Friday, August 23News That Matters

  विदिशा

Share

गरीब हितग्राहियों को गैस कनेक्शन निःशुल्क उपलब्ध कराएं जाएंगे 

विदिशा | 09-अगस्त-2019

 प्रधानमंत्री उज्जवला योजना अंतर्गत सौ दिवसीय कार्य योजना के तहत जिले के शेष समस्त गरीब 67 हजार हितग्राहियों को दस सितम्बर तक शत प्रतिशत गैस कनेक्शन निःशुल्क उपलब्ध कराए जाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
जिला आपूर्ति अधिकारी श्रीमती रश्मि साहू ने बताया कि जिले के प्रत्येक विकासखण्ड में पांच-पांच एलपीजी पंचायतों का आयोजन कर योजना के तहत हितग्राहियो को गैस कनेक्शन प्रदाय करने का कार्य किया जाएगा। इसके लिए संबंधित ग्राम पंचायत सचिवों को क्षेत्रांतर्गत नियत समय में कार्यवाही सुनिश्चित करने हेतु निर्देश जारी किए गए है।
जिले के हितग्राहियों से योजनांतर्गत आग्रह किया गया है कि जानकारी एवं आवेदन के संबंध में क्षेत्र के नोडल अधिकारियों (पंचायत सचिव, रोजगार सहायक एवं नगरीय क्षेत्र में वार्ड प्रभारियों) से सम्पर्क कर अपना केबायसी फार्म जमा कराकर योजना का लाभ प्राप्त करें। ततसंबंध में गैस ऐजेन्सियों को भी दिशा निर्देश प्रसारित किए गए है। उन्हें आवश्यक दस्तावेंज सहित फार्म जमा कराए जाने पर अविलम्ब गैस कनेक्शन योजना के तहत प्रदाय करने हेतु निर्देशित किया गया है।

अल्पसंख्यक वर्ग के छात्र-छात्राओं के लिए ऑन लाइन आवेदन आमंत्रित 

विदिशा | 30-जुलाई-2019

शैक्षणिक सत्र 2019-20 के लिए अल्प संख्यक समुदाय (मुस्लिम, ईसाई, बौद्ध, सिख, जैन एवं पारसी) के छात्र-छात्राओं के लिये पोस्ट मैट्रिक छात्रवृत्ति योजनांतर्गत कक्षा 11 एवं 12, आईटीआई डिप्लोमा, बीएड, एमफिल, पीएचडी, स्नातक, स्नातकोत्तर (तकनीकि एवं व्यवसायिक पाठ्यक्रमों को छोडकर) में अध्ययनरत नवीन एवं नवीनीकरण विद्यार्थियों के लिये दिनांक 31 अक्टूबर तक तथा प्री मैट्रिक छात्रवृत्ति योजनांतर्गत कक्षा 1 से 10 तक नवीन एवं नवीनीकरण के विद्यार्थियों के लिये दिनांक 15 अक्टूबर  तक ऑनलाईन आमंत्रित किये जा रहे है।
शिक्षण संस्थाओं में अध्ययनरत अल्पसंख्यक वर्ग के छात्र-छात्राओं से कहा है कि वे NationalScholarsip Portal (NSP) URL-www.scholarsips.gov.in लिंक पर जाकर निर्धारित समयावधि में नियमानुसार एवं पात्रतानुसार ऑनलाईन आवेदन कर प्राप्त प्रिंट ऑउट के साथ समस्त आवश्यक दस्तातवेज संलग्न कर अपनी अध्ययनरत संस्था में प्रस्तुत करे।

मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना तहत आवेदन आमंत्रित 

विदिशा | 26-जुलाई-2019

मध्यप्रदेश राज्य सहकारी अनुसूचित जाति वित्त एवं विकास निगम के माध्यम से संचालित एवं जिला अन्त्यावसायी सहकारी विकास मर्यादित के द्वारा क्रियान्वित मुख्यमंत्री कृषक उद्यमी योजना के तहत ऐसे कृषकबंधु जो अनुसूचित जाति वर्ग के है उनके बच्चों शिक्षित बच्चों को स्वयं का रोजगार स्थापित करने हेतु बैंको के माध्यम से वित्त पोषण किया जाएगा। इस हेतु ऑन लाइन आमंत्रित किए गए है। उपरोक्त प्रक्रिया लक्ष्य पूर्ण होने तक सतत क्रियान्वित की जाएगी।
जिला अन्त्यावसायी के सीईओ श्री केएल लड़िया ने बताया कि एमपी ऑन लाइन से आवेदन करने का शुल्क शासन द्वारा 130.50 पैसे शुल्क निर्धारित किया गया है। आवेदक कृषक अनुसूचित जाति वर्ग का होना चाहिए इसके अलावा जिले का मूल निवासी, न्यूनतम दसवीं उत्तीर्ण आयु 18 से 40, आय सीमा का कोई बंधन नहीं। किसी भी राष्ट्रीयकृत एवं सहकारी बैंक तथा वित्त संस्था का चूककर्ता, बकायादार नही होना चाहिए। एक ही बार योजना का लाभ प्रदाय किया जाएगा।

