Saturday, October 16News That Matters

उमरिया

रिंगोल हाई स्कूल एवं आईटीआई का नाम स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व. श्री परथी भाई के नाम पर होगा : मुख्यमंत्री श्री चौहान
ग्राम रिंगोल में सामुदायिक भवन एवं स्मरण शेड निर्माण का भूमि-पूजन
उमरिया | 17-सितम्बर-2021

      मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ग्राम रिंगोल के हाई स्कूल और आईटीआई का नाम स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व. श्री पारथी भाई के नाम पर होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज अलीराजपुर में जनदर्शन कार्यक्रम के तहत ग्राम रिंगोंल पहुँचे। यहाँ उन्होंने स्व. परथीभाई की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर स्वतंत्रता संग्राम सेनानी स्व. श्री पारथी भाई की जीवन गाथा का विमोचन भी किया। साथ ही माल मसूरी फलिया में 25 लाख रूपये की लागत से निर्मित होने वाले सामुदायिक भवन और 2 लाख रूपये की लागत वाले स्मरण शेड का भूमि-पूजन किया।

क्षेत्र विकास के लिए की अनेक घोषणाएँ

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने रिंगोल से माल मसूरी फाटक 6 किमी सडक का डामरीकरण, होली फलिया मेडा से बेहडवा मेन रोड तक पक्की सडक, रिंगोल के खाडीबाग फलिया में सडक निर्माण, माथना, रिंगोल और बोरकुंडिया में नवीन आदिवासी सीनियर बालक छात्रावास और बरझर में थाना स्वीकृति करने की घोषणा की। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गुजरात बार्डर पर दो किमी तक आने वाली बसों को टैक्स में छूट दी जाएगी, जिससे ग्रामीणों को लाभ होगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने जिला एवं पुलिस प्रशासन से कहा कि अपराधी, चोर, बदमाशों और भ्रष्टाचारियों पर प्रभावी कार्रवाई की जाए। कोई भी गरीब राशन से वंचित न रहे। पात्रताधारियों को योजनाओं का लाभ मिले। पात्र व्यक्तियों के राशन कार्ड और आयुष्मान योजना के कार्ड बनाए जाएँ। उन्होंने उपस्थित महिलाओं से आह्वान किया कि वे आजीविका मिशन के स्वयं सहायता समूहों से जुडे और आजीविका के बेहतर अवसरों का लाभ लें। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार समूहों के सशक्तिकरण और उनके द्वारा बनाए गए उत्पादों को बेहतर मार्केट प्रदान करने के लिए विशेष प्रयास कर रही है।
कार्यक्रम में जिले के प्रभारी एवं औद्योगिक निवेश और प्रोत्साहन मंत्री श्री राजवर्धन सिंह दत्तीगांव, जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती अनीता चौहान, विधायक श्री रमेष मेंदोला, पूर्व विधायक श्री माधोसिंह डावर, श्री नागर सिंह चौहान, श्री वकील सिंह ठकराला सहित क्षेत्रवासी उपस्थित थे।

वैक्सीनेशन कराना हमारी नैतिक जिम्मेदारी – सद्दाम खान (खुशियों की दास्तां)

उमरिया | 27-अगस्त-2021

      आम जनों को कोविड 19 के खतरें से बचाने के लिए टीकाकरण महा अभियान 2.0 का संचालन 25 अगस्त से किया गया है। जिसमें समस्त समुदाय, वर्ग के लोग बढ़ चढ़कर हिस्सा ले रहे है। वैक्सीनेशन को लेकर युवाओ के भारी उत्साह देखा जा रहा है, जो स्वयं वैक्सीनेशन कराकर दूसरो को भी वैक्सीनेशन कराने के लिए प्रेरित कर रहे है।
सद्दाम खान पिता अब्दुल निवासी कैमप उम्र 29 वर्ष ने मलेरिया आफिस दूसरी डोज लगवाई। उन्होने बताया कि 28 जून  2021 को प्रथम डोज लगवाई थी। उन्होंने जिलेवासियो से अपील की कि वे भी वैक्सीनेशन कराने को अपनी नैतिक जिम्मेंदारी समझते हुए वैक्सीनेशन कराए। टीका लगने से कोई नुकसान नही है। टीका हमारे शरीर की शारीरिक क्षमता बढ़ता है , जिससे हमें रोगों से लडने की क्षमता प्राप्त होती है। साथ ही टीकाकरण को लेकर मन में कोई भी भ्रम नही पाले। यह पूर्णतः सुरक्षित है। मैने वैक्सीनेशन करा लिया है।

रक्तदान कर बचाई महिला की जान – खुशियों की दास्तां

उमरिया | 13-अगस्त-2021

   जिले के स्वास्थ्य विभाग के कुछ कर्मचारी ऐसे भी हैं जो पीडि़त  बीमार व्यक्ति को स्वास्थ्य लाभ तो देते ही है तो वहीं लोगो के बीच रहते हुए कुछ ऐसे अच्छे कार्य भी गुप्त रूप से कर जाते हैं जो जरूरतमंद के लिए ऐसी घड़ी में किसी वरदान से कम नहीं होता परन्तु कई बार ऐसे अच्छे कार्य सबकी नजरों में नहीं आते। जिले के स्वास्थ्य महकमे से सिविल सर्जन डॉक्टर बी के प्रजापति और लैब टेक्नीशियन,ब्लड बैंक प्रभारी वीरेंद्र शर्मा ने लोगो के बीच एक अनोखी मिसाल पेश की जहा दोनों कर्मचारियों ने स्वयं रक्तदान  कर एक बीमार पीडि़त गर्भवती महिला का जीवन बचाया है। घुलघुली निवासी 30 वर्षीय महिला रिहाना खान को अत्यधिक रक्त स्राव होने के कारण जिला अस्पताल उमरिया भर्ती करवाया गया था जिसे बी पॉजिटिव ब्लड की आवश्यकता थी जानकारी लगने के उपरांत दोनों कर्मचारियों के द्वारा स्वयं का रक्तदान कर गर्भवती महिला की मदद की गई।  स्वास्थ्य महकमे के ऐसे जाबाज रक्तदान करने वालो के लिए प्रसुतिका के परिजन ने आभार व्यक्त करते हुए बधाइयां दी। सही समय पर रक्त मिलने की वजह से महिला की जान बचाई जा सकी।

नौरोजाबाद में विधायक ने पीला चावल देकर वैक्सीनेशन कराने का दिया न्यौता

उमरिया | 22-जून-2021

बांधवगढ क्षेत्र के विधायक श्री शिवनारायण सिंह ने 21 जून से प्रारंभ हुये टीकाकरण महा अभियान को दृष्टिगत रखते हुए नौरोजाबाद कालोनी में पीला चावल देकर आम जनो को टीकाकरण कराने का न्यौता दिया। उन्होने कहा कि अपने एवं परिवार की सुरक्षा के लिए टीकाकरण बहुत जरूरी है। नौरोजाबाद क्षेत्र में टीकाकरण कराने वाले व्यक्तियो ने सेल्फी प्वाइंट पर फोटो खींचाकर अपने सगे संबंधितो को भेजकर उन्हें भी टीकाकरण कराने का संदेश दिया।

संबल योजना में तेन्दूपत्ता संग्राहकों का किया जा रहा है पंजीयन

उमरिया | 16-जून-2021

      मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा हाल ही में की गई घोषणा को अमल में लाने के लिए तेन्दूपत्ता संग्राहकों का संबल योजना में पंजीयन प्रारंभ हो गया है। मुख्यमंत्री जन-कल्याण योजना में असंगठित श्रमिकों को सामाजिक सुरक्षा प्रदान की जा रही है। योजना में प्रदेशव्यापी अभियान चलाकर असंगठित श्रमिकों के नियोजन की 36 श्रेणियों में पंजीयन किया गया था। मुख्यमंत्री श्री चौहान की घोषणा के परिपालन तेन्दूपत्ता संग्राहकों का संबल योजना में पंजीयन की कार्यवाही शुरू की गई है। इसमें नवीन पंजीयन के लिए ई-केवायसी (आधार अभिप्रमाणन) की बाध्यता सभी तेन्दूपत्ता संग्राहक श्रमिक के पंजीयन के लिये शिथिल की गई है। प्रदेश में मुख्यमंत्री जन-कल्याण (संबल) योजना के अन्तर्गत पंजीयन प्राधिकारी तेन्दूपत्ता संग्रहण के कार्य में संलग्न ऐसे समस्त पात्र असंगठित श्रमिकों के पंजीयन हेतु पात्रता बावत समस्त तथ्यों का सत्यापन करते हुए पंजीयन की कार्यवाही की जाएगी।

कोरोना संक्रमण से बचाव की मुहिम में संस्था ने बढाया हाथ – खुशियो की दास्तां

एक्सन फार सोशल एडवांसमेंट आशा ने कलेक्टर को सौपी आक्सीजन मशीन
उमरिया | 11-जून-2021

   जिले में कोरोना संक्रमण से बचाव की मुहिम में राज्य शासन एवं जिला प्रशासन के साथ समाज का हर वर्ग अलग अलग तरह से मानवता की रक्षा में सहयोग कर रहे हैं, चाहे वे स्वयंसेवक हों, वालेन्टियर हों, जन प्रतिनिधि हों या व्यापारिक प्रतिष्ठान।
गत दिवस एक्षन फार सोषल एडवांसमेंट आषा के टीम लीडर रूपचंद्र ने अपने साथियों के साथ आमजन को कोरोना से बचाव हेतु चिकित्सा उपकरण जिसमें पांच आक्सीजन मषीन शामिल है। उक्त सामग्री को कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव एवं मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी डा0 आर के मेहरा को सौंपा। इस अवसर पर सीईओ जिला पंचायत अंशुल गुप्ता, संस्था के सदस्य तिलकराज , सचिन, अनुराग पटेल एवं शिवम उपस्थित रहे।

अंकुर कार्यक्रम के तहत युवाओं ने किया वृक्षारोपण “खुशियों की दास्तां”

युवाओं द्वारा अंकुर कार्यक्रम के तहत किया वृक्षारोपण
उमरिया | 02-जून-2021
    मप्र सरकार द्वारा अंकुर (।दानत) अंकुर योजना की शुरुआत की है. बता दें कि इस योजना के तहत जो लोग भी वृक्षारोपण के इस अभियान में हिस्सा लेंगे, उन्हें राज्य सरकार की तरफ से अवार्ड भी दिया जाएगा. जिला पंचायत सीईओ नोडल अधिकारी अंशुल गुप्ता ने बताया की क्या है योजना का उद्देश्य बता दें कि जो भी इस योजना का हिस्सा बनेगा और वृक्षारोपण करेगा उसे सरकार की तरफ से श्प्राणवायु अवार्ड दिया जाएगा. ।
कोरोना वायरस की दूसरी लहर में मध्य प्रदेश में हालात काफी गंभीर हो गए थे। ऐसे में सरकार ने राज्य में ऑक्सीजन प्लांट लगाने के साथ ही वृक्षारोपण करने की योजना भी शुरू की है, जिसे अंकुर नाम दिया गया है।. सरकार की इस योजना का उद्देश्य राज्य में हरियाली बढ़ाना और प्रकृति में आए असंतुलन को रोकना है. जिला पंचायत सीईओ जिला नोडल अधिकारी अंशुल गुप्ता के मार्गदर्शन पर जिले के युवाओं द्वारा वृक्षारोपण किया जा रहा है।
कोरोना वालंटियर हिमांशू तिवारी  का कहना है कि पेड़ प्राकृतिक ऑक्सीजन देते हैं. कोई भी ऑक्सीजन प्लांट पेड़ से बड़ा नहीं होता. इस मानसून वृक्षारोपण के लिए अंकुर योजना शुरू की गई है. इसमें आप सभी भाग लेकर अपने आसपास के जगह पर वृक्षारोपण जरूर करें । हमारे द्वारा आज तीन वृक्ष लगाए गए।जिसमे पाली युवाओं की इस पहल में अपनी प्रतिभागिता सराहनीय  है। वृक्षारोपण करते समय  हिमांशू तिवारी,राहुल चंद्रवंशी, पारस सिंह एवं सभी उपस्थित रहे।

