Friday, August 23News That Matters

टीकमगढ़

Share

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ भोपाल में करेंगे ध्वजारोहण 

मंत्रि-परिषद के सदस्य 28 जिलों फहराएंगे राष्ट्रीय ध्वज 

टीकमगढ़ | 09-अगस्त-2019

 मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर 15 अगस्त को भोपाल में राज्य स्तरीय समारोह में राष्ट्रीय ध्वज फहरायेंगे। मंत्रि-परिषद के सदस्य 28 जिलों में ध्वजारोहण करेंगे। विधानसभा अध्यक्ष श्री नर्मदा प्रसाद प्रजापति नरसिंहपुर जिले में और विधानसभा उपाध्यक्ष सुश्री हिना लिखीराम कांवरे बालाघाट जिले में स्वतंत्रता दिवस समारोह में ध्वजारोहण करेंगे। शेष 21 जिलों में कलेक्टर ध्वजारोहण करेंगे। स्वतंत्रता दिवस समारोह में ध्वजारोहण के बाद प्रदेश की जनता के नाम मुख्यमंत्री के संदेश का वाचन होगा।
मंत्रि-परिषद के सदस्य डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ खण्डवा, श्री सज्जन सिंह वर्मा देवास,  श्री हुकुम सिंह कराड़ा शाजापुर, डॉ. गोविंद सिंह भिण्ड, श्री बाला बच्चन बड़वानी, श्री आरिफ अकील सीहोर, श्री बृजेन्द्र सिंह राठौर निवाडी, श्री प्रदीप जायसवाल सिवनी, श्री लाखन सिंह यादव ग्वालियर, श्री तुलसीराम सिलावट इंदौर, श्री गोविंद सिहं राजपूत टीकमगढ, श्रीमती इमरती देवी दतिया, श्री ओमकार सिंह मरकाम डिण्डोरी, डॉ. प्रभुराम चौधरी रायसेन,  श्री प्रियव्रत सिंह राजगढ और श्री सुखदेव पांसे बैतूल में राष्ट्रीय ध्वज फहरायेंगे।
मंत्री श्री उमंग सिंघार धार, श्री हर्ष यादव सागर, श्री जयवर्धन सिंह आगर मालवा,  श्री जीतू पटवारी उज्जैन, श्री कमलेश्वर पटेल सीधी, श्री लखन घनघोरिया रीवा, श्री महेन्द्र सिंह सिसोदिया गुना, श्री पी.सी. शर्मा होशंगाबाद, श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर शिवपुरी, श्री सचिन सुभाष यादव खरगोन, श्री सुरेन्द्र सिंह बघेल झाबुआ और श्री तरूण भनोत जबलपुर में स्वतंत्रता दिवस समारोह में ध्वजारोहण करेंगे।
प्रदेश के 21 जिलों में स्वतंत्रता दिवस समारोह में कलेक्टर ध्वजारोहण करेंगे और मुख्यमंत्री के संदेश का वाचन करेंगे। ये जिले हैं श्योपुर, मुरैना, अशोकनगर, रतलाम, मंदसौर, नीमच, अलीराजपुर, बुरहानपुर, विदिशा, हरदा, दमोह, पन्ना, छतरपुर, कटनी, छिंदवाडा , शहडोल, अनुपपुर , उमरिया, सिंगरौली, सतना और मण्डला।

मतदाता सूची में दावे -आपत्तियां 21 से 30 अगस्त तक प्राप्त की जायेंगी

टीकमगढ़ | 30-जुलाई-2019

 राज्य निर्वाचन आयोग भोपाल द्वारा नगरीय निकायों की फोटोयुक्त मतदाता सूची तैयार करने का कार्यक्रम निरंतर जारी रहेगा। इसके अनुसार 21 अगस्त से 30 अगस्त 2019 तक मतदाता सूची में दावे आपत्तियां प्राप्त करने के लिये तिथियां निर्धारित की गई है। मतदाताओं को फोटोयुक्त मतदाता सूची में नाम जुड़वाने अथवा संशोधन कराने की अपील हेतु आयोग द्वारा 2 पोस्टर्स तैयार किये गये हैं। साथ ही आयोग की वेबसाईट www.mplocalelection.gov.in पर अपलोड किया गया है। इस संबंध में संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया गया है कि स्थानीय स्तर पर नियमानुसार इनकी प्रिटिंग कराई जाये। मतदाताओं से अपील एवं प्रचार-प्रसार हेतु पोस्टर्स अथवा होर्डिंग्स के रूप में नियमानुसार इनका मुख्य-मुख्य लोकेशन्स पर 15 अगस्त 2019 से प्रदर्षित कराया जाना सुनिश्चित करें साथ ही अपील से संबंधित पोस्टर्स को सिनेमाओं एवं स्थानीय केबल नेटवर्क में स्लाइडस के रूप में भी प्रदर्षित कराया जाये।

