Friday, August 23News That Matters

सागर

Share

महिलाएं करेंगी लोक -चित्र कला से स्वच्छता संवाद

सागर | 09-अगस्त-2019

 स्वच्छ भारत मिशन ग्रामीण अन्तर्गत जिले को खुले में शौच मुक्त होने के बाद अब नया अभियान शुरू होने जा रहा है, जिसके तहत प्रत्येक ग्राम पंचायतों में शौचालय के प्रति ग्रामीणों को जागरूक करने के लिये एक माह तक लोक चित्र से स्वच्छता संवाद अभियान चलेगा। अभियान की खास बात यह रहेगी कि इसमें ग्रामीण अंचल की महिलाओं को शामिल किया जाएगा। अगस्त माह में प्रारम्भ होने के बाद अभियान 2 अक्टूबर तक चलेगा। अभियान अन्तर्गत प्रत्येक ग्राम में स्वच्छता संबंधी दीवार पेंटिंग के चित्रात्मक संदेश को आमजन तक पहुंचाया जायेगा। पेंटिंग कार्य में स्थानीय लोक चित्रकला एवं लोक भाषा का उपयोग किया जायेगा। महिला स्व-सहायता समूहों में चित्रकला में रूचि रखनें वाली महिलाओं से प्रत्येक ग्राम में चिन्हित स्थान पर स्वच्छता लोक चित्र बनायें जायेंगे। साथ ही स्थानीय स्वच्छाग्राहियों, पंचायतीराज संस्थाओ, विद्यालयों आदि संस्थाओं की सक्रिय  भागीदारी में स्वच्छता पेंटिंग के चित्र एवं उसके संदेश पर जनसमुदाय के साथ संवाद भी किया जायेगा।
स्व-सहायता समूह की महिलाओं को इस अभियान में शामिल करने पर जिला स्तर से प्रशिक्षण भी दिया जायेगा। उत्कृष्ट दीवार पेंटिंग करने वाली महिला चित्रकारों को जनपद, जिला और राज्य स्तर पर पुरस्कृत किया जायेगा।
राज्य स्तर से प्रथम पुरस्कार 30 हजार, द्वितीय पुरस्कार 20 हजार एवं तृतीय पुरस्कार 10 हजार, जिला स्तर पर प्रथम पुरस्कार 7 हजार, द्वितीय पुरस्कार 5 हजार व तृतीय पुरस्कार 3 हजार व जनपद स्तर पर प्रथम पुरस्कार 3 हजार, द्वितीय पुरस्कार 2 हजार एवं तृतीय पुरस्कार 1000  हजार रूपये से पुरस्कृत किया जायेगा। इसके अतिरिक्त प्रशिक्षक चित्रकार को भी जिला स्तर पर सर्वोत्तम तीन पेंटिग पर 5 हजार रूपये की राशि से पुरस्कृत किया जायेगा। प्रत्येक दीवार पर 6 बाय 4 की पेंटिंग बनानी होगी। लोक चित्र स्वच्छता अभियान में महिलाओं की सहभागिता की जायेगी। लोक कला का उपयोग करते हुये स्वच्छता संदेश को आमजन तक पहुंचाया जायेगा।

निर्वाचक नामावली विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण-2020 का कार्यक्रम जारी

सागर | 30-जुलाई-2019

 भारत निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार एक जनवरी 2020 की तिथि को 18 वर्ष की आयु पूर्ण करने वाले पात्र व्यक्तियों का नाम निर्वाचक नामावली में दर्ज किया जायेगा। एक अगस्त 2019 से यह कार्य शुरू कर निर्वाचक नामावली का अंतिम प्रकाशन एक जनवरी से 15 जनवरी 2020 के मध्य किया जायेगा।
पुनरीक्षण पूर्व गतिविधियाँ एक अगस्त से 31 अगस्त 2019 तक होंगी।  मतदाता की फोटो क्वालिटी का परीक्षण, मतदाता प्रमाणीकरण किया जायेगा। एक सितम्बर से 30 सितम्बर तक बी.एल.ओ द्वारा घर-घर जाकर सत्यापन किया जायेगा। मतदान केन्द्रों का युक्तिकरण और मतदान केन्द्र के भवनों का भौतिक सत्यापन 16 सितम्बर से 15 अक्टूबर के दौरान होगा।
एकजाई प्रारूप निर्वाचक नामावली का प्रारूप प्रकाशन 15 अक्टूबर को किया जायेगा। पन्द्रह अक्टूबर से 30 नवम्बर तक दावे-आपत्तियाँ दर्ज की जायेंगी। दो नवम्बर से 10 नवम्बर तक विशेष कैम्प लगाये जायेंगे। दावे-आपत्तियों का निराकरण 15 दिसम्बर 2019 से पूर्व किया जायेगा। निर्वाचक नामावली का विभिन्न पैरामीटर पर परीक्षण एवं अंतिम प्रकाशन की अनुमति 25 दिसम्बर से पूर्व प्राप्त की जायेगी। डेटाबेस का अद्यतन और पूरक का प्रकाशन 31 दिसम्बर 2019 के पूर्व किया जायेगा।