आम जन की कोरोना संक्रमण से बचाव ही हमारी प्राथमिकता है- मंत्री मीना सिंह

उमरिया | 16-अप्रैल-2021

   जान है तो जहांन है। आम जन का कोरोना संक्रमण से बचाव जिला प्रशासन की प्राथमिकता है। कोरोना के बढ़ते संक्रमण की चैन को तोड़ने हेतु जिला क्राइसिस मैनेजमेंट कमेटी द्वारा उमरिया जिले में 22 अप्रैल तक कोरोना कर्फ्यू बढाने का निर्णय लिया गया है। जिलावासियो से अपील है कि कोरोना संक्रमण के बचाव के सभी नियमो का पालन करें। बिना मास्क के घर से बाहर नही निकलें। मास्क व्यवस्थित तरीके से नाक को ढंकते हुए पहनें। अति आवश्यक कार्य होने पर ही घर से बाहर निकले। भीड़ भाड़ वाली जगहों में नही जाए। सोशल डिस्टेसिंग का पालन करें। साबुन पानी से बार बार हाथ धोए। इस आशय की अपील प्रदेश शासन की जन जातीय कार्य मंत्री एवं उमरिया जिले की प्रभारी मंत्री सुश्री मीना सिंह ने कलेक्ट्रेट सभागार मे संपन्न जिला क्राइसिस कमेटी की अध्यक्षता करते हुए इस आशय के निर्देश दिए। बैठक में विधायक बांधवगढ शिवनारायण सिंह, कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव, पुलिस अधीक्षक विकास कुमार शाहवाल, सीईओ जिला पंचायत अंशुल गुप्ता, अपर कलेक्टर अशोक ओहरी, एसडीएम बांधवगढ नीरज खरें, कमाण्डेंट, होमगार्ड, मुख्य नगर पालिका अधिकारी, आरएमओ डा संदीप सिंह, डॉ.पाठक,  रोहित सिंह, जेलर, व्यापारी संघ के अध्यक्ष राकेशप्रताप सिंह, रतन खण्डेलवाल, शंभूलाल खट्टर, कनफडरेशन आफ इंडिया के अध्यक्ष कीर्ति सोनी, ओम प्रकाश यादव, उपस्थित रहे।
मंत्री सुश्री मीना सिंह ने कहा कि शहरी क्षेत्रों में कोरोना संक्रमण की जांच हेतु दो सेंटर बनाए जाए। कंटेनमेंट क्षेत्र में पुलिस का नियमित भ्रमण हो। होम आईसोलेशन वाले मरीजों से चिकित्सक नियमित रूप से बात करे। टेस्ट रिपोर्ट शीघ्रता से प्राप्त हो। जिले में साप्ताहिक बाजार बंद रखे जाए। संबंधित ग्रामों मे किराना की दुकानों के लोग किराना खरीद सकेगे। जिन ग्रामों में अधिक संख्या में कोरोना पाजीटिव मिल रहे है, वे ग्राम कंटेनमेंट क्षेत्र घोषित किए जाए तथा उस ग्राम के सभी लोगों की कोरोना टेस्टिंग की जाए। जिला मुख्यालय मे दीन दयाल रसोई का संचालन नियमित रखा जाए। चेक पोस्ट बनाकर बाहर से आने जाने वाले व्यक्तियों की जानकारी रखी जाए तथा उनकी कोरोनो टेस्टिंग कराई जाए। रेल्वे स्टेशन में भी आने जाने वाले यात्रियों की कोरोनो टेस्टिंग की व्यवस्था की जाए।
कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव ने बताया कि  जिले में कोरोना कर्फ्यू 22 अप्रैल तक के लिए पूर्व में जारी निर्देशों के तहत बढाया जा रहा है। लगातार स्वास्थ्य  सुविधाएं बढाने का प्रयास किया जा रहा है। कम संसाधनो के बावजूद जिले के चिकित्सक बेहतर तरीके से सेवाएं दे रहे है, उनकी सराहना की जानी चाहिए। जिला समन्वयक जन अभियान एस एस शर्मा ने बताया कि जिले में 750 वालेन्टियर चिन्हित किए गए है जिनकी सेवाएं मास्क वितरण, रोको टोको अभियान, भीड नियंत्रण, हेल्प डेस्क आदि में ली जा सकेगी। कलेक्टर द्वारा वालेन्टियर की सूची एसडीएम, तहसीलदार, नगर निरीक्षक तथा चिकित्सा विभाग को उपलब्ध कराने के निर्देश दिए गए।
सीनियर सिटिजन के लिये शुरू होगी हेल्पलाइन
सभी तैयारियाँ पूर्ण करने के साथ मध्यप्रदेश अग्रणी राज्यों में

सामाजिक न्याय एवं निःशक्तजन कल्याण मंत्री श्री प्रेमसिंह पटेल ने बताया कि पूरे देश में वरिष्ठ नागरिकों के लिये राष्ट्रीय हेल्पलाइन शुरू की जा रही है। केन्द्र शासन ने इसके लिये प्रदेश को 88 लाख 14 हजार रूपये की राशि जारी कर दी है। मध्यप्रदेश में हेल्पलाइन हेल्पेज इंडिया के सहयोग से शुरू की जा रही है।
केन्द्रीय सामाजिक न्याय एवं सशक्तिकरण मंत्रालय के राष्ट्रीय समाज रक्षा संस्थान द्वारा जारी गाइडलाइन के अनुसार मध्यप्रदेश में इस संबंध में सभी तैयारियाँ पूरी कर ली गई हैं। हेल्पलाइन कोरोना काल में अनेक स्तरों पर वरिष्ठ नागरिकों द्वारा कठिनाईयों की जानकारी सामने आने पर एनआईएसडी द्वारा नेशनल हेल्पलाइन लागू करने का निर्णय लिया गया है। फिलहाल हेल्पलाइन एल्डर लाइन का नम्बर 14567 निर्धारित किया गया है।
प्रमुख सचिव सामाजिक न्याय श्री प्रतीक हजेला ने बताया कि वरिष्ठ नागरिकों की समस्याओं या प्रश्नों का समाधान स्थानीय स्तर पर स्थापित कॉल सेंटर द्वारा किया जायेगा। राज्य स्तरीय हेल्पलाइन राज्य और जिला स्तरीय प्रशासन, पुलिस, वृद्धाश्रम, स्वैच्छिक संगठन, सीनियर सिटीज़न एसोसिएशन, स्थानीय निकाय, स्वास्थ्य विभाग, महिला बाल विकास विभाग आदि के समन्वय से काम करते हुए कॉल सेंटर पर प्राप्त शिकायतों और समस्याओं को जल्दी निपटाने का प्रयास करेगी। कॉल करने वाले वरिष्ठ नागरिकों की पहचान गुप्त रखी जायेगी और अगले 6 माह तक कॉल से संबंधित रिकॉर्ड रखा जायेगा। राष्ट्रीय सीनियर सिटीज़न हेल्पलाइन का उद्देश्य वयोवृद्ध नागरिकों का जीवन आसान और सुखमय बनाना है। वरिष्ठजन कॉल लाइन के माध्यम से उत्पीड़न, परित्यक्त जीवन, पेंशन प्रकरण, सुरक्षा, चिकित्सा आदि विभिन्न प्रकार की समस्याओं का समाधान एक कॉल से बहुत ही आसान तरीके से सुलझा सकेंगे।

शिवराज सरकार-भरोसा बरकरार -मध्यप्रदेश बिजली के क्षेत्र ‍में स्थापित कर रहा है नित नये आयाम – प्रद्युम्न सिंह तोमर”लेख “

उमरिया | 09-अप्रैल-2021

     मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के दूरदर्शी और संकल्पवान नेतृत्व में मध्यप्रदेश बिजली के क्षेत्र ‍में नित नये आयाम स्थापित कर रहा है। प्रदेश में विद्युत क्षेत्र के विकास और विस्तार के लिए सभी आवश्यक और सुविचारित कदमों का उठाया जाना इन आयामों को छूने के पीछे है। परिणाम भी सामने है और वह यह कि 31 दिसंबर, 2020 की स्थिति में प्रदेश की उपलब्ध विद्युत क्षमता 21 हजार 361 मेगावॉट हो जाना। इसी दिन प्रदेश के इतिहास में सर्वाधिक 15 हजार 425 मेगावॉट शीर्ष मांग की पूर्ति भी सफलतापूर्वक की गई है।
वित्तीय वर्ष 2021-22 में उपलब्ध विद्युत क्षमता में 1 हजार 426 मेगावाट वृद्धि का लक्ष्य है। प्रदेश में पारेषण हानियाँ भी अब मात्र 2.59 प्रतिशत रह गई हैं, जो पूरे देश में न्यूनतम हानियों में से एक है। वित्तीय वर्ष 2020-21 में 6006 करोड़ यूनिट विद्युत प्रदाय किया गया, जो पिछले वर्ष से 9 प्रतिशत अधिक है।
प्रदेश में विद्युत व्यवस्था प्रणाली की मजबूती के लिए वित्तीय वर्ष 2020-21 में कई उल्लेखनीय कार्य किए गए। इनमें उपलब्ध विद्युत क्षमता में 394 मेगावाट की वृद्धि, 14 नये अति उच्च दाब उप केन्द्रों की स्थापना, एक हजार 72 सर्किट किलोमीटर अति उच्च दाब और एक हजार 645 किलोमीटर उच्च दाब लाइनों का निर्माण, 11 नये 33/11 किलोवाट उप केन्द्रों की स्थापना एवं 2005 वितरण ट्रांसफार्मरों की स्थापना के कार्य प्रमुख हैं। इससे इस अवधि में उपभोक्ताओं की संख्या में एक लाख 90 हजार की वृद्धि हुई है।
“आत्म-निर्भर मध्यप्रदेश” रोडमैप में भविष्य की विद्युत माँग की सुचारू आपूर्ति के लिए पारेषण प्रणाली के विस्तार कार्यक्रम में 4000 करोड़ रुपये की लागत के ग्रीन एनर्जी कॉरीडोर एवं टैरिफ आधारित प्रतिस्पर्धात्मक निविदाओं के जरिए अति उच्च दाब उप केन्द्रों एवं उससे संबंधित लाइनों का निर्माण शामिल किये गये हैं। ग्रीन एनर्जी कॉरीडोर में 90 प्रतिशत काम पूरा हो गया है। जून 2021 तक अधिकांश काम पूरा कर लिया जाएगा। टैरिफ आधारित 2000 करोड़ रुपये के अनुमानित निवेश के जरिए पहली परियोजना का कार्य प्रगतिरत है, जिसे वर्ष 2023 तक पूरा कर लिया जाएगा।

