Wednesday, December 11News That Matters

चीन / राष्ट्रगान के दौरान झंडे की तरफ नहीं देखने पर फ्रांस के खिलाड़ी पर कार्रवाई, एक लाख रु. का जुर्माना लगा

Share

बीजिंग. खेल शुरू होने के पहले राष्ट्र गान के दौरान चीन के झंडे की तरफ नहीं देखने पर अफसरों ने फ्रांस के बास्केटबॉल खिलाड़ी को फटकार लगाई। साथ ही 99456 रुपए ($1400) का जुर्माना भी लगाया। यह खिलाड़ी चाइनीज बास्केटबॉल एसोसिएशन (सीबीए‌) से जुड़ा है।

स्थानीय मीडिया के मुताबिक, मैच के पहले नेशनल एंथम के दौरान सीबीए के खिलाड़ियों को झंडे की तरफ देखना था। लेकिन टीवी फुटेज में 23 साल के फ्रांस मूल के और पूर्व एनबीए खिलाड़ी गुर्सचोन याबुसेले का सिर झुका हुआ था। याबुसेले पूर्वी चीन में नानजिंग टोन्झी मंकी किंग टीम के लिए खेलते हैं। सीबीए के मुताबिक, झंडे की तरफ नहीं देखने पर याबुसेले को सख्त चेतावनी दी गई और जुर्माना भी लगाया गया। विवाद के बाद याबुसेले ने अपने व्यवहार के लिए चीन की जनता और फैंस से माफी मांगी। उन्होंने कहा कि उनका मकसद राष्ट्र गान और झंडे का अपमान करना नहीं था, बल्कि वह उस वक्त प्रार्थना कर रहे थे।

सोशल मीडिया पर लोगों की मिली-जुली प्रतिक्रिया
राष्ट्रपति जी जिनपिंग की सरकार देशभक्ति को बढ़ावा दे रही है। 2017 में एक बिल पास किया गया था, जिसमें नेशनल एंथम का सम्मान नहीं करने पर तीन साल की सजा का प्रावधान है। उधर, चीन में सोशल मीडिया पर इसे लेकर लोगों ने मिली-जुली प्रतिक्रिया दी। एक यूजर्स ने लिखा, ” वह ( गुर्सचोन याबुसेले) चीन से पैसे कमाने पर खुश है, लेकिन यह देश का सम्मान नहीं करना चाहता।” दूसरे यूजर ने लिखा कि इस खिलाड़ी को फौरन देश से बाहर कर देना चाहिए। चैम्पिनशिप में भी बैन कर देना चाहिए। कुछ लोगों ने खिलाड़ी से हमदर्दी दिखाई। एक यूजर ने लिखा, “इस तरह का जुर्माना लगाना गलत है। पहली बात तो यह है कि वह चाइनीज नहीं है। फिर उसने ऐसा कोई काम नहीं किया जिससे देश का सम्मान कम हुआ है। वह सिर्फ अपनी जगह पर खड़ा था।