Monday, December 6News That Matters

झाबुआ

पेयजल की आपूर्ति समूचे ग्रामीण क्षेत्र में निर्वाद्ध रूप से हो
ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित नलजल/जल प्रदाय योजनाओं के सुचारू संचालन हेतु दिशा निर्देश जारी
झाबुआ | 19-नवम्बर-2021

मध्यप्रदेश शासन पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग के निर्देश के पालन में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सिद्धार्थ जैन  द्वारा  कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी झाबुआ एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत को निर्देश जारी किए है। जिसमें ग्रामीण क्षेत्रों में संचालित नलजल/जल प्रदाय योजनाओं के सुचारू संचालन हेतु दिश निर्देश जारी किए हैं। जिसमें ग्रामीणों केा पेयजल की कमी न हो और उन्हें पर्याप्त पीने के पानी की उपलब्धता हो इस संबंध में कार्यवाही ग्राम पंचायत के सचिव, रोजगार सहायक, जनपद पंचायत के मैदानी अधिकारियों एवं लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग के मैदानी अधिकारियों, कर्मचारियों को निर्देश जारी किए गए है। जिसमें नलजल/जल प्रदाय योजनाओं के संबंध में प्राप्त शिकायत समस्या का निराकरण तत्काल किया जावे। इस हेतु जनपद पंचायत कार्यालय में एक कन्ट्रोल रूम की स्थापना भी की जावे एवं इस कन्ट्रोल रूम के प्रभारी अधिकारी का नाम, पदनाम, मोबाईल नंबर जारी किया जाए। जिला स्तर पर अति. मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत झाबुआ का मो. नं. 9425438193 को प्रभारी अधिकारी नियुक्त किया गया है। प्राप्त शिकायत समस्या एवं उसके निराकरण की जानकारी कलेक्टर महोदय को प्रति सप्ताह आयोजित टीएल की बैठक में प्रस्तुत किया जाएगा।

शत प्रतिशत टीकाकरण करवाने वाले शिक्षकों का कलेक्टर महोदय द्वारा प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया

झाबुआ | 17-सितम्बर-2021

     कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के द्वारा कोविड-19 के संक्रमण को रोकने के लिए अपने क्षेत्र में अपनी विशेष कृतव्य परायणता को प्रदर्शित कर शत प्रतिशत टीकाकरण करवा कर अपने क्षेत्र को सुरक्षित करवाने वाले शिक्षकों को आज प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित किया गया, इन शिक्षकों में श्री एस.एन.श्रीवास्तव प्राचार्य उच्चतर माध्यमिक विद्यालय परवलिया जिसमें संकुल अंतर्गत 490 लक्ष्य के विरूद्ध 725 टीकाकरण करवाया गया। इसी तरह श्री मनीष पालिवाल नौगांवा ग्राम पंचायत को शत प्रतिशत टीकाकरण करवा कर अपनी अहम भूमिका का निर्वहन किया। श्री मंसुर खान के द्वारा व्यक्तिगत प्रयास से 51 व्यक्तियों को टीकाकरण के लिए प्रेरित कर टीकाकरण करवाया गया। श्री अबरार खान द्वारा संकुल अंतर्गत लक्ष्य 200 टीकाकरण के विरूद्ध 502 लोगों का टीकाकरण करवा कर अपनी उत्कृष्टता का प्रदर्शन किया। श्री सुधीर निनामा द्वारा स्वयं के व्यय से वाहन कर 23 लोगों को टीकाकरण करवाया गया। आपकी यह भूमिका की सर्वत्र प्रशंसा हो रही है।
कलेक्टर श्री मिश्रा ने आव्हान किया कि अपने क्षेत्र में शत प्रतिशत टीकाकरण करवाए एवं जो भी टीकाकरण में अपनी अहम भूमिका निभाएगा उन्हें मैं प्रशस्ति पत्र देकर सम्मानित करूंगा।
इस दौरान सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग श्री प्रशांत आर्या एवं मण्डल सयोजक मेघनगर श्री दिपेश सोलंकी उपस्थित थे।

एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय थांदला अगराल की रिक्त सीटों पर प्रवेश के लिए आवेदन आमंत्रित

झाबुआ | 27-अगस्त-2021

   सचिव म.प्र. स्पेशल एण्ड रेसिडेंशियल एकेडमिक सोसायटी भोपाल के निर्देशानुसार एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय अगराल में अनुसूचित वर्त अ.ज.जा. के विद्यार्थियों हेतु शैक्षणिक सत्र-2021-22 में रिक्त सीटों की पूर्ती की जाना है। जिसके लिए पात्र विद्यार्थियों से  31 अगस्त 2021 तक विद्यालय में प्रातः 10.30 से सांय 4.30 तक आवेदन मय दस्तावेजों के जमा किये जावेंगे।
एकलव्य आदर्श आवासीय विद्यालय अगराल में कक्षा 11 वी में (11) बालिकाओं की रिक्त सीटों की पूर्ती की जाना है। प्रवेश केवल बायोलॉजी, गणित विषयों में ही दिया जावेगा। आवेदक को पिछली कक्षा में न्युनतम 60 प्रतिशत अंकों के साथ उत्तीर्ण होना अनिवार्य है। सीबीएसई पाठ्यक्रम से उत्तीर्ण आवेदकों को प्राथमिकता दी जावेगी। विद्यार्थियों का चयन मेरिट के आधार पर किया जावेगा। प्रवेश के संबंध में अधिक जानकारी के लिये श्री मुकेश चौधरी मोबाईल नंबर 9981616120 एवं श्री अमित जैन मोबाईल नंबर 9407106297 पर संम्पर्क कर सकते है।

खाद्य विभाग के कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी द्वारा आदिम जाति सहकारी संस्था देवझीरी ग्राम पंचायत देवझीरी में संचालित उचित मूल्य दुकान का आकस्मिक निरीक्षण

झाबुआ | 13-अगस्त-2021
    कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा के निर्देश पर अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ श्री एल.एन.गर्ग के मार्गदर्शन में खाद्य विभाग के कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी संजय पाटिल द्वारा आदिम जाति सहकारी संस्था देवझीरी द्वारा ग्राम पंचायत देवझीरी में संचालित उचित मूल्य दुकान का आकस्मिक निरीक्षण किया गया। दुकान के विक्रेता लक्ष्मण नायक पिता श्री गणपत नायक द्वारा उपभोक्ताओं को माह अप्रैल का राशन नहीं देने की शिकायत प्राप्त हुई थी।
कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी द्वारा इस संबंध में उचित मूल्य दुकान देवझीरी के हितग्राही से जानकारी ली गई,एवं उनके कथन लिपिबद्ध किये गये जांच में पाया गया कि सेल्समेन द्वारा हितग्राहियों को अप्रेल का राशन प्रदान नहीं किया गया इस प्रकार से सेल्समेन लक्ष्मण नायक द्वारा सार्वजनिक वितरण प्रणाली का गेहूॅ वितरण करने में अनियमितता करने की पुष्टि हुई। उक्त आधार पर कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी संजय पाटिल द्वारा आवश्यक वस्तु अधिनियम 1955 की धारा 3 के अंतर्गत कंडिका-7 के तहत उचित मूल्य दुकान के सेल्समेन लक्ष्मणसिंह नायक के विरूद्ध थाना कोतवाली झाबुआ में प्रथम सूचना रिपोर्ट दर्ज कराई गई।
जिला आपूर्ति अधिकारी द्वारा बताया गया कि भविष्य में इस प्रकार की अनियमितता पाये जाने पर अन्य दुकानों के विरूद्ध कठोर कार्यवाही की जाएगी।
अतः सभी समिति प्रबंधक /सेल्समेन उचित मूल्य दुकानों से पात्र हितग्राहियों को समय पर खाद्यान्न प्रदाय करें एवं खाद्यान्न वितरण में किसी भी प्रकार की अनियमितता नहीं करें।

उदार कलेक्टर – रोड पर महिलाओं से सभी जामुन खरीदे

झाबुआ | 22-जून-2021

    कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा टीकाकरण महा अभियान के भ्रमण पर थांदला गये थे। थांदला से वापसी के समय मेघनगर रोड पर दो महिलाए टोकरी में जामुन बैचते हुए अपने बच्चों के साथ देखा। कलेक्टर ने उन महिलाओं को एवं उनके बच्चों को मास्क वितरित किये। वहीं उनके सभी जामुन भी खरीद लिये। जब उनके पुछा गया कि सर इतने सारे जामुन खरीद कर आप क्या करेंगे। इस पर श्री मिश्रा ने कहा की आज सांय जिला अधिकारियों की बैठक है उसमें बाट देंगे। श्री मिश्रा ने कहा कि मुझे प्रशन्नता है कि इन महिलाओं के सभी जामुन बिक गए एवं उनके बच्चों के चेहरे पर खुशी छा गई। इस तरह से भी हमें सहायता करना चाहिये।

जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सिद्धार्थ जैन को जिले में एक वर्ष पूर्ण हुआ

झाबुआ | 16-जून-2021

    जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री सिद्धार्थ जैन आई.ए.एस को आज झाबुआ जिले में एक वर्ष पूर्ण हुआ है। जिसमें मनरेगा, प्रधानमंत्री आवास योजना में उत्कृष्ट कार्य किया है। वहीं पर कोविड-19 के संक्रमण को रोकने में अपनी अहम भूमिका निभाई है। ग्राम पंचायतों में अधिक से अधिक काम लेकर रोजगार के अवसर को यहां बढ़ाया है। जिससे पलायन में रोक लगी है। जिले में पारर्दशी कार्य के लिये सर्वत्र प्रशंसा हो रही है। वर्तमान में सघन वृक्षारोपण के लिये मुख्यमंत्री वायुदूत एप (अंकुर प्रोग्राम) के माध्यम से जन-जन को प्रेरित कर जिले में हरियाली लाने का प्रयास कर रहे है।

कोरोना नियत्रण एवं टिकाकरण के लिए जागरूकता रथ को हरी झंडी

झाबुआ | 11-जून-2021

    झाबुआ जिले को कोरोना मुक्त बनाने के उद्देश्य से जिला प्रशासन झाबुआ के साथ इंडो ग्लोबल सोशल सर्विस सोसाइटी, आदिवासी विकास मोर्चा, इनरेम फाउंडेशन के माध्यम से संयुक्त पहल की जा रही है जिसमे इंडो ग्लोबल सोशल सर्विस सोसाइटी द्वारा कोरोना जागरूकता रथ को अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल एवं डिप्टी कलेक्टर सुश्री अंकिता प्रजापति, आदिवासी विकास मोर्चा से राष्ट्रीय सलाहकार भंगु सिंह रावत ADPO,सरदारपुर धार द्वारा हरी झंडी देकर रवाना किया गया।
आदिवासी विकास मोर्चा द्वारा 2500 मास्क, डा. सौरभ मारू जी द्वारा 48 कोविड किट एवं 35 आयुर्वेदिक काडा, इनरेम फाउंडेशन द्वारा पल्स ओक्टिमीटर, टेम्प्रेचर गन एवं लंग्स रेस्पीरेटर प्रदाय कर रथ को तैयार किया है। जागरूकता रथ गाँव गाँव जाकर कोरोना वायरस के प्रति जागरूकता एवं टिकाकरण के लिए ग्रामीणों को प्रेरित करेगा।  इंडो ग्लोबल सोशल सर्विस सोसाइटी झाबुआ से नितेश बोपचे प्रोजेक्ट मेनेजर, इनरेम से सचिन वाणी एवं कल्पना बिलवाल जिला समन्वयक झाबुआ, अलीराजपुर उपस्थित रहे।