लॉकडाउन में उपभोक्ताओं को विद्युत देयकों में राहत

मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान नेलॉकडाउन अवधि में बिजली उपभोक्ताओं की तकलीफ को महसूस कर उनके हित में अनेक निर्णय लिये। इन निर्णयों से उपभोक्ताओं को 1000 करोड़ से अधिक की राहत मिली।ऐसे सभी घरेलू उपभोक्ता, जो संबल योजना के हितग्राही हैं एवं जिनके माह अप्रैल, 2020 में देयक की राशि 100 रूपये तक थी, से मई, जून एवं जुलाई इन तीन माहों में सिर्फ 50 रूपये प्रतिमाह की राशि का ही भुगतान लिया गया।
प्रदेश के ऐसे सभी घरेलू उपभोक्ता, जिनके माह अप्रैल, 2020 में देयक की राशि 100 रूपये तक थी, उनके मई, जून एवं जुलाई, 2020 में देयक राशि 100 रूपये से 400 रूपये तक आने पर उनसे इन तीन माहों में मात्र 100 रूपये प्रतिमाह की राशि का भुगतान लिया गया। प्रदेश के ऐसे घरेलू उपभोक्ता, जिनकी माह अप्रैल, 2020 में देयक राशि रूपये 100 से अधिक परन्तु रूपये 400 या उससे कम थी, उनके मई, जून एवं जुलाई, 2020 में देयक राशि 400 रूपये से अधिक आने पर उनसे इन तीन माहों में देयक की आधी राशि का ही भुगतान लिया गया। शेष आधी राशि का भुगतान आस्थगित किया गया है।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गूलर का पौधा रोपा

उमरिया | 17-मार्च-2021

   मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने आज स्मार्ट उद्यान में गूलर का पौधा रोपा। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रतिदिन एक  पौधा हम सभी को लगाना है। मुख्यमंत्री ने कल पारिजात का पौधा रोपा था।
गूलर का महत्व
गूलर उत्तम औषधि है। चिकित्सा शास्त्रियों के अनुसार कफ, पित्त और अतिसार सहित कई बीमारियाँ इससे ठीक होती हैं। गूलर रक्त विकार दूर करने  में भी उपयोगी है।  गूलर शीतल, गर्भसंधानकारक, व्रणरोपक, रूक्ष, कसैला, भारी, मधुर, अस्थिसंधान कारक एवं वर्ण को उज्ज्वल करने वाला है। कफ-पित्त, अतिसार को भी नष्ट करने वाला है।  गूलर की छाल-अत्यंत शीतल, दुग्धवर्धक, कसैली, गर्भ हितकारी और वर्णविनाशक हैं। कोमल फल- स्तम्भक, कसैले, हितकारी, तथा तृषा पित्त-कफ और रूधिर-दोष नाशक है। मध्यम कोमल फल-स्वादु, शीतल, कसैले, पित्त, तृषा, मोहकारक एवं वमन तथा प्रदर रोग विनाशक हैं। तरूण फल-कसैले, रूचिकारी, अम्ल, दीपन, माँसवर्धक, रूधिरदोषकारी और दोषजनक हैं। पका फल-कसैला, मधुर, कृमिकारक, जड, रूचिकारक, अत्यंत शीतल, कफ-कारक, तथा रक्तदोष, पित्त, दाह, क्षुधा, तृषा, श्रम, प्रमेह शोक और मूर्छा नाशक है। गूलर दो प्रकार का होता है-नदी उदुम्बर और कठूमर। कठूमर के पत्ते गूलर के पत्तों से बड़े होते हैं।

अग्नि-सुरक्षा संबंधी प्रावधानों का करें सख्ती से पालन – नगरीय विकास मंत्री श्री सिंह

उमरिया | 02-मार्च-2021

   नगरीय विकास एवं आवास मंत्री श्री भूपेन्द्र सिंह ने निर्देशित किया है कि प्रशासन द्वारा अग्नि-सुरक्षा संबंधी जो प्रावधान किये गये हैं, उनका सख्ती से पालन सुनिश्चित किया जाये। भूमि विकास नियम-2012 के प्रावधानों में सितम्बर-2020 में संशोधन कर अग्नि-सुरक्षा संबंधी प्रावधानों को और अधिक उपयुक्त बनाया गया है।

अग्नि-सुरक्षा के लिये भवन स्वामियों की जिम्मेदारी

आयुक्त टाउन एवं कंट्री प्लानिंग श्री अजीत कुमार ने जानकारी दी है कि अग्नि-सुरक्षा के लिये भवन स्वामियों के लिये जिम्मेदारी निर्धारित की गई है। छतों या बेसमेंट में किसी रसोई की अनुमति नहीं होगी। छतों पर ज्वलनशील पदार्थ का भण्डारण नहीं किया जा सकेगा। एफआरपी (Fibre reinforced plastic) का उपयोग करके छत या छज्जे के ऊपर किसी अस्थाई छत की अनुमति नहीं होगी। निर्माण की ज्वलनशील सामग्री जैसे लकड़ी, फॉम पेनलिंग, कालीन आदि का उपयोग मार्ग, गलियारों या सीढि़यों में नहीं किया जायेगा।

सक्षम प्राधिकारी

अग्नि-सुरक्षा संबंधी प्रावधानों को लागू करवाने के लिये सक्षम प्राधिकारी नगरीय निकाय के आयुक्त अथवा मुख्य नगर पालिका अधिकारी होंगे। नियमों में प्रावधानित सुरक्षा उपाय लागू करवाने एवं ऑडिट रिपोर्ट प्रस्तुत नहीं करने पर भवन स्वामियों को दी गई एनओसी रद्द करने का अधिकार सक्षम प्राधिकारी को होगा। आयुक्त नगरीय प्रशासन एवं विकास द्वारा निर्देशित अग्नि-शमन संबंधी सभी प्रावधानों को लागू करने की जिम्मेदारी भी सक्षम प्राधिकारी की होगी।
राष्ट्रीय भवन कोड (एनबीसी) में निर्धारत मानकों के अनुरूप ही गैस बैंक स्थापित किया जाये। वाणिज्यिक एवं अन्य भवनों में मुख्य विद्युत पैनल एवं डी.जी. चेन्ज ओवर और मेन सप्लाई पैनल केबिनेट, क्लीन एजेंट, गैस फायर, सुप्रेशन सिस्टम से संरक्षित होना आवश्यक है। सभी मंजिल की सीढि़यों और गलियारों में धुएँ के वेंटिलेशन के लिये प्राकृतिक या यांत्रिक व्यवस्था की जाये। राष्ट्रीय भवन संहिता में उल्लिखित भवनों का फायर ऑडिट वर्ष में एक बार किया जायेगा। भवन का स्वामी प्रत्येक वित्तीय वर्ष की 30 जून तक अग्नि-शमन ऑडिट रिपोर्ट प्रस्तुत करेगा।

कलेक्टर एवं पुलिस अधीक्षक ने जिला खेल एवं युवक कल्याण कार्यालय का फीता काटकर किया शुभारंभ

उमरिया | 23-फरवरी-2021

    कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव एवं पुलिस अधीक्षक विकास कुमार शाहवाल  ने पुराना जिला शिक्षा अधिकारी कार्यालय काली मंदिर के पास जिला खेल एवं युवक कल्याण कार्यालय का फीता काटकर शुभारंभ किया। इसके पूर्व यह कार्यालय ज्वालामुखी मंदिर रोड पर संचालित था। इस अवसर पर शेख सलीम, जिला युवक एवं खेल कल्याण अधिकारी रविन्द्र हार्डिया , वालीवाल संघ के सचिव संतोष सिंह, अनिल सिंह, वरिष्ठ खिलाड़ी आरिफ खान, सुनील नाहर, कृष्णा झारिया, जिला खेल एवं युवा प्रशिक्षक , दैनिक जनदुनिया के संपादक संतोष गुप्ता तथा जिला खेल प्रेमी उपस्थित रहे।

प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण) के अन्तर्गत ग्रह प्रवेशम कार्यक्रम आज

जिला प्रशासन द्वारा कार्यक्रम से आनलाईन जुडने की अपील
उमरिया | 16-फरवरी-2021

     प्रधानमंत्री आवास योजना-(ग्रामीण) अन्तर्गत निर्मित आवासों का ग्रह प्रवेशम कार्यक्रम 16 फरवरी 2021 प्रातः 11 बजे मिन्टो हॉल भोपाल में वर्चुअल वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से केन्द्रीय गृह मंत्री, भारत सरकार एवं मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान की उपस्थिति में आयोजित किया गया है।इस कार्यक्रम को देखने एवं सुनने हेतु जिला प्रशासन द्वारा लिंक http://mp.mygov.In/ में आनलाईन पंजीयन कराने की अपील की गई है।
राज्य शासन द्वारा कार्यक्रम के आयोजन हेतु दिशा निर्देश जारी किए गए है। सीईओ जिला पंचायत उमरिया अंशुल गुप्ता ने जिले के समस्त सीईओ जनपद पंचायत को  सभी आवासों की जनपदवार, ग्राम पंचायतवार, ग्रामवार, हितग्राहीवार सूची बनाने, प्रत्येक जनपद पंचायत में पीएमजीएवाय के पंजीकृत समस्त हितग्राहियों का कार्यक्रम हेतु पंजीयन कराने  तथा समस्त हितग्राहियों को उक्त कार्यक्रम में भागीदारी की सूचना एम.एम.एस. व अन्य माध्यम से देना सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए है।जनपद पंचायत के समस्त ग्राम पंचायों को कार्यक्रम हेतु लाईव कनेक्ट किया जाएगा। सभी जनपद पंचायत कार्यालय तथा समृद् पर्यावास कार्यालयों को भी कार्यक्रम से कनेक्ट किया जाएगा।  मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत को ट्वीटर हेन्डल, फेसबुक पेज पर व सोशल मीडिया के अन्य प्लेट फार्मस में कार्यक्रम का कैम्पेन चलाते हुये व्यापक प्रचार-प्रसार करने को कहा गया है। जिला जनसम्पर्क अधिकारी के माध्यम से भी इस कार्यक्रम का व्यापक प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। जनपद पंचायतों के त्रिस्तरीय पंचायतों के सभी अधिकारी कर्मचारियों, आंगनबाडी कार्यकर्ता, आशा कार्यकर्ता एवं पटवारी आदि को इस कार्यक्रम से जोड़ने को कहा गया है। प्रत्येक जनपद पंचायतों में पूर्ण हुये आवासों के 5 हितग्राहियों को जिला सूचना केन्द्र बुलाया जाये, जिनमें 01 महिला, कम से कम एक हितग्राही अनुसूचित जाति अनुसूचित जनजाति वर्ग का हो यथा संभव इन 5 हितग्राहियों में कम से कम एक प्रवासी श्रमिक हो। गृह प्रवेशम् में स्थानीय जनप्रतिनिधियों को भी आमंत्रित करने के निर्देश दिए गए है। गृह प्रवेशम् कार्यक्रम के दौरान कोविड-19 के प्रोटोकाल का पालन करते हुये मास्क लगाने, आवश्यकतानुसार सेनेटाईजर का उपयोग व सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने हेतु कहा गया है।

