Thursday, November 26News That Matters

हरदा

Share
जिले के शांतीधामो में अब शत-प्रतिशत शवदाह गौ काष्ठ के माध्यम से किया जाएगा
रोगी पशु कल्याण समिति की बैठक हुई आयोजित
हरदा | 20-नवम्बर-2020
    कलेक्टर श्री संजय गुप्ता की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में रोगी पशु कल्याण समिति की बैठक आयोजित की गई। बैठक में पशु पालन विभाग के कार्यो की समीक्षा की गई। कलेक्टर श्री गुप्ता द्वारा बैठक के दौरान निर्देशित किया गया कि जिले में धारा 144 लागू की गई है। कोई भी व्यक्ति गाय अथवा गोवंश सड़क पर अनावश्यक रूप से छोड़ेगा, तो उस पर जुर्माना आरोपित किया जाएगा। कोई भी गाय सड़क पर फालतू विचरण करते न मिले। इस हेतु ग्रामीण क्षेत्र में मुख्य कार्यपालन अधिकारी तथा शहरी क्षेत्र में मुख्य नगरपालिका अधिकारी मॉनिटरिंग करेंगे। पहली बार में ₹500 का फाइन आरोपित किया जाएगा तथा दूसरी बार में ₹1000 का फाइन किया जावेगा। उन्होने निर्देशित किया कि हंडिया क्षेत्र की सड़कों पर विचरण करती गायों को टेमागाव की गौशाला में छुड़वा दिया जाए। गोवंश को गौशाला भिजवाते समय पुलिस विभाग से उचित समन्वय हो। प्रति मंगलवार को अनुविभागीय अधिकारी द्वारा सभी विभागों के साथ बैठक का आयोजन किया जाता है, उसमें पशुपालन विभाग अपने बिंदुओं को रखे जिससे कि अनुभाग स्तर पर ही समस्या का समाधान हो सके। सभी पशु चिकित्सालय को साफ सुथरा रखा जाए।
बैठक में कलेक्टर श्री गुप्ता ने निर्देशित किया कि राष्ट्रीय पशु रोग नियंत्रण कार्यक्रम अंतर्गत टेगिंग और टीकाकरण के लक्ष्य को 30 नवंबर तक पूर्ण किया जाए। उन्होंने निर्देशित किया कि आजीविका मिशन के स्वयं सहायता समूह की महिलाओं के माध्यम से टैगिंग का कार्य पूर्ण कराया जाए।
उन्होंने निर्देशित किया कि उद्यानिकी विभाग को गौशाला से खाद खरीदना अनिवार्य होगा इस हेतु प्रथक से निर्देश जारी किए जाएंगे। जिले के सभी मूर्तिकारों को मुफ्त में गौशाला से गोबर उपलब्ध कराया जाएगा। जिले में शत-प्रतिशत मूर्तियां गौ उत्पाद से बनाई जाएगी। इस हेतु प्रशिक्षण श्री आनंद यादव द्वारा दिया जाएगा। जिले में 100% शवदाह गौ कास्ट से किया जाए, इसके लिए प्लान तैयार किया जाएगा।

कलेक्टर- एसपी ने किया कंटेन्मेंट एरिया का निरीक्षण

हरदा | 17-जुलाई-2020

     कलेक्टर श्री अनुराग वर्मा एवं पुलिस अधीक्षक श्री मनीष कुमार अग्रवाल ने ग्राम रेलवा एवं पलासनेर में बनाए गए कंटेन्मेंट एरिया का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का जायज़ा लिया। उन्होंने स्थानीय अधिकारियों एवं कर्मचारियों को कंटेन्मेंट एरिया में कड़ाई से लॉक डाऊन का पालन करवाने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि कंटेन्मेंट एरिया के निवासियों को आवश्यक वस्तुओं की निर्बाध आपूर्ति करना सुनिश्चित करें।