 

स्वतंत्रता दिवस समारोह आयोजन की तैयारियों के संबंध में दिशा निर्देश

विदिशा | 23-जुलाई-2019

स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त समारोह आयोजन पूर्व की जाने वाली तैयारियों की समीक्षा आज कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने की। उन्होंने संबंधित विभागों के अधिकारियों को आवश्यक जबावदेंही सौंपते हुए कहा कि जिम्मेदारियों का क्रियान्वयन समय सीमा में करना सुनिश्चित करें। जिला मुख्यालय पर मुख्य समारोह गतवर्ष की भांति इस वर्ष भी पुलिस परेड ग्राउण्ड पर आयोजित किया जाएगा।
पुलिस परेड ग्राउण्ड पर की जाने वाली तमाम व्यवस्थाओं के परिपेक्ष्य में बिदुंवार चर्चा की गई और अधिकारियों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। स्कूली विद्यार्थियों द्वारा प्रस्तुत किए जाने वाले सांस्कृतिक कार्यक्रम देशभक्ति भावना से ओतप्रोत हो। बैठक में बताया गया कि सांस्कृतिक कार्यक्रम का पूर्वाभ्यास छह अगस्त से शुरू होगी और फायनल रिहर्सल 13 अगस्त को पुलिस परेड ग्राउण्ड पर आयोजित किया जाएगा जिसका जायजा कलेक्टर और एसपी के द्वारा संयुक्त रूप से लेगें।
बैठक में आमंत्रण कार्ड छपवाने, वितरण, के अलावा शासकीय अधिकारी, कर्मचारी जिनके द्वारा उल्लेखनीय प्रगति हासिल की गई है। उन्हें पुरस्कृत करने के प्रस्ताव 12 अगस्त तक डिप्टी कलेक्टर श्री बृजेन्द्र यादव के पास जमा किए जा सकते है। जिला मुख्यालय के साथ-साथ तहसील, जनपद स्तर, सभी शैक्षणिक संस्थाओं में स्वतंत्रता दिवस कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा।
रोशनी
कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि स्वतंत्रता दिवस पर्व पर सभी शासकीय स्मारको, कार्यालयों प्रकाश (रोशनी) की जाएगी। इसके लिए झालर लगाने का कार्य 13 अगस्त की रात्रि तक पूरा कर लिया जाए। ताकि 14 की रात्रि से रोशनी कार्यालयों में की जा सकें।

1 से 20 अगस्त तक चलेगा कुष्ठ रोगी खोज अभियान 

विदिशा | 13-जुलाई-2019

 प्रदेश में कुष्ठ रोग के प्रति समाज में जागरुकता लाकर रोग के उपचार एवं व्याप्त भ्रांतियों में कमी लाई जाना प्रदेश शासन का एक प्रमुख लक्ष्य है। इसी उद्देश्य से राष्ट्रीय कुष्ठ उन्मूलन कार्यक्रम के अन्तर्गत 1 अगस्त से 20 अगस्त तक कुष्ठ रोगी खोज अभियान का आयोजन किया जाएगा। अभियान के दौरान जिले में घर-घर खोज के माध्यम से सघन स्क्रीनिंग कर संभावित कुष्ठ रोगी की पहचान कर जांच उपरांत उपचार प्रदाय किया जाना है जिससे प्रदेश को कुष्ठ रोग से मुक्त किया जा सकेगा।
अभियान का लक्ष्य कुष्ठ रोगी की पहचान रोग की प्रारंभिक अवस्था में कर उपचार प्रदाय कर कुष्ठ रोग के कारण होने वाली विकृति को कम करना, चिन्हित समस्त चर्मरोगी विशेषकर कुष्ठ रोगियों की पहचान कर पूर्ण उपचार प्रदाय करना एवं समाज में कुष्ठ रोग के प्रति जागरुकता लाना है।

आईटीआई में ऑनलाईन प्रवेश 16 तक

विदिशा | 12-जुलाई-2019

 मध्यप्रदेश शासन सामान्य प्रशासन विभाग भोपाल के आदेशानुसार शैक्षणिक संस्थाओं में प्रवेश हेतु आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग (EWS) को 10 प्रतिशत आरक्षण का प्रावधान किया गया है। प्रशिक्षणार्थियों से आर्थिक रूप से कमजोर पूर्व उल्लेखित वर्ग की च्वाईस फिलिंग एवं नये प्रशिक्षणार्थियों के रजिस्ट्रेशन एवं ज्वाईस फिलिंग के लिए एमपी ऑनलाईन पोर्टल पुनः 10 से 16 जुलाई 2019 तक खोला जा रहा है।