प्रदेश में पर्यटकों की पहली पसंद बांधवगढ़ – “खुशियो की दास्तां”

ट्रेवल एजेंसी ट्रिप एडवाइज ने जारी किए सर्वेक्षण परिणाम, विश्व के टॉप 25 नेशनल पार्क में बांधवगढ़ को 13वां रैंक
उमरिया | 10-फरवरी-2021

   बांधवगढ़ से जुड़े वन्यजीव प्रेमियों के लिए अच्छी खबर है। ट्रेवेल एजेंसी ट्रिप एडवाइज ने पर्यटकों के सर्वे की एक सूची जारी की है। इसमे प्रकृति सौंदर्य व पर्यटकों के अनुभवों के आधार पर नेशनल पार्कों को स्थान मिला है। विश्व के 25 चुनिंदा नेशनल पार्कों में मध्यप्रदेश से एकमात्र बांधवगढ़ चुना गया है। वही देशव्यापी क्रम में जिम कार्बेट नेशनल पार्क उत्तराखण्ड भी है। कार्बेट को विश्व के दूसरे सबसे बढिया पार्क माना गया है।
बांधवगढ़ क्षेत्र संचालक विंसेंट रहीम का कहना है ट्रिप एडवाइज कंपनी ने अपने उपभोक्ताओं के साथ नेशनल पार्क के संबंध में सर्वेक्षण किया था। परिणाम में उन्होंने विश्व के 25 सर्वश्रेष्ठ नेशनल पार्कों की सूची जारी की है। मध्यप्रदेश के लिए यह गौरव की बात है इस सूची में बांधवगढ़ को 13 वां स्थान दिया गया है। इसमे भारत के दो राष्ट्रीय उद्यान है। दूसरा कार्बेट है। उसे विश्व में दूसरा स्थान मिला है। निश्चित ही यह खबर बांधवगढ़ से जुड़े प्रबंधन टीम, पर्यटन कारोबार से जुड़े होटल, रिसॉर्ट, गाइड, वाहन, टूर एजेंट व स्थानीय ग्रामवासी, उन सबके लिए गौरव की बात है। सभी के समन्वित प्रयास से यह फीड बैक मिल पाया। विश्वभर के लोगों ने इसे स्वीकारा है।
ट्रेवल कंपनी द्वारा बांधवगढ़ टाईगर रिजर्व में भौगोलिक खासियत से लेकर अन्य मुख्य चीजें सार्वजनिक की गई हैं। टाईगर रिजर्व क्षेत्र की खसियत, जैव विविधता व मुख्य आकर्षण के केन्द्रों को बताया गया है। ज्ञात हो कि यहां 1536 वर्ग किमी. में 126 बाघ हैं। पार्क क्षेत्र में बाघ, तेंदुए, जंगली हाथी, बायसन, बारहसिंघा, हिरण के साथ 22 से अधिक स्तनधारियों की प्रजातियां पाई जाती हैं। ऊंचे-ऊंचे घास मैदान, बांस का जंगल, बांधवाधीश किला, शेषशैय्या शामिल किए हैं। यही नहीं हाल ही में प्रदेश सरकार ने बफर में सफर योजना के तहत हॉट एयर बैलून सफारी चालू की है। दिन के साथ ही बफर के तीन गेट में नाइट सफारी साल 2020 से प्रारंभ हुई है। ये सारी सुविधाएं पर्यटकों को ऑनलाइन व आफलाइन काउंटर से मप्र. टूरिज्म बोर्ड उपलब्ध कराता है। इनके चलते बांधवगढ़ देश ही नहीं बल्कि विदेशियों की पहली पसंद बना हुआ है।

एक नजर पर्यटन कारोबार
सीजन  पर्यटक  राशि
2016-17 139545 5,98,00,437
2017.18 131711 5,75,00,829
2018.19 165023 8,52,49,641
2019.2 51559 2,42,79,057

चार साल के बच्चे लिए फरिश्ता बनकर उभरे मानपुर के डॉक्टर “खुशियो की दास्तां “

उमरिया | 02-फरवरी-2021

   डॉक्टर को भगवान का दूसरा रूप मनाया गया है। क्योकि भगवान के बाद डॉक्टर ही लोगो को जान बचाते है। ऐसे ही डॉक्टरों के सूझबूझ से चार माह की अबोध बच्ची की जान बचाई गई। मानपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के बी.एम.ओ. डाक्टर बी.के. प्रसाद के द्वारा बताया गया की ग्राम मझखेता के कुम्हई टोला निवासी मुन्नू पति दिनेश भुर्तियां की चार माह की अबोध बच्ची के गले मे अचानक दवाई का ढक्कन फंस गया था, घरवालों को जानकारी लगते ही बच्ची को अचेत अवस्था मे आनन फानन में मानपुर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लाया गया जहाँ पर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र के बी.एम.ओ. डाक्टर बी.के. प्रसाद ने तत्काल अपनी टीम के डाक्टर प्रदीप गुप्ता,डाक्टर अजय गुप्ता,सन्तोष कुमार सैनी,अल्का टिलानटे, ज्योती खबडाबड़े,ज्योती पटेल, को लेकर चार माह की अबोध बच्ची के गले मे फसे हुए ढक्कन को निकालने में सफल हुए हैं । डाक्टर बी.के.प्रसाद ने बताया की बच्ची खतरे से बाहर है।

लोगों की समस्याएं जानने स्कूटर पर निकले ऊर्जा मंत्री श्री तोमर

उमरिया | 15-दिसम्बर-2020

   ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युमन सिंह तोमर आज फिर अपनी जानी-मानी  शैली के अनुसार ग्वालियर में आम जनों से मिलने और उनकी समस्याएं जानने के लिए स्कूटर चला कर स्वयं ही निकल पड़े।  क्षेत्र में उन्हें जहां भी नागरिक मिले उनसे चर्चा की। नागरिकों ने विभिन्न समस्याओं के बारे में मंत्री श्री तोमर को बताया।
श्री तोमर ने तत्काल संबंधित अधिकारियों से बात कर समस्या का निराकरण के निर्देश दिए। इसके साथ ही समस्याओं का निराकरण  शीघ्र कराने का आश्वासन आम जनों को दिया।

ग्राम किरनताल में ग्रामीणों ने श्रमदान से शुरू की तालाब परिसर की सफाई “खुशियो की दास्तां”

उमरिया | 09-दिसम्बर-2020
   जिला मुख्यालय से लगे ग्राम किरनताल ग्राम के बैगा आदिवासी परिवारो ने गांव के तालाब परिसर की सॉफ सफाई का बीडा उठाया है। रविवार को ग्रामीणो ने तालाब के घाट, मेंड आदि में लगी घास तथा झाडियों की सफाई के लिये श्रमदान किया। ग्रामीणो का कहना है कि तालाब से पूरे गांव का निस्तार तो होता ही है साथ ही तालाब स्थित मंदिर में लोग पूजा करने आते है। ग्रामीणो ने बताया कि बरसात के दौरान तालाब की मेंड पर वृक्षारोपण भी करेगे। श्रमदान में श्रमिक सेवक एन पी सिंह परिहार के नेतृत्व में मुख्य रूप से सुरेश बैगा, कैलाश, रामदीन, मस्तराम, रामधनी, मंगल, रोशन तथा महिलायें माया बाई, निरूपिया, चैती, कुन्ती, फूलबाई सहित अन्य ग्रामीणो ने सहभागिता निभाई।
उल्लेखनीय है कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा जिले के भ्रमण के दौरान 25 नवंबर को आकस्मिक रूप से ग्राम किरनताल में पहुचकर ग्रामीणों की समस्याओ को सुना एवं उनके निदान की पहल की थी। जिससे ग्रामीण जन काफी उत्साहित है तथा ग्राम विकास के संकल्प के साथ श्रमदान का कार्य प्रारंभ किया है।

वाईएआई सीनियर नेशनल सेलिंग चैम्पियनशिप-2020

वाटर स्पोर्ट्स सेलिंग अकादमी की खिलाड़ी ने मध्यप्रदेश को दिलाए तीन स्वर्ण और दो रजत पदक, खिलाडि़यों के शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए खेल मंत्री ने दी बधाई
उमरिया | 01-दिसंबर-2020

   कोरोना काल के बाद पहली बार मुंबई में याटिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया द्वारा आयोजित वाईएआई सीनियर नेशनल सेलिंग चैम्पियनशिप-2020 में मध्य प्रदेश वाटर स्पोर्ट्स सेलिंग अकादमी की खिलाड़ी बेटियों ने शानदार प्रदर्शन करते हुए मध्यप्रदेश को तीन स्वर्ण और दो रजत पदक दिलाए हैं।

खिलाड़ी बेटियों पर गर्व
   प्रदेश की खेल और युवा कल्याण मंत्री श्रीमती यशोधरा राजे सिंधिया ने सीनियर नेशनल सेलिंग चैम्पियनशिप में अकादमी की खिलाडि़यों द्वारा अर्जित स्वर्णिम सफलता पर प्रसन्नता व्यक्त करते हुए पदक विजेता खिलाडि़यों को बधाई दी है। उन्होंने खिलाडि़यों के शानदार प्रदर्शन की सराहना करते हुए कहा कि कोरोना काल के बाद यह पहला अवसर है जब वाटर स्पोर्ट्स सेलिंग अकादमी की खिलाड़ी बेटियों ने अपनी प्रतिभा का उत्कृष्ट प्रदर्शन किया और पदक जीतकर मध्य प्रदेश को गौरवान्वित किया। हमें अपनी खिलाड़ी बेटियों पर गर्व है।
इन खिलाडि़यों ने जीते पदक

इंडियन नेवल वाटर मैनशिप ट्रेनिंग सेंटर मुंबई में 21 से 27 नवंबर, 2020 तक याटिंग एसोसिएशन ऑफ इंडिया द्वारा आयोजित सीनियर नेशनल सेलिंग चैम्पियनशिप के लेजर रेडियल इवेंट में शानदार प्रदर्शन करते हुए अकादमी की स्टार खिलाड़ी हर्षिता तोमर ने मध्य प्रदेश को स्वर्ण पदक दिलाया। प्रतियोगिता के 49मत थ्Û इवेंट में अकादमी की खिलाड़ी एकता यादव और रितिका दांगी की जोड़ी ने मध्यप्रदेश के लिए एक स्वर्ण पदक अर्जित किया और शीतल वर्मा और वंशिका परिहार की जोड़ी ने रजत पदक अर्जित किया। जबकि 470 मिक्सड क्लास इवेंट में अकादमी की खिलाड़ी श्रद्धा वर्मा और मुरैना के खिलाड़ी रवीन्द्र शर्मा की जोड़ी ने एक स्वर्ण पदक तथा उमा  चौहान  और अकादमी के पूर्व खिलाड़ी डिंडोरी के सोनू जाटव की जोड़ी ने मध्यप्रदेश को रजत पदक दिलाया।
उल्लेखनीय है कि सीनियर नेशनल सेलिंग चैम्पियनशिप में म.प्र. वाटर स्पोर्ट्स अकादमी की सात खिलाड़ी बालिकाओं ने भागीदारी की और सातों ने ही शानदार प्रदर्शन करते हुए पदक अर्जित किए हैं।

