Monday, July 6News That Matters

सीहोर

Share
गांव-गांव भ्रमण कर रहा मलेरिया निरोधक जनजागरूकता रथ
सीहोर | 18-जून-2020

         मलेरिया निरोधक माह के अंतर्गत जिले के विभिन्न चिन्हित ग्रामों में मलेरिया निरोधक जनजागरूकता रथ द्वारा भ्रमण किया जा रहा है। बुदनी विकासखण्ड के शाहगंज अंतर्गत 10 गांवों में डीडीटी स्प्रे किया जाएगा स्प्रे का प्रथम चरण 16 जून से प्रारंभ हो चुका है जो 30 अगस्त तक संचालित होगा वहीं 1 सितंबर से 15 अक्टॅूम्बर तक द्वित्तीय चरण प्रारंभ किया जाएगा।

जिला मलेरिया अधिकारी श्रीमती क्षमा बर्वे ने जानकारी दी कि मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ.सुधीर कुमार डेहरिया के मार्गदर्षन में मलेरिया अधिकारी के दिशा-निर्देशन में चिन्हित गांवों की पंचायत स्तर पर कार्यशाला, हाट बाजार में माईकिंग एवं जनजागरूकता अभियान तथा आडियो संदेशों का प्रसारण किया जा रहा है। इस दौरान मलेरिया जनजागरूकता के लिए शपथ पत्र भरवाकर हस्ताक्षर अभियान भी संचालित किया जा रहा है। तालाबों तथा पोखरों में गम्बूशिया मछली छोड़ी गई है। श्यामपुर ब्लाक के जानपुर बावडिया, बैरागढ़ खुमान, मुडला कला, खजूरिया कला, बरखेडी व बमूलिया में गम्बेशिया मछली तालाबों में छोडी गई है। कोविड-19 में दिए गए दिशा निर्देशों का पूर्ण पालन करते हुए मलेरिया निरोधक माह के कार्यक्रम आयोजित किए जा रहे है। श्रीमती बर्वे ने जानकारी दी कि जनजागरूकता रथ द्वारा जिले के करीब जिले के 102 गांवों का भ्रमण कर मलेरिया से बचाव एवं जागरूकता से संबंधित संदेशों का प्रसारण किया जाएगा। जागरूकता रथ श्यामपुर ब्लाक के 47 गांवों, इछावर 16, आष्टा के 17गांव, नसरूल्लागंज के 12 तथा बुदनी विकासखण्ड के 10 गांवों का भ्रमण करेगा। जिले के जो क्षेत्र संवेदनशील अथवा अति संवेदनशील चिन्हित किए गए है वहां पर रथ के भ्रमण के साथ ही विशेष जागरूकता अभियान संचालित कर जागरूकता सामग्री का वितरण किया जा रहा है।

 

पाँचवे चरण का लॉकडाउन, अनलॉक 1.0 का चरण होगा

भारत सरकार की गाइड लाइन का पूरा पालन किया जाएगा, मुख्यमंत्री श्री चौहान ने प्रदेश की जनता को दिया संदेश
सीहोर | 02-जून-2020

    मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की जनता के नाम संदेश में कहा है कि देश के हमारे वैश्विक नेता दूरदर्शी प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने कोरोना संघर्ष में हमें नई राह बतायी, देश का कुशल नेतृत्व किया, जिसके चलते हमने कोरोना पर काफी हद तक विजय पा ली है। हमारे कोरोना योद्धाओं के निरंतर परिश्रम एवं जनता के सहयोग से आज हम प्रदेश में भी कोरोना को ठीक ढंग से नियंत्रित कर पाए हैं। परंतु अभी निरंतर सतर्क एवं सावधान रहने की आवश्यकता है। हमें कोरोना से बचाव के लिए प्रधानमंत्री श्रीनरेन्द्र मोदी द्वारा दिए गए मंत्र दो गज की दूरी (फिजिकल डिस्टेंसिंग), फेस कवर (मास्क लगाना), बार-बार हाथ धोना, सार्वजनिक स्थानों पर नहीं थूकना का सख्ती से पालन करना होगा। तभी हम देश एवं प्रदेश से कोरोना को पूरी तरह भगा पाएंगे। लॉकडाउन के चौथे चरण के समाप्त होने के बाद पाँचवा चरण अनलॉक 1.0 चरण होगा। हम इसमें भारत सरकार की गाइड लाइन का पूरा पालन करेंगे। साथ ही प्रदेश में चरणबद्ध तरीके से आर्थिक गतिविधियाँ संचालित करेंगे। मुख्यमंत्री श्री चौहान आज दूरदर्शन के माध्यम से प्रदेश की जनता को संबोधित कर रहे थे।
कंटेनमेंट एरिया- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि जिलों में अधिक प्रभावित मोहल्‍ला/कॉलोनी इत्‍यादि क्षेत्र कंटेनमेंट एरिया होंगे। इनमें 30 जून, 2020 तक लॉकडाउन यथावत् लागू रहेगा। कंटेनमेंट क्षेत्रों में केवल आवश्यक गतिविधियों की अनुमति दी जाएगी। इसके अलावा प्रदेश का शेष क्षेत्र सामान्‍य क्षेत्र होगा।
रात्रिकालीन  कर्फ्यू- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि रात्रिकालीन कर्फ्यू का समय अब रात्रि 9 बजे से सुबह 5 बजे तक होगा। इस दौरान अत्यावश्यक गतिविधियों को छोड़कर लोगों का आवागमन पूर्ण रूप से प्रतिबंधित रहेगा।
कंटेनमेंट क्षेत्र के बाहर 8 जून, 2020 से प्रारंभ गतिविधियां- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि कंटेनमेंट क्षेत्र के बाहर 8 जून 2020 से धार्मिक स्थल, सार्वजनिक स्थान पूजा स्थल, होटल, रेस्तरां, अन्य आतिथ्य सेवाएं तथा शॉपिंग मॉल प्रारंभ होंगे।
शैक्षणिक संस्‍थाओं का संचालन- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि अभी शैक्षणिक संस्‍थाएं बंद रहेंगीं। परंतु 12 वीं की परीक्षाओं हेतु विद्यालय खोले जाएंगे। बाद में स्कूल, कॉलेज, शैक्षणिक, प्रशिक्षण, कोचिंग संस्थान आदि को खोलने का निर्णय सभी लोगों के साथ परामर्श कर जुलाई में लिया जाएगा।
सभी क्षेत्रों में पूर्णत: प्रतिबंधित गतिविधियाँ- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि प्रदेश में सिनेमा हॉल, व्यायामशाला (gymnasium), स्विमिंग पूल, मनोरंजन पार्क, थिएटर, बार और ऑडिटोरियम, सभा कक्ष मैरिज गार्डन आदि। सामाजिक, राजनीतिक, खेल,  मनोरंजन, शैक्षणिक, सांस्कृतिक, धार्मिक कार्य और अन्य बड़ी सभाएं आदि गतिविधियां पूर्णत: बंद रहेंगी। इन्हें पुन: प्रारंभ करने का निर्णय बाद में लिया जाएगा।
व्‍यक्तियों और वस्तुओं का आवागमन- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि राज्‍य में और राज्‍य के बाहर आने-जाने वाले वाहनों के लिए किसी प्रकार के पास की आवश्‍कता नहीं होगी। अत: पास चेकिंग की व्‍यवस्‍था समाप्‍त की जा रही है। पूरे प्रदेश में अंतर्राज्‍यीय बसों का संचालन 7 जून तक बंद रहेगा। तत्‍पश्‍चात इस पर निर्णय लिया जाएगा। इंदौर, उज्‍जैन तथा भोपाल संभाग सहित पूरे प्रदेश में फैक्‍टरी के संचालन में और निर्माण कार्य में लगे मजदूरों के परिवहन हेतु बसें संचालित करने की अनुमति होगी। राज्‍य के अंदर सार्वजनिक परिवहन की बसें इंदौर, उज्‍जैन व भोपाल को छोड़कर अन्‍य सभी संभागों में 50 प्रतिशत क्षमता के साथ संचालित हो सकेंगीं।
बाजारों का खुलना- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि इंदौर, उज्‍जैन, नीमच और बुरहानपुर के नगरीय  क्षेत्रों के बाजारों की एक चौथाई दुकानें बारी-बारी से खुलेंगीं। भोपाल के बाजारों की एक तिहाई दुकानें बारी-बारी से खुलेंगीं। देवास,  खंडवा नगर निगम तथा धार एवं नीमच नगर पालिका क्षेत्र की आधी-आधी दुकानें बारी-बारी से खुलेंगीं परंतु स्‍टैंड अलोन दुकानें व मोहल्‍ले की दुकानें इस प्रतिबंध से मुक्‍त रहेंगीं। इनके अलावा शेष प्रदेश में दुकानों के खुलने पर कोई प्रतिबंध नहीं रहेगा।
कार्यस्थलों  के लिए दिशा-निर्देश- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि सभी शासकीय और प्रायवेट कार्यालय इंदौर, उज्‍जैन और भोपाल नगर निगम क्षेत्र में 50 प्रतिशत कर्मचारियों के साथ और शेष प्रदेश में पूरी क्षमता से खोले जाएंगे। उन्‍हें स्क्रीनिंग और स्वच्छता का ध्‍यान रखना होगा। थर्मल स्केनिंग, हैंड वाश और सैनिटाइजर का प्रावधान सभी प्रवेश और निकास द्वारों और सामान्य क्षेत्रों में किया जाएगा। फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन किया जाएगा। कार्यस्थलों के प्रभारी यह सुनिश्चित करेंगे कि श्रमिकों के बीच पर्याप्त दूरी हो, पारियों (shifts) के बीच पर्याप्त अंतराल हो,  कर्मचारियों के भोजन के अवकाश का समय अलग-अलग हो, आदि।
ये सावधानियाँ अनिवार्य होंगी- मुख्यमंत्री श्री चौहान ने बताया कि कोविड से सुरक्षा के लिए सार्वजनिक स्थानों पर, कार्यस्थलों में और परिवहन के दौरान, फेस कवर (मास्‍क)  पहनना अनिवार्य होगा। फिजिकल डिस्टेंसिंग- व्यक्तियों को सार्वजनिक स्थानों पर कम से कम 6 फीट (2 गज़) की दूरी बनाए रखनी चाहिए। सभी दुकानें, ग्राहकों के बीच शारीरिक दूरी सुनिश्चित करेंगी और एक समय में 5 से अधिक व्यक्तियों को दुकान मे प्रवेश की अनुमति नहीं देंगी। सार्वजनिक सभाएँ – बड़ी सार्वजनिक सभाएँ प्रतिबंधित
रहेंगी। विवाह संबंधी समारोह में मेहमानों की संख्या 50 से अधिक नहीं। अंतिम संस्कार संबंधित समारोह में व्यक्तियों की संख्या 20 से अधिक नहीं। सार्वजनिक स्‍थानों पर थूकना दंडनीय होगा। सार्वजनिक स्थानों पर शराब, पान, गुटका, तंबाकू आदि का सेवन वर्जित है।
अति जोखिम वाले व्यक्तियों का संरक्षण- श्री चौहान ने कहा कि 65 वर्ष से अधिक आयु के व्यक्तियों, सह-रुग्णता वाले व्यक्तियों, गर्भवती महिलाओं और 10 वर्ष से कम उम्र के बच्चों को आवश्यक एवँ स्वास्थ्य कारण को छोड़कर, घर पर रहना होगा।
मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा की गई प्रमुख घोषणाएँ प्रवासी मजदूरों के कल्याण के लिए प्रवासी मजदूर कमीशन बनाया जाएगा। हर प्रवासी मजदूर का कार्य के लिए बाहर जाने से पहले कलेक्टर के पास रजिस्ट्रेशन कराया जाएगा, जिससे वह जहाँ भी जाए उसका ध्यान रखा जा सके। महिला स्व-सहायता समूहों के लिए कम ब्याज पर ऋण दिलाने की योजना प्रारंभ की जाएगी। छोटे व्यवसायियों को बैंकों को माध्यम से 10 हजार तक का ऋण बिना गारंटी के दिलवाया जाएगा, जिसमें 07 प्रतिशत ब्याज सरकार देगी। चने में 02 प्रतिशत तक तिवड़ा होने पर उसकी समर्थन मूल्य पर खरीदी की जा सकेगी। किसानों को गत वर्ष का फसल ऋण चुकाने की तिथि 31 मई के स्थान पर अब 30 जून होगी। शहरी क्षेत्रों के विकास के लिए 330 करोड़ रूपए की राशि तथा स्मार्ट सिटी योजना में 500 करोड़ की राशि जारी की जाएगी। आत्मनिर्भर मध्यप्रदेश की योजना तैयार कर शीघ्र ड्राफ्ट प्रस्तुत किया जाएगा। बिजली बिलों में विभिन्न प्रकार की रियायतें दी जायेंगी। (दूसरे चार्ट में विस्तृत विवरण)
बिजली के बिलों में दी जाने वाली रियायतें-   लॉकडाउन के कारण पिछले 02 माह से हमारे व्यापारी भाइयों के व्यवसाय और उद्योगों में कार्य बंद थे। एक तरफ आय के स्त्रोत कम हो गए,किन्तु दूसरी ओर फिक्स खर्चे तो यथावत रहे। इनमे जनमानस में सबसे अधिक चिंता बिजली के फिक्स चार्जेस को लेकर थी। आपकी इस बड़ी कठिनाई को कम करने के लिए सरकार ने बड़ा कदम उठाया है। सरकार ने निर्णय लिया है कि अब सभी गैर-घरेलू, गैर-औद्योगिकी, निम्‍न दाव एवं उच्‍च दाव औद्योगिक उपभोक्ताओं   जैसे- दुकानें, शोरूम, अस्पताल, रेस्टोरेंट, मैरिज गार्डन, पार्लर, एमएसएमई और बड़े उद्योग  आदि के माह अप्रैल से जून, 2020 तक के बिजली बिलों के फ़िक्स  चार्जेस की वसूली स्थगित कर दी गई है। यह राशि अक्‍टूबर 2020 मार्च 2021  के मध्य  06 समान किश्तों में बिना ब्याज के जमा की जा सकेगी। इससे लगभग 12 लाख छोटे उद्यमियों दुकानदारों छोटे व्‍यवसायियों की लगभग 700 करोड़ रुपये की राशि आगामी महीनों में ली जाएगी।

