Wednesday, September 30News That Matters

प्रियंका गांधी वाड्रा से फोन पर बात करने के 3 घंटे बाद ही हटाए गए सचिन पायलट : सूत्र

Share

जयपुर : 

राजस्‍थान का सियासी संग्राम थमने का नाम नहीं ले रहा है. सीएम अशोक गहलोत के खिलाफ बागी तेवर अपना रहे सचिन पायलट के खिलाफ कांग्रेस पार्टी ने सख्‍त रुख अपनाते हुए राजस्‍थान के उपमुख्‍यमंत्री और राज्‍य के पार्टी अध्‍यक्ष पद से बेदखल कर दिया था. पूर्व उप मुख्‍यमंत्री के करीबी सूत्रों के मुताबिक, सचिन पायलट को प्रियंका गांधी वाड्रा के साथ बातचीत के तीन घंटे बाद बर्खास्त कर दिया गया.सचिन पायलट ने बुधवार को प्रियंका गांधी से बात की.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के खिलाफ रविवार को अपना बगावत का बिगुल फूंकने के बाद यह गांधी परिवार की ओर से पायलट तक ‘पहुंचने’ के प्रयासों में में एक था, लेकिन सुलह के प्रयासों के बीच भी राजस्थान में कांग्रेस को पायलट और अन्य बागी विधायकों के खिलाफ कार्रवाई करने से नहीं रोका जा सका. सूत्रों ने कहा कि पायलट ने दो दिन पहले प्रियंका गांधी से बात की थी और उनकी बात को धैर्य के साथ सुना गया था. जब उन्होंने यानी पायलट ने अपनी शिकायतों पर चर्चा की, तो प्रियंका गांधी ने कहा कि “वह राहुल गांधी और सोनिया गांधी से बात करेंगी.’सूत्रों के अनुसार, पायलट ने कथित तौर पर कहा, “जब मेरे खिलाफ कार्रवाई हो रही है तो कांग्रेस कैसे तालमेल/सुलह की बात कर सकती है?”

सूत्रों ने ‘इस नेता’ के हवाले से कहा, एक तरफ कांग्रेस ‘दरवाजे खुले’ होने की बात करती है और दूसरी तरफ मुझे बर्खास्त कर दिया जाता है और अयोग्यता नोटिस भेजा जाता है. अशोक गहलोत की ओर से मुझ पर निशाना साधा गया.” गौरतलब है कि पायलट और अन्य बागी विधायक, विधानसभा स्‍पीकर की ओर से उन्‍हें सदस्‍यता से अयोग्‍य ठहराने संबंधी नोटिस के मामले में पार्टी को अदालत तक लेकर गए हैं. पायलट के करीबी सूत्र ने कहा: “मैं गहलोत के घर पर विधायकों की मीटिंग में कैसे भाग ले सकता हूं जब मुझे दरकिनार किया जा रहा है.”