गनमैन एवं सुरक्षागार्ड हेतु आवेदन 02 अगस्त तक 

सागर | 26-जुलाई-2019

  जिला सैनिक कल्याण कार्यालय, सागर कल्याण संयोजक, लायकराम चौरसिया ने जानकारी दी है कि इस कार्यालय में पंजीकृत भूतपूर्व सैनिकों को सुरक्षा कार्य हेतु गनमैन एवं सुरक्षागार्ड की आवश्यकता है। अतः इच्छुक भूतपूर्व सैनिक जिला सैनिक बोर्ड सागर में 02 अगस्त तक अपना आवेदन जमा कर सकते है।

बीमारी इलाज हेतु आर्थिक सहायता मंजूर

सागर | 23-जुलाई-2019

    मुख्यमंत्री स्वेच्छानुदान मद से जिले के एक जरूरतमंद व्यक्ति को स्वयं की बीमारी के इलाज हेतु कुल राशि 30 हजार रूपये स्वीकृत की गई है। जिसमें श्रीमती सोनम खान पति श्री हनीफ खान केंट वार्ड 37 सागर को 30 हजार रूपये शामिल हैं।

 

रिपोर्ट / भारत में बन रहे आईफोन अगले महीने बाजार में आ सकते हैं, कीमतें घटने की उम्मीद

 

Date :- 12 july 2019

  • फॉक्सकॉन कंपनी भारत में एपल के लिए आईफोन की असेंबलिंग कर रही है
  • लोकल मैन्युफैक्चरिंग की वजह से एपल को 20% आयात शुल्क की बचत होगी
  • भारत में आईफोन एक्सआर की शुरुआती कीमत 55700 रुपए, एक्सएस की करीब 1 लाख रुपए

मुंबई. भारत में बन रहे आईफोन अगले महीने बाजार में आ सकते हैं। इससे आईफोन सस्ता होने की उम्मीद है। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स ने सूत्रों के हवाले से गुरुवार को यह रिपोर्ट दी। इसके मुताबिक कुछ मंजूरियां बाकी हैं लेकिन, उम्मीद है कि आईफोन एक्सआर और एक्सएस अगस्त में बिक्री के लिए उपलब्ध हो जाएंगे। फॉक्सकॉन कंपनी एपल के लिए भारत में इन आईफोन की मैन्युफैक्चरिंग कर रही है। भारत में आईफोन एक्सआर की शुरुआती कीमत करीब 56 हजार रुपए और एक्सएस की करीब 1 लाख रुपए है।

आईफोन महंगे होने की वजह से भारत में एपल का सिर्फ 1% मार्केट शेयर

  1. भारत में अभी तक आईफोन इंपोर्ट किए जा रहे हैं। इन पर 20% आयात शुल्क लगता है। लेकिन, लोकल मैन्युफैक्चरिंग होने टैक्स बचेगा। इससे कीमतें घटाने का रास्ता साफ हो जाएगा। साथ ही एपल लोकल सोर्सिंग के नियम भी पूरे कर पाएगी।
  2. भारत दुनिया का दूसरा बड़ा स्मार्टफोन मार्केट है। यहां एपल डिवाइस काफी पसंद की जाती हैं लेकिन, कीमतें ज्यादा होने की वजह से यहां एपल का मार्केट शेयर सिर्फ 1% है।
  3. एपल सस्ते मॉडल एसई, 6एस और आईफोन 7 की असेंबलिंग भी भारत में करवा रही है। विस्ट्रॉन कॉर्प कंपनी की बेंगलुरु यूनिट में इनकी असेंबलिंग की जाती है। रिसर्च फर्म काउंटरप्वाइंट के मुताबिक इन्हें भारत से यूरोप एक्सपोर्ट किया जाता है।

