Saturday, March 28News That Matters

छतरपुर

Share
एनसीसी, एनएसएस के प्रशिक्षित युवा संभालेंगे सत्कार की जिम्मेदारी “नमस्ते ओरछा महोत्सव-2020”
छतरपुर | 18-फरवरी-2020
    देश के सुप्रसिद्ध धार्मिक पर्यटन स्थल ओरछा में 6 से 8 मार्च तक आयोजित किये जा रहे “नमस्ते ओरछा” महोत्सव में भीड़ नियंत्रण और सत्कार की जिम्मेदारी एन.सी.सी. (नेशनल क्रेडिट कोर) और एन.एस.एस. (राष्ट्रीय सेवा योजना) के 80 प्रशिक्षित युवा निभाएंगे। इन्हें टूरिज्म बोर्ड द्वारा प्रशिक्षण दिया जा रहा है।
नमस्ते ओरछा महोत्सव के लिये आयोजित प्रशिक्षण कार्यक्रम में इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ ट्रेवल एंड टूरिज्म मैनेजमेंट ग्वालियर के प्रशिक्षक डॉ. संदेश कुलश्रेष्ठ एवं डॉ. चंद्रशेखर बरूआ ने  क्राउड मैनेजमेंट, क्राइसिस मैनेजमेंट, अतिथि सत्कार, चिकित्सा सहायता, यातायात प्रबंधन, पर्यटक मित्र, स्थानीय पर्यटक स्थलों की जानकारी सहित कई विषयों पर प्रशिक्षण दिया।
प्रशिक्षण के लिए  जिला प्रशासन द्वारा  नोडल अधिकारी का जिम्मा निभा रहे पंकज ध्वज मिश्रा ने बताया कि वालंटियर्स को  सम्मानित भी किया जाएगा। ओरछा महोत्सव  का होना इस क्षेत्र के लिए महत्व रखता है। टूरिज्म बोर्ड के विशेषज्ञ सलाहकार  ने प्रशिक्षार्णियों को पर्यटन के क्षेत्र में कॅरियर के बारे में विस्तार से जानकारी दी।

सिद्धहस्थ शिल्पियों को मिलेंगे राज्य-स्तरीय विश्वकर्मा पुरस्कार

30 अप्रैल तक प्रविष्टियाँ आमंत्रित
छतरपुर | 11-फरवरी-2020

  राज्य शासन ने सिद्धहस्थ शिल्पियों को राज्य स्तरीय विश्वकर्मा पुरस्कार प्रदान करने का निर्णय लिया है। राज्य हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम ने सिद्धहस्थ शिल्पियों से पुरस्कार के लिये कलाकृतियों सहित 30 अप्रैल तक जिला स्तर पर प्रविष्टियाँ आमंत्रित की हैं। हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम के कार्यालय अथवा जिला ग्रामोद्योग अधिकारी कार्यालय, जिला पंचायत में आवेदन जमा किये जा सकते हैं।

   राज्य स्तरीय विश्वकर्मा पुरस्कार में प्रथम पुरस्कार में एक लाख, द्वितीय पुरस्कार में 50 हजार, और तृतीय पुरस्कार में 25 हजार रूपये प्रदान किये जाएंगे। तीन शिल्पियों को 15-15 हजार रूपये प्रोत्साहन पुरस्कार भी दिये जाएंगे।
पुरस्कार की पात्रता के लिए शिल्पी को मध्यप्रदेश का मूलनिवासी होना  आवश्यक है। शिल्पी का पंजीयन एवं निवास अनुशंसा करने वाले जिले में होना  चाहिए। शिल्पी  का संत रविदास मध्यप्रदेश हस्तशिल्प एवं हथकरघा विकास निगम अथवा कपड़ा मंत्रालय, भारत सरकार के विकास आयुक्त (हस्तशिल्प कार्यालय) में पंजीकृत होना  भी आवश्यक है।  जिलों में प्राप्त आवेदन पत्र जिला स्तरीय समिति द्वारा चयनित किए जाएंगे। इस प्रक्रिया के बाद वर्षांत तक चयनित शिल्पी पुरस्कृत किए जाएंगे।

उद्योगों को समयबद्ध अनुमतियाँ देने बनेगा कानून : मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ

शिक्षा की गुणवत्ता बढ़ाने बनेगी शिक्षाविदों की परिषद, मुख्यमंत्री का गणतंत्र दिवस पर प्रदेशवासियों को संदेश
छतरपुर | 28-जनवरी-2020

    मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने गणतंत्र दिवस पर अपने संदेश में कहा है कि मध्यप्रदेश में उद्योग चलाना और लगाना आसान बनाने के लिये जल्दी ही मध्यप्रदेश एक नया कानून बनाएगा। इसमें सभी तरह की अनुमतियाँ अधिकतम सात दिनों में मिलेंगी। सात दिन में अनुमतियाँ न मिलने पर उसे अनुमति मान लिया जाएगा। इससे ऐसी आर्थिक गतिविधियाँ बढाने में मदद मिलेगी, जिनमें रोजगार का सृजन होता है। नए उद्योगों में प्रदेश के युवाओं के लिए 70 प्रतिशत रोजगार को अनिवार्य किया गया है। रियल एस्टेट सेक्टर में रोजगार की संभावनाओं को देखते हुए इसमें लगने वाली 27 अनुमतियों की संख्या को घटाकर पाँच कर दिया गया है। मुख्यमंत्री ने इंदौर में गणंतत्र दिवस समारोह में ध्वजारोहण किया और पारंपरिक परेड की सलामी ली।
गण और तंत्र अपनी सोच बदलें, परिवर्तनों को अपनायें
मुख्यमंत्री ने नागरिकों से गण और तंत्र के रिश्तों को परिणामकारी बनाने का संकल्प लेने का आव्हान किया। उन्होने कहा कि गण और तंत्र दोनों अपने नजरिये को बदलें, अपनी सोच बदलें और परिवर्तनों को अपनायें। उन्होने संविधान के शिल्पी भारत रत्न डॉ. भीमराव अम्बेडकर और संविधान सभा के सदस्यों का स्मरण किया।
अजजा प्लान पुन: लागू कराने का प्रयास
मुख्यमंत्री ने कहा कि केन्द्र सरकार ने अनुसूचित जनजाति प्लान बनाने की प्रथा को खत्म कर दिया है। इससे इन क्षेत्रों के विकास में लगने वाली राशि के आंकलन का काम कठिन हो गया है। अब भारत सरकार से चर्चा कर इसे पुन: लागू कराने का प्रयास होगा। उन्होने कहा कि जीएसटी के कारण भारत सरकार से पिछले एक साल में राज्य को मिलने वाली राशि में कमी हुई है।
मुख्यमंत्री ने कहा कि महात्मा गांधी के सपने को साकार करने के लिए विजन-टू-डिलीवरी रोडमैप 2020-25 बनाया गया है। वर्ष 2025 तक मध्यप्रदेश को देश के सर्वश्रेष्ठ प्रदेशों में एक बनाना सरकार का लक्ष्य है।
किसानों की ऋण माफी

पुराने मतदाता परिचय पत्र को रंगीन बनवा लें : मुख्य निर्वाचन अधिकारी

छतरपुर | 21-जनवरी-2020

   प्रदेश के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी श्री बी.एल. कांताराव ने गत दिवस वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से मतदाता सूची के संक्षिप्त पुनरीक्षण की समीक्षा की। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि पुराने ब्लैक एवं व्हाइट मतदाता परिचय पत्रों को रंगीन परिचय पत्र में परिवर्तित करें। साथ ही 16 अंकों वाले मतदाता परिचय पत्र को 10 अंकों के परिचय पत्र में बदलें। रंगीन परिचय पत्र देने के लिए प्रदेश में 85 हजार 622 मतदाता शेष हैं। इनके फार्म बीएलओ के माध्यम से भरवाकर उनका डिजिटाईजेशन करायें।
    जिन युवाओं की आयु एक जनवरी 2020 को 18 वर्ष पूरी हो गयी है। उनसे निर्धारित प्रपत्र में आवेदन लेकर उनके नाम मतदाता सूची में शामिल करायें। जिन बीएलओ तथा पर्यवेक्षकों ने मतदाता सूची के सत्यापन में अच्छा कार्य किया है। उन्हें राष्ट्रीय मतदाता दिवस 25 जनवरी को सम्मानित करें।

“विविधता में एकता सम्मान समारोह से समाजसेवी संतोष गंगेले कर्मयोगी का जयपुर में हुआ सम्मान