स्वास्थ्य टीमों द्वारा बफर जोन में किया जा रहा सर्वे कार्य

हरदा | 19-जून-2020

      मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी हरदा डॉ. किशोर कुमार नागवंशी ने बताया कि हरदा शहर के मानपुरा, खेड़ीपुरा एवं श्रीधाम कॉलोनी में बनाए गए कंटेन्मेंट एरिया तथा इनसे लगे बफ़र ज़ोन में स्वास्थ्य टीमों द्वारा लगातार सर्वे कार्य किया जा रहा है। गुरुवार को मानपुरा के बफ़र  जोन मे 4 टीमों के द्वारा सर्वे कार्य किया गया, 59 घरों में 407 व्यक्तियों का सर्वे किया गया।

मानपुरा के  कंटेन्मेंट एरिया मे एक टीम द्वारा फॉलोअप कार्य किया गया जिसमे 51 घरों के 288 व्यक्तियों का फॉलोअप किया गया एवं सभी व्यक्तिओ व सभी को रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने हेतु त्रिकटु काढ़ा दिया गया। ड्यूटी पर तैनात कर्मचारियों को भी त्रिकटु काढ़ा दिया गया। सर्वे के दौरान डॉ शैलेंद्र सिंह राजपूत द्वारा कंटेन्मेन्ट एरिया में कार्यरत सभी विभाग के कर्मचारियों की काउंसलिंग की गई एवं समझाईश दी गई।

एक दिवसीय सेमीनार का हुआ आयोजन

हरदा | 11-फरवरी-2020

    इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय के अंतर्गत 10 फरवरी 2020 को स्वामी विवेकानंद शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय हरदा में एक दिवसीय सेमीनार का आयोजन किया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि डॉ. स्मृति गार्गव, क्षेत्रीय सहायक निर्देशक, इग्नू, अध्यक्ष डॉ. पी.सोनी, इग्नू के समन्वयक एवं प्रशासकीय अधिकारी श्री व्ही.के. विछोतिया, व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ प्रभारी डॉ. दीपिका सेठे द्वारा माँ वीणावादिनि माँ सरस्वती एवं तुलसीदास जी की प्रतिमा पर माल्यार्पण कर एवं दीप प्रज्जवलित कर विधिवत प्रारंभ किया। इस अवसर पर डॉ. दीपिका सेठे ने मध्यप्रदेश शासन उच्च शिक्षा विभाग के व्यक्तित्व विकास प्रकोष्ठ पर प्रकाश डाला, श्री व्ही.के. विछोतिया ने इग्नू द्वारा संचालित पाठ्यक्रमों की जानकारी प्रदान करते हुए कहा कि 298 पाठ्यक्रमों में से 175 पाठ्यक्रमों में एस.सी. एस.टी. के विद्यार्थियों को नि:शुल्क प्रवेश प्रदान किया है। प्रभारी प्राचार्य डॉ. पी.सोनी ने कहा की इग्नू जन-जन का विश्वविद्यालय है एवं इग्नू की स्थापना से जिले की विद्यार्थियों को लाभ प्राप्त होगा। डॉ. मीना राठौर ने इग्नू की प्रवेश प्रक्रिया जी जानकारी दी । मुख्य अतिथि डॉ. गार्गव ने कहा की इग्नू मानव संशाधन विकास मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा संचालित है जिसकी स्थापना सन् 1985 को हुई जिसका मुख्य उद्देश्य विद्यार्थियों का व्यक्तित्व विकास कर रोजगारोन्मुखी पाठ्यक्रम न्यूनतम शुल्क में प्रदान करना है । इग्नू एस.सी. एस.टी. वर्ग के विद्यार्थियों को नि:शुल्क प्रवेश प्रदान करता है, इस दौरान उन्होने विद्यार्थियों के प्रश्नों का जबाव भी दिये । अंत में श्रीमती सविता शुक्ला ने आभार व्यक्त किया तथा संपूर्ण कार्यक्रम का सफल संचालन श्री बसंत सिंह राजपूत ने किया।

