पीएसएलवी-सी35 कल आठ उपग्रहों को अलग-अलग कक्षाओं में स्थापित करेगा
..................................................

 छतरपुर समाचार

 खंडवा समाचार

 छिंदवाड़ा समाचार

दमोह समाचार 

सीधी समाचार

 अनूपपुर समाचार

 अलीराजपुर समाचार

 आगर मालवा समाचार

 उज्जैन समाचार

 इंदौर समाचार

 उमरिया समाचार

 कटनी समाचार

 खरगोन समाचार

 गुना समाचार

 ग्वालियर समाचार

 झाबुआ समाचार

 टीकमगढ़ समाचार

 डिण्डोरी समाचार

 दतिया समाचार

अशोक नगर समाचार

 नरसिंहपुर समाचार

 नीमच समाचार

पन्ना समाचार

 बड़वानी समाचार

 बालाघाट समाचार

बुरहानपुर समाचार 

 बैतूल समाचार

 भिण्ड समाचार

 भोपाल समाचार

मंडला समाचार 

मंदसौर समाचार 

 मुरैना समाचार

 रतलाम समाचार

 राजगढ़ समाचार

 रायसेन समाचार

 विदिशा समाचार

 शहडोल समाचार

 शाजापुर समाचार

 शिवपुरी समाचार

 श्योपुर समाचार

 सतना समाचार

 सागर समाचार

 सिंगरौली समाचार

 सिवनी समाचार

 सीहोर समाचार

हरदा समाचार 

 होशंगाबाद समाचार

 धार समाचार

 रीवा समाचार

 जबलपुर समाचार

 

देवास समाचार 

 

       

ऐसे हुए पीएम नरेंद्र मोदी और लोकप्रिय, हुआ खुलासा...

17नवंबर, 2017

वाशिंगटन: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने व्यापक स्तर पर लोकप्रिय बनने और अपने राजनीतिक अंदाज को नया रूप देने के लिए राजनीतिक हास्य और व्यंग्य का इस्तेमाल किया. अमेरिका के एक विश्वविद्यालय ने मोदी के ट्वीट्स का अध्ययन करने के बाद यह कहा है. यूनिवर्सिटी ऑफ मिशिगन स्कूल ऑफ इन्फोर्मेशन ने छह साल की अवधि के दौरान मोदी के 9,000 से ज्यादा ट्वीट्स का अध्ययन किया. यह अध्ययन इंटरनेशनल जर्नल ऑफ कम्युनिकेशन में प्रकाशित हुआ है. मोदी के टि्वटर पर 3 करोड़ 60 लाख से अधिक फॉलोवर हैं.

यह भी पढ़ें : लोकप्रियता के ग्राफ में पीएम मोदी टॉप पर, रेस में राहुल गांधी और केजरीवाल भी हैं शामिल

विश्वविद्यालय में सूचना के सहायक प्रोफेसर और अध्ययन के लेखक जॉयोजीत पाल ने कहा कि हमने यह बताने की कोशिश की है कि वह लोकप्रिय कैसे बने. मोदी की व्यंग्योक्ति ने उन्हें एक राजनीतिक नजरिया दिया और सोशल मीडिया पर उनकी गूंज सुनाई दी जो इस बात से पता चलती है कि उनके व्यंग्यपूर्ण शब्दों वाले संदेशों को बड़ी संख्या में री-ट्वीट किया गया. विश्वविद्यालय के अनुसार, शोधकर्ताओं ने ट्वीट को मुख्यत: नौ थीमों में बांटा, जो इस प्रकार हैं : क्रिकेट, राहुल गांधी, मनोरंजन, व्यंग्य, भ्रष्टाचार, विकास, विदेश मामले, हिंदुत्व और विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी.

समाचार

FIFA U17 वर्ल्‍डकप: भारतीय...

नई दिल्ली 12/10/2017: मेजबान भारत के सामने फीफा अंडर-17 विश्व कप में एक और बड़ी चुनौती खड़ी है. उसे अपने अंतिम ग्रुप-ए के मैच में मजबूत...

दर्शक संख्या

Currently are 2 guests and no members online

हमारे साथ जुड़ें

महत्वपूर्ण लिंक

आज के समाचार

नि:शुल्क ट्रेनिंग के लिए 25 नवम्बर तक आवेदन आमंत्रित ‘प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना’

नरसिंहपुर | 17-नवम्बर-2017
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेव्हीवाय) के अंतर्गत शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में 6 पाठ्यक्रमों में नि:शुल्क प्रशिक्षण कार्यक्रम एक दिसम्बर से आयोजित किये जायेंगे। इच्छुक पात्र विद्यार्थी पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर से नि:शुल्क आवेदन फार्म प्राप्त कर इसी कॉलेज में 25 नवम्बर तक जमा कर सकते हैं। ये आवेदन सादे कागज में भी प्रस्तुत किये जा सकते हैं। यह जानकारी प्राचार्य शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर ने दी है।
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अंतर्गत सिलाई मशीन चालक, विशिष्ट सिलाई मशीन चालक एवं नापकर्ता सिलाई (मेजरमेंट चेकर) पाठ्यक्रम का प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए 5वीं कक्षा उत्तीर्ण आवेदक को प्राथमिकता दी जायेगी। यह प्रशिक्षण कुल 330 घंटे का होगा। डोमेस्टिक डाटा एंट्री ऑपरेटर एवं फील्ड टेक्नीशियन कम्प्यूटिंग एण्ड पेरीफेरल्स के प्रशिक्षण के लिए योग्यता 10वीं कक्षा उत्तीर्ण है। ऑपरेटर के लिए 440 घंटे और फील्ड टेक्नीशियन के लिए 300 घंटे की कुल प्रशिक्षण अवधि होगी। आईटी को-ऑर्डिनेटर इन स्कूल पाठ्यक्रम के प्रशिक्षण के लिए आवेदक को ईसी/ सीएस/ आईटी/ ईई का पॉलीटेक्निक का डिप्लोमाधारी होना चाहिये। यह प्रशिक्षण कुल 300 घंटे का रहेगा।
प्रशिक्षण के आवेदन के साथ सभी शैक्षणिक दस्तावेज, आधार कार्ड, मूल निवासी प्रमाण पत्र, आय, जाति, अनुभव प्रमाण पत्र (यदि लागू हो) आदि की फोटोकापी लगाना अनिवार्य है। पॉलीटेक्निक कॉलेज से उत्तीर्ण विद्यार्थी भी प्रशिक्षण में शामिल हो सकते हैं। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए कार्यालयीन समय में पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में सम्पर्क किया जा सकता है। इस कॉलेज का टेलीफोन नम्बर 07792- 236705 है। प्रशिक्षण के लिए सीटों की संख्या सीमित है।


मध्याह्न भोजन में परोस रहे थे चीटी लगी रोटी, पनियल दाल, बच्चों ने उठाया ये कदम

गंजबासौदा 17 Nov 2017। मोटे आटे की चीटियां लगी रोटियां और बेस्वाद धुलधुल पनिया दाल और सब्जी। मध्यान्ह भोजन में ऐसा खाना देखते ही बच्चों ने खाना खाने से इंकार कर दिया। बाद में मौके पर पहुंचे पार्षद घटिया मध्यान्ह भोजन लेकर सीधे एसडीएम सीपी गोहल के पास जा पहुंचे। जहां से एसडीएम के निर्देश पर बीआरसी ने स्वसहायता समूह को हटाते हुए मध्यान्ह भोजन वितरण की व्यवस्था शाला प्रबंधन समिति को सौंप दी है।

ज्ञात हो कि बैदनखेड़ी स्थित शासकीय प्राथमिक शाला में मध्यान्ह भोजन में लंबे समय से गड़बड़ी की शिकायतें आ रही थीं। मध्यान्ह भोजन बनाने वाले स्व सहायता समूह संचालक को कई बार पार्षद, शिक्षकों, पालकों और अधिकारियों ने गुणवत्तायुक्त मध्यान्ह भोजन वितरण करने की हिदायतें दी जा चुकी थीं।