छतरपुर | 20-जनवरी-2020

– अंतर्राष्ट्रीय मैत्री सम्मलेन में शामिल हुए नेपाल, मलेशिया, कनाडा के प्रतिनिधि
छतरपुर। बुंदेलखंड के जाने-माने समाजसेवी राष्ट्रीय आदर्श शिक्षा रत्न से सम्मानित श्री संतोष गंगेले कर्मयोगी एवं बुंदेलखंड झांसी क्षेत्र के साहित्यकार कवि श्री निहाल चंद शिवहरे झांसी का भव्या इंटरनेशनल और एन. आर. बी. फाउंडेशन की ओर से 19 जनवरी 2020 को विवेकानन्द ऑफ टेक्नोलॉजी सेक्टर-36,NRI रोड जगतपुरा,जयपुर में आयोजित हुआ “विविधता में एकता सम्मान -2020 से सम्मानित किया गया इस आयोजन में में विभिन्न क्षेत्रों में विशेष मुकाम हासिल करने वाले करीब 155 लोगों को और कुछ अन्य विशेष लोगो सम्मानित किया गया इस अवसर पर अंतर्राष्ट्रीय मैत्री सम्मलेन का भी आयोजन हुआ जिसमें सिक्किम, अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर ,असम, केरल, पंजाब, महाराष्ट्र, कर्नाटक और पूरे देश के अलावा नेपाल, मलेशिया, कनाडा से भी प्रतिनिधियों ने शिरकत करी। समाजसेवी संतोष गंगेले कर्मयोगी द्वारा बुंदेलखंड क्षेत्र के विभिन्न क्षेत्रों में निष्पक्ष पत्रकारिता समाज सेवा भारतीय संस्कृति संस्कारों नैतिक शिक्षा नशा मुक्ति दहेज एक कलंक है दुर्घटना रोकने के लिए लाखों बच्चों के बीच जन जागरण करते आ रहे हैं उन्हें भारत देश के विभिन्न राज्यों में प्रांतों में कई राष्ट्रीय सम्मान से सम्मानित किया जा चुका है यह अंतरराष्ट्रीय मैत्री सम्मान से सम्मानित होने पर बुंदेलखंड क्षेत्र के प्रत्येक नागरिक के लिए गौरव की बात है
भव्या इंटरनेशनल के सीईओ शैलेंद्र माथुर और निदेशक डॉ. निशा माथुर के अनुसार इस आयोजन में साहित्य, पत्रकारिता, समाज सेवा, शिक्षा, कला, ज्योतिष, उद्यम, कृषि, फैशन व अन्य क्षेत्र में अपने मन, लगन और हिम्मत से विशेष मुकाम हासिल करने वाली प्रतिभाओं को सम्मानित किया गया इसमें ऐसे अनेक प्रतिभावान दिव्यांग तथा विकलांग और कैंसर पीड़ित प्रतिभागी भी शामिल हैं जिन्होंने शारीरिक कमी के बाद भी गजब का हौसला दिखाते हुए अपनी जिंदगी को जिंदादिली से जिया और अपना लक्ष्य हासिल किया।इस प्रोग्राम में से सभी लोगों ने कैंसर की फोर्थ स्टेज से जूझती सरिता शर्मा जी के केश फण्ड इक्कठा करके उन्हें दिया।
आयोजन में गिनीज और लिम्का बुक के अलावा अन्य वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाने वाले अवार्डीज के अलावा देश-विदेश में विभिन्न क्षेत्रों में अपनी विशिष्ठ पहचान रखने वाले विशिष्टजन भी शिरकत करी। कुछ सांस्कृतिक प्रस्तुति के साथ साथ इसमें बाल बसेरा में रहने वाले घर से बिछड़े बालकों की एक नाट्य प्रस्तुति भी हुई। नेपाल से आये हुए उस्ताद यसराज अपना सरोद वादन प्रस्तुत करेंगे! इसमें मुख्य अतिथि डॉ.सरिता देवी शुक्ला – लखनऊ (उत्तर प्रदेश) और कार्यक्रम विशिष्ट मुख्य अतिथि ज्योतिषाचार्य (आचार्य दीदी) सरस्वती देवकृष्ण गौड -जोधपुर से आयी। इस अवसर पर पूरे देश भर से कुछ विशिष्ट अतिथियों ने भी इस प्रोग्राम में शिरकत करी , जिनमें जनाब मोहम्मद नईम- गाजियाबाद, श्री शिव विनायक जोशी- नई दिल्ली, कविता सामोता-नीम का थाना, अलका भार्गव –जयपुर, श्री निशांत मिश्रा-जयपुर, श्री पवन जैन-हापुड़, अक्षत जैन (जी टीवी- राजा बेटा फेम) श्री दीपक जग्गा-जयपुर, , श्री एम एम शर्मा-जयपुर, श्री सुरेन्द्र कालरा- जयपुर, डा० आनंद गंगवार-जयपुर, श्रीमति कंचन आनंद – जयपुर, श्रीमति मधु खंडेलवाल – अजमेर, श्रीमति सरिता शर्मा-जयपुर , श्रीमति सुशीला सैनी- जयपुर आदि कई गणमान्य अतिथि उपस्थिति हुए।
जयपुर स्थित शिव मार्ग बेनी पार्क मीरा हॉस्पिटल के संचालक आध्यात्मिक गुरु
आचार्य सत्यनारायण पाटोदिया
नैतिक शिक्षाविद् एवंआध्यात्मिक प्रेरक द्वारा समाजसेवी संतोष गंगेले कर्म योगी का अंतरराष्ट्रीय मैत्री सम्मेलन में सम्मानित होने पर अपने निज निवास आवास पर आमंत्रित कर उनका सम्मान किया गया और उन्हें समाज सेवा करने का आशीर्वाद दिया गया उसी प्रकार जयपुर रेलवे स्टेशन के पास सूरज गेस्ट हाउस के संचालक श्री महेश कुमार जी द्वारा एवं सोनू भैया द्वारा समाज सेवा के काम के लिए संतोष गंगेले कर्म योगी का जयपुर में सम्मान किया गया और उनके कार्यों की सराहना की गई

उर्वरक लायसेंस निलंबित

छतरपुर | 14-जनवरी-2020

    किसान कल्याण तथा कृषि विभाग के उप संचालक मनोज कश्यप द्वारा उर्वरक गुण नियंत्रण आदेश 1985 के प्रावधान अंतर्गत चंदला के देवेन्द्र गुप्ता एवं रामविशाल गुप्ता का उर्वरक लायसेंस क्रमांक एआई/एफ-1126 तत्काल प्रभाव से निलंबित करने की कार्यवाही की गई है। उन्होंने इस संबंध में जारी किए गए कारण बताओ नोटिस का उत्तर प्राप्त नहीं होने पर यह कार्यवाही की है।
उल्लेखनीय है कि देवेन्द्र गुप्ता एवं रामविशाल गुप्ता को चंदला में उर्वरक भण्डारण और विक्रय के लिए लायसेंस जारी किया था, जिसकी वैधता 31 मार्च 2020 थी। गत 26 नवम्बर को निरीक्षण के दौरान उर्वरक का नमूना लेकर जांच के लिए इंदौर भेजा गया था, जो कि जांच में अमानक स्तर का पाया गया है।

आज विद्युत प्रदाय बंद रहेगा

छतरपुर | 07-जनवरी-2020

 नौगांव शहर वितरण केन्द्र अंतर्गत 7 जनवरी को 33/11 के.व्ही. उपकेन्द्र से निर्गमित सभी फीडरों में रखरखाव कार्य होने के कारण सुबह 9 बजे से दोपहर 3 बजे तक विद्युत प्रदाय बंद रखा जाएगा।