कालेज चलो अभियान अंतर्गत शासकीय योजनाओ की जानकारी दी

हरदा | 28-जनवरी-2020

     म.प्र. शासन उच्च शिक्षा विभाग के निर्देशानुसार कॉलेज चलो अभियान के अंतर्गत स्वामी विवेकानंद शासकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय हरदा में प्राचार्य डॉ. प्रभा सोनी के निर्देश पर कॉलेज चलो अभियान के व्यापक प्रचार प्रसार एवं विद्यार्थियों को शासकीय महाविद्यालय के प्रति जागरूक करने हेतु गठित समिति द्वारा नगर के स्वामी विवेकानंद उच्चतर माध्यमिक विद्यालय, एस.एस.जी.बी. विद्यालय, सनफ्लावर उच्चतर विद्यालय, केन्द्रीय विद्यालय हरदा में संपर्क कर सत्र 2020-21 की प्रवेश प्रक्रिया एवं शासन द्वारा संचालित विभिन्न योजनाओं (मुख्यमंत्री मेधावी विद्यार्थी योजना, प्रतिभा किरण योजना, गांव की बेटी योजना, आवास सहायता योजना, पोस्ट मेट्रिक छात्रवृत्ति आदि)की जानकारी प्रदान की। महाविद्यालय में संचालित शासकीय एवं स्ववित्तीय पाठ्यक्रमों की जानकारी दी गई साथ ही महाविद्यालय में उपलब्ध सुविधाऐं – पुस्तकालय ईलायब्रेरी, वर्चुअल कक्षा, एन.एस.एस. एवं कॅरियर मार्गदर्शन योजना की जानकारी प्रदान करते हुए ,पत्रक वितरण किये गये। इस दौरान  कालेज चलो अभियान समिति के डॉ. दीप्ति अग्रवाल, डॉ. शर्मिला मीणा, डॉ. मधुकर इटेवार, श्री हरिहर लभानिया, श्री राजेश दीक्षित, श्री बसंत राजपूत, श्री कन्हैयालाल मालवीय, श्री अंशुल जोशी तथा श्री सावेन्द्र पटेल, आदि उपस्थित रहे।

अपर कलेक्टर ने तीन प्रकरणों में लगाया जुर्माना

अमानक खाद्य पदार्थों के विक्रेताओं पर कार्यवाही
हरदा | 21-दिसम्बर-2019

 खाद्य सुरक्षा अधिकारी जे पी लववंशी द्वारा 07 फरवरी 2019 को अवस्थी कम्पाउंड में स्थित फल विक्रेता प्रतिष्ठान – एमएस फ्रूट्स के निरीक्षण के दौरान केमिकल से फल पकाते हुए पाए जाने पर खाद्य सुरक्षा अधिकारी द्वारा उक्त केमिकल का नमूना लेकर राज्य खाद्य परीक्षण प्रयोगशाला भोपाल भेजा गया था, प्रयोगशाला से जांच उपरांत उक्त केमिकल की पुष्टि कार्बाइड के रूप में की गई, जो कि खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियम के अंतर्गत प्रतिबंधित होना पाया गया था। उक्त प्रकरण में न्याय निर्णायक अधिकारी न्यायालय (अपर कलेक्टर) हरदा द्वारा प्रतिबंधित केमिकल कार्बाइड से फल पकाने पर अवस्थी कम्पाउंड में स्थित उक्त फर्म पर 25 हजार रुपये का अर्थदण्ड आरोपित किया।
खाद्य सुरक्षा अधिकारी द्वारा 05 अप्रैल 02019 को खिरकिया स्थित खाद्य प्रतिष्ठान काबरा कम्पनी से चटपटे जीरा मंचीस का नमूना जांच हेतु लिया गया था, जो जांच उपरांत लेबल अनुसार मिथ्याछाप पाया गया, उक्त प्रकरण में एडीएम न्यायालय द्वारा निर्णय सुनाते हुए रिटेलर, थोक विक्रेता और निर्माता पर कुल 50 हजार रुपये का अर्थदण्ड आरोपित किया।
इसी प्रकार खाद्य सुरक्षा अधिकारी द्वारा 24 जून 2019 को टिमरनी स्थित जायसवाल ढाबा से फैट स्प्रेड का नमूना जांच हेतु लिया गया था, जो जांच उपरांत मिथ्याछाप पाया गया, उक्त प्रकरण में एडीएम न्यायालय द्वारा विक्रेता, थोक विक्रेता और निर्माता पर 30 हजार रुपये का अर्थदण्ड पारित किया गया।