50 हजार महिलाओं को जोड़ा जाएगा एसएमएस ग्रुप से

रायसेन।17 Nov 2017 जिला मुख्यालय स्थित वन परिसर में 24 नवंबर को जिला स्तरीय मुख्यमंत्री स्वरोजगार एवं कौशल उन्नयन रोजगार मेले के आयोजन के संबंध में गुरूवार को कलेक्टर भावना वालिम्बे की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत जिले में गठित 5567 महिला स्व-सहायता समूहों की लगभग 50 हजार सदस्यों को एसएमएस ग्रुप के माध्यम से जोड़ने के निर्देश दिए। सदस्यों को एसएमएस के माध्यम से कौशल उन्नयन के अंतर्गत स्वरोजगार एवं नियोजन की जानकारी के साथ ही भावांतर योजना, कृषि संबंधी जानकारी, मिशन इन्द्रधनुष के तहत समय पर टीकाकरण, स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण एवं स्वच्छता संबंधी जानकारियां, आधार पंजीयन तथा वोटर लिस्ट में नाम जोड़ने सहित अन्य गतिविधियां से अवगत कराया जाएगा।


हाइड्रोकार्बन की खोज में गांव-गांव की जा रही ब्लास्टिंग, छह

रायसेन।17 Nov 2017

प्रदेश में हाइड्रोकार्बन की खोज में निकले दल ने रायसेन जिले में इसको लेकर कवायद शुरू कर दी है। पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के निर्देश पर इन दिनों जिलेवार हाइड्रोकार्बन की खोज के लिए 2डी सेस्मिक सर्वेक्षण किया जा रहा है। इसको लेकर बड़ी-बड़ी मशीनें गांवों में पहुंच रही हैं।

गुरूवार को हाईड्रोकार्बन खोज की प्रत्याशा में जब यह दल मशीनों के साथ रायसेन जिले में पहुंचा तो गांवों में तरह-तरह की चर्चाओं का दौर शुरू हो गया। दल में शामिल तकनीकी टीम के सदस्यों ने चर्चा में बताया कि केन्द्र सरकार के निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक गांवों में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए यह अभियान चल रहा है। इसके लिए निर्धारित रूट पर आज से काम शुरू किया गया है। रायसेन जिले में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए लगभग 5 दिन काम चलेगा।


तकनीकि शिक्षा मंत्री ने 10 माह बाद स्वीकारा एसएटीआई में बीओजी अध्यक्ष का पद, 22 को बुलाई पहली बैठक

विदिशा।17 Nov 2017 शहर के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कालेज एसएटीआई में 10 महीने बाद फिर घमासान होने के आसार बढ़ गए हैं। तकनीकि शिक्षा मंत्री दीपक जोशी ने महाराजा जीवाजीराव एजुकेशन सोसायटी (एमजेईएस) द्वारा बनाई गई बोर्ड आफ गवर्नर्स (बीओजी) में अध्यक्ष का पद स्वीकार कर लिया है। इसी के साथ उन्होंने बीओजी की पहली बैठक आगामी 22 नवंबर को बुलाने का निर्णय लिया है। इसके लिए तकनीकि शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के अपर सचिव डा. एमआर धाकड़ ने कालेज के डायरेक्टर डा. जेएस चौहान को पत्र लिखा है।
मालूम हो कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया एमजेईएस के अलावा बीओजी के भी अध्यक्ष थे। लेकिन मतभेदों के चलते उनके खास कहलाने वाले पूर्व सांसद प्रतापभानु शर्मा ही उनके खिलाफ मैदान में आ गए। उन्होंने 11 जनवरी 2017 को एमजेईएस की बैठक बुलाकर बीओजी के अध्यक्ष पद से सिंधिया को हटा दिया था।


नि:शुल्क ट्रेनिंग के लिए 25 नवम्बर तक आवेदन आमंत्रित ‘प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना’

नरसिंहपुर | 17-नवम्बर-2017
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेव्हीवाय) के अंतर्गत शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में 6 पाठ्यक्रमों में नि:शुल्क प्रशिक्षण कार्यक्रम एक दिसम्बर से आयोजित किये जायेंगे। इच्छुक पात्र विद्यार्थी पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर से नि:शुल्क आवेदन फार्म प्राप्त कर इसी कॉलेज में 25 नवम्बर तक जमा कर सकते हैं। ये आवेदन सादे कागज में भी प्रस्तुत किये जा सकते हैं। यह जानकारी प्राचार्य शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर ने दी है।
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अंतर्गत सिलाई मशीन चालक, विशिष्ट सिलाई मशीन चालक एवं नापकर्ता सिलाई (मेजरमेंट चेकर) पाठ्यक्रम का प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए 5वीं कक्षा उत्तीर्ण आवेदक को प्राथमिकता दी जायेगी। यह प्रशिक्षण कुल 330 घंटे का होगा। डोमेस्टिक डाटा एंट्री ऑपरेटर एवं फील्ड टेक्नीशियन कम्प्यूटिंग एण्ड पेरीफेरल्स के प्रशिक्षण के लिए योग्यता 10वीं कक्षा उत्तीर्ण है। ऑपरेटर के लिए 440 घंटे और फील्ड टेक्नीशियन के लिए 300 घंटे की कुल प्रशिक्षण अवधि होगी। आईटी को-ऑर्डिनेटर इन स्कूल पाठ्यक्रम के प्रशिक्षण के लिए आवेदक को ईसी/ सीएस/ आईटी/ ईई का पॉलीटेक्निक का डिप्लोमाधारी होना चाहिये। यह प्रशिक्षण कुल 300 घंटे का रहेगा।
प्रशिक्षण के आवेदन के साथ सभी शैक्षणिक दस्तावेज, आधार कार्ड, मूल निवासी प्रमाण पत्र, आय, जाति, अनुभव प्रमाण पत्र (यदि लागू हो) आदि की फोटोकापी लगाना अनिवार्य है। पॉलीटेक्निक कॉलेज से उत्तीर्ण विद्यार्थी भी प्रशिक्षण में शामिल हो सकते हैं। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए कार्यालयीन समय में पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में सम्पर्क किया जा सकता है। इस कॉलेज का टेलीफोन नम्बर 07792- 236705 है। प्रशिक्षण के लिए सीटों की संख्या सीमित है।


मध्याह्न भोजन में परोस रहे थे चीटी लगी रोटी, पनियल दाल, बच्चों ने उठाया ये कदम

गंजबासौदा 17 Nov 2017। मोटे आटे की चीटियां लगी रोटियां और बेस्वाद धुलधुल पनिया दाल और सब्जी। मध्यान्ह भोजन में ऐसा खाना देखते ही बच्चों ने खाना खाने से इंकार कर दिया। बाद में मौके पर पहुंचे पार्षद घटिया मध्यान्ह भोजन लेकर सीधे एसडीएम सीपी गोहल के पास जा पहुंचे। जहां से एसडीएम के निर्देश पर बीआरसी ने स्वसहायता समूह को हटाते हुए मध्यान्ह भोजन वितरण की व्यवस्था शाला प्रबंधन समिति को सौंप दी है।

ज्ञात हो कि बैदनखेड़ी स्थित शासकीय प्राथमिक शाला में मध्यान्ह भोजन में लंबे समय से गड़बड़ी की शिकायतें आ रही थीं। मध्यान्ह भोजन बनाने वाले स्व सहायता समूह संचालक को कई बार पार्षद, शिक्षकों, पालकों और अधिकारियों ने गुणवत्तायुक्त मध्यान्ह भोजन वितरण करने की हिदायतें दी जा चुकी थीं।


50 हजार महिलाओं को जोड़ा जाएगा एसएमएस ग्रुप से

रायसेन।17 Nov 2017 जिला मुख्यालय स्थित वन परिसर में 24 नवंबर को जिला स्तरीय मुख्यमंत्री स्वरोजगार एवं कौशल उन्नयन रोजगार मेले के आयोजन के संबंध में गुरूवार को कलेक्टर भावना वालिम्बे की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत जिले में गठित 5567 महिला स्व-सहायता समूहों की लगभग 50 हजार सदस्यों को एसएमएस ग्रुप के माध्यम से जोड़ने के निर्देश दिए। सदस्यों को एसएमएस के माध्यम से कौशल उन्नयन के अंतर्गत स्वरोजगार एवं नियोजन की जानकारी के साथ ही भावांतर योजना, कृषि संबंधी जानकारी, मिशन इन्द्रधनुष के तहत समय पर टीकाकरण, स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण एवं स्वच्छता संबंधी जानकारियां, आधार पंजीयन तथा वोटर लिस्ट में नाम जोड़ने सहित अन्य गतिविधियां से अवगत कराया जाएगा।