प्रदेश का मान बढ़ाया

संचालक खेल और युवा कल्याण श्री पवन कुमार जैन ने खिलाडि़यों के प्रतिभा प्रदर्शन की सराहना करते हुए कहा कि कोरोना काल के बाद पहली सीनियर नेशनल सेलिंग चैम्पियनशिप में वाटर स्पोर्ट्स अकादमी की बालिका खिलाडि़यों ने तीन स्वर्ण और दो रजत सहित पांच पदक जीतकर प्रदेश का मान बढ़ाया है।
चैम्पियनशिप में खिलाडि़यों ने वाटर स्पोर्ट्स सेलिंग अकादमी के मुख्य प्रशिक्षक अर्जुन अवॉर्डी श्री जी. एल. यादव एवं सहायक प्रशिक्षक श्री अनिल शर्मा के मार्गदर्शन में हिस्सेदारी कर पदक अर्जित किए।

25 नवम्बर तक मनाया जाएगा कौमी एकता सप्ताह

उमरिया | 24-नवम्बर-2020

      राज्य शासन के निर्देशानुसार जिले में 25 नवम्बर तक कौमी एकता सप्ताह मनाने के निर्देश सभी एस.डी.एम. और अधिकारियों को दिये है।
अपर कलेक्टर श्री कमल चन्द्र नागर ने उक्त जानकारी देते हुए बताया की 19 नवम्बर से 25 नवम्बर तक कौमी एकता सप्ताह अन्तर्गत राष्ट्रीय साम्प्रदायिक सदभाव प्रतिष्ठान नई दिल्ली द्वारा निर्धारित कार्यक्रम अनुसार कोविड़-19 को ध्यान में रखते हुए मनाने के निर्देश दिये गये है।

गौवंश संरक्षण के अधिकाधिक प्रयास होंगे मुख्यमंत्री श्री चौहान गौ अभ्यारण में मनाएंगे गोपाष्टमी

मुख्यमंत्री निवास पर हुई गोवर्धन पूजा
उमरिया | 18-नवम्बर-2020
    मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि गौवंश संरक्षण के अधिकाधिक प्रयास होंगे। मध्यप्रदेश ने गौ अभ्यारण बनाकर देश में अनूठी पहल की है। प्रदेश में निरंतर गौशालाएं बन रही हैं। गौरक्षा के लिए अन्य क्या कदम आवश्यक हैं, इसकी भी समीक्षा कर नए कदम लागू किए जाएंगे। आगर-मालवा का गौ अभ्यारण, गौवंश संरक्षण का मॉडल बनेगा। सरकार और समाज मिलकर गौवंश संरक्षण का कार्य करें, यह सुनिश्चित किया जाएगा। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि आज के दिन आमजन पर्यावरण बचाने का भी संकल्प लें। कार्तिक माह में शुक्ल पक्ष के दिन के आठवें दिन गोपाष्टमी पर्व की परंपरा है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इस बार वे गौ अभ्यारण में गायों की पूजा का गोपाष्टमी पर्व मनाएंगे।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने आज परिवार के साथ गोवर्धन पूजा के अवसर पर निवास में पूजा अर्चना के साथ मुख्यमंत्री निवास की गौशाला में इसी सप्ताह जन्मी दो बछियों-अष्टमी और धनवंतरी के साथ स्नेह दुलार किया और उन्हें आहार भी खिलाया। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने गोवर्धन पर्वत की परिक्रमा कर पूजा-अर्चना की। इस अवसर पर मुख्यमंत्री की धर्मपत्नी श्रीमती साधना सिंह और परिजन उपस्थित थे।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने इस अवसर पर कहा कि आज गोवर्धन पूजा आनंद का अवसर है। दरअसल यह प्रकृति और पर्यावरण की पूजा है। गोवर्धन पूजा का दिन पर्यावरण बचाने का संदेश देता है। भगवान श्रीकृष्ण द्वारा सर्वकल्याण के भाव से अपनी कनिष्ठिका पर गोवर्धन पर्वत को उठाया गया था। उन्होंने ब्रजवासियों से कहा था कि वे प्रतिवर्ष गोवर्धन पूजा कर अन्नकूट का पर्व मनाएं। तब से यह परंपरा चल रही है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि इस पर्व का आज भी महत्व है। यह पर्व प्रासंगिक है, युवा पीढ़ी को प्रकृति के महत्व से अवगत करवाने वाला पर्व है। बिना वृक्षों और पशुओं के मनुष्य के जीवन का भी अर्थ नहीं है।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गौमाता अद्भुत है। गाय के दूध से और गोमूत्र से अनेक औषधियां निर्मित होती हैं। गौवंश की पूजा से संतोष मिलता है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि गाय और बछियों के निश्चल, निष्कपट और निस्पृहरू प्रेम से आज अभिभूत हुआ हूँ और इन बछियों के स्नेह से अपार आनंद की अनुभूति हुई है।

प्रदेश में किल कोरोना अभियान के अच्छे परिणाम

58 प्रतिशत सर्वे पूर्ण, 1.26 प्रतिशत पॉजिटिविटी रेट, कोरोना एक्टिव प्रकरणों में मध्य प्रदेश देश में 16वें स्थान पर आया, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा की
उमरिया | 10-जुलाई-2020
      मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि प्रदेश में ष्किल कोरोनाष् अभियान के अच्छे परिणाम सामने आ रहे हैं। इसके अंतर्गत अभी तक प्रदेश में लगभग 4 करोड़ व्यक्तियों का यानि 58 प्रतिशत सर्वे पूर्ण कर लिया गया है। इनमें 47 हजार 690 व्यक्तियों के सैंपल लिए गए हैं, जिनमें 599 पॉजिटिव आए हैं। पॉजिटिविटी का प्रतिशत 1.26 प्रतिशत जो स्पष्ट रूप से बताता है कि प्रदेश में कम्युनिटी स्प्रेड जैसी कोई स्थिति नहीं है।
मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि देश के 17 ऐसे राज्य, जहां कोरोना संक्रमण अपेक्षाकृत अधिक है, इनमें एक्टिव प्रकरणों की संख्या में मध्य प्रदेश अब 16वें स्थान पर आ गया है, 17वें स्थान पर केरल है। मध्यप्रदेश में कोरोना के एक्टिव प्रकरणों की संख्या 8 जुलाई की स्थिति में 3420 है।
मुख्यमंत्री श्री चौहान मंत्रालय में वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रदेश में कोरोना की स्थिति एवं व्यवस्थाओं की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में स्वास्थ्य मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा, मुख्य सचिव श्री इकबाल सिंह बैंस, प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्री फैज अहमद किदवई उपस्थित थे।

पैरामीटर्स अच्छे है, सावधानी रखें

जबलपुर जिले की समीक्षा में पाया गया कि वहां पैरामीटर्स अच्छे हैं। पॉजिटिविटी दर 2.99 प्रतिशत है, रिकवरी दर 77.5 प्रतिशत है तथा मृत्यु दर 2.89 प्रतिशत है। जिले में अभी एक्टिव प्रकरण 95 है तथा 375 व्यक्ति स्वस्थ होकर घर जा चुके है। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि सावधानी रखें, जिससे आगे संक्रमण न फैले।

एक जून के बाद मृत्यु दर शून्य

मंदसौर जिले की समीक्षा में पाया गया कि वहां एक जून के पश्चात कोरोना मृत्यु दर शून्य है। जिले में अभी 44 एक्टिव मरीज हैं, 106 मरीज स्वस्थ होकर घर जा चुके हैं। मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि जिला राजस्थान का सीमावर्ती होने से वहां से आवा-जाही में सावधानी बरती जाए। मुख्य सचिव श्री बैंस ने निर्देश दिए कि जिले में फर्स्ट कॉन्टेक्ट ट्रेसिंग काफी कम (6.9 प्रतिशत) है। इसे बढ़ाया जाए।

बिना स्क्रीनिंग के कोई आएगा-जाएगा नहीं

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने निर्देश दिए कि अन्य राज्यों के सीमावर्ती जिलों में कोई भी व्यक्ति राज्य की सीमा में बिना स्क्रीनिंग के आए-जाए नहीं यह कलेक्टर सुनिश्चित करें।

आयोग द्वारा राज्यसभा चुनाव में कोविड-19 के दृष्टिगत निर्वाचकों को पोस्टल बैलट की सुविधा

उमरिया | 18-जून-2020

    भारत निर्वाचन आयोग ने राज्यसभा चुनाव में कोविड-19 के दृष्टिगत पोस्टल बैलट की भी सुविधा प्रदान की है। आयोग द्वारा कोविड-19 के इलाज के लिये राज्य के अंदर अस्पताल में भर्ती निर्वाचक को निर्वाचन में भाग लेने के लिये पोस्टल बैलट की सुविधा दी गई है। चिकित्सीय सलाह पर यदि कोई निर्वाचक पोलिंग स्टेशन आकर वोट डालने में सक्षम नहीं है और ऐसा निर्वाचक पोस्टल बैलट के लिये अनुरोध करता है, तो रिटर्निंग अधिकारी पोस्टल बैलट प्रदान करेगा।
रिटर्निंग ऑफीसर पोस्टल बैलट पहुँचाने और उसे कलेक्ट करने की व्यवस्था सुनिश्चित करेगा। यह व्यवस्था आयोग द्वारा मुख्य सचिव को दिये गये निर्देशों के अंतर्गत कोविड-19 के लिये बनाये गये नोडल अधिकारी के समन्वय में की जायेगी।
बैलट पेपर जारी करने के जो निर्देश आयोग द्वारा दिये गये हैं, उनके अनुसार राज्यसभा निर्वाचन मतदाता-सूची का मतदाता क्रमांक बैलट पेपर के काउंटर फाइल पर डाला जायेगा और काउंटर फाइल को सुरक्षित रखा जायेगा।
आयोग ने संबंधित निर्वाचक का इलाज करने वाले डॉक्टर को यह प्रमाणित करने का प्राधिकारी बनाया है कि संबंधित निर्वाचक अस्पताल में भर्ती होकर कोविड-19 का इलाज करा रहा है।

सीएम राईज डिजिटल शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत शिक्षकों का प्रशिक्षण जारी

उमरिया | 02-जून-2020

    सहायक आयुक्त आदिवासी विकास आनंद राय सिन्हां ने बताया है कि राज्य शासन के निर्देशानुसार सीएम राईज डिजिटल शिक्षक प्रशिक्षण कार्यक्रम का संचालन किया जा रहा है, जिसमंे कक्षा 1 से 12 तक के 2840 शिक्षकों का पंजीयन किया जाना था, तथा जिसमें प्रथम कोर्स प्रशिक्षण से परिचय में 2682 शिक्षकों का पंजीयन किया गया तथा 2571 शिक्षकों की कोर्स पूर्ण किया। प्रदेश में उमरिया जिला चौथे स्थान पर रहा। द्वितीय कोर्स शिक्षक की भूमिका मे के तहत 2582 शिक्षकों का पंजीयन किया गया जिसमें 2196 शिक्षकों द्वारा कोर्स पूरा किया गया। जिला प्रदेश में दूसरे स्थान पर रहा। चिंतन प्रभावी शिक्षण का आधार विषय पर आधारित प्रशिक्षण में 1838 शिक्षकों ने पंजीयन कराया तथा 1026 शिक्षकों द्वारा कोर्स पूरा किया गया। जिला प्रदेश में दूसरे स्थान पर रहा।