दिव्यांग स्पेशल स्कूल का निरीक्षण किया

हरदा | 18-अक्तूबर-2019

आरीओला प्रकाश पुंज समिति द्वारा कूकबधिर एवं दृष्टि बाधित बच्चों हेतु संचालित स्पेशल स्कू‍ल का निरीक्षण कमलेश सिंह उप संचालक सामाजिक न्यारय निशक्तजन कल्याण विभाग द्वारा किया गया। साथ में सामाजिक न्याय भाग से संकेत श्रीवास्ताव भी निरीक्षण में उपस्थि‍त रहे। उन्होंदने संस्था की व्य्वस्थाय देखी तथा संस्था् में अध्‍ययन बच्चों से साइन लेंग्वेज (सांकेतिक भाषा) में बात की। उप संचालक कमलेश सिंह द्वारा बच्चों की प्रगति देख कर कहा गया कि विभाग द्वारा हर संभव सहायता प्रदान की जावेगी। समिति सचिव अंजू खान एवं अध्य क्ष बलवीर सिंह राजपूत उपस्थित रहे।

खाद्य प्रतिष्ठानों का निरीक्षण कर नमूने लिये

हरदा | 11-अक्तूबर-2019

जिला खाद्य एवं औषधि प्रशासन की टीम द्वारा आज 10 अक्टूबर 19 को पुरानी सब्जी मंडी स्थित खाद्य प्रतिष्ठान बजरंग लख्मी चंद अग्रवाल किराना का निरीक्षण कर गुणवत्ता तथा शुद्धता की जांच हेतु आम के अचार का नमूना लिया गया। तत्पश्चात टीम द्वारा शर्मा कालोनी स्थित पुंगा निर्माता फैक्टरी उमा गृह उद्योग का निरीक्षण कर साफ सफाई, रॉ मटेरियल, खाद्य लायसेंस आदि की जांच की गई तथा खाद्य पदार्थ के निर्माण में प्रयुक्त फ़ूड कलर का नमूना जांच हेतु लिया गया।
आयुक्त खाद्य सुरक्षा भोपाल के निर्देशानुसार रिलायंस मॉल को नोटिस जारी कर निर्देशित किया गया कि ऐसे खाद्य पदार्थ जिनमे बेस्ट बिफोर तिथि निकलने वाली है, ऐसे खाद्य पदार्थो का विक्रय करने से पहले इस आशय का डिस्प्ले बोर्ड लगाना है साथ ही खाद्य पदार्थो से संबंधित शिकायत हेतु उपभोक्ताओं के लिए शिकायत पेटी / शिकायत रजिस्टर का संधारण करना अति आवश्यक है। विभाग द्वारा शुद्ध के लिए युद्ध अभियान के अंतर्गत लगातार जिले भर में कार्यवाही की जा रही हैं।

