Friday, August 23News That Matters

कटनी

Share

मुख्यमंत्री स्वेच्दानुदान मद से 20 हजार रुपये की आर्थिक सहायता स्वीकृत 

कटनी | 16-अगस्त-2019

मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान मद से एक प्रकरण में 20 हजार रुपये की आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है। यह आर्थिक सहायता हॉस्पिटल लाईन माधवनगर कटनी निवासी मंजू मोटवानी को कैंसर के उपचार के लिये प्रदान की जा रही है। जिसे जबलपुर स्थित आदित्य सुपर स्पेशिलिटी हॉस्पिटल ट्रॉमा केयर के बैंक खातें ट्रान्सफर किया जायेगा।

हॉस्टल का सुचारु संचालन कर छात्रों को बेहतर माहौल देवें अधीक्षक 

छात्रावास अधीक्षकों की बैठक में कलेक्टर के निर्देश 

कटनी | 06-अगस्त-2019

 कलेक्टर शशिभूषण सिंह ने कहा कि हॉस्टल का सुचारु संचालन करते हुये बच्चों के शरीरिक और मानसिक विकास के लिये छात्रावास अधीक्षक बेहतर माहौल देने का प्रयास करें। उन्होने कहा कि छात्रावासी बच्चों की सुरक्षा, खान-पान, रहन-सहन की व्यवस्थाओं के अलावा उन्हें शैक्षणिक मार्गदर्शन और खेल और प्रतिभा प्रोत्साहन की गतिविधियां भी संचालित की जानी चाहिये। सोमवार को कलेक्टर श्री सिंह ने आदिम जाति कल्याण विभाग के जिले में संचालित 59 छात्रावासों के अधीक्षकों की बैठक में यह निर्देश दिये। जिला संयोजक आदिम जाति कल्याण सरिता नायक भी इस मौके पर उपस्थित रहीं।
कलेक्टर श्री सिंह ने बालक और बालिका छात्रावासों में भवन, बाउण्ड्री वॉल, बच्चोंके रहने, खाने-पीने की व्यवस्था, सुरक्षा और छात्रावासों के संचालन, रख रखाव के संबंध में जानकारी ली। कलेक्टर ने कहा कि छात्रावास में रह रहे बच्चों की सुरक्षा और देखभाल की महती जिम्मेदारी अधीक्षकों की होती है। अधीक्षक अपने परिसर में स्थित आवास में ही निवास करें। छात्रावासों की मेस में निर्धारित मेनू अनुसार भोजन और नाश्ते का वितरण छात्रों को करायें। मेस और किचन में साफ-सफाई व खाद्य पदार्थों की शुद्धता का ध्यान रखें। बच्चों के लिये उपलब्ध खेल सामग्री से आउटडोर व इनडोर खेल की गतिविधियां संचालित करें। इसके अलावा यदि छात्रावासी छात्र में किसी तरह की प्रतिभा है, तो उसे विशेष रुप से प्रोत्साहित करें। बच्चों के उपयोग के लिये टीवी और समाचार पत्रों का उपयोग छात्रों के लिये ही करें।
कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि छात्रावास के अधीक्षक मूलरुप से शिक्षक ही होते हैं। स्कूल से लौटकर आने के बाद छात्रों को शैक्षणिक मार्गदर्शन दें। हायर सेकेण्डरी और हाई स्कूलों के छात्र-छात्राओं को पठन-पाठन कार्य में सहायता करें। उन्होने कहा कि हर 15 दिन के बाद हॉस्टल में स्थानीय बीएमओ के माध्यम से चिकित्सकों को बुलाकर छात्र-छात्राओं का स्वास्थ्य परीक्षण करायें। कलेक्टर श्री सिंह ने प्राइवेट भवनों में लगने वाले 5 हॉस्टल भवन और बाउण्ड्री विहीन छात्रावासों में बाउण्ड्री बनाने के प्रस्ताव तैयार कर शासन को स्वीकृति के लिये भेजने के निर्देश दिये। उन्होने बंद परिसर और बाउण्ड्री वॉल युक्त छात्रावासों में 15 अगस्त को कम से कम 20-20 फलदार पौधे रोपित करने के निर्देश दिये। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि जिले के प्रतिभाशाली टॉप फाईव छात्रावासी बच्चों और उनके छात्रावास अधीक्षक को राष्ट्रीय पर्व पर सम्मानित भी किया जायेगा।

शांति समिति की बैठक 29 जुलाई को

कटनी | 26-जुलाई-2019

अगस्त माह में 12 अगस्त को ईदुज्जुहा, 15 अगस्त को रक्षाबंधन, 23 अगस्त को कृष्ण जन्माष्टमी एवं 12 सितम्बर को मोहर्रम का त्यौहार मनाया जाना है। इन त्यौहारों को मद्देनजर रखते हुये त्यौहारों में पूर्ण शांति एवं कानून व्यवस्था बनाये रखने की दृष्टि से शांति समिति की बैठक का आयोजन 29 जुलाई को होगा। यह बैठक सायं 4 बजे से कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित होगी। संयुक्त कलेक्टर सपना त्रिपाठी ने समिति सदस्यों से बैठक में उपस्थित होने का अनुरोध किया है।