आर्थिक सहायता स्वीकृत

झाबुआ | 02-जून-2021
श्री आकाश सिंह अनुविभागीय अधिकारी राजस्व मेघनगर द्वारा आदेश क्रमांक/1126/रीडर-1/2001 मेघनगर दिनांक 27.05.2021 प्र.क्र./0005/ब-128(9)2021-2022 आदेश पारित दिनांक 27/05/2021 प्रकरण का संक्षिप्त विवरण इस प्रकार हैं कि तहसीलदार मेघनगर के द्वारा प्रकरण क्रमांक/0001/ब-128(9)/2020-2021 से इस कार्यालय को प्रतिवेदन किया गया कि मृतक पुनिया पिता श्रीभुरजी चारेल जाति भील उम्र-60 निवासी रामपुरा तहसील मेघनगर की दिनांक 14/03/2021 को नदी के पानी में डुबने से मृत्यु हो जाने पर मृतक के वारिसान में उसकी पत्नि बीजु बैवा पुनिया चारेल जाति भील निवासी रामपुरा तहसील मेघनगर को प्रावधान क्रमांक-पॉच बिन्दु क्रमांक (2-क) के प्रावधानों के तहत रूपये 4,00,000/- (अक्षरी रूपये चार लाख, मात्र) आर्थिक अनुदान सहायता राशि स्वीकृत किये जाने की अनुशंसा की गई है।
अतएव तहसीलदार मेघनगर द्वारा पटवारी रिपोर्ट, थाना प्रभारी से प्रथम सूचना रिपोर्ट, पी.एम.रिपोर्ट के परीक्षण उपरान्त मृतक पुनिया पिता भुरजी चारेल जाति भील उम्र-60 निवासी रामपुरा तहसील मेघनगर की मृत्यू नदी के पानी में डूबने से मृत्यू होने संबंधी पुष्टि की जाकर प्रस्तुत प्रतिवेदन से सहमत, मृतक के परिवार में निकटतम वैद्य वारिसान में उसकी पत्नि श्रीमती बीजु बैवा पुनिया चारेल जाति भील निवासी रामपुरा BOBबैंक खाता क्र-05748100009701) तहसील मेघनगर के नाम से राजस्व पुस्तक परिपत्र 6(4) की कण्डिका पॉच के बिन्दु क्रमांक-(2-क) के प्रावधानों के तहत रूपये 4,00,000/- रू. (अक्षरी रूपये चार लाख, मात्र) आर्थिक अनुदान सहायता राशि स्वीकृत अनुविभागीय अधिकारी राजस्व अनुभाग मेघनगर द्वारा की गई हैं। मांग संख्या 58 शीर्ष- 2245 प्राकृतिक आपदाओं/देवी विपत्तियों के अंतर्गत नगद दान के तहत उक्त राशि की आहरण की भी स्वीकृति प्रदान की जाती है।

कोविड-19 के प्रभारी मंत्री श्री डंग द्वारा पेटलावद में सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का अवलोकन

झाबुआ | 16-अप्रैल-2021

     कोविड-19 के प्रभारी मंत्री श्री हरदीप सिंह डंग ने गुरूवार को जिले के पेटलावद में स्थित सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र का अवलोकन किया। इस दौरान श्री डंग ने सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र में कोविड-19 के बचाव एवं रोकथाम के लिए की गई व्यवस्थाओं की जानकारी ली और चिकित्सकों को आवश्यक निर्देश दिए। इसके पश्चात श्री डंग ने 2 करोड 84 लाख रूपये की लागत से बने नव निर्मित सिविल अस्पताल भवन का अवलोकन किया और उपकरणों तथा अन्य आवश्यक जानकारी प्राप्त की। श्री डंग ने इस सिविल अस्पताल को सुचारू रूप से संचालन के लिए सभी आवश्यक तैयारियां करने के निर्देश दिए। श्री डंग ने सिविल अस्पताल के लिए डाली जाने वाली पाईप लाईन की जानकारी ली और एक सप्ताह में पाईप लाईन का कार्य पूर्ण कराने के निर्देश दिए। श्री डंग ने पत्रकारों की समस्याएं सुनी और समस्याओं का निराकरण करने का प्रयास करने का आश्वासन दिया।
इस अवसर पर सांसद श्री गुमान सिंह डामोर, भाजपा जिलाध्यक्ष श्री लक्ष्मणसिंह नायक, कलेक्टर श्री सोमेश मिश्रा, पुलिस अधीक्षक श्री आशुतोष गुप्ता, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व पेटलावद श्री शिशिर गेमावत सहित अन्य अधिकारी मौजूद थे।

जिले में 12 केन्द्रों पर समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी का कार्य प्रारम्भ

उपायुक्त सहकारिता श्री अम्रीश वैद्य ने अवगत कराया कि जिले में समर्थन मूल्य पर गेंहू खरीदी के लिए 23 केन्द्र स्थापित किए गए है। जिसमें से 12 केन्द्रों पर खरीदी का कार्य प्रारम्भ हो गया है। शनिवार को इन 12 केन्द्रो पर 44 कृषकों द्वारा 3 हजार 398 क्विंटल गेंहू का विक्रय किया गया है। प्राप्त जानकारी के अनुसार पेटलावद में 5 किसानों द्वारा 700 क्यिूंटल, सांरगी में 4 किसानों द्वारा 700 क्विंटल, पेटलावद मार्केटिंग सोसायटी में 5 किसानों द्वारा 400 क्विंटल, थांदला मार्केटिंग सोसायटी में 1 किसान द्वारा 200 क्विंटल, रायपुरिया में 5 किसानों द्वारा 400 क्विंटल, बोलासा नवीन केन्द्र में 6 किसानों द्वारा 400 क्विंटल, झकनावदा में 6 किसानों द्वारा 107 क्विंटल, कल्याणपुरा में 1 किसान द्वारा 150 क्विंटल, पेटलावद कैम्पस में 5 किसानों द्वारा 700 क्विंटल, बामनिया में 3 किसानों द्वारा 130 क्विंटल, मेघनगर में मार्केटिंग सोसायटी केन्द्र में 4 किसानों द्वारा 18 क्विंटल और करवड खरीदी केन्द्र पर 3 किसानों द्वारा 40 क्विंटल गेंहू का विक्रय किया गया। शेष खरीदी केन्द्रों पर गेंहू खरीदी का कार्य शीघ्र प्रारम्भ हो जाएगा। उपायुक्त सहकारिता श्री वैद्य ने नवीन खरीदी केन्द्र उमरकोट का अवलोकन किया और इस केन्द्र पर समर्थन मूल्य पर गेंहू खरीदी के लिए पर्याप्त व्यवस्थाएं पाई गई।
विश्व जल दिवस कार्यक्रम का आयोजन

झाबुआ | 09-अप्रैल-2021

   शहीद चन्द्रशेखर आजाद, शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय झाबुआ की एन.सी.सी. इकाई द्वारा 21, म.प्र. प्रदेश बटालियन एन.सी.सी. रतलाम के कमांडिंग ऑफिसर कर्नल एच.पी.एच. अहलावत, प्रशासनिक अधिकारी लेफ्टिनेंट कर्नल एनजेएस सिधु तथा संस्था प्रमुख एवं प्राचार्य डॉ. एच.एल. अनिजवाल के निर्देशानुसार महाविद्यालय के एन.सी.सी. अधिकारी केप्टन डॉ. गोपाल भूरिया के मार्गदर्शन में एन.सी.सी.केडेट्स द्वारा 22 मार्च को विश्व जल दिवस कार्यक्रम आयोजित किया गया।
विश्व जल दिवस के तहत् जल के प्रति जागरूकता लाने के लिए व्याख्यान कार्यक्रम रखा गया। केप्टन डॉ. गोपाल भूरिया द्वारा व्याख्यान दिया गया। कार्यक्रम जल ही जीवन है, जल की उपयोगिता, उसके रख-रखाव पर विस्तृत रूप से व्याख्यान दिया गया। अंडर ऑफिसर पौलुश बारिया एवं जयदीपसिंह जाटव ने भी पानी बचाव नारे के साथ केडेट्स को संबोधित किया एवं बताया कि 22 मार्च को विश्व जल दिवस के उपलक्ष्य में सारे विश्व में जल के प्रति सतत् जनजागरूता कार्यक्रम होने चाहिए। कार्यक्रम का संचालन एन.सी.सी. अधिकारी केप्टन डॉ. गोपाल भूरिया ने किया तथा आभार सीनियर अंडर ऑफिसर भरतचंद शर्मा ने व्यक्त किया। कार्यक्रम में 50 केडेट्स उपस्थित थे।

मिशन चिरंजीवी आयुष्मान भारत निरामय योजना के तहत कार्ड बनाने का कार्य शीघ्र पूर्ण किया जाए -श्री सिंह

झाबुआ | 17-मार्च-2021

      मिशन चिरंजीवी आयुष्मान भारत निरामय योजना की प्रगति की समीक्षा बैठक मंगलवार को कालीदेवी में स्थित जनपद पंचायत सभा कक्ष में कलेक्टर श्री रोहित सिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। श्री सिंह ने इस योजना की प्रगति की पंचायतवार समीक्षा की और इस कार्य में लगे मैदानी अमले को निर्देश दिए हैं कि वे आयुष्मान भारत के कार्ड बनाने का कार्य तीन दिन में पूर्ण करे। जिन पंचायतों में यह कार्य पूर्ण होने पर अन्य ग्राम पंचायतों में कार्ड बनाने का कार्य प्रारम्भ करे ताकि रामा जनपद पंचायत जिले में कार्ड बनाने के मामले में अग्रणी आ सके। श्री सिंह ने ग्राम पंचायत धामन्दा के रोजगार सहायक को बैठक में अनुपस्थित पाए जाने पर सेवा से पृथक करने, छापरी कालीदेवी के सचिव को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने के निर्देश दिए।
इस बैठक में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत श्री एम.एल.टॉक, तहसीलदार श्री प्रवीण ओहरिया, बी.एम.ओ., समस्त उपयंत्री, ग्राम पंचायत सचिव, रोजगार सहायक सहित अन्य कर्मचारी उपस्थित थे।

जिला स्तरीय रोजगार मेले आज

झाबुआ | 02-मार्च-2021
    जिले के शिक्षित बेरोजगार युवाओं को निजी क्षेत्र की नियोजक कम्पनीयों में रोजगार उपलब्ध कराने के उद्देश्य से 2 मार्च को जिला मुख्यालय पर स्थित आजीविका भवन में जिला स्तरीय रोजगार मेले का आयोजन किया जावेगा। जिसमें न्यूनतम शैक्षणिक योग्यता 5 वीं से लेकर ग्रेजुएट तथा आईटीआई, पॉलेटेक्नीक डिप्लोमा तथा कौशल प्रशिक्षण केन्द्रों से प्रशिक्षण प्राप्त अभ्यर्थी रोजगार मेले में उपस्थित विभिन्न कम्पनीयों के प्रतिनिधियों के समक्ष साक्षात्कार दे सकतें हैं। यह रोजगार मेला प्रातः 11 बजे से सायं 4 बजे तक रहेगा। इस मेले में 10 कम्पनीयां भाग लेगी।

पेटलावद में एक दिवसीय रोजगार मेला सम्पन्न

61 युवक-युवतियों का चयन
झाबुआ | 23-फरवरी-2021

   जिला प्रशासन द्वारा शिक्षित बेरोजगारों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए पेटलावद स्थित जनपद पंचायत सभा कक्ष में सोमवार को जनपद स्तरीय रोजगार मेले का आयोजन किया गया। जिसमें 7 कम्पनीयों ने भाग लिया। इस रोजगार मेले में 121 युवाओं का पंजीयन किया गया। जिसमे से 61 युवक-युवतियों का चयन किया गया।
इस अवसर पर रोजगार अधिकारी, जिला परियोजना प्रबंधक मध्य प्रदेश डे-राज्य ग्रामीण आजीविका मिशन सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी, सात कम्पनीयों के अधिकारी युवक-युवतिया उपस्थित थे।