अपराधों की समीक्षा बैठक आज

छतरपुर | 28-दिसम्बर-2019
कलेक्टर मोहित बुंदस की अध्यक्षता में 28 दिसम्बर को कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में शाम 4 बजे से जिले के विभिन्न न्यायालय अंतर्गत लंबित चिन्हित जघन्य और सनसनीखेज गंभीर अपराधों की समीक्षा बैठक आयोजित की गई है।
   अपर कलेक्टर प्रेम सिंह चौहान ने सर्वसंबंधितों से बैठक में उपस्थित रहने के लिए कहा है।

मुझे जनता से चाहिए अपने कामकाज के आकलन का प्रमाण पत्र :- मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ

अच्छा होता 1971 के गौरव को अगर पूरा देश विजय दिवस के रूप में मनाता – मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ

छतरपुर | 17-दिसम्बर-2019

  मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने कहा है कि मुझे अपने कामकाज के आकलन का प्रमाण पत्र जनता से चाहिए। प्रचार-प्रसार, होर्डिंग और ब्राडिंग के जरिए आत्म प्रशंसा करने से मैं परहेज रखता हूँ। श्री कमल नाथ ने 16 दिसम्बर 1971 को पूर्व प्रधानमंत्री श्रीमती इंदिरा गांधी द्वारा 48 साल पहले पाकिस्तान को करारी शिकस्त देते हुए एक नया राष्ट्र “बांगलादेश” बनाने के गौरवपूर्ण दिन का उल्लेख करते हुए कहा कि अच्छा होता अगर पूरे देश में  इसे विजय दिवस के रूप में मनाया जाता। मुख्यमंत्री ने आज एक निजी चैनल के एक वर्ष पूर्ण होने पर आयोजित विशेष बातचीत के दौरान यह बात कही। मुख्यमंत्री ने इस मौके पर प्रदेश में एक वर्ष में किए गए बुनियादी बदलाव और राष्ट्रीय-अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों पर खुलकर अपने विचार व्यक्त किए।
जनता का सरकार पर विश्वास हो, यह है मेरा प्रयास

मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ ने अपने एक साल के कामकाज में प्रचार-प्रसार से दूर रहकर किए गए कामों पर कहा कि मेरा विश्वास है कि हमारे कार्यों पर अंतिम मुहर जनता की लगना चाहिए। जनता की तरफ से यह बात आए कि उसे सरकार और नेतृत्व पर विश्वास है। यही प्रमाण-पत्र हमारे लिए सबसे अधिक महत्वपूर्ण है। आयोजनों, अभियानों और अतिरेक प्रचार-प्रसार करें, लेकिन जमीनी हकीकत कुछ और हो, तो यह जनता के साथ धोखा है।

समय पर सही तरीके से योजनाओं का क्रियान्वयन ही हमारा लक्ष्य

मुख्यमंत्री ने प्रदेश में पिछले एक साल के दौरान अपनी सरकार के कामकाज पर कहा कि काम करने के लिए मुझे अभी तक मात्र साढ़े नौ माह मिले हैं। मेरा सबसे पहला प्रयास यह था कि शासन और प्रशासन की सोच, नजरिए और दृष्टिकोण में परिवर्तन हो। हम चाहे कोई भी नीति बना लें, उसका क्रियान्वयन सही तरीके से  समय पर न हो, तो इसका लाभ लोगों को नहीं मिलता है।

अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति आवेदन और संस्था द्वारा अग्रेषित करने की तिथि बढ़ी

छतरपुर | 25-अक्तूबर-2019

अल्पसंख्यक प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना अन्तर्गत नवीन एवं नवीनीकरण छात्रवृत्ति प्रकरणों के लिये विद्यार्थियों द्वारा ऑन-लाईन आवेदन भरने की अंतिम तिथि 31 अक्टूबर तक बढ़ाई गई हैं। शैक्षणिक संस्थाओं द्वारा विद्यार्थियों से प्राप्त ऑन-लाईन आवेदनों को अगले चरण हेतु ऑन-लाईन अग्रेषित करने 15 नवम्बर की तिथि निर्धारित की गई हैं। समस्त शासकीय-अशासकीय शिक्षण संस्थाओं से अल्पसंख्यक वर्ग के विद्यार्थियों के प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति आवेदनों की समयावधि में प्राप्त कर अग्रेषित करने की कार्यवाही करने एवं इस संबंध में अल्पसंख्यक वर्ग के विद्यार्थियों को भी अवगत कराने के लिये कहा गया है।

अगले शिक्षा सत्र से 9वीं और 10वीं में एनसीईआरटी कोर्स लागू होगा

छतरपुर | 22-अक्तूबर-2019

स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कहा है कि अगले शिक्षा सत्र से सभी शासकीय स्कूलों में 9वीं और 10वीं कक्षा में भी एनसीईआरटी कोर्स लागू किया जायेगा। उन्होंने बताया कि स्कूलों में शिक्षकों के रिक्त पदों पर शीघ्र भर्ती की जा रही है। मंत्री डॉ. चौधरी ने कहा कि शासकीय स्कूलों में शिक्षा का स्तर सुधारने के लिये हर तीन माह में एक बार शिक्षक-अभिभावक संघ की बैठक होगी, जिसमें विद्यार्थियों की शिक्षा और समस्याओं के बारे में अभिभावकों और शिक्षकों के बीच खुला संवाद होगा।
डॉ. चौधरी ने बताया कि मध्यप्रदेश, देश का पहला राज्य है, जहाँ शिक्षकों के ट्रान्सफर उनकी सुविधा अनुसार ऑनलाइन किये जाने की परंपरा की शुरूआत की गयी है।