 

एडीएम ने किया कुष्ठ उन्मूलन पर नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत करने वाले छात्रों को सम्मानित

एएसपी समीर यादव ने कहा छात्रों की योजनाओं के प्रचार-प्रसार में भी अग्रणी भूमिका
सीहोर | 18-फरवरी-2020
          30 जनवरी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के पुण्यतिथि से स्पर्श कुष्ठ उन्मूलन अभियान प्रारंभ किया गया था जिसके समापन अवसर पर चंद्रशेखर आजाद स्नातकोत्तर महाविद्यालय के छात्र-छात्राओं द्वारा नुक्कड़ नाटक प्रस्तुत कर किया गया था जिसके प्रतिभागी छात्रों को समारोह पूर्वक आयोजन में अपर कलेक्टर श्री विनोद कुमार चतुर्वेदी एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री समीर यादव द्वारा प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया। उत्कृष्ट विद्यालय में आयोजित समारोह में मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ प्रभाकर तिवारी, जिला कुष्ठ उन्मूलन अधिकारी श्रीमती क्षमा बर्वे, विद्यालय के प्राचार्य श्री रवीन्द्र बांगरे सहित अन्य विभागीय अधिकारी उपस्थित थे।
जिला कुष्ठ उन्मूलन अधिकारी श्रीमती क्षमा बर्वे ने जानकारी दी कि 30 जनवरी 2020 को कुष्ठ रोग उन्मूलन पखवाडे़ का आयोजन राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की पुण्यतिथि के अवसर पर प्रारंभ  किया गया था। उल्लेखनीय है कि इस अभियान को कुष्ठ के विरूद्ध युद्ध के तौर पर संचालित किया गया था। पीजी कालेज के छात्रों ने कुष्ठ उन्मूलन अभियान पर नुक्कड़ नाटक की शानदान प्रस्तुत देकर सभी का मन मोह लिया था। छात्रों ने नुक्कड़ नाटक का संदेश दिया कि कुष्ठ रोग के रोगाणु वायु मण्डल से हमारे शरीर में प्रवेष करते हैं। चमडी पर चमडी के रंग से फीका पीला या समतल या उभरा हुआ दाग धब्बा जिसमें सुन्नपन हो कुष्ठ हो सकता है। नाटक में बाबाओं के चक्कर में ना पड़कर चिकित्सक को तुरंत दिखाने की सलाह भी दी गई। इस अवसर पर बडी संख्या में अध्ययनरत छात्र छात्राएं उपस्थित थे। नाटक के कुशल मंचन के लिए में छात्र विनोद भिलाला, भारत मीना, शीतल दांगी, रानी सूर्यवंशी, विजेन्द्र मालवीय, इरशाद खान, कोमल, शिवानी, हिमांशु धुर्वे, सचिन मालवीय, सूरज विश्वकर्मा ने हिस्सा लिया था जिन्हें प्रशस्ति पत्र प्रदान कर सम्मानित किया गया।

निःशुल्क मेगा चिकित्सा शिविर 12 फरवरी को

सीहोर | 11-फरवरी-2020
 आयुष विभाग द्वारा भारत सरकार की राष्ट्रीय आयुष मिशन योजनांतर्गत कलेक्टर श्री अजय गुप्ता के निर्देशानुसार औषधि प्रसंस्करण केन्द्र रेहटी में 12 फरवरी को निःशुल्क मेगा चिकित्सा शिविर का आयोजन किया जा रहा है। शिविर में आयुर्वेद, यूनानी एवं होम्योपैथिक चिकित्सकों द्वारा जन सामान्य का स्वास्थ्य परीक्षण किया जाएगा तथा उपलब्ध औषधियों का निःशुल्क वितरण किया जाएगा। जिला आयुष अधिकारी जिला सीहोर द्वारा नगर एवं आस-पास के ग्रामवासियों से अपील की है कि वे चिकित्सा शिविर का लाभ उठाये।

महाविद्यालय में केरियर अवसर मेले को लेकर बैठक 31 जनवरी को

सीहोर | 28-जनवरी-2020

   चन्द्रशेखर आजाद शासकीय स्नातकोत्तर अग्रणी महाविद्यालय प्राचार्य डॉ. आशा गुप्ता ने जानकारी देते हुए बताया कि महाविद्यालय में केरियर मेले के आयोजन को लेकर 31 जनवरी को दोपहर 1:30 बजे महाविद्यालय में बैठक आयोजित की जाएगी। बैठक की अध्यक्षता कलेक्टर श्री अजय गुप्ता करेंगे।