जिले में पंचायत स्तर पर हुई जनसुनवाई में 513 आवेदनों का हुआ निराकरण

सागर | 06-जून-2019   मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत सागर ने जानकारी दी है कि सागर जिले की ग्राम पंचायतों में मंगलवार को जनसुनवाई में कुल 755 ग्राम पंचायतों में से 755 ग्राम पंचायतों में जनसुनवाई आयोजित की गई। जिसमें कुल 655 प्राप्त आवेदन में से जनसुनवाई के दौरान 513 आवेदनों का निराकरण एवं 142 आवेदन लंबित रहे एवं जनसुनवाई में कुल 2288 शासकीय कर्मचारी उपस्थित हुये।
जनपद पंचायत सागर में 81 ग्राम पंचायतों में से 81 ग्राम पंचायतों में जनसुनवाई आयोजित की गई। जिसमें कुल 9 प्राप्त आवेदन में से जनसुनवाई के दौरान 5 आवेदनों का निराकरण एवं 4 लंबित आवेदन रहे एवं जनसुनवाई में 279 शासकीय कर्मचारी उपस्थित हुए।
जनपद पंचायत राहतगढ़ में 81 ग्राम पंचायतों में से पूरे 81 ग्राम पंचायतों में जनसुनवाई आयोजित की गई। जिसमें कुल 49 प्राप्त आवेदन में से जनसुनवाई के दौरान 49 आवेदनों का निराकरण एवं एक भी लंबित आवेदन नहीं रहे एवं जनसुनवाई में 293 शासकीय कर्मचारी उपस्थित हुए।
जनपद पंचायत जैसीनगर में 62 ग्राम पंचायतों में से पूरे 62 ग्राम पंचायतों में जनसुनवाई आयोजित की गई। जिसमें कुल 36 प्राप्त आवेदन में से जनसुनवाई के दौरान 8 आवेदनों का निराकरण एवं 28 आवेदन लंबित रहे व जनसुनवाई में 196 शासकीय कर्मचारी उपस्थित हुये।
जनपद पंचायत खुरई में 63 ग्राम पंचायतों में से पूरे 63 ग्राम पंचायतों में जनसुनवाई आयोजित की गई। जिसमें कुल 71 प्राप्त आवेदन में से जनसुनवाई के दौरान 60 आवेदनों का निराकरण एवं 11 आवेदन लंबित रहे व जनसुनवाई में 252 शासकीय कर्मचारी उपस्थित हुए।
जनपद पंचायत बीना में 64 ग्राम पंचायतों में से पूरे 64 ग्राम पंचायतों में जनसुनवाई आयोजित की गई। जिसमें कुल 73 प्राप्त आवेदन में से जनसुनवाई के दौरान 68 आवेदनों का निराकरण एवं 5 आवेदन लंबित रहे व जनसुनवाई में 191 शासकीय कर्मचारी उपस्थित हुए।
जनपद पंचायत मालथौन में 62 ग्राम पंचायतों में से पूरे 62 ग्राम पंचायतों में जनसुनवाई आयोजित की गई। जिसमें कुल 79 प्राप्त आवेदन में से जनसुनवाई के दौरान 65 आवेदनों का निराकरण एवं 14 आवेदन लंबित रहे व जनसुनवाई में 157 शासकीय कर्मचारी उपस्थित हुए।
जनपद पंचायत रहली में 91 ग्राम पंचायतों में से पूरे 91 ग्राम पंचायतों में जनसुनवाई आयोजित की गई। जिसमें कुल 120 प्राप्त आवेदन में से जनसुनवाई के दौरान 86 आवेदनों का निराकरण एवं 34 आवेदन लंबित रहे व जनसुनवाई में 322 शासकीय कर्मचारी उपस्थित हुए।
जनपद पंचायत देवरी में 70 ग्राम पंचायतों में से पूरे 70 ग्राम पंचायतों में जनसुनवाई आयोजित की गई। जिसमें कुल 56 प्राप्त आवेदन में से जनसुनवाई के दौरान 44 आवेदनों का निराकरण एवं 12 आवेदन लंबित रहे व जनसुनवाई में 2834 शासकीय कर्मचारी उपस्थित हुए।
जनपद पंचायत केसली में 56 ग्राम पंचायतों में से पूरे 56 ग्राम पंचायतों में जनसुनवाई आयोजित की गई। जिसमें कुल 74 प्राप्त आवेदन में से जनसुनवाई के दौरान 47 आवेदनों का निराकरण एवं 27 आवेदन लंबित रहे व जनसुनवाई में 90 शासकीय कर्मचारी उपस्थित हुए।
जनपद पंचायत बण्डा में 78 ग्राम पंचायतों में से पूरे 78 ग्राम पंचायतों में जनसुनवाई आयोजित की गई। जिसमें कुल 48 प्राप्त आवेदन में से जनसुनवाई के दौरान 48 आवेदनों का निराकरण हुआ व जनसुनवाई में 264 शासकीय कर्मचारी उपस्थित हुए।
इसी प्रकार जनपद पंचायत शाहगढ़ में 47 ग्राम पंचायतों में से पूरे 47 ग्राम पंचायतों में जनसुनवाई आयोजित की गई। जिसमें कुल 40 प्राप्त आवेदन में से जनसुनवाई के दौरान 33 आवेदनों का निराकरण एवं 7 आवेदन लंबित रहे व जनसुनवाई में 136 शासकीय कर्मचारी उपस्थित हुए।