प्रज्ञा पालीवाल के अंतिम संस्कार में शामिल हुए कलेक्टर

छतरपुर | 15-अक्तूबर-2019

कलेक्टर मोहित बुंदस ने शहर के सीताराम कॉलोनी निवासी शिक्षक शिव कुमार पालीवाल की पुत्री कु. प्रज्ञा पालीवाल के आकस्मिक निधन पर घर पहुंचकर परिवारजनों को सांत्वना दी और दुख की घड़ी में ढांढस बंधाया। उन्होंने प्रज्ञा को श्रद्धांजली अर्पित कर ईश्वर से दिवंगत आत्मा को शांति प्रदान करने और परिवारजनों को दुख सहन करने की शक्ति देने की कामना की।
कलेक्टर श्री बुंदस महोबा रोड स्थित मुक्तिधाम गए और प्रज्ञा के अंतिम संस्कार और शोकसभा में शामिल हुए। इस अवसर पर विधायक आलोक चतुर्वेदी सहित अपर कलेक्टर पी.एस. चौहान और एसडीएम के.के. पाठक भी मौजूद रहे।
उल्लेखनीय है कि प्रज्ञा पालीवाल का गत् दिवस थाईलैण्ड में सड़क दुर्घटना में असामयिक निधन हो गया था। कलेक्टर मोहित बुंदस के संज्ञान में यह मामला आने पर उन्होंने तत्काल परिवार के सदस्यों से दूरभाष पर संपर्क कर पूरी मदद का भरोसा दिया था। प्रज्ञा के दोनों भाइयों को शव को लाने के लिए सरकारी मदद से एम्बुलेंस के साथ में दिल्ली रवाना किया गया। जिला प्रशासन के प्रयास से सड़क दुर्घटना में दिवंगत हुई प्रज्ञा के शव को थाईलैण्ड से वापस घर तक लाने में भरपूर मदद मिली है।

गांधी जयंती पर शुष्क दिवस घोषित

छतरपुर | 01 अक्टूबर -2019

कलेक्टर मोहित बुंदस ने 2 अक्टूबर, गांधी जयंती के अवसर पर छतरपुर जिले में शुष्क दिवस घोषित किया है।
शुष्क दिवस के अवसर पर देशी-विदेशी मदिरा के सभी फुटकर, थोक विक्रय केन्द्र और मदिरा भाण्डागार सम्पूर्ण दिवस के लिए बंद रहेंगे। मदिरा का क्रय-विक्रय भी पूर्णतः प्रतिबंधित रहेगा।
कलेक्टर ने आदेश का कड़ाई से पालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए हैं।

जवाहर नवोदय विद्यालय प्रवेश परीक्षा के लिए आवेदन 30 तक

छतरपुर | 24-सितम्बर-2019

जवाहर नवोदय विद्यालय में कक्षा 6 वीं में सत्र 2020-21 में प्रवेश हेतु परीक्षा के लिए ऑनलाईन आवेदन करने की अंतिम तिथि 15 सितम्बर से बढ़ाकर 30 सितम्बर कर दी गई है। प्रवेश चयन परीक्षा 11 जनवरी 2020 को जिले के सभी विकासखण्डों में आयोजित की जाएगी। ऑनलाईन आवेदन www.navodaya.gov.in तथा nvsadmissionclasssiu.in के माध्यम से भरा जा सकता है।
प्रवेश चयन परीक्षा हेतु आवेदन करने के लिए अभ्यर्थी को शासकीय या मान्यता प्राप्त विद्यालय में शैक्षणिक सत्र 2019-20 में कक्षा 5वीं में अध्ययनरत होना चाहिए। अभ्यर्थी का जन्म दिनांक 01 मई 2007 से 30 अप्रैल 2011 के मध्य होना चाहिए।

त्रुटिरहित मतदाता सूची के लिए चलाया जा रहा है मतदाता सत्यापन कार्यक्रम

छतरपुर | 17-सितम्बर-2019

भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशन में 100 प्रतिशत त्रुटिरहित मतदाता सूची के लिए मतदाता सत्यापन कार्यक्रम चलाया जा रहा है, जिसके अंतर्गत मतदाता नामावली में अपने नाम का सत्यापन ईपिक नम्बर की सहायता से आसानी से कर सकते हैं। मतदाता को अपने मोबाईल, ईपिक नम्बर के साथ लॉगिन करने के बाद अपना नाम, जन्म दिनांक, लिंग, संबंधी का प्रकार, पता तथा फोटो सत्यापित करना होगा। मतदाता को त्रुटियों या विवरण, फोटोग्राफ में परिवर्तन के लिए सही जानकारी का उल्लेख करना अनिवार्य है तथा सूची में दर्शाए किसी भी एक आईडी फार्म को अपलोड करना होगा। इसके पश्चात आगे की सेवाओं के लिए मतदाता को अपना मोबाईल नम्बर और ई-मेल आईडी दर्ज करना होगा।
इसी प्रकार वोटर हेल्पलाईन मतदाता एप के माध्यम से भी मतदाता नामावली में नाम का सत्यापन किया जा सकता है। इसके लिए प्ले स्टोर से वोटर हेल्पलाईन एप डाउनलोड करना होगा। एप डाउनलोड होने के बाद ईवीपी के माध्यम से मतदाता को अपना नाम सर्च करना होगा तथा अपना नाम, जन्म दिनांक, लिंग, संबंधी का प्रकार, पता तथा फोटो सत्यापित कर सकते हैं। त्रुटियों या मतदाता विवरण, फोटोग्राफ में परिवर्तन के लिए डवकपलि में सही जानकारी का उल्लेख करना होगा। जानकारी सही होने पर वेरीफाई करें। सत्यापन के पश्चात आयोग द्वारा पीडीएफ फार्मेट में एक प्रमाण पत्र दिया जाएगा। बीएलओ द्वारा भी एक सितम्बर से 15 अक्टूबर 2019 के मध्य घर-घर जाकर सत्यापन कार्य किया जा रहा है। मतदाता नामावली में त्रुटि होने की स्थिति में बीएलओ द्वारा संशोधित फार्म भरा जाएगा।