जनपद स्तरीय रोजगार मेलों के लिए तिथियों का निर्धारण

झाबुआ | 16-फरवरी-2021

    मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन ने आत्म निर्भर मध्य प्रदेश के निर्माण अंतर्गत शिक्षित बेरोजगार युवाओं को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए रोजगार मेलों की तिथियां निर्धारित की है।जनपद पंचायत  पेटलावद के लिए 22 फरवरी को, थांदला तथा मेघनगर जनपद पंचायत के लिए 23 फरवरी को, झाबुआ तथा रामा जनपद पंचायत क्षेत्र के लिए 5 मार्च को और राणापुर जनपद पंचायत क्षेत्र के लिए 6 मार्च को जनपद स्तरीय रोजगार मेलों का आयोजन रखा गया है। यह रोजगार मेले जनपद पंचायत मिटिंग हॉल पेटलावद, थांदला, रामा, तथा राणापुर में रखे गए है। यह रोजगार मेले प्रातः 11 बजे से सायं 4 बजे तक रहेगें।

जिला स्तरीय स्टैंडिंग कमेटी की बैठक सम्पन्न

झाबुआ | 10-फरवरी-2021

त्रिस्तरीय पंचायत एवं नगरीय निकायों की मतदाता सूची में पारदर्शिता और निष्पक्षता के लिए जिला स्तरीय स्टैंडिंग कमेटी की बैठक मंगलवार को यहां कलेक्ट्रेट सभा कक्ष में अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक में राज्य निर्वाचन आयोग द्वारा पंचायतों एवं नगरपालिकाओं के निर्वाचन के लिए 1 जनवरी 2021 की संदर्भ तारीख के आधार पर पंचायतों की फोटो युक्त मतदाता सूची के वार्षिक पुनिरीक्षण के लिए निर्धारित कार्यक्रम से अवगत कराया गया। इस बैठक में राजनैतिक दलों के पदाधिकारियों ने आवश्यक सुझाव भी रखे।
इस बैठक में अनुविभागीय अधिकारी झाबुआ श्री सोहन कनास, उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री अनिल भाना, अनुविभागीय अधिकारी पुलिस श्री इडला मौर्य, परियोजना अधिकारी शहरी विकास अभिकरण श्री एल.एस.डोडिया, मुख्य नगरपालिका अधिकारी मेघनगर श्री विकास डावर विभिन्न राजनैतिक दलों के पदाधिकारी मौजूद थे।

किसानो की आय दुगनी करने के लिये हर संभव प्रयास किये जायेगे – श्री कुशवाह

झाबुआ |  02-फरवरी-2021

प्रदेश के उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण (स्वतंत्र प्रभार) एवं नर्मदा घाटी विकास राज्य मंत्री श्री भारत सिंह कुशवाह ने रविवार को यहां पॉलिटेक्निक महाविद्यालय परिसर में उद्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण कृषक प्रशिक्षण शिविर का भगवान बलराम के चित्र पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जलित कर शुभांरभ किया। इसके पश्चात् कन्याओं का पूंजन किया गया। श्री कुशवाह ने इस अवसर पर शिविर के उद्देश्य पर प्रकाश डालते हुवे कहा की उद्यानिकी के क्षेत्र में हमारे किसान वर्षो से काम कर रहे है,जो किसान उद्यानिकी का काम नहीं जानते है उनके लिये यह प्रशिक्षण आयोजित किया गया है। प्रदेश के मुख्यमंत्री किसानों की समस्याऐं भलीभाति समझते है। सरकार किसानों की आय दुगनी करने के लिये हर संभव प्रयास कर रही है। जिसमें किसानों का सहयोग आवश्यक है। इसके लिये सरकार पुरानी योजनाओं के क्रियान्वयन के साथ-साथ नवाचार के कार्य भी कर रही है। जिसके अच्छे परिणाम सामने आयेगें।
श्री कुशवाह ने किसानों को सम्बोधित करते हुवे कहा की झाबुआ विकास खण्ड को मॉडल बनाने के लिये रोड़मेप बनाया गया है, आने वाले समय में निश्चित रूप से बदलाव दिखाई देगा। झाबुआ विकास खण्ड को आदर्श बनाने के लिये रतलाम-झाबुआ-अलिराजपुर संसदीय क्षेत्र के सांसद श्री गुमानसिंह डामोर की महत्वपूर्ण भूमिका रही है। पूरे प्रदेश में 313 विकास खण्डों में 20 विकास खण्डों को आदर्श विकास खण्ड बनाने के लिये चयन किया गया है। जिसमें झाबुआ विकास खण्ड भी शामिल है।
श्री कुशवाह ने आगे कहा की पंडित दीनदयाल उपाध्याय का सपना था कि समाज के अंतिम पंक्ति के लोगो को शासकीय योजनाओं का लाभ मिले। उनके सपने के अनुरूप समाज के सबसे गरीब व्यक्तियों को योजनाओं का लाभ मिले इसके लिये प्रयास किये जा रहे है। श्री कुशवाह ने कहा की आदर्श विकास खण्डों को आत्मनिर्भर बनाने के लिये विकास खण्ड के लोगो को सारी योजनाओं का लाभ मिले ऐसे प्रयास किये जाये। आने वाले समय में 5 से 7 करोड़ रूपयें की राशि खर्च की जावेगी। श्री कुशवाह ने कहा कि किसानों की समस्याओं के निराकरण के लिये हर संभव प्रयास किये जायेगे। मध्यप्रदेश देश का पहला राज्य बनने जा रहा है। झाबुआ जिला एक जिला एक उत्पाद के अन्तर्गत टमाटर फसल का चयन किया गया है। टमाटर के साथ-साथ अन्य प्रोसेसिंग यूनिटे बनेगी। किसान अपने खेत पर स्वयं टमाटर फसल उगाकर उत्पादन,भण्डारण करते हुवे अपनी प्रोसेसिंग यूनिट लगाऐ तभी खेती को लाभ का धंधा बनाया जा सकेगा। किसान प्रोसेसिंग इकाई स्थापित करने पर 35 प्रतिशत अनुदान का लाभ दिया जावेगा। कच्चे उत्पादन को सुरक्षित रखने के लिये कोल्ड स्टोरेज, भण्डारण पर 35 से 50 प्रतिशत अनुसार लाभ दिया जावेगा। कोल्ड स्टोरेज पर 4 करोड़ रूपये की लागत आती है जिसमें 1 करोड़ 40 लाख से 2 करोड़ तक का अनुदान का लाभ विभाग द्वारा दिया जाता है। श्री कुशवाह ने कहा की आने वाले समय में किसान रोजगार नहीं मांगेगा परन्तु रोजगार प्रदान करेगा। उद्यानिकी के क्षेत्र में अपार संभावनाऐं है इस क्षेत्र में कारगर प्रयास किये जायेगें। ड्रिप सिंचाई योजना के अन्तर्गत विभाग क्षेत्र का चिन्हांकन करे। जिस पर 55 प्रतिशत अनुदान लाभ देगी। इससे अधिक अनुदान दिलाने का प्रयास किया जावेगा। पोली हाउस 4 हजार वर्गमीटर, 3 हजार वर्ग मीटर 2 हजार वर्ग मीटर 1 हजार वर्ग मीटर पोली हाउस बनाने का प्रावधान रखा जायेगा।
कार्यक्रम की अध्यक्षता करते हुए सांसद श्री गुमान सिंह डामोर ने कहा की झाबुआ जिले को आर्थिक दृष्टि से समृद्व करने की आवश्यकता है। यह जिला शेक्षणिक तथा आर्थिक दृष्टि से पिछड़ा हुआ है, किन्तु धार्मिक तथा सामाजिक दृष्टि से बहूत मजबूत है। यहां के किसान जैविक खेती करते है। संसदीय क्षेत्र में छोटे-छोटे स्टाप डेम का लाभ बनाने की आवश्यकता है,ताकि किसानें की माली हालत में बदलाव आ सके।
श्री कुशवाह ने इस अवसर पर 14 कृषकों को 30 लाख 01 हजार 954 रूपये की लागत के राशि स्वीकृति पत्र वितरित किये। जिसमें 15 लाख 11 हजार 904 रूपये की अनुदान की राशि शामिल है।
कार्यक्रम के प्रांरभ में सहायक संचालक उद्यान श्री अजय चौहान ने स्वागत भाषण दिया।
इस अवसर पर कलेक्टर श्री रोहित सिंह, अपर कलेक्टर श्री जे.एस.बघेल, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री आनन्दसिंह वास्कले,उप संचालक कृषि श्री एन.एस.रावत,अतिरिक्त मुख्यकार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री दिनेश वर्मा,अनुविभागीय अधिकारी राजस्व श्री एम.एल.मालवीय,कृषि वैज्ञानिक श्री आई.एस.तोमर, भाजपा पूर्व जिला अध्यक्ष श्री दौलत भावसार,श्री ओमप्रकाश शर्मा,श्री अमरदीप सिंह मौर्य,जिला कार्यक्रम अधिकारी महिला एवं बाल विकास श्री अजयसिंह चौहान सहित विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी तथा बड़ी संख्या में किसान मौजूद थे। कार्यक्रम का संचालन श्री सी.एस.पाटीदार ने किया तथा कार्यक्रम के अन्त में ग्रामीण उद्यान विस्तार अधिकारी श्री बल्लूसिंह चौहान ने आभार व्यक्त किया।

जिले में मिशन चिरंजीवी के तहत एक ही दिन में 15 हजार 851 आयुष्मान भारत योजना के कार्ड बनाने की प्रक्रिया पूर्ण

झाबुआ | 15-दिसम्बर-2020
    जिले मे मिशन चिरंजीवी के तहत रविवार को एक ही दिन में 15 हजार 851 आयुष्मान भारत योजना के कार्ड बनाने की प्रक्रिया पूर्ण की गई है। इस दौरान जनपद पंचायत झाबुआ में 2 हजार 85, रामा में एक हजार 726, राणापुर में एक हजार 319, मेघनगर में 3 हजार 50, पेटलावद में 4 हजार 16 तथा थांदला जनपद पंचायत क्षेत्र में 2 हजार 987, झाबुआ नगरीय क्षेत्र में 125, पेटलावद में 328, थांदला में 50, मेघनगर में 87, तथा राणापुर में 78 कार्ड बनाने की प्रक्रिया पूर्ण की गई है।