फिट इंडिया मूवमेंट अन्तर्गत निकाली सायकल रैली

सीहोर | 21-जनवरी-2020

नेहरु युवा केन्द्र की जिला युवा समन्वयक निक्की राठौर ने जानकारी देते हुए बताया कि भारत सरकार युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्रालय द्वारा फिट इंडिया मूवमेंट अन्तर्गत गत दिवस नेहरु युवा केन्द्र संगठन के तत्वाधन में साईकिल रैली निकाली गई। साईकिल रैली को अनुविभागीय अधिकारी श्री आदित्य जैन ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। साईकिल रैली का मुख्य उद्देश्य लोगों को स्वास्थ्य के प्रति जागरुकता लाना है। साईकिल रैली शासकीय आवासीय खेलकूद संस्था से प्रारंभ हुई जो बस स्टैंड, गंगा आश्रम, अस्पताल चौराहा होते हुए चर्च ग्राउंड पर समापन किया गया। रैली के दौरान लोगों को स्वस्थ्य रहने के लिए जागरुक किया गया।

सीहोर क्रांति का गौरवमयी इतिहास (विशेष लेख)

14 जनवरी 1858 को हुआ कत्लेआम, ह्ययूरोज ने मारे थे 356 क्रांतिकारी
सीहोर | 14-जनवरी-2020

     8 जनवरी 1858 को जनरल रोज की विशाल फौज मुम्बई के रास्ते सीहोर पहुंची। जनरल रोज की सैना ने यहां क्रांतिकारियों को पकड़कर गिरफ्तार कर लिया। उनसे माफी मांगने को कहा गया, लेकिन क्रांतिकारियों ने माफी मांगने से इंकार कर दिया। अंतत: 14 जनवरी 1858 को सैकड़ो क्रांतिकारियों को सैकड़ाखेड़ी स्थित चॉदमारी के मैदान पर एकत्र कर गोलियों से भून दिया गया। अनेक किताबों और भोपाल स्टेट गजेटियर के  पृष्ठ क्रमांक 122 के अनुसार इन शहीदों की संख्या 356 से अधिक थी।

13 जून को बगावती चपातियाँ सीहोर आईं थीं

भारत मे बाहरी सत्ता के विरुद्ध मई 1857 में जो सशस्त्र बगावत हुई थी उसने उत्तर भारत को भी चपेट ले लिया था। बगावत की चिंगारी मालवा व ग्वालियर में पहुँची थी। मालवा क्षेत्र में संगठित बगावत शुरु होने के लगभग 6 माह पूर्व से ही सीहोर भोपाल रियासत में बगावत की तैयारी होने लगी थी। 13 जून 1857 के आसपास सीहोर के कुछ देहाती क्षेत्रों में भी बगावती चपातियां पहुंची थीं। इस क्षेत्र में ये चपातियाँ एक गांव से दूसरे गांव भेजी जाती थी, जो इस बात की परिचायक समझी जाती थीं कि इन देहातों के रहने वाले बग़ावत से सहमत हैं। सीहोर के देहाती क्षेत्रों में इन चपातियों के पहुंचने से ये नतीजा निकलता है कि यहां रहने वाले बहुत पहले से अंग्रेजी राज को समाप्त करने की तैयारी में जुटे थे। (स्त्रोत हयाते सिकन्दरी नवाब सुल्तान जहाँ बेगम)

बच्चों के साथ करें मैत्रीपूर्ण व्यवहार- श्री राजवर्धन गुप्ता

सीहोर | 07-जनवरी-2020

बच्चों से मैत्रीपूर्ण व्यवहार एवं संरक्षण के सम्बंध में शासकीय मॉडल स्कूल सैकडाखेडी रोड सीहोर में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। जिसमें जिला एवं सत्र न्यायाधीश व अध्यक्ष श्री राजवर्धन गुप्ता, अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री एसके नागौत्रा सीहोरए प्रशिक्षित न्यायाधीश कु. तनु गर्ग, कु.शालिनी मिक्षा प्रशिक्षित न्यायाधीश एंव अन्य स्कूल स्टॉफ व छात्र-छात्राएं लगभग 90 व्यक्ति उपस्थित थे। साक्षरता शिविर में जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्री गुप्ता द्वारा उपस्थित 90 छात्र-छात्राओं को उनके अधिकार व कर्तव्य, पाक्सो एक्ट, बच्चों के साथ करें मैत्रीपूर्ण व्यवहार एंव कानून के समस्त पहलुओं के बारे में बताया गया व श्री शैलेन्द्र कुमार नागौत्रा द्वारा छात्राओं को खेल कूद मे रूचि लेने हेतु सालसा एंव नालसा की समस्त संचालित योजनाओं के बारे में एंव भारतीय दण्ड संहिता की विभिन्न धाराओं के बारे मे एंव बच्चों के साथ मैत्रीपर्ण व्यवहार के बारे विस्तृत रूप से समझाया गया एवं भारत देश को  अपराध मुक्त भारत बनाने एंव अपराध से बचने के लिए छात्र.छात्राओं को अपराध से दूर रहने के बारे में कहा गया एंव कु. तनु गर्ग एंव कु. शालिनी मिश्रा प्रशिक्षित न्यायाधीशों ने भी बच्चों के साथ मैत्रीपूर्ण व्यवहार करने एंव कानून के बारे में विस्तृत रूप से बताया गया। साथ ही छात्राओं को अपराध से दूर रहने एंव नैतिक शिक्षा के बारे में अच्छे नागरिक बनने हेतु प्रेरित किया गया। शिविर में प्राचार्य द्वारा अधिकारीगणों का आभार व्यक्त किया गया।

राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान पर कार्ययोजना का प्रशिक्षण संपन्न