ई-मेल एवं व्हाट्सएप पर मिलेगा उच्च दाब उपभोक्ताओं को बिजली बिल 

टीकमगढ़ | 26-जुलाई-2019

 मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कम्पनी के कार्य.क्षेत्र के उच्च दाब उपभोक्ताओं को जुलाई माह से बिजली बिल ई.मेल और व्हाट्सएप पर भी भेजे जायेंगे। इसके अलावा पहले की तरह कम्पनी के वेब पोर्टल  portal.mpcz.in पर भी विद्युत बिल उपलब्ध रहेंगे। इन्हें अब डाक से विद्युत बिल नहीं भेजे जायेंगे।
कम्पनी मुख्यालय में केन्द्रीयकृत एचटी ई-बिलिंग सेल का गठन किया गया है। इससे उच्च दाब उपभोक्ता बिलिंग के संबंध में जानकारी प्राप्त कर सकेंगे। इनकी शिकायतों का निराकरण भी जल्द हो सकेगा। एचटी ई-बिलिंग के संबंध में अधिक जानकारी के लिये ई.मेल htbilling.mpcz@gmail.com पर अथवा हेल्पलाइन नम्बर 0755-2601167 पर कार्यालयीन समय में सम्पर्क किया जा सकता है।

 

पोषण की स्थिति में सुधार करने हेतु संचालित योजनाओं का लाभ लेकर सभी अपने जीवन में सुधार ला सकते हैं: कलेक्टर

जनकपुर में पोषण संवाद आयोजित

टीकमगढ़ | 12-जुलाई-2019

 

 कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन की उपस्थिति में महिला बाल विकास विभाग बल्देवगढ़ परियोजना के ग्राम जनकपुर में बुधवार को पोषण संवाद कार्यक्रम का आयोजन किया गया। इसमें हितग्राहियों को उनके दैनिक जीवन में पोषण के महत्व को बताया गया।

    पोषण संवाद कार्यक्रम में उपस्थित कलेक्टर श्री सौरभ कुमार सुमन द्वारा ग्रामीणों को बताया गया कि पोषण की स्थिति में सुधार करने हेतु शासन स्तर से अनेक योजनाए संचालित की जा रही है, जिनका लाभ लेकर सभी अपने जीवन में सुधार ला सकते है। साथ ही उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना के तहत् गर्भवती महिलाओं को जो 5000 हजार रूपये की राशि का भुगतान शासन स्तर से किया जा रहा है उस राशि से वह अपने भोजन से संबंधित जरूरतों को पूरा करें।
कार्यक्रम में उपस्थित स्वस्थ्य भारत प्रेरक कु. रितिका भार्गव ने हितग्राहियो से चर्चा कर बताया कि हमें ग्राम में ही उपलब्ध अनाज, दालें, मौसमी फल का उपयोग भोजन में करना चाहिए। साथ ही हम अपने भोजन में तिरंगा थाली की तरह खद्य सामग्री का उपयोग करें, जिससे कि हमारे वच्चे स्वस्थ्य रहें एवं गर्भवती महिलाओं में खून की कमी न हो पाए।

            पोषण संवाद कार्यक्रम के दौरान बाल विकास परियोजना अधिकारी श्री महेश दोहरे, सेक्टर पर्यवेक्षक श्रीमती ज्योति खरे तथा ऑगनवाडी कार्यकर्ता, पंचायत प्रतिनिधि एवं स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारी तथा ग्रामीणजन उपस्थित रहे।

 

