Monday, December 6News That Matters

बर्फ के बुलबुले:दुनिया की सबसे गहरी बैकाल झील जमी, मीथेन गैस के बुलबुले भी जमे; तापमान शून्य से नीचे

यूनेस्को वर्ल्ड हैरिटेज साइट में शुमार रूस की बैकाल झील दुनिया की सबसे गहरी और सबसे बड़ी ताजा पानी की झील है। बैकाल झील में दुनिया का लगभग 20 फीसदी साफ पानी का जमाव है। इन दिनों यहां तापमान शून्य से नीचे हैं। रविवार को यहां का तापमान माइनस 4 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

पारा गिरने से इस झील पर दो मीटर मोटाई की बर्फ की परत जम गई है। सबसे खास बात है कि जब बैकाल झील जम जाती है तो यहां एक अद्भुत नजारा भी सामने आता है। झील में ग्रीन हाउस इफेक्ट के लिए जिम्मेदार मीथेन गैस भी है। जब झील का पानी जम जाता है तो मीथेन गैस के बुलबुले भी जम जाते हैं।

नासा साइंस के अनुसार इतनी मात्रा में मीथेन यदि पृथ्वी के वातावरण में रिलीज हो जाए तो धरती के औसत तापमान में खासी वृद्ध हो जाए। लेकिन बैकाल झील का पारिस्थितिकी तंत्र ऐसा है कि जब झील जम जाती है तो यहां का पानी मीथेन गैस का वातावरण में रिलीज नहीं होने देता है। बैकाल झील का ये अनूठा चरित्र पृथ्वी को सुरक्षित भी रखने में खासा मददगार साबित होता है।