समुदाय आधारित पोषण प्रबंधन लागू करने वाला पहला राज्य मध्यप्रदेश

मंत्री इमरती देवी ने बताई वार्षिक विभागीय कार्य-योजना
उमरिया | 18-फरवरी-2020

    मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य है, जहाँ अति-गंभीर कुपोषित बच्चों के लिये समुदाय आधारित पोषण प्रबंधन (सी-सेम) को अभियान के स्वरूप में प्रारंभ किया गया है। अभियान दो चरणों में क्रियान्वित किया जायेगा। पहले चरण में प्रदेश के 97 हजार 135 ऑगनवाड़ी केन्द्रों में 20 फरवरी तक अति गंभीर कुपोषित बच्चों के चिन्हांकन की कार्यवाही जारी है। महिला-बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने 14 फरवरी को भोपाल में विभागीय कार्य-योजना-2020 की जानकारी देते हुए बताया कि दूसरे चरण में केन्द्र आधारित पाँच दिवसीय स्वास्थ्य परीक्षण और निर्धारित मेडिसिन प्रदाय किया जायेगा। इसमें 12 सप्ताह तक पोषण, अवलोकन और परामर्श तथा ग्राम स्वास्थ्य, स्वच्छता और पोषण दिवसों पर मासिक स्वास्थ्य और पोषण की जाँच की जायेगी।
मंत्री इमरती देवी ने बताया कि 10 से 15 प्रतिशत अति गंभीर कुपोषित बच्चों को चिकित्सकीय जटिलताओं के कारण उपचार की आवश्यकता पड़ती है। 85 से 90 प्रतिशत अति गंभीर कुपोषित बच्चे, जिन्हें चिकित्सकीय जटिलता नहीं होती है, उनका समुदाय स्तर पर बेहतर पोषण प्रबंधन किया जायेगा। उन्होंने बताया कि सीमेस एप द्वारा प्रबंधन की निगरानी एवं पर्यवेक्षण किया जा रहा है। इमरती देवी ने बताया कि इस अभियान से लगभग 80 लाख बच्चों का शारीरिक माप कर उनके पोषण स्तर का निर्धारण किया जा सकेगा। साथ ही, लगभग 80 से 85 प्रतिशत बच्चों का समुदाय स्तर पर पोषण प्रबंधन भी किया जायेगा।
पोषण जागरुकता स्टॉल
महिला-बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने बताया कि आदिवासी क्षेत्रों में पोषण जागरुकता के लिए हाट-बाजारों में पोषण जागरूकता स्टॉल लगाया जायेगा। उन्होंने बताया कि आदिवासी क्षेत्रों में प्रति सप्ताह 963 और एक वर्ष में 50 हजार 76 पोषण जागरूकता स्टॉल लगाये जाने का लक्ष्य है। इसके अलावा, जन-समुदाय और घुमन्तू समुदाय आदि के साथ पोषण-संवाद भी किया जायेगा। उन्होंने बताया कि आदिवासी क्षेत्रों के साप्ताहिक हाट बाजारों में पोषण जागरूकता स्टॉल के माध्यम से बच्चों को पोषण बास्केट का वितरण किया जायेगा।
सामुदायिक पोषण रसोई
मंत्री इमरती देवी ने जानकारी दी कि स्थानीय स्तर पर उपलब्ध एवं उपयोग किए जाने वाले अनाज, फल तथा सब्जियों से स्वादिष्ट एवं पौष्टिक भोजन तैयार करने के प्रति जागरूकता लाने के लिए सामुदायिक पोषण रसोई कार्यक्रम शुरू किया जायेगा। उन्होंने बताया कि 8 से 31 मार्च तक स्थानीय स्तर पर उपलब्ध एवं उपयोग किये जाने वाले अनाज,फल तथा सब्जियों की सामुदायिक पोषण रसोई प्रतियोगिता आयोजित की जायेगी।
शुरू होंगे नए बाल शिक्षा केन्द्र
मंत्री इमरती देवी ने बताया कि 28 फरवरी 2020 को 800 नवीन बाल शिक्षा केन्द्रों की शुरूआत की जायेगी। उन्होंने बताया कि 3 से 6 वर्ष तक की आयु के बच्चों को गुणवत्तापूर्ण शाला पूर्व शिक्षा उपलब्ध कराने के उद्देश्य से पहले चरण में 313 ऑगनवाड़ी केन्द्रों को बाल शिक्षा केन्द्र के रूप में विकसित किया गया था।
खिलौना-पुस्तक बैंक
आँगनवाड़ी केन्द्रों में बच्चों के खेलने और पढ़ने के लिये प्रोत्साहित करने की दृष्टि से खिलौना-पुस्तक बैंक की स्थापना की जा रही है। समुदाय द्वारा अपने बच्चों के नाम पर आँगनवाड़ी केन्द्रों को उपयोगी खिलौने एवं पुस्तकें दान की जायेंगी। मंत्री इमरती देवी ने बताया कि समुदाय का आँगनवाड़ी केन्द्रों के साथ भावनात्मक जुड़ाव स्थापित करने के लिए इस योजना को लागू करने का निर्णय लिया गया।
समधारा 2020
महिला-बाल विकास मंत्री इमरती देवी ने बताया कि प्रदेश में 18 साल से कम उम्र के बच्चों की देखभाल, सुरक्षा तथा संरक्षण के लिए प्रदेश में समेकित बाल संरक्षण योजना चलाई जा रही है। इस योजना में 29 शासकीय और 83 अशासकीय संस्थाओं के माध्यम से 18 वर्ष तक के 3 हजार बच्चों का संरक्षण किया जा रहा है। इनमें 14 से 18 वर्ष के एक हजार बच्चे हैं। समधारा 2020 योजना ऐसे बच्चों को उनकी रूचि अनुसार शिक्षा एवं व्यावसायिक प्रशिक्षण प्रदान कर उन्हें आत्मनिर्भर बनाते हुए समाज की मुख्यधारा से जोड़ने का प्रयास है।

आठवी राज्य स्तरीय स्कूली शिक्षा विभाग की टेनिस बाल किक्रेट प्रतियोगिता संपन्न

प्रतियोगिता में खिलाड़ियो द्वारा दिया गया खेल भावना का परिचय सराहनीय – राजेश शर्मा, प्रतियोगिता में सागर संभाग विजेता तथा लोक शिक्षण संचालनालय की टीम रही उप विजेता
उमरिया | 11-फरवरी-2020
    स्कूली शिक्षा विभाग के तत्वाधान में आठवी राज्य स्तरीय टेनिस बाल क्रिकेट प्रतियोगिता का समापन समारोह आज जिला मुख्यालय स्थित अमर शहीद भगत सिंह स्टेडियम उमरिया में आयोजित किया गया । समापन समारोह के मुख्य अतिथि दैनिक बांधवभूमि समाचार पत्र के संपादक राजेश शर्मा ने कहा कि खेल में अनुशासन एवं खिलाडी भावना का परिचय सबसे महत्वपूर्ण होता है। पूरी प्रतियोगिता में सभी नौ टीमों के खिलाड़ियों द्वारा पूर्ण अनुशासन में रहकर भाग लिया गया। जो नवोदित खिलाडियो के लिए प्रेरणा दायक रहा। आपने कहा कि सभी खिलाडी उमरिया जिले की अच्छी यादें अपने साथ लेकर जाएं जो भी कमियां रही हो उन्हें यही छोंड़ जायें।
प्रतियोगिता का शुभारंभ 6 फरवरी को किया गया था। जिसमें प्रदेश के 9 संभागों तथा लोक शिक्षण संचालनालय की क्रिकेट टीम ने भाग लिया। प्रतियोगिता में कुल 180 खिलाडियो ने भाग लेकर अपनी प्रतिभा का परिचय दिया । पांच दिवसीय प्रतियोगिता में सागर संभाग की टीम ने बेहतरीन खेल का प्रदर्शन करते हुए ट्राफी पर कब्जा किया। उप विजेता लोक शिक्षण संचालनालय की टीम रही। जिला शिक्षा अधिकारी उमेश धुर्वे ने प्रतियोगिता में भाग लेने वाले टीमों उनके खिलाडियो तथा पूरे आयोजन को सफल बनानें में सहयोग देने वाले जनप्रतिनिधियों, शिक्षकों, खिलाडियो, अधिकारियों तथा उमरिया नगर के खेल प्रेमी लोगों के साथ ही संभाग स्तर से आयोजन का संचालन करने आये सभी शासकीय सेवकों के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया। प्रतियोगिता के आयोजन में संभागीय क्रीडा अधिकारी सुदर्शन मिश्रा एवं जिला क्रीडा अधिकारी शेख सलीम तथा उनके सहयोगियों की महत्वपूर्ण भूमिका रही।

जनसंपर्क विभाग द्वारा प्रदेश सरकार की एक वर्ष की उपलब्धियों, निर्णयों तथा क्रियान्वयन पर आधारित छायाचित्र प्रदर्शनी लगायी गई

महात्मा गांधी की 150 वीं जयन्ती वर्ष के अवसर पर उनके द्वारा म.प्र. में की गई यात्राओं पर आधारित प्रदर्शनी भी आकर्षण का केन्द्र रही
उमरिया | 28-जनवरी-2020

     गणतंत्र दिवस के अवसर पर सायं कालीन आयोजित भारत पर्व मे जनसंपर्क विभाग द्वारा प्रदेश सरकार की योजनाओं, निर्णयों तथा उपलब्धियो पर आधारित छायाचित्र विकास प्रदेर्शनी लगायी गई। जिसमें जय किसान फसल ऋण माफी योजना, युवाओं के लिए बेहतर कल का निर्माण, गुणवत्तापूर्ण स्कूली शिक्षा, महिलाओं को मिल रहा सम्मान और हम, उम्मीदें रंग लाई तरक्की मुस्कराई, आत्म निर्भर और खुशहाल मध्य प्रदेश, हमने हमने अपना वचन निभाया- बदलाव की ओर कदम बढ़ाया, प्रदेश मे रोजगार के द्वार, प्रदेश मे उद्योगों मे निवेश करने पर स्थानीय निवासियो को रोजगार 70 प्रतिशत अनिवार्य, फसल कर्ज माफी तथा शिल्प कला व आकर्षण का केंद्र मध्यप्रदेश पर आधारित छायाचित्र  प्रदर्शनी सामुदायिक भवन उमरिया में लगाई गई,जिसका अवलोकन उपस्थिति अतिथियों द्वारा किया गया।
राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की 150 वीं जयन्ती वर्ष के अवसर पर उनके द्वारा म.प्र. में की गई यात्राओं पर आधारित प्रदर्शनी आकर्षण का केन्द्र रही। प्रदर्शनी में महात्मा गांधी द्वारा इन्दैर, खण्वा, छिन्दवाडा, भोपाल, सिवनी, सांची बालाघाट, होशंगाबाद, मण्डला, जबलपुर, कटनी, खण्डवा, भेडाघाट आदि स्थानों में की गयी यात्राओं के दुर्लभ चित्रों को प्रदर्शित किया गया था। प्रदर्शनी का आयोजन प्रदेश सरकार के संस्कृति विभाग एवं जन सम्पर्क विभाग उमरिया द्वारा किया गया। दोनों प्रदर्शनी का अवलोकन अतिथियों, जन प्रतिनिधियों, गणमान्य नागरिकों, मीडिया के लोगों तथा विद्यार्थियों द्वारा किया गया।