19 जनवरी से शुरु होगा पल्स पोलियो अभियान
सीहोर | 28-दिसम्बर-2019

राष्ट्रीय पल्स पोलियो अभियान पर सूक्ष्म कार्ययोजना का प्रशिक्षण वैक्सीन स्टोर सभाकक्ष में संपन्न हुआ। प्रशिक्षण में 19 जनवरी से 21 जनवरी तक संचालित होने वाले पल्स पोलियो अभियान की सूक्ष्म कार्ययोजना पर विस्तार से जानकारी विश्व स्वास्थ्य संगठन के एसएमओ डॉ. एसएम जोशी द्वारा दी गई।
प्रशिक्षण का शुभारंभ मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ प्रभाकर तिवारी द्वारा किया गया। उन्होंने प्रशिक्षण में उपस्थित जिला टीकाकरण अधिकारी, जिला स्वास्थ्य अधिकारी, डीपीएम, सेक्टर एमओ, समस्त बीएमओ, बीईई, बीसीएम, सुपरवाईजर्स, बीपीएम से कहा कि वे पल्स पोलियो का निर्धारित लक्ष्य संचालित अभियान के दौरान पूरा करें तथा सूक्ष्म कार्ययोजना बनाकर दल गठित करें जिससे प्रथम दिन बूथ स्तर पर तथा शेष दोनो दिवस घर-घर जाकर पल्स पोलियो की खुराक का लाभ लेने से कोई भी बच्चा छूट न पाए। ईंट-भट्टों तथा थ्रेसर मशीनों वाली साईट एवं मैदानी क्षेत्रों में अस्थाई रूप से निवासरत लोगों के लिए विशेष कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए गए।

ग्रामीण विकास विभाग की टीम द्वारा किया जा रहा है जिले का भ्रमण

सीहोर | 17-दिसम्बर-2019

 ग्रामीण विकास विभाग भारत सरकार द्वारा स्पेशल मॉनिटरिंग हेतु नेशनल लेवल मॉनिटर का जिले में छह दिवसीय भ्रमण किया जा रहा है जिसमें जीपीडीपी अंतर्गत वर्ष 2020-21 हेतु तैयार की गई योजना का अवलोकन किया जाएगा इस हेतु इछावर, नसरुल्लागंज एवं बुधनी विकासखंड की ग्राम पंचायतों में भ्रमण किया जाएगा।  

अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति प्रकरणों में आवेदन करने की अंतिम तिथि 15 नवंबर

सीहोर | 25-अक्तूबर-2019

अल्पसंख्यक प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति योजना अन्तर्गत नवीन एवं नवीनीकरण छात्रवृत्ति प्रकरणों के लिये विद्यार्थियों द्वारा ऑन-लाईन आवेदन भरने की अंतिम तिथि 31 अक्टूबर तक बढ़ाई गई हैं। शैक्षणिक संस्थाओं द्वारा विद्यार्थियों से प्राप्त ऑन-लाईन आवेदनों को अगले चरण हेतु ऑन-लाईन अग्रेषित करने 15 नवम्बर की तिथि निर्धारित की गई हैं। समस्त शासकीय/अशासकीय शिक्षण संस्थाओं से अल्पसंख्यक वर्ग के विद्यार्थियों के प्री-मैट्रिक छात्रवृत्ति आवेदनों की समयावधि में प्राप्त कर अग्रेषित करने की कार्यवाही करने एवं इस संबंध में अल्पसंख्यक वर्ग के विद्यार्थियों को भी अवगत कराने के लिये कहा गया है।

समय सीमा बैठक में कलेक्टर ने दिए निर्देश

सीहोर | 22-अक्तूबर-2019

कलेक्टर श्री अजय गुप्ता की अध्यक्षता में सोमवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में समय सीमा बैठक संपन्न हुई। बैठक में कलेक्टर ने सभी विभाग प्रमुखों को आगामी त्यौहारों के संबंध में आवश्यक निर्देश दिए। साथ ही उन्होंने दीपावली के दूसरे दिन इछावर के देवपुरा में लगने वाले बारहखंबा मेले की व्यवस्थाओं के संबंध में संबंधित अधिकारियों को निर्देशित किया कि मेले के दौरान वाहन पार्किंग, विद्युत व्यवस्था सहित सभी तैयारियां समय से पूर्व कर ली जाएं साथ ही राजस्व अधिकारियों को निर्देश दिए कि कोतवालों को मंदिर परिसर में तैनात किया जाए।
कलेक्टर ने अनुविभागीय अधिकारी सीहोर को निर्देशित किया कि किसानों की ऋण माफी की सूची तैयार कर जल्दी ही कलेक्टर कार्यालय को प्रस्तुत की करें। उन्होंने संबंधितों को निर्देश दिए कि पीडीएस दुकान विहीन पंचायतों में नवीन दुकान खोले जाने की ऑनलाईन प्रक्रिया शीघ्र पूर्ण कर ली जाएं।
कलेक्‍टर ने अनुविभागीय अधिकारी इछावर को निर्देशित किया कि पुन: अति वर्षा से फसलों को हुए नुकसान की समीक्षा करें। उन्होंने कहा कि इस संबंध में जांच कर जल्द ही अवगत कराएं। कलेक्टर ने खनिज अधिकारी को निर्देश दिए कि बंद खदानों में पौधारोपण या ट्री गार्ड लगवाएं जिससे जनहानि की स्थिति निर्मित न हो तथा पौधारोपण से पर्यावरण को भी लाभ पहुंचाया जा सके।
बैठक में मुख्य कार्यक्रपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अरुण कुमार विश्वकर्मा, अपर कलेक्टर श्री विनोद कुमार चतुर्वेदी सहित समस्त विभाग प्रमुख उपस्थित थे।

50 माईक्रोन से पतली पॉलीथिन के उपयोग पर प्रतिबंधित कार्यवाही करें

सीहोर | 15-अक्तूबर-2019

प्रमुख सचिव नगरीय विकास एवं आवास ने सभी कलेक्टर और मुख्य नगर पालिका अधिकारियों को निर्देशित किया है कि सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग को कम करने के लिए जागरूकता अभियान चलाकर आमजन में इसके उपयोग को कम करने के लिए प्रेरित करें। उन्होंने कहा है कि अपशिष्ट प्लास्टिक नियम-2016 के नियम के अंतर्गत 50 माईक्रोन से पतली पॉलीथिन के विरूद्ध प्रतिबंधित कार्यवाही के प्रावधान है। प्रमुख सचिव ने तदनुसार कार्यवाही के निर्देश दिये हैं।
प्रमुख सचिव ने कहा है कि कुछ नगरीय निकायों में सिंगल यूज डिस्पोजल सामग्री एवं सभी प्रकार के 50 माईक्रोन से अधिक मोटी प्लास्टिक के विक्रेताओं एवं उत्पादकों के विरूद्ध दण्डात्मक कार्यवाही की जा रही है, जो अनुचित है। उन्होंने कहा है कि प्लास्टिक अपशिष्ट के विरूद्ध जन-जागरूकता के माध्यम से इसके उपयोग को कम करना ही अभियान का मुख्य उद्देश्य है।