सहायक संचालक जनसंपर्क द्वारा ग्राम पंचायत ढेकल बड़ी तथा आमली फलिया का अवलोकन

आयुष्मान भारत योजना के कार्ड बनाने के कार्य में गति लाने के निर्देश
झाबुआ | 09-दिसम्बर-2020
    कलेक्टर श्री रोहित सिंह के निर्देशानुसार सहायक संचालक जनसंपर्क श्री बी.एस.रावत द्वारा ढेकल बडी कलस्टर की ग्राम पंचायत ढेकल बड़ी तथा आमली फलिया का अवलोकन किया। इस दौरान आयुष्मान भारत योजना के तहत बनाए जा रहे कार्ड की स्थिति की समीक्षा की और कार्ड बनाने के कार्य में सुधार लाने के निर्देश दिए। पटवारी सुश्री पूजा अवसारी ने अवगत कराया की फूलधावडी, महूडी डूंगरी, डुमपाड़ा, कागझर, टिकड़ी, पिपलीपाड़ा तथा ढेकल में अब तक 720 हितग्राहियों के आयुष्मान भारत के कार्ड बनाए जा चुके है। मंगलवार को दोपहर 1:30 बजे तक 27 हितग्राहियों के आयुष्मान भारत के कार्ड बनाने की प्रक्रिया पूर्ण कर ली गई है और ग्राम पंचायत ढेकल बड़ी में टिम द्वारा आयुष्मान भारत के कार्ड बनाने की प्रक्रिया निरंतर जारी है।
इसी तरह आमली फलिया ग्राम पंचायत में 26 नवम्बर 2020 से अब तक 372 आयुष्मान भारत के कार्ड बनाए जा चुके हैं। मंगलवार को दोपहर 1 बजे तक 10 कार्ड बनाने की प्रक्रिया पूर्ण की गई है। यह प्रक्रिया आगे भी निरंतर जारी रहेगी। सचिव श्री राजेन्द्र गौड़ ने अवगत कराया कि इस अभियान से पहले 245 हितग्राहियों के आयुष्मान भारत योजना के कार्ड बनाए जा चुके हैं। इस ग्राम पंचायत में 2 हजार 500 कार्ड बनाने का लक्ष्य है। जिसके विरूद्ध अब तक 617 आयुष्मान भारत के कार्ड बनाए जा चुके है। शेष हितग्राहियों के कार्ड बनाने की प्रक्रिया सतत जारी है। पटवारी तथा सचिव ने अवगत कराया की क्षेत्र में आयुष्मान भारत योजना के लाभ के बारे में ग्रामीणों में प्रचार-प्रसार किया गया है। जिससे ग्रामीणजन कार्ड बनाने के लिए प्रेरित हुए हैं और कार्ड बनाने के लिए उत्साह पूर्वक लोग आगे आ रहे है। ग्रामीणों ने चर्चा के दौरान अवगत कराया की शासकीय मैदानी अमले द्वारा इस योजना के तहत मात्र 30 रूपये में कार्ड बन रहे है और इस योजना का लाभ 5 लाख रूपये तक का मिलेगा। इस लाभ को देखते हुए ग्रामीणजन कार्ड बनवाने के लिए उत्साह पूर्वक प्रेरित हो रहे है।

सांसद श्री डामोर द्वारा मेघनगर विकास खण्ड में नलजल प्रदाय योजना की पाईप लाईन विस्तार कार्य का भूमिपूजन

झाबुआ | 01-दिसंबर-2020
    सांसद श्री गुमानसिंह डामोर द्वारा जिले के मेघनगर विकास खण्ड के विभिन्न गावों में नल जल प्रदाय योजना की पाईप लाईन विस्तार कार्य का भूमिपूजन किया गया। इन कार्यों पर 3 करोड 70 लाख 24 हजार रूपये की लागत आएगी। इस योजना के तहत ग्राम गडुली मंदिर परिसर में आयोजित कार्यक्रम में ग्राम गडृली में 41.07 लाख रूपयें, किशनपुरा में 46.94 लाख, घोसलीया बड़ा में 23.85 लाख, खच्चर टोड़ी में 35.06 लाख रूपये के राशि के कार्य का भूमिपूजन किया गया। इसी प्रकार कांजली डुंगरी स्कूल परिसर में काजली डुंगरी में 29.39 लाख रूपये, झाडकी रोड़ी में 10.42 लाख रूपये, पंचायत भवन बैड़ावली में आयोजित कार्यक्रम में ग्राम बैडावली में 68.31 लाख रूपये अगराल पंचायत परिसर में आयोजित कार्यक्रम में अगराल में 49.58 लाख रूपये, हाईस्कूल परिसर सजेली नरसिंगपुरा में आयोजित कार्यक्रम में 37.48  लाख रूपये और सजेली सूरजी मोगजी पंचायत भवन के पास 28.14 लाख रूपये की लागत के कार्य का भूमिपूजन किया गया। श्री डामोर ने कार्यक्रम को संबोधित करते हुए कहा कि हमारे प्रधान मंत्री श्री नरेन्द्र मोदी का सपना हर घर नल से जल पहुचाने के लिए जल जीवन मिशन की शुरूआत की गई । इस मिशन के अन्तर्गत्त  2024 तक हर घर को नल के माध्यम से शुद्ध जल प्राप्त होगा। तथा शुद्ध जल पीने से 80 प्रतिशत बीमारीयो का निदान होगा जिससे हमारी आर्थिक एवं सामाजिक स्थिति मे सुधार आयगा। जो की हमारे समाज देश की उन्नती मे एक बहुत बढा योगदान हेागा।
भाजपा जिलाध्यक्ष श्री लक्ष्मणसिह नायक ने  कहा कि हमारे देश के प्रधान मंत्री श्री मोदी का सपना है की आने वाले कल में हर घर नल से शुद्ध जल देकर सभी को स्वस्थ्य रखने की बात कही गई। तथा प्रधान श्री नरेन्द्र मोदी द्वारा देश मे किये जा रहे कार्यो को सर्वश्रेठ बताया गया। तथा स्थानिय सांसद के द्वारा प्रत्येक कार्य को तत्परता से करना बताया गया। तथा श्री गुमानसिह डामोर सांसद द्वारा किये जा रहें कार्य की सराहना की गई।
इस अवसर पर श्रीमति शान्ती राजेश डामोर, श्रीमति सुशिला प्रेम भाबर, पूर्व विधायक श्री कलसिंह भाबोर सहित बडी संख्या में ग्रामीणजन उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन जिला सलाहकार श्री दुलिया बामनिया ने किया तथा आभार कार्यपालन यंत्री श्री एन.एस.भिडे़ ने व्यक्त किया।

राजस्व प्रकरण प्रबंधन प्रक्रिया में पंजीबद्ध प्रकरणों के निराकरण में झाबुआ जिला प्रदेश में अव्वल

झाबुआ | 24-नवम्बर-2020
     राजस्व प्रकरण प्रबंधन प्रक्रिया के तहत जिले में 14 हजार 535 राजस्व प्रकरण पंजीबद्ध किए गए। जिसमें से 12 हजार 191 राजस्व प्रकरणों का निराकरण किया गया है जो कि 83.87 प्रतिशत है। कलेक्टर श्री रोहित सिंह के विशेष प्रयासों से राजस्व प्रकरण प्रबंधन प्रक्रिया में पंजीबद्ध प्रकरणों के निराकरण के मामले में झाबुआ जिला संभाग तथा प्रदेश में प्रथम स्थान पर रहा है।

ग्राम पंचायत सचिव श्री मेड़ा को तत्काल प्रभाव से निलंबित

झाबुआ | 18-नवम्बर-2020
    मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री सिद्धार्थ जैन ने जनपद पंचायत राणापुर की ग्राम पंचायत धामनीचमना के सचिव श्री ओमकारसिंह मेड़ा को अपने कर्तव्य के प्रति लापरवाही एवं उदासिन्ता बरतने, ग्रामीण विकास की विभिन्न योजनाओं तथा कार्यक्रमों के अंतर्गत ग्रामीण जनों को लाभान्वित नहीं करने, वरिष्ठ कार्यालय के निर्देशों की अवहेलना करने पर तत्काल प्रभाव से निलंबित किया जाकर विभागीय जांच संस्थित की है। निलंबन अवधि में श्री मेड़ा का मुख्यालय जनपद पंचायत राणापुर रहेगा तथा इन्हें नियमानुसार निलंबन भत्ते की पात्रता अर्जित रहेगी।

केवीके झाबुआ में कड़कनाथ फॉर्मिंग पर राष्ट्रीय सेमिनार का आयोजन

झाबुआ | 10-जुलाई-2020

    कृषि विज्ञान केन्द्र, में गुरूवार को ‘‘कड़कनाथ फॉर्मिंग वर्तमान में स्थिति व भविष्य में इसकी संभावनाएं‘‘ विषय पर राष्ट्रीय स्तर पर सेमिनार का आयोजन किया गया। इस पर सेमिनार के संरक्षक डॉ. एस.के.राव, कुलपति, रा.वि.सिं.कृ.वि.वि. ग्वालियर, मार्गदर्शक प्रो. व्ही.एस. तोमर, पूर्व कुलपति एवं प्रमण्डल सदस्य, सहसंरक्षक डॉ. मृदुला बिल्लौरे, अधिष्ठाता, कृषि संकाय, संयोजक डॉ. एम.पी. जैन, निदेशक अनुसंधान सेवाएं, डॉ. एस.एन. उपाध्याय निदेशक विस्तार सेवाएं, डॉ. ए.के. सिंह निदेशक शिक्षण, डॉ. एस.एस. तोमर निदेशक प्रक्षेत्र, डॉ. आर.के.एस. तोमर संयुक्त निदेशक विस्तार सेवाएं, रा.वि.सिं.कृ.वि.वि. ग्वालियर, एवं सह संयोजक डॉ. आई.एस. तोमर, सह संचालक अनुसंधान, झाबुआ उपस्थित थे।
इस कार्यक्रम में देश के विभिन्न राज्यों से 900 वैज्ञानिक एवं कड़कनाथ पालक सीधे जुडे़ थे। कार्यक्रम की शुरूआत करते हुए केन्द्र के प्रमुख डॉ. तोमर ने कड़कनाथ प्रजाति के संरक्षण एवं संवर्धन में कृषि विज्ञान केन्द्र, झाबुआ की भूमिका एवं इसके प्रचार-प्रसार तथा झाबुआ जिले के आदिवासियों के रोजगार एवं आजीविका का प्रमुख साधन बनाने में एवं कृषकों के आजीविका के लिए पलायन रोकने में कड़कनाथ मुर्गीपालन के योगदान के बारे में बताया एवं भविष्य की संभावनाओं पर योजना बनाने की बात की। इस कार्यक्रम के प्रमुख वक्ता प्रो. सुशील प्रसाद, अधिष्ठाता, वेटनरी कॉलेज, रॉची ने कड़कनाथ प्रबंधन, डॉ. पी.पी. दुबे, आणविक अनुवाशिकी, पंजाब वि.वि. लुधियाना ने कडकनाथ पालन में भविष्य एवं रोजगार की संभावनाएं, डॉ एस.के. दास, सह प्राध्यापक, पंजाब वि.वि. लुधियाना ने ब्रीडिंग स्ट्रेटजी ऑफ कड़कनाथ, डॉ. महेश गणापूरे, वेटनरी चिकित्सक, नंदूरबार महा. ने प्रमुख रोगों की जानकारी एवं निदान, श्री शास्वत बिसबेन, हैदराबाद ने विश्व बाजार में कड़कनाथ मॉस की मॉग एवं निर्यात की रूपरेखा, डॉ. जे.एस. राजपूत, वैज्ञानिक केवीके, धार ने आहार एवं रोग प्रबंधन, डॉ. चंदन कुमार वैज्ञानिक केवीके, झाबुआ ने कड़कनाथ की उत्पत्ति एवं विस्तार, श्री परवेन्दर सिंह चौहान ने ऑर्गेनिक टाक्सिक फ्री कड़कनाथ उद्यमी, जयपुर ने अपने व्यक्तिगत अनुभव तथा  श्री विनोद मेड़ा ने अपने व्यक्तिगत अनुभव साझा किये।
कार्यक्रम का संचालन श्री विनोद पटेल निजसचिव, माननीय कुलपति एवं आभार प्रदर्शन डॉ. एस.एन. उपाध्याय, निदेशक विस्तार सेवाएं, रा.वि.सिं.कृ.वि.वि. ग्वालियर ने किया। इस कार्यक्रम का सीधा प्रसारण यू-ट्युब के माध्यम से किया गया जिसकी यू-ट्युब लिंक- http://www.youtube.com/watch?v=vt1k9q46ve8  पर देखा जा सकता है। इस आयोजन में कृषि विज्ञान केन्द्र, झाबुआ के तकनीकी अधिकारी श्री दयाराम चौहान, वैज्ञानिक डॉ. आर.के.त्रिपाठी, डॉ. वी.के. सिंह, श्री जगदीश मौर्य, श्री चन्द्रशेखर लोखण्डे, श्री टी.एस. डुडवे, श्री दिलीप घोटकर, श्री राघवेन्द्र भदौरिया आदि का विशेष योगदान रहा।