हाइड्रोकार्बन की खोज में गांव-गांव की जा रही ब्लास्टिंग, छह

रायसेन।17 Nov 2017

प्रदेश में हाइड्रोकार्बन की खोज में निकले दल ने रायसेन जिले में इसको लेकर कवायद शुरू कर दी है। पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के निर्देश पर इन दिनों जिलेवार हाइड्रोकार्बन की खोज के लिए 2डी सेस्मिक सर्वेक्षण किया जा रहा है। इसको लेकर बड़ी-बड़ी मशीनें गांवों में पहुंच रही हैं।

गुरूवार को हाईड्रोकार्बन खोज की प्रत्याशा में जब यह दल मशीनों के साथ रायसेन जिले में पहुंचा तो गांवों में तरह-तरह की चर्चाओं का दौर शुरू हो गया। दल में शामिल तकनीकी टीम के सदस्यों ने चर्चा में बताया कि केन्द्र सरकार के निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक गांवों में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए यह अभियान चल रहा है। इसके लिए निर्धारित रूट पर आज से काम शुरू किया गया है। रायसेन जिले में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए लगभग 5 दिन काम चलेगा।


तकनीकि शिक्षा मंत्री ने 10 माह बाद स्वीकारा एसएटीआई में बीओजी अध्यक्ष का पद, 22 को बुलाई पहली बैठक

विदिशा।17 Nov 2017 शहर के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कालेज एसएटीआई में 10 महीने बाद फिर घमासान होने के आसार बढ़ गए हैं। तकनीकि शिक्षा मंत्री दीपक जोशी ने महाराजा जीवाजीराव एजुकेशन सोसायटी (एमजेईएस) द्वारा बनाई गई बोर्ड आफ गवर्नर्स (बीओजी) में अध्यक्ष का पद स्वीकार कर लिया है। इसी के साथ उन्होंने बीओजी की पहली बैठक आगामी 22 नवंबर को बुलाने का निर्णय लिया है। इसके लिए तकनीकि शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के अपर सचिव डा. एमआर धाकड़ ने कालेज के डायरेक्टर डा. जेएस चौहान को पत्र लिखा है।
मालूम हो कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया एमजेईएस के अलावा बीओजी के भी अध्यक्ष थे। लेकिन मतभेदों के चलते उनके खास कहलाने वाले पूर्व सांसद प्रतापभानु शर्मा ही उनके खिलाफ मैदान में आ गए। उन्होंने 11 जनवरी 2017 को एमजेईएस की बैठक बुलाकर बीओजी के अध्यक्ष पद से सिंधिया को हटा दिया था।


नि:शुल्क ट्रेनिंग के लिए 25 नवम्बर तक आवेदन आमंत्रित ‘प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना’

नरसिंहपुर | 17-नवम्बर-2017
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेव्हीवाय) के अंतर्गत शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में 6 पाठ्यक्रमों में नि:शुल्क प्रशिक्षण कार्यक्रम एक दिसम्बर से आयोजित किये जायेंगे। इच्छुक पात्र विद्यार्थी पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर से नि:शुल्क आवेदन फार्म प्राप्त कर इसी कॉलेज में 25 नवम्बर तक जमा कर सकते हैं। ये आवेदन सादे कागज में भी प्रस्तुत किये जा सकते हैं। यह जानकारी प्राचार्य शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर ने दी है।
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अंतर्गत सिलाई मशीन चालक, विशिष्ट सिलाई मशीन चालक एवं नापकर्ता सिलाई (मेजरमेंट चेकर) पाठ्यक्रम का प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए 5वीं कक्षा उत्तीर्ण आवेदक को प्राथमिकता दी जायेगी। यह प्रशिक्षण कुल 330 घंटे का होगा। डोमेस्टिक डाटा एंट्री ऑपरेटर एवं फील्ड टेक्नीशियन कम्प्यूटिंग एण्ड पेरीफेरल्स के प्रशिक्षण के लिए योग्यता 10वीं कक्षा उत्तीर्ण है। ऑपरेटर के लिए 440 घंटे और फील्ड टेक्नीशियन के लिए 300 घंटे की कुल प्रशिक्षण अवधि होगी। आईटी को-ऑर्डिनेटर इन स्कूल पाठ्यक्रम के प्रशिक्षण के लिए आवेदक को ईसी/ सीएस/ आईटी/ ईई का पॉलीटेक्निक का डिप्लोमाधारी होना चाहिये। यह प्रशिक्षण कुल 300 घंटे का रहेगा।
प्रशिक्षण के आवेदन के साथ सभी शैक्षणिक दस्तावेज, आधार कार्ड, मूल निवासी प्रमाण पत्र, आय, जाति, अनुभव प्रमाण पत्र (यदि लागू हो) आदि की फोटोकापी लगाना अनिवार्य है। पॉलीटेक्निक कॉलेज से उत्तीर्ण विद्यार्थी भी प्रशिक्षण में शामिल हो सकते हैं। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए कार्यालयीन समय में पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में सम्पर्क किया जा सकता है। इस कॉलेज का टेलीफोन नम्बर 07792- 236705 है। प्रशिक्षण के लिए सीटों की संख्या सीमित है।


मध्याह्न भोजन में परोस रहे थे चीटी लगी रोटी, पनियल दाल, बच्चों ने उठाया ये कदम

गंजबासौदा 17 Nov 2017। मोटे आटे की चीटियां लगी रोटियां और बेस्वाद धुलधुल पनिया दाल और सब्जी। मध्यान्ह भोजन में ऐसा खाना देखते ही बच्चों ने खाना खाने से इंकार कर दिया। बाद में मौके पर पहुंचे पार्षद घटिया मध्यान्ह भोजन लेकर सीधे एसडीएम सीपी गोहल के पास जा पहुंचे। जहां से एसडीएम के निर्देश पर बीआरसी ने स्वसहायता समूह को हटाते हुए मध्यान्ह भोजन वितरण की व्यवस्था शाला प्रबंधन समिति को सौंप दी है।

ज्ञात हो कि बैदनखेड़ी स्थित शासकीय प्राथमिक शाला में मध्यान्ह भोजन में लंबे समय से गड़बड़ी की शिकायतें आ रही थीं। मध्यान्ह भोजन बनाने वाले स्व सहायता समूह संचालक को कई बार पार्षद, शिक्षकों, पालकों और अधिकारियों ने गुणवत्तायुक्त मध्यान्ह भोजन वितरण करने की हिदायतें दी जा चुकी थीं।


50 हजार महिलाओं को जोड़ा जाएगा एसएमएस ग्रुप से

रायसेन।17 Nov 2017 जिला मुख्यालय स्थित वन परिसर में 24 नवंबर को जिला स्तरीय मुख्यमंत्री स्वरोजगार एवं कौशल उन्नयन रोजगार मेले के आयोजन के संबंध में गुरूवार को कलेक्टर भावना वालिम्बे की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत जिले में गठित 5567 महिला स्व-सहायता समूहों की लगभग 50 हजार सदस्यों को एसएमएस ग्रुप के माध्यम से जोड़ने के निर्देश दिए। सदस्यों को एसएमएस के माध्यम से कौशल उन्नयन के अंतर्गत स्वरोजगार एवं नियोजन की जानकारी के साथ ही भावांतर योजना, कृषि संबंधी जानकारी, मिशन इन्द्रधनुष के तहत समय पर टीकाकरण, स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण एवं स्वच्छता संबंधी जानकारियां, आधार पंजीयन तथा वोटर लिस्ट में नाम जोड़ने सहित अन्य गतिविधियां से अवगत कराया जाएगा।


हाइड्रोकार्बन की खोज में गांव-गांव की जा रही ब्लास्टिंग, छह

रायसेन।17 Nov 2017

प्रदेश में हाइड्रोकार्बन की खोज में निकले दल ने रायसेन जिले में इसको लेकर कवायद शुरू कर दी है। पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के निर्देश पर इन दिनों जिलेवार हाइड्रोकार्बन की खोज के लिए 2डी सेस्मिक सर्वेक्षण किया जा रहा है। इसको लेकर बड़ी-बड़ी मशीनें गांवों में पहुंच रही हैं।

