Wednesday, December 11News That Matters

दमोह

Share

कलेक्टर के निर्देश पर जिला कार्यक्रम अधिकारी ने आज सी एम हेल्पलाईन के पांच शिकायतकर्ताओं से की बात

दमोह | 22-अक्तूबर-2019

कलेक्टर तरूण राठी के निर्देश पर जिला कार्यक्रम अधिकारी प्रदीप राय ने आज सी एम हेल्पलाईन के पांच शिकायर्ताओं से बात की एवं जिन लोगों से बात की उसकी जानकारी भी मोबाइल नंबर सहित लोक सेवा प्रबंधन को मुहैया करा दी है। श्री राठी ने बाकी विभाग के अधिकारियो से कहा है वे भी बात कर जानकारी दें ताकि वे रेण्डमबली इनसे बात कर सकें। ज्ञात हो कि कलेक्टर ने आज समय सीमा बैठक के दौरान इस आशय के निर्देश अधिकारियों को दिये थे।

कमलनाथ सरकार द्वारा ऐसे शिविरों का आयोजन करवाना आमजन की सुविधा के लिये आवश्यक-विधायक राहुल सिंह

दमोह | 15-अक्तूबर-2019

नगर सरकार आपके द्वार जनकल्याण शिविर आज विधायक राहुल सिंह के मुख्य आतिथ्य में नया बाजार नं. 4 स्थित सामुदायिक भवन में आयोजित किया गया। शिविर में नगरपालिका के समस्त विभाग स्वास्थ्य विभाग, विद्युत मंडल एवं अन्य विभागों के अधिकारियों की उपस्थिति में नया बाजार 3,4,5 एवं मांगज वार्ड 6 की उपस्थित व्यक्तियों, महिलाओं की अधिकांश समस्यायें मौका स्थल पर ही निराकरण की गई।
इस अवसर पर विधायक राहुल सिंह ने कहा कमलनाथ सरकार द्वारा ऐसे शिविरों का आयोजन करवाना आमजन की सुविधा के लिये आवश्यक हैं। नगरपालिका अध्यक्ष मालती असाटी ने कहा कि अब तक सैकड़ों प्रकरण निपटाये जा चुके हैं। विशिष्ठ अतिथि अजय टंडन शहर कांग्रेस अध्यक्ष यशपाल ठाकुर ने कहा लोगों को छोटे-छोटे कामों के लिये यहां-वहां भटकना न पड़े इसके लिये यह शिविर के आयोजन किया जा रहे हैं।
मुख्य नगरपालिका अधिकारी कपिल खरे ने प्रारंभिक उदबोधन में शासन द्वारा चलाई जा योजनाओं को विस्तार पूर्वक बताते हुए कहा कि जनकल्याण शिविर में अब तक सैकड़ों की संख्या में प्रकरण निपटाये जा रहे उनका प्रशासनिक अमला पूर्व जिम्मेदारी से समस्यायें निपटाने में जुटा हुआ है।
इस अवसर पर पूर्व नगर पालिका अध्यक्ष तेजीराम रोहित, संजय चौरसिया, विधायक प्रतिनिधि पवन गुप्ता, सतीष नायक, लालचंद राय, आशुतोष शर्मा, वार्ड पार्षद नेहा पप्पू कसोटया, पूजा अहिरवार, राजाराम सोनी, दीपक मिश्रा, राजा रौतेला, अरविन्द अवस्थी, अभिषेक डिम्हा, रफीक खान, रमेश राठौर, हेमराज, नौशाद खान, अजय जाटव, विजय रैकवार, विजय जैन, विवेक अग्रवाल, डब्बू चौबे आदि की उपस्थिति रही।

महात्मा गांधी जी के 150वें जन्म वर्ष को समारोह पूर्वक मनाये जाने के संबंध जिला कलेक्टर तरूण राठी ने कार्यक्रमों की रूपरेखा की तय