बिजली आपूर्ति में वर्ष 2018 के मुकाबले हुआ उल्लेखनीय सुधार

टीकमगढ़ | 06-जून-2019

प्रदेश में वित्तीय वर्ष 2018-19 में विद्युत क्षेत्र में कई नये आयाम स्थापित किये गये हैं। इस वर्ष एक दिन में बिजली की अधिकतम सप्लाई 2658.69 लाख यूनिट की गई। अधिकतम मांग की आपूर्ति 5 जनवरी 2109 को 14 हजार 89 मेगावाट की गयी, जो प्रदेश में अभी तक का रिकार्ड है।
ऊर्जा मंत्री श्री प्रियव्रत सिंह ने बताया है कि प्रदेश में पंजीकृत श्रमिकों और संनिर्माण कर्मकारों के घरेलू संयोजनों के लिये 25 फरवरी और इसके बाद शुरू होने वाले बिलिंग चक्र से सरल बिजली बिल स्कीम को शामिल करते हुए “इंदिरा गृह ज्योति योजना” लागू की गयी। योजना में पात्र उपभोक्ताओं को 100 यूनिट तक की मासिक खपत पर अधिकतम 100 रूपये का बिल दिया जा रहा है।
“इंदिरा किसान ज्योति” योजना में 10 हार्स पावर तक के स्थायी कृषि पम्प कनेक्शनों को 1400 रूपये प्रति हार्स पावर के स्थान पर 700 रूपये प्रति हार्स पावर की फ्लेट दर से विद्युत आपूर्ति का निर्णय लिया गया है। साथ ही 10 हार्स पावर तक के मीटरयुक्त स्थायी पम्प कनेक्शन एवं अस्थायी कृषि पम्प कनेक्शनों को भी पहले के बाकी बिजली बिल में 50 प्रतिशत की रियायत दी गयी है।
सौभाग्य योजना में प्रदेश के सभी बिजली विहीन 19 लाख 84 हजार घरों को दिसम्बर-2018 तक रोशन कर दिया गया है।
   गत वर्ष की तुलना में अधिक विद्युत आपूर्ति
माह वर्ष 2018-19 (मिलियन यूनिट) वर्ष 2017-18 (मिलियन यूनिट) वृद्धि प्रतिशत में
दिसम्बर 7895 7089 11.37
जनवरी 7607 6885 10.49
फरवरी 6362 5492 15.84
मार्च 6515 5705 14.2
अप्रैल 5959 (19-20) 5334 (18-19) 11.9
मई 6534 (19-20) 5792 (18-19) 12.8

    राज्य शासन द्वारा एक हेक्टेयर तक भूमि वाले 5 हॉर्स पॉवर तक के कृषि पम्प के लिये अनुसूचित-जाति और अनुसूचित-जनजाति के कृषकों को मुफ्त बिजली एवं इसी वर्ग के बीपीएल श्रेणी के घरेलू उपभोक्ताओं को 25 यूनिट तक मुफ्त बिजली दी जा रही है।

ट्रांसफार्मरों की उपलब्धता सुनिश्चित

पिछले वित्त वर्ष में मार्च-2019 तक 4637 वितरण ट्रांसफार्मर की क्षमता वृद्धि कर एक लाख 75 हजार 655 केव्हीए की अतिरिक्त क्षमता निर्मित की गयी है। साथ ही एक लाख 15 हजार 184 अतिरिक्त वितरण ट्रांसफार्मर लगाकर 36 लाख 41 हजार केव्हीए की कुल क्षमता वृद्धि की गयी।

प्रणाली सुदृढ़ीकरण

विद्युत प्रणाली सु्दृढ़ीकरण में 33/11 के.व्ही. के 191 उप-केन्द्र, 33 के.व्ही. की 1783 किलोमीटर लाइन, 11 के.व्ही. की 23 हजार 617 किलोमीटर और निम्न-दाब लाइन की केबल में 18 हजार 152 किलोमीटर में परिवर्तन किया गया है। इससे बिजली प्रदाय की गुणवत्ता में सुधार होगा।

घोषित शट डाउन और सुधार के समय में भी कमी आयी

घोषित और अघोषित बिजली शट डाउन के मामले में भ्री पिछले वर्ष के मुकाबले काफी सुधार हुआ है। बड़े शहरों में पिछले वर्ष के मुकाबले लगभग शट डाउन की संख्या में ढाई हजार की कमी हुई है। प्रदेश के 8 बड़े शहर भोपाल, ग्वालियर, इंदौर, उज्जैन, जबलपुर, सागर, रीवा और शहडोल में मई-2019 में जहाँ 2761 बार घोषित शट डाउन लिया गया, वहीं वर्ष 2018 में इन्हीं शहरों में 5,331 बार शट डाउन लिया गया। यही नहीं बेहतर प्रबंधन से शट डाउन के दौरान बिजली सुधार/मेंटीनेंस के समय में भी उल्लेखनीय कमी आयी है। वर्ष 2018 में मेंटीनेंस में लगने वाला औसत तीन से नौ घंटे तक का समय अब घटकर दो से चार घंटे तक हो गया है।