समाज के उत्थान के लिए अंधविश्वास और रूढ़िवादी परंपरा का त्याग जरूरी – मंत्री श्री हर्ष यादव
बड़ामलहरा में मटकी फोड़ कार्यक्रम का हुआ आयोजन

छतरपुर | 06-सितम्बर-2019

समाज को सार्थक दिशा में ले जाने और समाज की दशा बदलने में युवा वर्ग का अहम योगदान है। अंधविश्वास और रूढ़िवादी परम्परा को छोड़ना किसी भी समाज के हित के लिए जरूरी है। इसके अलावा समाज के सर्वांगीण विकास के लिए अनावश्यक चीजों का त्याग करना भी बहुत आवश्यक है। यह बात प्रदेश शासन के कुटीर एवं ग्रामोद्योग और नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा मंत्री हर्ष यादव ने बड़ामलहरा के हनुमान बाग पार्क स्थित मंदिर परिसर में मटकी फोड़ कार्यक्रम में कही।
उन्होंने बड़ामलहरा को बुंदेलखण्ड का हृदयस्थल बताते हुए कहा कि समाज के उत्थान के लिए बच्चों की शिक्षा जरूरी है। समाज के लोगों को यह समझना होगा कि शिक्षा ही सफलता का सबसे बड़ा जरिया है, इसलिए अभिभावक बच्चों को शिक्षा के लिए प्रेरित करें और समाज को नई दिशा में बढा़ने के लिए अपना अमूल्य योगदान दें। मंत्री ने कहा कि सफलता पर परिवार के साथ-साथ समाज का भी मान-सम्मान बढ़ेगा।
दबाव और प्रभाव से बचें, स्वभाव से मन जीतें
मंत्री श्री यादव ने नसीहत दी कि दबाव और प्रभाव की परिपाटी से बचकर स्वभाव से मन जीतने की कला विकसित करें। समाज के लोगों से नशा और मृत्यु भोज बंद करने का आव्हान भी मंत्री ने किया। इसके अलावा युवाओं से अधिक आमदनी के लिए कृषि और दूध का परम्परागत व्यवसाय के स्थान पर आधुनिक और तकनीकी व्यवसाय अपनाने की अपील भी की। उन्होंने किसी भी समस्या पर हरसंभव मदद का भरोसा भी दिया।
विधायक प्रद्युम्न सिंह लोधी ने भी कार्यक्रम को संबोधित किया और समाज में शान से जीने के लिए आपसी मनमुटाव छोड़ने के लिए कहा। उन्होंने कहा कि नशा नाश की जड़ है, इसलिए इस बुराई को दूर करना जरूरी है।
कार्यक्रम के पहले बिहारी मंदिर से हनुमान बाग पार्क तक शोभायात्रा निकाली गई। इस अवसर पर पूर्व राज्यमंत्री ललिता यादव, पूर्व विधायक रेखा यादव सहित अन्य जनप्रतिनिधि और समाज के विभिन्न पदाधिकारी मौजूद रहे।

राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जायेगा सितम्बर माह

छतरपुर | 31-अगस्त-2019

प्रदेश में राष्ट्रीय पोषण अभियान में इस वर्ष भी सितंबर माह राष्ट्रीय पोषण माह के रूप में मनाया जायेगा। 1 से 30 सितम्बर तक मनाये जाने वाले पोषण माह की टैग लाईन हर घर पोषण का त्यौहार रखी गयी है। पूरे माह राज्य, जिला, विकासखण्ड और आँगनवाड़ी स्तर पर पोषण जागरूकता एवं इसे जन-आंदोलन का रूप देने विभिन्न कार्यक्रम होंगे।
राष्ट्रीय पोषण माह का मुख्य उद्देश्य स्वास्थ्य एवं पोषण आवश्यकता के प्रति जागरूकता, गर्भावस्था जाँच और पोषण देखभाल, शीघ्र स्तनपान व्यवहार, सही समय पर ऊपरी आहार और निरन्तरता आदि पर प्रचार-प्रसार कर समुदाय को जागरूक करना है। इसके अतिरिक्त एनीमिया या शरीर में खून की कमी को दूर करने के लिये आयरन सेवन एवं खाद्य विविधता संबंधित उपायों तथा पाँच वर्ष तक के बच्चों की शारीरिक वृद्धि निगरानी, किशोरी-शिक्षा, पोषण शिक्षा का अधिकार, सही उम्र में विवाह, सफाई और स्वच्छता की गतिविधियों के माध्यम से पोषण विषय को जन-आन्दोलन का रूप देना है।