“स्वच्छता ही सेवा” कार्यक्रम अंतर्गत स्वच्छता जागरूगता रथ का शुभारंभ स्वच्छता रथ को सीईओ जिला पंचायत ने हरी झंडी दिखाकर किया रवाना

सीहोर |01 अक्टूबर -2019

स्वच्छता ही सेवा कार्यक्रम अंतर्गत आईटीसी मिशन सुनहरा कल विभावरी संस्था के स्वच्छता जागरूकता रथ को कलेक्ट्रेट परिसर में मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत सीहोर श्री अरूण कुमार विश्वकर्मा द्वारा हरी झंडी दिखाकर रवाना किया गया। कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य ग्रामीणों को प्लास्टिक के दुष्प्रभाव के बारे में एवं स्वच्छता के महत्वपूर्ण विषयों पर जागरूकता संदेश जन-जन तक पहुंचाने के लिए ध्वनि यंत्र एवं चित्रों के माध्यम से स्वच्छता रथ द्वारा सीहोर जिले के 70 ग्रामों में दिनांक 30 सितंबर से 02 अक्टूबर तक चलेगा। जोकि महात्मा गांधी जी की 150 वी जयंती के अवसर पर स्वच्छ भारत अभियान में ग्रामीणों में जागरूकता फेलायगा।

जिला पंचायत सामान्य सभा की बैठक संपन्न

सीहोर | 24-सितम्बर-2019

सोमवार को जिला पंचायत की सामान्य सभा की बैठक जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला मरेठा एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अरूण कुमार विष्वकर्मा की उपस्थिति में संपन्न हुई। बैठक में कृषि विभाग, विद्युत विभाग, स्वास्थ्य विभाग, लोकस्वास्थ्य यांत्रिकी विभाग तथा प्रधानमंत्री ग्रामीण सडक योजना की ऐजण्डा अनुसार समीक्षा की गई।
बैठक के दौरान अध्यक्ष श्रीमति मरेठा द्वारा कृषि विभाग के अधिकारियों को आगामी रवी फसल हेतु उर्वरकों की उपलव्धता सुनिष्चित करने हेतु निर्देशित किया गया तथा ग्राम पंचायत स्तर पर पदस्थ अमले की ग्राम पंचायत मुख्यालय पर नियमित उपस्थिती सुनिश्चत करने के निर्देश दिए गये तथा सीएमएचओं को मुख्यालय पर निवास न करने वाली समस्त एएनएम के विरूद्व कार्यवाही करने के निर्देश दिए। मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत द्वारा मुख्य चिकित्सा अधिकारी को बीमारियों की रोकथाम हेतु आवष्यक सभी उपाय करने के निर्देश दिए गये।
जिला परिषद सदस्य श्री अंबाराम मालवीय द्वारा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थय अधिकारी को जिला चिकित्सालय में रात्री कालीन एंबूलेंस व्यवस्था को दुरस्त रखने हेतु आग्रह किया गया। बैठक में कार्यपालन यंत्री लोकस्वास्थ्य यांत्रिकी द्वारा बताया गया कि मुख्य मंत्री नल जल योजना अंतगर्त वर्ष 18-19 मे जिले को 16 प्रोजेक्ट की स्वीकृति प्राप्त हुई था जिसमें से 10 कार्य प्रारंभ किये जा चुके है जबकि शेष 06 का कार्य बरसात के बाद प्रारंभ होगा। उनके द्वारा बर्ष 19 -20 में प्रस्तावित नई 16 नल जल योजनाओं को भी सदन में विचारार्थ प्रस्तुत किया गया।
मुख्यकार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत द्वारा प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के प्रभारी अधिकारी को बारिश के कारण खराव हुई समस्त सड़कों का सर्वे करा कर प्रतिवेदन पस्तुत करने हेतु निर्देशित किया। बैठक में जिला पंचायत सदस्य श्री लक्ष्मीनारायण वर्मा द्वारा प्रस्ताव रखा गया कि सदस्यों के विकल्प की गत वर्षो की राषि जो लेप्स हो गयी है उसे पुनः प्रदान करने हेतु शासन को प्रस्ताव प्रेषित किया जाये। श्री वर्मा के प्रस्ताव को सभी सदस्यों द्वारा सहर्ष सर्वसम्मिती से पारित किया गया।

तहसीलदार आर.एल.बागरी को सौंपा रेहटी तहसील का पदभार

सीहोर | 17-सितम्बर-2019

कलेक्टर श्री अजय गुप्ता द्वारा प्रशासनिक कार्यसुविधा की दृष्टि से जिले में स्थानांतरित होकर आए तहसीलदार आर.एल.बागरी को आगामी आदेश तक रेहटी तहसीलदार के पद पर पदस्थ किया गया है एवं तहसीलदार बुदनी श्री अजय प्रताप पटेल तहसीलदार रेहटी अतिरिक्त प्रभार मुक्त कर दिया गया है। यह आदेश तत्काल प्रभावशील है।

मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना से बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार

सीहोर | 06-सितम्बर-2019

अनुसूचित जाति वर्ग के बेरोजगार युवक-युवतियां को मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना के तहत स्वरोजगार स्थापना के लिए बैंकों के माध्यम से 50 हजार रूपए तक का ऋण उपलब्ध कराया जा रहा है। इस योजना के तहत मध्यप्रदेश शासन द्वारा योजना लागत की स्वीकृत इकाई पर 50 प्रतिशत या अधिकतम 15 हजार रूपए तक का अनुदान दिया जाता है। मुख्यमंत्री आर्थिक कल्याण योजना का लाभ लेने के लिए अनुसूचित जाति वर्ग के आवेदक की आयु 18 से 55 वर्ष के मध्य होना चाहिए तथा जिले का मूल निवासी होना चाहिए।

