Friday, August 23News That Matters

श्योपुर

Share

20 अगस्त को सद्भावना दिवस मनाने के निर्देश 

अधिकारी/कर्मचारियों को दिलाई जावेगी शपथ 

श्योपुर | 16-अगस्त-2019

 राज्य शासन के निर्देशानुसार जिले में 20 अगस्त को सद्भावना दिवस मनाने के निर्देश विभागीय अधिकारियों को दिए हैं। साथ ही इस दिवस पर अधिकारी/कर्मचारियों को शपथ दिलाई जावेगी।
कलेक्टर श्री बसंत कुर्रे ने बताया कि सद्भावना दिवस 20 अगस्त को प्रातः 11 बजे सभी शासकीय कार्यालयों में अधिकारियों, कर्मचारियों को जाति, सम्प्रदाय, क्षेत्र, धर्म अथवा भाषा का भेदभाव किए बिना सभी भारतवासियों की भावनात्मक एकता और सद्भाव के लिए कार्य करने की प्रतिज्ञा दिलाई जाएगी। साथ ही हिंसा का सहारा लिए बिना सभी प्रकार के मतभेद बातचीत और संवैधानियक माध्यमों से सुलझाने की भी प्रतिज्ञा दिलाई जाएगी।

जनसुनवाई में आए 81 आवेदनों पर की कार्यवाही 

आवेदकों के आवेदन कार्यवाही हेतु भिजवाए 

श्योपुर | 06-अगस्त-2019

 कलेक्टर श्री बसंत कुर्रे के निर्देशन में जिला पंचायत के सीईओ श्री हर्ष सिंह की अध्यक्षता में राज्य शासन के महत्वाकांक्षी कार्यक्रम जनसुनवाई का आयोजन आज निषादराज भवन श्योपुर पर किया गया। इस जनसुनवाई के दौरान जिले के शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र से आए 81 आवेदकों द्वारा प्रस्तुत किए गए आवेदनों पर कार्यवाही की गई। जनसुनवाई में आए आवेदकों के आवेदन कार्यवाही हेतु भिजवाए। साथ ही उनकों  पावती भी उपलब्ध कराई गई। जनसुनवाई के दौरान एसडीएम श्योपुर श्री रूपेश उपाध्याय, संयुक्त कलेक्टर श्री सुनील राज नायक एवं विभिन्न विभागों के जिला अधिकारी और शहरी, ग्रामीण क्षेत्र से आए नागरिक उपस्थित थे।
जिला पंचायत के सीईओ श्री हर्ष सिंह ने जनसुनवाई में आए शहरी एवं ग्रामीण क्षेत्र के नागरिक सर्वश्री मदरू पुत्र हजारी गुर्जर, मेवा पत्नी हरीशंकर माली, रामनाथी पत्नी रामचरण, कलावती पत्नी अमृतलाल, विनोद रजक पुत्र कन्हैयालाल, पूरण पुत्र गोपाल, गोबरी बाई पत्नी प्रभुलाल, इंद्रजीत पत्नी बद्री, ठाकुर लाल पुत्र अजमेर मीणा, मोतीलाल पुत्र कल्लाराम, छोट्या पुत्र हरचंदा, चतुर्भुज पुत्र गोपाल आदिवासी, जागीर पुत्र वचन सिंह, रमेशचंद पुत्र काडूराम, निशा पत्नी भूपेन्द्र रेगर, कल्लू मेवाती पुत्र कबीरा मेवाती, प्रहलात पुत्र हीरा गुर्जर, सिवानी गुप्ता पुत्री ओमप्रकाश गुप्ता, हमीदन पत्नी हसुआ रेनु लोधा, लखन लाल विश्वकर्मा, जमुना, बलीराम शर्मा, रूपसिंह सहित 81 आवेदकों की विभिन्न प्रकार की समस्याएं सुनी। इसी प्रकार आदिम जाति कल्याण विभाग के माध्यम से सहरिया परिवार की मुखिया को प्रदान की जाने वाली सहायता रूपए एक-एक हजार के आवेदन प्राप्त कर सहायक आयुक्त आजका को कार्यवाही के लिए प्रेषित किए गए।
जनसुनवाई के दौरान पेंशन, राशन पर्ची, विद्युत, राशनकार्ड, आर्थिक सहायता, प्रसूती सहायता, नि:शक्त प्रमाणपत्र, नलकूप खनन में मोटर डालने एवं हैंडपंप लगाने वृद्धावस्था पेंशन, प्रधानमंत्री आवास, सीमांकन, नामांतरण, अतिक्रमण, उज्जवला योजना, बटवारा, कब्जा आदि प्रकार के आवेदनों पर गंभीरता पूर्वक कार्यवाही की गई।