नियोजित प्रवासी श्रमिकों की प्रविष्टि मध्य प्रदेश रोजगार सेतु पोर्टल पर दो दिवस में करे – श्री सिपाहा

झाबुआ | 19-जून-2020

     रोजगार मेले के आयोजन समिति की बैठक गुरूवार को यहां कलेक्टेªट सभा कक्ष में कलेक्टर एवं अध्यक्ष श्री प्रबल सिपाहा की अध्यक्षता में आयोजित हुई। श्री सिपाहा ने पंजीकृत प्रवासी श्रमिकों की जानकारी प्राप्त की। बैठक में अवगत कराया गया की जिले में 23 हजार 725 पंजीकृत  प्रवासी श्रमिकों है। जिसमें जनपद पंचायत झाबुआ में 4 हजार 105, राणापुर में 5 हजार 563, थांदला में 3 हजार 915, पेटलावद में 3 हजार 940, मेघनगर में 1 हजार 427 तथा रामा जनपद पंचायत क्षेत्र में 4 हजार 677 श्रमिक शामील है। इनमें से  3 हजार 500 श्रमिकों की स्कील मैपिंग की गई है। जिनमें  झाबुआ जनपद पंचायत क्षेत्र में 3 हजार 196, राणापुर में 188, थांदला में 22, पेटलावद में 199, रामा जनपद पंचायत क्षेत्र में 26 श्रमिकों की स्कील मैपिंग शामिल है। जिले में प्रवासी श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिये 144 विभिन्न संस्थाओं द्वारा अपना पंजीयन किया गया। जिसमें वृहद उद्योग के 3, लघुद्योक के 48, श्रम ठेकेदार के 5, ठेकेदार के 30, अन्य प्रतिष्ठान के 7, सप्लायर के 17, स्टोन क्रेशर के 20, तथा अन्य नियोजन के 13 संस्थाओं द्वारा पंजीयन किया गया। श्री सिपाहा ने संबंधित अधिकारियों को निर्देश दिये है कि वे पंजीयन का कार्य तीन दिवस में पूर्ण कराए। साथ ही मनरेगा अंतर्गत जनपद पंचायत क्षेत्रों में नियोजित प्रवासी श्रमिकों की प्रविष्टि मध्य प्रदेश रोजगार सेतु पोर्टल पर दो दिवस में कराना सुनिश्चित करे। कलेक्टर श्री सिपाहा ने अधिकारियों को निर्देश दिये है कि वे अपने-अपने क्षेत्र में जरूरतमंद व्यक्तियों को अधिक से अधिक संख्या में रोजगार उपलब्ध कराना सुनिश्चित करें।
इस बैठक में सहायक कलेक्टर श्री आकाशसिंह, महाप्रबंधक जिला व्यापार एवं उद्योग केन्द्र श्री वीरेन्द्र सिंह इस्क्या, डिप्टी कलेक्टर श्री लक्ष्मीनारायण गर्ग, अतिरिक्त मुख्य कार्य पालन अधिकारी जिला पंचायत श्री दिनेश वर्मा, अधीक्षण यंत्री म.प्र.प.क्षे.वि.वि.क. श्री सुरेश वर्मा, कार्यपालन यंत्री जल संसाधन श्री प्रवीण कुमार खरत, समस्त जनपत पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारी तथा अन्य निर्माण एजेंसी के अधिकारी व अन्य सदस्य अधिकारी उपस्थित थे।

विश्व पर्यावरण दिवस का आयोजन होगा आज

झाबुआ | 04-जून-2020

0

       संयुक्त राष्ट्र के आहवान पर हर वर्ष 5 जून को विश्व पर्यावरण दिवस मनाया जाता है। जिसका उद्देश्य पर्यावरण सरंक्षण के प्रति जागरूकता लाते हुए राजनीतिक चेतना जागृत करना और आम जनता को प्रेरित करना है। इस वर्ष इस अंतर्राष्ट्रीय दिवस की थीम Time for Nature जो जैव विविधता के संरक्षण पर केंद्रित होगी।
मध्य प्रदेश में राज्य आनंद संस्थान, अध्यात्म विभाग भी विश्व पर्यावरण दिवस के उद्देश्यों के महत्व एवं आवश्यकता को समर्थन देते हुए एवं अपने स्तर पर स्वच्छ एवं स्वस्थ पर्यावरण के निर्माण हेतु जन जागरूकता फैलाने के लिए प्रतिबद्ध है। इस को दृष्टिगत रखते हुए 5 जून 2020 को संस्थान उत्प्रेरक के रूप में अपने आनंदकों का कोविड 19 से सम्बंधित सावधानियों का पूर्णतः पालन करते हुए स्वैच्छिक प्रयासों द्वारा जागरूकता फैलाने हेतु आहवान करता है।
कोविड-19 ने जहां एक ओर दुनिया भर में कई विकट चुनौतियां पैदा की हैं, वहीं दूसरी ओर प्राकृतिक सौंदर्य के अद्भुत व जीवंत नजारे भी देखने को मिल रहे हैं एवं पर्यावरण ने सकारात्मक करवट ली है किन्तु पर्यावरणीय समस्या का यह अल्पकालिक सुधार न तो स्थायी समाधान है और न ही वांछनीय परिणाम किसी भी महामारी के फौरन बाद आर्थिक विकास की रफ्तार को बढ़वा देने के लिए प्राकृतिक संसाधनों का बड़े पैमाने पर अमर्यादित दोहन भी किया गया है। ऐसे में मानव, प्रकृति और आर्थिक विकास के अंतर्सबंधों को नए सिरे से परिभाषित करने की आवश्यकता है। Time for Nature जैव विविधता के संरक्षण पर केंद्रित यद्यपि सभी आनंदक अपनी स्थानीय परिस्थितियों के आधार पर उपरोक्त थीम को ध्यान रखते हुए योजना बना सकते हैं फिर भी पर्यावरण संरक्षण के प्रति जागरूकता अभियान हेतु कुछ गतिविधियों के लिए कुछ बिंदुओं का समावेश निम्नानुसार किया जा सकता है। एसएमएस, फेसबुक, ट्विटर, ईमेल के जरिये लोगों को जागरूक किया जाए। इनके माध्यम से लोगों को प्रेरित करें कि वे इन साइट्स पर जाकर संकल्प लें कि भविष्य में वे कम से कम अपने घर और आसपास के पर्यावरण को स्वस्थ बनाने का प्रयास करेंगे। रीसाइकलिंग, सौर ऊर्जा, बायो गैस, बायो खाद, रेन वॉटर हार्वेस्टिंग जैसी तकनीक अपनाने पर बल दें। जहां सम्भव हो पौधारोपण, स्वच्छता अभियान, पेंटिंग, वाद-विवाद, निबंध-लेखन जैसी प्रतियोगिताएं आयोजित कर सकते हैं।
ऑनलाइन आयोजन इसके अतिरिक्त निम्नलिखित बिंदुओं का समावेश करते हुए यू ट्यूब एवं सोशल मीडिया के अन्य माध्यमों पर परिचर्चा, संवाद एवं व्याख्यान इत्यादि का आयोजन किया जा सकता है। जैव विविधता के संरक्षण के लिए हमें अपने स्वयं के हित में मानसिकता विकसित करनी होगी। इस के लिये हमारे दिन प्रतिदिन के प्रयास ही जैव विविधता को संरक्षित कर सकते हैं। वनों का पौधों का पेड़ों का विनाश रोकना। जलवायु अनुसार अधिक से अधिक वृक्षारोपण व उससे भी महत्वपूर्ण उनका संरक्षण। उपलब्ध जल संसाधनों का किफायती उपयोग। मरूस्थलीय क्षेत्रों को सिचिंत कर उन्हें उपजाऊ व हरा-भरा बनाने के प्रयास।खदानों के अनियंत्रित खनन पर पाबंदी। चारागाह क्षेत्रों में अनियंत्रित पशु चारण पर रोक लगे। कृषि भूमि का भरपूर उपयोग हो रोटेश्नल फसल लगाकर। खनिज पदार्थो की किफायती उपयोग। नदियों व जलाशयों में विषैले रासायनिक पदार्थो का मिलना प्रतिबंधित हो क्योंकि जीव-जंतुओं मछलियों की जाने तो जाती है, मनुष्य में भी कई गंभीर बीमारियां जन्म लेती है। जल के महत्व को समझ उसका किफायती उपयोग। सभी प्राकृतिक संसाधनों चाहे वे पेट्रोल, पेड़-पौधे हो या पानी का महत्व समझ सके संरक्षण की मानसिकता विकसित करनी होगी। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने विश्व पर्यावरण दिवस मनाने के संबंध में संबंधित अधिकारियो को आवश्यक दिशा निर्देश जारी किए है।

समयावधि पत्रो का शीघ्र निराकरण करे- श्री सिपाहा

झाबुआ | 18-फरवरी-2020

     समस्त विभागो के जिला अधिकारियो की बैठक यहां कलेक्टर कक्ष में सोमवार को कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा की अध्यक्षता में आयोजित हुई। श्री सिपाहा ने इस बैठक में समयावधि पत्रो की विभागवार समीक्षा की और लम्बित पत्रो का एक सप्ताह में निराकरण करने के निर्देश दिये।
श्री सिपाहा ने मुख्यमंत्री हेल्पलाईन की विभिन्न स्तरो की शिकायतो की निराकरण की स्थिति की समीक्षा की और निर्देश दिये है कि इन शिकायतो का शीघ्र निराकरण करें। इस बैठक में कलेक्टर श्री सिपाहा ने 26, 27 तथा 28 फरवरी को प्रस्तावित कृषि मेले की तैयारिया की संघन समीक्षा की और उप संचालक कृषि तथा विभिन्न विभागो के जिला अधिकारियो को आवश्यक निर्देश दिये।
श्री सिपाहा ने समर्थन मूल्यो पर गेहू उपार्जन के लिए किसानो के पंजीयन कार्य की प्रगति की समीक्षा की। बैठक में बताया गया कि अभी तक पंजीयन केन्द्रो पर 2954 किसानो का पंजीयन किया जा चुका है। पंजीयन कार्य जारी है। कलेक्टर श्री सिपाहा ने जिला आपूर्ति अधिकारी को निर्देश दिये है कि वे किसानो के पंजीयन कार्य प्रगति से प्रतिदिन अवगत करायें। इस बैठक में जनसुनवाई कार्यक्रम, आपकी सरकार आपके द्वार योजना, जनमित्र शिविरो में प्राप्त आवेदन पत्रो के निराकरण की स्थिति की समीक्षा की गई और अधिकारियो को निर्देश दिये है कि वे इन कार्यक्रमो के तहत प्राप्त आवेदन पत्रो का निराकरण आगामी एक सप्ताह में निराकरण करें।
इस बैठक में कलेक्टर श्री सिपाहा ने विभिन्न विभागो के माध्यम से संचालित कल्याणकारी योजनाओ की प्रगति की विस्तार से समीक्षा की और प्रगति में और अधिक सुधार लाने के निर्देश दिये। उन्होने जिले में ग्रीष्म ऋतु में पेयजल व्यवस्था के लिए आवश्यक तैयारियो की जानकारी ली और कार्य योजना तैयार करने के निर्देश दियें। साथ ही फ्लोराईड प्रभावित क्षेत्र में पेयजल व्यवस्था के संबंध में जानकारी ली तथा आवश्यक निर्देश दिये।
उन्होने जिले में छात्रावास-आश्रमो में विद्यार्थियो के लिए पेयजल व्यवस्था की समीक्षा की और कार्यपालन यंत्री लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी तथा सहायक आयुक्त जनजातीय कार्य विभाग को निर्देश दिये है कि स्टॉप डेमो की मरमत करने, सार्वजनिक कुए बनाने के लिए कार्य योजना तैयार करें।  इस बैठक में विभिन्न विभागो के जिला अधिकारी उपस्थित थें।