दमोह | 01 अक्टूबर -2019

महात्मा गांधी जी के 150वें जन्म वर्ष को समारोह पूर्वक मनाये जाने के संबंध में प्राप्त दिशा निर्देशो के अनुरूप जिला कलेक्टर तरूण राठी ने कार्यक्रमों की रूपरेखा तय कर दी है। 02 अक्टूबर को प्रात: 9:30 बजे से प्रभात फेरी का आयोजन किया जायेगा। प्रभात फेरी स्थानीय गांधी चौक से प्रारंभ होकर पुराना थाना चमन चौराहा, गडरयाऊ होते हुए अनुसूचित जाति सामुदाय के गुरू द्वारे पर सम्पन्न होंगी। दोपहर 02 बजे अभाना में समरसता शिविर आयोजित किया गया है, इसके पूर्व मानस भवन में प्रात: 11 बजे से नगर सरकार आपके द्वार और शाम 05 बजे से गांधी जयंती पर संगोष्ठी का आयोजन किया गया है। यहां मानस भवन पर गांधी जयंती के उपलक्ष्य में जन सम्पर्क और संस्कृति विभाग द्वार प्रदर्शनी का आयोजन भी किया गया है।

पुलिस अधीक्षक श्री सिंह ने तीन फरार आरोपी पर 13 हजार का किया इनाम घोषित

दमोह | 24-सितम्बर-2019

जिले के पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह ने दो अलग-अलग प्रकरणों में तीन फरार आरोपी पर 15 हजार रूपये का ईनाम घोषित किया है।

अपराध क्रमांक 94/19 धारा 304 बी, 498 ए, 34 ता.हि.एवं 3/4 दहेज एक्ट के तहत ग्राम सेमरा, रामनगर थाना मगरोन निवासी साहब सिंह पिता लक्ष्मन सिंह लोधी उम्र 55 वर्ष फरार है। उन्होंने प्रकरण की गंभीरता को दृष्टिगत हुये फरार आरोपी पर 03 हजार रूपये का ईनाम घोषित किया है।

इसी प्रकार अपराध क्रमांक 404/19 धारा 302, 34 ता.हि.थाना दमोह देहात के तहत फरार आरोपी बैशाली नगर दमोह निवासी संदीप यादव पिता भगवानदास यादव उम्र 45 साल पर 5 हजार रूपये और अभाना थाना नोहटा निवासी विजय यादव पिता करोड़ी यादव उम्र 48 साल पर 5 हजार रूपये का ईनाम घोषित किया है।

पुलिस अधीक्षक विवेक सिंह ने जानकारी दी है कि जो कोई व्यक्ति विधि संगत शक्तियों का प्रयोग कर आरोपियों को गिरफ्तार करेगा, करवायेगा या बंदी कराने के लिये सही सूचना देगा या उसके द्वारा बंदीकरण का विरोध किये जाने पर विधि संगत आवश्यक बल प्रयोग कर बंदी करेगा या करायेगा उस व्यक्ति को पुरूस्कार की राशि से पुरूष्कृत किया जायेगा। पुरूस्कार वितरण के संबंध में पुलिस अधीक्षक का निर्णय अंतिम एवं सर्वमान्य होगा।

अपनी समस्याओं के निराकरण के लिए तहसील या जिला मुख्यालय जाने की जरूरत नहीं

इसी सोच के साथ यह व्यवस्था लागू की गई- प्रभारी मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी, अतिवृष्टि से फसलों को नुकसान हुआ है, उसका सर्वे कराया जायेगा, 111 हितग्राहियो को करीब एक करोड़ रूपये से अधिक की सहायता मुहैया, ग्राम सिंगपुर में आपकी सरकार आपके द्वार के तहत प्राप्त, समस्याओं में से अधिकांश का मौके पर निराकरण

