Friday, August 23News That Matters

नरसिंहपुर

Share

“आपकी सरकार आपके द्वार” कार्यक्रम के तहत गोटेगांव में 17 अगस्त को होगा शिविर का आयोजन 

विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रजापति होंगे मुख्य अतिथि 

नरसिंहपुर | 16-अगस्त-2019

 राज्य शासन द्वारा प्रदेश में “आपकी सरकार आपके द्वार” योजना शुरू की गई है। इस योजना के अंतर्गत विशेष रूप से ग्रामीण अंचल में रहने वाली आम जनता की रोजमर्रा की समस्याओं के निराकरण एवं आवश्यकताओं की पूर्ति करने के लिए शिविर लगाये जा रहे हैं। इसी क्रम में शनिवार 17 अगस्त को दोपहर 2 बजे से कृषि उपज मंडी गोटेगांव में शिविर का आयोजन किया जायेगा। इस शिविर में मध्यप्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष श्री नर्मदा प्रसाद प्रजापति मुख्य अतिथि होंगे।

इस सिलसिले में कलेक्टर दीपक सक्सेना ने राज्य शासन के दिशा निर्देशों के अनुरूप शिविर का आयोजन सुचारू रूप से सुनिश्चित करने के निर्देश अधिकारियों को दिये हैं। उन्होंने सभी विभागों के जिला प्रमुखों को शिविर में उपस्थित रहकर अपने विभाग से संबंधित आमजनता की समस्याओं/ शिकायतों का निराकरण तत्परता से सुनिश्चित करने के लिए निर्देशित किया है।

शिविर के लिए बस से जायेंगे अधिकारी

शिविर के लिए शनिवार 17 अगस्त को प्रात: 9 बजे कलेक्टर कार्यालय परिसर से बस द्वारा सभी जिला अधिकारी प्रस्थान करेंगे। कलेक्टर दीपक सक्सेना ने सभी विभागीय अधिकारियों को निर्देशित किया है कि वे अपने विभाग से संबंधित पूर्ण जानकारी के साथ समय पर उपस्थित होना सुनिश्चित करें।

विधानसभा अध्यक्ष श्री नर्मदा प्रसाद प्रजापति का दौरा कार्यक्रम 

नरसिंहपुर | 06-अगस्त-2019

मध्यप्रदेश विधानसभा के अध्यक्ष श्री नर्मदा प्रसाद प्रजापति 5, 6 एवं 7 अगस्त को नरसिंहपुर जिले के प्रवास पर रहेंगे और विभिन्‍न कार्यक्रमों में भाग लेंगे।
दौरा कार्यक्रम के अनुसार श्री प्रजापति सोमवार 5 अगस्त को पूर्वान्ह 11 बजे उत्कृष्ट विद्यालय नरसिंहपुर में, दोपहर 12 बजे बरहटा एवं दोपहर 1.30 बजे मुंगवानी में आयोजित साईकिल वितरण कार्यक्रम में शामिल होंगे। इसके पश्‍चात श्री प्रजापति इसी दिन अपरान्ह 3 बजे गाडरवारा रोड पर करेली बस्ती चौराहा के पास श्री प्रदीप रघुवंशी के “शिव शक्ति पेट्रोलियम” पेट्रोल पम्प का उदघाटन करेंगे। इसके बाद विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रजापति अपरान्ह 4 बजे बरमान खुर्द स्थित शारदा मंदिर आयेंगे। बरमान खुर्द में श्री प्रजापति का समय आरक्षित रखा गया है।
विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रजापति मंगलवार 6 अगस्त को दोपहर 12 बजे करकबेल में, दोपहर एक बजे श्रीनगर में, दोपहर 2.30 बजे उमरिया में और अपरान्ह 4 बजे नेगुवां में आयोजित साईकिल वितरण कार्यक्रम में भाग लेंगे।
इसी तरह विधानसभा अध्यक्ष श्री प्रजापति बुधवार 7 अगस्त को दोपहर 12 बजे भैंसा में, दोपहर 1.30 बजे गोरखपुर में और अपरान्ह 3 बजे कोदरासकला में आयोजित साईकिल वितरण कार्यक्रम में शामिल होंगे।
उल्‍लेखनीय है कि श्री प्रजापति रविवार 4 अगस्त को ही अमरकंटक एक्सप्रेस द्वारा रात्रि 7.50 बजे नरसिंहपुर आ जायेंगे और यहां रात्रि विश्राम करेंगे।

 