गुरूवार को हाईड्रोकार्बन खोज की प्रत्याशा में जब यह दल मशीनों के साथ रायसेन जिले में पहुंचा तो गांवों में तरह-तरह की चर्चाओं का दौर शुरू हो गया। दल में शामिल तकनीकी टीम के सदस्यों ने चर्चा में बताया कि केन्द्र सरकार के निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक गांवों में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए यह अभियान चल रहा है। इसके लिए निर्धारित रूट पर आज से काम शुरू किया गया है। रायसेन जिले में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए लगभग 5 दिन काम चलेगा।


तकनीकि शिक्षा मंत्री ने 10 माह बाद स्वीकारा एसएटीआई में बीओजी अध्यक्ष का पद, 22 को बुलाई पहली बैठक

विदिशा।17 Nov 2017 शहर के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कालेज एसएटीआई में 10 महीने बाद फिर घमासान होने के आसार बढ़ गए हैं। तकनीकि शिक्षा मंत्री दीपक जोशी ने महाराजा जीवाजीराव एजुकेशन सोसायटी (एमजेईएस) द्वारा बनाई गई बोर्ड आफ गवर्नर्स (बीओजी) में अध्यक्ष का पद स्वीकार कर लिया है। इसी के साथ उन्होंने बीओजी की पहली बैठक आगामी 22 नवंबर को बुलाने का निर्णय लिया है। इसके लिए तकनीकि शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के अपर सचिव डा. एमआर धाकड़ ने कालेज के डायरेक्टर डा. जेएस चौहान को पत्र लिखा है।
मालूम हो कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया एमजेईएस के अलावा बीओजी के भी अध्यक्ष थे। लेकिन मतभेदों के चलते उनके खास कहलाने वाले पूर्व सांसद प्रतापभानु शर्मा ही उनके खिलाफ मैदान में आ गए। उन्होंने 11 जनवरी 2017 को एमजेईएस की बैठक बुलाकर बीओजी के अध्यक्ष पद से सिंधिया को हटा दिया था।


नि:शुल्क ट्रेनिंग के लिए 25 नवम्बर तक आवेदन आमंत्रित ‘प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना’

नरसिंहपुर | 17-नवम्बर-2017
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेव्हीवाय) के अंतर्गत शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में 6 पाठ्यक्रमों में नि:शुल्क प्रशिक्षण कार्यक्रम एक दिसम्बर से आयोजित किये जायेंगे। इच्छुक पात्र विद्यार्थी पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर से नि:शुल्क आवेदन फार्म प्राप्त कर इसी कॉलेज में 25 नवम्बर तक जमा कर सकते हैं। ये आवेदन सादे कागज में भी प्रस्तुत किये जा सकते हैं। यह जानकारी प्राचार्य शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर ने दी है।
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अंतर्गत सिलाई मशीन चालक, विशिष्ट सिलाई मशीन चालक एवं नापकर्ता सिलाई (मेजरमेंट चेकर) पाठ्यक्रम का प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए 5वीं कक्षा उत्तीर्ण आवेदक को प्राथमिकता दी जायेगी। यह प्रशिक्षण कुल 330 घंटे का होगा। डोमेस्टिक डाटा एंट्री ऑपरेटर एवं फील्ड टेक्नीशियन कम्प्यूटिंग एण्ड पेरीफेरल्स के प्रशिक्षण के लिए योग्यता 10वीं कक्षा उत्तीर्ण है। ऑपरेटर के लिए 440 घंटे और फील्ड टेक्नीशियन के लिए 300 घंटे की कुल प्रशिक्षण अवधि होगी। आईटी को-ऑर्डिनेटर इन स्कूल पाठ्यक्रम के प्रशिक्षण के लिए आवेदक को ईसी/ सीएस/ आईटी/ ईई का पॉलीटेक्निक का डिप्लोमाधारी होना चाहिये। यह प्रशिक्षण कुल 300 घंटे का रहेगा।
प्रशिक्षण के आवेदन के साथ सभी शैक्षणिक दस्तावेज, आधार कार्ड, मूल निवासी प्रमाण पत्र, आय, जाति, अनुभव प्रमाण पत्र (यदि लागू हो) आदि की फोटोकापी लगाना अनिवार्य है। पॉलीटेक्निक कॉलेज से उत्तीर्ण विद्यार्थी भी प्रशिक्षण में शामिल हो सकते हैं। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए कार्यालयीन समय में पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में सम्पर्क किया जा सकता है। इस कॉलेज का टेलीफोन नम्बर 07792- 236705 है। प्रशिक्षण के लिए सीटों की संख्या सीमित है।


मध्याह्न भोजन में परोस रहे थे चीटी लगी रोटी, पनियल दाल, बच्चों ने उठाया ये कदम

गंजबासौदा 17 Nov 2017। मोटे आटे की चीटियां लगी रोटियां और बेस्वाद धुलधुल पनिया दाल और सब्जी। मध्यान्ह भोजन में ऐसा खाना देखते ही बच्चों ने खाना खाने से इंकार कर दिया। बाद में मौके पर पहुंचे पार्षद घटिया मध्यान्ह भोजन लेकर सीधे एसडीएम सीपी गोहल के पास जा पहुंचे। जहां से एसडीएम के निर्देश पर बीआरसी ने स्वसहायता समूह को हटाते हुए मध्यान्ह भोजन वितरण की व्यवस्था शाला प्रबंधन समिति को सौंप दी है।

ज्ञात हो कि बैदनखेड़ी स्थित शासकीय प्राथमिक शाला में मध्यान्ह भोजन में लंबे समय से गड़बड़ी की शिकायतें आ रही थीं। मध्यान्ह भोजन बनाने वाले स्व सहायता समूह संचालक को कई बार पार्षद, शिक्षकों, पालकों और अधिकारियों ने गुणवत्तायुक्त मध्यान्ह भोजन वितरण करने की हिदायतें दी जा चुकी थीं।


50 हजार महिलाओं को जोड़ा जाएगा एसएमएस ग्रुप से

रायसेन।17 Nov 2017 जिला मुख्यालय स्थित वन परिसर में 24 नवंबर को जिला स्तरीय मुख्यमंत्री स्वरोजगार एवं कौशल उन्नयन रोजगार मेले के आयोजन के संबंध में गुरूवार को कलेक्टर भावना वालिम्बे की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत जिले में गठित 5567 महिला स्व-सहायता समूहों की लगभग 50 हजार सदस्यों को एसएमएस ग्रुप के माध्यम से जोड़ने के निर्देश दिए। सदस्यों को एसएमएस के माध्यम से कौशल उन्नयन के अंतर्गत स्वरोजगार एवं नियोजन की जानकारी के साथ ही भावांतर योजना, कृषि संबंधी जानकारी, मिशन इन्द्रधनुष के तहत समय पर टीकाकरण, स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण एवं स्वच्छता संबंधी जानकारियां, आधार पंजीयन तथा वोटर लिस्ट में नाम जोड़ने सहित अन्य गतिविधियां से अवगत कराया जाएगा।


हाइड्रोकार्बन की खोज में गांव-गांव की जा रही ब्लास्टिंग, छह

रायसेन।17 Nov 2017

प्रदेश में हाइड्रोकार्बन की खोज में निकले दल ने रायसेन जिले में इसको लेकर कवायद शुरू कर दी है। पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के निर्देश पर इन दिनों जिलेवार हाइड्रोकार्बन की खोज के लिए 2डी सेस्मिक सर्वेक्षण किया जा रहा है। इसको लेकर बड़ी-बड़ी मशीनें गांवों में पहुंच रही हैं।

गुरूवार को हाईड्रोकार्बन खोज की प्रत्याशा में जब यह दल मशीनों के साथ रायसेन जिले में पहुंचा तो गांवों में तरह-तरह की चर्चाओं का दौर शुरू हो गया। दल में शामिल तकनीकी टीम के सदस्यों ने चर्चा में बताया कि केन्द्र सरकार के निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक गांवों में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए यह अभियान चल रहा है। इसके लिए निर्धारित रूट पर आज से काम शुरू किया गया है। रायसेन जिले में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए लगभग 5 दिन काम चलेगा।