स्वास्थ्य संस्थाओं, शालाओं और राशन दुकानों पर विशेष ध्यान दें कलेक्टर्स

हरदा | 05-अक्तूबर-2019

मुख्य सचिव श्री एस.आर. मोहंती ने कहा है कि प्रदेश में शासकीय स्वास्थ्य संस्थाओं, शालाओं तथा सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अन्तर्गत दुकानों का संचालन सुव्यवस्थित और निर्धारित समयानुसार हो। तीनों संस्थाएँ जन-सामान्य के जीवन से संबंधित हैं। इसलिये इनके जनोन्मुखी और व्यवस्थित संचालन पर जिला कलेक्टर्स लगातार नजर रखें। श्री मोहंती ने गत दिवस वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से संभागायुक्तों, जिला कलेक्टर्स तथा जिला पंचायतों के मुख्य कार्यपालन अधिकारियों को सम्बोधित कर उपरोक्त निर्देश दिये। मुख्य सचिव ने मिलावटी और अमानक खाद्य पदार्थो के विरूद्ध की गई कार्यवाही के संबंध में भी जानकारी प्राप्त की।
मुख्य सचिव श्री मोहंती ने निर्देश दिए कि स्वास्थ्य संस्थाओं के खुलने के समय, डॉक्टरों और नर्सिंग स्टाफ की उपलब्धता तथा दवा वितरण और साफ-सफाई पर विशेष ध्यान दिया जाए। स्वास्थ्य संस्थाओं को बेहतर बनाने में स्थानीय व्यापारिक घरानों तथा औद्योगिक इकाईयों से सलाह तथा आवश्यक सहयोग को प्रोत्साहित किया जाए। रोगी कल्याण समितियों को सक्रिय किया जाए। उन्होंने कहा कि, ‘‘शुद्ध के लिए युद्ध’’ अभियान के अन्तर्गत मिलावटी तथा अमानक खाद्य पदार्थो के विरूद्ध कार्यवाही लगातार जारी रहे। मिलावट करने वालों को यह स्पष्ट संदेश जाना चाहिए कि प्रशासन निरंतर जागरूक और सक्रिय है।
वीडियो कॉन्फ्रेंस में सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अन्तर्गत पात्र परिवारों के सत्यापन के लिए चलाये जाने वाले अभियान के लिए जारी तैयारियों पर भी चर्चा हुई। मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि वितरण प्रणाली के अन्तर्गत जुड़े अपात्र व्यक्तियों के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही की जाए। जिला कलेक्टर्स से अति-वृष्टि तथा बाढ़ के बाद जारी राहत कार्यो तथा सर्वेक्षण संबंधी जानकारी भी ली गई।
वीडियो कॉन्फ्रेंस में मौसमी बीमारियों की रोकथाम की तैयारी, सार्वजनिक वितरण प्रणाली में सत्यापन के लिए जारी गतिविधियों, प्याज भण्डारण पर कंट्रोल आर्डर के तहत की गई कार्यवाही तथा समर्थन मूल्य पर फसल खरीदी के लिये पंजीयन की अद्यतन स्थिति की समीक्षा की गई। वीडियो कॉन्फ्रेंस में प्रमुख सचिव खाद्य-नागरिक आपूर्ति श्रीमती नीलम शमी राव तथा प्रमुख सचिव लोक स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण डॉ. पल्लवी जैन गोविल उपस्थित थे।

संयुक्त टीम द्वारा खाद्य प्रतिष्ठानों का निरीक्षण किया गया

हरदा | 27-सितम्बर-2019

जिला खाद्य एवं औषधि प्रशासन , राजस्व विभाग और खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की संयुक्त टीम द्वारा आज 26 सितम्बर को खाद्य प्रतिष्ठानों का निरीक्षण किया गया । निरीक्षण किये गए प्रतिष्ठानों में सड़क किनारे लगने वाले फल ठेलों से सड़े गले फलों को फिकवाया गया । होशंगाबाद रोड स्थित व्यंजन रेस्टोरेंट के निरीक्षण के दौरान बेस्ट बिफोर निकली हुई कोल्ड्रिंक्स नष्ट कराई गई, फ़ूड डिस्प्ले बोर्ड लगाने के निर्देश दिए, आशीष बेकर्स फैक्टरी का निरीक्षण किया गया, टोस्ट औऱ ब्रेड बनाने में प्रयुक्त कच्चे माल की गुणवत्ता देखी गयी, एक्सपायर खाद्य रंग, और एसेंस की बोतलो को नष्ट कराया गया तथा टोस्ट में मिलावट / शुध्दता की जांच हेतु खाद्य सुरक्षा और मानक अधिनियमनुसार नमूना लिया गया , तथा साफ सफाई रखने के निर्देश दिए गए , अन्नपूर्णा होटल इतवारा बाजार के निरीक्षण के दौरान खुले खाद्य पदार्थो को ढँकवाया गया तथा उन्हें जाली से ढंकने के लिए निर्देशित किया । तत्पश्चात टीम द्वारा आशीष रेस्टोरेंट का निरीक्षण किया गया, नमकीन, कोल्ड्रिंक्स, आईसक्रीम , किचिन के मसालों की जांच की गई, साफ सफाई रखने के निर्देश और फ़ूड डिस्प्ले बोर्ड लगाने हेतु निर्देशित किया गया । टीम द्वारा श्री नाथजी सुपर बाजार का निरीक्षण कर बेस्ट बिफोर निकले हुए 2 नमकीन के पैकिट नष्ट कराए, अखाद्य रंग को हटवाया गया तथा रवा के नमूने जांच हेतु लिए गए ।
उन्हें fifo नियम first in first out अर्थात पहले आने वाले खाद्य पदार्थ को पहले बेंचे की जानकारी दी गयी । जांच दल में सुश्री आपूर्ति पटेल कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी, श्री प्रशांत सिंह कनिष्ठ आपूर्ति अधिकारी , राजस्व निरीक्षक श्री मोहन ठाकुर और खाद्य सुरक्षा अधिकारी जे पी लववंशी थे