स्वच्छ भारत मिशन कार्यों का सर्वेक्षण करेंगे स्वच्छाग्राही- मंत्री श्री पटेल 

गांधी जयंती तक रिपोर्ट देंगे 26 हजार स्वच्छाग्राही 

नरसिंहपुर | 26-जुलाई-2019

 पंचायत एवं ग्रामीण विकास मंत्री श्री कमलेश्वर पटेल ने कहा है कि स्वच्छ भारत मिशन में कराए गये कार्यों का 26 हजार स्वच्छाग्राहियों से सर्वेक्षण कार्य कराया जा रहा है। सभी जिलों में सर्वेक्षण की रिपोर्ट 2 अक्टूबर 2019 तक प्राप्त की जाएगी। भारत सरकार के पेयजल एवं स्वच्छता मंत्रालय ने इस प्रयास की सराहना की है।
मंत्री श्री पटेल ने कहा कि स्वच्छ भारत मिशन में प्रदेश के सभी जिलों के ग्रामीण अंचल को खुले में शौच से मुक्त करने के लिए स्वच्छाग्राहियों से छूटे घरों का चिन्हांकन कराया जा रहा है। अभियान में बनाये गये 90 लाख शौचालयों का भौतिक सत्यापन तथा टूटे-फूटे शौचालयों का चिन्हांकन कराया जाएगा। निगरानी समितियों का सशक्तिकरण और समुदाय के साथ लगातार संवाद स्थापित कर शौचालयों के उपयोग के लिए प्रेरित करने का कार्य किया जायेगा।
मंत्री श्री पटेल ने कहा कि स्वच्छाग्राही मोबाइल एप से अपनी रिपोर्ट स्वच्छ एम.पी. पोर्टल पर प्रदर्शित करेंगे। शौचालयों के निर्माण से छूटे घरों में निर्माण और अनुपयोगी हो चुके शौचालयों को उपयोगी बनाने का कार्य किया जायेगा

राजनैतिक मामलों की मंत्रि-परिषद समिति पुनर्गठित

नरसिंहपुर | 23-जुलाई-2019

 राज्य शासन ने राजनैतिक मामलों के लिये गठित मंत्रि-परिषद समिति का पुनर्गठन किया है। सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी आदेशानुसार मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ समिति के अध्यक्ष होंगे।
समिति में मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ, श्री सज्जन सिंह वर्मा, डॉ. गोविंद सिंह, श्री बाला बच्चन, श्री तुलसीराम सिलावट, श्री उमंग सिंघार, श्री जीतू पटवारी तथा श्री तरुण भनोत को सदस्य बनाया गया है। मुख्य सचिव समिति के सदस्य सचिव होंगे।राज्य शासन ने राजनैतिक मामलों के लिये गठित मंत्रि-परिषद समिति का पुनर्गठन किया है। सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी आदेशानुसार मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ समिति के अध्यक्ष होंगे।
समिति में मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ, श्री सज्जन सिंह वर्मा, डॉ. गोविंद सिंह, श्री बाला बच्चन, श्री तुलसीराम सिलावट, श्री उमंग सिंघार, श्री जीतू पटवारी तथा श्री तरुण भनोत को सदस्य बनाया गया है। मुख्य सचिव समिति के सदस्य सचिव होंगे।

भूमिहीन मजदूरों को बाँस उत्पादन का अधिकार देने का निर्णय स्वागत योग्य : मंत्री श्री सिंघार 

नरसिंहपुर | 12-जुलाई-2019

 वन मंत्री श्री उमंग सिंघार ने प्रदेश के वर्ष 2019-20 के बजट में क्षतिपूर्ति वनीकरण के लिये 250 करोड़ का प्रावधान किये जाने का स्वागत किया है। उन्होंने कहा कि बिगड़े वनों की भूमि पर बड़े पैमाने पर बाँस के पौधे लगाने और भूमिहीन मजदूरों को बाँस उत्पादन का अधिकार देने का निर्णय वनवासियों के जीवन में नई ऊर्जा का संचार करेगा।

               मंत्री श्री सिंघार ने डुमना में नेचर सफारी शुरू करने के निर्णय को पर्यटकों के लिये रोमांचकारी बताया। सफारी से पर्यटक वन्य-जीवों और प्रकृति से रू-ब-रू होंगे। श्री सिंघार ने कहा कि वन विकास की योजनाओं के लिये 2,757 करोड़ का प्रावधान निश्चित ही वन, वन्य-प्राणी और वनवासियों के संरक्षण में महत्वपूर्ण सिद्ध होगा।

किसानों के खाते में जमा करायें उपार्जित गेहूँ की राशि 

मंत्री श्री राठौर ने टीकमगढ़ में की विकास कार्यों की समीक्षा 

नरसिंहपुर | 06-जून-2019   वाणिज्यिक कर मंत्री श्री बृजेन्द्र सिंह राठौर ने टीकमगढ़ में जिला अधिकारियों के साथ विकास कार्यों की समीक्षा की। श्री राठौर ने निर्देश दिये कि जय किसान फसल ऋण माफी योजना में शत-प्रतिशत पात्र किसानों के खाते में उपार्जित गेहूँ की राशि जमा हो, यह सुनिश्चित किया जाये। किसान परेशान नहीं हों, इसका ख्याल रखा जाये और औचक जाँच भी करायें।
मंत्री श्री राठौर ने कहा कि अधिकाधिक पात्र हितग्राहियों को शासन की जन-कल्याणकारी योजनाओं का लाभ दिलायें। किसानों को खाद, पानी और बिजली समय पर पर्याप्त मात्रा में मिले, यह सुनिश्चित किया जाये। उन्होंने कहा कि कहीं भी कोई समस्या होने पर सीधे मुझे फोन करें, जिससे तत्काल समाधान किया जा सके। श्री राठौर ने कहा कि जहाँ पेयजल की समस्या है, वहाँ सबसे पहले पूर्ति करायें। समस्या के निदान के लिये स्थायी कार्य-योजना बनायें।