तकनीकि शिक्षा मंत्री ने 10 माह बाद स्वीकारा एसएटीआई में बीओजी अध्यक्ष का पद, 22 को बुलाई पहली बैठक

विदिशा।17 Nov 2017 शहर के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कालेज एसएटीआई में 10 महीने बाद फिर घमासान होने के आसार बढ़ गए हैं। तकनीकि शिक्षा मंत्री दीपक जोशी ने महाराजा जीवाजीराव एजुकेशन सोसायटी (एमजेईएस) द्वारा बनाई गई बोर्ड आफ गवर्नर्स (बीओजी) में अध्यक्ष का पद स्वीकार कर लिया है। इसी के साथ उन्होंने बीओजी की पहली बैठक आगामी 22 नवंबर को बुलाने का निर्णय लिया है। इसके लिए तकनीकि शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के अपर सचिव डा. एमआर धाकड़ ने कालेज के डायरेक्टर डा. जेएस चौहान को पत्र लिखा है।
मालूम हो कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया एमजेईएस के अलावा बीओजी के भी अध्यक्ष थे। लेकिन मतभेदों के चलते उनके खास कहलाने वाले पूर्व सांसद प्रतापभानु शर्मा ही उनके खिलाफ मैदान में आ गए। उन्होंने 11 जनवरी 2017 को एमजेईएस की बैठक बुलाकर बीओजी के अध्यक्ष पद से सिंधिया को हटा दिया था।


नि:शुल्क ट्रेनिंग के लिए 25 नवम्बर तक आवेदन आमंत्रित ‘प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना’

नरसिंहपुर | 17-नवम्बर-2017
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेव्हीवाय) के अंतर्गत शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में 6 पाठ्यक्रमों में नि:शुल्क प्रशिक्षण कार्यक्रम एक दिसम्बर से आयोजित किये जायेंगे। इच्छुक पात्र विद्यार्थी पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर से नि:शुल्क आवेदन फार्म प्राप्त कर इसी कॉलेज में 25 नवम्बर तक जमा कर सकते हैं। ये आवेदन सादे कागज में भी प्रस्तुत किये जा सकते हैं। यह जानकारी प्राचार्य शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर ने दी है।
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अंतर्गत सिलाई मशीन चालक, विशिष्ट सिलाई मशीन चालक एवं नापकर्ता सिलाई (मेजरमेंट चेकर) पाठ्यक्रम का प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए 5वीं कक्षा उत्तीर्ण आवेदक को प्राथमिकता दी जायेगी। यह प्रशिक्षण कुल 330 घंटे का होगा। डोमेस्टिक डाटा एंट्री ऑपरेटर एवं फील्ड टेक्नीशियन कम्प्यूटिंग एण्ड पेरीफेरल्स के प्रशिक्षण के लिए योग्यता 10वीं कक्षा उत्तीर्ण है। ऑपरेटर के लिए 440 घंटे और फील्ड टेक्नीशियन के लिए 300 घंटे की कुल प्रशिक्षण अवधि होगी। आईटी को-ऑर्डिनेटर इन स्कूल पाठ्यक्रम के प्रशिक्षण के लिए आवेदक को ईसी/ सीएस/ आईटी/ ईई का पॉलीटेक्निक का डिप्लोमाधारी होना चाहिये। यह प्रशिक्षण कुल 300 घंटे का रहेगा।
प्रशिक्षण के आवेदन के साथ सभी शैक्षणिक दस्तावेज, आधार कार्ड, मूल निवासी प्रमाण पत्र, आय, जाति, अनुभव प्रमाण पत्र (यदि लागू हो) आदि की फोटोकापी लगाना अनिवार्य है। पॉलीटेक्निक कॉलेज से उत्तीर्ण विद्यार्थी भी प्रशिक्षण में शामिल हो सकते हैं। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए कार्यालयीन समय में पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में सम्पर्क किया जा सकता है। इस कॉलेज का टेलीफोन नम्बर 07792- 236705 है। प्रशिक्षण के लिए सीटों की संख्या सीमित है।


मध्याह्न भोजन में परोस रहे थे चीटी लगी रोटी, पनियल दाल, बच्चों ने उठाया ये कदम

गंजबासौदा 17 Nov 2017। मोटे आटे की चीटियां लगी रोटियां और बेस्वाद धुलधुल पनिया दाल और सब्जी। मध्यान्ह भोजन में ऐसा खाना देखते ही बच्चों ने खाना खाने से इंकार कर दिया। बाद में मौके पर पहुंचे पार्षद घटिया मध्यान्ह भोजन लेकर सीधे एसडीएम सीपी गोहल के पास जा पहुंचे। जहां से एसडीएम के निर्देश पर बीआरसी ने स्वसहायता समूह को हटाते हुए मध्यान्ह भोजन वितरण की व्यवस्था शाला प्रबंधन समिति को सौंप दी है।

ज्ञात हो कि बैदनखेड़ी स्थित शासकीय प्राथमिक शाला में मध्यान्ह भोजन में लंबे समय से गड़बड़ी की शिकायतें आ रही थीं। मध्यान्ह भोजन बनाने वाले स्व सहायता समूह संचालक को कई बार पार्षद, शिक्षकों, पालकों और अधिकारियों ने गुणवत्तायुक्त मध्यान्ह भोजन वितरण करने की हिदायतें दी जा चुकी थीं।


50 हजार महिलाओं को जोड़ा जाएगा एसएमएस ग्रुप से

रायसेन।17 Nov 2017 जिला मुख्यालय स्थित वन परिसर में 24 नवंबर को जिला स्तरीय मुख्यमंत्री स्वरोजगार एवं कौशल उन्नयन रोजगार मेले के आयोजन के संबंध में गुरूवार को कलेक्टर भावना वालिम्बे की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत जिले में गठित 5567 महिला स्व-सहायता समूहों की लगभग 50 हजार सदस्यों को एसएमएस ग्रुप के माध्यम से जोड़ने के निर्देश दिए। सदस्यों को एसएमएस के माध्यम से कौशल उन्नयन के अंतर्गत स्वरोजगार एवं नियोजन की जानकारी के साथ ही भावांतर योजना, कृषि संबंधी जानकारी, मिशन इन्द्रधनुष के तहत समय पर टीकाकरण, स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण एवं स्वच्छता संबंधी जानकारियां, आधार पंजीयन तथा वोटर लिस्ट में नाम जोड़ने सहित अन्य गतिविधियां से अवगत कराया जाएगा।


हाइड्रोकार्बन की खोज में गांव-गांव की जा रही ब्लास्टिंग, छह

रायसेन।17 Nov 2017

प्रदेश में हाइड्रोकार्बन की खोज में निकले दल ने रायसेन जिले में इसको लेकर कवायद शुरू कर दी है। पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के निर्देश पर इन दिनों जिलेवार हाइड्रोकार्बन की खोज के लिए 2डी सेस्मिक सर्वेक्षण किया जा रहा है। इसको लेकर बड़ी-बड़ी मशीनें गांवों में पहुंच रही हैं।

गुरूवार को हाईड्रोकार्बन खोज की प्रत्याशा में जब यह दल मशीनों के साथ रायसेन जिले में पहुंचा तो गांवों में तरह-तरह की चर्चाओं का दौर शुरू हो गया। दल में शामिल तकनीकी टीम के सदस्यों ने चर्चा में बताया कि केन्द्र सरकार के निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक गांवों में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए यह अभियान चल रहा है। इसके लिए निर्धारित रूट पर आज से काम शुरू किया गया है। रायसेन जिले में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए लगभग 5 दिन काम चलेगा।


तकनीकि शिक्षा मंत्री ने 10 माह बाद स्वीकारा एसएटीआई में बीओजी अध्यक्ष का पद, 22 को बुलाई पहली बैठक

