Spread the love

मई 16, 2024

मधुमक्खियों के हमले में सौ से अधिक लोग घायल

बैतूल जिले में मधुमक्खी काटने से सौ से अधिक लोगों के घायल होने का मामला सामने आया है। तीन जगह घटनाएं घटी हैं। कई लोगों को अस्पताल में उपचार जारी है। 

बैतूल जिले के अंतर्गत आने वाले मुलताई क्षेत्र के ग्रामो में खेतों में देवस्थानों पर ग्रामीणों द्वारा चोटी का कार्यक्रम आयोजित किया जाता है। इसमें देवस्थान पर पूजा करने के बाद बकरे एवं मुर्गे की बलि देकर खाना बनाया जाता है। जिसके बाद सभी लोग भोजन करते है। इस कार्यक्रम में परिजनों के अलावा रिश्तेदार, ग्रामीण एवं दोस्त शामिल होते है। बुधवार को भी ग्राम खैरवानी, पारडसिंगा एवं देवरी में अलग-अलग चोटी के कार्यक्रम आयोजित थे। इस दौरान खेतों पर स्थित पेड़ों पर लगे मधुमक्खियों के छातों में बैठी मधुमक्खियां खेत में भोजन बनाने के लिए जल रहे चूल्हों से निकले धुएं के कारण उड़ने लगी और वहां उपस्थित लोगों पर मधुमक्खियों ने हमला कर दिया। इससे तीन स्थानों पर चोटी में शामिल होने आए करीब एक सैकड़ा लोग घायल हो गए। इसमें से करीब आधा सैकड़ा लोग उपचार कराने के लिए नगर के सरकारी अस्पताल पहुंचे थे। जहां पर उनका उपचार चालू है।

खेत में था चोटी का कार्यक्रम
क्षेत्र के ग्राम पारडसिंगा में स्कूल के पीछे खेत में स्थित देवस्थान पर चोटी का कार्यक्रम आयोजित था। जहां पर चोटी का कार्यक्रम हो रहा था इस दौरान मधुमक्खियों ने हमला कर दिया। इसमें शामिल आयुष अनिल, लक्ष्मण हरदयाल, अनिता पन्नालाल एवं नागपूर, पाथाखेड़ा सारणी सहित अन्य ग्रामों के करीब 70 लोग घायल हो गए। ग्रामीणों ने बताया हमला करने के बाद मधुमक्खियां गांव में घुस गई और लोगों को अपना निशाना बना रही है।

खैरवानी में एक दर्जन से अधिक घायल
ग्राम खैरवानी में खेत में आयोजित चोटी के कार्यक्रम में भी मधुमक्खियों के हमले में करीब एक दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। जिसमें ग्राम खैरवानी निवासी मनीराम रखनपत, दुर्गा नदंराम, राजकिशोर झनकलाल, अनिता ईश्वर, लालू विठोबा, सरस्वती गुलाबराव,सहित अन्य लोग घायल हो गए।


अप्रैल 25, 2024

शव यात्रा लेकर जा रहे लोगों पर मधुमक्खियों ने किया हमला

खेड़ी सांवलीगढ़ में हुई घटना। शवयात्रा लेकर ताप्ती नदी के मोक्षधाम जा रहे थे ग्रामीण। रास्ते में बड़ के वृक्ष के नीचे मधुमक्खियों ने किया हमला।

जिले के ग्राम खेड़ी सांवलीगढ़ में बुधवार दोपहर में शव यात्रा लेकर जा रहे लोगों पर मधुमक्खियों के झुंड ने हमला कर दिया। इसमें पांच लोग घायल हुए हैं। मधुमक्खियों के हमले से शवयात्रा में भगदड़ मच गई और लोग शव को वहीं छोड़कर तितर-बितर हो गए। मधुमक्खियों के शांत होने के बाद लोग पुन: एकत्रित हुए और अर्थी को ताप्ती नदी के मोक्षधाम ले जाया गया और उसके बाद अंतिम संस्कार किया गया।

यह है घटनाक्रम

प्राप्त जानकारी के अनुसार खेड़ी सांवलीगढ़ में बुजुर्ग भैया लाल किरोदे का लंबी बीमारी के बाद बुधवार सुबह निधन हो गया था। अंतिम संस्कार के लिए जब शव यात्रा लेकर लोग जा रहे थे, तभी बड़ के पेड़ के नीचे पहुंचने पर मधुमक्खियों ने हमला कर दिया। सभी लोग अर्थी को पेड़ के नीचे ही छोड़कर उनके हमले से बचने के लिए आसपास भाग गए। जब मधुमक्खियां शांत हो गईं, तब कुछ लोग पहुंचे और अर्थी को ताप्ती घाट ले जाकर अंतिम संस्कार किया गया।

एक हफ्ते पहले सीहोर में भी हुई थी घटना

गौरतलब है कि एक हफ्ते पहले सीहोर के ब्रिजिश नगर ग्राम में भी ऐसी ही घटना हुई थी, जहां पर पूर्व सरपंच राम सिंह वर्मा के निधन के बाद शव यात्रा लेकर जा रहे ग्रामीणों पर रास्ते में पीपल के पेड़ पर लगे छत्ते से निकली मधुमक्खियों के झुंड ने हमला कर दिया। मधुमक्खियों के उस हमले में करीब 50 ग्रामीण घायल हुए थे।

लोकतंत्र के चौथे स्तंभ पत्रकारिता की आजादी को ध्यान में रख कर ही हमने पत्रकारिता की शुरुआत की है. वर्तमान परिवेश की परिश्थितियों को समझते हुये क्रांति के इस युग में इलेक्ट्रॉनिक मीडिया समाज में एक महत्वपूर्ण जिम्मेदारी का निर्वहन कर समाज को एक नई दिशा मुहैया करा रहा है

समाचार

सम्पादक मंडल

Address: Harihar Bhavan Nowgong Dist. Chatarpur Madhya Pradesh ,

Mobile No.  : 98931-96874

Email : santoshgangele92@gmail.com ,

Web : www.ganeshshankarsamacharsewa-in.preview-domain.com

Web : www.gsssnews.in

Ganesh Shankar Samachar Seva  @2024. All Rights Reserved.