जिला प्रशासन हलमा में सहयोग करेगा

झाबुआ | 11-फरवरी-2020

    हलमा का आयोजन 29 फरवरी से 1 मार्च तक शिव गंगा के श्री महेश शर्मा द्वारा विशाल रूप से जन सहयोग के द्वारा जिसमें गांव के लोग स्वयं के व्यय पर हाथीपावा पाहाडी पर गेती, फापडा लेकर जल संचय के लिए संरचना बनाएगे।  सोमवार को समयावधि पत्रो की बैठक में शिव गंगा के श्री धाकड द्वारा जिला अधिकारियो से सहयोग की अपील की है। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने सभी विभागो के जिला अधिकारियो से आव्हान किया है कि वे इस अच्छे कार्य में स्वेच्छा से श्रमदान के लिए आगे आए।  इस श्रमदान से जल संरचना के साथ लगभग 20 तालाब बनायेगे।

मुख्यमंत्री हेल्पलाईन पोर्टल पर दर्ज शिकायतो के निराकरण के लिये सर्वोच्च प्राथमिकता दे-श्री सिपाहा

झाबुआ | 28-जनवरी-2020

    समयावधि पत्रो की समीक्षा बैठक सोमवार को यहा कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा की अध्यक्षता में आयोजित हुई। श्री सिपाहा ने जन अधिकार कार्यक्रम के अंतर्गत चयनित विषयो की शिकायतो की विभागवार समीक्षा की और अधिकारियो को निर्देश दिये है कि वे इन शिकायतो का तत्काल निराकरण करे। श्री सिपाहा ने इस बैठक में समयावधि के लंबित पत्रो की विभागवार समीक्षा की और अधिकारियो को निर्देश दिये है कि वे इन पत्रो के निराकरण के लिए विशेष ध्यान दे। साथ ही समायवधि पत्रो से संबधीत कर्मचारी द्वारा कार्य मे लापरवाही करने पर एक वेतन वृद्वि रोकने की कार्यवाही करने के निर्देश दिये।
कलेक्टर ने इस बैठक में मुख्यमंत्री हेल्पलाईन पोर्टल पर दर्ज शिकायतो की समीक्षा करते हुए अधिकारियो को निर्देश दिये है कि वे स्तर -1 तथा 2 पर ही शिकायतो का निराकरण सुनिश्चित करे। श्री सिपाहा ने प्रभारी मंत्री से प्राप्त आवेदन पत्रो के निराकरण की स्थिति की विभागवार समीक्षा की अधिकारियो को निर्देश दिये है कि वे इन आवेदन पत्रो का तत्काल निराकरण करे। इस बैठक में वन अधिकार के अधिनियम के अंतर्गत दावो के परीक्षण कार्य की प्रगति की समीक्षा की। और संबंधीत अधिकारियो को इस कार्य में और अधिक तेजी लाने के निर्देश दिये।
श्री सिपाहा ने इस बैठक में जनसुनवाई में प्राप्त आवेदन पत्रो के निराकरण की स्थिति की विभागवार तथा जनपदवार विस्तार से समीक्षा की और अधिकारियो को निर्देश दिये है कि वे इन आवेदन पत्रो का तत्काल निराकरण करे। उन्होने विभिन्न विभागो के जिला अधिकारियो को निर्देश दिये है कि वे जिले में ग्राम पंचायतो में आयोजित होने वाली ग्राम सभाओ का निरीक्षण करे। उन्होने नगीर क्षेत्रो में पोलिथिन की थैलियो की रोकथाम के लिये प्रभावी कार्यवाही करने के निर्देश दिये।
इस बैठक में अनुविभागीय राजस्व श्री अभयसिंह खराडी, डिप्टी कलेक्टर श्री द्वय, श्री लक्ष्मीनाराण गर्ग, सुश्री ज्योति परते सहित विभिन्न विभागो के जिला अधिकारी उपस्थित थे।

सघन पल्स पोलियो अभियान की रैली दिनांक 19 जनवरी 2020 (रविवार) को आयोजित होगा

झाबुआ | 21-जनवरी-2020

   प्रभारी सीएमएचओ डॉ. एम किराड ने राजवाडा चौक से पोलियो की जनजागरूकता रैली को हरी झण्डी दिखाकर रवाना किया जो मुख्य बाजार से होते हुए, आजाद चौक, थांदला गेट, बस स्टैशन होते हुए जिला अस्पताल तक पहुच कर 0 से 5 वर्ष के बच्चो को पालिया रविवार 19 जनवरी को अपने निकटतक पोलियो बूथ पर दो बून्द जिंदगी की पिलाने हेतु अभिभावको से बढचढ कर शामिल होकर इस अभियान को सफल बनाने का आव्हान किया गया। इस अवसर पर जिला टीकाकरण अधिकारी श्री डॉ. राहुल गणावा, डॉ. सावन चौहान, बीईओ श्रीमती आयषा कुरैषी, श्रीमती कोमल राठौर, श्रीमती अंजु भूरिया व समस्त जीएनएम नर्सिग छात्राएं एवं स्टाफ दिलीप खराडी, प्रितम बघेल, सत्यनारायण सोनी, प्रेमसिंह, चन्द्रेश ईत्यादी लोकसेवक उपस्थित रहे।
सघन पल्स पोलियो अभियान अंतर्गत 0 से 5 वर्ष तक के 213998 लक्षित बच्चो को दो बून्द ओरल पोलियो की खुराक पिलाई जाएगी। इस अभियान की सफलता हेतु प्रथम दिवस बुथ पर पोलियो की दवा पिलाई जावेगी और द्वितीय और तृतीय दिवस को बाकी छुटे बच्चो को घर-घर जाकर पोलियो की दवा पिलाई जावेगी। इस कार्यक्रम के अंतर्गत कुल 513 बी टाईप बुथ व 469 सी टाईप बुथ और 41 ट्राजिंट बुथ बनाये गये है,जो बस स्टैण्ड, मैला बाजार और रेलवे स्टेण्ड आदि स्थानो पर पोलियो की दवा पिलायेगे और 7 मोबाईल टीमो का गठन किया गया है जो प्रतिदिवस प्रथम दिवस से ही घर-घर और मैला बाजार और अन्य स्थानो पर बच्चो को पोलियो की दवा पिलाई जायेगी एवं सभी बुथो पर कार्यरत 2048 व्हेक्सिनेटर्स के कार्य का मुल्यांकन करने के लिये 6 ब्लाको में 139 सुपरवाईजरो की नियुक्ति की गई है,जो इस अभियान की मॉनिटरिंग करेगे और प्रतिदिन अपने-अपने सेक्टरो की रिर्पोटिंग का कार्य करेगे। जिला स्तर पर 6 आब्जर्वर रखे गये है जो प्रति दिन विकासखण्ड स्तरीय कार्यक्रम की मॉनिटरिंग करेगे।

शासन के समस्त कार्यालयों को सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त घोषित

झाबुआ | 14-जनवरी-2020
    भारत सरकार द्वारा वर्ष 2022 तक सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग को फेज आउट करने का संकल्प लिया गया है। भारत सरकार द्वारा लिये गये संकल्प के अनुरूप मध्यप्रदेश शासन के समस्त कार्यालयों को सिंगल यूज प्लास्टिक मुक्त घोषित किया गया हैं। कार्यालयों में होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रमों के दौरान डिस्पोजेबिल, प्लास्टिक वस्तुएँ, प्लास्टिक कैरी बैग्स, फूडपैकेजिंग, प्लास्टिक, फ्लावरपार्ट, बैनर, झंडे, पैटबाटल्स, कटलरी, प्लेट्स, कप, ग्लास, स्ट्रा , फोर्कस, पून्स, पाउच/शेसे आदि तथा थर्मोकोल से निर्मित सजावट एवं अन्य सामान को प्रतिबंधित किया जाता है।

राज्य स्तरीय पुरस्कार के लिये आवेदन 31 जनवरी तक

झाबुआ | 07-जनवरी-2020

    महिला-बाल विकास विभाग द्वारा कैलेण्डर वर्ष 2018 में महिला अभिरक्षा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्यों के लिये राज्य स्तरीय पुरस्कार दिये जाएंगे। विभाग द्वारा संबंधित व्यक्ति/संस्था से 31 जनवरी, 2020 तक आवेदन आमंत्रित किये गये हैं। पुरस्कार संबंधी विस्तृत जानकारी वेबसाइट mpwcdmis.gov.in  पर देखी जा सकती है।
महिला (वीरता के लिये) रानी अवंती बाई वीरता पुरस्कार, महिला (समाज सेवा) के लिये राजमाता विजयाराजे सिंधिया समाज सेवा पुरस्कार, समाज सेवा (संस्था/व्यक्ति) के लिये विष्णु कुमार समाज सेवा पुरस्कार, नारी सम्मान की रक्षा के लिये (पुरूष/महिला) मुख्यमंत्री नारी सम्मान रक्षा पुरस्कार, साहसिक कार्य के लिये (पुरूष/महिला) अरूणा शानबाग साहस पुरस्कार तथा महिलाओं की सुरक्षा हेतु साहसिक कार्य के लिये (पुरूष/महिला) राष्ट्रमाता पद्मावती पुरस्कार दिया जायेगा।
राज्य स्तर पर उपरोक्त प्रत्येक पुरस्कार के रूप में प्रशस्ति पत्र सहित एक लाख रूपये प्रदान किये जायेंगे। मुख्यमंत्री नारी सम्मान रक्षा पुरस्कार के लिये राज्य स्तरीय पुरस्कार के अलावा जिला स्तर पर प्रशस्ति पत्र सहित 50 हजार रूपये पुरस्कार प्रदान किया जायेगा।
प्रविष्टि भेजने के लिये आवेदक व्यक्ति/संस्था अपने जिले के जिला कार्यक्रम अधिकारी, महिला-बाल विकास से सम्पर्क कर सकते हैं। आवेदक अपने आवेदन निर्धारित प्रारूप में जिले के कलेक्टर अथवा जिला कार्यक्रम अधिकारी को नियत दिनांक तक प्रस्तुत कर सकते हैं।