विदिशा।17 Nov 2017 शहर के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कालेज एसएटीआई में 10 महीने बाद फिर घमासान होने के आसार बढ़ गए हैं। तकनीकि शिक्षा मंत्री दीपक जोशी ने महाराजा जीवाजीराव एजुकेशन सोसायटी (एमजेईएस) द्वारा बनाई गई बोर्ड आफ गवर्नर्स (बीओजी) में अध्यक्ष का पद स्वीकार कर लिया है। इसी के साथ उन्होंने बीओजी की पहली बैठक आगामी 22 नवंबर को बुलाने का निर्णय लिया है। इसके लिए तकनीकि शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के अपर सचिव डा. एमआर धाकड़ ने कालेज के डायरेक्टर डा. जेएस चौहान को पत्र लिखा है।
मालूम हो कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया एमजेईएस के अलावा बीओजी के भी अध्यक्ष थे। लेकिन मतभेदों के चलते उनके खास कहलाने वाले पूर्व सांसद प्रतापभानु शर्मा ही उनके खिलाफ मैदान में आ गए। उन्होंने 11 जनवरी 2017 को एमजेईएस की बैठक बुलाकर बीओजी के अध्यक्ष पद से सिंधिया को हटा दिया था।


नि:शुल्क ट्रेनिंग के लिए 25 नवम्बर तक आवेदन आमंत्रित ‘प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना’

नरसिंहपुर | 17-नवम्बर-2017
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेव्हीवाय) के अंतर्गत शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में 6 पाठ्यक्रमों में नि:शुल्क प्रशिक्षण कार्यक्रम एक दिसम्बर से आयोजित किये जायेंगे। इच्छुक पात्र विद्यार्थी पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर से नि:शुल्क आवेदन फार्म प्राप्त कर इसी कॉलेज में 25 नवम्बर तक जमा कर सकते हैं। ये आवेदन सादे कागज में भी प्रस्तुत किये जा सकते हैं। यह जानकारी प्राचार्य शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर ने दी है।
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अंतर्गत सिलाई मशीन चालक, विशिष्ट सिलाई मशीन चालक एवं नापकर्ता सिलाई (मेजरमेंट चेकर) पाठ्यक्रम का प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए 5वीं कक्षा उत्तीर्ण आवेदक को प्राथमिकता दी जायेगी। यह प्रशिक्षण कुल 330 घंटे का होगा। डोमेस्टिक डाटा एंट्री ऑपरेटर एवं फील्ड टेक्नीशियन कम्प्यूटिंग एण्ड पेरीफेरल्स के प्रशिक्षण के लिए योग्यता 10वीं कक्षा उत्तीर्ण है। ऑपरेटर के लिए 440 घंटे और फील्ड टेक्नीशियन के लिए 300 घंटे की कुल प्रशिक्षण अवधि होगी। आईटी को-ऑर्डिनेटर इन स्कूल पाठ्यक्रम के प्रशिक्षण के लिए आवेदक को ईसी/ सीएस/ आईटी/ ईई का पॉलीटेक्निक का डिप्लोमाधारी होना चाहिये। यह प्रशिक्षण कुल 300 घंटे का रहेगा।
प्रशिक्षण के आवेदन के साथ सभी शैक्षणिक दस्तावेज, आधार कार्ड, मूल निवासी प्रमाण पत्र, आय, जाति, अनुभव प्रमाण पत्र (यदि लागू हो) आदि की फोटोकापी लगाना अनिवार्य है। पॉलीटेक्निक कॉलेज से उत्तीर्ण विद्यार्थी भी प्रशिक्षण में शामिल हो सकते हैं। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए कार्यालयीन समय में पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में सम्पर्क किया जा सकता है। इस कॉलेज का टेलीफोन नम्बर 07792- 236705 है। प्रशिक्षण के लिए सीटों की संख्या सीमित है।


मध्याह्न भोजन में परोस रहे थे चीटी लगी रोटी, पनियल दाल, बच्चों ने उठाया ये कदम

गंजबासौदा 17 Nov 2017। मोटे आटे की चीटियां लगी रोटियां और बेस्वाद धुलधुल पनिया दाल और सब्जी। मध्यान्ह भोजन में ऐसा खाना देखते ही बच्चों ने खाना खाने से इंकार कर दिया। बाद में मौके पर पहुंचे पार्षद घटिया मध्यान्ह भोजन लेकर सीधे एसडीएम सीपी गोहल के पास जा पहुंचे। जहां से एसडीएम के निर्देश पर बीआरसी ने स्वसहायता समूह को हटाते हुए मध्यान्ह भोजन वितरण की व्यवस्था शाला प्रबंधन समिति को सौंप दी है।

ज्ञात हो कि बैदनखेड़ी स्थित शासकीय प्राथमिक शाला में मध्यान्ह भोजन में लंबे समय से गड़बड़ी की शिकायतें आ रही थीं। मध्यान्ह भोजन बनाने वाले स्व सहायता समूह संचालक को कई बार पार्षद, शिक्षकों, पालकों और अधिकारियों ने गुणवत्तायुक्त मध्यान्ह भोजन वितरण करने की हिदायतें दी जा चुकी थीं।


50 हजार महिलाओं को जोड़ा जाएगा एसएमएस ग्रुप से

रायसेन।17 Nov 2017 जिला मुख्यालय स्थित वन परिसर में 24 नवंबर को जिला स्तरीय मुख्यमंत्री स्वरोजगार एवं कौशल उन्नयन रोजगार मेले के आयोजन के संबंध में गुरूवार को कलेक्टर भावना वालिम्बे की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत जिले में गठित 5567 महिला स्व-सहायता समूहों की लगभग 50 हजार सदस्यों को एसएमएस ग्रुप के माध्यम से जोड़ने के निर्देश दिए। सदस्यों को एसएमएस के माध्यम से कौशल उन्नयन के अंतर्गत स्वरोजगार एवं नियोजन की जानकारी के साथ ही भावांतर योजना, कृषि संबंधी जानकारी, मिशन इन्द्रधनुष के तहत समय पर टीकाकरण, स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण एवं स्वच्छता संबंधी जानकारियां, आधार पंजीयन तथा वोटर लिस्ट में नाम जोड़ने सहित अन्य गतिविधियां से अवगत कराया जाएगा।


हाइड्रोकार्बन की खोज में गांव-गांव की जा रही ब्लास्टिंग, छह

रायसेन।17 Nov 2017

प्रदेश में हाइड्रोकार्बन की खोज में निकले दल ने रायसेन जिले में इसको लेकर कवायद शुरू कर दी है। पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के निर्देश पर इन दिनों जिलेवार हाइड्रोकार्बन की खोज के लिए 2डी सेस्मिक सर्वेक्षण किया जा रहा है। इसको लेकर बड़ी-बड़ी मशीनें गांवों में पहुंच रही हैं।

गुरूवार को हाईड्रोकार्बन खोज की प्रत्याशा में जब यह दल मशीनों के साथ रायसेन जिले में पहुंचा तो गांवों में तरह-तरह की चर्चाओं का दौर शुरू हो गया। दल में शामिल तकनीकी टीम के सदस्यों ने चर्चा में बताया कि केन्द्र सरकार के निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक गांवों में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए यह अभियान चल रहा है। इसके लिए निर्धारित रूट पर आज से काम शुरू किया गया है। रायसेन जिले में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए लगभग 5 दिन काम चलेगा।


तकनीकि शिक्षा मंत्री ने 10 माह बाद स्वीकारा एसएटीआई में बीओजी अध्यक्ष का पद, 22 को बुलाई पहली बैठक

विदिशा।17 Nov 2017 शहर के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कालेज एसएटीआई में 10 महीने बाद फिर घमासान होने के आसार बढ़ गए हैं। तकनीकि शिक्षा मंत्री दीपक जोशी ने महाराजा जीवाजीराव एजुकेशन सोसायटी (एमजेईएस) द्वारा बनाई गई बोर्ड आफ गवर्नर्स (बीओजी) में अध्यक्ष का पद स्वीकार कर लिया है। इसी के साथ उन्होंने बीओजी की पहली बैठक आगामी 22 नवंबर को बुलाने का निर्णय लिया है। इसके लिए तकनीकि शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के अपर सचिव डा. एमआर धाकड़ ने कालेज के डायरेक्टर डा. जेएस चौहान को पत्र लिखा है।
मालूम हो कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया एमजेईएस के अलावा बीओजी के भी अध्यक्ष थे। लेकिन मतभेदों के चलते उनके खास कहलाने वाले पूर्व सांसद प्रतापभानु शर्मा ही उनके खिलाफ मैदान में आ गए। उन्होंने 11 जनवरी 2017 को एमजेईएस की बैठक बुलाकर बीओजी के अध्यक्ष पद से सिंधिया को हटा दिया था।