सैनिक स्कूल रीवा में प्रवेश के लिए आवेदन आमंत्रित 

छतरपुर | 23-अगस्त-2019

 छतरपुर जिले के सभी भूतपूर्व सैनिक और सैनिक विधवाएं शैक्षणिक सत्र 2020-21 में कक्षा 6वीं और 9वीं में अपने बच्चों के प्रवेश के लिए ऑनलाइन आवेदन आगामी 23 सितम्बर तक कर सकते हैं। कक्षा 6वीं में प्रवेश के लिए छात्र का जन्म 1 अपै्रल 2008 से 31 मार्च 2010 के मध्य और कक्षा 9वीं में प्रवेश के लिए 1 अप्रैल 2005 से 31 मार्च 2007 के मध्य होना चाहिए। अधिक जानकारी के लिए सैनिक स्कूल की वेबसाइट अथवा जिला सैनिक कल्याण कार्यालय में सम्पर्क किया जा सकता है।

कमिश्नर ने राजनगर सीईओ को जारी किया कारण बताओ नोटिस 

छतरपुर | 09-अगस्त-2019

 सागर संभागायुक्त आनंद कुमार शर्मा ने लक्षित पंजीकृत श्रमिकों के सत्यापन कार्य में लापरवाही बरतने पर जनपद पंचायत राजनगर के सीईओ प्रतिपाल सिंह बागरी को दो वेतनवृद्धि रोकने के लिए कारण बताओ नोटिस जारी कर 15 दिवस में जवाब मांगा है।
उल्लेखनीय है कि म.प्र. भवन एवं अन्य संनिर्माण कर्मकार कल्याण मण्डल और मुख्यमंत्री जनकल्याण योजना अंतर्गत श्रमिकों के सत्यापन का कार्य 1 जुलाई से 15 अगस्त तक किया जाना है। गत 5 अगस्त को श्रमिकों के सत्यापन संबंधी कार्य की संभागीय समीक्षा की गई थी। समीक्षा के दौरान पाया गया कि जनपद पंचायत राजनगर अंतर्गत 69 हजार 761 श्रमिकों के भौतिक सत्यापन के विरूद्ध मात्र 37 हजार 407 श्रमिकों का ही सत्यापन किया गया है, जबकि 32 हजार 354 श्रमिकों का सत्यापन लंबित है। राजनगर जनपद पंचायत में 1 जुलाई से समीक्षा तिथि तक मात्र  53.62 प्रतिशत सत्यापन किए जाने और अपात्र श्रमिक की संख्या मात्र 17 हजार 422 होने पर प्रगति असंतोषजनक पाई गई।
अतः कमिश्नर द्वारा शासन और वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशों के बाद भी पदीय दायित्वों और कर्त्तव्यों के निर्वहन में उदासीनता बरतने और सीईओ के कृत्य को स्वेच्छाचारिता एवं लापरवाही मानकर नोटिस जारी किया गया है। यह कृत्य म.प्र. सिविल सेवा (आचरण) नियम 1965 के नियम 3 का उल्लघंन होने से दण्डनीय है। सीईओ द्वारा निर्धारित समयावधि में नोटिस का जवाब नहीं देने पर एक पक्षीय कार्यवाही की जाएगी।

कृमि मुक्ति दिवस 8 अगस्त को मनाया जाएगा

छतरपुर | 30-जुलाई-2019

 छतरपुर जिले में आगामी 8 अगस्त को राष्ट्रीय कृमि मुक्ति दिवस मनाया जाना है। इसमें 1 से 19 साल तक के सभी बच्चों को स्कूल एवं आंगनबाड़ी के माध्यम से कृमि नियंत्रण की दवाई (एलबेंडाजोल) खिलाई जाएगी। 13 अगस्त को मॉप अप दिवस होगा, जिसमें छूटे हुए बच्चों को गोली खिलाई जाएगी।
1 से 19 साल तक के सभी बच्चों को आंत के कृमि संक्रमण का खतरा रहता है। कृमि मनुष्य की आंत में रहते है। और जीवित रहने के लिए मानव शरीर के जरूरी पोषक तत्व को खाते हैं।

कृमि कैसे फैलते हैं

    कृमि संक्रमण अस्वच्छता के कारण होता है। संक्रमित मिट्टी के संपर्क द्वारा कृमि संक्रमण संचारित होता है। कृमि की जितनी अधिक मात्रा होगी संक्रमित व्यक्ति के लक्षण उतने अधिक होंगे।
संक्रमित बच्चे के शौच में कृमि के अंडे होते हैं। खुले में शौच करने से ये अंडे मिट्टी में मिल जाते हैं और विकसित होते हैं। बच्चे नंगे पैर चलने से, गंदे हाथों से खाना खाने से या फिर बिना ढका हुआ भोजन खाने से लार्वा के संपर्क में आने से संक्रमित हो जाते हैं। संक्रमित बच्चों में कृमि के अंडे व लार्वा रहता है और बच्चों के स्वास्थ्य को हानि पहुंचाते हैं।

 