शासकीय महाविद्यालय, हरदा में इंडक्शन कार्यक्रम का समापन हुआ

हरदा | 20-सितम्बर-2019

म.प्र.शासन उच्च शिक्षा विभाग के निर्देश अनुसार विश्व बैंक परियोजना के अंतर्गत इंडक्शन कार्यक्रम का समापन जिले के अग्रणी स्वामी विवेकानंद शासकीय स्नात्कोत्तर महाविद्यालय, हरदा में हुआ।
समापन अवसर पर प्रशासकीय अधिकारी श्री व्ही.के.विछोतिया ने ई-लाइब्रेरी एवं प्रशासनीक व्यवस्था पर प्रकाश डाला। महाविद्यालय के प्रभारी प्राचार्य डॉ.पी.सोनी ने विद्यार्थियों को अध्ययन कार्य के साथ-साथ अनुशासन पर मार्गदर्शित किया। डॉ. संजीत सोनी ने सेना भर्ती की तिथि की जानकारी देते हुऐ क्रीड़ा गतिविधियों से अवगत कराया। श्री संजय पटवा ने विद्यार्थियों को रोजगार की दृष्टि से इंटर्नशिप का महत्व बताया। विश्व बैंक परियोजना की प्रभारी डॉ. संगीता बिले ने विद्यार्थियों की सहभागिता की प्रशंसा करते हुऐ आभार व्यक्त किया।
तीन दिवसीय कार्यक्रम का सफल संचालन श्री बसंत सिंह राजपूत द्वारा किया गया। इस अवसर पर महाविद्यालय के विद्यार्थी एवं महाविद्यालय परिवार उपस्थित रहा।

14 सितम्बर 2019 की लोक अदालत में 2349 मामलों के निराकरण के लिये 10 खण्डपीठों का गठन