नि:शुल्क ट्रेनिंग के लिए 25 नवम्बर तक आवेदन आमंत्रित ‘प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना’

नरसिंहपुर | 17-नवम्बर-2017
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेव्हीवाय) के अंतर्गत शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में 6 पाठ्यक्रमों में नि:शुल्क प्रशिक्षण कार्यक्रम एक दिसम्बर से आयोजित किये जायेंगे। इच्छुक पात्र विद्यार्थी पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर से नि:शुल्क आवेदन फार्म प्राप्त कर इसी कॉलेज में 25 नवम्बर तक जमा कर सकते हैं। ये आवेदन सादे कागज में भी प्रस्तुत किये जा सकते हैं। यह जानकारी प्राचार्य शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर ने दी है।
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अंतर्गत सिलाई मशीन चालक, विशिष्ट सिलाई मशीन चालक एवं नापकर्ता सिलाई (मेजरमेंट चेकर) पाठ्यक्रम का प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए 5वीं कक्षा उत्तीर्ण आवेदक को प्राथमिकता दी जायेगी। यह प्रशिक्षण कुल 330 घंटे का होगा। डोमेस्टिक डाटा एंट्री ऑपरेटर एवं फील्ड टेक्नीशियन कम्प्यूटिंग एण्ड पेरीफेरल्स के प्रशिक्षण के लिए योग्यता 10वीं कक्षा उत्तीर्ण है। ऑपरेटर के लिए 440 घंटे और फील्ड टेक्नीशियन के लिए 300 घंटे की कुल प्रशिक्षण अवधि होगी। आईटी को-ऑर्डिनेटर इन स्कूल पाठ्यक्रम के प्रशिक्षण के लिए आवेदक को ईसी/ सीएस/ आईटी/ ईई का पॉलीटेक्निक का डिप्लोमाधारी होना चाहिये। यह प्रशिक्षण कुल 300 घंटे का रहेगा।
प्रशिक्षण के आवेदन के साथ सभी शैक्षणिक दस्तावेज, आधार कार्ड, मूल निवासी प्रमाण पत्र, आय, जाति, अनुभव प्रमाण पत्र (यदि लागू हो) आदि की फोटोकापी लगाना अनिवार्य है। पॉलीटेक्निक कॉलेज से उत्तीर्ण विद्यार्थी भी प्रशिक्षण में शामिल हो सकते हैं। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए कार्यालयीन समय में पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में सम्पर्क किया जा सकता है। इस कॉलेज का टेलीफोन नम्बर 07792- 236705 है। प्रशिक्षण के लिए सीटों की संख्या सीमित है।


मध्याह्न भोजन में परोस रहे थे चीटी लगी रोटी, पनियल दाल, बच्चों ने उठाया ये कदम

गंजबासौदा 17 Nov 2017। मोटे आटे की चीटियां लगी रोटियां और बेस्वाद धुलधुल पनिया दाल और सब्जी। मध्यान्ह भोजन में ऐसा खाना देखते ही बच्चों ने खाना खाने से इंकार कर दिया। बाद में मौके पर पहुंचे पार्षद घटिया मध्यान्ह भोजन लेकर सीधे एसडीएम सीपी गोहल के पास जा पहुंचे। जहां से एसडीएम के निर्देश पर बीआरसी ने स्वसहायता समूह को हटाते हुए मध्यान्ह भोजन वितरण की व्यवस्था शाला प्रबंधन समिति को सौंप दी है।

ज्ञात हो कि बैदनखेड़ी स्थित शासकीय प्राथमिक शाला में मध्यान्ह भोजन में लंबे समय से गड़बड़ी की शिकायतें आ रही थीं। मध्यान्ह भोजन बनाने वाले स्व सहायता समूह संचालक को कई बार पार्षद, शिक्षकों, पालकों और अधिकारियों ने गुणवत्तायुक्त मध्यान्ह भोजन वितरण करने की हिदायतें दी जा चुकी थीं।


50 हजार महिलाओं को जोड़ा जाएगा एसएमएस ग्रुप से

रायसेन।17 Nov 2017 जिला मुख्यालय स्थित वन परिसर में 24 नवंबर को जिला स्तरीय मुख्यमंत्री स्वरोजगार एवं कौशल उन्नयन रोजगार मेले के आयोजन के संबंध में गुरूवार को कलेक्टर भावना वालिम्बे की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत जिले में गठित 5567 महिला स्व-सहायता समूहों की लगभग 50 हजार सदस्यों को एसएमएस ग्रुप के माध्यम से जोड़ने के निर्देश दिए। सदस्यों को एसएमएस के माध्यम से कौशल उन्नयन के अंतर्गत स्वरोजगार एवं नियोजन की जानकारी के साथ ही भावांतर योजना, कृषि संबंधी जानकारी, मिशन इन्द्रधनुष के तहत समय पर टीकाकरण, स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण एवं स्वच्छता संबंधी जानकारियां, आधार पंजीयन तथा वोटर लिस्ट में नाम जोड़ने सहित अन्य गतिविधियां से अवगत कराया जाएगा।


हाइड्रोकार्बन की खोज में गांव-गांव की जा रही ब्लास्टिंग, छह

रायसेन।17 Nov 2017

प्रदेश में हाइड्रोकार्बन की खोज में निकले दल ने रायसेन जिले में इसको लेकर कवायद शुरू कर दी है। पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के निर्देश पर इन दिनों जिलेवार हाइड्रोकार्बन की खोज के लिए 2डी सेस्मिक सर्वेक्षण किया जा रहा है। इसको लेकर बड़ी-बड़ी मशीनें गांवों में पहुंच रही हैं।

गुरूवार को हाईड्रोकार्बन खोज की प्रत्याशा में जब यह दल मशीनों के साथ रायसेन जिले में पहुंचा तो गांवों में तरह-तरह की चर्चाओं का दौर शुरू हो गया। दल में शामिल तकनीकी टीम के सदस्यों ने चर्चा में बताया कि केन्द्र सरकार के निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक गांवों में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए यह अभियान चल रहा है। इसके लिए निर्धारित रूट पर आज से काम शुरू किया गया है। रायसेन जिले में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए लगभग 5 दिन काम चलेगा।


तकनीकि शिक्षा मंत्री ने 10 माह बाद स्वीकारा एसएटीआई में बीओजी अध्यक्ष का पद, 22 को बुलाई पहली बैठक

विदिशा।17 Nov 2017 शहर के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कालेज एसएटीआई में 10 महीने बाद फिर घमासान होने के आसार बढ़ गए हैं। तकनीकि शिक्षा मंत्री दीपक जोशी ने महाराजा जीवाजीराव एजुकेशन सोसायटी (एमजेईएस) द्वारा बनाई गई बोर्ड आफ गवर्नर्स (बीओजी) में अध्यक्ष का पद स्वीकार कर लिया है। इसी के साथ उन्होंने बीओजी की पहली बैठक आगामी 22 नवंबर को बुलाने का निर्णय लिया है। इसके लिए तकनीकि शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के अपर सचिव डा. एमआर धाकड़ ने कालेज के डायरेक्टर डा. जेएस चौहान को पत्र लिखा है।
मालूम हो कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया एमजेईएस के अलावा बीओजी के भी अध्यक्ष थे। लेकिन मतभेदों के चलते उनके खास कहलाने वाले पूर्व सांसद प्रतापभानु शर्मा ही उनके खिलाफ मैदान में आ गए। उन्होंने 11 जनवरी 2017 को एमजेईएस की बैठक बुलाकर बीओजी के अध्यक्ष पद से सिंधिया को हटा दिया था।


नि:शुल्क ट्रेनिंग के लिए 25 नवम्बर तक आवेदन आमंत्रित ‘प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना’