शासकीय उचित मूल्य दुकान निलंबित

छतरपुर | 26-जुलाई-2019

 अनुविभागीय अधिकारी नौगांव बी.बी. गंगेले द्वारा अनियमितता की शिकायत पर शासकीय उचित मूल्य दुकान झींझन को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने की कार्यवाही की गई है। इसके अलावा दुकान की प्रतिभूति राशि राजसात किए जाने का भी आदेश पारित किया गया है।
निलंबन के बाद उपभोक्ताओं को नजदीकी संस्था सेवा सहकारी समिति मर्यादित लुगासी द्वारा संचालित शासकीय उचित मूल्य दुकान लुगासी से संबद्ध किया गया है।
उल्लेखनीय है कि ग्राम झींझन के निवासियों द्वारा दुकान से राशन वितरण नहीं होने की शिकायत की गई थी। शिकायत के बाद कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी नौगांव के जांच प्रतिवेदन में पाया गया कि पीडीएस दुकान झींझन में मूल्य सूची और  निगरानी समिति बोर्ड प्रदर्शित नहीं किया गया था। जांच के दौरान मांगे जाने पर विक्रेता द्वारा स्टाक रजिस्टर भी प्रस्तुत नहीं किया गया। इसके अलावा दुकान के अभिलेख अनुसार भण्डारित राशन सामग्री का भौतिक सत्यापन करने पर 4.08 क्विंटल गेहूं, 1.63 क्विंटल चावल और 0.56 क्विंटल चना कम भण्डारित पाया गया, जो कि म.प्र. सार्वजनिक वितरण प्रणाली नियंत्रण आदेश 2015 के प्रावधानों का उल्लंघन है। दुकान के विक्रेता द्वारा म.प्र. सार्वजनिक वितरण (नियंत्रण) आदेश की कण्डिका 11 का उल्लंघन प्रमाणित पाए जाने पर एसडीएम द्वारा कण्डिका 16 में प्रदत्त शक्तियों के तहत दुकान को निलंबित किया गया है।

 

विद्युत बिल की बकाया राशि वसूली और चोरी पकड़ने के निर्देश

छतरपुर | 23-जुलाई-2019

बिजली कम्पनी के एमडी ने विद्युत विभाग के अधिकारियों को बकाया बिजली बिल की वसूली करने और चोरी पकड़ने के निर्देश दिए हैं। इस क्रम में वितरण केन्द्र छतरपुर शहर कार्यालय द्वारा 20 जुलाई को अभियान चलाकर 15 लाख रूपए के 22 कनेक्शन काटकर 5 लाख रूपए की राशि वसूली की गई। इसी तरह 22 जुलाई को 12 लाख रूपए के 17 कनेक्शन काटे गए। आगामी दिनों में भी बकाया राशि वसूलने की कार्यवाही की जाएगी।
विभाग के अभियंता सर्वेश शुक्ला ने बताया कि वितरण केन्द्र छतरपुर शहर कार्यालय अंतर्गत लगभग 12 करोड़ रूपए की बकाया राशि है। ऐसे उपभोक्ता जिनकी बकाया राशि 50 हजार रूपए से अधिक है, उनकी सूची सार्वजनिक स्थानों  पर चस्पा की जाएगी।
इसी तरह विभाग द्वारा बिजली चोरी पकड़ने के लिए अधिक लाइन लॉस वाले ट्रांसफार्मर चिन्हित किए गए हैं। टीमों का गठन कर ऐसे ट्रांसफार्मर के उपभोक्ताओं के विद्युत कनेक्शन की जांच में विद्युत चोरी की पुष्टि होने पर उपभोक्ताओं से वसूली की कार्यवाही की जाएगी।

अंग्रेजी विषय की कोचिंग के लिए शिक्षकों से आवेदन आमंत्रित 

छतरपुर | 12-जुलाई-2019

 जनजातीय कार्य विभाग द्वारा वर्ष 2019-20 में जिला स्तर पर संचालित अनुसूचित जाति महाविद्यालयीन सीनियर बालक/कन्या छात्रावासों में अध्ययनरत/निवासरत छात्र-छात्राओं को अंग्रेजी विषय की कोचिंग प्रदान करने के लिए इच्छुक शिक्षकों से आवेदन आमंत्रित किए गए हैं।
जिला संयोजक आर.पी. भद्रसेन ने बताया कि स्थानीय महाविद्यालय अथवा स्थानीय आदिम जाति कल्याण और शिक्षा विभाग के उत्कृष्ट शालाओं के योग्य एवं अनुभवी विषय विशेषज्ञों में से योग्यता के आधार पर शिक्षकों का चयन किया जाएगा। निजी स्कूल और कोचिंग संस्थानों के योग्य और अनुभवी विषय विशेषज्ञ शिक्षक भी आवेदन कर सकते हैं।
अध्यापन कार्य के इच्छुक शिक्षक संस्था प्रमुख की सहमति और अनुभव प्रमाण-पत्र के साथ संबंधित छात्रावास के अधीक्षक/अधीक्षिका को 15 दिवस के भीतर आवेदन कर सकते हैं।

जनसुनवाई 

छतरपुर | 04-जून-2019  कलेक्टर मोहित बुंदस की अध्यक्षता में छतरपुर जिला पंचायत सभाकक्ष में आज जनसुनवाई हुई। जनसुनवाई के दौरान छतरपुर जिले के सैकड़ों आवेदकों ने अपनी-अपनी समस्याओं को लेकर कलेक्टर के समक्ष निराकरण के लिए आवेदन प्रस्तुत किए गए।
जनसुनवाई में दूर-दराज क्षेत्रों से आए अन्य आवेदकों ने भी नामांतरण, सीमांकन, छात्रवृत्ति, मानदेय भुगतान इत्यादि के लिए आवेदन प्रस्तुत किए। जिपं सीईओ हर्ष दीक्षित, एडीएम पी.एस. चौहान सहित अन्य विभागों के अधिकारियों ने भी अधिकतर आवेदकों की समस्या का निराकरण किया और समुचित कार्यवाही के लिए संबंधित अधिकारी को निर्देश दिए।