दमोह | 17-सितम्बर-2019

प्रदेश के स्कूली शिक्षा मंत्री एवं दमोह जिले के प्रभारी मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने आपकी सरकार आपके द्वार के तहत ग्राम सिंगपुर में आयोजित कार्यक्रम में कहा कमलनाथ सरकार ने यह एक अभिनव प्रयोग शुरू किया है, इसके तहत जिले के कलेक्टर-पुलिस अधीक्षक और सभी विभागों के अधिकारी गांव में पहुंचकर ग्रामीणों की समस्याओं का मौके पर निराकरण कर रहे है, जिन समस्याओं का मौके पर निराकरण संभव नहीं होता, उनका समय सीमा में निराकरण कर संबंधित व्यक्ति को अवगत कराया जा रहा है। उन्होंने कहा अब गरीब व्यक्ति को अपनी समस्याओं के निराकरण के लिए तहसील या जिला मुख्यालय जाने की जरूरत नहीं होगी। इसी सोच के साथ यह व्यवस्था लागू की गई है।
जिला के प्रभारी मंत्री डॉ. प्रभुराम चौधरी ने कहा अतिवृष्टि से फसलों को नुकसान हुआ है, उसका सर्वे कराया जायेगा और संबंधित किसानों को शासन द्वारा सहायता मुहैया कराई जायेगी। उन्होंने कहा किसानों का फसल बीमा है, उसका भी लाभ दिलावाया जायेगा। डॉ. चौधरी ने कहा सभी पात्र हितग्राहियों को खाद्य पर्ची मिल जायें, सुनिश्चित किया जायें। उन्होंने कहा गरीबों को उनका हक मिले और योजनाओं का लाभ मिलें यह भी सुनिश्चित किया जायें। प्रभारी मंत्री ने कहा प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत पात्रों को लाभ मिलें तथा अपात्रों के नाम कट जायें, तय किया जायें। उन्होंने कहा सरकार ने निर्णय लिया है कि गरीबों को 100 यूनिट तक 100 रूपये बिजली बिल आयेगा और डेढ़ सौ यूनिट तक रियायत की गई है। आपने किसानों को सिंचाई के लिए दी जा रही बिजली सुविधाओं की और बिल के संबंध में विस्तार से जानकारी दी। साथ ही उन्होंने गतवर्ष एफसीआई द्वारा अनाज खरीदी का पैसा किसानों को नहीं मिला है, के संबंध में कहा कि हम कोशिश कर रहे हैं, किसानों को पैसा मिल जायें। डॉ. चौधरी ने कहा इस साल भी खरीदी में किसानों को बोनस दिया जायेगा।
जिले के प्रभारी मंत्री ने क्षेत्रीय विधायक, पूर्व विधायक, जिला पंचायत, सदस्य और अन्य जन प्रतिनिधियों से कहा कि उनके क्षेत्रों के स्कूलों को गोद लें और व्यवस्थाएं सुदृढ़ की जायें। उन्होंने कहा हमनें शिक्षिकों को प्रशिक्ष्ण के लिए साऊथ कोरिया भी भेजा है, साथ ही बैंग्लोर और दिल्ली में भी प्रशिक्षण दिलाया गया है। सभी से आग्रह किया कि स्कूलों में बेहतर व्यवस्था करने के लिए आगे आयें और बच्चों को सुनहरा भविष्य बनाने में सहभागी बनें। डॉ. चौधरी ने कहा प्रदेश की कांग्रेस सरकार, सरकारी स्कूलों को निजी स्कूलों से बेहतर बनाये जाने की दिशा में काम कर रही है। सरकार ने 1.84 लाख शिक्षिकों को संविलयन किया है, शिक्षिकों की स्मस्याएं दूर की है, अब वे सब शिक्षा के क्षेत्र में गुणवत्ता युक्त शिक्षा के दिशा में काम करें। उन्होंने अधिकारियों-कर्मचारियों से जनता के हित में मुस्तेदी से काम करने का आग्रह किया। कहा जो समस्याएं आई हैं, उनका समय सीमा में निराकरण किया जायें।