 

निजी स्कूलों में चयनित बच्चों का प्रवेश 25 जुलाई तक

कटनी | 23-जुलाई-2019

शिक्षा का अधिकार अधिनियम में निजी स्कूलों की प्रथम प्रवेशित कक्षा में नि:शुल्क प्रवेश की अंतिम तिथि 20 जुलाई से बढाकर 25 जुलाई कर दी गई है। इस तारीख के बाद भी यदि कोई चयनित बच्चा एडमिशन रिपोर्टिंग के लिए शेष रह जाता है, तो संबंधित स्कूल ही इसके लिए उत्तरदायी होगा।
पालकों से आग्रह किया गया है कि वे बढ़ी हुई तारीख 25 जुलाई तक अपने बच्चों का आवंटित स्कूलों में प्रवेश अवश्य करवायें। पालकों को पोर्टल से आवंटन पत्र डाउनलोड कर सीधे स्कूल जाना होगा। स्कूल इसी आवंटन-पत्र के आधार पर बच्चों को एडमिशन देंगे। निजी स्कूलों द्वारा आरटीई में प्रवेशित बच्चों की एडमिशन रिपोर्टिंग भी 25 जुलाई तक ही पोर्टल पर दर्ज की जाएगी। इसके बाद एडमिशन रिपोर्टिंग दर्ज नहीं की जा सकेगी।

जिले में संचालित विभिन्न आधार सेन्टर्स के माध्यम से नाकटन गरिकों को मिली रही सेवायें 

कटनी  12-जुलाई-2019

    शासकीय योजनाओं में आधार कार्ड की आवश्यकता एवं अनिवार्यता को दृष्टिगत रखते हुयू आमजन की सुविधा के लिये जिले में विभिन्न शासकीय परिसरों में आधार पंजीयन केन्द्रों का संचालन किया जा रहा है। जिला ई-गवर्नेन्स सोसाईटी द्वारा संचालित कराये जा रहे इन केन्द्रों में आधार पंजीयन, आधार डाटा में बायोमैट्रिक अपडेशन, डेमोग्राफिक अपडेशन, आधार कार्ड का कलर एवं ब्लैक एण्ड व्हाईट प्रिन्टआउट, लेमिनेटेड आधार प्रिन्ट जैसी जरुरी सुविधायें प्रदान कराई जा रही हैं। इसके साथ ही कलेक्ट्रेट स्थित आधार केन्द्र में आधार से संबंधी विभिन्न समस्याओं के निवारण के लिये भी नियमित सेवायें नागरिकों उपलब्ध कराई जा रही हैं।
जिला प्रबंधक ई-गवर्नेन्स सौरभ नामदेव ने बताया कि जिले में वर्तमान में कलेक्ट्रेट कार्यालय, जनपद पंचायत कटनी, नगर निगम कटनी, जिला अस्पताल कटनी, ग्राम पंचायत भवन बड़वारा, ग्राम पंचायत भवन पानउमरिया, ग्राम पंचायत भवन हरदुआ, ग्राम पंचायत भवन सिनगौड़ी, जनपद पंचायत विजयराघवगढ़, ग्राम पंचायत भवन बाकल, ग्राम पंचायत भवन बिलहरी सहित शासकीय चिकित्सालय बरही, नगर परिषद् बरही एवं शासकीय स्कूल भवन बाकल में आधार केन्द्र स्थापित किये जा चुके हैं। इन केन्द्रों के माध्यम से आधार संबंधी सेवायें नियमित रुप से प्रदान की जा रही हैं। जिले में 10 अन्य केन्द्रों के संचालन के लिये भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण नई दिल्ली के द्वारा स्वीकृति प्राप्त होने पर नये केन्द्रों का संचालन भी प्रारंभ कराया जायेगा। जिला प्रबंधक सौरभ नामदेव ने बताया कि ग्राम स्तर पर आधार केन्द्र संचालन के लिये इच्छुक आवेदक कलेक्ट्रेट स्थित ई-गवर्नेन्स कार्यालय में अपना आवेदन व दस्तावेज जमा करा सकते हैं।

एक दिन में हुआ 9 हजार किलोमीटर विद्युत लाईन का मेन्टीनेन्स

कटनी | 06-जून-2019   मानसून पूर्व विद्युत प्रणाली का मेन्टीनेन्स जारी है। इसी कड़ी में 4 जून को 2048 किलोमीटर 33 के.व्ही. लाईन और 7217 किलोमीटर 11 के. व्ही. लाईन तथा 109 उपकेन्द्रों का मेन्टीनेन्स किया गया। पाँच जून को प्रदेश की अधिकतम माँग 9955 मेगावाट की पूर्ति की गई। पिछले वर्ष इस दिन की माँग 1723 मेगावाट थी।
ऊर्जा मंत्री श्री प्रियव्रत सिंह ने विद्युत उपभोक्ताओं से आग्रह किया है कि मेन्टीनेन्स के समय विद्युत प्रदाय बंद रहने पर संयम बनाये रखें।