच्छ भारत मिशन एवं जिले के विभिन्न समाचार पत्रों व इलेक्ट्रानिक मीडिया के पत्रकार उपस्थित रहेंगे। इसी प्रकार दोपहर 2 से 3 बजे तक वन व्यवस्थापन की समीक्षा होगी जिसमें मुख्य वन संरक्षक, कलेक्टर, ट्यूटोरियल वनमंडलाधिकारी, वन अनुविभागीय अधिकारी, वन परिक्षेत्र अधिकारी, अपर कलेक्टर और सभी राजस्व अनुविभागीय अधिकारी उपस्थित रहेंगे। उन्होंने बताया कि दोपहर 3 से 3:45 बजे तक राजस्व कार्यो की समीक्षा की जायेगी जिसमें कलेक्टर, अपर कलेक्टर और सभी राजस्व अनुविभागीय अधिकारी उपस्थित रहेंगे तथा दोपहर 3:45 से शाम 5:30 बजे तक विभागीय योजनाओं की समीक्षा की जायेगी जिसमें सभी विभागों के जिला अधिकारी उपस्थित रहेंगे

बढ़ती धूप की तपन से सावधान रहने की सलाह

छिन्दवाड़ा | 06-जून-2019  स्वास्थ्य विभाग द्वारा आम जन को बढ़ती धूप की तपन से सावधान रहने और लू से बचाव की सलाह दी गई है। साथ ही लू लगने पर प्राथमिक उपचार कराने और विभिन्न सावधानियां बरतने के लिये कहा गया है।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.जे.एस.गोगिया ने बताया कि वर्तमान में गर्मी में तापमान में वृद्धि देखी जा रही है जिससे अनेक प्रकार की बीमारियों की संभावना प्रबल हो जाती है। ऐसी स्थिति में बढ़ती धूप की तपन से सावधान रहने और लू से  बचने के लिये सावधानियां बरतते हुये गर्मी के दिनों में धूप में बाहर जाते समय हमेशा सफेद या हल्के रंग के ढीले कपडों का प्रयोग करे। भरपेट भोजन करके व पानी पीकर ही बाहर निकले। हमेशा ताजा भोजन, फल, सलाद और सब्जियां खायें एवं मिर्च मसालेयुक्त भोजन नहीं करें। गर्मी के मौसम में गर्दन के पिछले भाग, कान व सिर को गमछे या तौलिये से ढककर ही धूप में निकलें। धूप में रंगीन चश्में व छतरी का प्रयोग कर सकते है। गर्मी में हमेशा पानी अधिक मात्रा में पिये। जहां तक संभव हो सके ज्यादा समय धूप में खडे होकर व्यायाम, मेहनत व अन्य कार्य न करें। नींबू पानी, आम की कैरी का पना, शिंकजी या मठा अधिक से अधिक पिये। धूप में घूमने वाले व्यक्ति नमक व शक्कर युक्त कोई तरल पदार्थ या ओ.आर.एस.घोल का अधिक सेवन करें।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.गोगिया ने सलाह दी है कि‍ धूप में खाली पेट नहीं निकलें और शरीर में पानी की कमी नहीं होने दें। बुखार में शरीर का तापमान नहीं बढ़ने दें और आवश्यकता के अनुसार ठंडे पानी की पट्टी रखें। कूलर या एयर कंडीशनर से धूप में एकदम नहीं निकलें। उन्होंने लू या तापघात से प्रभावित होने पर प्राथमिक उपचार के बारे में जानकारी देते हुये कहा कि लू लगने पर रोगी को तुरंत ही छायादार जगह पर कपडे ढीले कर लेटा दें और हवा करें। रोगी के होश में आने की दशा में प्याज का रस अथवा जौ का आटा भी ताप नियंत्रण के लिये मला जा सकता है। रोगी को पेय पदार्थ, जीवन रक्षक घोल (ओ.आर.एस.), कच्चे आम का पना आदि पिलायें। रोगी के शरीर का ताप कम करने के लिये यदि संभव हो तो उसे ठंडे पानी से स्नान कराये या उसके शरीर पर ठंडे पानी की पट्टियां रखकर पूरे शरीर को ढक दें। इस प्रक्रिया को तब तक दोहराये जब तक शरीर का ताप कम नहीं हो जाता। इस उपचार से भी यदि मरीज ठीक नहीं होता है तो उसे तत्काल निकट के चिकित्सा केंद्र में पहुँचायें।