सटीक वर्क कल्चर से राजस्व अधिकारी जाने जाएं-कलेक्टर श्री सिंह

विदिशा | 07-जून-2019  कलेक्टर श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने आज राजस्व अधिकारियों की बैठक आहूत कर निर्देश दिए कि सटीक वर्क कल्चर से राजस्व अधिकारियों की छवि प्रदर्शित हो। उन्होंने आमजनों की मूलभूत समस्याओ के निदान हेतु संचालित कार्यक्रमों का और अधिक बेहतर ढंग से क्रियान्वयन कराने के निर्देश दिए है।
कलेक्टर श्री सिंह ने राजस्व अधिकारियों से कहा कि कार्यक्षेत्र में बी-वन का वाचन करें, राजस्व संबंधी प्रकरणों के निराकरण हेतु नवाचारों के माध्यम से संदेश आमजनों में पहुंचे। जो भी प्रकरण राजस्व अधिकारियों के संज्ञान अथवा कार्यालय को प्राप्त होते है वे सभी रेवेन्यू कैस मैनेजमेंट सिस्टम (आरसीएमएस) में अनिवार्यतः दर्ज किए जाएं। निरीक्षण के दौरान यदि कही प्रकरण पंजीकृत नही किए जाने पर संबंधितों के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी।
कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि विदिशा जिले हेतु 15 करोड़ राजस्व वसूली का लक्ष्य प्राप्त हुआ है जिसे तहसीलों या अनुविभाग स्तर पर पुनर्वंटित किया गया है। तदानुसार विदिशा के लिए पांच करोड़, बासौदा को तीन करोड, कुरवाई एवं सिरोंज के लिए क्रमशः दो-दो करोड़ का तथा लटेरी, ग्यारसपुर एवं शमशाबाद हेतु क्रमशः एक-एक करोड का तथा नटेरन तहसील के लिए पचास लाख का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।
कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि राजस्व वसूली कार्यो में किसी भी प्रकार की कोताही न बरती जाए और लक्ष्य से अधिक वसूली के प्रयास किए जाएं।

प्रमाण पत्र दें

कलेक्टर श्री सिंह ने राजस्व अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि जिले में सूखाराहत की राशि एवं भावांतर भुगतान के प्रकरणों का शत प्रतिशत निराकरण कर सभी तहसीलदार इस आश्य का प्रमाण पत्र देंगे कि अब उनके यहां पूर्व किसी भी प्रकार के प्रकरण लंबित नही है।
राजस्व प्रकरणों के निराकरण हेतु अनुविभाग स्तर पर ग्राम चौपालों का आयोजन कर सार्वजनिक एवं व्यक्तिगत समस्याओं का निदान किया जाए।
कलेक्टर श्री सिंह ने सभी एसडीएमों को निर्देश दिए कि अनुविभाग स्तर पर टीएल बैठक का आयोजन करना शुरू करें। जिसमें अनुविभाग स्तर के अधिकारियों को अनिवार्य रूप से उपस्थित होने के दिशा निर्देश जारी किए गए है। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि मुख्यमंत्री हेल्पलाइन के ऐसे प्रकरण जो अनुविभाग स्तर पर हल किए जा सकते है परन्तु आवेदकगण अनुविभाग स्तर पर आवेदन देने के उपरांत जिला मुख्यालय पर पुनः आवेदन देते है। जो कतिपय उचित नही है। स्थानीय स्तर पर निराकृत होने वाली समस्याओं का निराकरण अनिवार्य रूप से करें ताकि आवेदकों को किसी भी प्रकार का भटकाव ना हो का विशेष ध्यान रखा जाए।
कलेक्टर श्री सिंह ने कि ऐसे हितग्राही जिन्हें आवासीय पट्टे वितरण करने का कार्य किया जाना है उन प्रकरणों का परीक्षण कर कार्यवाही शीघ्र करें। पट्टे वितरण में किसी भी प्रकार की र्शाटकट विधि ना अपनाएं।
बैठक में अविवादित बंटवारा, सीमांकन, रजिस्ट्री का लॉगिग कर उसी ई सम्पदा पर दर्ज कराने, न्यायालयवार प्रकरणों का समय सीमा में निदान करने के निर्देश दिए गए है कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि सीमांकन संबंधी प्रकरणों के निराकरण हेतु यह उपर्युक्त अवसर है अतः अनुविभाग स्तर पर जितने भी सीमांकन के प्रकरण लंबित है उन सभी का शीघ्रतिशीघ्र सीमांकन करें। बैठक में लोक सेवा गारंटी, पेयजल आपूर्ति, मध्यान्ह भोजन, बिजली की आपूर्ति, निर्माण कार्यो की भी समीक्षा की गई।
नवीन कलेक्ट्रेट के सभाकक्ष में हुई उक्त बैठक में अपर कलेक्टर श्री वृदांवन सिंह के अलावा समस्त एसडीएम, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, राजस्व निरीक्षक एवं रीडर मौजूद थे।