इस अवसर पर जिला कांग्रेस अध्यक्ष अजय टंडन ने कहा आपकी सरकार आपके द्वार की कल्पना किसी ने नहीं की होगी। उन्होंने आज भोपाल से प्रभारी मंत्री जी और कलेक्टर-एसपी तथा जिला और खण्डस्तरीय अधिकारी-कर्मचारी यहां मौजूद है। साथ ही जबेरा और दमोह विधायक तथा जिला सदस्य मौजूद है। उन्होंने कहा मुख्यमंत्री जी ने आपकी सरकार आपके द्वारा का जो सपना देखा था आज यहां आपके गांव में पूरा हो रहा है।
इसी अवसर पर जबेरा विधायक धमेन्द्र सिंह लोधी ने कहा सरकार केाई भी हो मंशा गरीबों का भला हो। उन्होनें कहा आज यहां आपकी सरकार आपके द्वार का आयोजन किया गया है। श्री लोधी ने क्षेत्र के स्वास्थ्य केन्दों में चिकित्सकों की पद स्थापना और स्कूलों में शिक्षिकों की पद पूर्ति पर अपनी बात रखीं, साथ ही कहा खादयन्न पर्ची प्रत्येक परिवार को मिल जायें। उन्होंने अभाना, तेन्दूखेड़ा सड़क मार्ग निर्माण शीघ्र्‍ शुरू कराने की मांग की तथा जबलपुर सड़क का मरम्मत करवाने की बात भी कही।
पूर्व विधायक प्रताप सिंह ने कहा इस शिविर का लाभ आमजनों को पहुंचे, यहां जितने भी आवेदन आयें है उनका निराकरण हो जायें। उन्होंने कहा मुख्यमंत्री जी की मंशानुरूप दूरस्थ अंचल पर शिविर आयोजित किया गया है। पूर्व विधायक ने इस क्षेत्र की प्रमुख मांगों को रखते हुए स्वीकृति दिलाने का आग्रह प्रभारी मंत्री जी से किया। उन्होंने शिविर को भव्य बनाने के लिए एसडीएम तेन्दूखेड़ा गगन विशेन और उनकी पूरी टीम को बधाई दी।
विधायक राहुल सिंह ने कहा कांग्रेस ने चुनाव के समय वादा किया था कि ग्रामीणों की समस्याओं का निराकरण गांव में ही आकर अधिकारी करेंगे और यह काम पूरे प्रदेश में शुरू हो गया है। उन्होंने कहा मुख्यमंत्री जी ने रामपथ गमन के लिए 2 हजार करोड़ रूपये दिये है। हमारी सरकार जो कहती है वह करती भी है। साथही यह भी कहा कि सरकार एक-एक व्यक्ति की समस्याएं निराकृत करेंगी। कमलनाथ सरकार 24 घण्टों सातों दिन काम कर रही है। श्री सिंह ने मुख्यमंत्री जी को साधुवाद देते हुए कहा कि मध्यप्रदेश की दिशा और दशा बदलने वे दृढ़ संकल्पित होकर काम कर है।
जिला सदस्य ऋषि लोधी ने कहा समस्याओं के हल के लिए शिक्षा आवश्यक है। उन्होंने ग्रामीणजनों से आव्हान किया कि वे अपनी बेटियों को जरूर पढ़ायें। श्री लोधी ने कहा दीन-हीनों की सेवा ही सबसे बड़ी सेवा है। उन्होंने धर्म ग्रन्थों का उदाहरण देते हुए कहा परोपकार की भावना जीवित रहे। यह भी कहा कि योजना का लाभ अंतिम छोर पर बैठे व्यक्ति तक पहुंचना चाहिए।
इस दौरान कलेक्टर तरूण राठी ने कहा आपकी सरकार आपके द्वार के तहत जिले का यह तीसरा शिविर है। उन्होंने कहा मुख्यमंत्री जी की मंशा है, लोगों के काम गांवों में ही हो इसी मंशा के तहत शिविर आयोजित किये जा रहे है। शिविर में आये ग्रामीणजनों के साथ ही पशुओं का भी उपचार किया जा रहा है। उन्होंने कहा जिन समस्याओं का मौके पर हल नहीं हो पायेगा, उनका तय समय सीमा पर निराकरण किया जायेगा।

मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया जैसी बीमारियों की रोकथाम हेतु कार्यशाला सम्पन्न

दमोह | 06-सितम्बर-2019

आयुष (होम्यो) औषधालय पटेरा चिकित्सा अधिकारी ने बताया शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पटेरा में आज मलेरिया, डेंगू, चिकनगुनिया जैसी बीमारियों की रोकथाम हेतु कार्यशाला का आयोजन किया गया। आयोजित कार्यशाला में आयुष विभाग के डॉ रामजी मॉझीं, एलोपेथी विभाग मलेरिया इंस्पेक्टर आर.के. नेमा ने स्कूली छात्र-छात्राओं को जागरूक किया साथ ही होम्योपेथिक औषधि मलेरिया ऑफ 200 उपस्थित छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों खिलाई गई।
कार्यशाला में कम्पाउंडर एम.एस. शुक्ला, नरेन्द्र एवं विद्यालय के शिक्षकों का सहयोग रहा। कार्यशाला में प्राचार्य मुकेश गुजरे ने आभार व्यक्त किया।

आज विद्युत विभाग का लगेगा शिविर

दमोह | 30-अगस्त-2019

कलेक्टर तरूण राठी ने ग्राम फतेहपुर में 31 अगस्त को विद्युत विभाग को यहां शिविर आयोजित कर शेष विद्युत बिल संबंधी एवं अन्य समस्याओं के प्रकरणों का निराकरण के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिये।

कलेक्टर पहुंचे तेजगढ़ और भूरी प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र और उप स्वास्थ्य केन्द भवनों का किया निरीक्षण 

कहा एक सप्ताह बाद आकर करेंगे पुन: निरीक्षण

दमोह | 23-अगस्त-2019

कलेक्टर तरूण राठी आज शाम तेजगढ़ प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पहुंचे। यहां पर एक करोड़ 28 लाख की लागत से प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भवन और दो आवासीय भवन परिसर में बनाये गये है, का निरीक्षण किया गया। भवन बनकर तैयार हो गया है। निरीक्षण के दौरान मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी और पीआईयू के संभागीय यंत्री भी मौजूद रहे।

उन्होंने निरीक्षण के दौरान प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र भवन और आवासीय भवनों में कुछ कमरों में सीलन है, का सुधार कराने के निर्देश दिये। साथ ही वाटर हारवेस्टिंग सिस्टम करने वाले के लिए कहा गया। श्री राठी ने कहा कार्य पर गुणवत्ता का विशेष ध्यान दिया जायें।

प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र में पेवर ब्लॉक लगाकर सड़क बनाई गई है, वह एक ओर से क्षतिग्रस्त हो गई है, का सुधार कराने के निर्देश दिये। साथ ही बाऊण्ड्रीवाल में सरिया छोड़ी गई है, उसे व्यवस्थित कराने के लिए कहा गया। उन्होंने कहा सभी कार्य शीघ्र कराये वे एक सप्ताह बाद आकर पुन: निरीक्षण करेंगे।

भूरी उपचार स्वास्थ्य केन्द्र भवन का निरीक्षण

अपने इस भ्रमण के दौरान कलेक्टर तरूण राठी ग्राम भूरी में बन रहे उप स्वास्थ्य  केन्द का अवलोकन किया। कार्य पर अप्रसन्नता व्यक्त की और इंजीनियर से कहा गुणवत्ता का विशेष ध्यान रखा जायें। यह भवन 22 लाख की लागत से बन रहा है।