राज्य सरकार ने शुरू किया आम आदमी के सर्वांगीण विकास का सिलसिला

मंत्री श्री हर्ष यादव ने संवाद कार्यक्रम में दी जानकारी
उमरिया | 21-जनवरी-2020
    कुटीर एवं ग्रामोद्योग तथा नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री श्री हर्ष यादव ने शनिवार को प्रभार के जिला रायसेन में संवाद कार्यक्रम में शामिल हुए।  श्री यादव ने कहा कि प्रदेश में नई सरकार ने पिछले एक वर्ष में सभी वर्गो के विकास के लिए महत्वपूर्ण निर्णय लेकर उनका तेजी से क्रियान्वयन सुनिश्चित किया गया। उन्होंने बताया कि लोगों का अपना घर का सपना साकार करने के लिये सरकार ने कलेक्टर गाईड लाईन में जमीन के दामों में 20 प्रतिशत की कमी की। आवास मिशन में प्रति परिवार दो लाख 50 हजार रूपये सहायता देना शुरू किया। भूमिहीनों को आवासीय पट्टे उपलब्ध कराए गये। इंदिरा गृह ज्योति योजना शुरू कर कमजोर वर्ग को हजारों रूपए के बिजली बिल से मुक्ति दिलाई गई। उन्होंने कहा कि कहा कि अब प्रदेश में घरेलू उपभोक्ताओं को 100 रूपए में 100 यूनिट बिजली मिल रही है। साथ ही, किसानों को 10 हार्स पॉवर तक के पम्पों के लिए आधी दर पर बिजली उपलब्ध कराई जा रही है।
प्रभारी मंत्री श्री यादव ने मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने सत्ता संभालते ही सबसे पहले किसानों का दो लाख रूपए तक का फसल ऋण माफ किया। पहले चरण में 20 लाख से अधिक किसानों का फसल ऋण माफ किया गया। शेष पात्र किसानों का फसल ऋण माफ करने के लिए दूसरा चरण शुरू हो गया है। उन्होंने कहा कि स्कूली शिक्षा को गुणवत्तापूर्ण बनाने के लिए पांचवी और आठवीं कक्षा को पुनः बोर्ड परीक्षा में शामिल किया गया। प्रदेश के इतिहास में पहली बार 35 हजार से अधिक शिक्षकों का ऑनलाईन ट्रांसफर किया गया।
मंत्री श्री यादव ने लोगों को बताया कि राज्य सरकार ने वृद्धावस्था पेंशन तथा विधवा पेंशन योजना की राशि बढ़ाकर 600 रूपए प्रतिमाह कर बुजुर्गों को राहत दी है। कन्या विवाह/निकाह योजना में सहायता राशि 28 हजार से बढ़ाकर 51 हजार रूपये की गई। महिलाओं और युवतियों को निःशुल्क ड्राईविंग लायसेंस देने का सिलसिला शुरू किया गया। युवाओं को रोजगार के अधिक से अधिक अवसर दिलाने के लिए प्रदेश में स्थापित होने वाले उद्योगों में 70 प्रतिशत नौकरियाँ स्थानीय लोगों को देने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया गया।

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ द्वारा श्री रमाकांत शर्मा के निधन पर शोक व्यक्त

उमरिया | 14-जनवरी-2020

    मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने श्री रमाकांत शर्मा के निधन पर शोक व्यक्त किया है। श्री कमल नाथ ने कहा कि मेरे मंत्रि-मंडल के साथी श्री पी.सी. शर्मा के बड़े भाई श्री रमाकांत शर्मा के निधन का समाचार सुनकर मुझे गहरा दुरूख हुआ है। मुख्यमंत्री  ने शर्मा परिवार के प्रति शोक संवेदनाएं व्यक्त करते हुए दिवंगत आत्मा को शांति तथा परिवार को यह दुरूख सहन करने की शक्ति देने की ईश्वर से प्रार्थना की है।

प्रभारी नगर पालिका अधिकारी चंदिया विनोद प्रसाद चतुर्वेदी निलंबित

उमरिया | 07-जनवरी-2020

कमिश्नर शहडोल संभाग श्री आर.बी. प्रजापति ने प्रभारी नगर पालिका अधिकारी चंदिया जिला उमरिया को नगरपालिका सेवा नियम 1973 के नियम 2(घ-दो) एवं नियम 36 तथा मध्यप्रदेश नगर पालिका अधिनियम 1961 की धारा 86(2) के तहत प्रदत्त शक्तियों का प्रयोग करते हुए मध्यप्रदेश सविल सेवा (वर्गीकरण नियंत्रण तथा अपील) नियम 1966 के नियम 9(1) के तहत तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है। निलंबन अवधि में नियमानुसार उन्हें जीवन निर्वाह भत्ते की पात्रता होगी।
जारी आदेश मे उल्लेखित किया गया है कि श्री विनोद प्रसाद चतुर्वेदी द्वारा नगर परिषद चंदियॉ जिला उमरिया मंे नगरीय क्षेत्रान्तर्गत भरोसा तालाब, भास्कर तालाब, छोहाई तालाब, जटवार तालाबों के गहरीकरण एवं सौदर्यीकरण कार्य में प्रशासकीय एवं वित्तीय अनियमितता एवं वार्ड नम्बर 6 में नाली निर्माण, वार्ड नम्बर 12 में सीसीरोड़ निर्माण में तकनीकी एवं वित्तीय अनियमितता की गई है। जिससे 24 लाख 46 हजार 727 रूपये की शासन को आर्थिक क्षति पहुचाई गई है। उक्त कृत्य मध्यप्रदेश नगर पालिका अधिनियम 1961 की धारा 92 एवं मध्यप्रदेश सिविल सेवा आचरण नियम के 1965 के नियम 3 का स्पष्ट उल्लंघन है।

वनाधिकार पट्टों के लियें आवश्यक दस्तावेज

उमरिया | 28-दिसम्बर-2019
   राज्य सरकार द्वारा वनाधिकार पट्टों के लिये आवश्यक दस्तावेजों का निर्धारण किया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार सरकार द्वारा वनाधिकार पट्टों के लियें आधार कार्ड, वोटर आई डी, मूल निवासी प्रमाण पत्र, जाति प्रमाण पत्र, दावेदार का फोटो, पति-पत्नि का फोटो और भरा हुआ हस्ताक्षरित व्यक्तिगत दावा प्रपत्र, समग्र आई आदि दस्तावेज आवश्यक है।

विजय दिवस पर दौड़ कार्यक्रम संपन्न

उमरिया | 17-दिसम्बर-2019

जिला मुख्यालय स्थित अमर शहीद स्टेडियम ग्राउण्ड से विजय दिवस के अवसर पर दौड़ का आयोजन किया गया। इस अवसर पर अमर शहीद स्टेडियम ग्राउण्ड से दौड प्रारंभ हुई जो गांधी चौक, जय स्तंभ चौक , अस्पताल तिराहा होते हुए पुनः स्टेडियम ग्राउण्ड पहुची। दौड को मुख्य नगर पालिका अधिकारी एस के गढपाले ने हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया। इस अवसर पर जिला खेल एवं युवा कल्याण अधिकारी रावेंद्र हाड्रिया सहित अन्य शासकीय अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित रहे। विदित हो कि कार्यक्रम के सफल क्रियान्वयन हेतु अधिकारियों कर्मचारियो की ड्युटी लगाई गई थी।
कार्यक्रम में सहायक आयुक्त आदिम जाति कल्याण आनंद राय सिन्हां ने बच्चों से परिचय प्राप्त किया एवं विजय दिवस के बारे में विस्तार से बताया।

राइट टू हेल्थ कॉन्क्लेव एक-दो नवम्बर को भोपाल में

उमरिया | 25-अक्तूबर-2019

 एक और दो नवम्बर को मिन्टो हॉल भोपाल में राइट टू हेल्थ कॉन्क्लेव होने जा रहा है। दो दिन के कॉन्क्लेव में स्वास्थ्य एवं समाज सेवा से जुडे देश भर के प्रबुद्ध व्यक्ति शामिल होंगे। मध्यप्रदेश सरकार स्वास्थ्य के अधिकार का कानून बनाकर नागरिकों के अधिकारों की एक व्यवस्था सुनिश्चित करने के लिये कटिबद्ध है।
राइट टू हेल्थ कॉन्क्लेव में प्राप्त सुझावों एवं निष्कर्षों के आधार पर कानून तैयार करने के लिये ड्राफ्ट तैयार किया जायेगा।

मध्यप्रदेश का निवेश – इतिहास बदल जाएगा- मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ

उमरिया | 22-अक्तूबर-2019

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा है कि मध्यप्रदेश सभी राज्यों से भिन्न है। ये प्राकृतिक और लॉजिस्टिक रूप से उद्योगों के लिए काफी अनुकूल है। आज इंदौर में विभिन्न राज्यों से आए निवेशक मध्यप्रदेश की विशेषताओं और उद्योगों के अनुकूल नीतियों को जानकर काफी आशान्वित हुए हैं। मेरा विश्वास है कि अब मध्यप्रदेश का निवेश – इतिहास बदल जाएगा। मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने इंदौर के ब्रिलिएंट कन्वेंशन सेंटर में मैग्नीफिसेंट एमपी के समापन पर सांस्कृतिक प्रस्तुतियों के पश्चात संबोधित कर रहे थे।
इस अवसर पर कलाकारों की प्रस्तुतियों ने उद्योगपतियों और आमंत्रित अतिथियों का मन मोह लिया। मुख्य सचिव श्री एस.आर. मोहन्ती सहित वरिष्ठ अधिकारी कार्यक्रम में उपस्थित थे। सीआईआई के अध्यक्ष श्री प्रवीण अग्रवाल ने आभार माना।

मुख्यमंत्री ने सुनी आम लोगों की समस्याएँ

उमरिया | 15-अक्तूबर-2019

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने गत दिवस छिन्दवाड़ा में शिकारपुर स्थित अपने कार्यालय में आम लोगों की समस्याएँ सुनी और आवेदन भी लिये। जिले के दूरदराज के लोग बड़ी संख्या में अपनी समस्याओं के निराकरण के लिये मुख्यमंत्री से मिलने पहुँचे।
सहज योग केन्द्र पहुँचे श्री कमल नाथ
मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने शनिवार को देर शाम छिन्दवाड़ा जिले में लिंगा स्थित माँ निर्मला देवी के सहज योग केन्द्र का भ्रमण किया। केन्द्र के संचालकों ने मुख्यमंत्री को केन्द्र के बारे में आवश्यक जानकारी दी।
जिले के प्रभारी लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी मंत्री श्री सुखदेव पांसे, सांसद श्री नकुल नाथ और पूर्व विधायक श्री दीपक सक्सेना मुख्यमंत्री की आम लोगों से मुलाकात और सहज योग केन्द्र के भ्रमण में साथ रहे।