14 सितम्बर 2019 को नेशनल लोक अदालत का आयोजन

हरदा | 14-सितम्बर-2019

जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्रीमती शशिकला चंद्रा के मार्गदर्शन में 14 सितम्बर 2019 को नेशनल लोक अदालत का आयोजन किया जा रहा है हरदा जिले के लिये कुल 10 खण्डपीठों का गठन किया गया है। जिला न्यायालय हरदा के लिये जिला एवं सत्र न्यायाधीश श्रीमती शशिकला चंद्रा खंडपीठ क्रमांक 01, प्रधान न्यायाधीश कुटुम्ब न्यायालय हरदा श्री अनिल अग्रवाल खंडपीठ क्रमांक 02 एवं 03, द्वितीय अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश हरदा श्री अरूण श्रीवास्तव खंडपीठ क्रमांक 04, तृतीय अपर जिला एवं सत्र न्यायाधीश हरदा सुश्री सविता जडिया खंडपीठ क्रमांक 05, मुख्य न्यायिक मजि. हरदा श्री सुभाष सुनहरे खंडपीठ क्रमांक 06, तृतीय व्यवहार न्यायाधीश वर्ग -01 हरदा श्री अमित नगायच खंडपीठ क्रमांक 07, प्रथम व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-02 हरदा श्रीमती अनुजा श्रीवास्तव खंडपीठ क्रमांक 08, प्रथम व्यववहार न्यायाधीश वर्ग-01 खिरकिया श्री अभिषेक नागराज खंडपीठ क्रमांक 09 एवं द्वितीय व्यवहार न्यायाधीश वर्ग-01 श्रृंखला न्यायालय टिमरनी श्री अतुल बिल्लौरे खंडपीठ क्रमांक 10 तथा पुलिस परामर्श केन्द्र हेतु श्री एम.के.मालवीय, अनुविभागीय अधिकारी (पुलिस) हरदा के लिये खंडपीठो का गठन किया गया है एवं प्रत्येक खंडपीठ में 02 सुलहकर्ता सदस्यों (अधिवक्ताओं) को भी नियुक्त किया गया है तथा नेशनल लोक अदालत में कुल 2349 प्रक्ररण रखे गये हैं। इसमें आपराधिक राजीनामा योग्य प्रक्ररण कुटुम्ब न्यायालय, व्यवहार वाद, मोटर दावा दुर्घटना क्लेम, विद्युत न्यायालय के लंबित प्रक्ररण, प्रिलिटिगेशन के बैंक रिकवरी एवं विद्युत अधिनियम के राजिनामा योग्य प्रकरण ,पुलिस परामर्श केन्द्र के अन्तर्गत घरेलू हिंसा अधिनियम, पारिवारिक/वैवाहिक विवादों के प्रिलिटिगेशन प्रक्ररणों का निराकरण किया जावेगा तथा जो प्रकरण राजीनामा योग्य हो और लोक अदालत में नही रखे गये है उनमें भी पक्षकार इसी दिन उपस्थित होकर प्रकरण का निराकरण करा सकते है।
सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण हरदा श्री के.एस.शाक्य द्वारा बताया कि नेशनल लोक अदालत में न्यायालयीन प्रक्ररणों का निराकरण सुलह एवं समझौते के आधार पर होता है। लोक अदालत में सम्पत्तिकर, जलकर,विद्युत विभाग के मामलों में अधिभार पर नियमानुसार छूट दी जायेगी एवं पक्षकारों से अनुरोध किया है कि वे अपने अधिवक्ता अथवा न्यायालय से संपर्क कर उपरोक्त विषय से संबंधित प्रकरणों का निराकरण नेशनल लोक अदालत में कराकर लोक अदालत का लाभ उठायें और अपने धन एवं समय की बचत करे।

सभी विभाग एवं बैंक स्वरोजगार योजनाओं के अंतर्गत लक्ष्यों को पूरा करना सुनिश्चित करें-कलेक्टर