आज आदिवासी दिवस मनाया जायेगा 

मुख्यमंत्री करेंगे कार्यक्रम को संबोधित 

दमोह | 09-अगस्त-2019

 आज 09 अगस्त को सम्पूर्ण विश्व में आदिवासी दिवस मनाया जायेगा, यह दिवस आदिवासियों को उनके अधिकारों और देश के विकास में उनके योगदान का स्मरण कराता है। राज्य के मुख्यमंत्री कमलनाथ के निर्देशन में और आदिम जाति कल्याण विभाग के मंत्री ओमकार सिंह मरकाम के मार्गदर्शन में प्रदेश के 89 आदिवासी विकासखण्डों, मध्यम परियोजना, माडा पाकेट, लघु अंचलो में विश्व आदिवासी दिवस उत्साहपूर्वक मनाया जायेगा। प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री नाथ दोपहर 1.15 से 2 बजे तक कार्यक्रम को संबोधित करेंगे। दमोह जिलें मे मॉडा पाकेट के अतंर्गत तेंदूखेडा, जबेरा एवं हटा विकासखंड सम्मिलित हैं।

एकीकृत आदिवासी विकास लघु परियोजना के परियोजना अधिकारी ने बताया 09 अगस्त शुक्रवार प्रात: 11 बजे से अनुसूचित जाति छात्रावास परिसर, केन्द्रीय विद्यालय के पास बालाकोट रोड, सुभाष कालोनी में आयोजित कार्यक्रम कलेक्टर तरूण राठी के मागदर्शन में आयोजित किया जायेगा। उन्होने जनप्रतिनिधियों, आम नागरिकों, अधिकारियों-कर्मचारियों से कार्यक्रम में उपस्थिति का आग्रह किया हैं।

मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान से जिले के 3 मरीजों को उपचार के लिए 3 लाख 40 हजार रूपये की सहायता राशि जारी 

दमोह | 30-जुलाई-2019

प्रदेश के मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ के स्वेच्छानुदान मद से दमोह जिले के 3 मरीजों को उपचार के लिए 3 लाख 40 हजार रूपये की आर्थिक सहायकता राशि जारी की गई है। जारी सहायता राशि से मरीज अपना उपचार चिन्हित अस्पताल में करा सकेंगे। कलेक्टर तरूण राठी से प्राप्त जानकारी के अनुसार मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान मद से वार्ड नम्बर 6 हिंडोरिया निवासी रजिया सुल्तान पति मोहम्मद लतीफ खान को 40 हजार रूपये की राशि सिदांता रेड क्रॉस सब स्पेशल हॉस्पिटल भोपाल के लिए, ग्राम बोतराई तहसील पथरिया निवासी कोमल चंद्र सेन पिता खुन्ना लाल सेन को 1 लाख रूपये की राशि अपेक्स हॉस्पिटल भोपाल के लिए, मड़रगढ़ तहसील हटा निवासी हर्षित पिता घनश्याम कुर्मी को 2 लाख रूपये की राशि चिन्हित अस्पताल के लिए आर्थिक सहायता राशि मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान मद से स्वीकृत की गई हैं।

