Friday, August 23News That Matters

अनुपपुर

Share

चार जिलों में इस वर्ष 2000 हेक्टेयर में काजू की खेती

अनुपपुर | 09-अगस्त-2019

    प्रदेश में इस वर्ष चार जिलों बैतूल, सिवनी, बालाघाट एवं छिन्दवाड़ा में 2000 हेक्टेयर क्षेत्र में काजू की खेती की जायेगी। बैतूल प्रदेश का पहला जिला है, जहाँ वर्ष 2018 से काजू की व्यवसायिक खेती प्रारंभ की गई है। उद्यानिकी विभाग ने बैतूल जिले में क्रियान्वित उद्यानिकी प्लान के मुताबिक सिवनी, बालाघाट और छिन्दवाड़ा में काजू को प्रमुख फसल के रूप में शामिल किया है।
उद्यानिकी विभाग के अधिकारियों को हाल ही में कर्नाटक राज्य के उडुपी में काजू की खेती के लिए तीन दिवसीय राष्ट्रीय प्रशिक्षण दिलवाया गया। प्रशिक्षण में चारों  जिले के उद्यानिकी अधिकारी शामिल हुए। देश के काजू उत्पादक अन्य 8 राज्यों के 51 उद्यानिकी एवं कृषि विभाग के अधिकारी भी प्रशिक्षण में शामिल हुए।

विश्वस्तनपान सप्ताह के संबंध में मीडिया कार्यशाला आज

अनुपपुर | 30-जुलाई-2019

 जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास विनोद परस्ते ने बताया कि 01 अगस्त 2019 से 07 अगस्त 2019 तक विश्वस्तनपान सप्ताह मनाया जाना है। इस दौरान आयोजित होने वाली गतिविधियों के संबंध में संयुक्त कलेक्ट्रेट भवन अनूपपुर के प्रथम तल कक्ष क्रमांक 101 में 31 जुलाई को प्रातः 11 बजे से जिला स्तरीय मीडिया कार्यशाला का आयोजन किया जायेगा।

डेंगू एवं चिकनगुनिया से बचाव का सर्वश्रेष्ठ उपाय सावधानी

नगरपालिका को साफ सफाई हेतु सक्रिय रहने के कलेक्टर ने दिए निर्देश 

अनुपपुर | 26-जुलाई-2019

कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में वर्षा का क्रम आरंभ होने को दृष्टिगत रखते हुए डेंगू चिकनगुनिया एवं मलेरिया की रोकथाम हेतु अंतर्विभागीय कार्यशाला का आयोजन हुआ। कार्यशाला में बताया गया कि वातावरण में अधिक नमी तथा तापमान एवं जल भराव से मच्छर पनपते हैं। मच्छरों के कारण मलेरिया, डेंगू तथा चिकनगुनिया रोगों का प्रकोप होता है। डेंगू तथा चिकनगुनिया का प्रकोप एडीज मच्छरों के काटने से होता है। यह मच्छर साफ पानी में पनपता है। इससे बचाव के लिए कूलर, गमलों, अनुपयोगी बर्तनों, पानी की टंकी तथा मटकों आदि का पानी बदलते रहें। इनमें लंबे समय तक पानी जमा न रहने दें। जहां पानी खाली करना संभव न हो वहां खाद्य तेल की कुछ बूंदे डाल दें इससे पानी में तेल की पतली परत बन जाती है तथा मच्छरों को पनपने का अवसर नहीं मिलता है। मच्छरों से बचाव के लिए पूरे बाहं के कपड़े पहनें तथा सोते समय मच्छरदानी का उपयोग करें।
किसी भी तरह का तेज बुखार आने, मांसपेशियों तथा जोड़ों में दर्द होने, सर दर्द होने एवं शरीर पर लाल चकत्ते पड़ना डेंगू के लक्षण हैं। इस तरफ का लक्षण दिखाई देने पर तत्काल डॉक्टर से संपर्क कर उचित उपचार करायें। समय पर उपचार कराने से डेंगू एवं चिकनगुनिया से पूरी तरह बचाव होता है। कलेक्टर चंद्रमोहन ठाकुर ने सभी नगरपालिका अधिकारियों को निर्देशित किया कि नियमित रूप से शहरी क्षेत्रों का भ्रमण कर ऐसे स्थल कार्यालय जहाँ पानी का भराव हो वहाँ तुरंत सुधारात्मक कार्यवाही करें।

बिजली संबंधी शिकायतों का किया गया त्वरित निराकरण 

– 
अनुपपुर | 24-जुलाई-2019

 

कार्यालय कार्यपालन अभियंता संचा/संधा. अनूपपुर म.प्र.पू.क्षे.वि.वि.कं.लिमि. अनूपपुर के अंतर्गत आने वाले समस्त वितरण केंन्दों एवं संभागीय कार्यालय में बिजली संबंधी सभी तरह की शिकायतों के निराकरण हेतु आज जनसुनवाई की गई जनसुनवाई के दौरान नये कनेक्शन के 03, रीडिंग एवं बिल संबंधी 32 शिकायत एवं अन्य शिकायते 1 कुल 36 शिकायतें प्राप्त हुई जिसमें 34 शिकायतों का त्वरित निराकरण किया गया।