हरदा | 31-अगस्त-2019

कलेक्टर श्री एस. विश्वनाथन की अध्यक्षता में कलेक्टर कार्यालय के सभाकक्ष में डीएलसीसी की बैठक आयोजित की गई। बैठक में उपस्थित विभागीय अधिकारियों द्वारा स्वरोजगार योजनान्तर्गत प्राप्त वित्तीय लक्ष्य एवं उपलब्धियों से अवगत कराया। बैठक में श्री विश्वनाथन ने निर्देशित किया कि स्वरोजगार योजनान्तर्गत प्राप्त वित्तीय लक्ष्यों को समय सीमा में पूर्ण करें। ग्रामीण आजिविका मिशन अंतर्गत गठित महिला स्वयं सहायता समूह के ऋण प्रकरणों को गंभीरता पूर्वक विचार करते हुए स्वयं सहायता समूह को समय पर ऋण उपलब्ध करावे तथा उनके खाते खोलने में किसी प्रकार की परेशानी उत्पन्न न हो। उन्होने कहा कि एनआरएलएम के अंतर्गत प्रगति संतोषजनक नहीं है। अगली तिमाही में इसमें निश्चित रूप से सुधार करें। उन्होने बैंकों के प्रतिनिधियों से कहा कि वे विभागों द्वारा प्रेषित प्रकरणों पर त्वरित निर्णय लें। यदि प्रकरण स्वीकृत करने योग्य नहीं है तो इस संबंध में विभाग को सूचना दे। उन्होने कहा कि ऋण स्वीकृति के पश्चात विभागों द्वारा सब्सिडी जारी करने के बावजूद ऋण का वितरण न होने की शिकायतें प्राप्त हो रही है। सभी बैंक इस बात पर ध्यान दें कि विभाग द्वारा सब्सिडी जारी करने के बाद ऋण के वितरण में देरी नहीं होनी चाहिये। उन्होने संबंधित विभागों को सभी स्वरोजगार योजना का व्यापक प्रचार प्रसार करने के निर्देश दिये। उन्होने सभी स्वरोजगार योजनाओं में ऋण स्वीकृति एवं वितरण की विभागवार एवं बैंकवार समीक्षा की। उन्होने सभी बैंकों को अनुसूचित जाति, जनजाति वर्ग को प्राथमिकता से ऋण उपलब्ध कराने के निर्देश दिये।
कलेक्टर श्री विश्वनाथन ने कहा कि हरदा जिले में प्रत्येक वयस्क का बैंक खाता होना चाहिये। उन्होने कहा कि सभी बैंक इसके लिये विशेष अभियान चलाये तथा जो व्यक्ति अभी भी बैंकिंग सुविधाओं से वंचित है उनके खाते खोले। उन्होने वित्तीय साक्षरता कैम्प आयोजित न करने वाले बैंको को शीघ्र कैम्प आयोजित कर रिपोर्ट प्रस्तुत करने के निर्देश दिये। कलेक्टर ने बैंकों के प्रतिनिधियों से कहा कि वे आरआरसी वसुली के लंबित प्रकरणों के निराकरण में राजस्व अधिकारियों का सहयोग करें। जिन प्रकरणों में वसूली की जा चुकी है, उनकी सूचना संबंधित अधिकारियों को दे ताकि प्रकरणों का निराकरण दर्ज किया जा सके। उन्होने बैंकों को एटीएम की साफ-सफाई पर विशेष ध्यान देने के निर्देश देते हुए कहा कि 10 सितम्बर से एटीएम का औचक निरीक्षण किया जाएगा तथा गंदगी पाये जाने पर कार्यवाही की जाएगी।
बैठक में जिला पंचायत सीईओ श्री लोकेश कुमार जांगिड़, अपर कलेक्टर श्रीमती प्रियंका गोयल, रिजर्व बैंक आफ इण्डिया से आरएम श्री अरूणकुमार इनामदार एवं विभिन्न विभागों के अधिकारी तथा बैंक प्रतिनिधि उपस्थित थे।

आदर्श महाविद्यालय हरदा में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन 

हरदा | 27-अगस्त-2019

 जिला न्यायाधीश/अध्यक्ष जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्रीमती शशीकला चंद्रा के मार्गदर्शन में सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री के.एस. शाक्य की उपस्थिति में तथा जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री अभय सिंह की उपस्थिति में गत दिवस 26 अगस्त को आदर्श महाविद्यालय हरदा में  नालसा  असंगठित क्षेत्र के श्रमिकों के लिए विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया।
विधिक साक्षरता शिविर में सचिव जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री के.एस. शाक्य के द्वारा उपस्थित छात्र/छात्राओं को भारतीय संविधान में मौलिक कर्तव्यों के बारे में तथा एंटी रैगिंग विषय के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की गयी तथा महिलाओं एवं बच्चों के साथ यौन उत्पीड़न संबंधी कानून एवं महिला भ्रूण हत्या की रोकथाम संबंधी कानून के बारे में एवं मोटर व्हीकल एक्ट के बारे में विस्तार से जानकारी प्रदान की गयी।
जिला विधिक सहायता अधिकारी श्री अभय सिंह द्वारा विधिक सेवा प्राधिकरण हरदा द्वारा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की निःशुल्क विधिक सहायता योजना के बारे में एवं प्राधिकरण द्वारा संचालित समस्त योजनाओं के संबंध विस्तार से जानकारी प्रदान की गयी। शिविर में विद्यालय प्राचार्य एवं शिक्षकगण एवं महाविद्यालय के छात्र/छात्रायें उपस्थित रहे।