श्री झीतरा भूरा ग्राम पंचायत सचिव आम्बा माछलिया को कारण बताओ सूचना पत्र

झाबुआ | 28-दिसम्बर-2019

 मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत द्वारा जनपद पंचायत रामा की समीक्षा बैठक 27 दिसम्बर 2019 की गई।  समीक्षा में श्री झीतरा भूरा ग्राम पंचायत सचिव आम्बा माछलिया आप अनुपस्थित रहे एवं आपके द्वारा प्रधानमंत्री आवास में वर्ष 2016-2017 एवं 2018-19 के आवास लक्ष्य अनुसार आज दिनांक तक पूर्ण नही किये गये एवं वित्तीय वर्ष 2019-20 में दिये गये आवास लक्ष्य अनुसार पूर्ण नही करवाये जा रहे है। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत रामा/ब्लाक समन्वयक पीएमजी आवास द्वारा आवास पूर्ण करवाने हेतु समय-समय पर निर्देश देने के उपरांत भी कार्य पूर्ण नही किये गये। आप प्रायः शासकीय बैठक में भी अनुपस्थित रहते है। जिससे यह स्पष्ट होता है कि आपके द्वारा कार्य में लापरवाही उदासीनता बरती जा रही है एवं प्रधानमंत्री आवास योजना में लक्ष्य अनुसार कार्य पूर्ण नही किये जा रहे है इस संबंध में आप अपना प्रतिउत्तर अधोहस्ताक्षरकर्ता के समक्ष दिनांक 28 दिसम्बर 2019 को उपस्थित होकर प्रस्तुत करे। आपका उत्तर समाधानकारक न होन की स्थिति में आपके विरूद्व निलंबन की कार्यवाही प्रस्तावित की जावेगी। जिसके लिये आप स्वयं व्यक्तिगत रूप से जिम्मेदार रहेगे।

विजय दिवस पर सद्भावना दौड आयोजित की गई

झाबुआ | 17-दिसम्बर-2019

16 दिसम्बर को विजय दिवस के उपलक्ष्य में सदभावना दौड का भी आयोजन किया गया है। यह विजय दौड राजवाडा चौक से सायं 5 बजे प्रारंभ होकर मैन बाजार होते हुवे बस स्टेड से विजय स्तम्भ टाउन हॉल पर समाप्त हुई।  इस दौड में खिलाडी/ छात्र-छात्राओं/ एनसीसी/ एनएसएस /नेहरू युवा केन्द्र/ अर्द्धशासकीय/ एनजीओ / अधिकारी/कर्मचारी रैली में सम्मिलित हुए।
इस विजय दौड में देश भक्ति नारो के साथ जय घोष किया गया। इसका समन्वय श्रीमती आईशा कुरेशी, महेन्द्र खुराना, कुलदीप धबाई, श्री  राकेश गुप्ता द्वारा किया गया।

(1 days ago)

आदिवासी विद्यार्थियों की कोचिंग

झाबुआ | 25-अक्तूबर-2019

कक्षा 10 की परीक्षा में 60 प्रतिशत या उससे अधिक अंक प्राप्त अनुसूचित जनजाति के विद्यार्थीयों के लिये आकाँक्षा योजना शुरू की गई है। इसमें कक्षा 11वीं और 12वीं में अध्यनरत रहते हुए जे.ई.ई.,नीट,एम्स और क्लेट की राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा की तैयारी के लिये जबलपुर, इंदौर, भोपाल और ग्वालियर में आदिवासी विद्यार्थियों के लिये दो वर्षीय कोचिंग की व्यवस्था की गई है। आकांक्षा योजना में 800 विद्यार्थियों को कोचिंग दिये जाने की व्यवस्था की गई है। प्रत्येक कोचिंग सेन्टर में इंजीनियरिंग के लिये 100-100 तथा मेडिकल और क्लेट के लिये 50-50 विद्यार्थियों को कोचिंग दी जाएगी। इस योजना में जबलपुर की मोमेंटम कोचिंग क्लास के लिये करीब 49 लाख 22 हजार रूपये की राशि विभाग द्वारा जारी की गई है।

मतदान दलो का पोलेटेक्निक कॉलेज पर कलेक्टर ने पुष्पहार पहनाकर किया आत्मीय स्वागत

झाबुआ | 22-अक्तूबर-2019

निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार विधानसभा क्षेत्र-193 झाबुआ के उप निर्वाचन 2019 हेतु मतदान संपन्न कराने वाले मतदान दलो के सामाग्री जमा करने हेतु पोलेटेक्निक कॉलेज पर पहुंचने पर कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रबल सिपाहा ने मतदान दलो का पुष्पहार पहनाकर एवं पुष्पवर्षा कर ढोल बजवाकर अगवानी की एवं आत्मीय स्वागत किया गया। इस अवसर पर शासकीय सेवक उपस्थित थे।

मतदान समाप्ति के 48 घंटे पहले से शराब की बिक्री रहेगी प्रतिबंधित

झाबुआ | 15-अक्तूबर-2019

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रबल सिपाहा ने विधानसभा क्षेत्र-193 झाबुआ के उप निर्वाचन के लिये मतदान दिवस के 48 घंटे के पूर्व सीआरपीसी की धारा 144 के अंतर्गत प्रतिबंधात्मक आदेश जारी किए हैं। प्रतिबंधात्मक आदेश के तहत मतदान समाप्ति के 48 घण्टे पूर्व अर्थात 19 अक्टूबर की सायं 5 बजे से 21 अक्टूबर की सायं 5 बजे तक शुष्क दिवस (ड्राय-डे) घोषित किया गया है। मतगणना दिवस 24 अक्टूबर को भी ड्राय डे घोषित किया गया है।
मतदान के दिन एवं मतगणना दिवस पर शराब के विक्रय, वितरण को प्रतिबंधित करते हुए संबंधित विधिक प्रावधानों का सख्ती से पालन किया जाएगा। किसी निर्वाचन क्षेत्र में मतदान समाप्त होने के लिए नियत समय के साथ समाप्त होने वाली 48 घंटे की अवधि के दौरान उस मतदान क्षेत्र के भीतर, होटल, भोजनालय, पाठशाला, दुकान में अथवा किसी अन्य पब्लिक या प्रायवेट स्थल पर कोई भी स्पिरिटयुक्त, किण्वित या मादक लिकर अथवा वैसी ही प्रकृति का अन्य पदार्थ न तो विक्रय और न ही वितरित किया जाएगा। इसका उल्लंघन करने वाले व्यक्ति को 6 माह के कारावास की सजा अथवा दो हजार रुपये के जुर्माने से या दोनों से दण्डित किया जा सकेगा।

किये नाम निर्देशन पत्र दाखिल

झाबुआ | 01 अक्टूबर -2019

विधानसभा क्षेत्र-193 झाबुआ के उप निर्वाचन 2019 हेतु निर्वाचन आयोग द्वारा जारी अधिसूचना के अनुसार विधानसभा उप निर्वाचन 2019 के लिये अभ्यर्थियो से नाम निर्देशन पत्र लेने का कार्य 30 सितम्बर तक किया गया। जिसमे अभ्यर्थी कांतिलाल भूरिया पिता नानूराम भूरिया निवासी 121-गोपाल कॉलोनी झाबुआ, तहसील एवं जिला झाबुआ ने भारतीय राष्ट्रीय काँग्रेस से, भानू भूरिया पिता बालू निवासी दौतड तहसील रानापुर जिला झाबुआ ने भारतीय जनता पार्टी से, जालमसिंह पटेल निवासी वलवई तहसील सोण्डवा जिला अलिराजपुर ने भारतीय सामाजिक पार्टी से, कल्याणसिंह डामोर निवासी ग्राम तलावली तहसील एवं जिला झाबुआ ने निर्दलीय, रामेश्वर सिंगार निवासी ग्राम रामा ने निर्दलीय, जोसफ उर्फ रामसिंह निवासी नवापाडा तहसील झाबुआ ने निर्दलीय, निलेश डामोर पिता सकरिया डामोर निवासी ग्राम कडावद बडी तहसील झाबुआ ने निर्दलीय, संजय डामोर निवासी ग्राम फुटिया तहसील झाबुआ ने यूनाईटेड नेशनल पार्टी से नाम निर्देशन पत्र जमा किया। अंतिम दिन तक 08 अभ्यर्थियो ने विधानसभा क्षेत्र-193 झाबुआ के उप निर्वाचन के लिये नाम निर्देशन पत्र दाखिल किये।
नाम निर्देशन पत्रो की संवीक्षा 01 अक्टूबर को
अभ्यर्थियो के नाम निर्देशन पत्रो की संवीक्षा दिनांक 01 अक्टूबर 2019 को प्रातः 11.00 बजे से शुरू की जाएगी। अभ्यर्थिता से नाम वापस लेने की कार्यवाही 3 अक्टूबर 2019 को अपरान्ह 3.00 बजे तक की जाऐगी। निर्वाचन लडे जाने की दशा मे 21 अक्टूबर 2019 को प्रातः 07.00 बजे से सायं 5.00 बजे के बीच मतदान होगा एवं मतगणना 24 अक्टूबर 2019 को संपन्न होगी।

निर्वाचन के लिए कर्मचारियो का डाटाबेस नही भेजने वाले प्रमुखो के विरुद्ध कार्यवाही के लिए आयोग को प्रस्ताव भेजा- कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा

झाबुआ | 24-सितम्बर-2019

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रबल सिपाहा ने सभी कार्यालय प्रमुखो को विधानसभा क्षेत्र-193 झाबुआ के उप निर्वाचन हेतु कर्मचारियो का डाटाबेस जिला निर्वाचन कार्यालय झाबुआ को उपलब्ध करवाते हुए आयोग की साईट पर फ्रीज करवाने हेतु निर्देशित किया था। ऐसे कार्यालय प्रमुखो के विरूद्ध अनुशासनात्म कार्यवाही के लिए प्रस्ताव कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री प्रबल सिपाहा ने निर्वाचन आयोग को प्रेशित किया है।

अंतर्जातीय विवाह करने पर विनिता पिता रामचन्द्र को 2 लाख रूपये प्रोत्साहन राशि स्वीकृत

झाबुआ | 17-सितम्बर-2019

सहायक आयुक्त आदिवासी विकास विभाग श्री प्रशांत आर्य ने बताया कि अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन योजना अंतर्गत श्रीमती विनिता हनोनिया एवं उनके पति श्री राहुल वर्मा के संयुक्त बैंक खाते में भुगतान करने के लिए 2 लाख रूपये की स्वीकृति प्रदान की गई है। स्वीकृत राशि ई पेमेट के माध्यम से भुगतान की जाएगी। श्री आर्य ने बताया कि श्रीमती विनिता पिता रामचन्द्र हनोनिया निवासी झाबुआ का विवाह श्री राहुल पिता घनश्याम निवासी 90, शिव शक्ति नगर आगरा रोड उज्जैन के साथ होने से इन्हे हिन्दु मेरिज एक्ट 1955 के अंतर्गत मध्यप्रदेश शासन अंतर्जातीय विवाह प्रोत्साहन योजना अंतर्गत उपहार स्वरूप राशि रूपये 2 लाख स्वीकृत की गई है।

जल निकास हेतु उचित दूरी पर नालिया बनाए

किसानो को दी गई सलाह

झाबुआ | 06-सितम्बर-2019

कृषि विज्ञान केन्द्र झाबुआ द्वारा किसानो को सलाह दी गई है कि आगामी पांच दिन आसमान मे मध्यम से घने बादल रहने,तापमान सामान्य रहने व भारी वर्षा होने की संभावना है। भारी वर्षा के जल के निकास हेतु खेत में उचित दूरी पर नालिया बनाए व इसका निकास खेत से बाहर करे। खरीफ फसलो में कीट के आक्रमण की संभावना अधिक है अतः निगरानी रखे व मौसम खुलने पर कीट नियंत्रण हेतु अनुशंसित कीटनाशक का प्रयोग करे। टमाटर, भिण्डी, बैगन, पालक, ग्वारफली, कद्दूवर्गीय सब्जियो एवं हरी मिर्च, अदरक एवं हल्दी की फसल में जल निकास हेतु उचित दूरी पर नालिया बनाए एवं अनुशंसित मात्रा में उर्वरक दे। दुधारू पशुओ को हरा चारा 25 किलो प्रति पशु प्रति दिन व संतुलित आहार एवं मिनरल की आपूर्ति हेतु 50 ग्राम प्रति पशु के हिसाब से मिनरल मिश्रण की खुराक दे।