मंडियों में उपज विक्रय पर उसी दिन दो लाख तक नकद भुगतान के निर्देश

दमोह | 26-जुलाई-2019

 प्रदेश के किसानों के हित में राज्य शासन ने एक बड़ा कदम उठाया हैं। अब किसानों को कृषि उपज मंडियों में उपज विक्रय करने पर उसी दिन अधिकतम दो लाख रूपये का नकद विक्रय करने पर उसी दिन अधिकतम दो लाख रूपये का नकद भुगतान तथा इससे अधिक मूल्य होने पर शेष राशि बैंक ट्रांसफर से भुगतान सुनिश्चित कराने के निर्देश जारी कर दिये गये हैं। प्रबंध संचालक-सह-आयुक्त मध्यप्रदेश राज्य कृषि विपणन बोर्ड द्वारा संयुक्त संचालक/उप संचालक, मध्यप्रदेश राज्य कृषि विपणन बोर्ड, आंचलिक कार्यालय (समस्त) तथा भारसाधक अधिकारी/सचिव, कृषि उपज मंडी समिति को यह निर्देश जारी किये गये।
उल्लेखनीय है कि शासन स्तर पर ऐसी शिकायतें मिल रही थीं कि आयकर अधिनियम के सामान्य भुगतान नियम का हवाला देते हुए मात्र 10 हजार रूपये तक ही नकद भुगतान किया जा रहा है। कुछ व्यापारियों द्वारा आयकर अधिनियम की आड़ लेकर नकद भुगतान न कर किसानों से उधारी की जाती है और खरीदी गई उपज आगे बेचकर राशि प्राप्त होने पर ही कृषकों को भुगतान किया जाता है। आयकर नियम- 1961 की धाराओं के अतंर्गत किसानो/उत्पादकों द्वारा बेची गई कृषि उपज पर दो लाख रूपये तक अधिकतम 1,99,999 रूपये नकद भुगतान पर पूर्ण छूट है। यह भुगतान प्राप्त करने पर कृषकों को उनका पेनकार्ड अथवा फार्म नम्बर-60 भेजने की कोई आवश्यकता नहीं हैं। कृषि उपज मंडी अधिनियम धारा-37 (2) के अनुसार मंडी प्रांगण में खरीदी गई कृषि उपज का भुगतान विक्रेता को उसी दिन मंडी प्रांगण में किया जाना जरूरी है। उसी दिन भुगतान नहीं होने की स्थिति में इसी धारा में विक्रेता को देय राशि के एक प्रतिशत रोजाना की दर से अतिरिक्त भुगतान 5 दिवस में करने का प्रावधान है। साथ ही इस अतिरिक्त अवधि मे भुगतान का व्यक्तिक्रम होने पर मंडी अधिनियम की इसी धारा में क्रेता व्यापारी की अनुज्ञप्ति छठें दिन स्वत: रद्द मानी जायेगी। मंडी सचिव अनुज्ञा पत्र जारी करने के पूर्व यह सुनिश्चित करेंगे कि किसानों का भुगतान हो चुका है

 

पूर्व में जारी किये गये पेयजल परिरक्षण अधिनियम आदेश तत्काल प्रभाव से समाप्त

दमोह | 23-जुलाई-2019

वर्तमान में जिले में सभी विकासखण्डों में वर्षा दर्ज की जा रही है, इसी के मद्देनजर कलेक्टर तरूण राठी ने पूर्व में जारी किये गये पेयजल परिरक्षण अधिनियम आदेश को तत्काल प्रभाव से समाप्त कर दिया है।
कार्यपालन यंत्री, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी खण्ड के पत्र से स्पष्ट हो गया है, कि जिले की समस्त विकासखण्डों के अंतर्गत वर्तमान में वर्षा दर्ज की जा रही है, जिस कारण आगे आदेश 26 अप्रैल से नलकूप खनन प्रतिबंध जारी रखना उचित नही है।
जिले में वर्ष 2018-19 मे औसतन वर्षा से 25 प्रतिशत वर्षा कम होने के कारण ग्रीष्मकाल में ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल संकट की स्थिति निर्मित हो सकती थी, जिसको दृष्टिगत रखते हुये मध्यप्रदेश पेयजल परिरक्षण अधिनियम लागू किया गया था।
उल्लेखनीय है जिले मे अल्पवर्षा के कारण तथा कृषि/व्यावसायिक कार्य हेतु भू-जल स्त्रोतो का अतिदोहन होने से पेयजल स्त्रोतों/नलकूपों का जलस्तर तेजी से गिर रहा था, गिरते भू-जल स्तर के कारण जिले के अंतर्गत सभी तहसीलों मे मध्यप्रदेश पेयजल परिरक्षण अधिनियम 1986 के तहत पेयजल से भिन्न अन्य प्रयोजन के लिए नवीन निजी नलकूपो के खनन पर प्रतिबंध लगाया गया था, मध्यप्रदेश पेयजल परिरक्षण अधिनियम 1986 तथा संशोधन अधिनियम 2002 (अधिनियम) की धारा-3 के अतंर्गत जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्रों को जल अभावग्रस्त क्षेत्र घोषित किया गया था।