नरसिंहपुर | 17-नवम्बर-2017
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना (पीएमकेव्हीवाय) के अंतर्गत शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में 6 पाठ्यक्रमों में नि:शुल्क प्रशिक्षण कार्यक्रम एक दिसम्बर से आयोजित किये जायेंगे। इच्छुक पात्र विद्यार्थी पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर से नि:शुल्क आवेदन फार्म प्राप्त कर इसी कॉलेज में 25 नवम्बर तक जमा कर सकते हैं। ये आवेदन सादे कागज में भी प्रस्तुत किये जा सकते हैं। यह जानकारी प्राचार्य शासकीय पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर ने दी है।
प्रधानमंत्री कौशल विकास योजना के अंतर्गत सिलाई मशीन चालक, विशिष्ट सिलाई मशीन चालक एवं नापकर्ता सिलाई (मेजरमेंट चेकर) पाठ्यक्रम का प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए 5वीं कक्षा उत्तीर्ण आवेदक को प्राथमिकता दी जायेगी। यह प्रशिक्षण कुल 330 घंटे का होगा। डोमेस्टिक डाटा एंट्री ऑपरेटर एवं फील्ड टेक्नीशियन कम्प्यूटिंग एण्ड पेरीफेरल्स के प्रशिक्षण के लिए योग्यता 10वीं कक्षा उत्तीर्ण है। ऑपरेटर के लिए 440 घंटे और फील्ड टेक्नीशियन के लिए 300 घंटे की कुल प्रशिक्षण अवधि होगी। आईटी को-ऑर्डिनेटर इन स्कूल पाठ्यक्रम के प्रशिक्षण के लिए आवेदक को ईसी/ सीएस/ आईटी/ ईई का पॉलीटेक्निक का डिप्लोमाधारी होना चाहिये। यह प्रशिक्षण कुल 300 घंटे का रहेगा।
प्रशिक्षण के आवेदन के साथ सभी शैक्षणिक दस्तावेज, आधार कार्ड, मूल निवासी प्रमाण पत्र, आय, जाति, अनुभव प्रमाण पत्र (यदि लागू हो) आदि की फोटोकापी लगाना अनिवार्य है। पॉलीटेक्निक कॉलेज से उत्तीर्ण विद्यार्थी भी प्रशिक्षण में शामिल हो सकते हैं। इस संबंध में अधिक जानकारी के लिए कार्यालयीन समय में पॉलीटेक्निक कॉलेज नरसिंहपुर में सम्पर्क किया जा सकता है। इस कॉलेज का टेलीफोन नम्बर 07792- 236705 है। प्रशिक्षण के लिए सीटों की संख्या सीमित है।


मध्याह्न भोजन में परोस रहे थे चीटी लगी रोटी, पनियल दाल, बच्चों ने उठाया ये कदम

गंजबासौदा 17 Nov 2017। मोटे आटे की चीटियां लगी रोटियां और बेस्वाद धुलधुल पनिया दाल और सब्जी। मध्यान्ह भोजन में ऐसा खाना देखते ही बच्चों ने खाना खाने से इंकार कर दिया। बाद में मौके पर पहुंचे पार्षद घटिया मध्यान्ह भोजन लेकर सीधे एसडीएम सीपी गोहल के पास जा पहुंचे। जहां से एसडीएम के निर्देश पर बीआरसी ने स्वसहायता समूह को हटाते हुए मध्यान्ह भोजन वितरण की व्यवस्था शाला प्रबंधन समिति को सौंप दी है।

ज्ञात हो कि बैदनखेड़ी स्थित शासकीय प्राथमिक शाला में मध्यान्ह भोजन में लंबे समय से गड़बड़ी की शिकायतें आ रही थीं। मध्यान्ह भोजन बनाने वाले स्व सहायता समूह संचालक को कई बार पार्षद, शिक्षकों, पालकों और अधिकारियों ने गुणवत्तायुक्त मध्यान्ह भोजन वितरण करने की हिदायतें दी जा चुकी थीं।


50 हजार महिलाओं को जोड़ा जाएगा एसएमएस ग्रुप से

रायसेन।17 Nov 2017 जिला मुख्यालय स्थित वन परिसर में 24 नवंबर को जिला स्तरीय मुख्यमंत्री स्वरोजगार एवं कौशल उन्नयन रोजगार मेले के आयोजन के संबंध में गुरूवार को कलेक्टर भावना वालिम्बे की अध्यक्षता में बैठक आयोजित की गई। बैठक में कलेक्टर ने राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के अंतर्गत जिले में गठित 5567 महिला स्व-सहायता समूहों की लगभग 50 हजार सदस्यों को एसएमएस ग्रुप के माध्यम से जोड़ने के निर्देश दिए। सदस्यों को एसएमएस के माध्यम से कौशल उन्नयन के अंतर्गत स्वरोजगार एवं नियोजन की जानकारी के साथ ही भावांतर योजना, कृषि संबंधी जानकारी, मिशन इन्द्रधनुष के तहत समय पर टीकाकरण, स्वच्छ भारत अभियान के तहत शौचालय निर्माण एवं स्वच्छता संबंधी जानकारियां, आधार पंजीयन तथा वोटर लिस्ट में नाम जोड़ने सहित अन्य गतिविधियां से अवगत कराया जाएगा।


हाइड्रोकार्बन की खोज में गांव-गांव की जा रही ब्लास्टिंग, छह

रायसेन।17 Nov 2017

प्रदेश में हाइड्रोकार्बन की खोज में निकले दल ने रायसेन जिले में इसको लेकर कवायद शुरू कर दी है। पेट्रोलियम एवं प्राकृतिक गैस मंत्रालय के निर्देश पर इन दिनों जिलेवार हाइड्रोकार्बन की खोज के लिए 2डी सेस्मिक सर्वेक्षण किया जा रहा है। इसको लेकर बड़ी-बड़ी मशीनें गांवों में पहुंच रही हैं।

गुरूवार को हाईड्रोकार्बन खोज की प्रत्याशा में जब यह दल मशीनों के साथ रायसेन जिले में पहुंचा तो गांवों में तरह-तरह की चर्चाओं का दौर शुरू हो गया। दल में शामिल तकनीकी टीम के सदस्यों ने चर्चा में बताया कि केन्द्र सरकार के निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक गांवों में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए यह अभियान चल रहा है। इसके लिए निर्धारित रूट पर आज से काम शुरू किया गया है। रायसेन जिले में हाईड्रोकार्बन की खोज के लिए लगभग 5 दिन काम चलेगा।


तकनीकि शिक्षा मंत्री ने 10 माह बाद स्वीकारा एसएटीआई में बीओजी अध्यक्ष का पद, 22 को बुलाई पहली बैठक

विदिशा।17 Nov 2017 शहर के प्रतिष्ठित इंजीनियरिंग कालेज एसएटीआई में 10 महीने बाद फिर घमासान होने के आसार बढ़ गए हैं। तकनीकि शिक्षा मंत्री दीपक जोशी ने महाराजा जीवाजीराव एजुकेशन सोसायटी (एमजेईएस) द्वारा बनाई गई बोर्ड आफ गवर्नर्स (बीओजी) में अध्यक्ष का पद स्वीकार कर लिया है। इसी के साथ उन्होंने बीओजी की पहली बैठक आगामी 22 नवंबर को बुलाने का निर्णय लिया है। इसके लिए तकनीकि शिक्षा एवं कौशल विकास विभाग के अपर सचिव डा. एमआर धाकड़ ने कालेज के डायरेक्टर डा. जेएस चौहान को पत्र लिखा है।
मालूम हो कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व केन्द्रीय मंत्री ज्योतिरादित्य सिंधिया एमजेईएस के अलावा बीओजी के भी अध्यक्ष थे। लेकिन मतभेदों के चलते उनके खास कहलाने वाले पूर्व सांसद प्रतापभानु शर्मा ही उनके खिलाफ मैदान में आ गए। उन्होंने 11 जनवरी 2017 को एमजेईएस की बैठक बुलाकर बीओजी के अध्यक्ष पद से सिंधिया को हटा दिया था।


व्यवसाय विज्ञापन

फेसबुक लाइक बॉक्स

  • Address: Harihar Bhavan Nowgong Dist. Chatarpur Madhya Pradesh  , Mo : 98931-96874 , Email :  This email address is being protected from spambots. You need JavaScript enabled to view it. Web : www.ganeshshankarsamacharsewa.in