खेल दिवस पर खेल प्रतियोगिताओ का हुआ आयोजन

झाबुआ | 31-अगस्त-2019

हॉकी के जादूगर स्व. मेजर ध्यानचन्दजी के जन्म दिवस राष्ट्रीय खेल दिवस दिनांक 29 अगस्त 2019 के अवसर पर जिला मुख्यालय में खेल ओर युवा कल्याण विभाग द्वारा तीरंदाजी, कराते, एथलेटिक्स एव हैंडबाल खेल प्रतियोगिता आयोजित की गयी।
तीरंदाजी ओर कराते खेल प्रतियोगिता का आयोजन बहूद्देशीय खेल परिसर झाबुआ मे किया गया। तीरंदाजी ओर कराते खेल प्रतियोगिता का समापन ओर पुरस्कार वितरण मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत झाबुआ, जिला पंचायत उपाध्यक्ष एव सदस्य जिला पंचायत के आतिथ्य मे सम्पन्न हुआ। आतिथियों द्वारा विजेता खिलाड़ियो को पुरस्कृत किया गया।
एथलेटिक्स खेल प्रतियोगिता का आयोजन पुलिस लाइन झाबुआ मे किया गया, विजेता खिलाड़ियो को पुरस्कार वितरण जिला खेल ओर युवा कल्याण अधिकारी श्री जलज चतुर्वेदी के द्वारा किया गया।
हैंडबाल खेल प्रतियोगिता का आयोजन शा.उ.मा. रातीतलाई झाबुआ मे किया गया। जिसमे 10 टीमों 07 बालक वर्ग एव 03 बालिका वर्ग ने भाग लिया। समापन ओर पुरस्कार वितरण मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत झाबुआ श्री संदीप शर्मा, प्राचार्य नवोदय विध्यालय श्री ए. हमीद खान, जिला खेल ओर युवा कल्याण अधिकारी श्री जलज चतुर्वेदी, नायब तहसीलदार हर्षल बहरानी, क्रीडा प्रभारी आदिवासी विकास विभाग कुलदीप धबीई, मनोज पाठक, योगेश गुप्ता हैंडबाल कोच अवलोक शर्मा आदि ने विजेता खिलाड़ियो को पुरस्कृत किया।

वर्षा ऋतु में जलजनित मौसमी बीमारीयों की रोकथाम के उपाय

झाबुआ | 23-अगस्त-2019

 वर्षा ऋतु में संक्रामक रोग जैसे हैजा, उल्टी-दस्त, पैचिस, खसरा, मलेरिया, पीलिया आदि बीमारियां उत्पन्न होने की संभावना रहती है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, डॉ. बारिया ने बताया कि नदी, तालाब जैसे जल स्त्रोतों के पास जब लोग मल त्याग करते है तो मल में मौजूद रोगाणु पानी में मिल जाते है। जब लोग स्नान करते हैं, कपड़े धोते है या पशुओं को नहलाते है तो अनेक रोगाणु पानी में फैल सकते है। जब पीने के लिए या भोजन पकाने के लिए ऐसे प्रदूषित व गंदे जल का उपयोग किया जाता है, तो यह रोगाणु शरीर में प्रवेश कर कई प्रकार की बीमारियों से पीडि़त कर देते है, जिसके कारण दस्त, हेजा, टायफाइड, पीलिया, खूनी पैचिस, तथा कीड़े की बीमारी तथा आंव दस्त जैसी कई बीमारियां होती है।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, डॉ. बारिया ने बताया कि वर्षा ऋतु में जल जनित रोगों से बचाव के लिए हमेशा शुद्ध जल का प्रयोग किया जाना चाहिए। हेण्डपम्प का पानी सबसे सुरक्षित साधनों में से एक है। पानी को हमेशा छानकर व उबालकर इस्तेमाल करने से कई बीमारियों से बचा जा सकता है। कुंओं के पानी में नियमित ब्लीचिंग पाउडर डाला जाना चाहिए। साथ ही पीने के पानी को हमेशा साफ बर्तन में ही रखना चाहिए। पानी के बर्तन को प्रतिदिन साफ करें तथा पानी को दोहरे कपड़े से छानकर भरा जाना चाहिए। पानी निकालने के लिए लम्बे हेण्डिल वाले बर्तन का प्रयोग करें तथा पीने के पानी में हाथ न डाले। एक घड़े या मटकें में एक क्लोरीन गोली पीसकर डालना चाहिए। आधे घण्टे तक इसे ढ़ककर रखने के बाद ही पानी पीने के लिए उपयोग करना चाहिए। उल्टी-दस्त रोग होने पर ओ.आर.एस. पेकेट एक लीटर स्वच्छ व शुद्ध पानी को घोलकर रोगी को पिलाना शुरू कर देना चाहिए। मरीज को 24 घण्टे के अन्दर यह घोल अधिक से अधिक मात्रा में पिलाना चाहिए व 24 घण्टे के बाद बचा हुआ घोल फेककर दूसरे पेकेट का घोल बनाना चाहिए। दूध पीने वाले शिशु को मॉं का दूध पिलाना बंद नहीं करना चाहिए।

प्रदेश के 13 जिलों में सामान्य से अधिक और 28 जिलों में सामान्य वर्षा

झाबुआ | 09-अगस्त-2019

  प्रदेश में इस वर्ष मानसून में एक जून से 7 अगस्त तक 13 जिलों में सामान्य से अधिक, 28 जिलों में सामान्य एवं 10 जिलों में सामान्य से कम वर्षा हुई है। सर्वाधिक वर्षा भोपाल जिले में और सबसे कम वर्षा सीधी जिले में दर्ज हुई है।
सामान्य से अधिक वर्षा वाले जिले भोपाल, मंदसौर, नीमच, रतलाम, झाबुआ, शाजापुर, सीहोर, खण्डवा, राजगढ़, आगर-मालवा, बुरहानपुर, इंदौर और रायसेन हैं।
सामान्य वर्षा वाले जिले भिण्ड, बड़वानी, अलीराजपुर, मुरैना, धार, सिंगरौली, उमरिया, नरसिंहपुर, उज्जैन, होशंगाबाद, गुना, मण्डला, शिवपुरी, डिण्डौरी, दतिया, दमोह, श्योपुरकलां, देवास, हरदा, रीवा, अशोकनगर, खरगोन, बैतूल, टीकमगढ़, ग्वालियर, जबलपुर, सतना और विदिशा हैं।
अनूपपुर, सागर, सिवनी, छतरपुर, कटनी, पन्ना, बालाघाट, छिंदवाड़ा, शहडोल और सीधी जिलों में सामान्य से कम वर्षा मापी गई।

महंगे स्कूल व कॉलेज में पढ़ाई के लिए ले सकेंगे ऋण विद्या लक्ष्मी योजना में

परिजनों की इस परेशानी को दूर करने के लिए सरकार ने नई योजना शुरू की 

झाबुआ | 30-जुलाई-2019

     सरकार की नई योजना परिजनों को अपने बच्चों को महंगे स्कूल व कॉलेज में पढ़ाने के तनाव से मुक्त करा सकती है। परिजनों की इस परेशानी को दूर करने के लिए केंद्र सरकार ने प्रधानमंत्री विद्यालक्ष्मी योजना शुरू की है।
योजना के जरिए सरकार स्टूडेंट्स को केंद्र की 10 से अधिक मिनिस्ट्री व विभाग की स्कॉलरशिप स्कीम के माध्यम से रूपए दिलवाए जाते हैं। वही दूसरी उन्हें देश के 35 करोंड़ बैंको की ओर से चलाई जा रही 95 लोन स्कीम के माध्यम से लोन दिलाया जाएगा। जानकारी के अनुसार केंद्र सरकार की 10 से अधिक मिनिस्ट्री की ओर से शिक्षा के लिए स्टूडेंट्स को छात्रवृति दी जाती है। पीएम विद्यालक्ष्मी योजना के तहत इन स्कीम्स को एक ही प्लेटफार्म पर लाया गया है। इस प्लेटफार्म पर स्टूडेंट्स ऑनलाइन आवेदन कर सकता है। इसके लिए स्टूडेंट्स को पीएम विद्यालक्ष्मी योजना की साइट पर जाकर रजिस्ट्रेशन करना होगा।

विद्यार्थी ऐसे कर सकता है लोन के लिए अप्लाई, यह मिलेंगे फायदे

    विद्या लक्ष्मी योजना में रजिस्ट्रेशन पूरा होने के बाद स्टूडेंट्स को एक ई-मेल आईडी व पासवर्ड मिलेगा। इसके बाद साइट पर ईमेल आईडी व पासवर्ड डालने के बाद लॉगइन कर सकेंगे। स्टूडेटस शिक्षा के लिए लोन फॉर्म भरे। विद्या लक्ष्मी योजना के तहत शिक्षा के लोन लेने के लिए स्टूडेंट्स को इसी पोर्टल पर उसकी सारी जानकारी उपलब्ध हो जाएगी। वहीं, स्टूडेंट्स को शिक्षा के लिए लोन से संबंधित सवाल व शिकायत के लिए ई-मेल की सुविधा मिलेगी। शिक्षा के लिए लोन लेने के लिए कॉमन प्लेटफार्म होने की वजह से स्टूडेंट्स को इधर-उधर भटकना नही पड़ेगा।

 

पोषण पुनर्वास केन्द्र में भर्ती होने वाले बच्चो का निरंतर फालोअप किया जाए-कलेक्टर

जिला स्वास्थ्य समिति की कार्यकारी की बैठक सम्पन्न 

झाबुआ | 23-जुलाई-2019

जिला स्वास्थ्य समिति की बैठक कलेक्टर कार्यालय के सभा कक्षा में सम्पन्न हुई। बैठक की अध्यक्षता कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने की। बैठक में वर्ष 2019-20 (अप्रैल 2019 से जून 2019 तक) स्वास्थ्य विभाग में चल रही विभिन्न स्वास्थ्य योजनाओं जननी सुरक्षा योजना, आयुष्मान भारत योजना, टीकाकरण, अंधत्व निवारण कार्यक्रम, कुष्ठ निवारण कार्यक्रम, टीबी निवारण कार्यक्रम, दस्तक अभियान एवं समस्त राष्ट्रीय कार्यक्रमों की उपलब्धियों की समीक्षा ब्लाकवार की गई एवं आवश्यक निर्देश दिये गये। बैठक में सिविल सर्जन डॉ. प्रभाकर, सहायक संचालक महिला एवं बाल विकास श्री सस्तिया सहित बीएमओ एवं स्वास्थ्य विभाग के मैदानी स्वास्थ्य सेवक उपस्थित थे।
बैठक में कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने निर्देश दिये कि दस्तक अभियान अंतर्गत चिन्हित एनीमिक बच्चो को 25 से 29 जुलाई तक खून चढाने के लिए जिला अस्पताल में लाकर आवश्यकता अनुसार खून चढवाये। प्रतिमाह ब्लाक एवं क्लस्टर स्तर पर महिला बाल विकास एवं स्वास्थ्य विभाग की सयुक्त बैठक आयोजित कर योजनाओ में कार्यवाही सुनिश्चित की जाए। पोषण पुनर्वास केन्द्र में भर्ती होने वाले बच्चो का निरंतर फालोअप किया जाए। जिले में कार्यरत डिलेवरी पाईट पर सभी आवश्यक सुविधाये एवं स्टाफ की उपस्थिति सुनिश्चित की जाए। आगामी 15 अगस्त को होने वाली ग्राम सभाओ में महिला बाल विकास एवं स्वास्थ्य विभाग की योजनाओ पर विस्तार पूर्वक चर्चा कर स्वास्थ्य के प्रति ग्रामीणो को जागरूक किया जाए।