स्वच्छता सर्वेक्षण के तहत गांव में कराया जाएगा सर्वें

सीहोर | 31-अगस्त-2019

शहर और नगरीय निकायों की तर्ज पर गांवो को स्वच्छता में नंबर वन पर लाने शासन-प्रशासन द्वारा खास मुहिम शुरू की गई है। अब गांवो को भी स्वच्छता का खिताब मिलेगा स्वच्छता सर्वेक्षण ग्रामीण 2019 के तहत गांव में सर्वे कराया जाएगा। देश व्यापी स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण-2019 30 सितम्बर-2019 तक यह अभियान के रूप में चलेगा। जिसमें जिले के चुनिंदा ग्रामों में सर्वेक्षण दल द्वारा ग्रामीण स्वच्छता स्थिति का सीधा आंकलन होगा। गांव वाकई में स्वचछ हे या नही, कचरे व दूषित पानी का निपटान सही तरीके से हो रहा है कि नही यह अब ग्रामीण समुदाय अर्थात वहां की जनता तय करेगी।
ग्रामीणों द्वारा दिए जाने वाले अभिमत के आधार पर ही यह रैकिंग तय होगी। स्वच्छता की अलख जगाने तीन कैटेगरी मे फीडबैक लिया जाना जिले में शुरू कर दिया गया है। इस अभियान के तहत 2011 की जनसंख्या के आधार पर ग्रामीण क्षेत्र के 5 प्रतिशत लोगो का फीडबैंक लिया जा रहा है।
स्वच्छता की परीक्षा में पास होने के लिए 100 नबंर में से ग्राम, जनपद व जिला पंचायतों को 35 अंक सिटीजन फीडबैक से जुटाने होंगे। ग्रामीणो से यह फीडबैक से जुटाने होंगे। ग्रामीणों से यह फीडबैक लिया जा रहा है कि स्वच्छता सर्वेक्षण के बारे में जागरूकता क्या स्वच्छ भारत मिशन के तहत आपके गांवों में स्वच्छता में सुधार आया, कूडा कचरे का सुरक्षित निपटान के लिए गांव में कोई व्यवस्था है, बेकार पानी के सुरक्षित निपटान के लिए व्यवस्था है या नही, यह जानकारी आनलाईन जुटाई जा रही है।
आनलाइन फीडबैक गूगल प्ले स्टोर पर एसएसजी 2019 ऐप इंस्टाल कर तथा टोल फ्री नम्बर 18005720112 पर भी प्रतिक्रिया दर्ज की जा सकती है। जिले में लगभग 20 ग्रामों का रेण्डमली सर्वेक्षण होगा तथा लगभग 46236 लोगों से फीडबैक लेने का लक्ष्य तय किया गया है तथा इस अभियान में विद्यालय, आंगनबाडी, स्वास्थ्य केन्द्र, हाट बाजार धार्मिक स्थल, मंदिर, मस्जिद चर्च और गुरूद्वारा शामिल किए गए है।
इस अभियान के तहत स्वचछता के हकीकत को जानने के लिए तीन घटकों को शामिल किया गया है। विभागों द्वारा स्वच्छता के प्रति चलाई जा रही सेवाओं व लक्ष्यों के आधार पर 35 प्रतिशत अंक मिलेगें और 30 अंक प्रत्यक्ष अवलोकन के मिलेगे जिसे भारत सरकार से नामांकित एजेंसी के माध्यम से उनकी स्वच्छता टीम तय करेगी। जिले की स्वच्छता रैकिंग धारणीय बनाये जाने के लिए कलेक्टर श्री अजय गुप्ता व मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अरूण कुमार विश्वकर्मा सभी जिला अधिकारियों को स्वच्छ सर्वेक्षण ग्रामीण के उददेश्य अनुसार प्रभावी क्रियान्वयन के लिए निर्देश दिए गए है। इस मुहिम में खासकर स्कूल शिक्षा विभाग स्वास्थ्य विभाग पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग लोक स्वास्थ्य विभाग, पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग, लोक स्वास्थ्य एवं यांत्रिकी विभाग मलेरिया उन्मुलन ईकाई इत्यादि को मैदानी स्तर पर सर्वेक्षण के मापदण्ड पूर्ति हेतु अवगत कराया गया है।
इस अभियान मे हर गांव कस्बा तभी स्वच्छता में खरे माने जांएगें जब अंक तालिका मे पास होगे। इसमें शौचालय की उपलब्धता शौचालय के उपयोग पर 5.5 अंक सार्वजनिक स्थलों पर प्लास्टिक, कूडे के सुरक्षित निपटान की स्थिति में 10 अंक सार्वजनिक स्थलों पर जमा दूषित पानी के सुरक्षित निपटान की स्थिति में 10 अंक व 35 अंक अभिमत के शामिल किए गए है। इसमें ग्राम सभा और सामुहिक चर्चा के 20 अंक आनलाइन के तहित प्रक्रिया के 5 व व्यक्ति गत सक्षात्कार के 10 अंक शामिल किए गए है।
स्वच्छ भारत मिशन के व्यापक प्रचार-प्रसार को दृष्टिगत करते हुए मप्र शासन द्वारा जारी जिन निर्देशो के अनुपालन में ‘‘लोक चित्र से स्वच्छता संवाद अभियान अगस्त 2019 से 2 अक्टूबर 2019 तक विशेष अभियान के तौर पर स्वचछता की निरंतरता के लिए जन जा्गरूकता हेतु स्थानीय लोक शैली को स्वच्छता आधारित दीवाल पेंटिंग प्रत्येक ग्राम में चित्रात्मक संदेश को आमजन तक पहुंचाए जाने हेतु स्व-सहायता समूह में से चित्रकारी में रूचि रखने वाली प्रशिक्षित महिलाओं के माध्यम से किया जाएगा।

शिक्षक संगोष्ठी का आयोजन 24 अगस्त को 

सीहोर | 23-अगस्त-2019

 जिला शिक्षा अधिकारी ने जानकारी देते हुए बताया कि प्रतिवर्ष अनुसार इस वर्ष भी 5 सितंबर को शिक्षक दिवस का आयोजन विद्यालयों एवं जिला स्तर पर किया जाएगा। इसके साथ-साथ जिला स्तर पर शिक्षक संगोष्ठी का आयोजन 24 अगस्त को दोपहर 12 शासकीय आवासीय विद्यालय में होगा। जिला स्तरीय संगोष्ठी का विषय “शैक्षणिक गुणवत्ता के उन्नयन हेतु व्यवहारिक सुझाव” रहेगा जिसमें भाग लेने शिक्षक अपना पंजीयन 22 अगस्त तक अपने संकुल केन्द्र पर कराएंगे।