पहाड़ों से घिरा छोटी तुम्मी-बड़ी तुम्मी का चित्रकारी युक्त दृश्य (खुशियो की दास्तां)

उमरिया | 01 अक्टूबर -2019

जिला मुख्यालय से 40 किमी दूर घने पहाड़ों के बीच स्थित पिकनिक स्पॉट छोटी तुम्मी और उसके आगे बड़ी तुम्मी प्राकृतिक सौंदर्यता से भरपूर है। यहां आने के बाद ऐसा लगता है जैसे व्यक्ति किसी चित्रकारी का हिस्सा हो गया हो। पूरा परिवेश किसी विशाल पोट्रेट जैसा ही है। छोटी तुम्मी अनूपपुर तो बड़ी तुम्मी क्षेत्र उमरिया जिले की सीमा में लगता है। यहां पर टाइगर का मूवमेंट भी रहता हैं, इस लिहाज से यहां पर सुरक्षा के इंतजामों की आवश्यकता भी है। यह क्षेत्र पिकनिक स्पॉट के लिए प्रसिद्ध हो चुका है और यहां प्रतिदिन लोग पहुंचते हैं। जंगल से घिरे इस क्षेत्र में दूर बहते नाले के पानी की आवाज संगीत की तरह घुली रहती है। यहां आने वालों को जंगली जानवरों के दीदर अवश्य होते हैं और यह एक रोमांचक यात्रा के लिए मशहूर क्षेत्र है।

मध्यप्रदेश ऑनलाइन सम्पत्ति सेवाएँ प्रदान करने में अव्वल

उमरिया | 24-सितम्बर-2019

प्रदेश में ऑनलाइन सम्पत्ति पंजीयन एवं अन्य सेवाओं में सराहनीय कार्य के लिये पंजीयन महानिरीक्षक के सम्पदा पोर्टल को उपभोक्ताओं ने देश भर में सर्वाधिक अंक दिये हैं। पंजीयन मुख्यालय ने दस्तावेजों का ऑनलाइन पंजीयन, दस्तावेजों की ऑनलाइन सर्च, दस्तावेजों की ऑनलाईन प्रमाणित प्रति का प्रदाय इत्यादि सेवाओं के लिये शत-प्रतिशत अंक हासिल किये हैं।
स्टेट बिजनेस रिफॉर्मस एक्शन प्लान 2017 और 2018 के लिए ईजी ऑफ डूइंग बिजनेस के अन्तर्गत कई राज्यों के तुलनात्मक विश्लेषण से यह जानकारी प्राप्त हुई है। ऑनलाइन सेवाओं के उच्चतम मापदण्डों के लिए भारत सरकार द्वारा स्टेट बिजनेस रिफॉर्मस एक्शन प्लान क्रियान्वित किया जा रहा है। वर्तमान में नये मानकों पर वर्ष 2019 के लिए स्टेट बिजनेस रिफॉर्मस-एक्शन प्लान का अवलोकन हो रहा है। इसमें संपूर्ण अंक उपभोक्ताओं के फीडबेक पर आधारित होंगे। वाणिज्यिक कर मंत्री श्री बृजेन्द्र सिंह राठौर ने इस उपलब्धि के लिये पंजीयन अधिकारियों-कर्मचारियों को बधाई दी है। श्री राठौर ने उम्मीद जताई है कि वर्ष 2019 में भी वाणिज्यिक कर विभाग का महानिरीक्षक पंजीयन कार्यालय उच्च मानकों पर खरा उतरेगा।

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा पूरे भारत में मतदाता सत्यापन कार्यक्रम 15 अक्टूबर तक

उमरिया | 17-सितम्बर-2019

आयोग ने प्रदेश के समस्त मतदाताओं के सत्यापन की समय-सीमा 15 अक्टूबर के पूर्व सम्पन्न किये जाने हेतु कहा है। विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण 2020 के प्रारूप प्रकाशन के पूर्व जिले के समस्त मतदाताओं के सत्यापन का कार्य शत-प्रतिशत पूर्ण कराया जाना है, जिसके आधार पर जिले में प्रारूप प्रकाशन की अनुमति आयोग से प्राप्त होगी। मतदाता सत्यापन कार्य को समय-सीमा में पूर्ण करने के लिये जिले के सभी विधान सभा क्षेत्रों की समीक्षा की जायेगी।
मतदाता सहायता केन्द्र पर जो भी मतदाता सत्यापन, संशोधन के लिये आएंगे उनका सत्यापन उस विधानसभा क्षेत्र के डाटा एन्ट्री आपरेटर लॉगिन से किया जाएगा। प्रत्येक मतदान केन्द्र हेतु नियुक्त बीएलओ Hybrid BLO Register App द्वारा डोर टू डोर भ्रमण के दौरान क्षेत्र के समस्त मतदाताओं एवं उनके परिवार से व्यक्तिगत सम्पर्क कर सत्यापन का कार्य एवं उनके मकान की लोकेशन को दर्ज करना सुनिश्चित करेंगे।
मतदाता सत्यापन मतदाता द्वारा स्वयं वोटर हेल्पलाईन एप्प के माध्यम से, NVSP पोर्टल के माध्यम से, कॉमन सर्विस सेन्टर के माध्यम से, जिला कान्टेक्ट सेन्टर 1950 के माध्यम से, विधानसभा स्तर पर मतदाता सहायता केन्द्र के माध्यम से संचालित किया जा सकता है।

अवकाश के दिनों में भी अपने घर में विद्यार्थियों को पढ़ाते है शिक्षक सुनील मिश्रा “खुशियो की दास्तां”

उमरिया | 06-सितम्बर-2019

शिक्षक का पद उदत्त होता है। वह सदैव अपने विद्यार्थियो को अपनी ज्ञान गंगा देता है तथा उसकी चाहत होती है कि उसके द्वारा पढाए गए विद्यार्थी उच्च पदों पर आसीन हो। बस इतनी ही जानकारी से वह अपनी मेहनत का फल प्राप्त कर लेता है।
आज जब शिक्षा के संबंध में अनेकों तरह की बाते समाज एवं देश में उठ रही है तब उमरिया जिले के करकेली जनपद पंचायत मे संचालित प्राथमिक शाला सेहराटोला में पदस्थ शिक्षक सुनील मिश्रा ने अपने गुरूतर दायित्व को इस तरह से निभा रहे है जिसका अनुकरण पूरे समाज के लिए सराहनीय है। शिक्षक सुनील मिश्रा छुट्टी के दिनो में कमजोर विद्यार्थियों को घर बुलाते है तथा वे स्वयं एवं उनकी बेटी इन विद्यार्थियों के शैक्षणिक स्तर को बढाने हेतु प्रयास करते है।
शिक्षक सुनील मिश्रा ने बताया कि हमारी स्कूल में दो कक्ष एवं तीन शिक्षक है। एक कक्ष में दो शिक्षकों को पढाना पडता है। पढाई के दौरान मेरे ध्यान मे आया कि कक्षा तीन बच्चे जिनकी पढाई में कम रूचि है वे पढने की जगह इधर उधर की गतिविधियां करते रहते है। इन विद्यार्थियों को अन्य विद्यार्थियों की श्रेणी मे लाने हेतु विशेष प्रयास की आवश्यकता है। बस इसी सोच के साथ इन विद्यार्थियो को छुट्टी के दिनो में घर बुलाकर अध्ययन कराना प्रारंभ किया। अब ये बच्चे भी अन्य बच्चों की तरह मन लगाकर पढाई करने लगे है।

“स्वाधीनता आन्दोलन” प्रदर्शनी अब 31 अगस्त तक

उमरिया | 31-अगस्त-2019

संचालनालय पुरातत्व अभिलेखागार एवं संग्रहालय द्वारा राज्य संग्रहालय, श्यामला हिल्स भोपाल में “स्वाधीनता आन्दोलन 1920-1947” विषय से संबंधित दुर्लभ अभिलेखों एवं छायाचित्रों की प्रदर्शनी की अवधि 31 अगस्त तक बढ़ाई गई है। प्रदर्शनी 31 अगस्त तक प्रातरू 10:30 से सायंकाल 5.30 बजे तक खुली रहेगी। प्रवेश नि:शुल्क है।

 

ग्रामीण अंचलों में अधोसंरचना विकास के लिये 7,828 करोड़ 

ग्राम पंचायतों के माध्यम से होंगे कार्य – मंत्री श्री पटेल 

उमरिया | 23-अगस्त-2019

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल ने कहा है कि ग्रामीण क्षेत्रों में अधोसंरचना विकास के लिए इस वर्ष 7 हजार 828 करोड़ की राशि उपलब्ध कराई जाएगी। यह राशि गत वर्ष की तुलना में एक हजार 49 करोड़ अधिक है। उन्होंने बताया कि यह राशि ग्राम पंचायतों के माध्यम से व्यय की जाएगी।
मंत्री श्री पटेल ने कहा कि पंचायत राज अधिनियम के प्रावधानों में पंचायत संस्थाओं को पुनरू सशक्त बनाने का निर्णय लिया गया है। इसी कड़ी में पंचायत राज प्रतिनिधियों को अधिकार-सम्पन्न बनाया गया है। निर्वाचित पदाधिकारियों के विकल्प पर राज्य वित्त आयोग की राशि में भी इजाफा किया गया है। इसके लिए वर्ष 2018-19 में 406 करोड़ 40 लाख का प्रावधान किया गया था। चालू वित्त वर्ष में यह राशि बढ़ाकर 552 करोड़ 50 लाख कर दी गई है।

स्वच्छ भारत ग्रामीण मिशन के लिये एक हजार करोड़ का प्रावधान 

ढाई हजार ग्रामों में होगा ठोस अपशिष्ट प्रबंधन
उमरिया |

09-अगस्त-2019

पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल ने कहा है कि स्वच्छ भारत ग्रामीण मिशन में इस वर्ष प्रदेश के ढाई हजार गांव में ठोस अपशिष्ट प्रबंधन कार्य प्रारंभ किया जायेगा। उन्होंने बताया कि मिशन के लिये बजट में एक हजार करोड़ का प्रावधान किया है।
मंत्री श्री पटेल ने कहा कि वर्ष 2018-19 में प्रदेश में 7 लाख 49 हजार 400 शौचालयों का निर्माण कर 25 हजार 612 ग्रामों को खुले में शौच से मुक्त घोषित किया गया है। अभियान में 392 ग्रामीण उप-स्वास्थ्य केन्द्रों में सामुदायिक स्वच्छता परिसरों का निर्माण कराया गया है। उन्होंने बताया कि खुले में शौच से मुक्त घोषित हो चुकी पंचायतों में ठोस एवं तरल अपशिष्टों के निपटान के लिये वित्तीय प्रावधान किये गये हैं। मंत्री श्री पटेल ने कहा कि मिशन में 150 परिवार वाली ग्राम पंचायतों को 7 लाख, 300 परिवार वाली ग्राम पंचायतों को 12 लाख, 500 परिवार वाली ग्राम पंचायतों को 15 लाख एवं 500 से अधिक परिवार वाली ग्राम पंचायतों को 20 लाख रूपये व्यय का प्रावधान किया गया है।