सांसद निधि/ विधायक निधि/ जनभागीदारी के अपूर्ण निर्माण कार्यो की समीक्षा 27 जुलाई को

भिण्ड | 26-जुलाई-2019

 कलेक्टर श्री छोटेसिंह द्वारा सांसद निधि/ विधायक निधि/ जनभागीदारी के समस्त अपूर्ण निर्माण कार्यो की समीक्षा 27 जुलाई 2019 को प्रातः11 बजे कलेक्टर कार्यालय भिण्ड के सभागार में आयोजित की जाएगी।
जिला योजना अधिकारी भिण्ड ने कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रिकी सेवा/लोक निर्माण विभाग/लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी, मुख्य नगर पालिका अधिकारी भिण्ड, गोहद, लहार, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जनपद पंचायत भिण्ड, गोहद, अटेर, मेहगांव, रौन एवं लहार, प्रभारी अधिकारी जिला एनसीसी, जिला शिक्षा अधिकारी एवं जिला पशु कल्याण समिति भिण्ड को पत्र जारी कर कहा है कि उक्त प्रपत्र में जानकारी 26 जुलाई 2019 के सायंकाल 4 बजे तक कार्यालय में भिजवाना सुनिश्चित करें, ताकि जानकारी का फोल्डर तैयार कर कलेक्टर भिण्ड को प्रस्तुत किया जा सके।

 

 

अनुसूचित जाति/जनजाति के प्रकरणों में गति लाई जावे- कलेक्टर 

श्योपुर | 24-जुलाई-2019

 

कलेक्टर श्री बसंत कुर्रे की अध्यक्षता में अनुसूचित जाति/जनजाति “अत्याचार निवारण” अधिनियम-1995 यथा संसोधित 2016 के उपनियम 17(3) के तहत जिला स्तरीय सतर्कता एवं मॉनिटरिंग समिति की बैठक आज कलेक्टर चेंबर श्योपुर में आयोजित की गई।
बैठक में सहायक आयुक्त आदिम जाति कल्याण विभाग श्री एलआर मीणा, क्षेत्र संयोजक एवं आवासीय विद्यालय ढेंगदा के श्री एमपी पिपरैया, विशेष लोक अभियोजक श्री राजेन्द्र जाधव, थाना प्रभारी आजाक मीना सोलंकी एवं अन्य अधिकारी, कर्मचारी उपस्थित थे।
कलेक्टर श्री बसंत कुर्रे ने बैठक को संबोधित करते हुए कहा कि अत्याचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत जिले में माह जनवरी से जून-2019 के अंतर्गत अनुसूचित जाति के 19, अनुसूचित जनजाति के 7 कुल 26 प्रकरण निराकृत किए गए हैं। इस अधिनियम के अंतर्गत शेष प्रकरणों का निराकरण शीघ्र किया जावे। ऐसे प्रकरण जिनमें विवेचना चल रही है। वह कार्य भी तत्परता पूर्वक किया जावे। उन्होंने कहा कि इस अधिनियम के तहत पुलिस के पास लंबित प्रकरणों की समीक्षा में पाया गया है कि, 20 जुलाई की स्थिति में एससी के 4, एसटी के 2 प्रकरण लंबित है। जिनका निराकरण समय-सीमा में किया जावे। अगर प्रकरण न्यायालय में लंबित है। तब उनमें भी कार्यवाही यथा समय सुनिश्चित की जावे।
सहायक आयुक्त आजाक श्री एलआर मीणा ने बैठक में अनुसूचित जाति/जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत अभियोजन के प्रकरण तथा पुलिस में लंबित प्रकरणों की जानकारी दी। साथ ही प्रकरणों की प्रगति से अवगत कराया। बैठक में लोक अभियोजक श्री राजेन्द्र जाधव, थाना प्रभारी आजाक मीना सोलंकी ने अत्याचार निवारण अधिनियम के अंतर्गत प्रचलित प्रकरणों की जानकारी दी।