विश्व आदिवासी दिवस के उपलक्ष्य में जिला स्तरीय कार्यक्रम जिले के वीरपुर डेम स्थित सीनियर बालक छात्रावास में आयोजित होगा 

सीहोर | 09-अगस्त-2019

 शुक्रवार 9 अगस्त को विश्व आदिवासी दिवस मनाया जाएगा। इस उपलक्ष्य में जिला स्तरीय कार्यक्रम का आयोजन सीहोर जिले के वीरपुर डेम स्थित सीनियर बालक छात्रावास प्रांगण में किया जाएगा। जारी दौरा कार्यक्रम अनुसार प्रभारी मंत्री प्रात: 10 बजे भोपाल से कार द्वारा प्रस्थान कर प्रात: 11 बजे सीहोर जिले के वीरपुर डेम पहुंचेंगे। जहां आदिवासी सीनियर छात्रावास में बच्चों एवं स्थानीय निवासियों के साथ आदिवासी दिवस कार्यक्रम में शामिल होंगे। दोपहर 12 बजे प्रभारी मंत्री कार द्वारा वीरपुर डेम से भोपाल के लिए प्रस्थान करेंगे।  कार्यक्रम की व्यवस्था आदिमजाति कल्याण विभाग द्वारा की जाएगी। कार्यक्रम में ऐसे विद्यार्थी जिन्होंने विभिन्न प्रतियोगिताओं में उच्च स्थान प्राप्त किया है, उन्हें पुरस्कृत किया जाएगा।
मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अरुण कुमार विश्वकर्मा द्वारा समस्त विभाग प्रमुखों को निर्देशित किया गया है कि 9 अगस्त को प्रात: 10:30 बजे कार्यक्रम स्थल पर अनिवार्य रूप से उपस्थित होना सुनिश्चत करें।

छात्रवृत्ति पोर्टल के लिये शैक्षणिक संस्थाओं को मिलेगा नया आईडी एवं पासवर्ड 

सीहोर | 30-जुलाई-2019

 पिछड़ा वर्ग तथा अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के सहायक संचालक ने जानकारी देते हुए बताया कि अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति पोर्ट से पूर्व में पजीकृत शैक्षणिक संस्थाओं के ई-मेल आईडी एवं मोबाइल नंबरों को भारत सरकार द्वारा छात्रवृत्ति पोर्टल से निरस्त कर दिया गया है। वर्ष 2019-20 में प्रत्येक शैक्षणिक संस्था को नये सिरे से लॉगिन आईडी एवं पासवर्ड जारी किया जाएगा जिन शैक्षणिक संस्थाओं के पास वैद्य डाईस (DISE Code)/AISHE Code नहीं है उन्हें अल्पसंख्यक पोर्टल से अंपजीकृत किया जाएगा लेकिन शैक्षणिक संस्थाओं द्वारा वद्य डाईस (DISE Code)/AISHE Code प्राप्त करने के पश्चात छात्रवृत्ति पोर्टल पर संस्थाओं को पंजीकरण के लिए प्रावधान किया गया है। वैद्य डाईस (DISE Code)/AISHE Code शैक्षणिक संस्था सं संबंधित विभाग से प्राप्त करने की जिम्मेदारी शैक्षणिक संस्था होगी।
प्रत्येक शैक्षणिक संस्था विद्यालय/महाविद्यालय/विश्व विद्यालय के अधीकृत छात्रवृत्ति नोडल अधिकारी द्वारा अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति पोर्टल पर ऑनलाईन फार्म अपनी संस्था से संबंधित संपूर्ण जानकारी के साथ भरकर उसका प्रिंट दो प्रतियों में निकाला जाकर अपने संस्था प्रमुख से सत्यापित कराकर दोनों प्रतियों को समस्त वांछित दस्तावेजों के साथ सहायक संचालक पिछड़ा वर्ग तथा अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के समक्ष प्रस्तुत करें। जिसे सहायक संचालक द्वारा राज्य नोडल अधिकारी अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति संचालनालय भोपाल भेजा जाएगा, जिसके आधार पर नोडल अधिकारी कार्यालय से संबंधित शैक्षणिक संस्थाओं का लॉगिन आई एवं पासवर्ड अल्पसंख्यक छात्रवृत्ति पोर्टल के माध्यम से जारी किया जा सकेगा।
इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए पिछड़ा वर्ग तथा अल्पसंख्यक कल्याण विभाग के सहायक संचालक से फोन 07562-221345 पर कार्यालयीन समय में संपर्क कर सकते हैं।

प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत खरीफ फसल के लिए बीमा करने की अंतिम तिथि 31 जुलाई

सीहोर | 26-जुलाई-2019
 प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के खरीफ 2019 एवं रबी 2019-20 में क्रियान्वयन के लिए प्रदेश में जिला स्तर पर कलस्टरों में निविदा के अनुसार बीमा कम्पनियों का चयन किया गया है। खरीफ 2019 के लिए किसानों का प्रीमियम काटकर फसल बीमा करने की अंतिम तिथि 31 जुलाई 2019 निर्धारित है। खरीफ फसल के लिए 01 अप्रैल से किसानों के नामांकन आरंभ हो गए हैं। ऋणी किसानों द्वारा बीमाकृत फसल के परिवर्तन की सूचना के लिए कट-ऑफ तारीख 29 जुलाई निर्धारित की गई है। बैंकों, पीएसीएस/सीएससी/बीमा एजेंट/किसानों द्वारा ऑनलाईन नामांकन आदि सहित सभी हितधारकों द्वारा ऋणी एवं अऋणी किसानों के खाते से प्रीमियम काटने तथा किसानों के आवेदन की प्राप्ति के लिए कट-ऑफ तारीख 31 जुलाई निर्धारित की गई है। प्रतिबंधित बुवाई की घोषणा हेतु किसानों के नामांकन के लिए कट-ऑफ तारीख से 15 दिनों के भीतर की तिथि निर्धारित की गई है।